#भारत की राजनीति

bolkar speaker

क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?

Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:29
हेलो शिवांशु आज आप का सवाल है कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो उसके बाद से मैं बहुत हद तक सहमत हूं क्योंकि मतलब अभी जो न्यूज़ देखती हूं ना तो मतलब हंसी आती है कि यह ब्रेकिंग भी हो सकता है उसे कि कुछ दिन पहले मैंने देखा कि अमित शाह जी का मतलब जो क्या खा रहे हैं बंगाल गए थे तो वह क्या खा रहे हैं उनके प्लेट में क्या है पटेल साहब अल मतलब जो भी न्यूज़ देख ले चली में हंस रही थी कि यह ब्रेकिंग न्यूज़ और अब यह सब चीज देखने के लिए मतलब न्यूज़ चैनल खोल दें इस तरह से चीजों को दर्शाया जाता है जैसे कि आंख बंद करके कि हां यह सब चीज जो भी न्यूज़ में हो रहा है सब सही हो रहा है अब आप करेंगे तो फिर क्या करेंगे 23 चैनल मैंने खोल कर देखा सब में यही चीजें दिखा रहा हूं और वह भी ब्रेकिंग में चल रहा था कि अमित शाह जी ने क्या खाया बंगाल में है और किस तरह वह बैठे क्या-क्या चीज उन्होंने मोबाइल की प्लेट में क्या-क्या है तो न्यूज़ अब इस तरह से बन गई है दिल्ली हम लोग उसकी पढ़ाई कर रहे हैं तो हमें बताया जाता है कि ऐसा होना चाहिए वैसा होना चाहिए एक्यूरेट होना चाहिए और ऐसा कुछ होना चाहिए जो हर एक जनता के लिए जरूरी हो यह न्यूज़ क्या जरूरी है कि मतलब वह क्या खा रहे क्या नहीं खरगोन के प्लेट में क्या आई है आपको लगता है कि यह मतलब जरूरी हर इंसान को जानने की मतलब जरूरी है तो मेरे हिसाब से यह सब समझ सकते हैं कि किस तरह से मतलब जो भी और मीडिया और जितने भी न्यूज़ मैक्सिमम जितने भी चैनल से उसे मोदी सरकार ने और बीजेपी सरकार हम कह सकते हैं कि मतलब उनकी कठपुतली बन गई है जो वह करते हैं जिस तरह से करते हैं अच्छे से अच्छे चीजों को दर्शाया जाता है जो भी असली और अच्छे मुद्दे होते हैं मुझे लगता है बहुत जल्दी मैंने उसे हटा दिया जाता है इतना एलेबोरेट नहीं किया जाता है ना ही दिखाया जाता है अगर आप ही यूट्यूब में देखेंगे ट्विटर पर जाएंगे तब आपको पता चलेगा कि क्या ट्रेन कर रहा है कौन सी पर क्या हो रहा है क्या नुकसान हो रहा है किस तरह से क्या-क्या चीज आ रहे हैं जो हमारे लिए कितना नुकसान है लेकिन वह आप न्यूज़ चैनल में जाकर देखेंगे तो आपको ऐसा कुछ भी नहीं दिखेगा आपको यही सभी देखा देखने चले मिलेगा कि मोदी सरकार क्या कर रही है बीजेपी सरकार क्या करेगी हर एक चीज जो भी प्राइवेसी है या फिर जिस तरह से भी कहां जा रहे हैं क्या करें वही सब चीज दिखाया जाता तो मैं यह बात से पूरी तरह से सहमत हूं कि जो अब मीडिया जो है मोदी सरकार ने और बीजेपी सरकार ने खरीद लिया

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:59
अभी तो आप का सवाल है क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर यह है भारतीय मीडिया को जो ज्यादा पैसे ज्यादा विज्ञापन देते हैं और उनके पक्ष में जो पॉलिसी मनाते हैं उनके बारे में ज्यादा प्रचार प्रसार करते हैं इसलिए भारतीय मीडिया को इस पार्टी के माध्यम से ज्यादा सपोर्ट होता है और ज्यादा पैसे मिलते हैं और ज्यादा ही पार्टी के माध्यम से टीआरपी बढ़ती है तो भारतीय मीडिया को किसी की भी सरकार हो उनके बारे में ज्यादा प्रचार प्रसार करते हैं और हमारे भारत में ज्यादातर चैनल बड़े-बड़े उद्योगपतियों के हैं इसलिए उद्योगपतियों के पक्ष में जो पार्टी खड़ी होती है वह उसी के प्रचार प्रसार करते हैं धन्यवाद दोस्तों खुश रहो

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
2:00
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो दिखी लोगों के बढ़ते वर्चस्व को देखते हुए मतलब आज अगर देखा जाए तो मीडिया पे भारतीय लोगों का विश्वास खत्म हो रहा है कहा जाए कि ना के बराबर हो गया है क्योंकि भारतीय मीडिया इतनी ज्यादा जो हकीकत चीजें हैं वह उसी को दिखाकर कुछ ऐसी चीजें दिखाते हैं जिसे हम चाहते हैं तो समझ रहे हैं आप किधर हम चाहेंगे जो चीज वही दिखाएंगे उसके अलावा दूसरी चीजें नहीं दिखा सकते हैं बताओ जो चीजें हकीकत चीजों से रूबरू कराना चाहिए मीडिया का मीडिया को उचित नहीं करा रही है मीडिया को वही काम होता है जो इस देश में यह घट रही है जिस जो घटनाएं हो रहे हैं जो चीज लोगों के हित में होनी चाहिए उसे 9 दिखाकर अगर हम कोई चीज ही स्पेशल चीजें दिखाते हैं तो कहीं ना कहीं कहीं जाती है कि आप उनके गुलाम है तू यही देखा जा रहा है कि यीशु विश्वास उठ रहा है लोगों का यही मत आ रहा है लोगों का कि कहीं न कहीं मोदी सरकार की गुलाम हो गई है मीडिया जो भी भारतीय मीडिया है तू ही इसी वजह से ही प्रश्न भी उठ रहे हैं और यह मुद्दे भी उठ रहे हैं कि क्या भारतीय जो मीडिया है वह मोदी सरकार की गुलाम हो गई है या खरीद रखा है मतलब यह हकीकत है और यही देखा जाए कि सरकार वाली बात जो सरकार बनती है उसकी एवज में ही मीडिया सरकार बोलती है ना कि उसके विपक्ष में मतलब अगर पक्ष विपक्ष की बात करें अगर पश्चिमी बोलेगी तभी मीडिया को कुछ यूं मिलेंगे कुछ आइटम मिलेंगे कुछ तड़कता भड़कता मतलब टीआरपी बढ़ाने की रेट जो मिलेंगे जो टीआरपी बढ़ाने के तरीके उन्हें जो प्रजेंट की सरकार होती है उसी से मिलती है यह भी एक कारण है कि निर्यात की जाती होगी कि करंट जो सरकार है हम उसके पक्ष में अगर बात करेंगे तो कहीं ना कहीं हमारी जो टीआरपी है वह हाय रे हाय और परसेंटेज पर रहेगी जिससे कि लोगों में हमारा वर्चस्व बना रहेगा

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Mohit Kumar Chaniyal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohit जी का जवाब
Programmer , Ethical Hacker , Network Engineer
1:11
हुआ तो कुछ नहीं कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है यह कहना बहुत ही गलत होगा और मीडिया स्वतंत्र हैं किसी भी कमेंट से मीडिया को कोई नहीं रोक सकता है ऐसे और उसके बाद कहीं ना कहीं मुझे भी यह लगता है कि बहुत से जो चैनल है वह बीजेपी की गवर्नमेंट को सपोर्ट करते हैं लेकिन मैं इससे भी मना नहीं करता कि मैं खुद एक बीजेपी के सपोर्टर ठीक है मैं खुद एक बीजेपी के सपोर्टर लेकिन जो मीडिया है मीडिया को ऐसा नहीं करना चाहिए मीडिया को स्वतंत्र होकर बोलना किसी की भी तरफ कोई बात नहीं करनी चाहिए उसे बिल्कुल पार्षद मैं समझता हूं कि किसी भी एक पक्ष की तरफ रुकना नहीं चाहिए भले ही वह अच्छे हो या गलत है भले ही वह गलत चीज करें या अच्छी चीज करें उन्हें एक ही तरह से ट्रीट नाचो ना अलग-अलग तरीके से नहीं करना चाहिए था दोस्तों आपको अच्छा लगा होगा अच्छा लगा तो लाइक कमेंट कर दीजिए थैंक यू

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Gajanand Genan  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gajanand जी का जवाब
Unknown
0:49
क्या है कि क्या भारत की मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है इसका आंसर नहीं क्योंकि जो प्रश्न पूछ रहे हैं जिसके मन में यह प्रश्न आता है उसके मन में यह रहता है कि यह मीडिया वाले क्वेश्चन क्यों नहीं उठाते सरकार की ओर उनको भी रहता है कि कहीं हम बस जाएंगे लेकिन पत्रकारिता में यह काम कभी नहीं होना चाहिए पत्रकारिता हमेशा सही समाज के लिए कुछ प्रश्न उठाने चाहिए और आरोप लगाने चाहिए और सही कार्य करने के लिए बैठे हैं पत्रकारिता से कुछ सही कार्य करना चाहिए

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:30
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है देखिए यह एक गलत प्रचार किया गया बल्कि यूं कहिए कि एक तरह का दुष्प्रचार एक पत्रकार होने के साथ-साथ वह एक नागरिक भी है अगर हम पत्रकारों की भूमिका के बारे में देखें तो क्या एक पत्रकार के स्वयं के कोई विचार नहीं हो सकते एक पत्रकार भी जनता की बात को ही पक्के सामने रखता है कुछ पत्रकार एक विचारधारा के पक्षधर होते हैं और कुछ विचार कुछ पत्रकार दूसरी विचारधारा के पक्षधर होता है और मुझे लगता है खोजी पत्रकार जो कि राष्ट्रवाद के साथ में खड़ा रहता है उसको हम खरीदना नहीं कह सकते साहब कोई पत्रकार जो कि राष्ट्रवाद को मुख्य तरीके से रखता है और अपनी पत्रकारिता के अंदर राष्ट्रवादी भावनाओं को ज्यादा शामिल करता है तो हम उस पत्रकार को सरकार द्वारा खरीदा जाना नहीं कह सकते बहुत सारे पत्रकार ऐसे हैं क्योंकि हमेशा टुकड़े टुकड़े गैंग का समर्थन करते हैं हमेशा देश विरोधी बातें करते हैं हमेशा छद्म धर्मनिरपेक्षता बाद की बात करते हैं उनका झूठे सेकुलरिज्म के बारे में बात करते हैं तो उनकी भी अपनी एक विचारधारा है लेकिन संविधान ने उनको भी बोलने की आजादी दे रखी है और जो राष्ट्रवाद पर बात करना चाहता है जो देशभक्त पत्रकारिता करता है उसकी भी अपनी सोच है तो यह बिल्कुल दुष्प्रचार है कि मोदी सरकार ने भारतीय मीडिया को खरीद रखा है कुछ पत्रकार अगर आप देखेंगे तो 24 घंटे मोदी सरकार को गालियां देते रहते हैं 24 घंटे यही उनका काम है यही उनका धर्म है कि चाहे सरकार अच्छा करें या बुरा करें वह हमेशा मोदी सरकार की बुराई करेंगे तब भी हम यह नहीं कहेंगे कि टुकड़े टुकड़े गैंग ने उनको खरीद रखा है वामपंथियों ने कांग्रेसियों ने उनको खरीद रखा है हमेशा तो नहीं कहते तो जब कोई पत्रकार राष्ट्रवाद के बारे में बात करता है तो यह दुष्प्रचार क्यों किया जाता है कि मोदी सरकार ने उसको खरीद रखा है मुझे लगता है यह गलत बात है धन्यवाद

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Ashish Lavania Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Ashish जी का जवाब
Yoga Instructor
0:45
भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है ऐसा आप कह सकते क्योंकि जो गवर्नमेंट है वह अच्छे काम कर रहे हो और अच्छे काम कर दिया तो वीडियो दिखा रही है पर अगर इसे यह दिखाना की वीडियो जो अच्छे काम करे वह वीडियो दिखा रही है यार इसका मतलब है कि मीडिया को खरीद नहीं आए तो आप यह सोच सकते हैं आप भी अच्छा काम करेंगे अगर वाले आपकी तारीफ करेंगे तो इसका मतलब यह थोड़ी ना है कि आपने उनको पैसे दिया कि मेरी तारीफ करो हमने कुछ अच्छा काम करें तभी तो अब आपने कुछ किया ही नहीं है जबरदस्ती कि आपकी तारीफ हो रही है तो समझ सकते हैं जैसे कि राहुल गांधी कुछ भी किया नहीं है फिर भी अब होगा न्याय और यह इतने सारे ऐड वगैरह मीडिया यह होगा वह होगा तो वह सारी चीजें

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:32
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका दोस्तों आप का सवाल है क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है नहीं दोस्तों मीडिया को कभी कोई नहीं खरीद सकता है मोदी सरकार क्यों खरीदेगी यह लोग मोदी सरकार के ऊपर बिल्कुल गलत आरोप लगा रहे हैं भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने बिल्कुल भी नहीं खरीदा मीडिया स्वतंत्र होती है उसे जो इच्छा होती है वह बोल सकती है लिख सकती है इसलिए उसे कोई नहीं खरीद सकता और यह जो मोदी जी से जलते हैं लोग भी यह भ्रम वाली बातें फैला रहे हैं कि मोदी जी ने मुंह मोड़ मीडिया को खरीद रखा है तो धन्यवाद दोस्तों

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:04
सवाल यह है कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तोहार आजकल कुछ हालात ऐसे हो गए हैं कि न्यूज़ चैनल से विज्ञापन बनाते हैं और उस विज्ञापन को न्यूज़ चैनल को ही खुद को ही बेच देते हो खुद न्यूज़ चैनलों की स्क्रीन पर सरकार के विज्ञापन चलते हैं इनमें से सबसे ज्यादा बजट भारत के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश का है जो सालाना 2000 करोड रुपए तक सिर्फ न्यूज़ चैनलों को बांटा है फिलहाल देश के 29 में से 20 सीटों पर मोदी सरकार की पार्टी बीजेपी का ही कब्जा और बीजेपी के हर चुनाव के केंद्र में प्रधानमंत्री मोदी का ही चेहरा रहता है तो फिर राज्यों के प्रचार और बजट को पाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का गुणगान आशा मायने रखता है आखिर सच यही है कि प्रधानमंत्री जिस न्यूज़ चैनल का कोई इंटरव्यू दे रहे हैं उस चैनल के बिजनेस में चार चांद लग जाते हैं और निजी मुनाफा होता है जो राज्यसभा की सीट पाने से लेकर कुछ भी हो सकता है वहीं दूसरी तरफ यह कोई नहीं देखता कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में लोकतंत्र ही सत्ता तले गिरी

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:33
जी आप ने सवाल किया है कि क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है तो मैं आपको बता देना चाहता हूं जो भी सरकार सत्ता में होती है चर्चा उसी की होती है होती है अगर पार्टी मीडिया की बात की जाए तो वर्तमान में मोदी सरकार है तो ज्यादा मोदी सरकार के बारे में बात करेगी चाहे वह गलत हो या सही हो क्योंकि जो सप्ताह में होता है उसी की बात होती है जो सप्ताह में नहीं होता है इसकी बात का मोती है धन्यवाद

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:22
आपको लगता है कि भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है परम नोटिस करेंगे तो जाते हैं जिनकी वजह से आती है हिंदी रहे तभी तो वह चीजें ठीक हो रही है अब वह चीजें ठीक करना है तुम मीडिया में भी वही सब चीजों की नहीं होती आएगी मेरे सबसे तो नहीं खरीद रखा है

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
0:39
पहले वाली पोस्ट पढ़ने के बाद आंसर देंगे ऐसे लोग बोलते हैं कि भारतीय मीडिया को मोदी जी ने खरीद रखा है शायद उसमें सत्यता भी होगी कम से कम 80 परसेंट तो हो गई होगी हमें लगता है कि बस सेवा खरीदी रखा तभी तो मोदी जी की मीडिया गुड़गांव का आती है उनकी पढ़ाई करती है उनकी बच्चा देती है खरीदी रखना दोस्त मेरे ख्याल से

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
नमस्कार दोस्तों सवाल है क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है यह सवाल थोड़ा सा आप कहेंगे कि मैं इसमें अगर दोनों को बताना चाहूंगा जब कोई भी पार्टी अगर मीडिया को खरीद ती है तो मीडिया उस के पक्ष में रिपोर्टिंग करती है ऐसा लोग मानते हैं तो आप पाएंगे अभी भी मीडिया का एक धड़ा जो है वह मोदी विरोध में रिपोर्टिंग करता है और जिसमें आप एनडीटीवी और आप जानते हैं बाहर स्क्रॉल इंडिया टुडे ग्रुप और कई सारे चैनल है जो एंटी मोदी रिपोर्टिंग करते हैं और कुचलने से जो मोदी रिपोर्टिंग करते हैं जैसे आप जानते हैं चाहे वह रिपब्लिक है चाहे जी टीवी है तो कुछ चैनल तो आप जानते कोई धड़ा धड़ा है एक तू और एक यह तो विपक्ष के भी अच्छी खाते चैनल है जो विपक्ष की महिमा का गुणगान करते हैं और कुछ चैनल से जो पक्ष की करते हैं गुणगान अब थोड़ा सा बैकग्राउंड में जाते हैं एक समय आपको अगर गूगल पर सर्च करेंगे तो मिल जाएगा मनमोहन सिंह जब यूपीए वन और यूपी टीचर दादा जब वह विदेश यात्रा में जाते थे यह डॉक्युमेंटेड है एक जगह नहीं कई जगह आप अगर चाहे तो पता कर सकते हैं एक हवाई जहाज भर के इंडियन जर्नलिस्ट को जो प्रधानमंत्री थे अपने साथ ले जाते थे मीडिया कवरेज के लिए उनको वहां सरकारी मेहमान बना कर ठीक किया जाता था घुमाया जाता था ऐसी बात है यह होता सालों तक रहा है तो मीडिया जो आप कहते हैं कि मैंने जो नया मीडिया को आज वह शराब बंद हो गया है आज वो सारा बंद हो गया है क्योंकि मोदी जी ने खुद खाने देते न किसी को खाने देते हैं ऐसा कहा जाता है कि वह अपने करीबियों को भी बहुत असहज कर देते हैं अतः मतलब तो उनसे भी बहुत हाई डिमांड करते हैं चाहे वह काम के मामले में या कुछ मामले में तो दो होता क्या है कि आप अपने जो बहुत गरीबी है उनसे भी अगर ज्यादा काम मांगेंगे तो वह आप से रुष्ट हो जाएंगे तो ऐसा आप बुरा ना पता कर सकते हैं एक बहुत ही क्षण में एग्जांपल दूंगा जो अभी मीडिया में हाईलाइट हो रहा था रिसेंटली कि अभी राष्ट्रपति जी ने राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति भवन में एनडीटीवी का जब 25 साल हुआ था तो एक प्राइवेट मीडिया चैनल एनडीटीवी अपना 25 साल का कार्यक्रम कहां बनाता है किसी होटल में नहीं राष्ट्रपति भवन में तो आप समझ सकते हैं मीडिया किस हद तक 22 थी जो कि हुई थी क्या हम अपने और आप हो या कोई बिलेनियर या मिलेनियर कोई बिजनेसमैन कभी भी सरकारी जमीन पर को सनसन कर सकता है नहीं और एक प्राइवेट टीवी चैनल अपना 25 साल का समारोह बनाता है राष्ट्रपति भवन में तो मीडिया विकास कब था आपको पता चल जाएगा वह दूध का धुला नहीं है मीडिया का कहीं ना कहीं कुछ रहता है उनकी आठ होती है स्पॉन्सरशिप होती है बहुत सारी बातें होती है पर आप ऐसा करें कि हम दूध के धुले थे यूपी वाले और इंडिया वाले सारे काले हैं ऐसा कुछ नहीं है आप प्राइवेट चैनल में होकर के राष्ट्रपति भवन को अपना खेती बनाकर इस्तेमाल कर रहे थे तो दोनों पक्ष में कुछ ना कुछ रिपोर्टिंग होती है यही मेरा जवाब है दम
Namaskaar doston savaal hai kya bhaarateey meediya ko modee sarakaar ne khareed rakha hai yah savaal thoda sa aap kahenge ki main isamen agar donon ko bataana chaahoonga jab koee bhee paartee agar meediya ko khareed tee hai to meediya us ke paksh mein riporting karatee hai aisa log maanate hain to aap paenge abhee bhee meediya ka ek dhada jo hai vah modee virodh mein riporting karata hai aur jisamen aap enadeeteevee aur aap jaanate hain baahar skrol indiya tude grup aur kaee saare chainal hai jo entee modee riporting karate hain aur kuchalane se jo modee riporting karate hain jaise aap jaanate hain chaahe vah ripablik hai chaahe jee teevee hai to kuchh chainal to aap jaanate koee dhada dhada hai ek too aur ek yah to vipaksh ke bhee achchhee khaate chainal hai jo vipaksh kee mahima ka gunagaan karate hain aur kuchh chainal se jo paksh kee karate hain gunagaan ab thoda sa baikagraund mein jaate hain ek samay aapako agar googal par sarch karenge to mil jaega manamohan sinh jab yoopeee van aur yoopee teechar daada jab vah videsh yaatra mein jaate the yah dokyumented hai ek jagah nahin kaee jagah aap agar chaahe to pata kar sakate hain ek havaee jahaaj bhar ke indiyan jarnalist ko jo pradhaanamantree the apane saath le jaate the meediya kavarej ke lie unako vahaan sarakaaree mehamaan bana kar theek kiya jaata tha ghumaaya jaata tha aisee baat hai yah hota saalon tak raha hai to meediya jo aap kahate hain ki mainne jo naya meediya ko aaj vah sharaab band ho gaya hai aaj vo saara band ho gaya hai kyonki modee jee ne khud khaane dete na kisee ko khaane dete hain aisa kaha jaata hai ki vah apane kareebiyon ko bhee bahut asahaj kar dete hain atah matalab to unase bhee bahut haee dimaand karate hain chaahe vah kaam ke maamale mein ya kuchh maamale mein to do hota kya hai ki aap apane jo bahut gareebee hai unase bhee agar jyaada kaam maangenge to vah aap se rusht ho jaenge to aisa aap bura na pata kar sakate hain ek bahut hee kshan mein egjaampal doonga jo abhee meediya mein haeelait ho raha tha risentalee ki abhee raashtrapati jee ne raashtrapati bhavan mein raashtrapati bhavan mein enadeeteevee ka jab 25 saal hua tha to ek praivet meediya chainal enadeeteevee apana 25 saal ka kaaryakram kahaan banaata hai kisee hotal mein nahin raashtrapati bhavan mein to aap samajh sakate hain meediya kis had tak 22 thee jo ki huee thee kya ham apane aur aap ho ya koee bileniyar ya mileniyar koee bijanesamain kabhee bhee sarakaaree jameen par ko sanasan kar sakata hai nahin aur ek praivet teevee chainal apana 25 saal ka samaaroh banaata hai raashtrapati bhavan mein to meediya vikaas kab tha aapako pata chal jaega vah doodh ka dhula nahin hai meediya ka kaheen na kaheen kuchh rahata hai unakee aath hotee hai sponsaraship hotee hai bahut saaree baaten hotee hai par aap aisa karen ki ham doodh ke dhule the yoopee vaale aur indiya vaale saare kaale hain aisa kuchh nahin hai aap praivet chainal mein hokar ke raashtrapati bhavan ko apana khetee banaakar istemaal kar rahe the to donon paksh mein kuchh na kuchh riporting hotee hai yahee mera javaab hai dam

bolkar speaker
क्या भारतीय मीडिया को मोदी सरकार ने खरीद रखा है?Kya Bhartiya Media Ko Modi Sarkaar Ne Khareed Rakha Hai
umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Farmer
1:11
हां आपका सवाल सही है भारतीय मीडिया को भारतीय सरकार ने खरीद के ही रखा है उसमें पूरा दबदबा सरकार का ही है सरकार जो चाहेगी वही मीडिया बोलेगी इसके अलावा हो जल्दी से कुछ बोल नहीं सकते हर जगह देखते होंगे हर न्यूज़ पर आप देखते होंगे कहीं भी सच्चाई को छुपाया जाता है वही चीज को बोला नहीं जाता है तो इसका मतलब नहीं होगा कि सरकार के अधीन है ये मीडिया अगर मीडिया चाहे तो इस समाज को इस सरकार को सुधार सकती है लेकिन मीडिया अपने कर्तव्यों से परे दूसरे काम करती है उन नेताओं के बस में हो कर भी काम करती है सरकार के बस में हो कि काम करती है मीडिया है यह हमारे देश का आईना है या इस समाज का पुराना है उसको अपना निष्पक्ष रूप से काम करना चाहिए अमेरिका को मेरी मीडिया वालों से रिक्वेस्ट है वह निष्पक्ष होकर के काम करें जिससे उनका नाम है कि वह जनता के लिए सरकार के लिए देश का आना मंत्रियों काम करें अति उत्तम रहेगा
Haan aapaka savaal sahee hai bhaarateey meediya ko bhaarateey sarakaar ne khareed ke hee rakha hai usamen poora dabadaba sarakaar ka hee hai sarakaar jo chaahegee vahee meediya bolegee isake alaava ho jaldee se kuchh bol nahin sakate har jagah dekhate honge har nyooz par aap dekhate honge kaheen bhee sachchaee ko chhupaaya jaata hai vahee cheej ko bola nahin jaata hai to isaka matalab nahin hoga ki sarakaar ke adheen hai ye meediya agar meediya chaahe to is samaaj ko is sarakaar ko sudhaar sakatee hai lekin meediya apane kartavyon se pare doosare kaam karatee hai un netaon ke bas mein ho kar bhee kaam karatee hai sarakaar ke bas mein ho ki kaam karatee hai meediya hai yah hamaare desh ka aaeena hai ya is samaaj ka puraana hai usako apana nishpaksh roop se kaam karana chaahie amerika ko meree meediya vaalon se rikvest hai vah nishpaksh hokar ke kaam karen jisase unaka naam hai ki vah janata ke lie sarakaar ke lie desh ka aana mantriyon kaam karen ati uttam rahega

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भारतीय मीडिया मोदी सरकार
URL copied to clipboard