#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?

Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:38
हेलो जी बात तो आज आप का सवाल है कि क्या सच में मुसलमानों को साथ शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है तो देखिए यह जो चार शादी मतलब जो लोग मतलब सोचते हैं कि हां अपने आप से अपने मनमर्जी से तो इस तरह से उसको मतलब मिसकनसेप्शन है सिर्फ एक तरह से लोगे क्या मिसइंटरप्रेट करते हैं जो शादी के पहले शादी होती है और इनके सुन में कोई प्रॉब्लम होता है किसी भी तरह की चीज को लेकर घर प्रॉब्लम होता है और अगर वह अगली है आपकी वाइफ जो पहली वाली आपकी वाइफ अगर अगली है वह मान रही है कि उनके अंदर कुछ प्रॉब्लम है और मुझे आती है कि आप दूसरा शादी कर सकते हैं वही जाकर आप कर सकते वरना ऐसे नहीं कि आप अपने मनमर्जी से चार वाइफ को रखेंगे और यह आपकी ख्वाहिश होंगे ऐसा नहीं है कुछ केंद्र नियर मे जो इंसान ऊपर ऊपर ही बात बोलते हैं अंदर के बाद कोई भी नहीं बोलता है जैसे कि कोई रीजन होता है कि हम यह सामान को क्यों छोड़ रहे हैं फिर यह समाधान क्यों नहीं खरीदे तो वही रीजन अगर आपको पहले वाइफ से में कोई प्रॉब्लम है या फिर कोई भी चीज है और वह अगर हां कहती है तभी जाकर आप दूसरा शादी कर सकते नहीं तो आप ऐसे नहीं कर सकते हैं और यह भी आप पर डिपेंड करता है अगर आप का मन है तो ही जाकर आप दूसरी शादी कर अगर आपका मन नहीं है आपकी वाइफ इनके से आ नहीं रही या फिर कोई प्रॉब्लम हुआ है मगर आप का मन है तू ही जाकर आप दूसरा शादी कर अगर नहीं भी मन है तो इसमें भी कोई जबरदस्ती नहीं है क्या आपको करना है करना
Helo jee baat to aaj aap ka savaal hai ki kya sach mein musalamaanon ko saath shaadee karane ke lie allaah ne pharamaan jaaree kiya hua hai to dekhie yah jo chaar shaadee matalab jo log matalab sochate hain ki haan apane aap se apane manamarjee se to is tarah se usako matalab misakanasepshan hai sirph ek tarah se loge kya misintarapret karate hain jo shaadee ke pahale shaadee hotee hai aur inake sun mein koee problam hota hai kisee bhee tarah kee cheej ko lekar ghar problam hota hai aur agar vah agalee hai aapakee vaiph jo pahalee vaalee aapakee vaiph agar agalee hai vah maan rahee hai ki unake andar kuchh problam hai aur mujhe aatee hai ki aap doosara shaadee kar sakate hain vahee jaakar aap kar sakate varana aise nahin ki aap apane manamarjee se chaar vaiph ko rakhenge aur yah aapakee khvaahish honge aisa nahin hai kuchh kendr niyar me jo insaan oopar oopar hee baat bolate hain andar ke baad koee bhee nahin bolata hai jaise ki koee reejan hota hai ki ham yah saamaan ko kyon chhod rahe hain phir yah samaadhaan kyon nahin khareede to vahee reejan agar aapako pahale vaiph se mein koee problam hai ya phir koee bhee cheej hai aur vah agar haan kahatee hai tabhee jaakar aap doosara shaadee kar sakate nahin to aap aise nahin kar sakate hain aur yah bhee aap par dipend karata hai agar aap ka man hai to hee jaakar aap doosaree shaadee kar agar aapaka man nahin hai aapakee vaiph inake se aa nahin rahee ya phir koee problam hua hai magar aap ka man hai too hee jaakar aap doosara shaadee kar agar nahin bhee man hai to isamen bhee koee jabaradastee nahin hai kya aapako karana hai karana

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:06
हेलो फ्रेंड्स स्वागत है आपका आपका सवाल है क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है ऐसा नहीं है फ्रेंड किसी को भी चाचा शादी करने के लिए कोई भी अल्लाह भगवान कोई भी नहीं बोलता है जीवन साथी एक पत्नी पति होते हैं ऐसा नहीं कि एक औरत की जिंदगी बर्बाद करो फिर दूसरी शादी करो फिर तीसरी सेक्टर 34 ऐसा नहीं है हिंदू हो या मुसलमान ऐसा नहीं करना चाहिए और ऐसा करने पर नियम भी बन गए हैं सब कोई ना तीन तलाक दे पाएगा ना कोई ऐसे तीन चार शादी कर पाएगा मोदी जी ने बहुत अच्छा कानून पास करवाया है मुसलमान औरतों के लिए जो उनके हित में बहुत अच्छा है और यह सभी लोग झूठ बोलते हैं कि हमें अल्लाह ने बोला है कि हम चार शादी कर सकती हैं यह सब झूठ बोलते हैं वह लोग मुसलमान अपने स्वार्थ के लिए यह सब बातें बना लिए हैं ऐसा कोई भी अल्लाह भगवान ग्रंथ ऐसा नहीं बोलता कि आप चाचा शादियां कीजिए तो दोस्तों आपको जवाब अच्छे लगे तो लाइक करें धन्यवाद
Helo phrends svaagat hai aapaka aapaka savaal hai kya sach mein musalamaanon ko chaar shaadee karane ke lie allaah ne pharamaan jaaree kiya hua hai aisa nahin hai phrend kisee ko bhee chaacha shaadee karane ke lie koee bhee allaah bhagavaan koee bhee nahin bolata hai jeevan saathee ek patnee pati hote hain aisa nahin ki ek aurat kee jindagee barbaad karo phir doosaree shaadee karo phir teesaree sektar 34 aisa nahin hai hindoo ho ya musalamaan aisa nahin karana chaahie aur aisa karane par niyam bhee ban gae hain sab koee na teen talaak de paega na koee aise teen chaar shaadee kar paega modee jee ne bahut achchha kaanoon paas karavaaya hai musalamaan auraton ke lie jo unake hit mein bahut achchha hai aur yah sabhee log jhooth bolate hain ki hamen allaah ne bola hai ki ham chaar shaadee kar sakatee hain yah sab jhooth bolate hain vah log musalamaan apane svaarth ke lie yah sab baaten bana lie hain aisa koee bhee allaah bhagavaan granth aisa nahin bolata ki aap chaacha shaadiyaan keejie to doston aapako javaab achchhe lage to laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Ashok Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए Ashok जी का जवाब
कृषक👳💦
2:20
देखिए मुसलमानों को 4 साल में करने का ऐसा कोई फरमान अल्लाह ने जारी नहीं किया है दूसरी शादी करना इस्लाम के सच्चे कानून की आत्मा के खिलाफ है भारतीय मुसलमानों की यह आम समाज है कि भारत में मुसलमानों का कानून उन्हें चार पत्नियां रखने की इजाजत देता है यह गलत है बहुत से ऐसे मुस्लिम देश हैं जैसे तुर्की ट्यूनीशिया जहां पर बहुत सी शादियां करने पर प्रतिबंध है कुछ ऐसे देश हैं मिस्र सीरिया गार्डन जी राखी अमन मोरोको पाकिस्तान और बांग्लादेश में दूसरी शादी करना प्रशासन या अदालत के अधीन मानी गई है इस्लाम में विशेष स्थितियों में एक से अधिक शादी करने की इजाजत दी गई है जैसे विधवाओं की संख्या काफी बढ़ गई है और इससे समाज में बुराई फैलने का डर हो लेकिन कुछ विशेष परिस्थितियों में एक से अधिक शादी कर सकते और इस प्रकार हिंदुओं में भी एक से अधिक शादियां कर सकते हैं पुराने जमाने में राजा दशरथ के भी आने की चार रानियां थी ऐसी कथाएं मिलती हैं क्योंकि जो राजा महाराजा हैं वे उनकी जरूरतें पूरी कर देते हैं इस्लाम में भी एक से अधिक शादी की हाजत उसे ही दी गई है जो अपनी बीवियों के बीच इंसाफ और उनके अधिकार को पूरा कर सकता है लेकिन इस्लाम इस बात की इजाजत नहीं देता है कि जो चाहे वह यह सुविधा का इस्तेमाल करें एक से अधिक शादी करने की खुली छूट ना तो कुरान में ना हदीस में है बल्कि मुसलमान एक से अधिक बीवियां रखना अपनी पहचान समझते हैं जबकि मर्दानगी की सच्ची पहचान अच्छे काम करने से होती है धन्यवाद
Dekhie musalamaanon ko 4 saal mein karane ka aisa koee pharamaan allaah ne jaaree nahin kiya hai doosaree shaadee karana islaam ke sachche kaanoon kee aatma ke khilaaph hai bhaarateey musalamaanon kee yah aam samaaj hai ki bhaarat mein musalamaanon ka kaanoon unhen chaar patniyaan rakhane kee ijaajat deta hai yah galat hai bahut se aise muslim desh hain jaise turkee tyooneeshiya jahaan par bahut see shaadiyaan karane par pratibandh hai kuchh aise desh hain misr seeriya gaardan jee raakhee aman moroko paakistaan aur baanglaadesh mein doosaree shaadee karana prashaasan ya adaalat ke adheen maanee gaee hai islaam mein vishesh sthitiyon mein ek se adhik shaadee karane kee ijaajat dee gaee hai jaise vidhavaon kee sankhya kaaphee badh gaee hai aur isase samaaj mein buraee phailane ka dar ho lekin kuchh vishesh paristhitiyon mein ek se adhik shaadee kar sakate aur is prakaar hinduon mein bhee ek se adhik shaadiyaan kar sakate hain puraane jamaane mein raaja dasharath ke bhee aane kee chaar raaniyaan thee aisee kathaen milatee hain kyonki jo raaja mahaaraaja hain ve unakee jarooraten pooree kar dete hain islaam mein bhee ek se adhik shaadee kee haajat use hee dee gaee hai jo apanee beeviyon ke beech insaaph aur unake adhikaar ko poora kar sakata hai lekin islaam is baat kee ijaajat nahin deta hai ki jo chaahe vah yah suvidha ka istemaal karen ek se adhik shaadee karane kee khulee chhoot na to kuraan mein na hadees mein hai balki musalamaan ek se adhik beeviyaan rakhana apanee pahachaan samajhate hain jabaki mardaanagee kee sachchee pahachaan achchhe kaam karane se hotee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:49
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है ऐसा कुछ नहीं है सब कुछ आदमी ने अपने हिसाब से और स्वार्थ बस अब यही बना लिया और यह हमारे जो बड़े-बड़े धर्मावलंबी जाएं जो कट्टर बाप के समर्थक हैं वह अपने हिसाब से नियमों को तोड़ते में रोते रहते हैं हमेशा व्यवहार व्यवहारिक स्थितियों में ही कहा जा सकता है कि शादी जो है वह पूर्व जनों के प्रताप का ही पेड़ फल होता है ज्यादा अगर शादियां हो जाएंगे 4:00 शादी करेंगे तो उनके खाने-पीने की व्यवस्था कैसे होगी घर में कलह की स्थिति रहेगी तो ऐसा कुछ नहीं है लेकिन लोगों ने अपने मन से बना दिया है और इसको एक कानून का रूप दे दिया है
Kya sach mein musalamaanon ko chaar shaadee karane ke lie allaah ne pharamaan jaaree kiya hua hai aisa kuchh nahin hai sab kuchh aadamee ne apane hisaab se aur svaarth bas ab yahee bana liya aur yah hamaare jo bade-bade dharmaavalambee jaen jo kattar baap ke samarthak hain vah apane hisaab se niyamon ko todate mein rote rahate hain hamesha vyavahaar vyavahaarik sthitiyon mein hee kaha ja sakata hai ki shaadee jo hai vah poorv janon ke prataap ka hee ped phal hota hai jyaada agar shaadiyaan ho jaenge 4:00 shaadee karenge to unake khaane-peene kee vyavastha kaise hogee ghar mein kalah kee sthiti rahegee to aisa kuchh nahin hai lekin logon ne apane man se bana diya hai aur isako ek kaanoon ka roop de diya hai

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
1:17
क्या सजा मुसलमानों को चार शादी करने के लिए लाना फरमान जारी किया हुआ कहीं पर भी जिक्र नहीं सुना हुआ है और ना ही किस तरह का कोई है यह तो हमारे जो मुल्ला होते हैं जो मौलवी होते हैं और उनकी अपनी कई सुनाई भी बातें हो इस्लाम में ऐसा कहीं जिक्र तो नहीं है अगर हुआ भी होगा भाई मैंने इतना गूढ़ दिल नहीं किया है लेकिन अधिकतर जो माहौल भी होते हैं जो मस्जिदों में रहती हैं और जो और मुल्लाह होते हैं धर्म के नाम पर ही लोग बुलाते बहुत हैं और खासकर की कट्टरवादी लोग जोड़ो और आज के समय में मिला है कि समय में निश्चित तौर पर एक शादी मुश्किल है चार चार शादियां करके और करते भी हैं लोग क्योंकि हमारे यहां इस्लाम धर्म में प्रश्न का मामला है जो इंडिया के अंदर है और बड़ी मुश्किल से जो इसके अंदर तलाक की पड़ताल होगी इसके लिए कानून सेंट्रल घर में लाना आज भी इस तरह से हो रहा है निश्चित तौर पर ही दुर्भाग्यपूर्ण पहलू है
Kya saja musalamaanon ko chaar shaadee karane ke lie laana pharamaan jaaree kiya hua kaheen par bhee jikr nahin suna hua hai aur na hee kis tarah ka koee hai yah to hamaare jo mulla hote hain jo maulavee hote hain aur unakee apanee kaee sunaee bhee baaten ho islaam mein aisa kaheen jikr to nahin hai agar hua bhee hoga bhaee mainne itana goodh dil nahin kiya hai lekin adhikatar jo maahaul bhee hote hain jo masjidon mein rahatee hain aur jo aur mullaah hote hain dharm ke naam par hee log bulaate bahut hain aur khaasakar kee kattaravaadee log jodo aur aaj ke samay mein mila hai ki samay mein nishchit taur par ek shaadee mushkil hai chaar chaar shaadiyaan karake aur karate bhee hain log kyonki hamaare yahaan islaam dharm mein prashn ka maamala hai jo indiya ke andar hai aur badee mushkil se jo isake andar talaak kee padataal hogee isake lie kaanoon sentral ghar mein laana aaj bhee is tarah se ho raha hai nishchit taur par hee durbhaagyapoorn pahaloo hai

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
0:46
श्री कृष्ण बहुत ही कमाल का विष मुझे पहले से देखते हैं और उसका विस्तार पूर्वक कर देंगे कुछ तो किसी ने मुझे क्या सच में मुसलमानों को क्या शादी करने के लिए अल्लाह ने फतवा जारी किया हुआ है वैसा कुछ नहीं है अल्लाह ने नहीं हो जो राक्षस था उसने यह फरमान जारी किया हुआ है इसीलिए अल्लाह की कहने को मानते हैं कि उन्होंने कहा कि चार शादी करने का मन है ऐसा कुछ नहीं कि ज्यादा पैसा दिया करते हैं और बच्चे भी जाया करते हैं जबकि ऐसा कुछ नहीं कहा गया है मीट खाने को नहीं भेजने वाला है क्योंकि राक्षस ने यह कहा था कि बुर्का बरनाला ने कभी नहीं किया अभी अल्लाह का अल्लाह के बाद की बाद सूफी संत निकली थी उसके बाद ही वाले को राक्षसी कई बातों को फॉलो करते हैं
Shree krshn bahut hee kamaal ka vish mujhe pahale se dekhate hain aur usaka vistaar poorvak kar denge kuchh to kisee ne mujhe kya sach mein musalamaanon ko kya shaadee karane ke lie allaah ne phatava jaaree kiya hua hai vaisa kuchh nahin hai allaah ne nahin ho jo raakshas tha usane yah pharamaan jaaree kiya hua hai iseelie allaah kee kahane ko maanate hain ki unhonne kaha ki chaar shaadee karane ka man hai aisa kuchh nahin ki jyaada paisa diya karate hain aur bachche bhee jaaya karate hain jabaki aisa kuchh nahin kaha gaya hai meet khaane ko nahin bhejane vaala hai kyonki raakshas ne yah kaha tha ki burka baranaala ne kabhee nahin kiya abhee allaah ka allaah ke baad kee baad soophee sant nikalee thee usake baad hee vaale ko raakshasee kaee baaton ko pholo karate hain

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
5:56
क्या सच में मुसलमानों को क्या शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया था उस मुस्लिम धर्म ग्रंथों में नहीं आता है ऐसा लिखा हुआ नहीं चाहता है लेकिन वहां पर पड़ा था जो चली जल्दी आ रही थी वैसी थी कि एक से ज्यादा शादियां की जाती थी सऊदी अरब और आसपास के ऊपर बहुत सारी पुलिया हुआ करती थी आप असलम के बहुत सारे सारी लड़ाइयां आंखें खराब होता था उसमें बहुत ज्यादा मर जाते हो गई इसके कारण पुरुषों की संख्या कम हो गई थी और औषधियों की संख्या ज्यादा हो गई थी तुझे बच्चों के पूछ होते थे वह एक से ज्यादा सैया करते थे लेकिन शादी करते थे उसको इसकी तुलना में हमारी जो राम के बाबा संदर्भ में कहा जाता है कि हमें कुछ नहीं एक बनिया और एक पत्नी का व्रत धारण करने वाले एक आदर्श पुरुष धर्म का देश तो है की एक ही पत्नी पर एक मैसेज प्राप्त से मिलता है लेकिन धर्म का आदेश होने के बावजूद भी हमारे समाज के लोग शादी तो एक करते लेकिन कुछ लोग ज्यादा कितना प्यार हो सकता है रखते थे और इसका कोई धार्मिक आज भी ज्यादा शादियां करती है आधा करके बहुत कम लोग होते हैं जिनके पत्नी चाहे मर जाती है उसे कार में होता है लेकिन दूसरी को से संबंध रखता है उसको पत्नी का दर्जा नहीं देता यह महत्वपूर्ण बातें और मुसलमानों में उसे शादी की जाती है सबके सामने दो पत्नियां कहलाती है रखी गई जाते सामाजिक सम्मान सम्मान मिलता है और हमारे समाज में रखे लियोन को मान सम्मान नहीं मिलता उसकी निंदा की जाती है तो यह पक्ष में है कमेटी की तरफ से हर धर्म की रक्षा करनी चाहिए रहना अच्छी बात नहीं होती है इससे आगे जाकर बड़े प्रणब होता उसका गरीब संभाल भी किया जा सकता है लाखों लोग मर सकते हैं किसी एक व्यक्ति के करंट के संदर्भ में असलियत तो है और हमारे भारत के एक नेता कितनी बीवियां थी और कितने बच्चे थे तो यह देखकर एक काम भी बनाया गया है 2 से ज्यादा बच्चे हैं तो वह इलेक्शन में खड़ा नहीं रह सकता तो ऐसी बातें बातें लेकिन नर्सरी ग्रुप से दूर है उसका नियम जेएक्सटी के लिए एक पत्नी रखा है क्योंकि दुनिया में हर समाज में पूजा उसी का प्रमाण जो रहता है वह आधार दर 50% के आसपास ही रहता है यह कैसे रखा जाता है कौन रखता है यह बहुत मुश्किल प्रतीत होती है एक पत्नी बनना न करना
Kya sach mein musalamaanon ko kya shaadee karane ke lie allaah ne pharamaan jaaree kiya tha us muslim dharm granthon mein nahin aata hai aisa likha hua nahin chaahata hai lekin vahaan par pada tha jo chalee jaldee aa rahee thee vaisee thee ki ek se jyaada shaadiyaan kee jaatee thee saoodee arab aur aasapaas ke oopar bahut saaree puliya hua karatee thee aap asalam ke bahut saare saaree ladaiyaan aankhen kharaab hota tha usamen bahut jyaada mar jaate ho gaee isake kaaran purushon kee sankhya kam ho gaee thee aur aushadhiyon kee sankhya jyaada ho gaee thee tujhe bachchon ke poochh hote the vah ek se jyaada saiya karate the lekin shaadee karate the usako isakee tulana mein hamaaree jo raam ke baaba sandarbh mein kaha jaata hai ki hamen kuchh nahin ek baniya aur ek patnee ka vrat dhaaran karane vaale ek aadarsh purush dharm ka desh to hai kee ek hee patnee par ek maisej praapt se milata hai lekin dharm ka aadesh hone ke baavajood bhee hamaare samaaj ke log shaadee to ek karate lekin kuchh log jyaada kitana pyaar ho sakata hai rakhate the aur isaka koee dhaarmik aaj bhee jyaada shaadiyaan karatee hai aadha karake bahut kam log hote hain jinake patnee chaahe mar jaatee hai use kaar mein hota hai lekin doosaree ko se sambandh rakhata hai usako patnee ka darja nahin deta yah mahatvapoorn baaten aur musalamaanon mein use shaadee kee jaatee hai sabake saamane do patniyaan kahalaatee hai rakhee gaee jaate saamaajik sammaan sammaan milata hai aur hamaare samaaj mein rakhe liyon ko maan sammaan nahin milata usakee ninda kee jaatee hai to yah paksh mein hai kametee kee taraph se har dharm kee raksha karanee chaahie rahana achchhee baat nahin hotee hai isase aage jaakar bade pranab hota usaka gareeb sambhaal bhee kiya ja sakata hai laakhon log mar sakate hain kisee ek vyakti ke karant ke sandarbh mein asaliyat to hai aur hamaare bhaarat ke ek neta kitanee beeviyaan thee aur kitane bachche the to yah dekhakar ek kaam bhee banaaya gaya hai 2 se jyaada bachche hain to vah ilekshan mein khada nahin rah sakata to aisee baaten baaten lekin narsaree grup se door hai usaka niyam jeeksatee ke lie ek patnee rakha hai kyonki duniya mein har samaaj mein pooja usee ka pramaan jo rahata hai vah aadhaar dar 50% ke aasapaas hee rahata hai yah kaise rakha jaata hai kaun rakhata hai yah bahut mushkil prateet hotee hai ek patnee banana na karana

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:38
शादी करने के लिए फरमान जारी किया है तू क्या हम नियमों का पालन करते हैं ऐसे होते हैं उसी प्रकार को सम्मान देना चाहिए माय मनी सबके लिए अच्छे विचार होनी चाहिए सब और सबके लिए प्रेम होना चाहिए और वह सब की अपना मर्जी होती है सब का तरीका अलग होता को दोषी नहीं ठहरा सकते या फिर उन्हें ऐसा कुछ भी सोचते हैं कि भगवान को बनाया जो विचार विचार विचार होते हैं आप कभी भी किसी भी मतभेद नहीं करना चाहिए और आपस में प्रेम रखना चाहिए हमारे विचार अच्छे होने चाहिए अच्छी बातें होती है करनी होती है तो मैं सवाल का जवाब पसंद आएगा आप लोग खुश रहो सुपरहिट
Shaadee karane ke lie pharamaan jaaree kiya hai too kya ham niyamon ka paalan karate hain aise hote hain usee prakaar ko sammaan dena chaahie maay manee sabake lie achchhe vichaar honee chaahie sab aur sabake lie prem hona chaahie aur vah sab kee apana marjee hotee hai sab ka tareeka alag hota ko doshee nahin thahara sakate ya phir unhen aisa kuchh bhee sochate hain ki bhagavaan ko banaaya jo vichaar vichaar vichaar hote hain aap kabhee bhee kisee bhee matabhed nahin karana chaahie aur aapas mein prem rakhana chaahie hamaare vichaar achchhe hone chaahie achchhee baaten hotee hai karanee hotee hai to main savaal ka javaab pasand aaega aap log khush raho suparahit

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Mohitrajput Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohitrajput जी का जवाब
Unknown
0:37
मुसलमानों को चार शादी करने के लिए इजाजत है कि नहीं बोलना नहीं जारी किया फरमान जारी कौन करता है मुसलमान भी होते हैं तब की बात होती है चार की मान्यता तो यार पुराने जमाने में होता था कि मुसलमान सौ सौ बीघे रखते थे पर इस जमाने में नहीं हो सकता और कहीं नहीं जो हम ही है उसको ही रख सकता है ऐसी ऐसी
Musalamaanon ko chaar shaadee karane ke lie ijaajat hai ki nahin bolana nahin jaaree kiya pharamaan jaaree kaun karata hai musalamaan bhee hote hain tab kee baat hotee hai chaar kee maanyata to yaar puraane jamaane mein hota tha ki musalamaan sau sau beeghe rakhate the par is jamaane mein nahin ho sakata aur kaheen nahin jo ham hee hai usako hee rakh sakata hai aisee aisee

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Nidhi Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Nidhi जी का जवाब
Unknown
2:37
जैसे की कोशिश किया गया है कि क्या सच में मुसलमानों को चार शादियां करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया वह तो पता नहीं आई एम नॉट सुरे अबाउट इट बट मैं अपने हिसाब से बता सकती हूं जैसे कि आप पर न्यूज़पेपर पढ़ो या फिर कोई या फिर जब डाटा रिलीज होता है तो वह पढ़ोगे तो आपको यह पता चलता है कि जो सेक्स रेश्यो है वह फीमेल का काम में कंपेयर मैन के हिसाब से जब रेट कम है जब एक लड़के को एक लड़की नहीं मिल रही है एक लड़के को कहां से चार लड़की मुंह सकती अगर डाटा के हिसाब से अगर आप देखोगे तो हर इंसान को मतलब देखोगे तो लड़का ही से लड़की किसी को नहीं किया और हर लड़के को चार का मतलब अगर ऐसा देखा गया कि चार बीवी तो कैसे पॉसिबल एक लड़के को तो एक शादी हो ही नहीं पा रही है तो एक लड़के को 435 हां से होगी और यह इल्लीगल भी क्योंकि देखिए एक पत्नी के जिंदा रहते हुए अगर लॉ के हिसाब से देखा जाए तो लोग दूसरी शादी नहीं करना अगर नहीं करेंगे क्योंकि अगर वह करता है अगर वह जो पहली शादी किया हुआ तो वह केस कर देगी तो फिर क्या होगा कि वह वह इंसान को सजा हो सकती है तो मेरे हिसाब से तो ऐसा नहीं है और यह इलीगल भी है क्योंकि यह गलत भी है क्योंकि एक इंसान को एक ही मतलब मतलब देखिए अगर वह सेक्स रेश्यो के हिसाब से देखो तो यह लेकर मानते थे कि जो पहले के जैसे एनसीईआरटी में यह सब होता था कि जो राजा राजा थे वह बहुत सारी रानियां रानियां से शादी करते थे तो वह कुछ बात अलग थी उस धर्म उतना रूल रेगुलेशन नहीं था क्योंकि राजा खुद रूल रेगुलेशन बनाता था लेकिन इस फंडामेंटल राइट है हर इंसान का जो कोई बात नहीं कर सकता है इंसान को हक है कि वह जाकर सुप्रीम कोर्ट या हाई कोर्ट जाकर अपना फंडामेंटल राइट के मतलब हिसाब से केस कर सकता या कुछ और ही कर दिया तुम मेरे साथ ऐसे तो गलत है और ऐसा होना भी नहीं चाहिए क्योंकि एक इंसान के लिए तो कहां से करेगा और चार शादियां करेगा तो उन चार लड़कों का क्या होगा जो पहले से ही मतलब जो रेश्यो में काम है मतलब लड़कियां खुशियों में हमें तो यह गलियां और गलत थैंक यू
Jaise kee koshish kiya gaya hai ki kya sach mein musalamaanon ko chaar shaadiyaan karane ke lie allaah ne pharamaan jaaree kiya vah to pata nahin aaee em not sure abaut it bat main apane hisaab se bata sakatee hoon jaise ki aap par nyoozapepar padho ya phir koee ya phir jab daata rileej hota hai to vah padhoge to aapako yah pata chalata hai ki jo seks reshyo hai vah pheemel ka kaam mein kampeyar main ke hisaab se jab ret kam hai jab ek ladake ko ek ladakee nahin mil rahee hai ek ladake ko kahaan se chaar ladakee munh sakatee agar daata ke hisaab se agar aap dekhoge to har insaan ko matalab dekhoge to ladaka hee se ladakee kisee ko nahin kiya aur har ladake ko chaar ka matalab agar aisa dekha gaya ki chaar beevee to kaise posibal ek ladake ko to ek shaadee ho hee nahin pa rahee hai to ek ladake ko 435 haan se hogee aur yah illeegal bhee kyonki dekhie ek patnee ke jinda rahate hue agar lo ke hisaab se dekha jae to log doosaree shaadee nahin karana agar nahin karenge kyonki agar vah karata hai agar vah jo pahalee shaadee kiya hua to vah kes kar degee to phir kya hoga ki vah vah insaan ko saja ho sakatee hai to mere hisaab se to aisa nahin hai aur yah ileegal bhee hai kyonki yah galat bhee hai kyonki ek insaan ko ek hee matalab matalab dekhie agar vah seks reshyo ke hisaab se dekho to yah lekar maanate the ki jo pahale ke jaise enaseeeeaaratee mein yah sab hota tha ki jo raaja raaja the vah bahut saaree raaniyaan raaniyaan se shaadee karate the to vah kuchh baat alag thee us dharm utana rool reguleshan nahin tha kyonki raaja khud rool reguleshan banaata tha lekin is phandaamental rait hai har insaan ka jo koee baat nahin kar sakata hai insaan ko hak hai ki vah jaakar supreem kort ya haee kort jaakar apana phandaamental rait ke matalab hisaab se kes kar sakata ya kuchh aur hee kar diya tum mere saath aise to galat hai aur aisa hona bhee nahin chaahie kyonki ek insaan ke lie to kahaan se karega aur chaar shaadiyaan karega to un chaar ladakon ka kya hoga jo pahale se hee matalab jo reshyo mein kaam hai matalab ladakiyaan khushiyon mein hamen to yah galiyaan aur galat thaink yoo

