#undefined

bolkar speaker

दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?

Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:21
हेलो एवरीवन तो आज आप का सवाल है कि दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे तो देखें और चैनल किस दुनिया में जितने भी इंसान मतलब रहते हैं मतलब ऐसे कोई भी जगह नहीं बचा है कि जहां पर कोई आपकी बुराई नहीं करेगा या फिर आप एक दो लोग अखिलेश ऐसा मतलब बुरा सोचेंगे हेयर बुरा करने के बारे में मतलब हमेशा सोचते ही रह गए इससे बचने के लिए ऐसा तो कोई प्ले स्टोर नहीं है क्या कोई जगह जाकर सिर्फ यह सब से बचने के लिए आप खुद को जितना स्ट्रांग बनाएंगे जितना मेंटली खुद को समझा पाएंगे वहीं ही इस चीज का इलाज है क्या होता है जब कोई भी करियर जॉब करते हैं स्कूल कॉलेज जो भी जगह हम पढ़ाई करते हम बाहर निकलते हैं लोगों से बातचीत करते हैं जैसे हमारा घूमना फिरना पहनावा वह सब जिसको देकर समाज सोसायटी लोग ताना मारेंगे बोलेंगे ही खुद को ऐसे समझ जाऊंगी कि हां इनका तो काम है यह जैसे अगर मैं दिमाग में इस चीज को इतना ज्यादा सर इसका करवाओ अपने दिमाग में या फिर क्या इनके बातों यह जो बोल रही है सही बोल रहे हैं फिर गलत गोरी क्या यहीं पर मैं जो भी मेरे जो इच्छा है क्या मैं उसको फुल स्टॉप लगा दो या फिर यह जो बोल रही बात मैं यह सब चीज नहीं कर सकती मुझे सच्चाई और मुझे पता है कि मुझे क्या करना मुझे बाहर तो जाना ही काम तो है स्कूल कॉलेज जो भी हुआ मुझे पढ़ना है यह अभी के जैसे अपडेटेड जो भी चीज है तो उसे भी आपको अनफॉलो करूंगी जो भी कपड़े हुआ या फिर जिस तरह की भी रहन-सहन हुआ मैं तो उसे फॉलो करूंगी तो मुझे पता है कि मैं सही हूं गलत नहीं हूं तो दुनिया आपको हर स्टेज में ऐसे बोलते रहेंगे आप को मेंटली खुद को ऐसे सोचना है कि नहीं इनका काम ही है बोलना आपको सोचना और समझना है कि आप सही है या फिर गलत और आपको अपने मार्ग पर ऐसे ही चलते रहना है और यह लो ओके बातों को जस्ट इग्नोर करना है अनदेखा करना है सुनना ही नहीं है क्योंकि आप जितना सुनेंगे आपको उतना ज्यादा स्ट्रेस लेंगे और फिर ही सभी बात सोचेंगे तो ऐसे सब चीजों का सलूशन को इग्नोर करना इनकी बातों को नहीं सुनना आप सही है आपको लगता है क्या पूरी तरह से सही है तो आप अपना काम पूरी तरह से अच्छे से कीजिए
Helo evareevan to aaj aap ka savaal hai ki duniya jahaan kee buraiyon se kaise bache to dekhen aur chainal kis duniya mein jitane bhee insaan matalab rahate hain matalab aise koee bhee jagah nahin bacha hai ki jahaan par koee aapakee buraee nahin karega ya phir aap ek do log akhilesh aisa matalab bura sochenge heyar bura karane ke baare mein matalab hamesha sochate hee rah gae isase bachane ke lie aisa to koee ple stor nahin hai kya koee jagah jaakar sirph yah sab se bachane ke lie aap khud ko jitana straang banaenge jitana mentalee khud ko samajha paenge vaheen hee is cheej ka ilaaj hai kya hota hai jab koee bhee kariyar job karate hain skool kolej jo bhee jagah ham padhaee karate ham baahar nikalate hain logon se baatacheet karate hain jaise hamaara ghoomana phirana pahanaava vah sab jisako dekar samaaj sosaayatee log taana maarenge bolenge hee khud ko aise samajh jaoongee ki haan inaka to kaam hai yah jaise agar main dimaag mein is cheej ko itana jyaada sar isaka karavao apane dimaag mein ya phir kya inake baaton yah jo bol rahee hai sahee bol rahe hain phir galat goree kya yaheen par main jo bhee mere jo ichchha hai kya main usako phul stop laga do ya phir yah jo bol rahee baat main yah sab cheej nahin kar sakatee mujhe sachchaee aur mujhe pata hai ki mujhe kya karana mujhe baahar to jaana hee kaam to hai skool kolej jo bhee hua mujhe padhana hai yah abhee ke jaise apadeted jo bhee cheej hai to use bhee aapako anapholo karoongee jo bhee kapade hua ya phir jis tarah kee bhee rahan-sahan hua main to use pholo karoongee to mujhe pata hai ki main sahee hoon galat nahin hoon to duniya aapako har stej mein aise bolate rahenge aap ko mentalee khud ko aise sochana hai ki nahin inaka kaam hee hai bolana aapako sochana aur samajhana hai ki aap sahee hai ya phir galat aur aapako apane maarg par aise hee chalate rahana hai aur yah lo oke baaton ko jast ignor karana hai anadekha karana hai sunana hee nahin hai kyonki aap jitana sunenge aapako utana jyaada stres lenge aur phir hee sabhee baat sochenge to aise sab cheejon ka salooshan ko ignor karana inakee baaton ko nahin sunana aap sahee hai aapako lagata hai kya pooree tarah se sahee hai to aap apana kaam pooree tarah se achchhe se keejie

और जवाब सुनें

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
0:40
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे सभी की उसके लिए एक ही सीधा सा उपाय है कि आप अपने से मतलब रखें आप चुप कर रहे हैं कैसे कर रहे हैं और अपना बैग विच इस दुनिया की सारी बहनें मतलब नहीं दुनिया तब भी बात नहीं होती है जो हम कुछ करते नहीं हैं वह दुनिया सब के साथ नहीं होती है मुझे कुछ करने लगते हैं इसे अपने आप ध्यान दीजिए दुनिया तो अपने आपकी प्रतीक्षा आ जाती है आपकी तरक्की आपकी वह सब देख कर दुनिया पीछे पहले आपको भरे गाने चाहिए उनकी बुराई आपको सुनने में आएगी लेकिन जो चीज है तो वह रहेगी यह नियम है दुनिया संसार का इसलिए जैसा भी है वो अपना हंड्रेड पसंद है बस उसी में आपको सभी का भला होता है जब आप पसंद है तो लाइक करें धन्यवाद
Duniya jahaan kee buraiyon se kaise bache sabhee kee usake lie ek hee seedha sa upaay hai ki aap apane se matalab rakhen aap chup kar rahe hain kaise kar rahe hain aur apana baig vich is duniya kee saaree bahanen matalab nahin duniya tab bhee baat nahin hotee hai jo ham kuchh karate nahin hain vah duniya sab ke saath nahin hotee hai mujhe kuchh karane lagate hain ise apane aap dhyaan deejie duniya to apane aapakee prateeksha aa jaatee hai aapakee tarakkee aapakee vah sab dekh kar duniya peechhe pahale aapako bhare gaane chaahie unakee buraee aapako sunane mein aaegee lekin jo cheej hai to vah rahegee yah niyam hai duniya sansaar ka isalie jaisa bhee hai vo apana handred pasand hai bas usee mein aapako sabhee ka bhala hota hai jab aap pasand hai to laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:21
दुनिया जहाज बुराइयों से कैसे होते हैं जहां बुराइयां तो वही होंगी जहां आप देखेंगे कि बुरा जो देखन मैं चला बुरा न मिलिया कोय जो दिल खोजा आपना मुझसे बुरा न को जब हम किसी की बुराई करना छोड़ देंगे निंदा करना छोड़ देंगे किसी मतलब के विषय में नकारात्मक सोच को हटा लेंगे कि जो कुछ करना है वह मतलब उसके कार्य का वह स्वयं जिम्मेदार हम क्यों किसी की निंदा करें क्यों किसी की बुराई करें क्यों किसी से ईर्ष्या करें क्यों किसी से देश करें क्यों किसी से जलन करें हम सुख मार्ग पर चलेंगे और हमारी सोच को सकारात्मक होगी तो जब आप अपनी सोच को सकारात्मक रखेंगे और किसी के गुण अवगुण पर ध्यान ना दे करके आप यह देखिए कि उसके अंदर जो गुण है उससे आप क्या ग्रहण कर सकते हैं अच्छी बातें सिखाई है उसकी बुराई मत कीजिए बुराई करने से भाई मनुष्यता बढ़ती है और आपस में बहुत बड़ी एक दूसरे की कालांतर में शत्रु बन जाते इसलिए न किसी की बुराई कीजिए और ना किसी के बीच में बुराइयों के बीच में पड़ी है जब आप इन सब बातों को छोड़ देंगे तो सोता है आप के विषय में लोग जान जाएंगे कि यह न्याय प्रिय आदमी किसी के दर्द उधर बात बढ़ाने वाला काम नहीं करते हैं इसलिए सोता है आप बुराइयों से बचना शुरू कर देंगे अभ्यास करके देखिए
Duniya jahaaj buraiyon se kaise hote hain jahaan buraiyaan to vahee hongee jahaan aap dekhenge ki bura jo dekhan main chala bura na miliya koy jo dil khoja aapana mujhase bura na ko jab ham kisee kee buraee karana chhod denge ninda karana chhod denge kisee matalab ke vishay mein nakaaraatmak soch ko hata lenge ki jo kuchh karana hai vah matalab usake kaary ka vah svayan jimmedaar ham kyon kisee kee ninda karen kyon kisee kee buraee karen kyon kisee se eershya karen kyon kisee se desh karen kyon kisee se jalan karen ham sukh maarg par chalenge aur hamaaree soch ko sakaaraatmak hogee to jab aap apanee soch ko sakaaraatmak rakhenge aur kisee ke gun avagun par dhyaan na de karake aap yah dekhie ki usake andar jo gun hai usase aap kya grahan kar sakate hain achchhee baaten sikhaee hai usakee buraee mat keejie buraee karane se bhaee manushyata badhatee hai aur aapas mein bahut badee ek doosare kee kaalaantar mein shatru ban jaate isalie na kisee kee buraee keejie aur na kisee ke beech mein buraiyon ke beech mein padee hai jab aap in sab baaton ko chhod denge to sota hai aap ke vishay mein log jaan jaenge ki yah nyaay priy aadamee kisee ke dard udhar baat badhaane vaala kaam nahin karate hain isalie sota hai aap buraiyon se bachana shuroo kar denge abhyaas karake dekhie

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
4:00
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचेगी तो कबीर जी ने कहा यह कहा था कि मैं बुराई ढूंढने निकला तुम आखिर में पाया कि मुझसे बुरा दूसरा कोई नहीं है तो दुनिया बहुत बुराई उनके बुराइयों से भरी हुई है यह तो निश्चित है लेकिन फिर भी हमें बुरा नहीं बनना है हमें अच्छा ही इंसान बनकर जीना है और अच्छे इंसानों को लगभग कोई तकलीफ नहीं होती है इनके साथ कोई बहुत कम परसेंटेज में उनको उनके दुश्मन होते हैं इसलिए उनको ज्यादा कोई इस कदर भी नहीं होता है औरत जो सच्चा इंसान है और जो सत्यवादी इंसान को कभी डरता भी नहीं है किसी चीज से तो दुनिया की बुराइयों को वैसे डरना ही नहीं चाहिए अगर आपने खुद कुछ बुराइयां की है तो उसके उसका रिएक्शन होकर आपको भी बुराइयों का सामना करना तो पड़ेगा ही और अगर इसके बाद भी बुराइयां हो सामने आती है तो उसको पेश करना चाहिए क्योंकि संघर्ष तो संघर्ष ही जीवन का नाम है संघर्ष के बिना जीवन ही नहीं सकता छोटी सी चींटी लेक सिटी कोलकाता सिटी से लेकर शहर तक को जिंदगी के संघर्ष को के सामने जाकर लड़ना पड़ता है और उसके सामने उसका सामना करके बुराइयों से पर विजय पाकर हमें जिंदगी जीने आनी चाहिए और बाकी जो चीज है क्या ग्रुप को किसी से तकलीफ होती है तो जो सामाजिक व्यवस्था है जैसे पुलिस न्याय व्यवस्था है प्रशासन की व्यवस्था है इसका सहारा लेना चाहिए और उनकी मदद से ऐसे दुष्टों लोगों को जो हमें हनी हानि पहुंचाते हो उनको रोकना चाहिए और अगर यहां के समाचार और न समाज यह समाज की समझ के ही व्यवस्था का सामाजिक व्यवस्था का आउटपुट होता है यह होती है यह बुराई तो समाज की व्यवस्था कभी बारे में कभी सोचना चाहिए और उसके जो बुरी चीज है उसको दूर करना चाहिए यह दूरी है जो है वह समाज से ही निकलती है व्यवस्था उसको जवाब जिम्मेदार होती है तो एक अच्छी हो सके से समाज की हो जिससे सब संतुलन अच्छा रहे ऐसी समाज व्यवस्था बनाना समाज का और सरकार का काम होता है इसे जिम्मेदारी के साथ और गंभीरता के साथ नहीं लिया जाता है इसलिए बहुत सारी बुराइयां हमारे हमें आमने-सामने इधर दिखाई देती है और उसे तकलीफ भी होती है और हम से भी किसी को तकलीफ हो सकती है इसलिए बुराई के कारण कुछ जरूरी होता है और कायदा कानून की व्यवस्था जो है वह ईमानदार प्रामाणिक होनी चाहिए अगर वह भ्रष्ट भ्रष्ट है तू भी समझ कर समझ तो बहुत बुरा असर पड़ता है जैसा आज पड़ा है धन्यवाद अगर मेरा जवाब अच्छा लगा तो लाइक करें
Duniya jahaan kee buraiyon se kaise bachegee to kabeer jee ne kaha yah kaha tha ki main buraee dhoondhane nikala tum aakhir mein paaya ki mujhase bura doosara koee nahin hai to duniya bahut buraee unake buraiyon se bharee huee hai yah to nishchit hai lekin phir bhee hamen bura nahin banana hai hamen achchha hee insaan banakar jeena hai aur achchhe insaanon ko lagabhag koee takaleeph nahin hotee hai inake saath koee bahut kam parasentej mein unako unake dushman hote hain isalie unako jyaada koee is kadar bhee nahin hota hai aurat jo sachcha insaan hai aur jo satyavaadee insaan ko kabhee darata bhee nahin hai kisee cheej se to duniya kee buraiyon ko vaise darana hee nahin chaahie agar aapane khud kuchh buraiyaan kee hai to usake usaka riekshan hokar aapako bhee buraiyon ka saamana karana to padega hee aur agar isake baad bhee buraiyaan ho saamane aatee hai to usako pesh karana chaahie kyonki sangharsh to sangharsh hee jeevan ka naam hai sangharsh ke bina jeevan hee nahin sakata chhotee see cheentee lek sitee kolakaata sitee se lekar shahar tak ko jindagee ke sangharsh ko ke saamane jaakar ladana padata hai aur usake saamane usaka saamana karake buraiyon se par vijay paakar hamen jindagee jeene aanee chaahie aur baakee jo cheej hai kya grup ko kisee se takaleeph hotee hai to jo saamaajik vyavastha hai jaise pulis nyaay vyavastha hai prashaasan kee vyavastha hai isaka sahaara lena chaahie aur unakee madad se aise dushton logon ko jo hamen hanee haani pahunchaate ho unako rokana chaahie aur agar yahaan ke samaachaar aur na samaaj yah samaaj kee samajh ke hee vyavastha ka saamaajik vyavastha ka aautaput hota hai yah hotee hai yah buraee to samaaj kee vyavastha kabhee baare mein kabhee sochana chaahie aur usake jo buree cheej hai usako door karana chaahie yah dooree hai jo hai vah samaaj se hee nikalatee hai vyavastha usako javaab jimmedaar hotee hai to ek achchhee ho sake se samaaj kee ho jisase sab santulan achchha rahe aisee samaaj vyavastha banaana samaaj ka aur sarakaar ka kaam hota hai ise jimmedaaree ke saath aur gambheerata ke saath nahin liya jaata hai isalie bahut saaree buraiyaan hamaare hamen aamane-saamane idhar dikhaee detee hai aur use takaleeph bhee hotee hai aur ham se bhee kisee ko takaleeph ho sakatee hai isalie buraee ke kaaran kuchh jarooree hota hai aur kaayada kaanoon kee vyavastha jo hai vah eemaanadaar praamaanik honee chaahie agar vah bhrasht bhrasht hai too bhee samajh kar samajh to bahut bura asar padata hai jaisa aaj pada hai dhanyavaad agar mera javaab achchha laga to laik karen

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:05
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचें एक बात तो तय है हम सब भली भांति जानते हैं कि बुरे काम का बुरा नतीजा निकलता है इसलिए हमें सदैव बुरे कामों से दूर रहना चाहिए बुरे लोगों से दूर रहना चाहिए बुरी जगह पर नहीं जाना चाहिए बुरी आदतों को त्याग देना चाहिए हमने भी बुराइयां हैं अब हम यह नहीं कह रहे हैं कि हम शराब पीते हैं मांस मदिरा खाते हैं हर व्यक्ति में कुछ ना कुछ बुरी आदतें होती जैसे देर तक सोना सुबह बेटी लेना गुस्सा करना बड़ों की बातें ना मानना किसी से बातचीत होने पर अनाप-शनाप बोलना मैंने कुल मिलाकर कहने का मतलब है कई प्रकार की बुराइयां होती हैं जिनको हमें त्यागना चाहिए और उन बुरी आदतों से बचना चाहिए यही हमारे लिए बेटर होता है और उनसे बचना चाहिए और इन बुराइयों को दूर करना चाहिए धन्यवाद
Duniya jahaan kee buraiyon se kaise bachen ek baat to tay hai ham sab bhalee bhaanti jaanate hain ki bure kaam ka bura nateeja nikalata hai isalie hamen sadaiv bure kaamon se door rahana chaahie bure logon se door rahana chaahie buree jagah par nahin jaana chaahie buree aadaton ko tyaag dena chaahie hamane bhee buraiyaan hain ab ham yah nahin kah rahe hain ki ham sharaab peete hain maans madira khaate hain har vyakti mein kuchh na kuchh buree aadaten hotee jaise der tak sona subah betee lena gussa karana badon kee baaten na maanana kisee se baatacheet hone par anaap-shanaap bolana mainne kul milaakar kahane ka matalab hai kaee prakaar kee buraiyaan hotee hain jinako hamen tyaagana chaahie aur un buree aadaton se bachana chaahie yahee hamaare lie betar hota hai aur unase bachana chaahie aur in buraiyon ko door karana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:55
सवाल यह है कि दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे तो इसका तो कोई एक इलाज है नहीं कि कैसे बुराई से बचा जाए क्योंकि बुराई हमारे चारों तरफ होती हैं इसका केवल यही एक उपाय है कि अपनी विवेक और अपनी बुद्धि का उपयोग करके सही तरीके से सही काम करें और सही निर्णय लें हर इंसान को अच्छे और बुरे की समझ होती है उसको अपने बुद्धि और विवेक के द्वारा ही अच्छाई और बुराई पर निर्णय करना चाहिए कि आप अच्छे कार्यों का चयन करेंगे तो आप आपके साथ सब कुछ अच्छा ही होगा यदि आपको किसी बुरी संगति में पढ़ते हैं तो वे आपके लिए और आपके परिवार वालों के लिए बहुत ही हितकारी होगा एक अच्छी चीज नहीं है किसी चीज नहीं है आपको अपने जीवन में कहीं भी कुछ पहन कहीं पर भी पहुंचना है कहीं कुछ करना है तो हमेशा अच्छा और भलाई का साथ दें जिससे आप दूसरों का और खुद का भी भला कर पाए
Savaal yah hai ki duniya jahaan kee buraiyon se kaise bache to isaka to koee ek ilaaj hai nahin ki kaise buraee se bacha jae kyonki buraee hamaare chaaron taraph hotee hain isaka keval yahee ek upaay hai ki apanee vivek aur apanee buddhi ka upayog karake sahee tareeke se sahee kaam karen aur sahee nirnay len har insaan ko achchhe aur bure kee samajh hotee hai usako apane buddhi aur vivek ke dvaara hee achchhaee aur buraee par nirnay karana chaahie ki aap achchhe kaaryon ka chayan karenge to aap aapake saath sab kuchh achchha hee hoga yadi aapako kisee buree sangati mein padhate hain to ve aapake lie aur aapake parivaar vaalon ke lie bahut hee hitakaaree hoga ek achchhee cheej nahin hai kisee cheej nahin hai aapako apane jeevan mein kaheen bhee kuchh pahan kaheen par bhee pahunchana hai kaheen kuchh karana hai to hamesha achchha aur bhalaee ka saath den jisase aap doosaron ka aur khud ka bhee bhala kar pae

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
2:39
सवाल है दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचें जवाब सुने लाइक कीजिए सब्सक्राइब कीजिए तो इसके अंदर आप जहां पर हो वहीं पर बुरी चीज भी रहती है और अच्छी चीज भी दोनों दोनों अवेलेबल होती है अब होता है क्या है कि माइंड के ऊपर सबसे ज्यादा जो प्रभाव पड़ता है वह बुरे चीजों का पड़ता है आजू बाजू में और उसका कारण भी है कि जो बुरी चीजें होती है यह आशु आशु आशु एक बहुत ही इसीलिए वायरल होती है जैसे टीवी है आपका फेसबुक है इंस्टाग्राम है यहां से डायरेक्शन में उसका अर्थ नहीं है हमें करना है कि हमें अच्छे विचारों के साथ रहना है और अच्छे विचारों के लिए प्रयास करना पड़ता है और सबसे ज्यादा मात्रा में होते हैं और वह प्रभाव के शिकार बनते हैं उसी टाइप के लोग भी अच्छे विचारों का जतन करो उसको माइनस हो रहा हूं प्लीज इसे बोलते हैं उसको मेडिटेशन करना है अच्छी किताबें पढ़ना है अच्छे लोगों के साथ बातचीत करने अच्छे दोस्त रखने हैं क्या हो गया कि आप धीरे-धीरे आपके माइंड कीचका अच्छे विचार लेने लगे तो जैसे तरीके से आगे आने में बुरे विचारों का शिकार हो रहे थे उसी तरीके से यहां पर अच्छे विचारों के भगवान करें आप अपने आप उसको कट कर सकते हैं आपके पास आएंगे छू के निकल जाएगी लेकिन आप तो उसका प्रभाव नहीं पड़ेगा तो ट्रेनिंग से हम हमारा खुद का ऑर्डर बना सकते हैं तो इसके लिए खुद का सेल्फ रिस्पेक्ट और खुद से ही अंदर जा को बाहर का क्रिकेट नहीं होने देना क्योंकि फोन में ऐसा होता है कि मुझे मार्केट के अंदर
Savaal hai duniya jahaan kee buraiyon se kaise bachen javaab sune laik keejie sabsakraib keejie to isake andar aap jahaan par ho vaheen par buree cheej bhee rahatee hai aur achchhee cheej bhee donon donon avelebal hotee hai ab hota hai kya hai ki maind ke oopar sabase jyaada jo prabhaav padata hai vah bure cheejon ka padata hai aajoo baajoo mein aur usaka kaaran bhee hai ki jo buree cheejen hotee hai yah aashu aashu aashu ek bahut hee iseelie vaayaral hotee hai jaise teevee hai aapaka phesabuk hai instaagraam hai yahaan se daayarekshan mein usaka arth nahin hai hamen karana hai ki hamen achchhe vichaaron ke saath rahana hai aur achchhe vichaaron ke lie prayaas karana padata hai aur sabase jyaada maatra mein hote hain aur vah prabhaav ke shikaar banate hain usee taip ke log bhee achchhe vichaaron ka jatan karo usako mainas ho raha hoon pleej ise bolate hain usako mediteshan karana hai achchhee kitaaben padhana hai achchhe logon ke saath baatacheet karane achchhe dost rakhane hain kya ho gaya ki aap dheere-dheere aapake maind keechaka achchhe vichaar lene lage to jaise tareeke se aage aane mein bure vichaaron ka shikaar ho rahe the usee tareeke se yahaan par achchhe vichaaron ke bhagavaan karen aap apane aap usako kat kar sakate hain aapake paas aaenge chhoo ke nikal jaegee lekin aap to usaka prabhaav nahin padega to trening se ham hamaara khud ka ordar bana sakate hain to isake lie khud ka selph rispekt aur khud se hee andar ja ko baahar ka kriket nahin hone dena kyonki phon mein aisa hota hai ki mujhe maarket ke andar

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:56
हमारी दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे देखिए दुनिया में कोई बुराई नहीं है सारी बुराइयां सारी खामियां खुद में ही होती है यदि आप अपनी बुराइयों को अपनी कमियों को खोज लेंगे तो आपको संसार में कोई भी बुरा इंसान नहीं मिलेगा अपनी सोच को बदलना चाहिए अपनी सोच में ही बुराई होती है और अपनी सोच में ही अच्छा ही होती है जब हम अच्छा सोचते हैं तो पूरा संसार ही अच्छा दिखता है और जब हम बुरा सोचते हैं तो हमें पूरा संसार बुरा दिखता है इसलिए अपने अंदर की बुराइयों को दूर करने की कोशिश करनी चाहिए जिससे पूरा संसार अच्छा दिखेगा क्योंकि वास्तव में अच्छाई और बुराई अपने ही अंदर होती है धन्यवाद
Hamaaree duniya jahaan kee buraiyon se kaise bache dekhie duniya mein koee buraee nahin hai saaree buraiyaan saaree khaamiyaan khud mein hee hotee hai yadi aap apanee buraiyon ko apanee kamiyon ko khoj lenge to aapako sansaar mein koee bhee bura insaan nahin milega apanee soch ko badalana chaahie apanee soch mein hee buraee hotee hai aur apanee soch mein hee achchha hee hotee hai jab ham achchha sochate hain to poora sansaar hee achchha dikhata hai aur jab ham bura sochate hain to hamen poora sansaar bura dikhata hai isalie apane andar kee buraiyon ko door karane kee koshish karanee chaahie jisase poora sansaar achchha dikhega kyonki vaastav mein achchhaee aur buraee apane hee andar hotee hai dhanyavaad

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Umesh Upaadyay Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Umesh जी का जवाब
Life Coach | Motivational Speaker
5:16
)]}' [['wrb.fr','MkEWBc',null,

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:47
भाई आप बस वाले की दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे तो मैं आपको बता देना चाहता हूं अगर आप दुनिया जहां की बुराई से बचना है तो तो यदि आप बुरी संगत में पढ़ते हैं तो आप वह आपके और आपके परिवार जनों के लिए हितकारी हितकारी हो सकता है जो कि एक अच्छी चीज नहीं है हितकारी हो सकता है जो कि आपके लिए एक अच्छी चीज नहीं है आपको अपना नहीं पहचानता है वहीं कुछ करना है तो आप अच्छाई और सच्चाई का हिसाब दे उसे आप दूसरों का और खुद का भला भी कर पाए
Bhaee aap bas vaale kee duniya jahaan kee buraiyon se kaise bache to main aapako bata dena chaahata hoon agar aap duniya jahaan kee buraee se bachana hai to to yadi aap buree sangat mein padhate hain to aap vah aapake aur aapake parivaar janon ke lie hitakaaree hitakaaree ho sakata hai jo ki ek achchhee cheej nahin hai hitakaaree ho sakata hai jo ki aapake lie ek achchhee cheej nahin hai aapako apana nahin pahachaanata hai vaheen kuchh karana hai to aap achchhaee aur sachchaee ka hisaab de use aap doosaron ka aur khud ka bhala bhee kar pae

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:36
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका दोस्त आपका सवाल है दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे तो दोस्तों हमें दुनिया जहां की बुराइयों से बचने के लिए दोस्तों अपने काम से मतलब रखना चाहिए बस हमेशा अपना काम करें और अच्छे लोगों के साथ बैठना चाहिए गलत लोगों की संगत नहीं करना चाहिए और हमें चोरी से जो चोर है उन से काफी दूर रहना चाहिए और जो बुरे लोगों से दूरी बनाकर रखनी चाहिए तो दोस्तों हम जब बुरे लोगों से दूरियां बनाएंगे तो हम बुराइयों से भी बच जाएंगे तो धन्यवाद दोस्तों
Helo doston svaagat hai aapaka dost aapaka savaal hai duniya jahaan kee buraiyon se kaise bache to doston hamen duniya jahaan kee buraiyon se bachane ke lie doston apane kaam se matalab rakhana chaahie bas hamesha apana kaam karen aur achchhe logon ke saath baithana chaahie galat logon kee sangat nahin karana chaahie aur hamen choree se jo chor hai un se kaaphee door rahana chaahie aur jo bure logon se dooree banaakar rakhanee chaahie to doston ham jab bure logon se dooriyaan banaenge to ham buraiyon se bhee bach jaenge to dhanyavaad doston

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Manish Bhati Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Manish जी का जवाब
Life coach, professional counsellor & Relationship expert. Fitness & Motivational Coach
1:01
जेसीबी का फुल दुनिया जहां की बुराई के बारे में पूरी दुनिया बोलेगी टूटना करना है इन बातों में भी इनके बारे में सोचो दिन दुनिया बहुत अच्छी हो तो मिलने आ जाएगी मैं आपको एक एग्जांपल दे कि कोई भी प्रॉब्लम अगर कोई मोटा इंसान को हर कुछ को देखकर बोलता ही होता है अगर वह पतला को देख कर बोलते नहीं मिलेगा अगर वह है उसको भी यह भी देख कर बोल दीजिए तो यह हमारी दुनिया आप बच्चों को भी अगर ऑन करो यार तुम बोलेगी और बुराई भी करे कि आज मैं हूं मेरे बारे में काफी बोल कर के बोलते हुए कि एक ऑपरेशन में सोचने लगते लगते हैं एक्स वाई जेड कुछ मुझे उससे फर्क नहीं पड़ता सुबह से आपको फर्क नहीं पड़ना चाहिए वैसे आप बचपन से दर्शन करने वाले
Jeseebee ka phul duniya jahaan kee buraee ke baare mein pooree duniya bolegee tootana karana hai in baaton mein bhee inake baare mein socho din duniya bahut achchhee ho to milane aa jaegee main aapako ek egjaampal de ki koee bhee problam agar koee mota insaan ko har kuchh ko dekhakar bolata hee hota hai agar vah patala ko dekh kar bolate nahin milega agar vah hai usako bhee yah bhee dekh kar bol deejie to yah hamaaree duniya aap bachchon ko bhee agar on karo yaar tum bolegee aur buraee bhee kare ki aaj main hoon mere baare mein kaaphee bol kar ke bolate hue ki ek opareshan mein sochane lagate lagate hain eks vaee jed kuchh mujhe usase phark nahin padata subah se aapako phark nahin padana chaahie vaise aap bachapan se darshan karane vaale

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
𝑫𝑹 𝑴𝑫 𝑵𝑰𝒁𝑨𝑴  𝑨𝑩𝑩𝑨𝑺𝑰 Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए 𝑫𝑹 जी का जवाब
Nitrogen injection fire protection system transformer company and 𝐄𝐀𝐒𝐔𝐍 𝐌𝐑 company my job thank you
2:08
एमडी नेम ऑफ बफैलो कलेक्टर 21st कर दो अक्षर वाले की दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचें यह दुनिया बहुत बड़ी है और उसकी बुराइयां बहुत छोटी सी मेरे हिसाब से जितने मुंह उतनी बातें होती हैं उन बातों को इग्नोर किया जाता है जैसे आपकी डिवाइस में आपके घर में आपके कपड़ो आप के कपड़ो में जैसा मारा जाता है आपके घर में जैसे कूड़ा आ जाता है आपके डिवाइस में जैसे वायरस आ जाता है ऐसी ही अपनी माइंड की थिकनेस कोई अपनी थिंक इसको डिलीट कर दीजिए एक कान से सुनो दूसरे से निकाल दीजिए यही एक बहुत अच्छा बुराई से बचने का तरीका है क्योंकि हमारा दिमाग एक ऐसा रिकवर टिक इंजन है मशीन है कि वह थॉट्स को बहुत जल्दी कवर करता है अपने दिल में बिठा लेता है तो आप मेंटली पॉज बनी है जिससे आपको कोई कुछ कहे तो आप इग्नोर कर दो अगर आप कामयाबी की तरफ पढ़ोगे तो चार लोग आपकी बुराई करेंगे तो लोग कहेंगे कि मैं नहीं कर पाता तो तू क्या करेगा कि सारी बातें होती रहती हैं चाहा मैं जमाने में तो आपको हमेशा मेंट्री प्रॉफिट बनना है आपको हमेशा अपने माइंड को समझाना अपनी दिशा को सीधी रख लिया तभी आप दुनिया की बुराइयों से बच सकते हैं धन्यवाद कैसा लगा आपको सवाल अच्छा लगे तो लाइक करें कमेंट करें शेयर करें सब्सक्राइब करें
Emadee nem oph baphailo kalektar 21st kar do akshar vaale kee duniya jahaan kee buraiyon se kaise bachen yah duniya bahut badee hai aur usakee buraiyaan bahut chhotee see mere hisaab se jitane munh utanee baaten hotee hain un baaton ko ignor kiya jaata hai jaise aapakee divais mein aapake ghar mein aapake kapado aap ke kapado mein jaisa maara jaata hai aapake ghar mein jaise kooda aa jaata hai aapake divais mein jaise vaayaras aa jaata hai aisee hee apanee maind kee thikanes koee apanee think isako dileet kar deejie ek kaan se suno doosare se nikaal deejie yahee ek bahut achchha buraee se bachane ka tareeka hai kyonki hamaara dimaag ek aisa rikavar tik injan hai masheen hai ki vah thots ko bahut jaldee kavar karata hai apane dil mein bitha leta hai to aap mentalee poj banee hai jisase aapako koee kuchh kahe to aap ignor kar do agar aap kaamayaabee kee taraph padhoge to chaar log aapakee buraee karenge to log kahenge ki main nahin kar paata to too kya karega ki saaree baaten hotee rahatee hain chaaha main jamaane mein to aapako hamesha mentree prophit banana hai aapako hamesha apane maind ko samajhaana apanee disha ko seedhee rakh liya tabhee aap duniya kee buraiyon se bach sakate hain dhanyavaad kaisa laga aapako savaal achchha lage to laik karen kament karen sheyar karen sabsakraib karen

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:53
अरे दुनिया की बुराइयों से कैसे बनी बचने के लिए हमें अपने आप को स्ट्रांग करना पड़ेगा और मजबूत करना कि हम किसी के लिए बातों को समझा कर पाएगी क्या कोई कुछ भी किसी बात पर छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा हो जाती है बड़ी-बड़ी बातों पर भी गुस्सा नहीं होते हैं ऐसा क्यों होता है कि नहीं आता है और दुनिया की बातों पर इतना ध्यान नहीं देते हैं जैसे कि दुनिया जो है वह कमेंट करने पर आपको पीछे करने पर लगी रहती है जैसे कि कुछ करना चाहिए और आगे बढ़ना नहीं तो कुछ भी नहीं देती बातें जरूर आती हैं और हो सकता है कि कुछ लोग चाहिए कि यह बहुत मेहनत वाला है आप नहीं कर पाएंगे या फिर आप से नहीं हो सकता है लेकिन तुम पर यकीन होना चाहिए कि नहीं मैंने सोचा है तो मैं कर लूंगा और आपको आप से बेहतर कोई नहीं जानता इसलिए इस दुनिया की बुराइयों से बचने के लिए हमें अपनी आपको देने की आवश्यकता नहीं देती है इसलिए जब आप ऊंचाइयों की तरफ खड़े होते हो आप से बेहतर कोई नहीं जानता आप अपने मन पर कंट्रोल रखें और अपने आप को मजबूत बनाएं कि आप दुनिया की तरह बन सकते हैं
Are duniya kee buraiyon se kaise banee bachane ke lie hamen apane aap ko straang karana padega aur majaboot karana ki ham kisee ke lie baaton ko samajha kar paegee kya koee kuchh bhee kisee baat par chhotee-chhotee baaton par gussa ho jaatee hai badee-badee baaton par bhee gussa nahin hote hain aisa kyon hota hai ki nahin aata hai aur duniya kee baaton par itana dhyaan nahin dete hain jaise ki duniya jo hai vah kament karane par aapako peechhe karane par lagee rahatee hai jaise ki kuchh karana chaahie aur aage badhana nahin to kuchh bhee nahin detee baaten jaroor aatee hain aur ho sakata hai ki kuchh log chaahie ki yah bahut mehanat vaala hai aap nahin kar paenge ya phir aap se nahin ho sakata hai lekin tum par yakeen hona chaahie ki nahin mainne socha hai to main kar loonga aur aapako aap se behatar koee nahin jaanata isalie is duniya kee buraiyon se bachane ke lie hamen apanee aapako dene kee aavashyakata nahin detee hai isalie jab aap oonchaiyon kee taraph khade hote ho aap se behatar koee nahin jaanata aap apane man par kantrol rakhen aur apane aap ko majaboot banaen ki aap duniya kee tarah ban sakate hain

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Sameera khaan Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sameera जी का जवाब
Unknown
0:19
गुड आफ्टरनून का सवाल है दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचें बहुत टाइम पहले ही बता दिया था कि बुरा ना देखा ना बोले और बुरा ना माने
Gud aaphtaranoon ka savaal hai duniya jahaan kee buraiyon se kaise bachen bahut taim pahale hee bata diya tha ki bura na dekha na bole aur bura na maane

bolkar speaker
दुनिया जहां की बुराइयों से कैसे बचे?Duniya Jahan Ki Buraiyon Se Kaise Bache
Rajeev Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajeev जी का जवाब
Student
1:16

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • दुनिया की बुराई दुनिया में बुराई
URL copied to clipboard