#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

निंद्रा करने से पूर्व एक बार दायिनी और निंद्रा करने का क्या लाभ है?

Nindra Karne Se Poorv Ek Baar Dayini Aur Nindra Karne Ka Kya Laabh Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:25
शरीर के लिए यह सब आवश्यक चीजें बनाई गई भोजन प्राणायाम नींद श्रम सामर्थ्य के हिसाब से धन उपार्जन अध्यात्मिक ज्ञान इन सब चीजों की बहुत आवश्यकता होती है जब हर आदमी यदि 8 घंटे की पूरी नींद लेता है रात को हर हालत में आप 10:00 बजे सो जाइए और सुबह सुबह 5:00 बजे 6:00 बजे उठ जाइए 8:00 बजे उठ जाना चाहिए तो जो आदमी इतनी नींद ले लेता है तो ना तो उसको ब्लड प्रसार होता है ना उसके दिमाग में कोई उलझन नहीं आती हैं हर समस्याओं से निपटने के लिए उसका दिमाग बिल्कुल सतर्क रहता है उस समय उसको प्राणायाम कसरावद घूमने-फिरने का भी कार्यक्रम में चाहिए अपना दिशा मैदान जाकर के स्वर में थोड़ा सा टहलने उसके लिए बहुत ही मुखी दो और वो अपने हिसाब से दिन भर के सारे कार्यों को निपटा सकता है और उस कार्य में उसके अंदर एक एक नवीन ऊर्जा का उसको संचार समय होता है तो 8 घंटे की पूरी नींद हो जाती है तो शरीर से जितने भी क्रांतियां थकावट होती है सब दूर हो जाती है और एक नई ऊर्जा के साथ उसको अब अगले दिन में जीवंत बनाए रखने के लिए अच्छा मौका मिलता है
Shareer ke lie yah sab aavashyak cheejen banaee gaee bhojan praanaayaam neend shram saamarthy ke hisaab se dhan upaarjan adhyaatmik gyaan in sab cheejon kee bahut aavashyakata hotee hai jab har aadamee yadi 8 ghante kee pooree neend leta hai raat ko har haalat mein aap 10:00 baje so jaie aur subah subah 5:00 baje 6:00 baje uth jaie 8:00 baje uth jaana chaahie to jo aadamee itanee neend le leta hai to na to usako blad prasaar hota hai na usake dimaag mein koee ulajhan nahin aatee hain har samasyaon se nipatane ke lie usaka dimaag bilkul satark rahata hai us samay usako praanaayaam kasaraavad ghoomane-phirane ka bhee kaaryakram mein chaahie apana disha maidaan jaakar ke svar mein thoda sa tahalane usake lie bahut hee mukhee do aur vo apane hisaab se din bhar ke saare kaaryon ko nipata sakata hai aur us kaary mein usake andar ek ek naveen oorja ka usako sanchaar samay hota hai to 8 ghante kee pooree neend ho jaatee hai to shareer se jitane bhee kraantiyaan thakaavat hotee hai sab door ho jaatee hai aur ek naee oorja ke saath usako ab agale din mein jeevant banae rakhane ke lie achchha mauka milata hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
निंद्रा करने से पूर्व एक बार दायिनी और निंद्रा करने का क्या लाभ है?Nindra Karne Se Poorv Ek Baar Dayini Aur Nindra Karne Ka Kya Laabh Hai
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:36
बाएं तरफ सोने से हमें बीमारियों का खतरा रहता है तथा दाईं ओर सोना से हमें बहुत भाता था जैसे कि हमारा दिल माई तरफ होता है अगर हम रात को दाएं तरफ करवट लेकर सोते हैं तो तुम्हारे होंठ को आराम मिलता है तो दीजिए अपने ही तरीके से कार्य करता रहूंगा सारा शरीर भी स्वस्थ रहें इसलिए हमें बाई करवट सोना चाहिए
Baen taraph sone se hamen beemaariyon ka khatara rahata hai tatha daeen or sona se hamen bahut bhaata tha jaise ki hamaara dil maee taraph hota hai agar ham raat ko daen taraph karavat lekar sote hain to tumhaare honth ko aaraam milata hai to deejie apane hee tareeke se kaary karata rahoonga saara shareer bhee svasth rahen isalie hamen baee karavat sona chaahie

bolkar speaker
निंद्रा करने से पूर्व एक बार दायिनी और निंद्रा करने का क्या लाभ है?Nindra Karne Se Poorv Ek Baar Dayini Aur Nindra Karne Ka Kya Laabh Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:33
निंदा करने से पूर्व एक बार दाहिनी और निंदा करने का क्या लाभ है वैसे तो नींद लेने से हमारे शरीर की सारी थकान दूर हो जाती है और हम अपने को तरोताजा महसूस करते हैं लेकिन निंद्रा आने से पूर्व एक बार दाहिनी ओर मुख करके निंद्रा लेने का बहुत ही अच्छा फायदा होता है इससे आपको गहरी निंद्रा का सुख प्राप्त होता है और गहरी निंद्रा प्राप्त करने वाला व्यक्ति सदा सुखी रहता है धन्यवाद मित्रों
Ninda karane se poorv ek baar daahinee aur ninda karane ka kya laabh hai vaise to neend lene se hamaare shareer kee saaree thakaan door ho jaatee hai aur ham apane ko tarotaaja mahasoos karate hain lekin nindra aane se poorv ek baar daahinee or mukh karake nindra lene ka bahut hee achchha phaayada hota hai isase aapako gaharee nindra ka sukh praapt hota hai aur gaharee nindra praapt karane vaala vyakti sada sukhee rahata hai dhanyavaad mitron

bolkar speaker
निंद्रा करने से पूर्व एक बार दायिनी और निंद्रा करने का क्या लाभ है?Nindra Karne Se Poorv Ek Baar Dayini Aur Nindra Karne Ka Kya Laabh Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:46
हेलो एवरीवन आपका प्रश्न है निंद्रा करने के पूर्व एक बार दाहिने और निंद्रा करने का क्या लाभ होता है तो जब भी हम सोने जाते हैं निंद्रा करते हैं तो एक बार दाहिनी तरफ देखने से हमें रात में अच्छी गहरी नींद आती है और बुरे सपने भी नहीं आते हैं तो निंद्रा लेना सोच ले बहुत अच्छा होता है जब हम सोते हैं और सो कर उठते हैं तो हमें बहुत फ्रेश महसूस होता है और हमारे शरीर की सारी थकावट मिट जाती है तो सोने से पहले एक बार दाहिनी करवट लेकर निंद्रा करना चाहिए जिससे कि हमें बुरे सपने नहीं आते और बहुत अच्छी गहरी नींद आती है कि नहीं नींद आने से हमारी सारी थकावट मिट जाती है और सुबह हम तरोताजा महसूस करते हैं धन्यवाद
Helo evareevan aapaka prashn hai nindra karane ke poorv ek baar daahine aur nindra karane ka kya laabh hota hai to jab bhee ham sone jaate hain nindra karate hain to ek baar daahinee taraph dekhane se hamen raat mein achchhee gaharee neend aatee hai aur bure sapane bhee nahin aate hain to nindra lena soch le bahut achchha hota hai jab ham sote hain aur so kar uthate hain to hamen bahut phresh mahasoos hota hai aur hamaare shareer kee saaree thakaavat mit jaatee hai to sone se pahale ek baar daahinee karavat lekar nindra karana chaahie jisase ki hamen bure sapane nahin aate aur bahut achchhee gaharee neend aatee hai ki nahin neend aane se hamaaree saaree thakaavat mit jaatee hai aur subah ham tarotaaja mahasoos karate hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • निंद्रा करने से पूर्व एक बार दायिनी और निंद्रा करने का क्या लाभ है, दायिनी और निंद्रा करने का क्या लाभ है
URL copied to clipboard