#खेल कूद

bolkar speaker

क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?

Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:48
नमस्कार दोस्तों प्रश्न ही क्या मर जाना है है सभी समस्याओं का समाधान है तो दोस्तों कई बार ऐसा जब ज्यादा मानसिक दबाव में कोई व्यक्ति आ जाता है ऐसे विचार उस को प्रेरित करते हैं मृत्यु की तरफ लेकिन दोस्तों में बताना चाहता हूं कि जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं जीवन में खुशी गम आते रहते हैं 8400000 योनियों के बाद अच्छे कर्म करने के बाद मनुष्य जीवन प्राप्त होता है किसी को पहले वह मच्छर बनाओ का हाथ से किसी ने मार दिया होगा या गुड नाइट लगा कर मार दिया होगा सांप बना होगा घर में निकला कुचल दिया गया होगा ऐसे कितनी योनियों को जेल के वह मनुष्य जीवन प्राप्त करता है कितने हम खुश किस्मत हैं कि हम मनुष्य जीवन में है और हमें परेशानियों को का सामना करना है परेशानी हो तो आती रहती हैं कभी आपको ज्यादा परेशानी आएगी तो कभी खुशी कभी पल आते हैं ऐसा कभी नहीं होता है खुशी और गम सिक्के के दो पहलू हैं एक बार आप सिक्का देखेंगे तो हेड आएगा दूसरा टेलर आएगा ऐसे ही खुशी भी आए गम भी आएंगे तो हमें जीवन पथ पर निरंतर चलते रहना है और अच्छे से अच्छे काम करते रहना है और निश्चित रूप से हमें आनंद आएगा मनुष्य जीवन जीने का तो समस्या है उसका समाधान करें अपने मित्रों से बात करें मैं दोस्तों से बात करें परिवार वालों से सहायता ले निश्चित रूप से उसका सामान मिल जाता है जो कि हम मन में अपनों से घिरे रहते हैं उस समय निकालें योग साधना करें खेलकूद करें यार दोस्तों में मिले तो निश्चित रूप से समस्याओं का समाधान होगा फिर आपको देखोगे कि जिंदगी रंगीन नजर आने लगेगी धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hee kya mar jaana hai hai sabhee samasyaon ka samaadhaan hai to doston kaee baar aisa jab jyaada maanasik dabaav mein koee vyakti aa jaata hai aise vichaar us ko prerit karate hain mrtyu kee taraph lekin doston mein bataana chaahata hoon ki jeevan mein utaar-chadhaav aate rahate hain jeevan mein khushee gam aate rahate hain 8400000 yoniyon ke baad achchhe karm karane ke baad manushy jeevan praapt hota hai kisee ko pahale vah machchhar banao ka haath se kisee ne maar diya hoga ya gud nait laga kar maar diya hoga saamp bana hoga ghar mein nikala kuchal diya gaya hoga aise kitanee yoniyon ko jel ke vah manushy jeevan praapt karata hai kitane ham khush kismat hain ki ham manushy jeevan mein hai aur hamen pareshaaniyon ko ka saamana karana hai pareshaanee ho to aatee rahatee hain kabhee aapako jyaada pareshaanee aaegee to kabhee khushee kabhee pal aate hain aisa kabhee nahin hota hai khushee aur gam sikke ke do pahaloo hain ek baar aap sikka dekhenge to hed aaega doosara telar aaega aise hee khushee bhee aae gam bhee aaenge to hamen jeevan path par nirantar chalate rahana hai aur achchhe se achchhe kaam karate rahana hai aur nishchit roop se hamen aanand aaega manushy jeevan jeene ka to samasya hai usaka samaadhaan karen apane mitron se baat karen main doston se baat karen parivaar vaalon se sahaayata le nishchit roop se usaka saamaan mil jaata hai jo ki ham man mein apanon se ghire rahate hain us samay nikaalen yog saadhana karen khelakood karen yaar doston mein mile to nishchit roop se samasyaon ka samaadhaan hoga phir aapako dekhoge ki jindagee rangeen najar aane lagegee dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
भारत बनेगा स्वर्ग नमामि गंगे Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए भारत जी का जवाब
रेस्टोरेंट में मुनीम के पद पर कार्यरत
2:06
करियर का सवाल है क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान लिखो एक चीज तो है मर जाना आपने कहा मर जाना तो अपनी इच्छा से मरना बहुत गलत होता है जब ऊपरवाला कहते हैं कि जब पूरी जिंदगी हकीकत एक सुख-दुख इंसान ठोक के जब मरता है वह चीज होती है और उसमें समस्याओं से माना तो यह बता कि आदमी जो चलते फिरते मर गया उसकी उम्र पूरी हो गई वह मर गया तो उसका समाधान होगा जो चला गया ना कि समाज का समाधान हुआ ना उसके बेटे समाधान हुआ उसके बेटी समाधान वह सब का समाधान जब होता है जब जो घर में परेशानियां होती उनका निवारण हो जाता है जब ही उनकी समस्याओं का समाधान होता है समाधान वह नहीं कि आप सोचें कि आखिरी स्टेट है आज मर जाए उसके बाद हम से कोई तगादा करेगा नमाज समस्या रहेंगे उस सब कुछ सब जानते हैं मेरे पीछे कौन देखता कौन नहीं देता है और समस्या कुछ नहीं दिया तूने समस्याएं आपके लिए तो नहीं रहेगी आप चले गए आप मर गए चले आप समस्या का समाधान हो गया जो आप नहीं हो लेकिन जो आपके पीछे खड़े हैं जो आपके बच्चे हैं या फिर पति या पत्नी है आपकी और मां है पिता है भाई है उनके उपर समस्याएं आती हैं तो बस समस्या उनकी हो जाती है अगर उसकी समस्या समाधान एक अच्छे तरीके से करके जाए और जो है मर जाना ना सोच कर एक अच्छी समस्या समाधान करके जाए तो अच्छा है मर जाना एक से सभी समस्या समाधान नहीं है फिर जो इंसान खुद मर कर चला गया उसकी समस्याएं भी चली गई समस्या मेरी समस्या नहीं होती इंसानों पर नहीं समझते हैं तो बहुत कम होती हैं समस्याएं भी उत्पन्न होती है वह समाज से उत्पन्न होती हैं घर से उत्पन्न होती हैं और अपने कुटुम समाय मेरा कहना है मर जाना ही समस्याओं का समाधान नहीं है
Kariyar ka savaal hai kya mar jaana hai sabhee samasyaon ka samaadhaan likho ek cheej to hai mar jaana aapane kaha mar jaana to apanee ichchha se marana bahut galat hota hai jab ooparavaala kahate hain ki jab pooree jindagee hakeekat ek sukh-dukh insaan thok ke jab marata hai vah cheej hotee hai aur usamen samasyaon se maana to yah bata ki aadamee jo chalate phirate mar gaya usakee umr pooree ho gaee vah mar gaya to usaka samaadhaan hoga jo chala gaya na ki samaaj ka samaadhaan hua na usake bete samaadhaan hua usake betee samaadhaan vah sab ka samaadhaan jab hota hai jab jo ghar mein pareshaaniyaan hotee unaka nivaaran ho jaata hai jab hee unakee samasyaon ka samaadhaan hota hai samaadhaan vah nahin ki aap sochen ki aakhiree stet hai aaj mar jae usake baad ham se koee tagaada karega namaaj samasya rahenge us sab kuchh sab jaanate hain mere peechhe kaun dekhata kaun nahin deta hai aur samasya kuchh nahin diya toone samasyaen aapake lie to nahin rahegee aap chale gae aap mar gae chale aap samasya ka samaadhaan ho gaya jo aap nahin ho lekin jo aapake peechhe khade hain jo aapake bachche hain ya phir pati ya patnee hai aapakee aur maan hai pita hai bhaee hai unake upar samasyaen aatee hain to bas samasya unakee ho jaatee hai agar usakee samasya samaadhaan ek achchhe tareeke se karake jae aur jo hai mar jaana na soch kar ek achchhee samasya samaadhaan karake jae to achchha hai mar jaana ek se sabhee samasya samaadhaan nahin hai phir jo insaan khud mar kar chala gaya usakee samasyaen bhee chalee gaee samasya meree samasya nahin hotee insaanon par nahin samajhate hain to bahut kam hotee hain samasyaen bhee utpann hotee hai vah samaaj se utpann hotee hain ghar se utpann hotee hain aur apane kutum samaay mera kahana hai mar jaana hee samasyaon ka samaadhaan nahin hai

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Porshia Chawla Ban Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Porshia जी का जवाब
मनोवैज्ञानिक, हैप्पीनेस कोच, ट्रेनर (सॉफ्ट स्किल्स/कॉर्पोरेट)
2:20
मिशन की सोच रखने वाले व्यक्ति यही समझते हैं कि यदि मैं मर जाऊंगा मेरा अस्तित्व खत्म हो जाएगा यानी मैं शरीर की हत्या कर देता हूं मैं शरीर नहीं रहेगा मेरा तो समस्याओं का समाधान हो जाएगा इस सोच के चलते हुए कदम उठाते हैं लेकिन यह गलत है यह बिल्कुल भी सही नहीं है कि आपकी जो चेतना है आपका जो एनर्जी है वह खत्म नहीं होता है ना शरीफ ना रहे तो भी वो रहेगा और इस वजह से जो हमारे विचार हैं जो हमारी भावनाएं हैं जो हमारे परेशानियां हैं समस्याएं हैं जिनसे हम जो भेज रहे हैं जिनमें बस अपने आपको महसूस करें हम निकला निकल नहीं पाते हैं निकला हुआ नहीं देख पाते खुद को बाद में और इसको क्योंकि कोई प्रमाण नहीं है इसीलिए इस बात पर यकीन नहीं होता है और फिर भी लोग ही गलती कर दी हत्या करते हैं इसका समाधान क्या है देखिए मैं सिर्फ यहां यह आपको एड्रेस दे सकती हूं कि कोई भी समस्या आप से बड़ी नहीं है इसमें नहीं कहती ताकत दिया कोई नया बनाया है या पुतला जिसको इंसान का नाम दिया है और उसमें इतनी ताकत और इतनी शक्ति है कि वह कोई बड़ी से बड़ी समस्या भी सुलझा सकता है आपसे बड़ी समस्या नहीं हो सकती है तो आप इतने बड़े हैं अपने सपने शक्तिशाली हैं यदि आप का मनोबल टूटेगा और आप बिल्कुल तय कर लेंगे आप जीवन में क्या पाना चाहते हैं क्या हासिल करना चाहते हैं तो डेफिनेटली आपको वह चीज मिलेगी लेकिन फिर एक बात आती है कि हर कोई इंसान अपने बारे में अच्छा सोचते हैं और अच्छा ही पाना चाहते हैं फिर भी क्यों कुछ लोग सफल नहीं हो पाते हैं तो उसमें बहुत सारे कारण रहता तो हम काउंसलिंग के दौरान यही देखते हैं यही बात जानने की कोशिश करते हैं कि यह इंसान से कहां चूक हुई क्या बदलाव अगर अपनी जीवनशैली में ना अपने सिस्टम में लाए तो फिर उसको सफलता मिल सकती है उसको वह मनचाहा परिणाम मिल सकते हैं वह जो अपने जीवन से चाहता है ऐसा करने पर फिर यह सवाल नहीं उठता है कि हमारे को समस्याओं के समाधान नहीं मिला कोई खेलने की चीज का समाधान नहीं है तो संपर्क करें किसी मनोचिकित्सक से बात करें उनसे खुलकर और आप अकेले ही नहीं है जो किसी परेशानी से जूझ रहे हैं बहुत सारे लोग अलग-अलग स्तर पर अलग-अलग तरह की परेशानियों से जूझ रहे धन्यवाद
Mishan kee soch rakhane vaale vyakti yahee samajhate hain ki yadi main mar jaoonga mera astitv khatm ho jaega yaanee main shareer kee hatya kar deta hoon main shareer nahin rahega mera to samasyaon ka samaadhaan ho jaega is soch ke chalate hue kadam uthaate hain lekin yah galat hai yah bilkul bhee sahee nahin hai ki aapakee jo chetana hai aapaka jo enarjee hai vah khatm nahin hota hai na shareeph na rahe to bhee vo rahega aur is vajah se jo hamaare vichaar hain jo hamaaree bhaavanaen hain jo hamaare pareshaaniyaan hain samasyaen hain jinase ham jo bhej rahe hain jinamen bas apane aapako mahasoos karen ham nikala nikal nahin paate hain nikala hua nahin dekh paate khud ko baad mein aur isako kyonki koee pramaan nahin hai iseelie is baat par yakeen nahin hota hai aur phir bhee log hee galatee kar dee hatya karate hain isaka samaadhaan kya hai dekhie main sirph yahaan yah aapako edres de sakatee hoon ki koee bhee samasya aap se badee nahin hai isamen nahin kahatee taakat diya koee naya banaaya hai ya putala jisako insaan ka naam diya hai aur usamen itanee taakat aur itanee shakti hai ki vah koee badee se badee samasya bhee sulajha sakata hai aapase badee samasya nahin ho sakatee hai to aap itane bade hain apane sapane shaktishaalee hain yadi aap ka manobal tootega aur aap bilkul tay kar lenge aap jeevan mein kya paana chaahate hain kya haasil karana chaahate hain to dephinetalee aapako vah cheej milegee lekin phir ek baat aatee hai ki har koee insaan apane baare mein achchha sochate hain aur achchha hee paana chaahate hain phir bhee kyon kuchh log saphal nahin ho paate hain to usamen bahut saare kaaran rahata to ham kaunsaling ke dauraan yahee dekhate hain yahee baat jaanane kee koshish karate hain ki yah insaan se kahaan chook huee kya badalaav agar apanee jeevanashailee mein na apane sistam mein lae to phir usako saphalata mil sakatee hai usako vah manachaaha parinaam mil sakate hain vah jo apane jeevan se chaahata hai aisa karane par phir yah savaal nahin uthata hai ki hamaare ko samasyaon ke samaadhaan nahin mila koee khelane kee cheej ka samaadhaan nahin hai to sampark karen kisee manochikitsak se baat karen unase khulakar aur aap akele hee nahin hai jo kisee pareshaanee se joojh rahe hain bahut saare log alag-alag star par alag-alag tarah kee pareshaaniyon se joojh rahe dhanyavaad

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Bhupesh Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Bhupesh जी का जवाब
Entrepreneur , Blogger, Influencer
1:51
नमस्कार दोस्तों हैंड ट्रैक्टर जरा में आपका स्वागत है मैं आपका अपना मित्र भूपेश कुमार मैं आशा करता हूं आप सभी शुक्र से लोगे और अपना और अपने परिवार का ख्याल रख रहे होगे जैसे कि आपका प्रश्न है कि क्या मर जाना ही सभी समस्याओं का समाधान है तो देखें दोस्तों मर जाना कभी भी समस्याओं का समाधान नहीं होता आपको सिर्फ लगता है कि इससे समस्याओं का समाधान निकल सकता है क्या आपने कभी सोचा है कि अगर आपका फोन जन्म होता है जो कि एक का आरक्षण मान सकते हैं कि आप अगले जन्म में क्या बनेगा ग्राम हिंदू ग्रंथों की सूची तो आपको पता ही नहीं कौन सी आपको योनि प्राप्त होगी और साइंटिफिक वे में सोचें तो सेंड तो मानती नहीं कि आगे चलकर कुछ होता भी है तो दोनों ही सूरत में अगर आप यह सोचते हैं कि मैं जाने के बाद आपकी समस्या को समाधान हो तो ऐसा बिल्कुल नहीं है आपके कर्म के अनुसार अगर आपको आप धार्मिक प्रवृत्ति के लोग हैं तो आपको यह बताओ यह होगा कि भगवान हमें नरक में भेजेगा या तो स्वर्ग में भेजेगा तो उस चीज में अगर आपने खुद को मार लिया तो आप आत्म हत्या के दोषी हुए आप कभी भी स्वर्ग जा ही नहीं सकते आप को नर्क में जाकर भी दुख दुख नहीं है दूसरी सिचुएशन यह है कि अगर आप ऐसे ऑन करते हैं कि आपको एक नई जिंदगी मिलेगी तो उस नई जिंदगी में भी क्या आपको जो अब दुख है वह आगे चलकर नहीं मिलेगा तो आपको इस चीज को भी समझना होगा तो यही बात है कि सिर्फ किसी चीज का समाधान मर जाना ही नहीं होता अगर आप किसी चीज को सुधारना ही चाहते हो तो आप उसके ऊपर जरूर मेहनत करें आप समझिए कि आपकी सही मायने में प्रॉब्लम क्या है किसी को पैसे की प्रॉब्लम में किसी को प्यार की प्रॉब्लम किसी के पास रहने को घर नहीं है किसी के पास खाना नहीं है हरेक की अपनी एक अलग प्रॉब्लम है लेकिन अगर आप उस प्रॉब्लम पर ही काम नहीं करेगी और अपने आप को ही नहीं बदलना चाहेंगे तो आप कभी भी उस समस्या से नहीं निकल पाएंगे
Namaskaar doston haind traiktar jara mein aapaka svaagat hai main aapaka apana mitr bhoopesh kumaar main aasha karata hoon aap sabhee shukr se loge aur apana aur apane parivaar ka khyaal rakh rahe hoge jaise ki aapaka prashn hai ki kya mar jaana hee sabhee samasyaon ka samaadhaan hai to dekhen doston mar jaana kabhee bhee samasyaon ka samaadhaan nahin hota aapako sirph lagata hai ki isase samasyaon ka samaadhaan nikal sakata hai kya aapane kabhee socha hai ki agar aapaka phon janm hota hai jo ki ek ka aarakshan maan sakate hain ki aap agale janm mein kya banega graam hindoo granthon kee soochee to aapako pata hee nahin kaun see aapako yoni praapt hogee aur saintiphik ve mein sochen to send to maanatee nahin ki aage chalakar kuchh hota bhee hai to donon hee soorat mein agar aap yah sochate hain ki main jaane ke baad aapakee samasya ko samaadhaan ho to aisa bilkul nahin hai aapake karm ke anusaar agar aapako aap dhaarmik pravrtti ke log hain to aapako yah batao yah hoga ki bhagavaan hamen narak mein bhejega ya to svarg mein bhejega to us cheej mein agar aapane khud ko maar liya to aap aatm hatya ke doshee hue aap kabhee bhee svarg ja hee nahin sakate aap ko nark mein jaakar bhee dukh dukh nahin hai doosaree sichueshan yah hai ki agar aap aise on karate hain ki aapako ek naee jindagee milegee to us naee jindagee mein bhee kya aapako jo ab dukh hai vah aage chalakar nahin milega to aapako is cheej ko bhee samajhana hoga to yahee baat hai ki sirph kisee cheej ka samaadhaan mar jaana hee nahin hota agar aap kisee cheej ko sudhaarana hee chaahate ho to aap usake oopar jaroor mehanat karen aap samajhie ki aapakee sahee maayane mein problam kya hai kisee ko paise kee problam mein kisee ko pyaar kee problam kisee ke paas rahane ko ghar nahin hai kisee ke paas khaana nahin hai harek kee apanee ek alag problam hai lekin agar aap us problam par hee kaam nahin karegee aur apane aap ko hee nahin badalana chaahenge to aap kabhee bhee us samasya se nahin nikal paenge

