#undefined

bolkar speaker

किस समय का स्नान राक्षसी स्नान कहा जाता है?

Kis Samay Ka Snaan Raakshasi Snaan Kaha Jata Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:14

और जवाब सुनें

bolkar speaker
किस समय का स्नान राक्षसी स्नान कहा जाता है?Kis Samay Ka Snaan Raakshasi Snaan Kaha Jata Hai
kevin dave Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kevin जी का जवाब
Student
0:12

bolkar speaker
किस समय का स्नान राक्षसी स्नान कहा जाता है?Kis Samay Ka Snaan Raakshasi Snaan Kaha Jata Hai
Vikas Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas जी का जवाब
Student
0:47

bolkar speaker
किस समय का स्नान राक्षसी स्नान कहा जाता है?Kis Samay Ka Snaan Raakshasi Snaan Kaha Jata Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:13

bolkar speaker
किस समय का स्नान राक्षसी स्नान कहा जाता है?Kis Samay Ka Snaan Raakshasi Snaan Kaha Jata Hai
Ashish Lavania Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Ashish जी का जवाब
Yoga Instructor
0:21

bolkar speaker
किस समय का स्नान राक्षसी स्नान कहा जाता है?Kis Samay Ka Snaan Raakshasi Snaan Kaha Jata Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:25
किसी भी मानव को 8:00 बजे के बाद स्नान नहीं करना चाहिए क्योंकि यह धरा हिंदू धर्म में निषेध तथा इस घर में दरिद्रता काले धन हानि परेशानियों का सामना करना पड़ता है
Kisee bhee maanav ko 8:00 baje ke baad snaan nahin karana chaahie kyonki yah dhara hindoo dharm mein nishedh tatha is ghar mein daridrata kaale dhan haani pareshaaniyon ka saamana karana padata hai

bolkar speaker
किस समय का स्नान राक्षसी स्नान कहा जाता है?Kis Samay Ka Snaan Raakshasi Snaan Kaha Jata Hai
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
2:03
हेलो फ्रेंड नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है किस समय का स्नान साक्ष्य स्थान कहा जाता है कि हमारे जो धर्म ग्रंथ हैं उन्होंने साफ स्पष्ट किया है कि सुबह के स्नान को चार उपनाम दिए गए हैं यह नाम है मुनिया स्नान देव स्नान मानव स्नान और राक्षस आपको बता दें फ्रेंड की पुण्य स्नान जो होता है वह सुबह 4:00 से 5:00 के बीच किया जाता है वही देव स्नान जो है उसका समय है 5:00 से 6:00 के बीच किया जाता है और साथ ही लोग जो है 6:00 से 8:00 के बीच जो है मानव स्नान करते हैं इसके बाद स्नान करने वाले लोगों को राक्षस कहा जाता है अगर आप 8:00 बजे के बाद स्नान करते हैं 9:00 बजे 10:00 बजे करते हैं तो आपको राष्ट्रीय स्नान कहा जाएगा उस वक्त जो है उस वक्त इंसान नहीं उस वक्त राक्षस लोग स्नान करते हैं और अगर आप सुबह 4:00 बजे स्नान कर लेते हैं कि मनीष नाम जो है करने से आपके घर में सुख शांति आती है समृद्धि आती है विद्यार्थी आपके अंदर बनाता है आरोग्य होता है किसी को के घर में किसी भी प्रकार की रोग नहीं होती वहीं देव स्नान करने से आपके जीवन में यश कीर्ति धन वैभव सुख शांति संतोष आता है और अगर आप राक्षसी स्नान करते हैं तो आप ने राक्षसों को देखा है आपका मन विचार आपके संस्कार जो होंगे वह राक्षसों जैसे हो जाएंगे राक्षसी प्रीत के हो जाएंगे तो अगर आप देर से स्नान करते हैं तो सुबह उठी है मॉर्निंग आसमान कीजिए और जो है मुनि स्नान कीजिए आप हिंदू है तो मुनिया स्नान कीजिए सुबह का स्नान कीजिए ब्रह्म मुहूर्त में स्नान कीजिए आपका देखिए दिन समय और स्वास्थ्य वगैरह सब कुछ अच्छा रहेगा आशा है कि आप सभी को या जवाब पसंद आया होगा शुक्रिया
Helo phrend namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai kis samay ka snaan saakshy sthaan kaha jaata hai ki hamaare jo dharm granth hain unhonne saaph spasht kiya hai ki subah ke snaan ko chaar upanaam die gae hain yah naam hai muniya snaan dev snaan maanav snaan aur raakshas aapako bata den phrend kee puny snaan jo hota hai vah subah 4:00 se 5:00 ke beech kiya jaata hai vahee dev snaan jo hai usaka samay hai 5:00 se 6:00 ke beech kiya jaata hai aur saath hee log jo hai 6:00 se 8:00 ke beech jo hai maanav snaan karate hain isake baad snaan karane vaale logon ko raakshas kaha jaata hai agar aap 8:00 baje ke baad snaan karate hain 9:00 baje 10:00 baje karate hain to aapako raashtreey snaan kaha jaega us vakt jo hai us vakt insaan nahin us vakt raakshas log snaan karate hain aur agar aap subah 4:00 baje snaan kar lete hain ki maneesh naam jo hai karane se aapake ghar mein sukh shaanti aatee hai samrddhi aatee hai vidyaarthee aapake andar banaata hai aarogy hota hai kisee ko ke ghar mein kisee bhee prakaar kee rog nahin hotee vaheen dev snaan karane se aapake jeevan mein yash keerti dhan vaibhav sukh shaanti santosh aata hai aur agar aap raakshasee snaan karate hain to aap ne raakshason ko dekha hai aapaka man vichaar aapake sanskaar jo honge vah raakshason jaise ho jaenge raakshasee preet ke ho jaenge to agar aap der se snaan karate hain to subah uthee hai morning aasamaan keejie aur jo hai muni snaan keejie aap hindoo hai to muniya snaan keejie subah ka snaan keejie brahm muhoort mein snaan keejie aapaka dekhie din samay aur svaasthy vagairah sab kuchh achchha rahega aasha hai ki aap sabhee ko ya javaab pasand aaya hoga shukriya

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard