#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker

क्या क्या नहीं करना चाहिए जब हम किसी किताब को लिखने की योजना बना रहे हो?

Kya Kya Nahi Karna Chaiye Jab Hum Kisi Kitaab Ko Likhne Ki Yojna Bana Rahe Ho
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:13
हेलो हिमांशु आज आपका सवाल है कि क्या क्या नहीं करना चाहिए जब हम किसी किताब को लिखने की योजना बना रहे हो तो नीचे दबंग कोई भी किताब में लिखते हैं तो पूरी दुनिया और पूरे मतलब सारे लोग इस चीज को पढ़ते हैं और इसका असर उन पर पड़ सकता है तो हमें ऐसी चीज लिखना चाहिए जिसका कुछ अच्छा मैसेज हो हम कुछ अच्छा मैसेज दे रहे हो कुछ अच्छी चीज सीखने के लिए हो या फिर कुछ अच्छा ही उस चीज से उनको मतलब जानने के लिए आप कॉलेज मिल रहा हूं अगर आप कुछ ऐसा लिखते हैं जो समाज सोसाइटी को लेकर या फिर ऐसा भेदभाव अनटचेबिलिटी यह सब चीजों को लेकर और यह सब चीज को बढ़ावा देते हैं और यह सब से रिलेटेड अगर कुछ भी चीजें से रिलीजन को लेकर धर्म को लेकर आगे कुछ भी लिखते तो इस तरह से इसके बुरा असर भी पड़ सकता है और लोग इस चीज को अलग से भी ले सकते हैं तो जब भी कोई किताब हम लिखते हैं तो यह चैनल हर एक मतलब पड़ता है ज्यादा से ज्यादा लोग देखते ही नुकसान ना हो किसी धर्म का ध्यान देकर किताब लिखना चाहिए
Helo himaanshu aaj aapaka savaal hai ki kya kya nahin karana chaahie jab ham kisee kitaab ko likhane kee yojana bana rahe ho to neeche dabang koee bhee kitaab mein likhate hain to pooree duniya aur poore matalab saare log is cheej ko padhate hain aur isaka asar un par pad sakata hai to hamen aisee cheej likhana chaahie jisaka kuchh achchha maisej ho ham kuchh achchha maisej de rahe ho kuchh achchhee cheej seekhane ke lie ho ya phir kuchh achchha hee us cheej se unako matalab jaanane ke lie aap kolej mil raha hoon agar aap kuchh aisa likhate hain jo samaaj sosaitee ko lekar ya phir aisa bhedabhaav anatachebilitee yah sab cheejon ko lekar aur yah sab cheej ko badhaava dete hain aur yah sab se rileted agar kuchh bhee cheejen se rileejan ko lekar dharm ko lekar aage kuchh bhee likhate to is tarah se isake bura asar bhee pad sakata hai aur log is cheej ko alag se bhee le sakate hain to jab bhee koee kitaab ham likhate hain to yah chainal har ek matalab padata hai jyaada se jyaada log dekhate hee nukasaan na ho kisee dharm ka dhyaan dekar kitaab likhana chaahie

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या क्या नहीं करना चाहिए जब हम किसी किताब को लिखने की योजना बना रहे हो?Kya Kya Nahi Karna Chaiye Jab Hum Kisi Kitaab Ko Likhne Ki Yojna Bana Rahe Ho
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:06
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका आपका सवाल है क्या क्या नहीं करना चाहिए जब हम किसी किताब को लिखने की योजना बना रहे हो तो जब हम किसी किताब को अगर लिख रहे हैं या उसकी योजना बना रहे हैं तो सबसे पहले हम हमें यह करना चाहिए कि हम अपना ध्यान केंद्रित करें कि हम क्या लिख रहे हैं क्या हमें लिखना है हम यहां वहां की बातें हमें नहीं सोचना है सबसे पहले हमें टॉपिक देख लेना है कि हम किस टॉपिक पर लिख रहे हैं उसी टॉपिक पर में ध्यान केंद्रित करना है मैं यहां वहां की फालतू चीजों पर ध्यान केंद्रित नहीं करना है जब हम किताब लिख रहे हैं तो और कोई अन्य काम नहीं करना मैं काम पर ध्यान केंद्रित करना है और किसी की बातों को नहीं सुनना है आपके अंदर से जो भाव आएंगे आपको जो लिखना है आप वह लिखेंगे आपको किसी की बातों में ध्यान नहीं देना है आपको अपने मन की अंदर की इच्छा ही लिखना है यह ध्यान देंगे और एक आपको ध्यान देना है कि आप बिल्कुल शांत वातावरण में बैठे जिसमें आपका मन लग सके लिखने के लिए और आप अपने दिमाग को ठंडा रखें बिल्कुल बस आपको यह ध्यान रखना है तो जवाब अच्छे लगे तो लाइक करिएगा धन्यवाद
Helo doston svaagat hai aapaka aapaka savaal hai kya kya nahin karana chaahie jab ham kisee kitaab ko likhane kee yojana bana rahe ho to jab ham kisee kitaab ko agar likh rahe hain ya usakee yojana bana rahe hain to sabase pahale ham hamen yah karana chaahie ki ham apana dhyaan kendrit karen ki ham kya likh rahe hain kya hamen likhana hai ham yahaan vahaan kee baaten hamen nahin sochana hai sabase pahale hamen topik dekh lena hai ki ham kis topik par likh rahe hain usee topik par mein dhyaan kendrit karana hai main yahaan vahaan kee phaalatoo cheejon par dhyaan kendrit nahin karana hai jab ham kitaab likh rahe hain to aur koee any kaam nahin karana main kaam par dhyaan kendrit karana hai aur kisee kee baaton ko nahin sunana hai aapake andar se jo bhaav aaenge aapako jo likhana hai aap vah likhenge aapako kisee kee baaton mein dhyaan nahin dena hai aapako apane man kee andar kee ichchha hee likhana hai yah dhyaan denge aur ek aapako dhyaan dena hai ki aap bilkul shaant vaataavaran mein baithe jisamen aapaka man lag sake likhane ke lie aur aap apane dimaag ko thanda rakhen bilkul bas aapako yah dhyaan rakhana hai to javaab achchhe lage to laik kariega dhanyavaad

bolkar speaker
क्या क्या नहीं करना चाहिए जब हम किसी किताब को लिखने की योजना बना रहे हो?Kya Kya Nahi Karna Chaiye Jab Hum Kisi Kitaab Ko Likhne Ki Yojna Bana Rahe Ho
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
1:18
चौबे का कोई भी व्यक्ति किसी किताब को लिखने की योजना बना रहा है तो उसे किसी की टू कॉपी नहीं करनी है ना की डुप्लीकेट बनाकर किसको भेजो ना जो किताब छापने अपना लिया तो अपनी सोच के अनुसार अपने पहले कुछ अलग किताब आलम करीना कपूर में लिखे फिर विशेष आपसे आप सही सही अक्षरों में मात्राओं से किताब लिख सकते हैं और अपने नॉलेज दिमाग से अच्छी किताब लिख गया तो अच्छी सफलता मिलेगी और अच्छी किताब लिखोगे तो आगे प्रकाशित होगी और लोगों को ज्ञान मिलेगा तथा कभी किसी की डुप्लीकेट कॉपी नहीं नहीं बनानी चाहिए और आप लिखते वक्त हमारे पास कोई नहीं रहना चाहिए यदि किताबें लिख रहा है रोमन पास कोई रहेगा तो हम अक्षर में त्रुटि हो सकती है आप गलत अक्षर में कोई गलती हो सकती है इसलिए काम तो नहीं किताब लिखनी चाहिए और काम तो नहीं यह लिखने की योजना बनानी चाहिए
Chaube ka koee bhee vyakti kisee kitaab ko likhane kee yojana bana raha hai to use kisee kee too kopee nahin karanee hai na kee dupleeket banaakar kisako bhejo na jo kitaab chhaapane apana liya to apanee soch ke anusaar apane pahale kuchh alag kitaab aalam kareena kapoor mein likhe phir vishesh aapase aap sahee sahee aksharon mein maatraon se kitaab likh sakate hain aur apane nolej dimaag se achchhee kitaab likh gaya to achchhee saphalata milegee aur achchhee kitaab likhoge to aage prakaashit hogee aur logon ko gyaan milega tatha kabhee kisee kee dupleeket kopee nahin nahin banaanee chaahie aur aap likhate vakt hamaare paas koee nahin rahana chaahie yadi kitaaben likh raha hai roman paas koee rahega to ham akshar mein truti ho sakatee hai aap galat akshar mein koee galatee ho sakatee hai isalie kaam to nahin kitaab likhanee chaahie aur kaam to nahin yah likhane kee yojana banaanee chaahie

bolkar speaker
क्या क्या नहीं करना चाहिए जब हम किसी किताब को लिखने की योजना बना रहे हो?Kya Kya Nahi Karna Chaiye Jab Hum Kisi Kitaab Ko Likhne Ki Yojna Bana Rahe Ho
guru ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए guru जी का जवाब
Students
0:33

bolkar speaker
क्या क्या नहीं करना चाहिए जब हम किसी किताब को लिखने की योजना बना रहे हो?Kya Kya Nahi Karna Chaiye Jab Hum Kisi Kitaab Ko Likhne Ki Yojna Bana Rahe Ho
Tanvi  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Tanvi जी का जवाब
Unknown
0:29
आपका समय क्या क्या नहीं करना चाहिए जब आप किसी किताब लिखने की योजना तो सबसे पहले आपको मना नहीं करेंगे
Aapaka samay kya kya nahin karana chaahie jab aap kisee kitaab likhane kee yojana to sabase pahale aapako mana nahin karenge

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • किताब को लिखने की योजना किताब लिखना
URL copied to clipboard