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
0:28
हाय फ्रेंड क्वेश्चन पूछा जाए कि क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान होता तो ऐसे देखा जाए तू एक व्यक्ति के जीवन में अगर यह समस्या है मतलब कि वह जीवित है क्योंकि मर जाने के बाद सारी समस्या जो होती हैं खत्म हो जाती है अतः की समस्याओं का जो होता है समाधान तो नहीं होता है बट समस्या जो होती है पूरी तरह से खत्म हो जाते हैं
Haay phrend kveshchan poochha jae ki kya mar jaana hai sabhee samasyaon ka samaadhaan hota to aise dekha jae too ek vyakti ke jeevan mein agar yah samasya hai matalab ki vah jeevit hai kyonki mar jaane ke baad saaree samasya jo hotee hain khatm ho jaatee hai atah kee samasyaon ka jo hota hai samaadhaan to nahin hota hai bat samasya jo hotee hai pooree tarah se khatm ho jaate hain

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Yogi Prashant Nath Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Yogi जी का जवाब
Business Owner
3:04
नमस्कार जी हां मरना बहुत जरूरी है क्योंकि अगर आप किसी चीज के लिए मरते हैं अपने लक्ष्य के लिए अगर आप मरते हैं दिन रात एक कर देते हैं तो ही आपकी सारी समस्याओं का समाधान हो सकता है और जो मरना ही चाहता है तो सबसे पहले तो उन समस्याओं को मारे जिन्हें वह पेश कर रहा है जिन समस्याओं से ग्रसित है यह मान ले कि उसके कोई सी प्रकार की कोई टेंशन ही नहीं है अब उसका होना ना होना एक बराबर है और बिना किसी डर के क्योंकि जो मृत व्यक्ति होता है उसको किसी डर की आवश्यकता नहीं होता जो मर चुका है उसे और क्यों मरने का दुनिया का सबसे बड़ा है जो होता है वह मौत होती है और जिसकी मौत आ चुकी होती है उसको किस चीज का भय होता है वह बिल्कुल निर्भय हो जाता है तो निर्भय कि यह बहुत बड़ी परिभाषा है कि जीवन में जब भी कुछ हासिल करना होता है तो मौत को परे रखकर उस पर विजय पाकर ही की जा सके क्योंकि मौत तो 1 दिन सबको आनी है ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है जो हमारे और अगर ऐसा ही होगा होता कि हर एक समस्या का समाधान नहीं होता तो भगवान हर किसी को पैदा नहीं होते अगर आप पैदा हुए हैं और मरना निश्चित है तो इसके बीच का जो समय अंतराल है उसका पूरी तरह से उपयोग कीजिए सदुपयोग कीजिए के लिए दुनिया में बिना किसी दबाव के क्योंकि 1 दिन ज्यादा से ज्यादा कोई आपका कितना अहित कर सकता है जो मेन पॉइंट है आप की मौत के ऊपर आकर जो खत्म होता है उसके बाद कुछ नहीं रह जाता उससे ज्यादा तो कोई किसी का कोई भी गाड़ी नहीं सकता इस चीज को समझना बहुत जरूरी है कि जीवन में कुछ हासिल करने के लिए कुछ त्याग तो करना पड़ता है क्योंकि मरने का मतलब यही है कि हम अपने अच्छे जीवन को त्याग रहे इतना मूल्यवान जो जीवन है जिसके लिए कहा गया है देवता भी तरसते हैं आप इतनी मूल्यवान चीज को अगर आप त्याग रहे हैं तो आप कुछ इसके बदले चाहत भी होनी चाहिए और अगर आप बहुत सारे अपने जीवन में बहुत सारी सुख सुविधाएं होती है अगर आप उनको प्यार देंगे उनके लिए उनको मारेंगे तब जाकर आपको चीज हासिल कर सकेंगे तो इसे एक नजरिया आप बदल कर देखें तो यह आपके जीवन को बदल देगा बस फर्क इतना है कि एक तरफ कायरता भरी बात होती है और एक तरफ वीरता वाली बात होती है तो आप का चुनाव होता है क्या आप किस श्रेणी में जाना चाहते हैं आप कायरता की मौत मरना चाहते हैं या वीरों की आई होप सो दैट यह पोस्ट आप सभी के जीवन में एक सकारात्मक परिवर्तन लाएगा और एक सफल व्यक्तित्व के रूप में आपके लिए काम आएगा और अगर आपको यह पोस्ट के बारे में कुछ भी कहना है तो कमेंट के माध्यम से अपनी प्रतिक्रिया जरूर हमें बताया करें क्योंकि हमें अच्छा लगता है कि आपके विचार जानकर कि हमारे जो कमेंट है जो पोस्ट है उनके बारे में आपकी क्या राय है और अगर अच्छा लगता है तो लाइक करो और हमारे पोस्ट को सुनने के लिए हमसे जुड़ सकते फॉलो कर सकते प्रोफाइल भेजो
Namaskaar jee haan marana bahut jarooree hai kyonki agar aap kisee cheej ke lie marate hain apane lakshy ke lie agar aap marate hain din raat ek kar dete hain to hee aapakee saaree samasyaon ka samaadhaan ho sakata hai aur jo marana hee chaahata hai to sabase pahale to un samasyaon ko maare jinhen vah pesh kar raha hai jin samasyaon se grasit hai yah maan le ki usake koee see prakaar kee koee tenshan hee nahin hai ab usaka hona na hona ek baraabar hai aur bina kisee dar ke kyonki jo mrt vyakti hota hai usako kisee dar kee aavashyakata nahin hota jo mar chuka hai use aur kyon marane ka duniya ka sabase bada hai jo hota hai vah maut hotee hai aur jisakee maut aa chukee hotee hai usako kis cheej ka bhay hota hai vah bilkul nirbhay ho jaata hai to nirbhay ki yah bahut badee paribhaasha hai ki jeevan mein jab bhee kuchh haasil karana hota hai to maut ko pare rakhakar us par vijay paakar hee kee ja sake kyonki maut to 1 din sabako aanee hai aisa koee vyakti nahin hai jo hamaare aur agar aisa hee hoga hota ki har ek samasya ka samaadhaan nahin hota to bhagavaan har kisee ko paida nahin hote agar aap paida hue hain aur marana nishchit hai to isake beech ka jo samay antaraal hai usaka pooree tarah se upayog keejie sadupayog keejie ke lie duniya mein bina kisee dabaav ke kyonki 1 din jyaada se jyaada koee aapaka kitana ahit kar sakata hai jo men point hai aap kee maut ke oopar aakar jo khatm hota hai usake baad kuchh nahin rah jaata usase jyaada to koee kisee ka koee bhee gaadee nahin sakata is cheej ko samajhana bahut jarooree hai ki jeevan mein kuchh haasil karane ke lie kuchh tyaag to karana padata hai kyonki marane ka matalab yahee hai ki ham apane achchhe jeevan ko tyaag rahe itana moolyavaan jo jeevan hai jisake lie kaha gaya hai devata bhee tarasate hain aap itanee moolyavaan cheej ko agar aap tyaag rahe hain to aap kuchh isake badale chaahat bhee honee chaahie aur agar aap bahut saare apane jeevan mein bahut saaree sukh suvidhaen hotee hai agar aap unako pyaar denge unake lie unako maarenge tab jaakar aapako cheej haasil kar sakenge to ise ek najariya aap badal kar dekhen to yah aapake jeevan ko badal dega bas phark itana hai ki ek taraph kaayarata bharee baat hotee hai aur ek taraph veerata vaalee baat hotee hai to aap ka chunaav hota hai kya aap kis shrenee mein jaana chaahate hain aap kaayarata kee maut marana chaahate hain ya veeron kee aaee hop so dait yah post aap sabhee ke jeevan mein ek sakaaraatmak parivartan laega aur ek saphal vyaktitv ke roop mein aapake lie kaam aaega aur agar aapako yah post ke baare mein kuchh bhee kahana hai to kament ke maadhyam se apanee pratikriya jaroor hamen bataaya karen kyonki hamen achchha lagata hai ki aapake vichaar jaanakar ki hamaare jo kament hai jo post hai unake baare mein aapakee kya raay hai aur agar achchha lagata hai to laik karo aur hamaare post ko sunane ke lie hamase jud sakate pholo kar sakate prophail bhejo

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Akriti mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Akriti जी का जवाब
Unknown
0:49

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
1:02
फैंसी मेवाती कमाल का प्रश्न किया चली कल सुबह देखते हैं उसका अभी तक हुआ उत्तर देने लगता है क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान दोस्तों ऐसा बिल्कुल नहीं है यह बहुत गलत है मर जाना सभी समस्याओं का समाधान नहीं हो सकता है अगर आप उस समाधान निकलना है तो आपको उसके लिए जीना होगा अच्छे दिन होगा उसका समाधान ढूंढना होगा और सब को दुनिया की तरफ साबित कर सकते हैं आप नेहा को साबित करके दिखा सकते हैं कि सभी समस्याओं का हल मरना नहीं होता जी के भी सारी समस्या हल की जा सकती है और जो मूर्ख होते हैं जो अपने आप मुझसे सुसाइड करते हैं दोस्तों में कभी घबराना नहीं चाहिए जिंदगी में परेशानियां आती रहती है सुख दुख तो जिंदगी के सिक्के के दो पहलू हैं इनको आना जाना यही हमारी असली परीक्षा होती है तभी हमें पता चलता है कि हम कितने गहरे पानी में हो कैसी क्या है तो सुख और दुख तो आते हैं अगर सुख ही सुख हो तो अपने दुख का मजा भी नहीं होता दुख ना हो तो सब का भी मजा नहीं होता दोनों ही लाइफ में जरूरी होते हैं दोस्त तो ठीक है
Phainsee mevaatee kamaal ka prashn kiya chalee kal subah dekhate hain usaka abhee tak hua uttar dene lagata hai kya mar jaana hai sabhee samasyaon ka samaadhaan doston aisa bilkul nahin hai yah bahut galat hai mar jaana sabhee samasyaon ka samaadhaan nahin ho sakata hai agar aap us samaadhaan nikalana hai to aapako usake lie jeena hoga achchhe din hoga usaka samaadhaan dhoondhana hoga aur sab ko duniya kee taraph saabit kar sakate hain aap neha ko saabit karake dikha sakate hain ki sabhee samasyaon ka hal marana nahin hota jee ke bhee saaree samasya hal kee ja sakatee hai aur jo moorkh hote hain jo apane aap mujhase susaid karate hain doston mein kabhee ghabaraana nahin chaahie jindagee mein pareshaaniyaan aatee rahatee hai sukh dukh to jindagee ke sikke ke do pahaloo hain inako aana jaana yahee hamaaree asalee pareeksha hotee hai tabhee hamen pata chalata hai ki ham kitane gahare paanee mein ho kaisee kya hai to sukh aur dukh to aate hain agar sukh hee sukh ho to apane dukh ka maja bhee nahin hota dukh na ho to sab ka bhee maja nahin hota donon hee laiph mein jarooree hote hain dost to theek hai

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:07
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न किया मर जाना है कि सभी समस्याओं का समाधान है नहीं दोस्तों ऐसा नहीं है मर जाना सभी समस्याओं का समाधान नहीं है जिंदगी में परेशानी कठिनाइयां तो सबके सामने आती है लेकिन अगर सब लोग मरने लगे तो फिर दुनिया का अंत ही हो जाएगी हो जाएगा इसीलिए मन ना इसका समाधान नहीं है कोई भी समस्या का समाधान जरूर निकालता है अगर 99 दरवाजे बंद होते हैं थोड़ी एक दरवाजा खुला रहता है इसलिए जब भी कोई परेशानी आएगी तो उसका हल भी जरूर मिल जाएगा परेशानियों से घबराना नहीं चाहिए थोड़ा धैर्य बनाकर रखना चाहिए अपने मित्रों से रिश्तेदारों से बात करना चाहिए समस्या को सुलझाना चाहिए अच्छे से बैठ कर बात करना चाहिए वरना किसी भी समस्या का समाधान नहीं होता है मरने से कुछ नहीं होता है यह जीवन में एक बार मिलता है इसे हमें अच्छे से जीना चाहिए अगर कोई समस्या आ जाए तो घर के बड़े बुजुर्गों से बैठ कर बात करना चाहिए और समस्या को सुलझाने का प्रयोग नहीं करना चाहिए मरने के बारे में तो नहीं सोचना चाहिए तो दोस्तों आपको जवाब पसंद आए तो प्लीज लाइक जरूर कर दीजिएगा धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn kiya mar jaana hai ki sabhee samasyaon ka samaadhaan hai nahin doston aisa nahin hai mar jaana sabhee samasyaon ka samaadhaan nahin hai jindagee mein pareshaanee kathinaiyaan to sabake saamane aatee hai lekin agar sab log marane lage to phir duniya ka ant hee ho jaegee ho jaega iseelie man na isaka samaadhaan nahin hai koee bhee samasya ka samaadhaan jaroor nikaalata hai agar 99 daravaaje band hote hain thodee ek daravaaja khula rahata hai isalie jab bhee koee pareshaanee aaegee to usaka hal bhee jaroor mil jaega pareshaaniyon se ghabaraana nahin chaahie thoda dhairy banaakar rakhana chaahie apane mitron se rishtedaaron se baat karana chaahie samasya ko sulajhaana chaahie achchhe se baith kar baat karana chaahie varana kisee bhee samasya ka samaadhaan nahin hota hai marane se kuchh nahin hota hai yah jeevan mein ek baar milata hai ise hamen achchhe se jeena chaahie agar koee samasya aa jae to ghar ke bade bujurgon se baith kar baat karana chaahie aur samasya ko sulajhaane ka prayog nahin karana chaahie marane ke baare mein to nahin sochana chaahie to doston aapako javaab pasand aae to pleej laik jaroor kar deejiega dhanyavaad

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
2:12
देखो समस्या तो हमेशा है हर किसी के पास में दुनिया में आप हर एक चीजों को देखो हर एक स्थिति को देखो कहां पर समस्या नहीं एक छोटी सी अगर आप का मतलब बीच को मिट्टी में डालोगे तो वह बीज एक पेड़ होने तक भी उसको काफी समस्याओं से गुजरना पड़ता है एक एनिमल जानवर वह जब बच्चा बच्चा होते हैं और एक बड़ा बनने में उसको काफी दिक्कत को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है और इसी के दौरान कभी कभी ना वह लोग एलिमिनेट हो जाते हैं हम आज जो प्रकृति होता उनको साइड करा देता है उनका आउट करा देता है और जब तक थे सक्सेस होता है जो मुसीबत तो के साथ में आगे बढ़ता है वह आगे चलता है यह के छोरी है डार्विन प्रिंसिपल अफसर भाई बस ठीक है भाई फिटर थ्योरी है इनका तो इसका अर्थ है कि जो फिट है तब से वह हमेशा तवायफ़ करने के लिए आगे जाएगा तो फिर उसी के साथ में फिर हम कैसे बोल सकते हैं कि अगर मेरे पास समझता है तो फिर मैं मर जाऊंगा ऐसी बात नहीं समझते आपको फाइट करके आगे आगे आना जिंदगी है यह तो नहीं कि मौत है और ट्राई करें हमेशा एक युद्ध कर युद्ध युद्ध करना सीखिए कि हर एक ट्यूशन के साथ युद्ध करना सीखे हर एक मोमेंट का विरोध करना सीखें मर जाना कभी भी फैसला नहीं जब आपको मरना होगा तो आप मारोगे उसमें मिनट में ठीक है कोई आपको रोकेगा नहीं आप बच्चा हो या फिर बुड्ढा हो कोई भी इसमें हो जब मौत का वक्त आ जाएगा जब भी आपका टाइम खत्म हो जाएगा दिन आप चले जाओगे इसमें कोई दिक्कत नहीं है और दो राय नहीं लेकिन जीना कैसा है आपके हाथ में है ठीक है मौत और जन्म यह सब चीजें आपके हाथ में नहीं है नेचर के हाथ में यह सही मम्मी आप को ले जाएगा लेकिन आप कैसे जिओगे कैसे आपकी लाइफ को मीनिंग कॉल करोगे कि से समस्याओं को समाधान करते करते सफलता पापा कर आप आगे चलोगे वही होता है लाइफ तो इसीलिए मैं इसका रायका आपका जो मन था तो यहां पर कि समस्याओं को समस्याओं की समाधान मौत है तो इसमें में सहमत नहीं और मैं उम्मीद रखा करता हूं सारी सोता हूं को कि हमेशा कभी भी मौत को राम मत बात से नंबर राह मत बनाइए समस्या हमको फाइट करिए अगर फाइट करते हैं समझता जा भी नहीं रहे तो थोड़ी से कब रखी है यह तो मस्त है और यह वक्त भी चला जाएगा यह जो मोदी भक्त है ना यह भी चला जाएगा धन्यवाद मेरे सोता हूं
Dekho samasya to hamesha hai har kisee ke paas mein duniya mein aap har ek cheejon ko dekho har ek sthiti ko dekho kahaan par samasya nahin ek chhotee see agar aap ka matalab beech ko mittee mein daaloge to vah beej ek ped hone tak bhee usako kaaphee samasyaon se gujarana padata hai ek enimal jaanavar vah jab bachcha bachcha hote hain aur ek bada banane mein usako kaaphee dikkat ko dikkaton ka saamana karana padata hai aur isee ke dauraan kabhee kabhee na vah log eliminet ho jaate hain ham aaj jo prakrti hota unako said kara deta hai unaka aaut kara deta hai aur jab tak the sakses hota hai jo museebat to ke saath mein aage badhata hai vah aage chalata hai yah ke chhoree hai daarvin prinsipal aphasar bhaee bas theek hai bhaee phitar thyoree hai inaka to isaka arth hai ki jo phit hai tab se vah hamesha tavaayaf karane ke lie aage jaega to phir usee ke saath mein phir ham kaise bol sakate hain ki agar mere paas samajhata hai to phir main mar jaoonga aisee baat nahin samajhate aapako phait karake aage aage aana jindagee hai yah to nahin ki maut hai aur traee karen hamesha ek yuddh kar yuddh yuddh karana seekhie ki har ek tyooshan ke saath yuddh karana seekhe har ek moment ka virodh karana seekhen mar jaana kabhee bhee phaisala nahin jab aapako marana hoga to aap maaroge usamen minat mein theek hai koee aapako rokega nahin aap bachcha ho ya phir buddha ho koee bhee isamen ho jab maut ka vakt aa jaega jab bhee aapaka taim khatm ho jaega din aap chale jaoge isamen koee dikkat nahin hai aur do raay nahin lekin jeena kaisa hai aapake haath mein hai theek hai maut aur janm yah sab cheejen aapake haath mein nahin hai nechar ke haath mein yah sahee mammee aap ko le jaega lekin aap kaise jioge kaise aapakee laiph ko meening kol karoge ki se samasyaon ko samaadhaan karate karate saphalata paapa kar aap aage chaloge vahee hota hai laiph to iseelie main isaka raayaka aapaka jo man tha to yahaan par ki samasyaon ko samasyaon kee samaadhaan maut hai to isamen mein sahamat nahin aur main ummeed rakha karata hoon saaree sota hoon ko ki hamesha kabhee bhee maut ko raam mat baat se nambar raah mat banaie samasya hamako phait karie agar phait karate hain samajhata ja bhee nahin rahe to thodee se kab rakhee hai yah to mast hai aur yah vakt bhee chala jaega yah jo modee bhakt hai na yah bhee chala jaega dhanyavaad mere sota hoon

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
KARTIK MISHRA Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए KARTIK जी का जवाब
Student
0:11

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:58
देखिए आपने जो प्रश्न पूछा है कि क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है लेकिन मैं तो कतई इस बात से सहमत नहीं हूं बल्कि तुम मर जाने की मानसिकता को अपने मन में रखता है वह व्यक्ति बहुत ज्यादा जीवन में निराशाजनक स्थिति में है और आत्महत्या या स्वयं में मर जाना इस तरीके से कायरता का प्रतीक है और मर जाना मृत्यु कभी किसी समस्या का समाधान हो ही नहीं सकती और यही मनुष्य की खासियत है यही इंसान होने की मानव होने की खासियत है कि ईश्वर ने हम को बुद्धि और ज्ञान दिया है जिससे हम नकारात्मक स्थितियों परिस्थितियों से भी लड़ कर के हम उसे जीते हम उसे बाहर निकल के आए और जीवन में संघर्ष करें ना कि मृत्यु के बारे में सोचें मृत्यु सदा ही आपकी समस्याएं बढ़ाएं आपकी तो नहीं क्योंकि आप मर जाएंगे लेकिन आप की मौत के बाद आपकी आत्मा के साथ क्या होगा वह भी चलिए छोड़ दीजिए लेकिन अपने को मारना महापाप है क्योंकि जो स्वयं को मार देता है उसके पीछे अनेकों जीवन आहत हो आपका परिवार आपके चाहने वाले वह लोग सब जीते जी मर जाते हैं तो ऐसी स्थिति में इसको बिल्कुल भी आर्थिक नहीं माना जा सकता तो इस तरह की सोच रखना ही बहुत कायरता वाली सोच है उन सब की उसके परिवार की जो पीछे के लोग हैं उनकी दिल की से निकलेगी पीड़ा होगी क्या वह आपकी आत्मा को कभी शिव जीवन में शांति से रहने दे कि वह व्यक्ति इतना सारा दुख लेकर के अगले जन्म में पैदा होता है और उस आत्मा को मौत के बाद में भी दूसरा शरीर नहीं मिलता है इसलिए समस्याओं के समाधान को खोजने का प्रयास करें कभी भी मरने के बारे में नहीं सोचा जो जीवन में समस्या है उस समस्या का समाधान खोजें उस परिस्थिति से बाहर निकले अपने आपको अपने मस्तिष्क को अपने दिमाग को सशस्त्र करके शांति से सोचकर विचार करके अपनी बुद्धि से विचार से ज्ञान से उन परिस्थितियों से बाहर निकले मना कि हम मृत्यु का आलिंगन करने के बारे में सोचें क्योंकि इससे समस्याओं का समाधान सिर्फ व्यक्तिगत आपके लिए तो हो सकता है कि हम जो भी ऐसा सोचा उसके लिए हो जाए लेकिन उसका परिवार उसकी माता पिता उसकी पत्नी उसके बच्चे वह तो जीते जी मर जाएंगे वह बाद में किन पेड़ों का सामना करेंगे इतनी तकलीफ के उसको आसपास रहने वाले समाज में रिश्तेदार कितने ताने उन लोगों को देंगे तो बेचारे वह बाद में कितनी तकलीफ पाएंगे ऐसी सोच कभी भी सकारात्मक सोच रखें जीवन जीते हुए समस्याओं का समाधान ढूंढते हैं
Dekhie aapane jo prashn poochha hai ki kya mar jaana hai sabhee samasyaon ka samaadhaan hai lekin main to katee is baat se sahamat nahin hoon balki tum mar jaane kee maanasikata ko apane man mein rakhata hai vah vyakti bahut jyaada jeevan mein niraashaajanak sthiti mein hai aur aatmahatya ya svayan mein mar jaana is tareeke se kaayarata ka prateek hai aur mar jaana mrtyu kabhee kisee samasya ka samaadhaan ho hee nahin sakatee aur yahee manushy kee khaasiyat hai yahee insaan hone kee maanav hone kee khaasiyat hai ki eeshvar ne ham ko buddhi aur gyaan diya hai jisase ham nakaaraatmak sthitiyon paristhitiyon se bhee lad kar ke ham use jeete ham use baahar nikal ke aae aur jeevan mein sangharsh karen na ki mrtyu ke baare mein sochen mrtyu sada hee aapakee samasyaen badhaen aapakee to nahin kyonki aap mar jaenge lekin aap kee maut ke baad aapakee aatma ke saath kya hoga vah bhee chalie chhod deejie lekin apane ko maarana mahaapaap hai kyonki jo svayan ko maar deta hai usake peechhe anekon jeevan aahat ho aapaka parivaar aapake chaahane vaale vah log sab jeete jee mar jaate hain to aisee sthiti mein isako bilkul bhee aarthik nahin maana ja sakata to is tarah kee soch rakhana hee bahut kaayarata vaalee soch hai un sab kee usake parivaar kee jo peechhe ke log hain unakee dil kee se nikalegee peeda hogee kya vah aapakee aatma ko kabhee shiv jeevan mein shaanti se rahane de ki vah vyakti itana saara dukh lekar ke agale janm mein paida hota hai aur us aatma ko maut ke baad mein bhee doosara shareer nahin milata hai isalie samasyaon ke samaadhaan ko khojane ka prayaas karen kabhee bhee marane ke baare mein nahin socha jo jeevan mein samasya hai us samasya ka samaadhaan khojen us paristhiti se baahar nikale apane aapako apane mastishk ko apane dimaag ko sashastr karake shaanti se sochakar vichaar karake apanee buddhi se vichaar se gyaan se un paristhitiyon se baahar nikale mana ki ham mrtyu ka aalingan karane ke baare mein sochen kyonki isase samasyaon ka samaadhaan sirph vyaktigat aapake lie to ho sakata hai ki ham jo bhee aisa socha usake lie ho jae lekin usaka parivaar usakee maata pita usakee patnee usake bachche vah to jeete jee mar jaenge vah baad mein kin pedon ka saamana karenge itanee takaleeph ke usako aasapaas rahane vaale samaaj mein rishtedaar kitane taane un logon ko denge to bechaare vah baad mein kitanee takaleeph paenge aisee soch kabhee bhee sakaaraatmak soch rakhen jeevan jeete hue samasyaon ka samaadhaan dhoondhate hain

