#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker

आजकल की बहुएं कैसी होती है?

Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:19
हम तो आजाद का सवाल है कि आजकल की मम्मी कैसी हैं और सभी की तरह के होते हैं ऐसा नहीं है लेकिन होती क्योंकि दुनिया को समझे होती हैं पढ़ी लिखी होती है बहुत जल्द ही शादी कर दिया जाता था जिस वजह से उनकी एज होती थी तूने इतना भी दुनिया के बारे में कुछ पता नहीं होता है बसु ने कहा जाता था कि अब तुम्हें जाना है और तुम्हारा भाई घर परिवार को भी हैंडल करते हैं काम भी करती हैं और मतलब जो भी कैसे हो सब को मैनेज करके चला अभी मैं मानती हूं कि बहुत बड़े झगड़ा भी करती हैं अब फोटो डालती है लेकिन बहुत सारे लोग को अच्छी सब चला कर चलाते हैं तभी तो आज ऐसे परिवार के सारे लोग मतलब जिंदगी जी रहे हैं मुझे पता होता है कि किसके साथ कितना कैसे बात करना कैसे घर को हैंडल करना है कैसे मैनेज करना है और अगर उनके साथ कुछ गलत हो रहा है तूने आवाज उठाना है अभी हरे चीजों से भी आगे रहती है तो वह मनमाड होती है और अच्छे तरीके से घर को चलाते हैं
Ham to aajaad ka savaal hai ki aajakal kee mammee kaisee hain aur sabhee kee tarah ke hote hain aisa nahin hai lekin hotee kyonki duniya ko samajhe hotee hain padhee likhee hotee hai bahut jald hee shaadee kar diya jaata tha jis vajah se unakee ej hotee thee toone itana bhee duniya ke baare mein kuchh pata nahin hota hai basu ne kaha jaata tha ki ab tumhen jaana hai aur tumhaara bhaee ghar parivaar ko bhee haindal karate hain kaam bhee karatee hain aur matalab jo bhee kaise ho sab ko mainej karake chala abhee main maanatee hoon ki bahut bade jhagada bhee karatee hain ab photo daalatee hai lekin bahut saare log ko achchhee sab chala kar chalaate hain tabhee to aaj aise parivaar ke saare log matalab jindagee jee rahe hain mujhe pata hota hai ki kisake saath kitana kaise baat karana kaise ghar ko haindal karana hai kaise mainej karana hai aur agar unake saath kuchh galat ho raha hai toone aavaaj uthaana hai abhee hare cheejon se bhee aage rahatee hai to vah manamaad hotee hai aur achchhe tareeke se ghar ko chalaate hain

और जवाब सुनें

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:39
आजकल की बहु की प्रकृति कैसी होती है मुझे लगता है कि अब प्रवृत्ति या फिर बीमार लिख ना इसलिए मिस्टेक हो गई थी यही सवाल है आपका स्कूल के सारे जुबान होती है उनकी प्रवृत्ति है बिहार के चोट आई है ना आजकल की बहु यह नहीं है कि हमारी शादी किस करोगी और साथ कैसे मिलेगी तब से सुधार हो जाए अगर एक जो बहू में अपनी बेटी के साथ उसकी मां के समापन के साथ होते तो शायद नहीं रहेगा जबकि कई जगह पर देखा जाता है जैसे कि यह बेटी से भी गलती होती है तो हजार बार माफ करती है लेकिन वह हमसे कोई गलती होती है तो माफ करने के लिए तैयार भी नहीं होती तो यह छोटी-छोटी बातें ना घर में छोटी-छोटी बातों पर भी बहस होना तो यह सब जो है घर को एकदम बिखेर के जख्मों में थोड़ी अंडरस्टैंडिंग स्थिति नहीं आएगी और सब कुछ मालूम होगा सब कुछ देखते हैं कैसे चलेगा जैसे पहले चलता था वैसे बाद में चलेगा एक अंडरस्टैंडिंग की बात होती है कि नहीं है सवाल का जवाब देना
Aajakal kee bahu kee prakrti kaisee hotee hai mujhe lagata hai ki ab pravrtti ya phir beemaar likh na isalie mistek ho gaee thee yahee savaal hai aapaka skool ke saare jubaan hotee hai unakee pravrtti hai bihaar ke chot aaee hai na aajakal kee bahu yah nahin hai ki hamaaree shaadee kis karogee aur saath kaise milegee tab se sudhaar ho jae agar ek jo bahoo mein apanee betee ke saath usakee maan ke samaapan ke saath hote to shaayad nahin rahega jabaki kaee jagah par dekha jaata hai jaise ki yah betee se bhee galatee hotee hai to hajaar baar maaph karatee hai lekin vah hamase koee galatee hotee hai to maaph karane ke lie taiyaar bhee nahin hotee to yah chhotee-chhotee baaten na ghar mein chhotee-chhotee baaton par bhee bahas hona to yah sab jo hai ghar ko ekadam bikher ke jakhmon mein thodee andarastainding sthiti nahin aaegee aur sab kuchh maaloom hoga sab kuchh dekhate hain kaise chalega jaise pahale chalata tha vaise baad mein chalega ek andarastainding kee baat hotee hai ki nahin hai savaal ka javaab dena

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
A.k.s. Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए A.k.s. जी का जवाब
Teacher
5:21
एक जमाना हुआ करता था अगर हम सभी की बात करें तो 80 से 90 से लेकर के 2001 तक की जो बनी थी उनके अंदर हमेशा कहता था कि उनकी जो सास होगी वो कैसी होगी यानी कि कहीं झगड़ालू प्रबुद्ध की तो उनके उनके साथ नहीं मिलेगी यानी कि उन्हें इस बात का डर रहता था और वह रिश्ते की अहमियत रखती थी कि वह कद्र करती थी उनके अंदर संस्था थी शर्म थी हर चीज थी किंतु आज के दौर की अगर बात करें तो ठीक इसी का उल्टा होता है मैं सभी की बातें नहीं करूंगा सभी बड़ों की 100 में 70% बहुए ऐसी आपको मिलेंगी जो संस्कार और सभ्यता को पीछे छोड़ करके उनके निर्मल लाज शर्म ऐसी कोई चीज है देखने को नहीं मिलेगी कि सामने वाला हमसे बड़ा है या छोटा है वह उनके साथ हमेशा बराबर में बैठकर के मतलब बातें करती हैं उनके अंदर शर्म नाम की चीज सब चीजें छूट गई हैं आजकल की जो बा हुए हैं वह अपने आप को पूरी तरह से फ्रीडम की आजादी चाहते हैं उन्हें कोई रोक-टोक करने वाला ना हो वह पूरी तरह से फैशन में मस्त रहते हैं और साथ ही साथ वह भी चैटिंग में उन्हें कोई काम करने के लिए ना कहा जाए उन्हें बस आजादी चाहिए और पूरी तरह से ऐसो आराम चाहिए ताकि वह बैठ करके सिर्फ टीवी सीरियल देख और उनके ऊपर को चलाने वाला ना हो और खास बात से ज्यादा जरूरी बात है कि वह हमेशा एकल परिवार चाहते हैं यानी कि परिवार में रहना पसंद नहीं है क्यों नहीं पसंद है अधिक देर तक काम करना पड़ेगा या नहीं खाना-पीना बनाना पड़ेगा लोगों की सेवा करनी पड़ेगी इन सब चीजों से बचने के लिए एकल परिवार में जाना पसंद करती हैं और यही कारण है कि वह यहां तक कि अपने से जो जेठ है लेकिन उनके जोजेट हैं उनके पति का जो बड़ा भाई होता है यहां तक कि उनके जो देवर होते हैं उनकी वह जरा सा भी रिस्पेक्ट नहीं करते हैं बात बात पर वह हमेशा उनके साथ लड़ाई झगड़ा करने लगती है जो हमारे से कम उम्र के जो हमारे फ्रेंड से 12 की शादी हो गई है उनके घरों में आए दिन हमेशा लड़ाई झगड़े होते रहते हैं कभी कभी अपने को बोल देता हूं तो उल्टी हुआ मुझको भी जवाब दे देती है और ऐसे में मुझे खुद संसार हो जाना पड़ता है और मैं वहां से निकल जाता हूं तुम्हें देखता हूं कि आज तक कि उनके अंदर संसार का नाम की कोई चीज नहीं खजराना चाहते हैं इस साल यही है कि आए दिन में जो हमें बदलाव देखने को मिल रहा है जो है वह है कि लड़कियों को आगे बढ़ाना यानी कि लड़कियों को उनके सोच को बदल दिया गया है ऐसे में लड़की है जो है वह उस सोच विचार के साथ आगे बढ़ रहे हैं कई लड़कियां इसका गलत फायदा भी उठाती हैं आज मैंने देखा है कई लोग जो है अपने पति को जेल भिजवा देते हैं 1 महीने की बात करता हूं तो एक लड़की जो है ना हमारे घर जबकि उसका पति से मिलने उसके घर गया था ना ससुराल गया था लेकिन उसने उसको फसा दिया इस प्रकार से कहकर कि मतलब कि यह किसी और स्त्री को रखा हुआ है और जिसकी वजह से जो है कि मुझे नहीं चाहत कर रहा है और ऐसे में पुलिस उल्टा कोई भी सवाल जवाब किए बगैर उसकी आदमी को उठाकर ले गई अंदर कर दी आजकल की बहु को मिली छूट जून को स्वतंत्र जो उनको मिली आजादी है उसको भरपूर फायदा उठा रहे हैं और यही कारण है कि आजकल की बहु जो अपने संस्कारों में सभ्यता को भूल कर के वह अपने आप को सबसे ऊपर रखना चाहते हैं यानी कि वह लोगों को हुकुम देना चाहती हैं ताकि पूरे घर में अगर राजनीति से उनका चलें और बाकी किसी का ना चले आओ की सबसे बड़ी जो है यही विडंबना है कि मतलब अपने आप को मालकिन समझती हैं और ताकि जो भी हो कहे सभी लोग उसकी बातों को मानें और उसकी सराहना करें बस यही सब आता कि बहुत सोचती हैं और उन्हें पूरी तरह से आजादी मिले हर काम करने के लिए वह भी बाहर आए जाए उन्हें कोई रोकने ठोकने वाला ना हो और कोई यार दोस्त आता है उनसे कोई बात करने के लिए कोई रोके ना सभी लड़कियों में छात्र परिषद आपको बहुत ऐसे मिलेंगे बाकी 30% बहुए ऐसी होगी मैंने अपने संस्कार अपने सभ्यता सब चीज का एहसास है और वह उसकी रिस्पेक्ट भी करती हैं पर बदलते समय के अनुसार जो है आज तक की बहू थी कि मिलती हैं इनकी कामचोर और साथ ही साथ होने वाली और अपने आपको हमेशा आराम करने के लिए अपने पति के साथ अलग होने के लिए हमेशा प्रयासरत रहती हैं धन्यवाद
Ek jamaana hua karata tha agar ham sabhee kee baat karen to 80 se 90 se lekar ke 2001 tak kee jo banee thee unake andar hamesha kahata tha ki unakee jo saas hogee vo kaisee hogee yaanee ki kaheen jhagadaaloo prabuddh kee to unake unake saath nahin milegee yaanee ki unhen is baat ka dar rahata tha aur vah rishte kee ahamiyat rakhatee thee ki vah kadr karatee thee unake andar sanstha thee sharm thee har cheej thee kintu aaj ke daur kee agar baat karen to theek isee ka ulta hota hai main sabhee kee baaten nahin karoonga sabhee badon kee 100 mein 70% bahue aisee aapako milengee jo sanskaar aur sabhyata ko peechhe chhod karake unake nirmal laaj sharm aisee koee cheej hai dekhane ko nahin milegee ki saamane vaala hamase bada hai ya chhota hai vah unake saath hamesha baraabar mein baithakar ke matalab baaten karatee hain unake andar sharm naam kee cheej sab cheejen chhoot gaee hain aajakal kee jo ba hue hain vah apane aap ko pooree tarah se phreedam kee aajaadee chaahate hain unhen koee rok-tok karane vaala na ho vah pooree tarah se phaishan mein mast rahate hain aur saath hee saath vah bhee chaiting mein unhen koee kaam karane ke lie na kaha jae unhen bas aajaadee chaahie aur pooree tarah se aiso aaraam chaahie taaki vah baith karake sirph teevee seeriyal dekh aur unake oopar ko chalaane vaala na ho aur khaas baat se jyaada jarooree baat hai ki vah hamesha ekal parivaar chaahate hain yaanee ki parivaar mein rahana pasand nahin hai kyon nahin pasand hai adhik der tak kaam karana padega ya nahin khaana-peena banaana padega logon kee seva karanee padegee in sab cheejon se bachane ke lie ekal parivaar mein jaana pasand karatee hain aur yahee kaaran hai ki vah yahaan tak ki apane se jo jeth hai lekin unake jojet hain unake pati ka jo bada bhaee hota hai yahaan tak ki unake jo devar hote hain unakee vah jara sa bhee rispekt nahin karate hain baat baat par vah hamesha unake saath ladaee jhagada karane lagatee hai jo hamaare se kam umr ke jo hamaare phrend se 12 kee shaadee ho gaee hai unake gharon mein aae din hamesha ladaee jhagade hote rahate hain kabhee kabhee apane ko bol deta hoon to ultee hua mujhako bhee javaab de detee hai aur aise mein mujhe khud sansaar ho jaana padata hai aur main vahaan se nikal jaata hoon tumhen dekhata hoon ki aaj tak ki unake andar sansaar ka naam kee koee cheej nahin khajaraana chaahate hain is saal yahee hai ki aae din mein jo hamen badalaav dekhane ko mil raha hai jo hai vah hai ki ladakiyon ko aage badhaana yaanee ki ladakiyon ko unake soch ko badal diya gaya hai aise mein ladakee hai jo hai vah us soch vichaar ke saath aage badh rahe hain kaee ladakiyaan isaka galat phaayada bhee uthaatee hain aaj mainne dekha hai kaee log jo hai apane pati ko jel bhijava dete hain 1 maheene kee baat karata hoon to ek ladakee jo hai na hamaare ghar jabaki usaka pati se milane usake ghar gaya tha na sasuraal gaya tha lekin usane usako phasa diya is prakaar se kahakar ki matalab ki yah kisee aur stree ko rakha hua hai aur jisakee vajah se jo hai ki mujhe nahin chaahat kar raha hai aur aise mein pulis ulta koee bhee savaal javaab kie bagair usakee aadamee ko uthaakar le gaee andar kar dee aajakal kee bahu ko milee chhoot joon ko svatantr jo unako milee aajaadee hai usako bharapoor phaayada utha rahe hain aur yahee kaaran hai ki aajakal kee bahu jo apane sanskaaron mein sabhyata ko bhool kar ke vah apane aap ko sabase oopar rakhana chaahate hain yaanee ki vah logon ko hukum dena chaahatee hain taaki poore ghar mein agar raajaneeti se unaka chalen aur baakee kisee ka na chale aao kee sabase badee jo hai yahee vidambana hai ki matalab apane aap ko maalakin samajhatee hain aur taaki jo bhee ho kahe sabhee log usakee baaton ko maanen aur usakee saraahana karen bas yahee sab aata ki bahut sochatee hain aur unhen pooree tarah se aajaadee mile har kaam karane ke lie vah bhee baahar aae jae unhen koee rokane thokane vaala na ho aur koee yaar dost aata hai unase koee baat karane ke lie koee roke na sabhee ladakiyon mein chhaatr parishad aapako bahut aise milenge baakee 30% bahue aisee hogee mainne apane sanskaar apane sabhyata sab cheej ka ehasaas hai aur vah usakee rispekt bhee karatee hain par badalate samay ke anusaar jo hai aaj tak kee bahoo thee ki milatee hain inakee kaamachor aur saath hee saath hone vaalee aur apane aapako hamesha aaraam karane ke lie apane pati ke saath alag hone ke lie hamesha prayaasarat rahatee hain dhanyavaad

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:43
आजकल की बहु में जो होते हैं वह सबको मालूम कैसे होते हैं घर में माता-पिता के घर में तो उत्पाद नहीं बचा पाते ससुराल आते हो चाहते हैं कि हमको कुछ खाना बनाना पड़े अपने पति के साथ हम सब जगह जाएं घूमे फिरे पिक्चर देखें और अपनी एक अलग पहचान बनाए यह भूल जाती हैं कि पति का जो रिश्तेदार होता है पति के माता-पिता होते हैं पति के भाई-बहन होते वह भी सब उसके रिश्ते से जुड़े जुड़े होते हैं कि अगर घर को अगर सहानुभूति पूर्वक हो अगर करती ग्रहणी का काम करती है तो उनका भरोसा जम जाता है पुत्री की तरह मानी जाती है बहुत से ऐसे परिवार हैं जहां बहू के बगैर काम नहीं चलता है लोग सास ससुर बहू की पूजा करते हैं तो ऐसे ही मतलब है और जिस घर में लड़की जिस लड़की के घर में उसके माता-पिता का दखल होता है वह घर कभी सुखी नहीं रह सकता है क्योंकि लड़की हर बात के लिए पहुंचते हैं उसके लिए गलत सही भी मैं यह नहीं कहती है कि बेटा घर परिवार तुम्हारा वही है और अगर तुम्हें कोई बता दो हम उनसे बात करेंगे और आप जो है अपने जो नियम है उस करो और माता-पिता जो पति के माता-पिता हैं उनको मत सताना उनके लिए खाने पीने की व्यवस्था कराओ घर में सुख शांति बना रहे हो झगड़ा ना करो यह अच्छी रहने का दायित्व होता ही कोई माता-पिता उसको जो नहीं सिखाते हैं तुरंत उसको यह सब चीजें समाज के लिए परिवार के लिए हानिकारक होते हैं इसलिए विनम्र है घर परिवार को लेकर चलती है अपनी सांसों की सेवा करती है तो वह हमेशा प्रेरणा और प्रेम की पात्र प्रेरणा उसकी जो कार्य विधियां हैं धीरे-धीरे उत्सव पर विजय प्राप्त कर लेती है और ऐसा ही होना चाहिए
Aajakal kee bahu mein jo hote hain vah sabako maaloom kaise hote hain ghar mein maata-pita ke ghar mein to utpaad nahin bacha paate sasuraal aate ho chaahate hain ki hamako kuchh khaana banaana pade apane pati ke saath ham sab jagah jaen ghoome phire pikchar dekhen aur apanee ek alag pahachaan banae yah bhool jaatee hain ki pati ka jo rishtedaar hota hai pati ke maata-pita hote hain pati ke bhaee-bahan hote vah bhee sab usake rishte se jude jude hote hain ki agar ghar ko agar sahaanubhooti poorvak ho agar karatee grahanee ka kaam karatee hai to unaka bharosa jam jaata hai putree kee tarah maanee jaatee hai bahut se aise parivaar hain jahaan bahoo ke bagair kaam nahin chalata hai log saas sasur bahoo kee pooja karate hain to aise hee matalab hai aur jis ghar mein ladakee jis ladakee ke ghar mein usake maata-pita ka dakhal hota hai vah ghar kabhee sukhee nahin rah sakata hai kyonki ladakee har baat ke lie pahunchate hain usake lie galat sahee bhee main yah nahin kahatee hai ki beta ghar parivaar tumhaara vahee hai aur agar tumhen koee bata do ham unase baat karenge aur aap jo hai apane jo niyam hai us karo aur maata-pita jo pati ke maata-pita hain unako mat sataana unake lie khaane peene kee vyavastha karao ghar mein sukh shaanti bana rahe ho jhagada na karo yah achchhee rahane ka daayitv hota hee koee maata-pita usako jo nahin sikhaate hain turant usako yah sab cheejen samaaj ke lie parivaar ke lie haanikaarak hote hain isalie vinamr hai ghar parivaar ko lekar chalatee hai apanee saanson kee seva karatee hai to vah hamesha prerana aur prem kee paatr prerana usakee jo kaary vidhiyaan hain dheere-dheere utsav par vijay praapt kar letee hai aur aisa hee hona chaahie

