#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?

Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:23
सवाल है कि लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है पारंपरिक मान्यता के अनुसार लोहरी फसल की कटाई और बुवाई के तौर पर मनाई जाती है लोहड़ी को लेकर एक मान्यता यह भी है कि इस दिन लोहड़ी का जन्म होलिका की बहन के रूप में हुआ था बेशक होलिका का दहन हो गया था किसान लोहड़ी के दिन को नए साल की आर्थिक शुरुआत के रूप में भी मनाते हैं
Savaal hai ki lohadee kyon manaee jaatee hai isaka kya mahatv hai paaramparik maanyata ke anusaar loharee phasal kee kataee aur buvaee ke taur par manaee jaatee hai lohadee ko lekar ek maanyata yah bhee hai ki is din lohadee ka janm holika kee bahan ke roop mein hua tha beshak holika ka dahan ho gaya tha kisaan lohadee ke din ko nae saal kee aarthik shuruaat ke roop mein bhee manaate hain

और जवाब सुनें

bolkar speaker
लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:25
लोहारी फसल की कटाई एवं बुवाई के तौर पर बनाई जाती है लोहड़ी को लेकर एक मान्यता यह भी है कि तीन लड़का जनम होलिका के बहन के रूप में हुआ और बेशक होलिका का दहन हो गया मैं बहुत से किसान ही लोग नए साल की तरह बनाते हैं लोहड़ी को
Lohaaree phasal kee kataee evan buvaee ke taur par banaee jaatee hai lohadee ko lekar ek maanyata yah bhee hai ki teen ladaka janam holika ke bahan ke roop mein hua aur beshak holika ka dahan ho gaya main bahut se kisaan hee log nae saal kee tarah banaate hain lohadee ko

bolkar speaker
लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
2:04
क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है दोस्तों आपको बता दें कि मकर सक्रांति से 1 दिन पहले जो है और लोहड़ी का पर्व मनाया जाता है और पंजाबियों को एक प्रसिद्ध त्योहार है और वर्तमान समय में यदि बात करें तो यह पंजाब तक ही नहीं उठा रहा है बल्कि विदेशों के अंदर जो पंजाबी फैले हुए हैं वहां पर भी यह बनाई जाती है इसको लेकर के प्रति देख लो पता है कहा जाता है कि मकर सक्रांति के दिन कंस ने कृष्ण को मारने के लिए लोहिता नामक राक्षसी को गोकुल में भेजा था डीजे कृष्ण ने खेल-खेल में ही मार डाला था और उसी घटना की स्मृति में लोहिता का पावन पर्व जो है वह मनाया जाता है कि समाज में भी मकर सक्रांति के दिन पूर्व लालसाई के रूप में इस पर्व को मनाया जाता है यह तो थी इसकी एक लोक प्रचलित जो कहावत है उस चीज को लेकर के जाता है कि इस धरती सूर्य से अपने सुधर बिंदु से फिर दोबारा सूर्य की ओर मुख करना प्रारंभ कर देती है यह पर्व आगमन का प्रतीक भी है साल के पहले माह जनवरी में जब यह पर्व मनाया जाता है उस समय सर्दी का मौसम जाने को होता है उत्तर भारत खासकर पंजाब हरियाणा दिल्ली में ज्यादा होती है कर सकता है क्योंकि जब मैं नाचे और सीता का पर्व के दिन रात को जब लोहड़ी जलाई जाती है तो उसकी पूजा गेहूं की नई फसल की जो वाली है उसके साथ की जाती है और इसका महत्व को लेकर के त्योहार की खुशियां मनाते हैं आग में गुड़ तेरा रेवड़ी गजक डालने और इसके बाद इसे एक दूसरे में बांटने की परंपरा है और बस यही स्थिति लेकर मैं आपको कहूंगा कि इसका महत्व दोस्तों पंजाबी और विदेश विदेशों में बसे हुए पंजाबियों के लिए काफी महत्वपूर्ण है
Kyon manaee jaatee hai isaka kya mahatv hai doston aapako bata den ki makar sakraanti se 1 din pahale jo hai aur lohadee ka parv manaaya jaata hai aur panjaabiyon ko ek prasiddh tyohaar hai aur vartamaan samay mein yadi baat karen to yah panjaab tak hee nahin utha raha hai balki videshon ke andar jo panjaabee phaile hue hain vahaan par bhee yah banaee jaatee hai isako lekar ke prati dekh lo pata hai kaha jaata hai ki makar sakraanti ke din kans ne krshn ko maarane ke lie lohita naamak raakshasee ko gokul mein bheja tha deeje krshn ne khel-khel mein hee maar daala tha aur usee ghatana kee smrti mein lohita ka paavan parv jo hai vah manaaya jaata hai ki samaaj mein bhee makar sakraanti ke din poorv laalasaee ke roop mein is parv ko manaaya jaata hai yah to thee isakee ek lok prachalit jo kahaavat hai us cheej ko lekar ke jaata hai ki is dharatee soory se apane sudhar bindu se phir dobaara soory kee or mukh karana praarambh kar detee hai yah parv aagaman ka prateek bhee hai saal ke pahale maah janavaree mein jab yah parv manaaya jaata hai us samay sardee ka mausam jaane ko hota hai uttar bhaarat khaasakar panjaab hariyaana dillee mein jyaada hotee hai kar sakata hai kyonki jab main naache aur seeta ka parv ke din raat ko jab lohadee jalaee jaatee hai to usakee pooja gehoon kee naee phasal kee jo vaalee hai usake saath kee jaatee hai aur isaka mahatv ko lekar ke tyohaar kee khushiyaan manaate hain aag mein gud tera revadee gajak daalane aur isake baad ise ek doosare mein baantane kee parampara hai aur bas yahee sthiti lekar main aapako kahoonga ki isaka mahatv doston panjaabee aur videsh videshon mein base hue panjaabiyon ke lie kaaphee mahatvapoorn hai

bolkar speaker
लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
RAM NIWASH AWASTHI Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAM जी का जवाब
विद्यार्थी
0:42
कि आपका सवाल है लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है देखिए मैं आपको बताना चाहूंगा कि आमतौर पर दोहरी का त्यौहार सूर्य देव और अग्नि देव का आभार प्रकट करने के लिए और फसल की उन्नति की कामना करने के लिए मनाया जाता है लोमड़ी का महत्व एक और वजह से भी है क्योंकि इस दिन सूर्य मकर राशि से गुजर कर उत्तर की ओर रुख करता है ज्योतिष के मुताबिक लोमड़ी के बाद से शुरू उत्तरायण बनाता है जिसे जीवन और सेहत से जोड़कर देखा जाता है धन्यवाद
Ki aapaka savaal hai lohadee kyon manaee jaatee hai isaka kya mahatv hai dekhie main aapako bataana chaahoonga ki aamataur par doharee ka tyauhaar soory dev aur agni dev ka aabhaar prakat karane ke lie aur phasal kee unnati kee kaamana karane ke lie manaaya jaata hai lomri ka mahatv ek aur vajah se bhee hai kyonki is din soory makar raashi se gujar kar uttar kee or rukh karata hai jyotish ke mutaabik lomri ke baad se shuroo uttaraayan banaata hai jise jeevan aur sehat se jodakar dekha jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:49
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका पेशेंट लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व फ्रेंड्स जैसे हमारे यहां उत्तर प्रदेश में मकर संक्रांति मनाई जाती है 14 नवंबर को सॉरी फ्रेंड 14 जनवरी को उसी प्रकार पंजाब के तरफ लोहड़ी मनाई जाती है फ्रेंड्स लोहड़ी पंजाबियों में मनाई जाती है यह लोग आग जलाते हैं उसकी परिक्रमा करते हैं पूजा करते हैं उसे लोहड़ी मनाते हैं और जन रेवड़ी मूंगफली चने इत्यादि खाते हैं और इसके मनाई जाती है जिससे हमारे मकर संक्रांति होती है तो वहां पर लाने जैसे नई फसल आती है नई फसल को काटते हैं घरों में आती है उसका भोग लगाते हैं और उसी नई फसल की खुशी के उपलक्ष में ही लोहड़ी मनाई जाती है तो फ्रेंड आपको अगर जॉब पसंद आए तो प्लीज लाइक जरूर करिएगा धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka peshent lohadee kyon manaee jaatee hai isaka kya mahatv phrends jaise hamaare yahaan uttar pradesh mein makar sankraanti manaee jaatee hai 14 navambar ko soree phrend 14 janavaree ko usee prakaar panjaab ke taraph lohadee manaee jaatee hai phrends lohadee panjaabiyon mein manaee jaatee hai yah log aag jalaate hain usakee parikrama karate hain pooja karate hain use lohadee manaate hain aur jan revadee moongaphalee chane ityaadi khaate hain aur isake manaee jaatee hai jisase hamaare makar sankraanti hotee hai to vahaan par laane jaise naee phasal aatee hai naee phasal ko kaatate hain gharon mein aatee hai usaka bhog lagaate hain aur usee naee phasal kee khushee ke upalaksh mein hee lohadee manaee jaatee hai to phrend aapako agar job pasand aae to pleej laik jaroor kariega dhanyavaad

bolkar speaker
लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
0:21
विकी लोरी को सर्दियों के मौसम में मनाया जाता है और जब बाहों में सर्दियों के मौसम में एंडिंग में जब दिन बड़ा हुआ होना चाहता है वह रात छोटा वाला चार्ट होता है तभी उसको तभी अम्लोहरी को मनाते हैं और टाइमपास वीडियो उत्तर दिशा की तरफ गति करते हैं तो इसके लिए हम वह दिन को सेलिब्रेट करने के लिए लोहरी मनाते हैं धन्यवाद
Vikee loree ko sardiyon ke mausam mein manaaya jaata hai aur jab baahon mein sardiyon ke mausam mein ending mein jab din bada hua hona chaahata hai vah raat chhota vaala chaart hota hai tabhee usako tabhee amloharee ko manaate hain aur taimapaas veediyo uttar disha kee taraph gati karate hain to isake lie ham vah din ko selibret karane ke lie loharee manaate hain dhanyavaad

bolkar speaker
लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
डॉ0 सीता शुक्ला Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए डॉ0 जी का जवाब
Unknown
0:35

bolkar speaker
लोहड़ी क्यों मनाई जाती है इसका क्या महत्व है?Lohdi Kyun Manayi Jaati Hain Iska Kya Mahatv Hain
guru ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए guru जी का जवाब
Students
0:25

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • लोहड़ी का इतिहास, लोहरी त्यौहार कहां मनाया जाता है, लोहड़ी कैसे बनाई जाती है
URL copied to clipboard