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
3:17
क्या मर जाना सभी समस्याओं का समाधान है ऐसा सवाल किसी मित्र ने पूछा है तो निश्चित रूप से जिंदगी जो है वह मिली है तो मर जाने के लिए तो नहीं मिली है वह इस प्रकृति में घटित हुआ है कि हम एहसास कर सकते हैं इसका मतलब हम जिंदा है हम जानते हैं और खुद जब मूर्त हो जाते हैं तब हम एहसास नहीं हमें किसी चीज का अनुभव नहीं होता जितना हो जाती है तो किसी भी समस्याओं का कारण मर जाना तो यह कुर्ती है या विकृति तो है ही लेकिन यह एक गैर जिम्मेदार होगा होता है और यह करते हुए बहुत सारे लोग दिखाई देते हैं और इसका मतलब यह सही सही यह है कि वह जिंदगी का अर्थ न विश नहीं समझोगे होते अरे यार तो समझने के लिए कुछ प्रयास भी करने पड़ते हैं जैसे शिक्षा पद्धति है ट्यूशन लेना पड़ता है समाज में ऑब्जरवेशन करना पड़ता है अनुभव लेना पड़ता है ग्रंथों को पढ़ना पड़ता है विज्ञान को समझना पड़ता है समझ को समझना पड़ता है मानसशास्त्र साइकोलॉजी को समझना पड़ता है किचन के समझने के बाद ही समझ निर्माण हो जाती है तब कोई आदमी जो है वह खुद मर जाना पसंद नहीं करता करता है और नहीं करेगा मर जाना तो कोई समस्याओं का समाधान नहीं है यह तो निश्चित है समस्या के जड़ तक जाकर उसको नष्ट करके उस पर विजय प्राप्त करके सफल होना यह समस्याओं का समाधान होता है और उसके लिए प्रयास कर जारी रखने लगते और निश्चित रूप से सफलता मिलती है अगर मेरा जवाब सही लगा तो कृपया इसे लाइक करें धन्यवाद
Kya mar jaana sabhee samasyaon ka samaadhaan hai aisa savaal kisee mitr ne poochha hai to nishchit roop se jindagee jo hai vah milee hai to mar jaane ke lie to nahin milee hai vah is prakrti mein ghatit hua hai ki ham ehasaas kar sakate hain isaka matalab ham jinda hai ham jaanate hain aur khud jab moort ho jaate hain tab ham ehasaas nahin hamen kisee cheej ka anubhav nahin hota jitana ho jaatee hai to kisee bhee samasyaon ka kaaran mar jaana to yah kurtee hai ya vikrti to hai hee lekin yah ek gair jimmedaar hoga hota hai aur yah karate hue bahut saare log dikhaee dete hain aur isaka matalab yah sahee sahee yah hai ki vah jindagee ka arth na vish nahin samajhoge hote are yaar to samajhane ke lie kuchh prayaas bhee karane padate hain jaise shiksha paddhati hai tyooshan lena padata hai samaaj mein objaraveshan karana padata hai anubhav lena padata hai granthon ko padhana padata hai vigyaan ko samajhana padata hai samajh ko samajhana padata hai maanasashaastr saikolojee ko samajhana padata hai kichan ke samajhane ke baad hee samajh nirmaan ho jaatee hai tab koee aadamee jo hai vah khud mar jaana pasand nahin karata karata hai aur nahin karega mar jaana to koee samasyaon ka samaadhaan nahin hai yah to nishchit hai samasya ke jad tak jaakar usako nasht karake us par vijay praapt karake saphal hona yah samasyaon ka samaadhaan hota hai aur usake lie prayaas kar jaaree rakhane lagate aur nishchit roop se saphalata milatee hai agar mera javaab sahee laga to krpaya ise laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Yogi Nath Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Yogi जी का जवाब
Unknown
2:58
जीवन के संघर्ष से हार कर एक व्यक्ति आत्महत्या करने जा रहा होता है वह कौन से कूदने वाला होता है तभी एक व्यक्ति उसके पास आकर उससे पूछता है भाई तुम आत्महत्या क्यों करना चाहते हो उसने बताया यह सारी समस्याएं आ रही है इसलिए मेरा जीवन बहुत ज्यादा मुश्किल से भरा है मैं ऐसा जीवन नहीं जी सकता उसने कहा अच्छा ठीक है अगर तुम्हें आत्महत्या करनी है तो 1 महीने बात कर लेना उसने कहा भाई मैं आज मारूं या 1 महीने बाद मारूं तुम्हें इससे क्या तेरा अगर आप 1 महीने बाद मरेंगे तो मेरा फायदा हो जाएगा मैं आपके नाम पर एक इंश्योरेंस करवा लूंगा और उसके बाद आप मर जाना और आपका नॉमिनी में बन जाऊंगा और आपके इंश्योरेंस के पैसे मुझे मिल जाएंगे उस व्यक्ति ने सोचा जो मर रहा था आत्महत्या कर रहा था कि चलो मरते-मरते पुण्य का काम कर देते हैं किसी के काम तो आ जाए अभी तक तो आया नहीं शायद जाते जाते ही किसी का काम आ जाए तो सोचता है ठीक है एक महीने बाद आत्महत्या कर लूंगा तो जब उसको सारी सुविधाएं दी जाती है 1 महीने तक रहने के लिए जैसे सोने की मुर्गी देने वाले अंडे की क्यों होता है कहानी होती तो अब जब उसको कहता है एक महीने बाद की भाई अब तुम आत्महत्या कर लो पता नहीं मैं अब आत्महत्या नहीं करूंगा क्योंकि उसे सब सुख सुविधाएं मिली हुई होती उसे उस जीवन का महत्व समझ आ जाता है कई बार ऐसा ही होता जब हम समस्याओं से घिरे होते हमें नजर नहीं आती परेशानियों से निकलने का रास्ता नजर नहीं आता और हमें लगता कि जीवन बस यही है इन्हीं समस्याओं से घिरा हुआ है लेकिन वास्तविकता में संसार बहुत ही ज्यादा सुंदर है बहुत ज्यादा ही रोचक और उसकी महत्व तभी हमें मिलता है पता चलता है जब हम उसको एक्सपीरियंस करते हैं तो जब भी इस तरह के ख्याल आपके मन में आए तो थोड़ा सा समय दे तुरंत एक्शन ना करें या ना करें क्योंकि हम जब गुस्से में कोई फैसला करते हैं तो हमारी बुद्धि काम नहीं करती और उसके वजह से हमें और हमारे से जुड़े हुए लोगों को बहुत समय के लिए पछताना तो मैं एक उदाहरण दूंगा अमेरिका के 2 राष्ट्रपति थे अब्राहम लिंकन वह कभी भी जब गुस्से में कोई प्रतिक्रिया करनी होती थी तो वह एक लेटर लिखा करते थे उस लेटर को पोस्ट नहीं करते थे उससे 2 घंटे बाद दोबारा रेट करते थे फिर देखते थे उन्हें खुद ही यकीन नहीं होता था कि उन्होंने की चीजें लिखी है अपने हाथों से इस तरह की गुस्से वाले पत्र यही कहना चाहूंगा कि पहले कोई भी प्रतिक्रिया ना करें जब भी कोई समस्या है उस पर जितना हो सके समय दे जितना ज्यादा आप समझोगे उतनी ही ज्यादा अच्छे से आप निर्णय ले पाओगे उतनी अच्छी नजरिए से आप दुनिया को देख पाओगे कई बार हमारी आंखों पर पट्टी बंध जाती है जिसकी वजह से कुछ दिखाई नहीं देता कुछ समय के लिए लेकिन जब वह हस्ती है तुम्हारी दुनिया जो है जो सुंदर दुनिया वह दिखती है
Jeevan ke sangharsh se haar kar ek vyakti aatmahatya karane ja raha hota hai vah kaun se koodane vaala hota hai tabhee ek vyakti usake paas aakar usase poochhata hai bhaee tum aatmahatya kyon karana chaahate ho usane bataaya yah saaree samasyaen aa rahee hai isalie mera jeevan bahut jyaada mushkil se bhara hai main aisa jeevan nahin jee sakata usane kaha achchha theek hai agar tumhen aatmahatya karanee hai to 1 maheene baat kar lena usane kaha bhaee main aaj maaroon ya 1 maheene baad maaroon tumhen isase kya tera agar aap 1 maheene baad marenge to mera phaayada ho jaega main aapake naam par ek inshyorens karava loonga aur usake baad aap mar jaana aur aapaka nominee mein ban jaoonga aur aapake inshyorens ke paise mujhe mil jaenge us vyakti ne socha jo mar raha tha aatmahatya kar raha tha ki chalo marate-marate puny ka kaam kar dete hain kisee ke kaam to aa jae abhee tak to aaya nahin shaayad jaate jaate hee kisee ka kaam aa jae to sochata hai theek hai ek maheene baad aatmahatya kar loonga to jab usako saaree suvidhaen dee jaatee hai 1 maheene tak rahane ke lie jaise sone kee murgee dene vaale ande kee kyon hota hai kahaanee hotee to ab jab usako kahata hai ek maheene baad kee bhaee ab tum aatmahatya kar lo pata nahin main ab aatmahatya nahin karoonga kyonki use sab sukh suvidhaen milee huee hotee use us jeevan ka mahatv samajh aa jaata hai kaee baar aisa hee hota jab ham samasyaon se ghire hote hamen najar nahin aatee pareshaaniyon se nikalane ka raasta najar nahin aata aur hamen lagata ki jeevan bas yahee hai inheen samasyaon se ghira hua hai lekin vaastavikata mein sansaar bahut hee jyaada sundar hai bahut jyaada hee rochak aur usakee mahatv tabhee hamen milata hai pata chalata hai jab ham usako eksapeeriyans karate hain to jab bhee is tarah ke khyaal aapake man mein aae to thoda sa samay de turant ekshan na karen ya na karen kyonki ham jab gusse mein koee phaisala karate hain to hamaaree buddhi kaam nahin karatee aur usake vajah se hamen aur hamaare se jude hue logon ko bahut samay ke lie pachhataana to main ek udaaharan doonga amerika ke 2 raashtrapati the abraaham linkan vah kabhee bhee jab gusse mein koee pratikriya karanee hotee thee to vah ek letar likha karate the us letar ko post nahin karate the usase 2 ghante baad dobaara ret karate the phir dekhate the unhen khud hee yakeen nahin hota tha ki unhonne kee cheejen likhee hai apane haathon se is tarah kee gusse vaale patr yahee kahana chaahoonga ki pahale koee bhee pratikriya na karen jab bhee koee samasya hai us par jitana ho sake samay de jitana jyaada aap samajhoge utanee hee jyaada achchhe se aap nirnay le paoge utanee achchhee najarie se aap duniya ko dekh paoge kaee baar hamaaree aankhon par pattee bandh jaatee hai jisakee vajah se kuchh dikhaee nahin deta kuchh samay ke lie lekin jab vah hastee hai tumhaaree duniya jo hai jo sundar duniya vah dikhatee hai

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Rakesh Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Rakesh जी का जवाब
👨‍🏫 Teacher.
2:14
प्रश्न है कि क्या मर जाना ही सभी समस्याओं का समाधान है तो देखिए मर जाना समस्या का समाधान नहीं है और मुझे लगता है कि आप इस शहर की संज्ञा दे सकते हैं क्योंकि जीवन हमारा जो है संघर्षशील है और हम सभी जानते हैं कहीं-कहीं कोटेशन भी मिलता है कि जीवन ही संघर्षशील है तो इसे हमें घबराना नहीं चाहिए जो कि ईश्वर ने हमें बहुत सोच समझ कर इस दुनिया पर भेजा और हम सभी अभी जानते हैं कि 8400000 योनियों में यानी जियो में भटकने के बाद एक बार हमें मनुष्य रूपी जन्म होता है और यह संभव है जो कि यह जीवन है यह मृत्युलोक है तो यहां पर संघर्ष तब किसी को करना पड़ता है ऐसा नहीं है कि हर किसी को आसानी से सब कुछ मिल जाता है अगर जिंदगी में संघर्ष ना हो तो जिंदगी का जीने का मजा में किरकिरी हो जाएगी क्योंकि हमें हालात या हमें सिचुएशन या स्थिति बहुत सारी चीजों को हमें जानकारी मिलती है जब हम संघर्ष करते हैं यह उसे गलतियां करते हैं उसे हमें भी कुछ सीख मिलती है तो हम इन समस्याओं का सामना करना चाहिए और यह सत्य बात है कि जो समस्या हमारे सामने आती है उसका समाधान जरूर होता है बशर्ते कि हम उसके लिए प्रयत्न करें तो मर जाना है यह समस्याओं का समाधान नहीं है अगर आप ऐसा करते हैं तो हो सकता है कि आप तो चले गए आप का जो जीवन जीने का जो समय था उसको दिया अतीत नहीं कर पाए इसके साथ-साथ अपने परिवार या अपने बच्चे या पत्नी के पीछे एक बोझ है या एक असहाय करके चले गए इससे आपको और आपके परिवार को कितनी पोस्ट होती है हम सभी को यह समझना चाहिए कि एक व्यक्ति को न रहने पर परिवार को कितनी आशाएं होती और क्या परिवार पर बिकती है यह सारे स्थिति आप देख सकते हैं अगर किसी व्यक्ति को समय से पहले मृत्यु हो जाती है तो यह सारी स्थिति को ध्यान में रखते हुए मुझे लगता है कि समस्याओं से लड़ना चाहिए बल्कि इस तरह के कदम हमें नहीं उठाना चाहिए
Prashn hai ki kya mar jaana hee sabhee samasyaon ka samaadhaan hai to dekhie mar jaana samasya ka samaadhaan nahin hai aur mujhe lagata hai ki aap is shahar kee sangya de sakate hain kyonki jeevan hamaara jo hai sangharshasheel hai aur ham sabhee jaanate hain kaheen-kaheen koteshan bhee milata hai ki jeevan hee sangharshasheel hai to ise hamen ghabaraana nahin chaahie jo ki eeshvar ne hamen bahut soch samajh kar is duniya par bheja aur ham sabhee abhee jaanate hain ki 8400000 yoniyon mein yaanee jiyo mein bhatakane ke baad ek baar hamen manushy roopee janm hota hai aur yah sambhav hai jo ki yah jeevan hai yah mrtyulok hai to yahaan par sangharsh tab kisee ko karana padata hai aisa nahin hai ki har kisee ko aasaanee se sab kuchh mil jaata hai agar jindagee mein sangharsh na ho to jindagee ka jeene ka maja mein kirakiree ho jaegee kyonki hamen haalaat ya hamen sichueshan ya sthiti bahut saaree cheejon ko hamen jaanakaaree milatee hai jab ham sangharsh karate hain yah use galatiyaan karate hain use hamen bhee kuchh seekh milatee hai to ham in samasyaon ka saamana karana chaahie aur yah saty baat hai ki jo samasya hamaare saamane aatee hai usaka samaadhaan jaroor hota hai basharte ki ham usake lie prayatn karen to mar jaana hai yah samasyaon ka samaadhaan nahin hai agar aap aisa karate hain to ho sakata hai ki aap to chale gae aap ka jo jeevan jeene ka jo samay tha usako diya ateet nahin kar pae isake saath-saath apane parivaar ya apane bachche ya patnee ke peechhe ek bojh hai ya ek asahaay karake chale gae isase aapako aur aapake parivaar ko kitanee post hotee hai ham sabhee ko yah samajhana chaahie ki ek vyakti ko na rahane par parivaar ko kitanee aashaen hotee aur kya parivaar par bikatee hai yah saare sthiti aap dekh sakate hain agar kisee vyakti ko samay se pahale mrtyu ho jaatee hai to yah saaree sthiti ko dhyaan mein rakhate hue mujhe lagata hai ki samasyaon se ladana chaahie balki is tarah ke kadam hamen nahin uthaana chaahie