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:51
नमस्कार आपका प्रश्न है आजकल की बहु में कैसी होती हैं तो आजकल की बहु में के बारे में आप लोगों ने सवाल पूछा है आजकल की बहु में सोचती है कि हमेशा कैसे मिलेगी हमारा घर कैसा होगा हमारा पति कैसा होगा और आजकल की बहु में खुले विचारों की होती हैं वह पहले जैसे घुंघट प्रथा घर में रहना यह सब पसंद नहीं करती हैं आजकल की बहु में बिल्कुल बेटियों की तरह ही रहना पसंद करती हैं और वे मॉडल तरीके से जीना चाहती हैं और आजकल की बहु में अगर आप उनको प्यार करोगे तो वह भी प्यार करेंगे लेकिन आप लोगों को एक दूसरे का सम्मान करना है लेकिन कोई कोई सा सोचती है कि मुझे बहू आ गई है तुम्हारे घर में नौकरानी आ गई पर ऐसा नहीं सोचना चाहिए अपनी बहू को अपनी बेटी की तरह समझना चाहिए जैसे आपकी बेटी से कोई गलती हो जाती है तो आप उसे माफ कर देते हैं वैसे बहुत सी भी गलती हो जाए तो उसे माफ कर दीजिए और एक दूसरे से अच्छे से प्यार से रहना चाहिए तो आजकल की बहु लोग भले बुरा बनाते हैं लेकिन ऐसा नहीं है जब आपने प्रेम देंगे तो वह भी आपको प्रेम जरूर देंगे लेकिन पहले जमाने में लड़कियां थोड़ा शर्म आती थी वह मैंने लेकिन आजकल थोड़ा खुले विचारों की बाहों में आती हैं वह अपना सलवार सूट पहनना पसंद करती हैं साड़ी कम पहनती है आजकल की बहु है तो आपको ऐसा गलत कुछ नहीं सोचना चाहिए समय के साथ के यहां से हम लोगों को डरना चाहिए हमारी बहू चाहिए खुश रहे उसको खुश रखना चाहिए दूसरे की घर की बेटी को बहू बना कर लाए हैं तो उसे खुशियां देना चाहिए इसलिए यही है बस कि आजकल की बहु मैं थोड़ा मॉडल होती है तो आपको जवाब अच्छी लगे तो प्लीज लाइक करिएगा धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai aajakal kee bahu mein kaisee hotee hain to aajakal kee bahu mein ke baare mein aap logon ne savaal poochha hai aajakal kee bahu mein sochatee hai ki hamesha kaise milegee hamaara ghar kaisa hoga hamaara pati kaisa hoga aur aajakal kee bahu mein khule vichaaron kee hotee hain vah pahale jaise ghunghat pratha ghar mein rahana yah sab pasand nahin karatee hain aajakal kee bahu mein bilkul betiyon kee tarah hee rahana pasand karatee hain aur ve modal tareeke se jeena chaahatee hain aur aajakal kee bahu mein agar aap unako pyaar karoge to vah bhee pyaar karenge lekin aap logon ko ek doosare ka sammaan karana hai lekin koee koee sa sochatee hai ki mujhe bahoo aa gaee hai tumhaare ghar mein naukaraanee aa gaee par aisa nahin sochana chaahie apanee bahoo ko apanee betee kee tarah samajhana chaahie jaise aapakee betee se koee galatee ho jaatee hai to aap use maaph kar dete hain vaise bahut see bhee galatee ho jae to use maaph kar deejie aur ek doosare se achchhe se pyaar se rahana chaahie to aajakal kee bahu log bhale bura banaate hain lekin aisa nahin hai jab aapane prem denge to vah bhee aapako prem jaroor denge lekin pahale jamaane mein ladakiyaan thoda sharm aatee thee vah mainne lekin aajakal thoda khule vichaaron kee baahon mein aatee hain vah apana salavaar soot pahanana pasand karatee hain sari kam pahanatee hai aajakal kee bahu hai to aapako aisa galat kuchh nahin sochana chaahie samay ke saath ke yahaan se ham logon ko darana chaahie hamaaree bahoo chaahie khush rahe usako khush rakhana chaahie doosare kee ghar kee betee ko bahoo bana kar lae hain to use khushiyaan dena chaahie isalie yahee hai bas ki aajakal kee bahu main thoda modal hotee hai to aapako javaab achchhee lage to pleej laik kariega dhanyavaad

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
6:58
आजकल की बहु कैसी होती है आजकल की बहु जनरेशन की प्रतिनिधित्व करती है और यह एक अलग जनरेशन है सास ससुर के जनरेशन और इसका पति विशेष जनरेशन का प्रतिनिधित्व करता है 19 फेस का प्रभाव बहू पर और कुछ मालूम पर निश्चित रूप से पड़ता है आजकल की बहु बहुत शिक्षित होती है मॉडर्न रहती है सुंदर दिखने के लिए मेकअप करती है ब्यूटी पार्लर में भी आती है कुछ बाहर से जा बेटी भी है और कुछ बाहर काम के लिए जाती हुई आजकल की बहु पुराने जमाने की बहू की चुनाव की जैसी नहीं है और उसकी अपेक्षा भी नहीं करनी चाहिए क्योंकि हम कुटुंब व्यवस्था को भी कल के परिपेक्ष में देखना चाहिए तो यह सब चीजें जो है वह यह दर्शाती है कि उसको एक स्वतंत्रता चाहिए उसको सलमान चाहिए और उसको एक अच्छा करियर भी चाहिए पैसा भी कम आना चाहती है दूसरी महत्वपूर्ण चीजें जो पिछली जनदर्शन है उसके विचार और इस बहू के विचार के बारे में एक जैसे नहीं होते तो यहां पर कुटुंबी कला की शुरुआत हो जाती है तो करीब में समझदारी की भूमिका लेती है तो कोई भी इस तरीके से लंच करते हैं कि कैसे हम अपने सास-ससुर से अलग रहे उमेश स्वार्थ की भावना और शिक्षा और एक कैरियर अच्छा करे रखने वाला पति मिल जाता है और उसको सुरक्षित प्राप्त होती है और नौकरी भी करती है तो पैसा भी इसको इसके पास आता है तो थोड़ा घमंड देश में आ जाता है तो इसमें मूलभूत रूप से कुटुंब में सप्ताह किसकी रहेगी शासकीय भूमि 1 सप्ताह का संघर्ष होता है मां की सत्ता राम निश्चित रूप से बहुत ज्यादा कुटुंब में है यह बोले नहीं सोचती भव्य तो आज आई हुई होती है मां तो बरसों बरसों से सब को जन्म देने वाली भी और पालने वाली भी एक्टिविटी सुरक्षित पास सिर्फ सोचने की तरीके में और रहन-सहन के तरीके में होते हैं और वह छोड़ना नहीं चाहते और मुन्नी को छोड़ने की अपेक्षा भी बहुओं ने नहीं करनी चाहिए उनका भी एक स्वतंत्र है स्वतंत्रता है इसका भी ख्याल रखना चाहिए कि जब स्वतंत्रता हमें जरूरी पड़ती है या हमारी मांग होती है तो यही स्वतंत्रता सब की मांग भी है उन सब की जरूरत भी है सेंड शक्ति की सीमा पहले से पहले की तुलना में यहां आजकल की बहु में कम है पति अगर आर्थिक संकट में आया तो कुछ ऐसी बीवी है कि जो पति को छोड़कर मायके चली जाती है जनम जनम का साथ तो बड़ी ला दूर की बात है शिक्षा का मतलब यह विषय का मतलब यह नहीं होता है कि उसके साथ आई हुई सत्ता का गैरवापर करें दूरी जो जनता से उसकी साइकोलॉजी को समझें और उस तरीके से और उनके साथ व्यवहार करें और कुटुंब में एकता बनाए रखें अलग रहने से कुछ ज्यादा फायदे नहीं होती है और कई दूसरे तो नहीं सकते तो आजकल की बहु ए तो बहुत अच्छी है
Aajakal kee bahu kaisee hotee hai aajakal kee bahu janareshan kee pratinidhitv karatee hai aur yah ek alag janareshan hai saas sasur ke janareshan aur isaka pati vishesh janareshan ka pratinidhitv karata hai 19 phes ka prabhaav bahoo par aur kuchh maaloom par nishchit roop se padata hai aajakal kee bahu bahut shikshit hotee hai modarn rahatee hai sundar dikhane ke lie mekap karatee hai byootee paarlar mein bhee aatee hai kuchh baahar se ja betee bhee hai aur kuchh baahar kaam ke lie jaatee huee aajakal kee bahu puraane jamaane kee bahoo kee chunaav kee jaisee nahin hai aur usakee apeksha bhee nahin karanee chaahie kyonki ham kutumb vyavastha ko bhee kal ke paripeksh mein dekhana chaahie to yah sab cheejen jo hai vah yah darshaatee hai ki usako ek svatantrata chaahie usako salamaan chaahie aur usako ek achchha kariyar bhee chaahie paisa bhee kam aana chaahatee hai doosaree mahatvapoorn cheejen jo pichhalee janadarshan hai usake vichaar aur is bahoo ke vichaar ke baare mein ek jaise nahin hote to yahaan par kutumbee kala kee shuruaat ho jaatee hai to kareeb mein samajhadaaree kee bhoomika letee hai to koee bhee is tareeke se lanch karate hain ki kaise ham apane saas-sasur se alag rahe umesh svaarth kee bhaavana aur shiksha aur ek kairiyar achchha kare rakhane vaala pati mil jaata hai aur usako surakshit praapt hotee hai aur naukaree bhee karatee hai to paisa bhee isako isake paas aata hai to thoda ghamand desh mein aa jaata hai to isamen moolabhoot roop se kutumb mein saptaah kisakee rahegee shaasakeey bhoomi 1 saptaah ka sangharsh hota hai maan kee satta raam nishchit roop se bahut jyaada kutumb mein hai yah bole nahin sochatee bhavy to aaj aaee huee hotee hai maan to barason barason se sab ko janm dene vaalee bhee aur paalane vaalee bhee ektivitee surakshit paas sirph sochane kee tareeke mein aur rahan-sahan ke tareeke mein hote hain aur vah chhodana nahin chaahate aur munnee ko chhodane kee apeksha bhee bahuon ne nahin karanee chaahie unaka bhee ek svatantr hai svatantrata hai isaka bhee khyaal rakhana chaahie ki jab svatantrata hamen jarooree padatee hai ya hamaaree maang hotee hai to yahee svatantrata sab kee maang bhee hai un sab kee jaroorat bhee hai send shakti kee seema pahale se pahale kee tulana mein yahaan aajakal kee bahu mein kam hai pati agar aarthik sankat mein aaya to kuchh aisee beevee hai ki jo pati ko chhodakar maayake chalee jaatee hai janam janam ka saath to badee la door kee baat hai shiksha ka matalab yah vishay ka matalab yah nahin hota hai ki usake saath aaee huee satta ka gairavaapar karen dooree jo janata se usakee saikolojee ko samajhen aur us tareeke se aur unake saath vyavahaar karen aur kutumb mein ekata banae rakhen alag rahane se kuchh jyaada phaayade nahin hotee hai aur kaee doosare to nahin sakate to aajakal kee bahu e to bahut achchhee hai

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
sangam singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sangam जी का जवाब
Unknown
1:41

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
1:19
वर्तमान समय में आजकल की बहु है कुछ चालाक होती है गिफ्ट तेज होती हैं कुछ सब दूर होती है और कुछ सामान्य होते हैं तथा कई पूर्व हुए जो कि माता-पिता के सामने दिया था और ससुराल में माता-पिता के सामने भी अपना वह लोग करने का ध्यान में रखती और कई रखती हैं तथा कई बहू अपने पिता का मान सम्मान अपने पति का और माता-पिता का सम्मान करती है और कहीं नहीं करती और कई मामले ऐसे थे जो घमंडी भी होती है और खतरनाक भी होती है तथा कई बहुए ऐसी होती है जो किसी की चुगली इधर से उधर इधर से उधर ऐसे करती रहती है तथा कवि भव्य अच्छी होती है जो अपनी मां की आयु पर चलती है तथा पति का पति के अनुसार नहीं चलती तथा कई कवियों ने अपने पति की बात मानती है और किसी के नहीं मानती
Vartamaan samay mein aajakal kee bahu hai kuchh chaalaak hotee hai gipht tej hotee hain kuchh sab door hotee hai aur kuchh saamaany hote hain tatha kaee poorv hue jo ki maata-pita ke saamane diya tha aur sasuraal mein maata-pita ke saamane bhee apana vah log karane ka dhyaan mein rakhatee aur kaee rakhatee hain tatha kaee bahoo apane pita ka maan sammaan apane pati ka aur maata-pita ka sammaan karatee hai aur kaheen nahin karatee aur kaee maamale aise the jo ghamandee bhee hotee hai aur khataranaak bhee hotee hai tatha kaee bahue aisee hotee hai jo kisee kee chugalee idhar se udhar idhar se udhar aise karatee rahatee hai tatha kavi bhavy achchhee hotee hai jo apanee maan kee aayu par chalatee hai tatha pati ka pati ke anusaar nahin chalatee tatha kaee kaviyon ne apane pati kee baat maanatee hai aur kisee ke nahin maanatee

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
guru ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए guru जी का जवाब
Students
0:49

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
ANKUR singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ANKUR जी का जवाब
Motivational speaker
2:58
हेलो दोस्तों कैसे हैं आप लोग मैं अंकुर सिंह आप सबको नया साल बहुत बहुत मुबारक हो मैं आज बहुत दिन बाद बोल कर पराया हूं क्वेश्चन है कि आज की भूमि कैसी होती हैं देखो अब इस क्वेश्चन के बारे में क्या बताऊं मैं तो अभी मेरे पापा को बहुत तो आई नहीं अभी मेरी शादी हुई है तो जहां तक मैंने समझ पाया और जब कर पाया है लेकिन वह सब अच्छी होती हैं आप जितने भी क्वेश्चन पूछा हो आप अंकल और आंटी हो या जो भी हो कोई भी हो देखो बहुत सारी अच्छी होती हैं बात बताइए आपकी बेटी भी तो किसी की बहू बनती होगी आपकी आप अपनी बेटी को किस नजर से देखते हैं नजरिया आपका अच्छा होना चाहिए आपको उसके पर नजरिया अच्छा होना चाहिए आप उसको कैसे देखते हैं कैसे सोचते हैं यार क्या होता है ना हमारे इंडियन समाज में क्या होते कुछ लोग ऐसे होते ना बहू को एकदम समझ लो कि ना नौकरानी समझ कर रखते हैं आइए तो वह यह करेगी वह करेगी यह क्यों नहीं किया वह नहीं किया यार एक बात बताओ वह भी तो किसी की बेटी है किसी की बहन है वह भी तो अपना घर छोड़कर अपना मायका छोड़कर सब को छोड़कर आपके पास आई है और आप उसका यहां पर जानने वाला कोई नहीं है सिर्फ किस के सिवा आप उसके हस्बैंड और आप सा ससुर के सिवा कोई आपका जानने वाला ठीक है और आप आप भी उसको नहीं जानते हो आपको उसकी पसंद नापसंद को क्या आता है क्या मैं आपको नहीं पता है तो जब आपको उसके बारे में कुछ पता ही नहीं तो आप मुझसे इतनी उम्मीद है क्यों रखते हो मत रखो उसको समझाओ तो सही उसके पास बैठो तो सही हम क्या करते हैं उसको यह कर दो वह कर दो ऐसा कर दो वैसा कर दो ठीक है बहुत सारी होती आपकी बेटी कल को कहे बहू बनकर जाती है उसे अपडेट अगर उसके साथ होते तो आपको बुरा लगता है कि मेरी बेटी के साथ ऐसा ही नहीं उसको यह पसंद है उसको यह नहीं पसंद उसको यह आता है उसको यह नहीं आता उसके जानने की कोशिश करो उसके मां बाप से पूछो कि आपकी बेटी कैसी है आपकी बेटी को क्या आता है क्या नहीं आता आप उसको सुधारने की कोशिश करो आप उसको बताने की कोशिश करो जैसे आप अपनी बेटी के पीछे लगती है दौड़ दौड़ते हैं जो भी हो आपके पीछे लोग दौड़े और अगर आप उसके पीछे दौड़ता है जाएगा सारी बहुए अच्छी होती है किसी की बहू बुरी नहीं होती वह हमारे व्यवहार पर डिपेंड करता है हम उसके साथ कैसे व्यवहार करते हैं एक बात बताइए मैं आपको नहीं जानता आप मुझे नहीं जानते आपने क्वेश्चन पुट अप किया मैं आपको इधर जवाब में गाली बको उल्टा सीधा बोलो तो आप आप आप मुझसे बच्चों के बाद करोगे नहीं करोगे ना मतलब कि अगर आप मेरे से मैं अपने तरीके से बात करूंगा आप कह कर बात करूंगा आप मेरे से भी अच्छे से जवाब दोगे मैं सब से बात कर लो आप भी उसके साथ अच्छे से व्यवहार कीजिए ठीक है सारी बहुए अच्छी होती है कोई बहुत बुरी नहीं होती आप उसको एक बेटी की नजर से तो देखो एक बेटे की नजर से देखो वह आपको हमेशा अच्छी लगेगी ठीक है और वह और आप हमेशा अच्छी लगेगी वह आपको भी हमेशा अच्छी लगेगी दोनों एक दूसरे को बहुत अच्छे लगोगे ठीक है धन्यवाद मुझे कमेंट जरुर करना आप के क्वेश्चन बहुत उम्मीद है प्लीज मुझे कमेंट जरुर करना
Helo doston kaise hain aap log main ankur sinh aap sabako naya saal bahut bahut mubaarak ho main aaj bahut din baad bol kar paraaya hoon kveshchan hai ki aaj kee bhoomi kaisee hotee hain dekho ab is kveshchan ke baare mein kya bataoon main to abhee mere paapa ko bahut to aaee nahin abhee meree shaadee huee hai to jahaan tak mainne samajh paaya aur jab kar paaya hai lekin vah sab achchhee hotee hain aap jitane bhee kveshchan poochha ho aap ankal aur aantee ho ya jo bhee ho koee bhee ho dekho bahut saaree achchhee hotee hain baat bataie aapakee betee bhee to kisee kee bahoo banatee hogee aapakee aap apanee betee ko kis najar se dekhate hain najariya aapaka achchha hona chaahie aapako usake par najariya achchha hona chaahie aap usako kaise dekhate hain kaise sochate hain yaar kya hota hai na hamaare indiyan samaaj mein kya hote kuchh log aise hote na bahoo ko ekadam samajh lo ki na naukaraanee samajh kar rakhate hain aaie to vah yah karegee vah karegee yah kyon nahin kiya vah nahin kiya yaar ek baat batao vah bhee to kisee kee betee hai kisee kee bahan hai vah bhee to apana ghar chhodakar apana maayaka chhodakar sab ko chhodakar aapake paas aaee hai aur aap usaka yahaan par jaanane vaala koee nahin hai sirph kis ke siva aap usake hasbaind aur aap sa sasur ke siva koee aapaka jaanane vaala theek hai aur aap aap bhee usako nahin jaanate ho aapako usakee pasand naapasand ko kya aata hai kya main aapako nahin pata hai to jab aapako usake baare mein kuchh pata hee nahin to aap mujhase itanee ummeed hai kyon rakhate ho mat rakho usako samajhao to sahee usake paas baitho to sahee ham kya karate hain usako yah kar do vah kar do aisa kar do vaisa kar do theek hai bahut saaree hotee aapakee betee kal ko kahe bahoo banakar jaatee hai use apadet agar usake saath hote to aapako bura lagata hai ki meree betee ke saath aisa hee nahin usako yah pasand hai usako yah nahin pasand usako yah aata hai usako yah nahin aata usake jaanane kee koshish karo usake maan baap se poochho ki aapakee betee kaisee hai aapakee betee ko kya aata hai kya nahin aata aap usako sudhaarane kee koshish karo aap usako bataane kee koshish karo jaise aap apanee betee ke peechhe lagatee hai daud daudate hain jo bhee ho aapake peechhe log daude aur agar aap usake peechhe daudata hai jaega saaree bahue achchhee hotee hai kisee kee bahoo buree nahin hotee vah hamaare vyavahaar par dipend karata hai ham usake saath kaise vyavahaar karate hain ek baat bataie main aapako nahin jaanata aap mujhe nahin jaanate aapane kveshchan put ap kiya main aapako idhar javaab mein gaalee bako ulta seedha bolo to aap aap aap mujhase bachchon ke baad karoge nahin karoge na matalab ki agar aap mere se main apane tareeke se baat karoonga aap kah kar baat karoonga aap mere se bhee achchhe se javaab doge main sab se baat kar lo aap bhee usake saath achchhe se vyavahaar keejie theek hai saaree bahue achchhee hotee hai koee bahut buree nahin hotee aap usako ek betee kee najar se to dekho ek bete kee najar se dekho vah aapako hamesha achchhee lagegee theek hai aur vah aur aap hamesha achchhee lagegee vah aapako bhee hamesha achchhee lagegee donon ek doosare ko bahut achchhe lagoge theek hai dhanyavaad mujhe kament jarur karana aap ke kveshchan bahut ummeed hai pleej mujhe kament jarur karana

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
Ekta Sahni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ekta जी का जवाब
Unknown
1:53
नमस्कार आपका प्रश्न है आजकल की मम्मी कैसी होती हैं वैसे बहुत ही विचित्र प्रश्न हैं थोड़ा फनी भी है वैसे भी मैं इसका जवाब देना चाहूंगा हुए बोहेमिया पिक्सेलेटेड बात कर रहे हैं लड़कियों से बात कर रहे हैं कि बात नहीं कर रहे हैं आप लड़कियों की बात कर रहे हैं इससे पहले लड़कियां हैं लड़कियां हैं यानी इंसान हैं जैसे इंसान हर इंसान अलग-अलग मीटर का होता है तो वह भी अलग-अलग नीचे भी सब में जैसी है जैसे जिसके नीचे से अलग अलग तरह की होती है इसकी कोई आपसे फिर बहू का टैग लगा देने से आप उसको चार्ज नहीं कर सकते हैं कि उनकी बहू है इसलिए यह पार्टिकुलर ऐसा नहीं होता है कुछ हंसमुख होती है तो जैसे कि कोई व्यक्ति हंस को कहते हैं कुछ इंट्रोवर्ट होते हैं तो इसी तरह से आप उसके बाजू कट लगा कि कोई जॉब थोड़ी नहीं कि हम जी हर किसी को हमें मैनेजर बनाया है तो उसका काम कैसे होगा कोई अकाउंटेंट है तो उसका काम कैसे होगा तो इस रंग पर ऑफिसर है तो उसका है उसका ऐसा होगा एक रिश्ता है जिसको आप जज कैसे कर रहे हैं यह आपके आपस में मेल मिलाप के ऊपर हैं कि यह तो क्वेश्चन अपने आप में ही बड़ा ही विचित्र है कि बहू में कैसी होती हैं वह भी ऐसी होती है जिससे आप की बेटियां हैं जैसे आप हो या जैसे व्यक्ति हैं उन्हें भी ऐसे ही चैट करो अगर आप बाय लव वाला हटा दोगे क्लोज साथ में की डॉटर इन लॉ हटा देंगे तो सब डॉटर जैसी ही होती है वैसे आपकी डॉक्टर वैसी ही आपकी चॉकलेट
Namaskaar aapaka prashn hai aajakal kee mammee kaisee hotee hain vaise bahut hee vichitr prashn hain thoda phanee bhee hai vaise bhee main isaka javaab dena chaahoonga hue bohemiya pikseleted baat kar rahe hain ladakiyon se baat kar rahe hain ki baat nahin kar rahe hain aap ladakiyon kee baat kar rahe hain isase pahale ladakiyaan hain ladakiyaan hain yaanee insaan hain jaise insaan har insaan alag-alag meetar ka hota hai to vah bhee alag-alag neeche bhee sab mein jaisee hai jaise jisake neeche se alag alag tarah kee hotee hai isakee koee aapase phir bahoo ka taig laga dene se aap usako chaarj nahin kar sakate hain ki unakee bahoo hai isalie yah paartikular aisa nahin hota hai kuchh hansamukh hotee hai to jaise ki koee vyakti hans ko kahate hain kuchh introvart hote hain to isee tarah se aap usake baajoo kat laga ki koee job thodee nahin ki ham jee har kisee ko hamen mainejar banaaya hai to usaka kaam kaise hoga koee akauntent hai to usaka kaam kaise hoga to is rang par ophisar hai to usaka hai usaka aisa hoga ek rishta hai jisako aap jaj kaise kar rahe hain yah aapake aapas mein mel milaap ke oopar hain ki yah to kveshchan apane aap mein hee bada hee vichitr hai ki bahoo mein kaisee hotee hain vah bhee aisee hotee hai jisase aap kee betiyaan hain jaise aap ho ya jaise vyakti hain unhen bhee aise hee chait karo agar aap baay lav vaala hata doge kloj saath mein kee dotar in lo hata denge to sab dotar jaisee hee hotee hai vaise aapakee doktar vaisee hee aapakee chokalet

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
Dt. Mayuari official Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dt. जी का जवाब
Medical field
2:59
हिंदी क्वेश्चन जो है वह मुझे मतलब समझ में नहीं आ रहा है क्या आजकल की बहु में कैसी होती हैं तो पहली चीज तो मैं जिन्होंने क्वेश्चन पूछा है अगर आप एक साथ हैं आप एक औरत है तो मैं आपको यह कहना चाहूंगी जैसे आपकी बेटी दूसरी घर में जाएगी जैसे वहां के लोग उसको ट्वीट करेंगे आप अपनी बेटी को क्या जला दोगे कि जैसे आपको वहां के लोग वेट कर रहे हैं आप भी वैसे ही करूं है ना यही सलाह दोगे ना तो यही साला आप जो भी आप लड़की आपके घर पर आएगी वह भी किसी की बेटी होगी जैसे आपकी बेटी आपकी बेटी है वैसे आपके घर में जो बहू आएगी वह भी किसी की बेटी होगी तो आप उसको अपनी बेटी की तरह देखिए आप उसको बहू मत समझिए कि नहीं यह तो मेरी बहू है अगर आप उसको बेटी की तरह देखोगे तो वह भी आपको मां की तरह देखे कि वह आपको सांस की तो नहीं देखेगी अगर आप उसको बहू की तरह देखोगे कि नहीं यह तो मेरी बहू है यह मेरी बेटी है तो बहू के सामने यह नहीं करना वह नहीं करना बहुत लालची होती तू यह जो जो सब पुरानी और डोमिनेटिंग टाइप की साइज होती है तो अगर आप ऐसे बनोगे दोस्त की तरह नहीं रहोगे तो बहू भी कहीं ना कहीं सोचे कि क्या रे मेरी सास बहुत डोमिनेटिंग है मेरे साथ बहुत खराब है तो वह भी कहीं ना कहीं आपसे दूर जाने लगे कि आपको आपको आपसे जो है आपकी पिक पेशाब की बुराई करना है कि वह भी है सब करने लगेगी तो क्या आप भी कहीं ना कहीं यह सब कर रहे हो कहने का मतलब है कि जैसा आप दोगे जय सिया बॉल पे को गेम ऐसे ही बोल वापस आएगी आप जैसा व्यवहार करोगे वैसा ही व्यवहार आप आओगे आप इज्जत दोगे अपनी बहू को तब आपको वह भी इज्जत है कि वह आपको प्यार देगी आपको प्यार दोगे आप अगर उसको बेजती दोगे या आप उसको जो है यह दोगे के बेटे को भड़काना है या बेटा मारे बेटे बहु को तो फिर बहू भी आपकी डिजरिस्पेक्ट करेगी आपको दिल से नहीं मानेगी जो भी काम करेगी वह सब दिखावे के लिए करेगी दिल से नहीं करेगी आपकी बुराइयां करेगी जा जाकर अपने मायके में तो यह चीज दोनों तरफ होनी चाहिए दे सकता ली दो हाथ से बजती है ना तो यह चीज वैसा होना चाहिए ठीक है क्योंकि मैं भी किसी की बहू हूं और मैंने मैं मेरी भी तो ससुराल में है तो मेरा ससुराल में कोई भी ऐसा इंसान नहीं है जो मुझे बहू की प्रैक्टिस करता हूं मुझे भी हर इंसान बेटी की तरह ट्रीट करता है मैं अपने ससुर जी से चीजें शेयर करती हूं जो भी आपके फादर से शेयर करती थी अपने पैरंट्स से शेयर करती थी मुझे लगता था कि मां से ज्यादा मैं अपने पिता के क्लोज में हूं और मेरे पिता भी मुझे बहुत प्यार करते हैं वही चीज में अपने ससुर से भी शेयर करती हूं और मेरे ससुर मुझे समझाने की जगह मेरे हस्बैंड को ही डांटते हैं आज भी वह मेरे हस्बैंड को ही बोलते हैं कि तुम्हें ऐसा करना चाहिए वैसा करना चाहिए वह मुझे बेटी मानते हैं अपनी तो जैसा आप ही से दोगे वैसे ही आपको मिलेगा ठीक है तो आप अच्छे से बोलोगे तो वह भी अच्छे से करेगी क्योंकि वह भी किसी की बेटी है वह भी जानती है कि आप उसके
Hindee kveshchan jo hai vah mujhe matalab samajh mein nahin aa raha hai kya aajakal kee bahu mein kaisee hotee hain to pahalee cheej to main jinhonne kveshchan poochha hai agar aap ek saath hain aap ek aurat hai to main aapako yah kahana chaahoongee jaise aapakee betee doosaree ghar mein jaegee jaise vahaan ke log usako tveet karenge aap apanee betee ko kya jala doge ki jaise aapako vahaan ke log vet kar rahe hain aap bhee vaise hee karoon hai na yahee salaah doge na to yahee saala aap jo bhee aap ladakee aapake ghar par aaegee vah bhee kisee kee betee hogee jaise aapakee betee aapakee betee hai vaise aapake ghar mein jo bahoo aaegee vah bhee kisee kee betee hogee to aap usako apanee betee kee tarah dekhie aap usako bahoo mat samajhie ki nahin yah to meree bahoo hai agar aap usako betee kee tarah dekhoge to vah bhee aapako maan kee tarah dekhe ki vah aapako saans kee to nahin dekhegee agar aap usako bahoo kee tarah dekhoge ki nahin yah to meree bahoo hai yah meree betee hai to bahoo ke saamane yah nahin karana vah nahin karana bahut laalachee hotee too yah jo jo sab puraanee aur domineting taip kee saij hotee hai to agar aap aise banoge dost kee tarah nahin rahoge to bahoo bhee kaheen na kaheen soche ki kya re meree saas bahut domineting hai mere saath bahut kharaab hai to vah bhee kaheen na kaheen aapase door jaane lage ki aapako aapako aapase jo hai aapakee pik peshaab kee buraee karana hai ki vah bhee hai sab karane lagegee to kya aap bhee kaheen na kaheen yah sab kar rahe ho kahane ka matalab hai ki jaisa aap doge jay siya bol pe ko gem aise hee bol vaapas aaegee aap jaisa vyavahaar karoge vaisa hee vyavahaar aap aaoge aap ijjat doge apanee bahoo ko tab aapako vah bhee ijjat hai ki vah aapako pyaar degee aapako pyaar doge aap agar usako bejatee doge ya aap usako jo hai yah doge ke bete ko bhadakaana hai ya beta maare bete bahu ko to phir bahoo bhee aapakee dijarispekt karegee aapako dil se nahin maanegee jo bhee kaam karegee vah sab dikhaave ke lie karegee dil se nahin karegee aapakee buraiyaan karegee ja jaakar apane maayake mein to yah cheej donon taraph honee chaahie de sakata lee do haath se bajatee hai na to yah cheej vaisa hona chaahie theek hai kyonki main bhee kisee kee bahoo hoon aur mainne main meree bhee to sasuraal mein hai to mera sasuraal mein koee bhee aisa insaan nahin hai jo mujhe bahoo kee praiktis karata hoon mujhe bhee har insaan betee kee tarah treet karata hai main apane sasur jee se cheejen sheyar karatee hoon jo bhee aapake phaadar se sheyar karatee thee apane pairants se sheyar karatee thee mujhe lagata tha ki maan se jyaada main apane pita ke kloj mein hoon aur mere pita bhee mujhe bahut pyaar karate hain vahee cheej mein apane sasur se bhee sheyar karatee hoon aur mere sasur mujhe samajhaane kee jagah mere hasbaind ko hee daantate hain aaj bhee vah mere hasbaind ko hee bolate hain ki tumhen aisa karana chaahie vaisa karana chaahie vah mujhe betee maanate hain apanee to jaisa aap hee se doge vaise hee aapako milega theek hai to aap achchhe se bologe to vah bhee achchhe se karegee kyonki vah bhee kisee kee betee hai vah bhee jaanatee hai ki aap usake