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Ŝhøũrÿå Shourya Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ŝhøũrÿå जी का जवाब
Unknown
0:29
जब भगवान है यह धरती बनाई थी पृथ्वी बनाई थी यह संसार बनाया था यहां पर किसी भी इंसान को जाती देकर नहीं रहता था लोग सभी एक जैसे थे हिंदू मुस्लिम सिख इसाई कोई जाति नहीं थी सभी एक जैसे थे आदिमानव जैसे फिर यह कैसे तय हो गया कि मुसलमानों को अल्लाह ने 4 साल की इजाजत दे दी एक बार जरूर सोचिए
Jab bhagavaan hai yah dharatee banaee thee prthvee banaee thee yah sansaar banaaya tha yahaan par kisee bhee insaan ko jaatee dekar nahin rahata tha log sabhee ek jaise the hindoo muslim sikh isaee koee jaati nahin thee sabhee ek jaise the aadimaanav jaise phir yah kaise tay ho gaya ki musalamaanon ko allaah ne 4 saal kee ijaajat de dee ek baar jaroor sochie

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Laxmi devi sant Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Laxmi जी का जवाब
Life coach
2:57
सच में मुसलमानों पूछा शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है तो ऑडियो मैसेज इतना ही कहूंगी कि मैंने जब अपनी लाइफ में यह सर्च करना शुरू किया कि धर्म हिंदू मुस्लिम सिख इसाई ऐसे धर्म क्यों है तब मुझे समझ में आया कि धर्म है नहीं इन्हें धर्म बना दिया गया है जिसे गौतम गौतम बुध का कोई धर्म नहीं था वह एक सुमन थी उन्होंने बहुत ही ज्यादा अपने ऊपर कार्य किया उन्होंने जाने कोशिश की कि सुख क्या है हमें सुख कहां से मिली सारी चीजों को की प्राप्ति उन्होंने की जागृति अवस्था में वह सब लोगों ने क्या किया उसे बौद्ध धर्म का नाम था ठीक है लेकिन वह धर्म से उन्हीं जोड़ दिया गया तो यहां यही बात है कि अल्लाह भी अगर जन्म फ्री होंगे तो नहीं भी धर्म से जोड़ दिया गया जीसस जन्म लिया कुछ एनर्जी उनके पास तो मैंने भी बहुत कुछ फेमस किया उन्हें भी धर्म से जोड़ दिया वाहेगुरु उन्होंने बहुत अच्छा काम किया उन्होंने भी बहुत कुछ सिखाया उन्हें भी धर्म से जोड़ दिया गया अब शायद भगवान उन्होंने भी बहुत कुछ सिखाया उन्होंने भी अपनी लाइफ में यहां आकर बहुत कुछ सीखा एक्सपीरियंस किया तूने भी धर्म से जोड़ दिया गया कि साईं भगवान मुस्लिम है हिंदू नहीं है ऐसे ऐसे करके ठीक है लेकिन उसकी तब यह समझ में आया कि सारी कोई धर्म नहीं है यह ईश्वर तक पहुंचने का एक रास्ता है ईश्वर कहां है यह हमारे ही अंदर है हम भूल नहीं पा रहे हैं हमें लग रहा है कि ईश्वर मुस्लिम लोगों के पास है हिंदू लोगों के साथ से 1 लोगों के पास है ईसाई लोगों के पास जी नहीं कि सभी हुमन थी इन्होंने अपनी लाइफ में एक्सपीरियंस लेने के लिए यहां जन्मे थे बहुत कुछ सीखने के लिए बहुत कुछ अच्छा चीज अर्थ के लिए आए थे इस अर्थ में कुछ अच्छा हो इसमें कुछ बुराई चल रही हो तो अच्छा ही हो है कि नहीं सारे लोग अपनी अपनी कर्म करने आए थे अपने अपने कर्मों को क्लीन भी करने आए थे कुछ सीखने भी आए थे इस अर्थ किशन बढ़ाने आई थी जो लोगों ने इन्हीं धर्म से जोड़ दिया गया जैसे राधा कृष्ण राधा कृष्ण यह क्या था राधा कृष्ण की कहानी तो ठीक राधा और कृष्ण का कार्य किया था तीन समझाने आए थे और राधा अर्थात धारा उलझा करोगे तुम हमारे अंदर ही बहता है धारा की तरह ही समझाने आई थी तो बहुत लोगों को कंफ्यूजन हो गया है कि धर्म बहुत इंपॉर्टेंट है ऐसा कुछ भी नहीं है यह ईश्वर तक पहुंचने का मात्र एक रास्ता
Sach mein musalamaanon poochha shaadee karane ke lie allaah ne pharamaan jaaree kiya hua hai to odiyo maisej itana hee kahoongee ki mainne jab apanee laiph mein yah sarch karana shuroo kiya ki dharm hindoo muslim sikh isaee aise dharm kyon hai tab mujhe samajh mein aaya ki dharm hai nahin inhen dharm bana diya gaya hai jise gautam gautam budh ka koee dharm nahin tha vah ek suman thee unhonne bahut hee jyaada apane oopar kaary kiya unhonne jaane koshish kee ki sukh kya hai hamen sukh kahaan se milee saaree cheejon ko kee praapti unhonne kee jaagrti avastha mein vah sab logon ne kya kiya use bauddh dharm ka naam tha theek hai lekin vah dharm se unheen jod diya gaya to yahaan yahee baat hai ki allaah bhee agar janm phree honge to nahin bhee dharm se jod diya gaya jeesas janm liya kuchh enarjee unake paas to mainne bhee bahut kuchh phemas kiya unhen bhee dharm se jod diya vaaheguru unhonne bahut achchha kaam kiya unhonne bhee bahut kuchh sikhaaya unhen bhee dharm se jod diya gaya ab shaayad bhagavaan unhonne bhee bahut kuchh sikhaaya unhonne bhee apanee laiph mein yahaan aakar bahut kuchh seekha eksapeeriyans kiya toone bhee dharm se jod diya gaya ki saeen bhagavaan muslim hai hindoo nahin hai aise aise karake theek hai lekin usakee tab yah samajh mein aaya ki saaree koee dharm nahin hai yah eeshvar tak pahunchane ka ek raasta hai eeshvar kahaan hai yah hamaare hee andar hai ham bhool nahin pa rahe hain hamen lag raha hai ki eeshvar muslim logon ke paas hai hindoo logon ke saath se 1 logon ke paas hai eesaee logon ke paas jee nahin ki sabhee human thee inhonne apanee laiph mein eksapeeriyans lene ke lie yahaan janme the bahut kuchh seekhane ke lie bahut kuchh achchha cheej arth ke lie aae the is arth mein kuchh achchha ho isamen kuchh buraee chal rahee ho to achchha hee ho hai ki nahin saare log apanee apanee karm karane aae the apane apane karmon ko kleen bhee karane aae the kuchh seekhane bhee aae the is arth kishan badhaane aaee thee jo logon ne inheen dharm se jod diya gaya jaise raadha krshn raadha krshn yah kya tha raadha krshn kee kahaanee to theek raadha aur krshn ka kaary kiya tha teen samajhaane aae the aur raadha arthaat dhaara ulajha karoge tum hamaare andar hee bahata hai dhaara kee tarah hee samajhaane aaee thee to bahut logon ko kamphyoojan ho gaya hai ki dharm bahut importent hai aisa kuchh bhee nahin hai yah eeshvar tak pahunchane ka maatr ek raasta

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Ramvriksh Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Ramvriksh जी का जवाब
CivilEngineer
1:52
मित्रों नमस्कार बोलकर परिवार के सभी सदस्यों को दीवानों को परिजनों को नमस्कार मित्रों एक प्रश्न है क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अलार्म पर मंजूरी के बाद एक मुसलमान को क्या बताएं आपको जितनी दोगली कौन है यह अपने नियम कानून बनाकर भगवान परसों देते हैं भगवान को क्या पड़ी है कि फरमान जारी करेगा चार शादी मुसलमान के लिए उसने सबको बराबर बनाया मुसलमान हिंदू और यहां पर वर्गीकरण तो हम लोगों ने किया कि इतनी खराब है कि यह अपना नियम बना रहे हैं बताते हैं क्या शादी करने के लिए काम यह करते हैं सारा गंदा गंदा काम करते हैं चार चार औरतों का ही मजा लेंगे और उसकी जिंदगी बर्बाद करेंगे यह फरमान ऐसा चाहिए ईश्वर जारी कर सकता है अल्लाह जारी कर सकता है यह सब बनावटी बातें हैं फालतू चीजें विवाह याद पल्ला कतई भगवान जो है फरमान जारी नहीं कर सकता है कि कल शादी करो और चारों की जिंदगी बराबर में बर्बाद करो तो अच्छा है कि मोदी ने माननीय मोदी भारत के प्रधानमंत्री ने इस आदेश तीन तलाक तलाक कर दिया है नहीं तो इस तब तो 3 की चार क्या यह सब 2020 10 10 शादियां करते थे अब इस बीच बच्चे के लिए कि भगवान ने जारी किया है अल्लाह ने सठिया लव क्या पर यह सब गलत बात है अभी सब बनावटी है और यह विनम्र बनाए हैं पाल रखते हैं गलत चीजों को सर देते हैं तो यही स्थिति इनका चरित्र है जो बहुत गलत है
Mitron namaskaar bolakar parivaar ke sabhee sadasyon ko deevaanon ko parijanon ko namaskaar mitron ek prashn hai kya sach mein musalamaanon ko chaar shaadee karane ke lie alaarm par manjooree ke baad ek musalamaan ko kya bataen aapako jitanee dogalee kaun hai yah apane niyam kaanoon banaakar bhagavaan parason dete hain bhagavaan ko kya padee hai ki pharamaan jaaree karega chaar shaadee musalamaan ke lie usane sabako baraabar banaaya musalamaan hindoo aur yahaan par vargeekaran to ham logon ne kiya ki itanee kharaab hai ki yah apana niyam bana rahe hain bataate hain kya shaadee karane ke lie kaam yah karate hain saara ganda ganda kaam karate hain chaar chaar auraton ka hee maja lenge aur usakee jindagee barbaad karenge yah pharamaan aisa chaahie eeshvar jaaree kar sakata hai allaah jaaree kar sakata hai yah sab banaavatee baaten hain phaalatoo cheejen vivaah yaad palla katee bhagavaan jo hai pharamaan jaaree nahin kar sakata hai ki kal shaadee karo aur chaaron kee jindagee baraabar mein barbaad karo to achchha hai ki modee ne maananeey modee bhaarat ke pradhaanamantree ne is aadesh teen talaak talaak kar diya hai nahin to is tab to 3 kee chaar kya yah sab 2020 10 10 shaadiyaan karate the ab is beech bachche ke lie ki bhagavaan ne jaaree kiya hai allaah ne sathiya lav kya par yah sab galat baat hai abhee sab banaavatee hai aur yah vinamr banae hain paal rakhate hain galat cheejon ko sar dete hain to yahee sthiti inaka charitr hai jo bahut galat hai

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Abdul_Ahad  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Abdul_Ahad जी का जवाब
Unknown
1:28
मेरे दोस्त यहां जो आप ने सवाल पूछा है कि क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है तो एक बात बताएं कि भाई यहां पर फरमान जारी होता तो वह चिल्लाती मचाती की करना ही करना है ठीक है यानी कि वह फ्रिज के अंदर शुमार हो जाती जिससे नमाज तो ना मानस का फरमान है और नमाज को हर मुसलमान को करना ही करना है लेकिन शादी के लिए ऐसा कोई अनुबंध नहीं है कि आपको करना ही करना है सच्चा शादी का अनुभव नहीं यहां पर यह चीज जरूर है कि आपके अंदर यदि इस तथा अर्थ है रिश्तेदार से मतलब है कि अगर आप तो 1 को भी सेटिस्फाई रखते हैं हर चीज से मदद धन से तन से मन से हर तरफ से आप दे रहे हैं और फिर भी आपको आपके पास में सुख और ज्यादा उम्र रहा है आप और लेना चाहते हैं तो पहली वाली से इजाजत देने के बाद में आप दूसरी वाली से अब तीसरी और चौथी से भी शादी कर सकते हैं आपको बता दें कि नहीं है नहीं कहीं से कोई आर्डर है लेकिन सुन्नत के मुताबिक ही चीज घर जाते लेकिन यह भी कंडीशन में लागू होती है कि पहली वाली को दूसरी वाली कुत्ते वाली को सबको हर तरफ से आपको सेटिस्फाई रखना लाल जी थैंक यू
Mere dost yahaan jo aap ne savaal poochha hai ki kya sach mein musalamaanon ko chaar shaadee karane ke lie allaah ne pharamaan jaaree kiya hua hai to ek baat bataen ki bhaee yahaan par pharamaan jaaree hota to vah chillaatee machaatee kee karana hee karana hai theek hai yaanee ki vah phrij ke andar shumaar ho jaatee jisase namaaj to na maanas ka pharamaan hai aur namaaj ko har musalamaan ko karana hee karana hai lekin shaadee ke lie aisa koee anubandh nahin hai ki aapako karana hee karana hai sachcha shaadee ka anubhav nahin yahaan par yah cheej jaroor hai ki aapake andar yadi is tatha arth hai rishtedaar se matalab hai ki agar aap to 1 ko bhee setisphaee rakhate hain har cheej se madad dhan se tan se man se har taraph se aap de rahe hain aur phir bhee aapako aapake paas mein sukh aur jyaada umr raha hai aap aur lena chaahate hain to pahalee vaalee se ijaajat dene ke baad mein aap doosaree vaalee se ab teesaree aur chauthee se bhee shaadee kar sakate hain aapako bata den ki nahin hai nahin kaheen se koee aardar hai lekin sunnat ke mutaabik hee cheej ghar jaate lekin yah bhee kandeeshan mein laagoo hotee hai ki pahalee vaalee ko doosaree vaalee kutte vaalee ko sabako har taraph se aapako setisphaee rakhana laal jee thaink yoo

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
Gulab Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gulab जी का जवाब
Student
1:30

bolkar speaker
क्या सच में मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है?Kya Sach Mein Musalmaanon Ko Chaar Shadi Karne Ke Lie Allaah Ne Farman Jaari Kiya Hua Hai
mukesh kushwaha Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए mukesh जी का जवाब
None
1:14

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह ने फरमान जारी किया हुआ है, मुसलमानों को चार शादी करने के लिए अल्लाह का फरमान
URL copied to clipboard