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Mo Waseem Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mo जी का जवाब
Unknown
0:07

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Christina KC Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Christina जी का जवाब
Unknown
0:21
ओलंपिक में क्या मर जाना ही सभी समस्याओं का समाधान है जी नहीं बिल्कुल भी नहीं आप मर जाते हो उसका मतलब नहीं है कि समस्या भी मर जाती है क्योंकि समस्या रहती है और मतलब अनसुलझी पहेली की तरह हमेशा के लिए रह जाती है आप आपके मरने के बाद मैं क्या से सवाल का जवाब है
Olampik mein kya mar jaana hee sabhee samasyaon ka samaadhaan hai jee nahin bilkul bhee nahin aap mar jaate ho usaka matalab nahin hai ki samasya bhee mar jaatee hai kyonki samasya rahatee hai aur matalab anasulajhee pahelee kee tarah hamesha ke lie rah jaatee hai aap aapake marane ke baad main kya se savaal ka javaab hai

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
himanshu bansal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए himanshu जी का जवाब
Influencer, trainer,motivate speaker
2:28
उसका सभी को यह भी सवाल है कि क्या मर जाना है सभी समस्या का समाधान है जी बिल्कुल भी नहीं है बहुत लोग अपनी परेशानियों से बिल्कुल फिट होकर परेशानियों से ग्रस्त होकर आत्महत्या जैसा का पूरा काम आत्महत्या जैसा अपराध करने की कोशिश करते हैं तो उससे भी बड़ा अपराध है जानेमन उसके लिए मुसीबतें किसकी भी सबके जीवन में होती है एक टाइम बताता है तो किसी के जीवन में ऐसे करके अपने आप को क्या समझता है जब उसे ऐसा लगता है कि सारी दुनिया जहान की मुसीबतें मेरे पास है लेकिन मेरे भाई ने मुझे समझाया माय डियर फ्रेंड मन किसी भी समस्या का समाधान है चाहे वह किसी भी प्रकार की समस्या हमारी समस्या तो बहुत बढ़िया आपको कैसे पता भाई इस दुनिया में तो इसका समाधान पर जाना है मर जाने के बाद क्या समस्या नहीं खत्म होगी वहां पर समस्या को छीनने वाला जिसको पसंद है वही हम लोगों को खुद को पता नहीं करना हम लोगों को समस्या को खत्म करना है तो मत करना किसी भी समस्या का समाधान भी हमेशा कोशिश की थी उठाया की कोशिश में लगी क्यों की समस्या से कैसे छुटकारा पाते हैं क्योंकि अगर आप यह सोचते हैं कि इससे छुटकारा मिलेगा आपके पास नहीं आ सकती है कि मैं ही अपने आप को खत्म कर दूं तो ना समस्या नहीं की ना ही मैं रहूंगा मैं आपको यह कह रहा हूं कि आप अपने आपको समस्या से मत छोड़ना चाहिए आप समस्या को सुलझाने की कोशिश अच्छा का पैसा करेंगे जब आप केवल समस्या को सुलझाने के लिए तो आपकी मम्मी सवाल ही नहीं आया था आपके मन में एक ही नहीं होगा कभी पीठ पर हाथ रखे आप हमेशा समस्या को सुलझाने की कोशिश किसी भी समस्या का समाधान बल्ला
Usaka sabhee ko yah bhee savaal hai ki kya mar jaana hai sabhee samasya ka samaadhaan hai jee bilkul bhee nahin hai bahut log apanee pareshaaniyon se bilkul phit hokar pareshaaniyon se grast hokar aatmahatya jaisa ka poora kaam aatmahatya jaisa aparaadh karane kee koshish karate hain to usase bhee bada aparaadh hai jaaneman usake lie museebaten kisakee bhee sabake jeevan mein hotee hai ek taim bataata hai to kisee ke jeevan mein aise karake apane aap ko kya samajhata hai jab use aisa lagata hai ki saaree duniya jahaan kee museebaten mere paas hai lekin mere bhaee ne mujhe samajhaaya maay diyar phrend man kisee bhee samasya ka samaadhaan hai chaahe vah kisee bhee prakaar kee samasya hamaaree samasya to bahut badhiya aapako kaise pata bhaee is duniya mein to isaka samaadhaan par jaana hai mar jaane ke baad kya samasya nahin khatm hogee vahaan par samasya ko chheenane vaala jisako pasand hai vahee ham logon ko khud ko pata nahin karana ham logon ko samasya ko khatm karana hai to mat karana kisee bhee samasya ka samaadhaan bhee hamesha koshish kee thee uthaaya kee koshish mein lagee kyon kee samasya se kaise chhutakaara paate hain kyonki agar aap yah sochate hain ki isase chhutakaara milega aapake paas nahin aa sakatee hai ki main hee apane aap ko khatm kar doon to na samasya nahin kee na hee main rahoonga main aapako yah kah raha hoon ki aap apane aapako samasya se mat chhodana chaahie aap samasya ko sulajhaane kee koshish achchha ka paisa karenge jab aap keval samasya ko sulajhaane ke lie to aapakee mammee savaal hee nahin aaya tha aapake man mein ek hee nahin hoga kabhee peeth par haath rakhe aap hamesha samasya ko sulajhaane kee koshish kisee bhee samasya ka samaadhaan balla

bolkar speaker
क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है?Mar Jana Hai Sabhi Samasyaon Ka Samadhan
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:37
इस वाले की क्या मर जाना सभी समस्या का समाधान है तो मेरे ख्याल से मर जाने से बेहतर है कि जो भी समस्या सामने है उसे हल करो मर जाने से कुछ नहीं होता है अगर आप इस समस्या का समाधान अच्छे से कर पाएंगे तो ही बेहतर हैं अगर आप समस्याओं का अच्छे से सामना कर पाएंगे तो आने वाली पीढ़ी आपको बताएगी कि इतनी बड़ी समस्या में पर भी भरा नहीं समस्या का सामना किया और इसे जितना भी धन्यवाद
Is vaale kee kya mar jaana sabhee samasya ka samaadhaan hai to mere khyaal se mar jaane se behatar hai ki jo bhee samasya saamane hai use hal karo mar jaane se kuchh nahin hota hai agar aap is samasya ka samaadhaan achchhe se kar paenge to hee behatar hain agar aap samasyaon ka achchhe se saamana kar paenge to aane vaalee peedhee aapako bataegee ki itanee badee samasya mein par bhee bhara nahin samasya ka saamana kiya aur ise jitana bhee dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान है मर जाना है सभी समस्याओं का समाधान
URL copied to clipboard