#भारत की राजनीति

bolkar speaker

क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?

Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:29
हेलो शिवांशु आज आप का सवाल है कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो उसके बाद से मैं बहुत हद तक सहमत हूं क्योंकि मतलब अभी जो न्यूज़ देखती हूं ना तो मतलब हंसी आती है कि यह ब्रेकिंग भी हो सकता है उसे कि कुछ दिन पहले मैंने देखा कि अमित शाह जी का मतलब जो क्या खा रहे हैं बंगाल गए थे तो वह क्या खा रहे हैं उनके प्लेट में क्या है पटेल साहब अल मतलब जो भी न्यूज़ देख ले चली में हंस रही थी कि यह ब्रेकिंग न्यूज़ और अब यह सब चीज देखने के लिए मतलब न्यूज़ चैनल खोल दें इस तरह से चीजों को दर्शाया जाता है जैसे कि आंख बंद करके कि हां यह सब चीज जो भी न्यूज़ में हो रहा है सब सही हो रहा है अब आप करेंगे तो फिर क्या करेंगे 23 चैनल मैंने खोल कर देखा सब में यही चीजें दिखा रहा हूं और वह भी ब्रेकिंग में चल रहा था कि अमित शाह जी ने क्या खाया बंगाल में है और किस तरह वह बैठे क्या-क्या चीज उन्होंने मोबाइल की प्लेट में क्या-क्या है तो न्यूज़ अब इस तरह से बन गई है दिल्ली हम लोग उसकी पढ़ाई कर रहे हैं तो हमें बताया जाता है कि ऐसा होना चाहिए वैसा होना चाहिए एक्यूरेट होना चाहिए और ऐसा कुछ होना चाहिए जो हर एक जनता के लिए जरूरी हो यह न्यूज़ क्या जरूरी है कि मतलब वह क्या खा रहे क्या नहीं खरगोन के प्लेट में क्या आई है आपको लगता है कि यह मतलब जरूरी हर इंसान को जानने की मतलब जरूरी है तो मेरे हिसाब से यह सब समझ सकते हैं कि किस तरह से मतलब जो भी और मीडिया और जितने भी न्यूज़ मैक्सिमम जितने भी चैनल से उसे मोदी सरकार ने और बीजेपी सरकार हम कह सकते हैं कि मतलब उनकी कठपुतली बन गई है जो वह करते हैं जिस तरह से करते हैं अच्छे से अच्छे चीजों को दर्शाया जाता है जो भी असली और अच्छे मुद्दे होते हैं मुझे लगता है बहुत जल्दी मैंने उसे हटा दिया जाता है इतना एलेबोरेट नहीं किया जाता है ना ही दिखाया जाता है अगर आप ही यूट्यूब में देखेंगे ट्विटर पर जाएंगे तब आपको पता चलेगा कि क्या ट्रेन कर रहा है कौन सी पर क्या हो रहा है क्या नुकसान हो रहा है किस तरह से क्या-क्या चीज आ रहे हैं जो हमारे लिए कितना नुकसान है लेकिन वह आप न्यूज़ चैनल में जाकर देखेंगे तो आपको ऐसा कुछ भी नहीं दिखेगा आपको यही सभी देखा देखने चले मिलेगा कि मोदी सरकार क्या कर रही है बीजेपी सरकार क्या करेगी हर एक चीज जो भी प्राइवेसी है या फिर जिस तरह से भी कहां जा रहे हैं क्या करें वही सब चीज दिखाया जाता तो मैं यह बात से पूरी तरह से सहमत हूं कि जो अब मीडिया जो है मोदी सरकार ने और बीजेपी सरकार ने खरीद लिया
Helo shivaanshu aaj aap ka savaal hai ki kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai to usake baad se main bahut had tak sahamat hoon kyonki matalab abhee jo nyooz dekhatee hoon na to matalab hansee aatee hai ki yah breking bhee ho sakata hai use ki kuchh din pahale mainne dekha ki amit shaah jee ka matalab jo kya kha rahe hain bangaal gae the to vah kya kha rahe hain unake plet mein kya hai patel saahab al matalab jo bhee nyooz dekh le chalee mein hans rahee thee ki yah breking nyooz aur ab yah sab cheej dekhane ke lie matalab nyooz chainal khol den is tarah se cheejon ko darshaaya jaata hai jaise ki aankh band karake ki haan yah sab cheej jo bhee nyooz mein ho raha hai sab sahee ho raha hai ab aap karenge to phir kya karenge 23 chainal mainne khol kar dekha sab mein yahee cheejen dikha raha hoon aur vah bhee breking mein chal raha tha ki amit shaah jee ne kya khaaya bangaal mein hai aur kis tarah vah baithe kya-kya cheej unhonne mobail kee plet mein kya-kya hai to nyooz ab is tarah se ban gaee hai dillee ham log usakee padhaee kar rahe hain to hamen bataaya jaata hai ki aisa hona chaahie vaisa hona chaahie ekyooret hona chaahie aur aisa kuchh hona chaahie jo har ek janata ke lie jarooree ho yah nyooz kya jarooree hai ki matalab vah kya kha rahe kya nahin kharagon ke plet mein kya aaee hai aapako lagata hai ki yah matalab jarooree har insaan ko jaanane kee matalab jarooree hai to mere hisaab se yah sab samajh sakate hain ki kis tarah se matalab jo bhee aur meediya aur jitane bhee nyooz maiksimam jitane bhee chainal se use modee sarakaar ne aur beejepee sarakaar ham kah sakate hain ki matalab unakee kathaputalee ban gaee hai jo vah karate hain jis tarah se karate hain achchhe se achchhe cheejon ko darshaaya jaata hai jo bhee asalee aur achchhe mudde hote hain mujhe lagata hai bahut jaldee mainne use hata diya jaata hai itana eleboret nahin kiya jaata hai na hee dikhaaya jaata hai agar aap hee yootyoob mein dekhenge tvitar par jaenge tab aapako pata chalega ki kya tren kar raha hai kaun see par kya ho raha hai kya nukasaan ho raha hai kis tarah se kya-kya cheej aa rahe hain jo hamaare lie kitana nukasaan hai lekin vah aap nyooz chainal mein jaakar dekhenge to aapako aisa kuchh bhee nahin dikhega aapako yahee sabhee dekha dekhane chale milega ki modee sarakaar kya kar rahee hai beejepee sarakaar kya karegee har ek cheej jo bhee praivesee hai ya phir jis tarah se bhee kahaan ja rahe hain kya karen vahee sab cheej dikhaaya jaata to main yah baat se pooree tarah se sahamat hoon ki jo ab meediya jo hai modee sarakaar ne aur beejepee sarakaar ne khareed liya

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:59
अभी तो आप का सवाल है क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर यह है भारतीय मीडिया को जो ज्यादा पैसे ज्यादा विज्ञापन देते हैं और उनके पक्ष में जो पॉलिसी मनाते हैं उनके बारे में ज्यादा प्रचार प्रसार करते हैं इसलिए भारतीय मीडिया को इस पार्टी के माध्यम से ज्यादा सपोर्ट होता है और ज्यादा पैसे मिलते हैं और ज्यादा ही पार्टी के माध्यम से टीआरपी बढ़ती है तो भारतीय मीडिया को किसी की भी सरकार हो उनके बारे में ज्यादा प्रचार प्रसार करते हैं और हमारे भारत में ज्यादातर चैनल बड़े-बड़े उद्योगपतियों के हैं इसलिए उद्योगपतियों के पक्ष में जो पार्टी खड़ी होती है वह उसी के प्रचार प्रसार करते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Abhee to aap ka savaal hai kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai to doston aapake savaal ka uttar yah hai bhaarateey meediya ko jo jyaada paise jyaada vigyaapan dete hain aur unake paksh mein jo polisee manaate hain unake baare mein jyaada prachaar prasaar karate hain isalie bhaarateey meediya ko is paartee ke maadhyam se jyaada saport hota hai aur jyaada paise milate hain aur jyaada hee paartee ke maadhyam se teeaarapee badhatee hai to bhaarateey meediya ko kisee kee bhee sarakaar ho unake baare mein jyaada prachaar prasaar karate hain aur hamaare bhaarat mein jyaadaatar chainal bade-bade udyogapatiyon ke hain isalie udyogapatiyon ke paksh mein jo paartee khadee hotee hai vah usee ke prachaar prasaar karate hain dhanyavaad doston khush raho

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
2:00
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो दिखी लोगों के बढ़ते वर्चस्व को देखते हुए मतलब आज अगर देखा जाए तो मीडिया पे भारतीय लोगों का विश्वास खत्म हो रहा है कहा जाए कि ना के बराबर हो गया है क्योंकि भारतीय मीडिया इतनी ज्यादा जो हकीकत चीजें हैं वह उसी को दिखाकर कुछ ऐसी चीजें दिखाते हैं जिसे हम चाहते हैं तो समझ रहे हैं आप किधर हम चाहेंगे जो चीज वही दिखाएंगे उसके अलावा दूसरी चीजें नहीं दिखा सकते हैं बताओ जो चीजें हकीकत चीजों से रूबरू कराना चाहिए मीडिया का मीडिया को उचित नहीं करा रही है मीडिया को वही काम होता है जो इस देश में यह घट रही है जिस जो घटनाएं हो रहे हैं जो चीज लोगों के हित में होनी चाहिए उसे 9 दिखाकर अगर हम कोई चीज ही स्पेशल चीजें दिखाते हैं तो कहीं ना कहीं कहीं जाती है कि आप उनके गुलाम है तू यही देखा जा रहा है कि यीशु विश्वास उठ रहा है लोगों का यही मत आ रहा है लोगों का कि कहीं न कहीं मोदी सरकार की गुलाम हो गई है मीडिया जो भी भारतीय मीडिया है तू ही इसी वजह से ही प्रश्न भी उठ रहे हैं और यह मुद्दे भी उठ रहे हैं कि क्या भारतीय जो मीडिया है वह मोदी सरकार की गुलाम हो गई है या खरीद रखा है मतलब यह हकीकत है और यही देखा जाए कि सरकार वाली बात जो सरकार बनती है उसकी एवज में ही मीडिया सरकार बोलती है ना कि उसके विपक्ष में मतलब अगर पक्ष विपक्ष की बात करें अगर पश्चिमी बोलेगी तभी मीडिया को कुछ यूं मिलेंगे कुछ आइटम मिलेंगे कुछ तड़कता भड़कता मतलब टीआरपी बढ़ाने की रेट जो मिलेंगे जो टीआरपी बढ़ाने के तरीके उन्हें जो प्रजेंट की सरकार होती है उसी से मिलती है यह भी एक कारण है कि निर्यात की जाती होगी कि करंट जो सरकार है हम उसके पक्ष में अगर बात करेंगे तो कहीं ना कहीं हमारी जो टीआरपी है वह हाय रे हाय और परसेंटेज पर रहेगी जिससे कि लोगों में हमारा वर्चस्व बना रहेगा
Kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai to dikhee logon ke badhate varchasv ko dekhate hue matalab aaj agar dekha jae to meediya pe bhaarateey logon ka vishvaas khatm ho raha hai kaha jae ki na ke baraabar ho gaya hai kyonki bhaarateey meediya itanee jyaada jo hakeekat cheejen hain vah usee ko dikhaakar kuchh aisee cheejen dikhaate hain jise ham chaahate hain to samajh rahe hain aap kidhar ham chaahenge jo cheej vahee dikhaenge usake alaava doosaree cheejen nahin dikha sakate hain batao jo cheejen hakeekat cheejon se roobaroo karaana chaahie meediya ka meediya ko uchit nahin kara rahee hai meediya ko vahee kaam hota hai jo is desh mein yah ghat rahee hai jis jo ghatanaen ho rahe hain jo cheej logon ke hit mein honee chaahie use 9 dikhaakar agar ham koee cheej hee speshal cheejen dikhaate hain to kaheen na kaheen kaheen jaatee hai ki aap unake gulaam hai too yahee dekha ja raha hai ki yeeshu vishvaas uth raha hai logon ka yahee mat aa raha hai logon ka ki kaheen na kaheen modee sarakaar kee gulaam ho gaee hai meediya jo bhee bhaarateey meediya hai too hee isee vajah se hee prashn bhee uth rahe hain aur yah mudde bhee uth rahe hain ki kya bhaarateey jo meediya hai vah modee sarakaar kee gulaam ho gaee hai ya khareed rakha hai matalab yah hakeekat hai aur yahee dekha jae ki sarakaar vaalee baat jo sarakaar banatee hai usakee evaj mein hee meediya sarakaar bolatee hai na ki usake vipaksh mein matalab agar paksh vipaksh kee baat karen agar pashchimee bolegee tabhee meediya ko kuchh yoon milenge kuchh aaitam milenge kuchh tadakata bhadakata matalab teeaarapee badhaane kee ret jo milenge jo teeaarapee badhaane ke tareeke unhen jo prajent kee sarakaar hotee hai usee se milatee hai yah bhee ek kaaran hai ki niryaat kee jaatee hogee ki karant jo sarakaar hai ham usake paksh mein agar baat karenge to kaheen na kaheen hamaaree jo teeaarapee hai vah haay re haay aur parasentej par rahegee jisase ki logon mein hamaara varchasv bana rahega

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Mohit Kumar Chaniyal Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Mohit जी का जवाब
Programmer , Ethical Hacker , Network Engineer
1:11
हुआ तो कुछ नहीं कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है यह कहना बहुत ही गलत होगा और मीडिया स्वतंत्र हैं किसी भी कमेंट से मीडिया को कोई नहीं रोक सकता है ऐसे और उसके बाद कहीं ना कहीं मुझे भी यह लगता है कि बहुत से जो चैनल है वह बीजेपी की गवर्नमेंट को सपोर्ट करते हैं लेकिन मैं इससे भी मना नहीं करता कि मैं खुद एक बीजेपी के सपोर्टर ठीक है मैं खुद एक बीजेपी के सपोर्टर लेकिन जो मीडिया है मीडिया को ऐसा नहीं करना चाहिए मीडिया को स्वतंत्र होकर बोलना किसी की भी तरफ कोई बात नहीं करनी चाहिए उसे बिल्कुल पार्षद मैं समझता हूं कि किसी भी एक पक्ष की तरफ रुकना नहीं चाहिए भले ही वह अच्छे हो या गलत है भले ही वह गलत चीज करें या अच्छी चीज करें उन्हें एक ही तरह से ट्रीट नाचो ना अलग-अलग तरीके से नहीं करना चाहिए था दोस्तों आपको अच्छा लगा होगा अच्छा लगा तो लाइक कमेंट कर दीजिए थैंक यू
Hua to kuchh nahin ki kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai yah kahana bahut hee galat hoga aur meediya svatantr hain kisee bhee kament se meediya ko koee nahin rok sakata hai aise aur usake baad kaheen na kaheen mujhe bhee yah lagata hai ki bahut se jo chainal hai vah beejepee kee gavarnament ko saport karate hain lekin main isase bhee mana nahin karata ki main khud ek beejepee ke saportar theek hai main khud ek beejepee ke saportar lekin jo meediya hai meediya ko aisa nahin karana chaahie meediya ko svatantr hokar bolana kisee kee bhee taraph koee baat nahin karanee chaahie use bilkul paarshad main samajhata hoon ki kisee bhee ek paksh kee taraph rukana nahin chaahie bhale hee vah achchhe ho ya galat hai bhale hee vah galat cheej karen ya achchhee cheej karen unhen ek hee tarah se treet naacho na alag-alag tareeke se nahin karana chaahie tha doston aapako achchha laga hoga achchha laga to laik kament kar deejie thaink yoo

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Gajanand Genan  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gajanand जी का जवाब
Unknown
0:49
क्या है कि क्या भारत की मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है इसका आंसर नहीं क्योंकि जो प्रश्न पूछ रहे हैं जिसके मन में यह प्रश्न आता है उसके मन में यह रहता है कि यह मीडिया वाले क्वेश्चन क्यों नहीं उठाते सरकार की ओर उनको भी रहता है कि कहीं हम बस जाएंगे लेकिन पत्रकारिता में यह काम कभी नहीं होना चाहिए पत्रकारिता हमेशा सही समाज के लिए कुछ प्रश्न उठाने चाहिए और आरोप लगाने चाहिए और सही कार्य करने के लिए बैठे हैं पत्रकारिता से कुछ सही कार्य करना चाहिए
Kya hai ki kya bhaarat kee meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai isaka aansar nahin kyonki jo prashn poochh rahe hain jisake man mein yah prashn aata hai usake man mein yah rahata hai ki yah meediya vaale kveshchan kyon nahin uthaate sarakaar kee or unako bhee rahata hai ki kaheen ham bas jaenge lekin patrakaarita mein yah kaam kabhee nahin hona chaahie patrakaarita hamesha sahee samaaj ke lie kuchh prashn uthaane chaahie aur aarop lagaane chaahie aur sahee kaary karane ke lie baithe hain patrakaarita se kuchh sahee kaary karana chaahie

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:30
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है देखिए यह एक गलत प्रचार किया गया बल्कि यूं कहिए कि एक तरह का दुष्प्रचार एक पत्रकार होने के साथ-साथ वह एक नागरिक भी है अगर हम पत्रकारों की भूमिका के बारे में देखें तो क्या एक पत्रकार के स्वयं के कोई विचार नहीं हो सकते एक पत्रकार भी जनता की बात को ही पक्के सामने रखता है कुछ पत्रकार एक विचारधारा के पक्षधर होते हैं और कुछ विचार कुछ पत्रकार दूसरी विचारधारा के पक्षधर होता है और मुझे लगता है खोजी पत्रकार जो कि राष्ट्रवाद के साथ में खड़ा रहता है उसको हम खरीदना नहीं कह सकते साहब कोई पत्रकार जो कि राष्ट्रवाद को मुख्य तरीके से रखता है और अपनी पत्रकारिता के अंदर राष्ट्रवादी भावनाओं को ज्यादा शामिल करता है तो हम उस पत्रकार को सरकार द्वारा खरीदा जाना नहीं कह सकते बहुत सारे पत्रकार ऐसे हैं क्योंकि हमेशा टुकड़े टुकड़े गैंग का समर्थन करते हैं हमेशा देश विरोधी बातें करते हैं हमेशा छद्म धर्मनिरपेक्षता बाद की बात करते हैं उनका झूठे सेकुलरिज्म के बारे में बात करते हैं तो उनकी भी अपनी एक विचारधारा है लेकिन संविधान ने उनको भी बोलने की आजादी दे रखी है और जो राष्ट्रवाद पर बात करना चाहता है जो देशभक्त पत्रकारिता करता है उसकी भी अपनी सोच है तो यह बिल्कुल दुष्प्रचार है कि मोदी सरकार ने भारतीय मीडिया को खरीद रखा है कुछ पत्रकार अगर आप देखेंगे तो 24 घंटे मोदी सरकार को गालियां देते रहते हैं 24 घंटे यही उनका काम है यही उनका धर्म है कि चाहे सरकार अच्छा करें या बुरा करें वह हमेशा मोदी सरकार की बुराई करेंगे तब भी हम यह नहीं कहेंगे कि टुकड़े टुकड़े गैंग ने उनको खरीद रखा है वामपंथियों ने कांग्रेसियों ने उनको खरीद रखा है हमेशा तो नहीं कहते तो जब कोई पत्रकार राष्ट्रवाद के बारे में बात करता है तो यह दुष्प्रचार क्यों किया जाता है कि मोदी सरकार ने उसको खरीद रखा है मुझे लगता है यह गलत बात है धन्यवाद
Kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai dekhie yah ek galat prachaar kiya gaya balki yoon kahie ki ek tarah ka dushprachaar ek patrakaar hone ke saath-saath vah ek naagarik bhee hai agar ham patrakaaron kee bhoomika ke baare mein dekhen to kya ek patrakaar ke svayan ke koee vichaar nahin ho sakate ek patrakaar bhee janata kee baat ko hee pakke saamane rakhata hai kuchh patrakaar ek vichaaradhaara ke pakshadhar hote hain aur kuchh vichaar kuchh patrakaar doosaree vichaaradhaara ke pakshadhar hota hai aur mujhe lagata hai khojee patrakaar jo ki raashtravaad ke saath mein khada rahata hai usako ham khareedana nahin kah sakate saahab koee patrakaar jo ki raashtravaad ko mukhy tareeke se rakhata hai aur apanee patrakaarita ke andar raashtravaadee bhaavanaon ko jyaada shaamil karata hai to ham us patrakaar ko sarakaar dvaara khareeda jaana nahin kah sakate bahut saare patrakaar aise hain kyonki hamesha tukade tukade gaing ka samarthan karate hain hamesha desh virodhee baaten karate hain hamesha chhadm dharmanirapekshata baad kee baat karate hain unaka jhoothe sekularijm ke baare mein baat karate hain to unakee bhee apanee ek vichaaradhaara hai lekin sanvidhaan ne unako bhee bolane kee aajaadee de rakhee hai aur jo raashtravaad par baat karana chaahata hai jo deshabhakt patrakaarita karata hai usakee bhee apanee soch hai to yah bilkul dushprachaar hai ki modee sarakaar ne bhaarateey meediya ko khareed rakha hai kuchh patrakaar agar aap dekhenge to 24 ghante modee sarakaar ko gaaliyaan dete rahate hain 24 ghante yahee unaka kaam hai yahee unaka dharm hai ki chaahe sarakaar achchha karen ya bura karen vah hamesha modee sarakaar kee buraee karenge tab bhee ham yah nahin kahenge ki tukade tukade gaing ne unako khareed rakha hai vaamapanthiyon ne kaangresiyon ne unako khareed rakha hai hamesha to nahin kahate to jab koee patrakaar raashtravaad ke baare mein baat karata hai to yah dushprachaar kyon kiya jaata hai ki modee sarakaar ne usako khareed rakha hai mujhe lagata hai yah galat baat hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Ashish Lavania Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Ashish जी का जवाब
Yoga Instructor
0:45
भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है ऐसा आप कह सकते क्योंकि जो गवर्नमेंट है वह अच्छे काम कर रहे हो और अच्छे काम कर दिया तो वीडियो दिखा रही है पर अगर इसे यह दिखाना की वीडियो जो अच्छे काम करे वह वीडियो दिखा रही है यार इसका मतलब है कि मीडिया को खरीद नहीं आए तो आप यह सोच सकते हैं आप भी अच्छा काम करेंगे अगर वाले आपकी तारीफ करेंगे तो इसका मतलब यह थोड़ी ना है कि आपने उनको पैसे दिया कि मेरी तारीफ करो हमने कुछ अच्छा काम करें तभी तो अब आपने कुछ किया ही नहीं है जबरदस्ती कि आपकी तारीफ हो रही है तो समझ सकते हैं जैसे कि राहुल गांधी कुछ भी किया नहीं है फिर भी अब होगा न्याय और यह इतने सारे ऐड वगैरह मीडिया यह होगा वह होगा तो वह सारी चीजें
Bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai aisa aap kah sakate kyonki jo gavarnament hai vah achchhe kaam kar rahe ho aur achchhe kaam kar diya to veediyo dikha rahee hai par agar ise yah dikhaana kee veediyo jo achchhe kaam kare vah veediyo dikha rahee hai yaar isaka matalab hai ki meediya ko khareed nahin aae to aap yah soch sakate hain aap bhee achchha kaam karenge agar vaale aapakee taareeph karenge to isaka matalab yah thodee na hai ki aapane unako paise diya ki meree taareeph karo hamane kuchh achchha kaam karen tabhee to ab aapane kuchh kiya hee nahin hai jabaradastee ki aapakee taareeph ho rahee hai to samajh sakate hain jaise ki raahul gaandhee kuchh bhee kiya nahin hai phir bhee ab hoga nyaay aur yah itane saare aid vagairah meediya yah hoga vah hoga to vah saaree cheejen

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:32
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका दोस्तों आप का सवाल है क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है नहीं दोस्तों मीडिया को कभी कोई नहीं खरीद सकता है मोदी सरकार क्यों खरीदेगी यह लोग मोदी सरकार के ऊपर बिल्कुल गलत आरोप लगा रहे हैं भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने बिल्कुल भी नहीं खरीदा मीडिया स्वतंत्र होती है उसे जो इच्छा होती है वह बोल सकती है लिख सकती है इसलिए उसे कोई नहीं खरीद सकता और यह जो मोदी जी से जलते हैं लोग भी यह भ्रम वाली बातें फैला रहे हैं कि मोदी जी ने मुंह मोड़ मीडिया को खरीद रखा है तो धन्यवाद दोस्तों
Helo doston svaagat hai aapaka doston aap ka savaal hai kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai nahin doston meediya ko kabhee koee nahin khareed sakata hai modee sarakaar kyon khareedegee yah log modee sarakaar ke oopar bilkul galat aarop laga rahe hain bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne bilkul bhee nahin khareeda meediya svatantr hotee hai use jo ichchha hotee hai vah bol sakatee hai likh sakatee hai isalie use koee nahin khareed sakata aur yah jo modee jee se jalate hain log bhee yah bhram vaalee baaten phaila rahe hain ki modee jee ne munh mod meediya ko khareed rakha hai to dhanyavaad doston

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:04
सवाल यह है कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तोहार आजकल कुछ हालात ऐसे हो गए हैं कि न्यूज़ चैनल से विज्ञापन बनाते हैं और उस विज्ञापन को न्यूज़ चैनल को ही खुद को ही बेच देते हो खुद न्यूज़ चैनलों की स्क्रीन पर सरकार के विज्ञापन चलते हैं इनमें से सबसे ज्यादा बजट भारत के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश का है जो सालाना 2000 करोड रुपए तक सिर्फ न्यूज़ चैनलों को बांटा है फिलहाल देश के 29 में से 20 सीटों पर मोदी सरकार की पार्टी बीजेपी का ही कब्जा और बीजेपी के हर चुनाव के केंद्र में प्रधानमंत्री मोदी का ही चेहरा रहता है तो फिर राज्यों के प्रचार और बजट को पाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का गुणगान आशा मायने रखता है आखिर सच यही है कि प्रधानमंत्री जिस न्यूज़ चैनल का कोई इंटरव्यू दे रहे हैं उस चैनल के बिजनेस में चार चांद लग जाते हैं और निजी मुनाफा होता है जो राज्यसभा की सीट पाने से लेकर कुछ भी हो सकता है वहीं दूसरी तरफ यह कोई नहीं देखता कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में लोकतंत्र ही सत्ता तले गिरी
Savaal yah hai ki kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai tohaar aajakal kuchh haalaat aise ho gae hain ki nyooz chainal se vigyaapan banaate hain aur us vigyaapan ko nyooz chainal ko hee khud ko hee bech dete ho khud nyooz chainalon kee skreen par sarakaar ke vigyaapan chalate hain inamen se sabase jyaada bajat bhaarat ke sabase bade soobe uttar pradesh ka hai jo saalaana 2000 karod rupe tak sirph nyooz chainalon ko baanta hai philahaal desh ke 29 mein se 20 seeton par modee sarakaar kee paartee beejepee ka hee kabja aur beejepee ke har chunaav ke kendr mein pradhaanamantree modee ka hee chehara rahata hai to phir raajyon ke prachaar aur bajat ko paane ke lie pradhaanamantree modee ka gunagaan aasha maayane rakhata hai aakhir sach yahee hai ki pradhaanamantree jis nyooz chainal ka koee intaravyoo de rahe hain us chainal ke bijanes mein chaar chaand lag jaate hain aur nijee munaapha hota hai jo raajyasabha kee seet paane se lekar kuchh bhee ho sakata hai vaheen doosaree taraph yah koee nahin dekhata ki duniya ke sabase bade lokataantrik desh mein lokatantr hee satta tale giree

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:33
जी आप ने सवाल किया है कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो मैं आपको बता देना चाहता हूं जो भी सरकार सत्ता में होती है चर्चा उसी की होती है होती है अगर पार्टी मीडिया की बात की जाए तो वर्तमान में मोदी सरकार है तो ज्यादा मोदी सरकार के बारे में बात करेगी चाहे वह गलत हो या सही हो क्योंकि जो सप्ताह में होता है उसी की बात होती है जो सप्ताह में नहीं होता है इसकी बात का मोती है धन्यवाद
Jee aap ne savaal kiya hai ki kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai to main aapako bata dena chaahata hoon jo bhee sarakaar satta mein hotee hai charcha usee kee hotee hai hotee hai agar paartee meediya kee baat kee jae to vartamaan mein modee sarakaar hai to jyaada modee sarakaar ke baare mein baat karegee chaahe vah galat ho ya sahee ho kyonki jo saptaah mein hota hai usee kee baat hotee hai jo saptaah mein nahin hota hai isakee baat ka motee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:22
आपको लगता है कि भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है परम नोटिस करेंगे तो जाते हैं जिनकी वजह से आती है हिंदी रहे तभी तो वह चीजें ठीक हो रही है अब वह चीजें ठीक करना है तुम मीडिया में भी वही सब चीजों की नहीं होती आएगी मेरे सबसे तो नहीं खरीद रखा है
Aapako lagata hai ki bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai param notis karenge to jaate hain jinakee vajah se aatee hai hindee rahe tabhee to vah cheejen theek ho rahee hai ab vah cheejen theek karana hai tum meediya mein bhee vahee sab cheejon kee nahin hotee aaegee mere sabase to nahin khareed rakha hai

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
0:39
पहले वाली पोस्ट पढ़ने के बाद आंसर देंगे ऐसे लोग बोलते हैं कि भारतीय मीडिया को मोदी जी ने खरीद रखा है शायद उसमें सत्यता भी होगी कम से कम 80 परसेंट तो हो गई होगी हमें लगता है कि बस सेवा खरीदी रखा तभी तो मोदी जी की मीडिया गुड़गांव का आती है उनकी पढ़ाई करती है उनकी बच्चा देती है खरीदी रखना दोस्त मेरे ख्याल से
Pahale vaalee post padhane ke baad aansar denge aise log bolate hain ki bhaarateey meediya ko modee jee ne khareed rakha hai shaayad usamen satyata bhee hogee kam se kam 80 parasent to ho gaee hogee hamen lagata hai ki bas seva khareedee rakha tabhee to modee jee kee meediya gudagaanv ka aatee hai unakee padhaee karatee hai unakee bachcha detee hai khareedee rakhana dost mere khyaal se

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
नमस्कार दोस्तों सवाल है क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है यह सवाल थोड़ा सा आप कहेंगे कि मैं इसमें अगर दोनों को बताना चाहूंगा जब कोई भी पार्टी अगर मीडिया को खरीद ती है तो मीडिया उस के पक्ष में रिपोर्टिंग करती है ऐसा लोग मानते हैं तो आप पाएंगे अभी भी मीडिया का एक धड़ा जो है वह मोदी विरोध में रिपोर्टिंग करता है और जिसमें आप एनडीटीवी और आप जानते हैं बाहर स्क्रॉल इंडिया टुडे ग्रुप और कई सारे चैनल है जो एंटी मोदी रिपोर्टिंग करते हैं और कुचलने से जो मोदी रिपोर्टिंग करते हैं जैसे आप जानते हैं चाहे वह रिपब्लिक है चाहे जी टीवी है तो कुछ चैनल तो आप जानते कोई धड़ा धड़ा है एक तू और एक यह तो विपक्ष के भी अच्छी खाते चैनल है जो विपक्ष की महिमा का गुणगान करते हैं और कुछ चैनल से जो पक्ष की करते हैं गुणगान अब थोड़ा सा बैकग्राउंड में जाते हैं एक समय आपको अगर गूगल पर सर्च करेंगे तो मिल जाएगा मनमोहन सिंह जब यूपीए वन और यूपी टीचर दादा जब वह विदेश यात्रा में जाते थे यह डॉक्युमेंटेड है एक जगह नहीं कई जगह आप अगर चाहे तो पता कर सकते हैं एक हवाई जहाज भर के इंडियन जर्नलिस्ट को जो प्रधानमंत्री थे अपने साथ ले जाते थे मीडिया कवरेज के लिए उनको वहां सरकारी मेहमान बना कर ठीक किया जाता था घुमाया जाता था ऐसी बात है यह होता सालों तक रहा है तो मीडिया जो आप कहते हैं कि मैंने जो नया मीडिया को आज वह शराब बंद हो गया है आज वो सारा बंद हो गया है क्योंकि मोदी जी ने खुद खाने देते न किसी को खाने देते हैं ऐसा कहा जाता है कि वह अपने करीबियों को भी बहुत असहज कर देते हैं अतः मतलब तो उनसे भी बहुत हाई डिमांड करते हैं चाहे वह काम के मामले में या कुछ मामले में तो दो होता क्या है कि आप अपने जो बहुत गरीबी है उनसे भी अगर ज्यादा काम मांगेंगे तो वह आप से रुष्ट हो जाएंगे तो ऐसा आप बुरा ना पता कर सकते हैं एक बहुत ही क्षण में एग्जांपल दूंगा जो अभी मीडिया में हाईलाइट हो रहा था रिसेंटली कि अभी राष्ट्रपति जी ने राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति भवन में एनडीटीवी का जब 25 साल हुआ था तो एक प्राइवेट मीडिया चैनल एनडीटीवी अपना 25 साल का कार्यक्रम कहां बनाता है किसी होटल में नहीं राष्ट्रपति भवन में तो आप समझ सकते हैं मीडिया किस हद तक 22 थी जो कि हुई थी क्या हम अपने और आप हो या कोई बिलेनियर या मिलेनियर कोई बिजनेसमैन कभी भी सरकारी जमीन पर को सनसन कर सकता है नहीं और एक प्राइवेट टीवी चैनल अपना 25 साल का समारोह बनाता है राष्ट्रपति भवन में तो मीडिया विकास कब था आपको पता चल जाएगा वह दूध का धुला नहीं है मीडिया का कहीं ना कहीं कुछ रहता है उनकी आठ होती है स्पॉन्सरशिप होती है बहुत सारी बातें होती है पर आप ऐसा करें कि हम दूध के धुले थे यूपी वाले और इंडिया वाले सारे काले हैं ऐसा कुछ नहीं है आप प्राइवेट चैनल में होकर के राष्ट्रपति भवन को अपना खेती बनाकर इस्तेमाल कर रहे थे तो दोनों पक्ष में कुछ ना कुछ रिपोर्टिंग होती है यही मेरा जवाब है दम
Namaskaar doston savaal hai kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai yah savaal thoda sa aap kahenge ki main isamen agar donon ko bataana chaahoonga jab koee bhee paartee agar meediya ko khareed tee hai to meediya us ke paksh mein riporting karatee hai aisa log maanate hain to aap paenge abhee bhee meediya ka ek dhada jo hai vah modee virodh mein riporting karata hai aur jisamen aap enadeeteevee aur aap jaanate hain baahar skrol indiya tude grup aur kaee saare chainal hai jo entee modee riporting karate hain aur kuchalane se jo modee riporting karate hain jaise aap jaanate hain chaahe vah ripablik hai chaahe jee teevee hai to kuchh chainal to aap jaanate koee dhada dhada hai ek too aur ek yah to vipaksh ke bhee achchhee khaate chainal hai jo vipaksh kee mahima ka gunagaan karate hain aur kuchh chainal se jo paksh kee karate hain gunagaan ab thoda sa baikagraund mein jaate hain ek samay aapako agar googal par sarch karenge to mil jaega manamohan sinh jab yoopeee van aur yoopee teechar daada jab vah videsh yaatra mein jaate the yah dokyumented hai ek jagah nahin kaee jagah aap agar chaahe to pata kar sakate hain ek havaee jahaaj bhar ke indiyan jarnalist ko jo pradhaanamantree the apane saath le jaate the meediya kavarej ke lie unako vahaan sarakaaree mehamaan bana kar theek kiya jaata tha ghumaaya jaata tha aisee baat hai yah hota saalon tak raha hai to meediya jo aap kahate hain ki mainne jo naya meediya ko aaj vah sharaab band ho gaya hai aaj vo saara band ho gaya hai kyonki modee jee ne khud khaane dete na kisee ko khaane dete hain aisa kaha jaata hai ki vah apane kareebiyon ko bhee bahut asahaj kar dete hain atah matalab to unase bhee bahut haee dimaand karate hain chaahe vah kaam ke maamale mein ya kuchh maamale mein to do hota kya hai ki aap apane jo bahut gareebee hai unase bhee agar jyaada kaam maangenge to vah aap se rusht ho jaenge to aisa aap bura na pata kar sakate hain ek bahut hee kshan mein egjaampal doonga jo abhee meediya mein haeelait ho raha tha risentalee ki abhee raashtrapati jee ne raashtrapati bhavan mein raashtrapati bhavan mein enadeeteevee ka jab 25 saal hua tha to ek praivet meediya chainal enadeeteevee apana 25 saal ka kaaryakram kahaan banaata hai kisee hotal mein nahin raashtrapati bhavan mein to aap samajh sakate hain meediya kis had tak 22 thee jo ki huee thee kya ham apane aur aap ho ya koee bileniyar ya mileniyar koee bijanesamain kabhee bhee sarakaaree jameen par ko sanasan kar sakata hai nahin aur ek praivet teevee chainal apana 25 saal ka samaaroh banaata hai raashtrapati bhavan mein to meediya vikaas kab tha aapako pata chal jaega vah doodh ka dhula nahin hai meediya ka kaheen na kaheen kuchh rahata hai unakee aath hotee hai sponsaraship hotee hai bahut saaree baaten hotee hai par aap aisa karen ki ham doodh ke dhule the yoopee vaale aur indiya vaale saare kaale hain aisa kuchh nahin hai aap praivet chainal mein hokar ke raashtrapati bhavan ko apana khetee banaakar istemaal kar rahe the to donon paksh mein kuchh na kuchh riporting hotee hai yahee mera javaab hai dam

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Farmer
1:11
हां आपका सवाल सही है भारतीय मीडिया को भारतीय सरकार ने खरीद के ही रखा है उसमें पूरा दबदबा सरकार का ही है सरकार जो चाहेगी वही मीडिया बोलेगी इसके अलावा हो जल्दी से कुछ बोल नहीं सकते हर जगह देखते होंगे हर न्यूज़ पर आप देखते होंगे कहीं भी सच्चाई को छुपाया जाता है वही चीज को बोला नहीं जाता है तो इसका मतलब नहीं होगा कि सरकार के अधीन है ये मीडिया अगर मीडिया चाहे तो इस समाज को इस सरकार को सुधार सकती है लेकिन मीडिया अपने कर्तव्यों से परे दूसरे काम करती है उन नेताओं के बस में हो कर भी काम करती है सरकार के बस में हो कि काम करती है मीडिया है यह हमारे देश का आईना है या इस समाज का पुराना है उसको अपना निष्पक्ष रूप से काम करना चाहिए अमेरिका को मेरी मीडिया वालों से रिक्वेस्ट है वह निष्पक्ष होकर के काम करें जिससे उनका नाम है कि वह जनता के लिए सरकार के लिए देश का आना मंत्रियों काम करें अति उत्तम रहेगा
Haan aapaka savaal sahee hai bhaarateey meediya ko bhaarateey sarakaar ne khareed ke hee rakha hai usamen poora dabadaba sarakaar ka hee hai sarakaar jo chaahegee vahee meediya bolegee isake alaava ho jaldee se kuchh bol nahin sakate har jagah dekhate honge har nyooz par aap dekhate honge kaheen bhee sachchaee ko chhupaaya jaata hai vahee cheej ko bola nahin jaata hai to isaka matalab nahin hoga ki sarakaar ke adheen hai ye meediya agar meediya chaahe to is samaaj ko is sarakaar ko sudhaar sakatee hai lekin meediya apane kartavyon se pare doosare kaam karatee hai un netaon ke bas mein ho kar bhee kaam karatee hai sarakaar ke bas mein ho ki kaam karatee hai meediya hai yah hamaare desh ka aaeena hai ya is samaaj ka puraana hai usako apana nishpaksh roop se kaam karana chaahie amerika ko meree meediya vaalon se rikvest hai vah nishpaksh hokar ke kaam karen jisase unaka naam hai ki vah janata ke lie sarakaar ke lie desh ka aana mantriyon kaam karen ati uttam rahega

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भारतीय मीडिया मोदी सरकार
URL copied to clipboard