#जीवन शैली

bolkar speaker

शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है?

Sharab Peekar Har Vyakti Jyada Kyun Bolta Hai
Author Yogendra Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Author जी का जवाब
लेखक
1:55
नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है योगेंद्र सिंह और सवाल पूछे गए हैं कि शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है शराब पीने के बाद में इंसान को नशा होता और नशे में इंसान खुद से काबू को देता है पर उसे यह भी समझ नहीं होता किसी क्या बात कहनी चाहिए क्या नहीं करना चाहिए इसलिए उसके दिल में जो कुछ भी आता है वह बोलता चला जाता है इसमें कोई बहुत बड़ी बात नहीं है और शराब का सेवन तो नुकसान करता ही है चाहे वह व्यावहारिक रूप से हो और फिर चाहे वह शारीरिक रूप से हो असली बेहतरीन शराब न पीने की सलाह दी जानी चाहिए लेकिन उसके बावजूद भी बहुत सारी चीजें ऐसी हैं जहां पर ही प्रमोट होता रहता है कि शराब पीना चाहिए फिर चाहे हम अपने बॉलीवुड गानों के बारे में बात करें या फिर किसी ऐसे मूवी वेब सीरीज की जहां पर सर आपको बहुत ज्यादा प्रमोट किया जा बे सकू सीन की डिमांड कह कर के डाल दिया जा सकता है या गाने के लिरिक्स की डांस परफॉर्मेंस को ले करके कहा जाए कि उसकी सिचुएशन के कोडिंग है लेकिन यह सारी बातें इन चीजों को जस्टिफाई नहीं करते हैं सिर्फ एक बार में लिख देने से ऐसा कुछ नहीं होने वाला है तो बेहतर यही है कि शराब पीकर के अनुसार खुद से काबू हटाने से बेहतर है कि खुद पर काबू करना सीखे क्या बोलना चाहिए क्या करना चाहिए शराब के नशे में इंसान हमेशा गलत काम ही करता है चाहे फिर वह खुद का नुकसान करें या दूसरे का नुकसान तो करता ही है लेकिन बात भैया देखो से ज्यादा वह दूसरों का नुकसान करता हूं जितना दूसरों का नुकसान करता है उससे कहीं ज्यादा उसे खुद के लिए सजा मिलती है फिर चाहे वह कानूनी सजा हो या फिर शारीरिक सर जो समझदार बनने की जरूरत है इन लोगों को जो लोग शराब पी लेना शराब छोड़ देना चाहिए क्योंकि उसे किसी का भी कोई भी फायदा नहीं होने वाला है बेशक हां शराब बनाने वाली कंपनी को बेशक फायदा हो सकता है लेकिन आपको इस तरह से बिल्कुल भी फायदा नहीं होने वाला बहुत-बहुत धन्यवाद
Namaskaar doston mera naam hai yogendr sinh aur savaal poochhe gae hain ki sharaab peekar har vyakti jyaada kyon bolata hai sharaab peene ke baad mein insaan ko nasha hota aur nashe mein insaan khud se kaaboo ko deta hai par use yah bhee samajh nahin hota kisee kya baat kahanee chaahie kya nahin karana chaahie isalie usake dil mein jo kuchh bhee aata hai vah bolata chala jaata hai isamen koee bahut badee baat nahin hai aur sharaab ka sevan to nukasaan karata hee hai chaahe vah vyaavahaarik roop se ho aur phir chaahe vah shaareerik roop se ho asalee behatareen sharaab na peene kee salaah dee jaanee chaahie lekin usake baavajood bhee bahut saaree cheejen aisee hain jahaan par hee pramot hota rahata hai ki sharaab peena chaahie phir chaahe ham apane boleevud gaanon ke baare mein baat karen ya phir kisee aise moovee veb seereej kee jahaan par sar aapako bahut jyaada pramot kiya ja be sakoo seen kee dimaand kah kar ke daal diya ja sakata hai ya gaane ke liriks kee daans paraphormens ko le karake kaha jae ki usakee sichueshan ke koding hai lekin yah saaree baaten in cheejon ko jastiphaee nahin karate hain sirph ek baar mein likh dene se aisa kuchh nahin hone vaala hai to behatar yahee hai ki sharaab peekar ke anusaar khud se kaaboo hataane se behatar hai ki khud par kaaboo karana seekhe kya bolana chaahie kya karana chaahie sharaab ke nashe mein insaan hamesha galat kaam hee karata hai chaahe phir vah khud ka nukasaan karen ya doosare ka nukasaan to karata hee hai lekin baat bhaiya dekho se jyaada vah doosaron ka nukasaan karata hoon jitana doosaron ka nukasaan karata hai usase kaheen jyaada use khud ke lie saja milatee hai phir chaahe vah kaanoonee saja ho ya phir shaareerik sar jo samajhadaar banane kee jaroorat hai in logon ko jo log sharaab pee lena sharaab chhod dena chaahie kyonki use kisee ka bhee koee bhee phaayada nahin hone vaala hai beshak haan sharaab banaane vaalee kampanee ko beshak phaayada ho sakata hai lekin aapako is tarah se bilkul bhee phaayada nahin hone vaala bahut-bahut dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है?Sharab Peekar Har Vyakti Jyada Kyun Bolta Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
1:26
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों फूलता है हमारे नर्वस सिस्टम को हमारे सोचने समझने की क्षमता को रोक देती है और नर्वस सिस्टम के माध्यम से आदमी जो दिखता है वह क्या बोल रहा है कैसे बोल रहा है और जब नर्वस सिस्टम आपका न्यूट्रलाइट हो गया तो बता दीजिए कि आप किस तरह से होगा नतीजा क्या होता है कि जब हम ज्यादा बात करते हैं तो बात करते रहते हैं या हम ना कभी उसमें हमारा अपना कंट्रोल नहीं होता है और नतीजा क्या होता है कि हमारी जब बातें ही निकलती रहती है तो निकलती रहती है और यही कारण है कि मनुष्य का नर्वस सिस्टम ठीक ना होने के कारण से यह सारा चीज हमारा सुनाएं तंत्र है हमारा तंत्रिका तंत्र है यह सब चीज प्रभावित हो जाता है तो वह समझ ही नहीं पाता कि क्या बोल रहा है और जब बोलने लगता है तो बोलता रहता है और निश्चित तौर पर ही कारण है कि वह सोच समझ नहीं सकता है और और जब देखेंगे आप शराब का नशा उतर जाता है तो सब कुछ सब बंद हो जाता है
Sharaab peekar har vyakti jyaada kyon phoolata hai hamaare narvas sistam ko hamaare sochane samajhane kee kshamata ko rok detee hai aur narvas sistam ke maadhyam se aadamee jo dikhata hai vah kya bol raha hai kaise bol raha hai aur jab narvas sistam aapaka nyootralait ho gaya to bata deejie ki aap kis tarah se hoga nateeja kya hota hai ki jab ham jyaada baat karate hain to baat karate rahate hain ya ham na kabhee usamen hamaara apana kantrol nahin hota hai aur nateeja kya hota hai ki hamaaree jab baaten hee nikalatee rahatee hai to nikalatee rahatee hai aur yahee kaaran hai ki manushy ka narvas sistam theek na hone ke kaaran se yah saara cheej hamaara sunaen tantr hai hamaara tantrika tantr hai yah sab cheej prabhaavit ho jaata hai to vah samajh hee nahin paata ki kya bol raha hai aur jab bolane lagata hai to bolata rahata hai aur nishchit taur par hee kaaran hai ki vah soch samajh nahin sakata hai aur aur jab dekhenge aap sharaab ka nasha utar jaata hai to sab kuchh sab band ho jaata hai

bolkar speaker
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है?Sharab Peekar Har Vyakti Jyada Kyun Bolta Hai
Rehan Sahu Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rehan जी का जवाब
Unknown
0:04

bolkar speaker
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है?Sharab Peekar Har Vyakti Jyada Kyun Bolta Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:31
हेलो एवरीवन स्वागत है आपका आपका प्रश्न शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है तो फ्रेंड से शराब पीने से आपको पता होगा कि नशा चढ़ता है और नशे में बयान ऑप्शन आप बकता है और ज्यादा बोलता है शराब पीना बहुत ही खराब बात होती है शराब नहीं पीना चाहिए तथा जो व्यक्ति लिमिट से ज्यादा शराब पी लेता है तो उसे ज्यादा नशा चढ़ जाता है और वह नशे में होने की वजह से अनाप-शनाप कुछ भी बकता रहता है इसलिए ज्यादा बोलता है तो दोस्तों जवाब अच्छे लगे तो लाइक कीजिएगा धन्यवाद
Helo evareevan svaagat hai aapaka aapaka prashn sharaab peekar har vyakti jyaada kyon bolata hai to phrend se sharaab peene se aapako pata hoga ki nasha chadhata hai aur nashe mein bayaan opshan aap bakata hai aur jyaada bolata hai sharaab peena bahut hee kharaab baat hotee hai sharaab nahin peena chaahie tatha jo vyakti limit se jyaada sharaab pee leta hai to use jyaada nasha chadh jaata hai aur vah nashe mein hone kee vajah se anaap-shanaap kuchh bhee bakata rahata hai isalie jyaada bolata hai to doston javaab achchhe lage to laik keejiega dhanyavaad

bolkar speaker
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है?Sharab Peekar Har Vyakti Jyada Kyun Bolta Hai
ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
0:40
छा गया शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है तो देखें शराब पीने के बाद हमारे जो आ मस्तिष्क में ए कंट्रोलिंग की पावर खत्म हो जाती है और हमारे मन में जो भी विचार आते हैं हम सब के सब बाहर निकाल देते जबकि यह सही नहीं जो कि कई बार हमारे मन में जो विचार आते हैं वह हो सकता है कि दूसरों को तकलीफ पहुंचाने वाले हो और ऐसी ही स्थिति शराबियों के साथ भी होती कि आप कई बार ऐसा कुछ भूल जाते जिससे किसी को ठेस लगी क्योंकि आपके मन में वह बेचारा तो हमारे जो मस्तिष्क का कंट्रोल खो जाने के कारण असल में हम ज्यादा बोलने लगते हैं उम्मीद करती हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Chha gaya sharaab peekar har vyakti jyaada kyon bolata hai to dekhen sharaab peene ke baad hamaare jo aa mastishk mein e kantroling kee paavar khatm ho jaatee hai aur hamaare man mein jo bhee vichaar aate hain ham sab ke sab baahar nikaal dete jabaki yah sahee nahin jo ki kaee baar hamaare man mein jo vichaar aate hain vah ho sakata hai ki doosaron ko takaleeph pahunchaane vaale ho aur aisee hee sthiti sharaabiyon ke saath bhee hotee ki aap kaee baar aisa kuchh bhool jaate jisase kisee ko thes lagee kyonki aapake man mein vah bechaara to hamaare jo mastishk ka kantrol kho jaane ke kaaran asal mein ham jyaada bolane lagate hain ummeed karatee hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

bolkar speaker
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है?Sharab Peekar Har Vyakti Jyada Kyun Bolta Hai
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
5:44
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है तो हर व्यक्ति में चाहे वह शराबी हो या नहीं उसके मन में बहुत सारे विचार होते हैं बहुत सारी भावनाएं होती है बहुत सारी इच्छाएं होती है कम नहीं होती है सपने होते हैं और वह संभव है व्यक्ति के सबकॉन्शियस माइंड में जाकर कटा हो जाते हैं इसके बावजूद इंसान की इंसान कैसी कई बातें होती है कि वह कहना चाहता है लेकिन कह नहीं सकता अपने मन में ही दबा लेता है और जब शराब पी जाता है आदमी तू एक्साइटेड हो जाता है जब वेबसाइट हो जाता है तब उसके मन में जो बातें अपनी दवाई होती है उनको बोलना शुरू कर देता है शराब एक ऐसी चीज है शराब पीने वाले व्यक्ति को डर बहुत कम लगता है जो किसान आत्महत्या कर रहे हो कर रहे हैं उनके बारे में एक कहा जाता है कि बहुत सारे 9 सालों ने आत्महत्या करने के पहले पहले शराब पिए बाद में बातें करें शराब जो है वह डर को कहीं हद तक खत्म कर देती है अब दूसरा भी एक कारण है लोग जो है वो शराबी समझकर घरवाले या रिश्तेदार शराबी समझकर उसकी बातों पर आरक्षण लिस्ट ध्यान नहीं देते हैं शराब है इसलिए बोल रहा है ऐसा सोच कर उसका उस पर कोई कार्रवाई नहीं करती यह बात वह भी जानता है एक अच्छा समय जो भी गालियां देनी है आरोप करनी है ड्रेस करनी है जो भी उसके अंदर मन में छुपे हुए हुई चीजें होती है उनको बाहर निकालने का और उसमें गालियां देने देने का भी एक चांस मार लेते हैं उनकी बुद्धि ठिकाने पर नियरेस्ट नहीं ऐसा नहीं ठिकाने पर रहती है सिर्फ शरीर का जो है वह इधर उधर थोड़ा सा बैलेंस नहीं कर पाता है तो इधर उधर चक्कर लगाता है मिलता है मिलता है अभिव्यक्ति एक्साइटेड होने के कारण शराब पीकर ज्यादा बोलता है उसके मन में जो जो भी कुछ है वह सब बोलता है वह बोलते ही रहता है रिपीटेशन भी करता है नशे के कारण यह समझ के अंदर के दबे हुए भावनाओं का बाहर फेंका गया अविष्कार होता है ऐसी से समझ लेना चाहिए धन्यवाद
Sharaab peekar har vyakti jyaada kyon bolata hai to har vyakti mein chaahe vah sharaabee ho ya nahin usake man mein bahut saare vichaar hote hain bahut saaree bhaavanaen hotee hai bahut saaree ichchhaen hotee hai kam nahin hotee hai sapane hote hain aur vah sambhav hai vyakti ke sabakonshiyas maind mein jaakar kata ho jaate hain isake baavajood insaan kee insaan kaisee kaee baaten hotee hai ki vah kahana chaahata hai lekin kah nahin sakata apane man mein hee daba leta hai aur jab sharaab pee jaata hai aadamee too eksaited ho jaata hai jab vebasait ho jaata hai tab usake man mein jo baaten apanee davaee hotee hai unako bolana shuroo kar deta hai sharaab ek aisee cheej hai sharaab peene vaale vyakti ko dar bahut kam lagata hai jo kisaan aatmahatya kar rahe ho kar rahe hain unake baare mein ek kaha jaata hai ki bahut saare 9 saalon ne aatmahatya karane ke pahale pahale sharaab pie baad mein baaten karen sharaab jo hai vah dar ko kaheen had tak khatm kar detee hai ab doosara bhee ek kaaran hai log jo hai vo sharaabee samajhakar gharavaale ya rishtedaar sharaabee samajhakar usakee baaton par aarakshan list dhyaan nahin dete hain sharaab hai isalie bol raha hai aisa soch kar usaka us par koee kaarravaee nahin karatee yah baat vah bhee jaanata hai ek achchha samay jo bhee gaaliyaan denee hai aarop karanee hai dres karanee hai jo bhee usake andar man mein chhupe hue huee cheejen hotee hai unako baahar nikaalane ka aur usamen gaaliyaan dene dene ka bhee ek chaans maar lete hain unakee buddhi thikaane par niyarest nahin aisa nahin thikaane par rahatee hai sirph shareer ka jo hai vah idhar udhar thoda sa bailens nahin kar paata hai to idhar udhar chakkar lagaata hai milata hai milata hai abhivyakti eksaited hone ke kaaran sharaab peekar jyaada bolata hai usake man mein jo jo bhee kuchh hai vah sab bolata hai vah bolate hee rahata hai ripeeteshan bhee karata hai nashe ke kaaran yah samajh ke andar ke dabe hue bhaavanaon ka baahar phenka gaya avishkaar hota hai aisee se samajh lena chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
शराब पीकर हर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है?Sharab Peekar Har Vyakti Jyada Kyun Bolta Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:22
शराब पीने के बाद वही लोग बिना किसी डर के फराटे दार अंग्रेजी बोलने लगते हो क्योंकि शराब पीने के बाद उनका डर भाग जाता हूं और खुलकर बात कर पाते हैं यही सरल सा कारण है कि आप पीते ही अंग्रेजी में बात करने लगते हैं
Sharaab peene ke baad vahee log bina kisee dar ke pharaate daar angrejee bolane lagate ho kyonki sharaab peene ke baad unaka dar bhaag jaata hoon aur khulakar baat kar paate hain yahee saral sa kaaran hai ki aap peete hee angrejee mein baat karane lagate hain

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • शराब पीकर लोग ज्यादा क्यों बोलते है, शराब पीकर व्यक्ति ज्यादा क्यों बोलता है
URL copied to clipboard