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
मोहित कुमार Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए मोहित जी का जवाब
बिजनेस
0:27
कुछ तो शहर है आजकल की बहु एक ऐसी होती वह कुछ तो आजकल की बहुएं समझदार और पढ़ी लिखी होती पुराने समय में रतिया कंपनी होने के कारण उनके ऐज के हिसाब से जल्द ही शादी कर दी जाती थी और पहले समय में बिना देखे भी शादी हो जाती थी वस्तु कहने का मतलब है आजकल की बहु बहुत ही स्मार्ट होती है धन्यवाद
Kuchh to shahar hai aajakal kee bahu ek aisee hotee vah kuchh to aajakal kee bahuen samajhadaar aur padhee likhee hotee puraane samay mein ratiya kampanee hone ke kaaran unake aij ke hisaab se jald hee shaadee kar dee jaatee thee aur pahale samay mein bina dekhe bhee shaadee ho jaatee thee vastu kahane ka matalab hai aajakal kee bahu bahut hee smaart hotee hai dhanyavaad

bolkar speaker
आजकल की बहुएं कैसी होती है?Aajkal Ki Bahuein Kaisi Hoti Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
1:37
आजकल की बहु में कैसी हो तुम को दोष देना गलत कीजिए आप हो आशा रखते हैं कि भगवान ने हाथ काट आपका स्नेह और आशीर्वाद में देखिए आज की जनरेशन कहेंगे बहुत आगे निकल चुकी है हर परिवार में जब आप लोग संस्कार ही नहीं दे रहे हैं जब आप संस्कार को मानने को तैयार नहीं है बचपन में जब हमारे परिवार की जिम्मेदारियां होती हैं अपने बच्चों को सही लेसन पढ़ा है और सही चीजें और हम बाद में जब बहू के रूप में होती है तो उसका एक्सपेक्ट करते हैं जब वह कॉलेज जा रही है यूनिवर्सिटी आ रही है सर्विस पर जा रही है तो हाफ पैंट पहन कर घूम रही है और जब घर में है और जब आप बहू बन के आए तुझ से बहुत क्यों भाई उसकी आजादी क्यों छोड़ना चाह रहे हैं तो जो सामाजिक परिवेश था उसमें परिवर्तन हो गया इतना सारा डिस्ट्रिक्ट जूम करके आप आजकल क्यों है आज कल की तो घुमी हुई है कि उनका हस्बैंड ही सब कुछ है परिवार से कोई मतलब नहीं कि उन्होंने वही सिखा है बड़े छोटों का कोई इज्जत नहीं बगल घर में है रूम में बुड्ढे मर रहे हैं उनको दवा थी कि पानी के लिए प्यार से कोई मतलब नहीं अपनी मस्ती में मस्त हैं और यह सब चीजें कहीं गई परिवारिक विघटन की तरफ ले जा रहा है और समाज के अंदर यह व्यवस्था में हर 2 मिनट पर सबसे ज्यादा तहसील ताला कृष्ण आयोग लोगों के पहुंच रहे हैं पहुंचे हैं जिसको कहना बड़ा मुश्किल हो
Aajakal kee bahu mein kaisee ho tum ko dosh dena galat keejie aap ho aasha rakhate hain ki bhagavaan ne haath kaat aapaka sneh aur aasheervaad mein dekhie aaj kee janareshan kahenge bahut aage nikal chukee hai har parivaar mein jab aap log sanskaar hee nahin de rahe hain jab aap sanskaar ko maanane ko taiyaar nahin hai bachapan mein jab hamaare parivaar kee jimmedaariyaan hotee hain apane bachchon ko sahee lesan padha hai aur sahee cheejen aur ham baad mein jab bahoo ke roop mein hotee hai to usaka eksapekt karate hain jab vah kolej ja rahee hai yoonivarsitee aa rahee hai sarvis par ja rahee hai to haaph paint pahan kar ghoom rahee hai aur jab ghar mein hai aur jab aap bahoo ban ke aae tujh se bahut kyon bhaee usakee aajaadee kyon chhodana chaah rahe hain to jo saamaajik parivesh tha usamen parivartan ho gaya itana saara distrikt joom karake aap aajakal kyon hai aaj kal kee to ghumee huee hai ki unaka hasbaind hee sab kuchh hai parivaar se koee matalab nahin ki unhonne vahee sikha hai bade chhoton ka koee ijjat nahin bagal ghar mein hai room mein buddhe mar rahe hain unako dava thee ki paanee ke lie pyaar se koee matalab nahin apanee mastee mein mast hain aur yah sab cheejen kaheen gaee parivaarik vighatan kee taraph le ja raha hai aur samaaj ke andar yah vyavastha mein har 2 minat par sabase jyaada tahaseel taala krshn aayog logon ke pahunch rahe hain pahunche hain jisako kahana bada mushkil ho

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard