#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?

Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:50
तो आज आप का सवाल है कि ब्रांड कपड़ों और निर्धारण कपड़ों में क्या अंतर होता है तो देखी जो भी ब्रांडेड कपड़ा होता है उसे पहनने से बहुत ही कंफर्टेबल ब्रांडेड कपड़े का है वह बहुत ही अच्छा होता है यह नहीं है कि उस कपड़े का मतलब कलर निकल जाए या फिर वह कपड़ा मोहंती कमजोर हो जाए या फिर ढूंढने में इधर-उधर रंग मिल जाए या फिर धागा जिस तरह से भी कहीं से भी फट जाए थोड़ा भी लगे ऐसा नहीं होता है ब्रांडेड कपड़ा में जंडली और जो ब्रांडेड कपड़ा नहीं होता देखेगा ही वह बहुत सस्ता भी होता है और उसके जो है वह जल्दी सोने के चैन से सोते हैं पहनने से भी आपको खुजली या फिर ऐसे ट्रांसफर या फिर इतना आपको कंफर्टेबल नहीं लगता है जो हमको ब्रांडेड कपड़ा में पहनने में लगता है तो डिफरेंट नॉन ब्रांडेड कपड़ों में
To aaj aap ka savaal hai ki braand kapadon aur nirdhaaran kapadon mein kya antar hota hai to dekhee jo bhee braanded kapada hota hai use pahanane se bahut hee kamphartebal braanded kapade ka hai vah bahut hee achchha hota hai yah nahin hai ki us kapade ka matalab kalar nikal jae ya phir vah kapada mohantee kamajor ho jae ya phir dhoondhane mein idhar-udhar rang mil jae ya phir dhaaga jis tarah se bhee kaheen se bhee phat jae thoda bhee lage aisa nahin hota hai braanded kapada mein jandalee aur jo braanded kapada nahin hota dekhega hee vah bahut sasta bhee hota hai aur usake jo hai vah jaldee sone ke chain se sote hain pahanane se bhee aapako khujalee ya phir aise traansaphar ya phir itana aapako kamphartebal nahin lagata hai jo hamako braanded kapada mein pahanane mein lagata hai to dipharent non braanded kapadon mein

और जवाब सुनें

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:06
नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है इमरान कपड़ों और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर है ब्रांडेड कपड़े होते हैं जो बड़ी-बड़ी नामी कंपनियों के माध्यम से उनका मार्ग का का इस्तेमाल किया जाता है जो उनके बड़े-बड़े स्वयं के माध्यम से हम शॉपिंग करते हैं और साधारण कपड़े वह होते हैं जो हमारे पैरों के माध्यम से गांव में या सीटीओ में उनके कपड़ों के माध्यम से चलाया जाता है वह साधारण कपड़े होते हैं जो छोटे-छोटे मार्केट में और मृतक दुकानों में हमें कपड़े जाते हैं इसलिए साधारण कपड़े और ब्रांडेड कपड़े में फर्क होता है क्योंकि हमारे ज्यादातर ब्रांडेड कपड़े बड़े बड़े शोरूम मिलते हैं उनके खुद के शोरूम होते हैं धन्यवाद और तो खुश रहो
Namaskaar doston aapaka svaagat hai imaraan kapadon aur saadhaaran kapadon mein kya antar hota hai to doston aapake savaal ka uttar hai braanded kapade hote hain jo badee-badee naamee kampaniyon ke maadhyam se unaka maarg ka ka istemaal kiya jaata hai jo unake bade-bade svayan ke maadhyam se ham shoping karate hain aur saadhaaran kapade vah hote hain jo hamaare pairon ke maadhyam se gaanv mein ya seeteeo mein unake kapadon ke maadhyam se chalaaya jaata hai vah saadhaaran kapade hote hain jo chhote-chhote maarket mein aur mrtak dukaanon mein hamen kapade jaate hain isalie saadhaaran kapade aur braanded kapade mein phark hota hai kyonki hamaare jyaadaatar braanded kapade bade bade shoroom milate hain unake khud ke shoroom hote hain dhanyavaad aur to khush raho

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
0:22
ग्राम कपड़े उसका गाना कपड़ों के बीच में अंतर यही है कि ब्रांड कपड़ों की कीमत को ज्यादा होते हैं साधारण कपड़ों की मौत परिजनों ने चुनाव रुझान कपड़ों को ज्यादा बड़े बड़े लोग इतना पसंद करते हैं लेकिन साधारण कपड़ों को कहां मिले थे मिडल क्लास फैमिली को निकली भर के लोग ज्यादा खरीदने पसंद करें
Graam kapade usaka gaana kapadon ke beech mein antar yahee hai ki braand kapadon kee keemat ko jyaada hote hain saadhaaran kapadon kee maut parijanon ne chunaav rujhaan kapadon ko jyaada bade bade log itana pasand karate hain lekin saadhaaran kapadon ko kahaan mile the midal klaas phaimilee ko nikalee bhar ke log jyaada khareedane pasand karen

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Nav kishor Aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nav जी का जवाब
Service
1:14
हेलो आप का सवाल है कि ब्रांड कपड़ों और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है ब्रांड कपड़े और साधारण कपड़ों में काफी सारा फर्क होता है ब्रांडेड कपड़े होते हैं वह थोड़ा सा वैरायटी के बने होते कपड़ा अच्छा होता है उस वह अच्छे धागे से सिले होते हैं उसमें अच्छे बटन घटा लगाए जाते हैं उसमें अच्छे कारीगरी का मिश्रण होता है और इसके अलावा वह जिस कंपनी के द्वारा बेचे जाते हैं वह एक ब्रांडेड कंपनी होती है अगर कपड़ों में कोई भी दिक्कत परेशानी आती है या मतलब कपड़े में कोई भी खराबी आ जाती है रंग छोड़ देते हैं या वह फट जाते हैं तो वह कंपनी की जिम्मेदारी होती है वह कंपनी आपको वह कपड़ा बदल कर देंगे या उसका मूल्य आपसे वापस करेगी तो यह चीज फर्क होता है साधारण कपड़ों में ऐसा कुछ नहीं होता साधारण कपड़े तो साधारण नहीं होता और ज्यादा महंगे भी नहीं होते सस्ते मिल जाते हैं और दूसरा क्या कि वह ना ही बढ़िया धागे से से लौटे ना ही उसमें अच्छे मटेरियल का इस्तेमाल किया जाता है और ले भी साधारण तौर पर ही होते हैं और कहीं भी मिल जाए किसी भी शॉप पर मिल जाएंगे जो कि ब्रांडेड कपड़े जो होते हैं वह अपने ब्रांड के स्टोर में ही मिलेंगे या फिर किसी अच्छे ब्रांडेड मॉल में मिलेंगे और उसके अलावा महंगे भी होते हैं तो यह फर्क होता है ब्रांडेड और साधारण को धन्यवाद
Helo aap ka savaal hai ki braand kapadon aur saadhaaran kapadon mein kya antar hota hai braand kapade aur saadhaaran kapadon mein kaaphee saara phark hota hai braanded kapade hote hain vah thoda sa vairaayatee ke bane hote kapada achchha hota hai us vah achchhe dhaage se sile hote hain usamen achchhe batan ghata lagae jaate hain usamen achchhe kaareegaree ka mishran hota hai aur isake alaava vah jis kampanee ke dvaara beche jaate hain vah ek braanded kampanee hotee hai agar kapadon mein koee bhee dikkat pareshaanee aatee hai ya matalab kapade mein koee bhee kharaabee aa jaatee hai rang chhod dete hain ya vah phat jaate hain to vah kampanee kee jimmedaaree hotee hai vah kampanee aapako vah kapada badal kar denge ya usaka mooly aapase vaapas karegee to yah cheej phark hota hai saadhaaran kapadon mein aisa kuchh nahin hota saadhaaran kapade to saadhaaran nahin hota aur jyaada mahange bhee nahin hote saste mil jaate hain aur doosara kya ki vah na hee badhiya dhaage se se laute na hee usamen achchhe materiyal ka istemaal kiya jaata hai aur le bhee saadhaaran taur par hee hote hain aur kaheen bhee mil jae kisee bhee shop par mil jaenge jo ki braanded kapade jo hote hain vah apane braand ke stor mein hee milenge ya phir kisee achchhe braanded mol mein milenge aur usake alaava mahange bhee hote hain to yah phark hota hai braanded aur saadhaaran ko dhanyavaad

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:57
कव्वाली है कि ब्रांडेड कपड़ों और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है तो ब्रांडेड कपड़ों की पहचान करने का सबसे आसान तरीका है कि आप उस कपड़े की सिलाई देखें ब्रांडेड कपड़ों की सिलाई सीधी और नीट होती है साथ ही सिलाई हर स्थान से बराबर मजबूत और एक जैसी होती है अगर कपड़ा थोड़ा मोटा होगा तो उसमें डबल सिलाई सिलाई होगी साथी धागे के कलर आदि पर भी ध्यान दिया जाता है ब्रांडेड कपड़ों की पहचान करने का तरीका है कि आप उसके एसेसरीज को ध्यान से देखें जैसे अगर आप जींस और शर्ट खरीद रहे हैं तो उसमें लगे बटन आदि का ध्यान आदि को ध्यान से देखें ब्रांडेड कपड़ों में यह सामान बहुत ही अच्छी क्वालिटी के लगाए जाते हैं जिनकी पहचान आप देखकर ही लगा सकते हैं इसलिए आप कपड़ों की एसेसरीज को ध्यान से देखने के बाद ही कपड़े खरीदें जब भी हम ब्रांडेड कपड़े लेते हैं तो उसके लिए नहीं बहुत अच्छी होती है या नहीं कब के अंदर लगाया गया कपड़ा अच्छी क्वालिटी का होता है जैसे कोर्ट में लगाया गया अंदर का कपड़ा जींस की जेब का कपड़ा आदि ब्रांडेड कपड़ों में यह अच्छी क्वालिटी का होता है और उसमें ही टैग लगा होता है साथ ही इसकी सिलाई बहुत ही फाइन और मजबूत होती है हां कई बार लोग भारी भारी डिस्काउंट का हवाला देते हुए ब्रांडेड कपड़ों की अन्य सस्ते कपड़े भेजते हैं लेकिन लोहे में तो और बुझी जैसे ब्रांडेड ब्रांडो पर कभी भी बीज से 30 फ़ीसदी किए से ज्यादा छूट नहीं देते हैं इसलिए अगर कोई इंटरनेट सिद्धांत पर भारी छूट देकर कपड़े बेच रहा है तो उसमें कोई ना कोई संदेह है किसी भी ब्रांडेड कपड़े की पहचान उसके कपड़े की क्वालिटी से आसानी से पता लगा सकते हैं किसी अच्छे ब्रांड का कपड़ा दूसरे कपड़े की तुलना में वर्ष और सॉफ्ट होता है अगर कोई कपड़ा ब्रांडेड नहीं होगा रखता हो
Kavvaalee hai ki braanded kapadon aur saadhaaran kapadon mein kya antar hota hai to braanded kapadon kee pahachaan karane ka sabase aasaan tareeka hai ki aap us kapade kee silaee dekhen braanded kapadon kee silaee seedhee aur neet hotee hai saath hee silaee har sthaan se baraabar majaboot aur ek jaisee hotee hai agar kapada thoda mota hoga to usamen dabal silaee silaee hogee saathee dhaage ke kalar aadi par bhee dhyaan diya jaata hai braanded kapadon kee pahachaan karane ka tareeka hai ki aap usake esesareej ko dhyaan se dekhen jaise agar aap jeens aur shart khareed rahe hain to usamen lage batan aadi ka dhyaan aadi ko dhyaan se dekhen braanded kapadon mein yah saamaan bahut hee achchhee kvaalitee ke lagae jaate hain jinakee pahachaan aap dekhakar hee laga sakate hain isalie aap kapadon kee esesareej ko dhyaan se dekhane ke baad hee kapade khareeden jab bhee ham braanded kapade lete hain to usake lie nahin bahut achchhee hotee hai ya nahin kab ke andar lagaaya gaya kapada achchhee kvaalitee ka hota hai jaise kort mein lagaaya gaya andar ka kapada jeens kee jeb ka kapada aadi braanded kapadon mein yah achchhee kvaalitee ka hota hai aur usamen hee taig laga hota hai saath hee isakee silaee bahut hee phain aur majaboot hotee hai haan kaee baar log bhaaree bhaaree diskaunt ka havaala dete hue braanded kapadon kee any saste kapade bhejate hain lekin lohe mein to aur bujhee jaise braanded braando par kabhee bhee beej se 30 feesadee kie se jyaada chhoot nahin dete hain isalie agar koee intaranet siddhaant par bhaaree chhoot dekar kapade bech raha hai to usamen koee na koee sandeh hai kisee bhee braanded kapade kee pahachaan usake kapade kee kvaalitee se aasaanee se pata laga sakate hain kisee achchhe braand ka kapada doosare kapade kee tulana mein varsh aur sopht hota hai agar koee kapada braanded nahin hoga rakhata ho

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
अनन्या सिहं Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए अनन्या जी का जवाब
शिक्षारत
0:38
क्वालिटी का होता है देखें यदि साधारण कपड़े होते हैं तो दिखते तो अच्छे हैं और चल मिल जाते हैं लेकिन वह ज्यादा दिन तक टिकते नहीं है उसके नीचे झड़ जाते हैं या कल अच्छा लगता है कलर फ्रेंड होने लगता है और कपड़ों का के मटेरियल से ही पता चलता है कि कपड़े ब्रांडेड नहीं है तो वही जो ब्रांडेड कपड़े होते हैं उनका कलर पक्का होता है वह छूटता नहीं और दूसरे दूसरे कपड़ों पर उसका कलर नहीं चढ़ता है और उसकी रेट से ब्रश वगैरह लगाने पर उसकी रेशे नहीं हटते हैं उसके ऋषि नहीं चूकते हैं तो यही अंतर होता है
Kvaalitee ka hota hai dekhen yadi saadhaaran kapade hote hain to dikhate to achchhe hain aur chal mil jaate hain lekin vah jyaada din tak tikate nahin hai usake neeche jhad jaate hain ya kal achchha lagata hai kalar phrend hone lagata hai aur kapadon ka ke materiyal se hee pata chalata hai ki kapade braanded nahin hai to vahee jo braanded kapade hote hain unaka kalar pakka hota hai vah chhootata nahin aur doosare doosare kapadon par usaka kalar nahin chadhata hai aur usakee ret se brash vagairah lagaane par usakee reshe nahin hatate hain usake rshi nahin chookate hain to yahee antar hota hai

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Bhupesh Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Bhupesh जी का जवाब
Entrepreneur , Blogger, Influencer
2:04
नमस्कार दोस्तों हेस्टैक रूद्र में आपका स्वागत है मैं आपका अपना मित्र भूपेश उमर में आशा करता हूं आप सभी से कुछ लोगे और अपना और अपने परिवार का ध्यान रख रहे हो कि जैसे कि आप का ऑपरेशन के दौरान कपड़ों और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है दोस्तों अपने कई सारी डेफिनेशन पड़ी होगी लेकिन जो मैं डेफिनिशन आपको बताने जा रहा हूं इससे आप बहुत ही आसानी से समझ सके यह ब्रांड कपड़ों और साधारण कपड़ों में फर्क क्या होता है दोस्तों आज आपने कोई कार्य स्टार्ट करो जैसे कि आज अपने अपने कपड़े की फर्म खोली और आज जो आपने उसकी सप्लाई करी तो जिस भी बंदे को आपने वह पीस भेजा उस बंदे ने आप के पीस के हमेशा तारीफ करें या जो भी प्रोडक्ट आपका था जिस पर कस्टमर ने खरीदा उसने आपकी तारीफ करी और दूसरों को रिमाइंड करा ऐसे ही करते करते आपका जो सालाना जब पूरा साल पूरा हुआ तो आप एक अच्छे स्टाइलिश बन गए और अब लोगों को आपके ऊपर ट्रस्ट होने लग गया तो ब्रांड वही चीज है जो ट्रस्ट है अगर आप किसी चीज पर ट्रस्ट करते हो तो वह अपने आप ही ब्रांड बनता चले जाता है और बहन का मतलब यह नहीं होता कि उसकी सिलाई अच्छी होगी या उसका क्लॉथिंग की कपड़े की क्वालिटी अच्छी होगी अगर आप बात करें तो मैं आज आपको कहूंगा कि फर्स्ट कॉपी शॉर्ट्स और ब्रांडेड जो आप देखते हैं मॉल्स में जाकर उन्हें बहुत ही कम फर्क होता है दोनों से नहीं होती है अगर आप कपड़ों की बात करें कई बार आपको कपड़ा चीपेस्ट क्वालिटी के यानी चीपेस्ट रेट भी अच्छा कपड़ा मिल जाता है और कई बार आप कितने भी पैसे खर्च कर ले आपको जो कपड़ा चाहिए वह कपड़ा नहीं मिलता है डीके फैब्रिक्स कई तरीके के आते हैं उसके अलावा कलर शेड्स कहीं तरीके के आते हैं लेकिन डिपेंड करता है कि उसकी ड्रॉएबिलिटी कितनी है यानी जब आप उस कपड़े को पहनते हैं तो वह आपको कितना अच्छा लगता है दूसरा वह आपको कोई नुकसान तो नहीं पहुंचाता है और तीसरा वह कितने दिन तक उसका कोई कलर फिट नहीं होता है आज साइड इफेक्ट लग रहा है कुछ ऐसी चीजें नहीं होती है तो इन चीजों को ही देखकर एक असाधारण कपड़ा भी ब्रांड बन जाता है और ब्रांड बनने का मेन कारण सिर्फ ट्रस्टी होता है उसके अलावा कुछ नहीं होता
Namaskaar doston hestaik roodr mein aapaka svaagat hai main aapaka apana mitr bhoopesh umar mein aasha karata hoon aap sabhee se kuchh loge aur apana aur apane parivaar ka dhyaan rakh rahe ho ki jaise ki aap ka opareshan ke dauraan kapadon aur saadhaaran kapadon mein kya antar hota hai doston apane kaee saaree dephineshan padee hogee lekin jo main dephinishan aapako bataane ja raha hoon isase aap bahut hee aasaanee se samajh sake yah braand kapadon aur saadhaaran kapadon mein phark kya hota hai doston aaj aapane koee kaary staart karo jaise ki aaj apane apane kapade kee pharm kholee aur aaj jo aapane usakee saplaee karee to jis bhee bande ko aapane vah pees bheja us bande ne aap ke pees ke hamesha taareeph karen ya jo bhee prodakt aapaka tha jis par kastamar ne khareeda usane aapakee taareeph karee aur doosaron ko rimaind kara aise hee karate karate aapaka jo saalaana jab poora saal poora hua to aap ek achchhe stailish ban gae aur ab logon ko aapake oopar trast hone lag gaya to braand vahee cheej hai jo trast hai agar aap kisee cheej par trast karate ho to vah apane aap hee braand banata chale jaata hai aur bahan ka matalab yah nahin hota ki usakee silaee achchhee hogee ya usaka klothing kee kapade kee kvaalitee achchhee hogee agar aap baat karen to main aaj aapako kahoonga ki pharst kopee shorts aur braanded jo aap dekhate hain mols mein jaakar unhen bahut hee kam phark hota hai donon se nahin hotee hai agar aap kapadon kee baat karen kaee baar aapako kapada cheepest kvaalitee ke yaanee cheepest ret bhee achchha kapada mil jaata hai aur kaee baar aap kitane bhee paise kharch kar le aapako jo kapada chaahie vah kapada nahin milata hai deeke phaibriks kaee tareeke ke aate hain usake alaava kalar sheds kaheen tareeke ke aate hain lekin dipend karata hai ki usakee droebilitee kitanee hai yaanee jab aap us kapade ko pahanate hain to vah aapako kitana achchha lagata hai doosara vah aapako koee nukasaan to nahin pahunchaata hai aur teesara vah kitane din tak usaka koee kalar phit nahin hota hai aaj said iphekt lag raha hai kuchh aisee cheejen nahin hotee hai to in cheejon ko hee dekhakar ek asaadhaaran kapada bhee braand ban jaata hai aur braand banane ka men kaaran sirph trastee hota hai usake alaava kuchh nahin hota

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:46
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि ब्रांड कपड़ों और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है तो दोस्तों कोई भी अंतर नहीं होता है हां ब्रांडेड कपड़े जो थोड़े से आते हैं उसमें क्वालिटी के हिसाब से अच्छे होते हैं कई बार आप सर्दियों के कपड़े लेने स्वेटर चुरा लेंगे हो सकता है कि हल्की क्वालिटी के कपड़े लेने जिसे हम नॉन ब्रांडेड कह रहे हैं तो उसमें ठंड लगे और आप ब्रांडेड कपड़े पहने हैं तो हो सकता है एक स्वेटर पहन कर आपको ठंड ना लगे अब बात होती है कि ब्रांड के लेवल की जिसने टीवी पर ऐड कर दी प्रचार कर दिया वह ब्रांड बन जाता है आज एक्स वाई जेड कोई भी कंपनी है अभी वह लोकल कंपनी है उसको कोई पैसा उसमें लगा दे तो टीवी पर आने लगे तो आप उसे ब्रांड मान लेंगे फिर एक उसमें आधा मीटर का कपड़ा भी नहीं लगा होगा अंडरवियर बनियान में निक्कर में कपड़े में वह 2000 का मिलता है और आपसे ही ब्रांडेड भी करा लेते हैं आपके ही कपड़े पर लिख देंगे रीबॉक आप उसको बड़े प्यार से घूम रहे होते हैं और कंपनी का प्रचार भी कर रहे होते हैं क्योंकि सोशल स्टेटस को दिखाने के लिए भी इसका प्रयोग के साइक्लोजिकल यूज़ नहीं करती हैं कंपनियां क्योंकि आप किस को दिखाना चाहते मेरी वह की शर्ट पहनी है वह कोई स्वेटर पहने मैंने तो उसे प्रभाव पड़ता है तो ब्रांड का किसी बिजनेसमैन से बात करा तो सभी बनाया जा सकता है ब्रांड में आपको कैसा लगा दो टीवी चलाने लग गया आपका फ्रेंड बन गया वही जिसे आप बोल रहे थे इसका ध्यान रखें कोई खराबी ना हो को यह गुडविल खराब ना हो मारी बहुत सारे अपन ब्रांडेड संभाल लूंगा जो गीत बहुत ही थर्ड क्लास के होते हैं और अनब्रांडेड के होते हैं कपड़े हो गए आए कोई भी प्रोडक्ट होते बहुत अच्छे होते हैं तो ब्रांड तो आपको आकर्षण के लिए बनाया जाता है लेकिन आपको समझना है कि कोई कहे ब्रांडेड भी कपड़ा है या उसका प्रयोग करके देखिए तो आपको ज्यादा पता चल पाएगा धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki braand kapadon aur saadhaaran kapadon mein kya antar hota hai to doston koee bhee antar nahin hota hai haan braanded kapade jo thode se aate hain usamen kvaalitee ke hisaab se achchhe hote hain kaee baar aap sardiyon ke kapade lene svetar chura lenge ho sakata hai ki halkee kvaalitee ke kapade lene jise ham non braanded kah rahe hain to usamen thand lage aur aap braanded kapade pahane hain to ho sakata hai ek svetar pahan kar aapako thand na lage ab baat hotee hai ki braand ke leval kee jisane teevee par aid kar dee prachaar kar diya vah braand ban jaata hai aaj eks vaee jed koee bhee kampanee hai abhee vah lokal kampanee hai usako koee paisa usamen laga de to teevee par aane lage to aap use braand maan lenge phir ek usamen aadha meetar ka kapada bhee nahin laga hoga andaraviyar baniyaan mein nikkar mein kapade mein vah 2000 ka milata hai aur aapase hee braanded bhee kara lete hain aapake hee kapade par likh denge reebok aap usako bade pyaar se ghoom rahe hote hain aur kampanee ka prachaar bhee kar rahe hote hain kyonki soshal stetas ko dikhaane ke lie bhee isaka prayog ke saiklojikal yooz nahin karatee hain kampaniyaan kyonki aap kis ko dikhaana chaahate meree vah kee shart pahanee hai vah koee svetar pahane mainne to use prabhaav padata hai to braand ka kisee bijanesamain se baat kara to sabhee banaaya ja sakata hai braand mein aapako kaisa laga do teevee chalaane lag gaya aapaka phrend ban gaya vahee jise aap bol rahe the isaka dhyaan rakhen koee kharaabee na ho ko yah gudavil kharaab na ho maaree bahut saare apan braanded sambhaal loonga jo geet bahut hee thard klaas ke hote hain aur anabraanded ke hote hain kapade ho gae aae koee bhee prodakt hote bahut achchhe hote hain to braand to aapako aakarshan ke lie banaaya jaata hai lekin aapako samajhana hai ki koee kahe braanded bhee kapada hai ya usaka prayog karake dekhie to aapako jyaada pata chal paega dhanyavaad

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
2:34
ब्रांड कपड़ों में साधारण कपड़ों में निमंत्रण ब्रांड कपड़े वहां जो कंपनी के मार्क मार्क लगा होता और कई और साधारण कपड़े पर कैसे कपड़े परमार का नहीं लगा होता है या सही है जिस पर मार कर भी लगा होता मार का तथा ब्रांड कपड़े हुआ जिसमें कपड़े को एकदम फ्रेश क्या हुआ था और शाम मटका पॉलिथीन में पैक कर लो और तथा साधारण कपड़े हो जो छूट मिलेगी या प्रेस की आई है लेकिन यह छोटी दुकानों पर होते हैं साधारण कपड़े और बड़ी दुकान है पर भी होता लेकिन कम होते हैं और बड़ी बड़ी दुकान आमोल बड़ी बड़ी शॉप दुकानों में ब्रांडेड कपड़े होते हैं लेकिन कई ब्रांडेड कपड़ों में नकली मार्क मार्क अभी होता जिससे लोगों को पैसे के माध्यम लेते हैं पता नहीं लगता कि यह कंपनी कहां है लेकिन जब पहचानने वाला वह पहचान सकता और जो नहीं पहचानने वाला वह नहीं पहचान सकता ब्रांडेड कपड़े कौन सी है तथा अंतर कुछ भी नहीं ब्रांडेड कपड़ा और साधारण कपड़ों कपड़ों में अंतर आता क्या क्वालिटी का कपड़ा का बढ़िया क्वालिटी का इस पर निर्भर करता है तथा कई लोग तो ऐसे हैं जो कपड़े पर ड्राई क्लीनर्स करके पुराने को भी नया बना देते हैं और नए को ब्रांडेड भी बना देते हैं ताकि ब्रांडेड बनाने से अच्छी रकम मिले और ज्यादा फायदा है लेकिन साधारण कपड़े मतलब क्या कि लॉक खोलना होगा तो सौ पचास पचास का गाना लेकिन ब्रांडेड कपड़े अमीरों के लिए उनके पास पैसे ज्यादा है उनके लिए ब्रांडेड कपड़े होते हैं तथा साधारण कपड़े गरीबों के लिए होते हैं मीडियम लोगों के लिए होते हैं
Braand kapadon mein saadhaaran kapadon mein nimantran braand kapade vahaan jo kampanee ke maark maark laga hota aur kaee aur saadhaaran kapade par kaise kapade paramaar ka nahin laga hota hai ya sahee hai jis par maar kar bhee laga hota maar ka tatha braand kapade hua jisamen kapade ko ekadam phresh kya hua tha aur shaam mataka politheen mein paik kar lo aur tatha saadhaaran kapade ho jo chhoot milegee ya pres kee aaee hai lekin yah chhotee dukaanon par hote hain saadhaaran kapade aur badee dukaan hai par bhee hota lekin kam hote hain aur badee badee dukaan aamol badee badee shop dukaanon mein braanded kapade hote hain lekin kaee braanded kapadon mein nakalee maark maark abhee hota jisase logon ko paise ke maadhyam lete hain pata nahin lagata ki yah kampanee kahaan hai lekin jab pahachaanane vaala vah pahachaan sakata aur jo nahin pahachaanane vaala vah nahin pahachaan sakata braanded kapade kaun see hai tatha antar kuchh bhee nahin braanded kapada aur saadhaaran kapadon kapadon mein antar aata kya kvaalitee ka kapada ka badhiya kvaalitee ka is par nirbhar karata hai tatha kaee log to aise hain jo kapade par draee kleenars karake puraane ko bhee naya bana dete hain aur nae ko braanded bhee bana dete hain taaki braanded banaane se achchhee rakam mile aur jyaada phaayada hai lekin saadhaaran kapade matalab kya ki lok kholana hoga to sau pachaas pachaas ka gaana lekin braanded kapade ameeron ke lie unake paas paise jyaada hai unake lie braanded kapade hote hain tatha saadhaaran kapade gareebon ke lie hote hain meediyam logon ke lie hote hain

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Tanvi  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Tanvi जी का जवाब
Unknown
0:24
बहन के प्रेमियों सामान्य कपड़ों में क्या होता है पहली बात तो गुणवत्ता में कोई अंतर नहीं है केवल अंतर ब्रांड लोगो और कीमत में है कभी-कभी सामान के रूप में लेकिन किंतु पर बिजी नहीं हूं क्योंकि मैं एक बार आपसे मुझे नहीं है धन्यवाद
Bahan ke premiyon saamaany kapadon mein kya hota hai pahalee baat to gunavatta mein koee antar nahin hai keval antar braand logo aur keemat mein hai kabhee-kabhee saamaan ke roop mein lekin kintu par bijee nahin hoon kyonki main ek baar aapase mujhe nahin hai dhanyavaad

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Ashish Lavania Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Ashish जी का जवाब
Yoga Instructor
0:33
धन कपड़ों और सादे कपड़ों में क्या अंतर होता है 10,000 कपड़ों में थोड़ा क्वालिटी का अंतर तो आता है जो ख्वाब ग्रैंड होती है वह अपनी क्वालिटी के साथ कंप्रोमाइज नहीं करती है क्योंकि उसकी जो वैल्यू है उसका कपड़े ही है उसकी ब्रांडी वही है कि अगर वह खराब निकलेगा तो उसकी छवि खराब होगी जबकि साधारण कपड़ों में ऐसा कुछ नहीं होता है आपने लाया पहना खराब निकला तो ऐसा कुछ भी नहीं आप किसी से कुछ नहीं कर सकते जाते हैं तो दुकानदार के पास जाएंगे अगर वह बदलना चाहता तो बदलेगा परंतु जो ब्रांड होती है वह बिल्कुल उसकी जिम्मेदारी होती है वह अच्छी प्रणब देती है
Dhan kapadon aur saade kapadon mein kya antar hota hai 10,000 kapadon mein thoda kvaalitee ka antar to aata hai jo khvaab graind hotee hai vah apanee kvaalitee ke saath kampromaij nahin karatee hai kyonki usakee jo vailyoo hai usaka kapade hee hai usakee braandee vahee hai ki agar vah kharaab nikalega to usakee chhavi kharaab hogee jabaki saadhaaran kapadon mein aisa kuchh nahin hota hai aapane laaya pahana kharaab nikala to aisa kuchh bhee nahin aap kisee se kuchh nahin kar sakate jaate hain to dukaanadaar ke paas jaenge agar vah badalana chaahata to badalega parantu jo braand hotee hai vah bilkul usakee jimmedaaree hotee hai vah achchhee pranab detee hai

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Satya Prajapati. Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Satya जी का जवाब
Student.
2:02

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
1:56
हेलो फ्रेंड नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है ब्रांडेड कपड़े और साधन कपड़ों में क्या अंतर होता है ब्रांडेड कपड़े जो होते हैं उनकी की खासियत होती हैं जैसे कि उनका जो कलर होता है वह नहीं निकलता बहुत ही अच्छा कलर होता है कैसा भी कलर हो और उसकी जो प्राइस होती है वह मांगी होती है क्योंकि ब्रांडेड कपड़े होते हैं वह उसका जो धागा होता है जिसका जो सूट होता है उसकी जो कपड़े कपड़े होते हैं वह अलग ही तरीके से कपड़ा होता है उसका जो स्थान होता है लेकिन जब भी कपड़े की कटाई होती है कपड़ा बनाया जाता है तो उसकी जो स्थान होती था ना आप समझ रहे होंगे कि जैसे कि कपड़ों का पूरा बंडल होता है फ्रेंड उसी में से काट के कपड़ा जो है वह साइटेप्वाइंट बनाया जाता है तो जो ब्रांडेड कपड़े होते हैं उनकी बनावट जो है वह अलग ही धागों से होती है जबकि जो साधारण कपड़े होते हैं उनकी जो बनावट होती है उसके धागे अलग होते हैं उसके सूत जो होते हैं वह कमजोर होते हैं फ्रेंड्स और उनकी प्राइस जो होती है वह कम होती है और जो उनका कलर होता है साधारण कपड़ों का वह जो है वह एक बार दो बार दो देंगे आप तो उसका कारण है वह छूट जाता है जबकि ब्रांडेड कपड़ों में फ्रेंड कपड़ा फट सकता है लेकिन उसका जो वह कलर है वह नहीं छूटेगा जबकि साधारण कपड़ों में फ्रेंड भी सकता है और कलर भी छोड़ सकता है हालांकि ब्रांडेड कपड़ों में जैसे कि अभी बताया कि फर्स्ट सकता है ऐसी कोई समस्या नहीं आती फ्रेंड जो ब्रांडेड कपड़े होते हैं वह आपको देखने में भले ही पतली लगे लेकिन उनमें खासियत होती है कि वह मजबूती से बने होते हो किसी प्रकार का कटना पटना ऐसी कोई प्रॉब्लम में नहीं आती है फ्रेंड आशा है कि आप सभी को यह जवाब पसंद आया होगा शुक्रिया
Helo phrend namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai braanded kapade aur saadhan kapadon mein kya antar hota hai braanded kapade jo hote hain unakee kee khaasiyat hotee hain jaise ki unaka jo kalar hota hai vah nahin nikalata bahut hee achchha kalar hota hai kaisa bhee kalar ho aur usakee jo prais hotee hai vah maangee hotee hai kyonki braanded kapade hote hain vah usaka jo dhaaga hota hai jisaka jo soot hota hai usakee jo kapade kapade hote hain vah alag hee tareeke se kapada hota hai usaka jo sthaan hota hai lekin jab bhee kapade kee kataee hotee hai kapada banaaya jaata hai to usakee jo sthaan hotee tha na aap samajh rahe honge ki jaise ki kapadon ka poora bandal hota hai phrend usee mein se kaat ke kapada jo hai vah saitepvaint banaaya jaata hai to jo braanded kapade hote hain unakee banaavat jo hai vah alag hee dhaagon se hotee hai jabaki jo saadhaaran kapade hote hain unakee jo banaavat hotee hai usake dhaage alag hote hain usake soot jo hote hain vah kamajor hote hain phrends aur unakee prais jo hotee hai vah kam hotee hai aur jo unaka kalar hota hai saadhaaran kapadon ka vah jo hai vah ek baar do baar do denge aap to usaka kaaran hai vah chhoot jaata hai jabaki braanded kapadon mein phrend kapada phat sakata hai lekin usaka jo vah kalar hai vah nahin chhootega jabaki saadhaaran kapadon mein phrend bhee sakata hai aur kalar bhee chhod sakata hai haalaanki braanded kapadon mein jaise ki abhee bataaya ki pharst sakata hai aisee koee samasya nahin aatee phrend jo braanded kapade hote hain vah aapako dekhane mein bhale hee patalee lage lekin unamen khaasiyat hotee hai ki vah majabootee se bane hote ho kisee prakaar ka katana patana aisee koee problam mein nahin aatee hai phrend aasha hai ki aap sabhee ko yah javaab pasand aaya hoga shukriya

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Rajkumar  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajkumar जी का जवाब
Unknown
0:15

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
 Neeraj Kumar  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए जी का जवाब
Unknown
1:21
हेलो तो मेरे सवाल है ब्रांडेड कपड़े और साधन कपों में क्या अंतर होता है तो मैंने जो अनुभव किया है उसके विषय में आपको बताऊंगा कि जो साधन का पर होते हैं उनका क्वालिटी इतनी अच्छी होती नहीं है जितनी ब्रांडेड कपड़ों की होती है मैं फर्क क्वालिटी का ही होता है तो ब्रांडेड कपड़े होते हैं वह अच्छा तरीके से कपड़े की शॉप है तो अच्छी तरीके से किस लाइक करते हैं अच्छी मजबूती के साथ वही साधन कपड़े होते हैं यह टी-शर्ट और उसमें अच्छी सिलाई न्यूज़ आती है वह आसानी से फट जाती लेकिन ब्रांडेड कपड़े में कलर भी नहीं निकलता है इतनी आसानी से और जबकि साधन कपड़े में कलर भी निकल जाता है और जो ब्रांडेड कपड़े हैं वह कई सालों तक चलते भी हैं उनका कलर कलर सेम टू सेम रहता है जबकि साधन कपड़े रहते हैं वह 6 महीने 1 साल में ही खराब हो जाते हैं यह फर्क रहता है ब्रांडेड कपड़े में और शांत कपड़ों में इसलिए ब्रांडेड कपड़ों की वैल्यू प्राइस होता है वह बहुत ज्यादा होता है क्योंकि वह आपके उत्तर की क्वालिटी देते हैं जबकि साथ खड़े होते हैं उनकी प्राइस बहुत कम होता असली वह आसानी से गरीब लोग उनको लेते हैं क्योंकि वह ब्रांडेड कपड़े नहीं खींच सकते हैं
Helo to mere savaal hai braanded kapade aur saadhan kapon mein kya antar hota hai to mainne jo anubhav kiya hai usake vishay mein aapako bataoonga ki jo saadhan ka par hote hain unaka kvaalitee itanee achchhee hotee nahin hai jitanee braanded kapadon kee hotee hai main phark kvaalitee ka hee hota hai to braanded kapade hote hain vah achchha tareeke se kapade kee shop hai to achchhee tareeke se kis laik karate hain achchhee majabootee ke saath vahee saadhan kapade hote hain yah tee-shart aur usamen achchhee silaee nyooz aatee hai vah aasaanee se phat jaatee lekin braanded kapade mein kalar bhee nahin nikalata hai itanee aasaanee se aur jabaki saadhan kapade mein kalar bhee nikal jaata hai aur jo braanded kapade hain vah kaee saalon tak chalate bhee hain unaka kalar kalar sem too sem rahata hai jabaki saadhan kapade rahate hain vah 6 maheene 1 saal mein hee kharaab ho jaate hain yah phark rahata hai braanded kapade mein aur shaant kapadon mein isalie braanded kapadon kee vailyoo prais hota hai vah bahut jyaada hota hai kyonki vah aapake uttar kee kvaalitee dete hain jabaki saath khade hote hain unakee prais bahut kam hota asalee vah aasaanee se gareeb log unako lete hain kyonki vah braanded kapade nahin kheench sakate hain

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Dr Shahin fidai Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr जी का जवाब
Educational Counseling & Psychotherapy
2:18
पंडित कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है ब्रांडेड कपड़े जो होते हैं वह उसे एक ब्रांड मिल जाता है जैसे कि उसकी गुडविल बन जाती है और असाधारण कपड़ों का कोई ब्रांड नहीं होता और कोई गुडविन नहीं होती है और इसीलिए वह सस्ते मिलते हैं इसीलिए ब्रांडेड कपड़े हमेशा महंगे होते हैं लेकिन अगर आप थोड़ा सा गौर से सोचोगे तो ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में ज्यादातर अगर आप यूज करते हो तो फर्क कुछ नहीं होता है क्योंकि ब्रांडेड कपड़े भी कपड़े ही होते हैं यूज करने से वह भी फट जाते हैं और साधारण कपड़े भी कपड़े होते हैं जो यूज करने से फट जाते हैं ब्रांड में सिर्फ आप गुडविल का पैसा डबल देते हो और साधारण कपड़ों में आप अपने पैसों की बचत करते हो सिर्फ यही एक अंतर है इससे ज्यादा और कोई अंतर नहीं है और एक दिमाग का अंतर है कि जिसे अब लड़ाई मारने हो या दिल जिसे उस प्यारी मारनी हूं जिसे अपना स्टेटस जो लोगों को दिखाना है कि मेरे आज बहुत पैसा है यह वह तो वे लोग ब्रांडेड कपड़े पहनते हैं ताकि वे अपने सियारी मार सके और अपने आप को ऐसे पोटरे कर सके और से ज्यादा कोई फर्क नहीं पड़ता है लेकिन यह बहुत ज्यादा जरूरी है कि अबकी और सोच ब्रांडेड होनी चाहिए आपकी सोच में यह क्वालिटी होनी चाहिए कि आप हर पल हर वक्त खुश रहो आपके घर के अंदर सुख शांति रहे और आपकी रिश्तो में मिठास रहे तो यह सभी चीजें बहुत ज्यादा जरूरी है क्योंकि कपड़े ऐसी चीजें हैं जो आखिर में है तो एक मेटीरियल वस्तु है और एक मेटीरियल वस्तु जो है वह कभी अंदरूनी खुशी नहीं दे सकती है अंदरूनी ख़ुशी हमेशा रिश्तो से आती है और मन की शांति सुकून जो है वह हमेशा खुशियां फैलाने से आती है तो ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में यही फर्क है और इससे ज्यादा कोई फर्क नहीं है आप सिर्फ गुडविल का पैसा ज्यादा देते हो और साधारण कपड़ों के पास नाम नहीं है गुड इसलिए वो कोई स्टेटस नहीं देते हैं और रॉक इसीलिए पूछो है आम अनमोल नहीं होते हैं लेकिन अगर ऐसे देखती हो तो घर आपके पैसे बचते हैं तो साधारण कपड़े भी बहुत ज्यादा अनमोल है तो यही एक का फर्क है धन्यवाद प्रश्न पूछने के लिए आपका जीवन शुभ हो
Pandit kapade aur saadhaaran kapadon mein kya antar hota hai braanded kapade jo hote hain vah use ek braand mil jaata hai jaise ki usakee gudavil ban jaatee hai aur asaadhaaran kapadon ka koee braand nahin hota aur koee gudavin nahin hotee hai aur iseelie vah saste milate hain iseelie braanded kapade hamesha mahange hote hain lekin agar aap thoda sa gaur se sochoge to braanded kapade aur saadhaaran kapadon mein jyaadaatar agar aap yooj karate ho to phark kuchh nahin hota hai kyonki braanded kapade bhee kapade hee hote hain yooj karane se vah bhee phat jaate hain aur saadhaaran kapade bhee kapade hote hain jo yooj karane se phat jaate hain braand mein sirph aap gudavil ka paisa dabal dete ho aur saadhaaran kapadon mein aap apane paison kee bachat karate ho sirph yahee ek antar hai isase jyaada aur koee antar nahin hai aur ek dimaag ka antar hai ki jise ab ladaee maarane ho ya dil jise us pyaaree maaranee hoon jise apana stetas jo logon ko dikhaana hai ki mere aaj bahut paisa hai yah vah to ve log braanded kapade pahanate hain taaki ve apane siyaaree maar sake aur apane aap ko aise potare kar sake aur se jyaada koee phark nahin padata hai lekin yah bahut jyaada jarooree hai ki abakee aur soch braanded honee chaahie aapakee soch mein yah kvaalitee honee chaahie ki aap har pal har vakt khush raho aapake ghar ke andar sukh shaanti rahe aur aapakee rishto mein mithaas rahe to yah sabhee cheejen bahut jyaada jarooree hai kyonki kapade aisee cheejen hain jo aakhir mein hai to ek meteeriyal vastu hai aur ek meteeriyal vastu jo hai vah kabhee andaroonee khushee nahin de sakatee hai andaroonee khushee hamesha rishto se aatee hai aur man kee shaanti sukoon jo hai vah hamesha khushiyaan phailaane se aatee hai to braanded kapade aur saadhaaran kapadon mein yahee phark hai aur isase jyaada koee phark nahin hai aap sirph gudavil ka paisa jyaada dete ho aur saadhaaran kapadon ke paas naam nahin hai gud isalie vo koee stetas nahin dete hain aur rok iseelie poochho hai aam anamol nahin hote hain lekin agar aise dekhatee ho to ghar aapake paise bachate hain to saadhaaran kapade bhee bahut jyaada anamol hai to yahee ek ka phark hai dhanyavaad prashn poochhane ke lie aapaka jeevan shubh ho

bolkar speaker
ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है?Branded Kapde Aur Sadharan Kapdon Mein Kya Antar Hota Hai
Abdul_Ahad  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Abdul_Ahad जी का जवाब
Unknown
1:42
मेरे सिर्फ तुम ने सवाल पूछा है ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में क्या अंतर होता है क्या फर्क होता है तो इसके अंदर हम बोलेंगे कि नहीं कंफर्ट कंफर्ट का इसके अंदर होती ज्यादा मायने खाता है कि एजुकेटेड होते हैं उसके अंदर कंफर्ट जोन बहुत ज्यादा रहता है जबकि जो साधारण कपड़े करते हैं उसमें कंफर्ट नहीं मिल पाता है बहुत ही कम मैसेज साधना कपड़े देते हैं जिसके अंदर कंफर्टेबल होता है लेकिन ज्यादातर जो है अच्छी ब्रांड कंपनी के अंदर ही है मैं विक्रम पर देखने को मिलता है उसके बाद उसकी स्थिति की जो होती है फैब्रिक्स होता है उसका स्टिचिंग बहुत अच्छी होती है उसकी सिलाई ज्योति बहुत अच्छी होती है उसमें नहीं निकाल सकते हैं पीछे हट तिरछी की होती है उसके अलावा उसकी जो फैब्रिक यूज़ किया जाता है इसके अंदर फैब्रिक बहुत ही अच्छा होता है जिसको स्वस्थ अभियान दे सकते हैं तब हर एक कप साउथ अफ्रीका फ्लाइकों मायने होता है तो सर्दी का सबसे ज्यादा इंपोर्टेंस होता है बॉडी के प्राप्ति रसीद वगैरह नहीं करते हैं बढ़िया को सबसे अजीब है तो उसके हिसाब से आपका डॉक्टर कर लेता है और इसका कलर नहीं छूटता है और यह सारी चीज ऐसी है और दूसरा अगर आप जैन तीर्थ के अंदर जाते हैं या तो वे स्ट्रेचेबल सूची समिति स्टेशन की क्वालिटी आती है कि किस लेवल का स्टेज होना है उसमें वह बॉडी के अकॉर्डिंग दे आपको फिट देता है पता गोरा लाल कहेंगे तो कम से कम फट मिलता कैंसर
Mere sirph tum ne savaal poochha hai braanded kapade aur saadhaaran kapadon mein kya antar hota hai kya phark hota hai to isake andar ham bolenge ki nahin kamphart kamphart ka isake andar hotee jyaada maayane khaata hai ki ejuketed hote hain usake andar kamphart jon bahut jyaada rahata hai jabaki jo saadhaaran kapade karate hain usamen kamphart nahin mil paata hai bahut hee kam maisej saadhana kapade dete hain jisake andar kamphartebal hota hai lekin jyaadaatar jo hai achchhee braand kampanee ke andar hee hai main vikram par dekhane ko milata hai usake baad usakee sthiti kee jo hotee hai phaibriks hota hai usaka stiching bahut achchhee hotee hai usakee silaee jyoti bahut achchhee hotee hai usamen nahin nikaal sakate hain peechhe hat tirachhee kee hotee hai usake alaava usakee jo phaibrik yooz kiya jaata hai isake andar phaibrik bahut hee achchha hota hai jisako svasth abhiyaan de sakate hain tab har ek kap sauth aphreeka phlaikon maayane hota hai to sardee ka sabase jyaada importens hota hai bodee ke praapti raseed vagairah nahin karate hain badhiya ko sabase ajeeb hai to usake hisaab se aapaka doktar kar leta hai aur isaka kalar nahin chhootata hai aur yah saaree cheej aisee hai aur doosara agar aap jain teerth ke andar jaate hain ya to ve strechebal soochee samiti steshan kee kvaalitee aatee hai ki kis leval ka stej hona hai usamen vah bodee ke akording de aapako phit deta hai pata gora laal kahenge to kam se kam phat milata kainsar

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में फर्क, ब्रांडेड कपड़े और साधारण कपड़ों में अंतर क्या हैं
URL copied to clipboard