#पढ़ाई लिखाई

Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College Student
0:33
नमस्कार श्वेता सूर्य के उत्तरायण होने से क्या विशेष होता है तो मान्यता ऐसी है कि इस दिन से हमारे अच्छे दिन आने लगते हैं सभी काम मंगलमय होते हैं एक अच्छाई का स्टार्टिंग हो जाती है सब काम अच्छा नहीं लगता है और कैसे जाता है कि इस दिन अगर आप दान पुण्य करेंगे तो काफी अधिक लाभ होगा और इसका गर्म टेक्निकल मतलब समझे उत्तरायण होने का मतलब होता है कि दिन बड़े होने लगते हैं और रातें छोटी होने लगती है यानी गरीबों की शुरुआत का आगमन एक सिग्नल धन्यवाद
Namaskaar shveta soory ke uttaraayan hone se kya vishesh hota hai to maanyata aisee hai ki is din se hamaare achchhe din aane lagate hain sabhee kaam mangalamay hote hain ek achchhaee ka staarting ho jaatee hai sab kaam achchha nahin lagata hai aur kaise jaata hai ki is din agar aap daan puny karenge to kaaphee adhik laabh hoga aur isaka garm teknikal matalab samajhe uttaraayan hone ka matalab hota hai ki din bade hone lagate hain aur raaten chhotee hone lagatee hai yaanee gareebon kee shuruaat ka aagaman ek signal dhanyavaad

और जवाब सुनें

anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
1:18
मकर सक्रांति के दिन से सूर्य देव का रथ दक्षिण दिशा से उत्तर दिशा की ओर मुड़ता है सूर्य देव हमारी ओर रुख करते हैं यह पृथ्वी की ओर हो जाते हैं जिसके कारण सूर्य पृथ्वी का निर्णय आने लगता है सर्दी कम होने लगती है और गर्मी बढ़ने दो मकर संक्रांति को सूर्य उत्तरायण होता है तथा सूर्य देव जब कर्क राशि से मकर की ओर जाते हैं तो वह सूर्य का दक्षिणायन कहलाता है जब यह मकर राशि शेखर की ओर बढ़ते हैं तो वह सूर्य का उत्तरायण कहलाता है तथा सूर्य के क्रम में प्रवेश करने से तापमान में कमी आती है और सर्दी आती है उत्तरायण के समय सूर्य नस्य मिथुन तक की 6 राशियों में 6 महीने तक रहते हैं वही यह 10 ईरान में करेक्शन ऊतक इच्छा राशियों में 6 महीने तक रहते हैं मान्यता है कि उत्तरायण के छह महीने देवताओं का एक दिन होता है जबकि दक्षिणायन के 6 महीने देवताओं का एक रात माना जाता है
Makar sakraanti ke din se soory dev ka rath dakshin disha se uttar disha kee or mudata hai soory dev hamaaree or rukh karate hain yah prthvee kee or ho jaate hain jisake kaaran soory prthvee ka nirnay aane lagata hai sardee kam hone lagatee hai aur garmee badhane do makar sankraanti ko soory uttaraayan hota hai tatha soory dev jab kark raashi se makar kee or jaate hain to vah soory ka dakshinaayan kahalaata hai jab yah makar raashi shekhar kee or badhate hain to vah soory ka uttaraayan kahalaata hai tatha soory ke kram mein pravesh karane se taapamaan mein kamee aatee hai aur sardee aatee hai uttaraayan ke samay soory nasy mithun tak kee 6 raashiyon mein 6 maheene tak rahate hain vahee yah 10 eeraan mein karekshan ootak ichchha raashiyon mein 6 maheene tak rahate hain maanyata hai ki uttaraayan ke chhah maheene devataon ka ek din hota hai jabaki dakshinaayan ke 6 maheene devataon ka ek raat maana jaata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • सूर्य के उत्तरायण होने में क्या विशेष होता है जो इस दिन मकर संक्रांति मनाई जाती है सूर्य के उत्तरायण होने में क्या विशेष होता है
URL copied to clipboard