#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?

Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:45

और जवाब सुनें

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Nadeem Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nadeem जी का जवाब
5000
0:43

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:32
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका दोस्तों आप का सवाल है पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है तो दोस्तों पाप और पुण्य का हिसाब यहीं इसी धरती पर हो जाता है जैसे हम कर्म करते हैं वैसे हमको फल मिलता है यदि हम बात करेंगे किसी से लड़ाई करेंगे झगड़ा करेंगे किसी का दिल दुखा एंगे किसी के लिए बुरा बोलेंगे तो हमें भी पूरे कसम नहीं करना पड़ेगा और अगर हम पर नहीं करेंगे किसी से अच्छा बोलेंगे किसी की बात का सम्मान करेंगे तो है विमर्श मन करेगा तो पाप और पुण्य का हिसाब यहीं पर हो जाता है धन्यवाद दोस्तों
Helo doston svaagat hai aapaka doston aap ka savaal hai paap aur puny ka hisaab kaise hota hai to doston paap aur puny ka hisaab yaheen isee dharatee par ho jaata hai jaise ham karm karate hain vaise hamako phal milata hai yadi ham baat karenge kisee se ladaee karenge jhagada karenge kisee ka dil dukha enge kisee ke lie bura bolenge to hamen bhee poore kasam nahin karana padega aur agar ham par nahin karenge kisee se achchha bolenge kisee kee baat ka sammaan karenge to hai vimarsh man karega to paap aur puny ka hisaab yaheen par ho jaata hai dhanyavaad doston

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
1:08

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:01

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:50

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Trainer Yogi Yogendra Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trainer जी का जवाब
Motivational Speaker | Career Coach | Corporate Trainer | Marketing & Management Expert's. Follow Us YouTube channel : https://www.youtube.com/channel/UCKY3o0Bey-4L8mWF9hyTRdQ
0:37

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
0:54

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH जी का जवाब
Director of Study Gateway+
3:24
आपका क्वेश्चन है कि पाप और पुण्य के साथ कैसे होता है मुझे पाप और पुण्य के साथ हमारे कर्मों से होता है जीवन में तीन चीज बताई गई है जो इंसान को सारी रात से पहले आती है ज्ञान कर्म और भक्ति और आपके पास ज्ञान है बापू ने को पहचान जाएंगे और आपके पास होती है तब जब आप उनको पहचान जाएंगे और आपका कर्म सही तभी आप आपने कहा पहचान जाएंगे मोहम्मद इस दुनिया में लोग उन्हें करना तो भूल ही गए हैं और पाप करना नहीं छोड़ते कैसे भी इश्तियाक से इससे में लिप्त लोग किसी को सुख चैन से जीने नहीं देते हैं बहुत परेशान करते हैं जिंदगी बहुत छोटी है दोस्त सप्तर्षी साल की जिंदगी है और हर व्यक्ति ही समझता है कि हम हजारों लाखो साल जाएंगे तो अपने हिसाब से हम व्यवस्था करें इन्हीं समझता है कि आप की सबसे व्यवस्था मात्र 30 से 40 साल तक हो सकती है फिर वह व्यवस्था चेंज हो जाएगी कोई और अगर करेगा तो पुण्य यही होता है कि हम जब दूसरों के चेहरे पर खुशी देखते हैं अपने कामों के द्वारा अपने सेवा करके चेक कैसे भी मदद करके और उसके चेहरे पर हंसी खुशी है तो पुणे किसी को कष्ट न दान पुण्य गलत कार्य करना पुणे सही बोलना बोलना सच बोलना पुणे गलत रास्ते पर नहीं जाना पुण्य बड़ों का आदर करना पुणे यह सब पुण्य और सब का हिसाब किताब कहीं ना कहीं लिखा जाता होगा कि कौन किस समय क्या कर रहा है इसलिए इंसान में कोई पहचान नहीं आना चाहिए भगवान ने जितना दिया है उससे संतुष्ट खाते तो सबके पास है इस दुनिया में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं जिसके बाद दिक्कत नहीं है चाहे वह पति होते हैं वह सैकड़ा पति हो सबको दिखाते हैं और इन्हें देखो तो मैं हमें भगवान पर चढ़ते हैं कि कैसा काम कर रहा है दिक्कत है जिसको इतनी ज्यादा समय लीजिए कि उसको भगवान परीक्षा ले रहे हैं देखो तो सुनेगा मिलना चाहिए ठीक है मन विचलित हो जाता है लेकिन इन्हें मन विचलित होता बाहर घूमने निकले यह मन शांत हो जाएगा
Aapaka kveshchan hai ki paap aur puny ke saath kaise hota hai mujhe paap aur puny ke saath hamaare karmon se hota hai jeevan mein teen cheej bataee gaee hai jo insaan ko saaree raat se pahale aatee hai gyaan karm aur bhakti aur aapake paas gyaan hai baapoo ne ko pahachaan jaenge aur aapake paas hotee hai tab jab aap unako pahachaan jaenge aur aapaka karm sahee tabhee aap aapane kaha pahachaan jaenge mohammad is duniya mein log unhen karana to bhool hee gae hain aur paap karana nahin chhodate kaise bhee ishtiyaak se isase mein lipt log kisee ko sukh chain se jeene nahin dete hain bahut pareshaan karate hain jindagee bahut chhotee hai dost saptarshee saal kee jindagee hai aur har vyakti hee samajhata hai ki ham hajaaron laakho saal jaenge to apane hisaab se ham vyavastha karen inheen samajhata hai ki aap kee sabase vyavastha maatr 30 se 40 saal tak ho sakatee hai phir vah vyavastha chenj ho jaegee koee aur agar karega to puny yahee hota hai ki ham jab doosaron ke chehare par khushee dekhate hain apane kaamon ke dvaara apane seva karake chek kaise bhee madad karake aur usake chehare par hansee khushee hai to pune kisee ko kasht na daan puny galat kaary karana pune sahee bolana bolana sach bolana pune galat raaste par nahin jaana puny badon ka aadar karana pune yah sab puny aur sab ka hisaab kitaab kaheen na kaheen likha jaata hoga ki kaun kis samay kya kar raha hai isalie insaan mein koee pahachaan nahin aana chaahie bhagavaan ne jitana diya hai usase santusht khaate to sabake paas hai is duniya mein koee bhee aisa vyakti nahin jisake baad dikkat nahin hai chaahe vah pati hote hain vah saikada pati ho sabako dikhaate hain aur inhen dekho to main hamen bhagavaan par chadhate hain ki kaisa kaam kar raha hai dikkat hai jisako itanee jyaada samay leejie ki usako bhagavaan pareeksha le rahe hain dekho to sunega milana chaahie theek hai man vichalit ho jaata hai lekin inhen man vichalit hota baahar ghoomane nikale yah man shaant ho jaega

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:34

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Farmer
0:55
आपका सवाल है पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है मैं बता दूं पाप और पुण्य का हिसाब कहीं दूसरी जगह नहीं होता हम सब जानते हैं हर प्राणी हर इंसान जानता है कि वह कर बात कर रहा है पूर्ण करें उसे किया उसके द्वारा किया जाने वाला कार्य सही है या गलत है हर इंसान को पता होता है उसका उन लोगों ने खुद ही कर लेता के मैट्रिक में पास किया हो कितने पूर्ण किया है कि कहीं देश का हिसाब किताब नहीं बनता है इसका कोई बहीखाता नहीं होता कि आप को खुद ही पता है कि आप कितना पाप कर रहा है कितना पुण्य कर रहे हैं तो आप काहे को दूसरी तरफ तो करने की जरूरत करते हैं आप खुद समझ जाएंगे कि आप माफी है या पुण्य आत्मा है
Aapaka savaal hai paap aur puny ka hisaab kaise hota hai main bata doon paap aur puny ka hisaab kaheen doosaree jagah nahin hota ham sab jaanate hain har praanee har insaan jaanata hai ki vah kar baat kar raha hai poorn karen use kiya usake dvaara kiya jaane vaala kaary sahee hai ya galat hai har insaan ko pata hota hai usaka un logon ne khud hee kar leta ke maitrik mein paas kiya ho kitane poorn kiya hai ki kaheen desh ka hisaab kitaab nahin banata hai isaka koee baheekhaata nahin hota ki aap ko khud hee pata hai ki aap kitana paap kar raha hai kitana puny kar rahe hain to aap kaahe ko doosaree taraph to karane kee jaroorat karate hain aap khud samajh jaenge ki aap maaphee hai ya puny aatma hai

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
भारत बनेगा स्वर्ग नमामि गंगे Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए भारत जी का जवाब
रेस्टोरेंट में मुनीम के पद पर कार्यरत
2:25
नमस्कार आपका जवाब कैसे होता तो मैं कहना चाहूंगा कि आप आप कितने कर लो जो लोग पाप करते हैं उनको भरना पड़ता है हर सीजन में भरना पड़ता है और महसूस होना होता रहता है यहां मैंने यह काम किया मेरे साथ से हो रहा है और जॉर्ज और आपके उसको याद करते हैं कि मैंने काम किया था उसका मजा लिमिट बढ़ चुका है क्योंकि मैं आशा करता हूं कि मुझे जो है एक बार जब कुछ कम उम्र की समझ कंपनी एक पैसे गिर गए मैंने उठा लिए लेकिन उसके कुछ समय बाद जब मेरे पैसे गिर गए उससे अधिक गिर गए तो मुझे एहसास हुआ कि मैंने पैसे उठाए थे और मेरे पैसे गिर गए तो मैंने कमाया मैंने पैसे उठाया उसका हिसाब हो गया अगर हम कुछ अच्छा करते हैं तो उसका फल मिलता है बराबर होता है उसके दोनों पढ़ ले बराबर है अगर आप करेंगे तो उसका अंत होगा जल्दी होता है और अपने जीवन में हो जाता है मरने वालों नहीं होता है हर इंसान पाप करता है उसकी भागीदारी होता है वह इंसान के जीवन में देखकर भी जाता है और वो के भी जाता है उसको बोलना भी पड़ता है कहते हैं आए थे भोग भोगने को लोगों ने हम को रोक लिया पूरी जिंदगी आगे संघर्ष करता है चोरी भी करता है डकैती भी करता है सब कुछ करता है दान भी करता है और उसका फल भी मिलता है पाप और पुण्य का फल मिलता है आदमी जानता मुझे एक प्रकार का फल मिल रहा है फिर भी इंसान जो है नहीं सुधरता है अगर इंसान सुधर जाए और पापा फोन का हिसाब समझने समझने लगे तो समझ में आ जाए तो बन जाए
Namaskaar aapaka javaab kaise hota to main kahana chaahoonga ki aap aap kitane kar lo jo log paap karate hain unako bharana padata hai har seejan mein bharana padata hai aur mahasoos hona hota rahata hai yahaan mainne yah kaam kiya mere saath se ho raha hai aur jorj aur aapake usako yaad karate hain ki mainne kaam kiya tha usaka maja limit badh chuka hai kyonki main aasha karata hoon ki mujhe jo hai ek baar jab kuchh kam umr kee samajh kampanee ek paise gir gae mainne utha lie lekin usake kuchh samay baad jab mere paise gir gae usase adhik gir gae to mujhe ehasaas hua ki mainne paise uthae the aur mere paise gir gae to mainne kamaaya mainne paise uthaaya usaka hisaab ho gaya agar ham kuchh achchha karate hain to usaka phal milata hai baraabar hota hai usake donon padh le baraabar hai agar aap karenge to usaka ant hoga jaldee hota hai aur apane jeevan mein ho jaata hai marane vaalon nahin hota hai har insaan paap karata hai usakee bhaageedaaree hota hai vah insaan ke jeevan mein dekhakar bhee jaata hai aur vo ke bhee jaata hai usako bolana bhee padata hai kahate hain aae the bhog bhogane ko logon ne ham ko rok liya pooree jindagee aage sangharsh karata hai choree bhee karata hai dakaitee bhee karata hai sab kuchh karata hai daan bhee karata hai aur usaka phal bhee milata hai paap aur puny ka phal milata hai aadamee jaanata mujhe ek prakaar ka phal mil raha hai phir bhee insaan jo hai nahin sudharata hai agar insaan sudhar jae aur paapa phon ka hisaab samajhane samajhane lage to samajh mein aa jae to ban jae

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
0:58
जो सत्यम शिवम सुंदरम से भरा है वही पुन्य है वही जो जग हितकारी है जो चक कल्याणकारी जो जमीन हित में किया जाता है वही कार्य पुण्य है और जो स्वार्थ हेतु लालच के वशीभूत होकर दूसरों को दुख देते हुए दूसरों की परेशानियों का कारण बनते हुए जो कार्य किया जाता है वह पाप पाप और पुण्य की यही है जो दूसरों की पीड़ा खाली हो दूसरों की पिचकारी हो दूसरों के पर्दों का कारण बने वह पाप कहलाता है और जो दूसरों को खुशियां देता है समझा देता आप कराता है जो आपकी सारी करने से प्रसन्न होते हैं वही कार्य जो चक हितकारी है वह पुण्य
Jo satyam shivam sundaram se bhara hai vahee puny hai vahee jo jag hitakaaree hai jo chak kalyaanakaaree jo jameen hit mein kiya jaata hai vahee kaary puny hai aur jo svaarth hetu laalach ke vasheebhoot hokar doosaron ko dukh dete hue doosaron kee pareshaaniyon ka kaaran banate hue jo kaary kiya jaata hai vah paap paap aur puny kee yahee hai jo doosaron kee peeda khaalee ho doosaron kee pichakaaree ho doosaron ke pardon ka kaaran bane vah paap kahalaata hai aur jo doosaron ko khushiyaan deta hai samajha deta aap karaata hai jo aapakee saaree karane se prasann hote hain vahee kaary jo chak hitakaaree hai vah puny

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Nav kishor Aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nav जी का जवाब
Service
1:02
स्टार आपका सवाल है कि पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है लेकिन पाप और पुण्य का हिसाब जो है वह कोई इंसान नहीं करता पाप और पुण्य का हिसाब जो है वह परमपिता परमात्मा करते हैं तो इसकी डायरी उन्हीं के पास है जो व्यक्ति जितने पाप करता है जितने भी उल्टे सीधे कर्म करता है उसकी सजा वह परमपिता परमात्मा अपने आप उसे दे देते हैं वक्त आने पर उनके पास सारा लेखा-जोखा रहता है और जिस व्यक्ति ने जितने भी पुणे की हैं जितने भी नए कर्म करें उसका फल भी परमपिता परमात्मा ही देते हैं तो इसका कोई भी नहीं बता सकता कि हिसाब कौन करता है कैसे करता है क्या करते हैं इसका हिसाब से तो परमपिता परमात्मा के पास है और वही सभी के कर्मों का हिसाब करते हैं हमारा काम है कि सिर्फ कर्म किए जा रहे कर्म किए जा समाज को देश को अपने बच्चों को हर किसी को सहायता करना मदद करना और अच्छे कर्म करना सबकी इज्जत करना सबके साथ बढ़िया व्यवहार करना नरम रहना यह सब बड़े बड़ों की इज्जत करना यह सारे हमें कार्य करने और हम इन्हीं कार्य को करना चाहते हैं उम्मीद प्रथम जानकारी अच्छी लगेगी धन्यवाद
Staar aapaka savaal hai ki paap aur puny ka hisaab kaise hota hai lekin paap aur puny ka hisaab jo hai vah koee insaan nahin karata paap aur puny ka hisaab jo hai vah paramapita paramaatma karate hain to isakee daayaree unheen ke paas hai jo vyakti jitane paap karata hai jitane bhee ulte seedhe karm karata hai usakee saja vah paramapita paramaatma apane aap use de dete hain vakt aane par unake paas saara lekha-jokha rahata hai aur jis vyakti ne jitane bhee pune kee hain jitane bhee nae karm karen usaka phal bhee paramapita paramaatma hee dete hain to isaka koee bhee nahin bata sakata ki hisaab kaun karata hai kaise karata hai kya karate hain isaka hisaab se to paramapita paramaatma ke paas hai aur vahee sabhee ke karmon ka hisaab karate hain hamaara kaam hai ki sirph karm kie ja rahe karm kie ja samaaj ko desh ko apane bachchon ko har kisee ko sahaayata karana madad karana aur achchhe karm karana sabakee ijjat karana sabake saath badhiya vyavahaar karana naram rahana yah sab bade badon kee ijjat karana yah saare hamen kaary karane aur ham inheen kaary ko karana chaahate hain ummeed pratham jaanakaaree achchhee lagegee dhanyavaad

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Dukh mitane ka upay Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dukh जी का जवाब
Unknown
2:58
कृष्णा आपने पूछा कि आप अपने हिसाब कैसे होता है हरे कृष्ण हरे कृष्ण देखो आप और उन्हें का कोई निश्चित नहीं एक हमारा कितने हो गए कितने पार्क है इसका को नीचे हिसाब नहीं होता है हमारे विचारों में पाप और पुण्य है जैसे आप सोच विचार काम क्रोध लोभ मोह अहंकार पर विचार है तो हमारे पास ही है जो जो आत्मा को जो पसंद करता ना वह आप है छोरे से लागू हो यह विचार घुमाता है तो यह पतन हो सकता है विचार से उनके विचारों से पतन होता है हरे कृष्ण हरे कृष्ण फिर भी किसी पुराने को जानबूझ के कष्ट नहीं पहुंचाना चाहिए जैसे मेरे जैसे लोग हैं मैं खेती खाता हूं तो खेत में एक कई जी मोड़ते हजारों जीव होते हैं लेकिन वह कोई पाप नहीं क्योंकि वह हमारी जीविका चलानी है अगर हम मना नहीं करेंगे हम खाएंगे और कितने समय तक रहेंगे हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण थी पर वो सबसे श्रेष्ठ पुरानी है मनुष्य तक करती भी कष्ट न पहुंचाएं चाहिए हरे कृष्ण जी का स्टडी करते हैं मैंने काफी ऑडियो अपलोड किया ज्ञानपुर सुने और आपको मालूम हो जाएगा वास्तव में आप क्या है आप अब पवित्र विचार काम क्रोध लोभ मोह अहंकार ही विचार चलते रहेंगे थी भाभी आवेगी भाभी को कोई अपनी मजबूरी करना लेकिन सर जब साथ में जाता है कोई ईस्ट का साथ में जाता है तो वह से मुक्त हो जाते हैं बाकी नहीं हो पाते इसका निराकार माने तो निराकार बनेंगे और शेखर मानेंगे सहकारी बनेंगे की भक्ति करते जैसे महादेव जी की हनुमान जी की भक्ति चलो लेकिन दूसरों को दंडवत प्रणाम करके क्षमा मांग ले वहा क्षमा करेंगे वही आगे ग्रुप बन जाएंगे हरे कृष्णा जी कष्ट नहीं करते करें और इसके साथ अगर आप शादीशुदा हैं तो दो संतान के बाद मानसिक और शारीरिक बार हमसे रिप्लाई कीजिए और शादीशुदा नहीं है शादी का नहीं चाहते शादी कर लीजिए दो संतान बदमाशी को शरण तेरी कॉल कीजिए जिससे आपकी आत्मा मूलाधार ऊपर चढ़ने लगी होती है सोते-सोते जैसे अपने परिवार में कोई लड़का है अच्छी पढ़ाई करता अच्छा स्वभाव है तो परिवार वाले सब उस पर प्रश्न होते हैं प्रेम करते हैं इसी तरह हम अपने हाथों पर चढ़ाते हैं पवित्र विचार रखते हैं भक्ति खत्री से प्रसन्न होते हैं हरे कृष्णा हरे कृष्ण हरे कृष्ण करने का तरीका
Krshna aapane poochha ki aap apane hisaab kaise hota hai hare krshn hare krshn dekho aap aur unhen ka koee nishchit nahin ek hamaara kitane ho gae kitane paark hai isaka ko neeche hisaab nahin hota hai hamaare vichaaron mein paap aur puny hai jaise aap soch vichaar kaam krodh lobh moh ahankaar par vichaar hai to hamaare paas hee hai jo jo aatma ko jo pasand karata na vah aap hai chhore se laagoo ho yah vichaar ghumaata hai to yah patan ho sakata hai vichaar se unake vichaaron se patan hota hai hare krshn hare krshn phir bhee kisee puraane ko jaanaboojh ke kasht nahin pahunchaana chaahie jaise mere jaise log hain main khetee khaata hoon to khet mein ek kaee jee modate hajaaron jeev hote hain lekin vah koee paap nahin kyonki vah hamaaree jeevika chalaanee hai agar ham mana nahin karenge ham khaenge aur kitane samay tak rahenge hare krshn hare krshn hare krshn hare krshn hare krshn thee par vo sabase shreshth puraanee hai manushy tak karatee bhee kasht na pahunchaen chaahie hare krshn jee ka stadee karate hain mainne kaaphee odiyo apalod kiya gyaanapur sune aur aapako maaloom ho jaega vaastav mein aap kya hai aap ab pavitr vichaar kaam krodh lobh moh ahankaar hee vichaar chalate rahenge thee bhaabhee aavegee bhaabhee ko koee apanee majabooree karana lekin sar jab saath mein jaata hai koee eest ka saath mein jaata hai to vah se mukt ho jaate hain baakee nahin ho paate isaka niraakaar maane to niraakaar banenge aur shekhar maanenge sahakaaree banenge kee bhakti karate jaise mahaadev jee kee hanumaan jee kee bhakti chalo lekin doosaron ko dandavat pranaam karake kshama maang le vaha kshama karenge vahee aage grup ban jaenge hare krshna jee kasht nahin karate karen aur isake saath agar aap shaadeeshuda hain to do santaan ke baad maanasik aur shaareerik baar hamase riplaee keejie aur shaadeeshuda nahin hai shaadee ka nahin chaahate shaadee kar leejie do santaan badamaashee ko sharan teree kol keejie jisase aapakee aatma moolaadhaar oopar chadhane lagee hotee hai sote-sote jaise apane parivaar mein koee ladaka hai achchhee padhaee karata achchha svabhaav hai to parivaar vaale sab us par prashn hote hain prem karate hain isee tarah ham apane haathon par chadhaate hain pavitr vichaar rakhate hain bhakti khatree se prasann hote hain hare krshna hare krshn hare krshn karane ka tareeka

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Gulab Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gulab जी का जवाब
Student
1:15

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Tej Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Tej जी का जवाब
Unknown
0:58

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Sandeep Goyal Chandigarh  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sandeep जी का जवाब
Tabla player artist and music home tutor
3:41
नमस्कार आपको सवाल है कि जो कि सबको जाना चाहिए इसका जवाब और बहुत अच्छा से वाले प्राप्त होने का हिसाब कैसे होता है तुझे खोजी जब कोई इंसान की मृत्यु होती है हमने श्रीमद् भागवत महापुराण में पंडित श्री अनुज आचार्य अनिरुद्ध आचार्य जी महाराज जी के मुखारविंद से सुना तुमने बताया कि जब किसी भी इंसान की मृत्यु होती है तो उसे सबसे पहले भगवान के पास ही ले जाया जाता है तो जो पापी भी होते हैं या पुण्यात्मा लोग होते हैं तो उनको भी जिक्र ले जाया जाता है तो वहां पर फिर भगवान उनको मिलते हैं और ऐसे ही जैसे आप लोग बैठे हैं वैसे ही वहां पर भी तो मरने के बाद जो हमारा सिक्स मशीन हमारे शरीर के अंदर भी एक शरीर होता है वह कैसे जवाब सपना ले रही होती हो सोने के बाद जब आप देखते हो कि मैं कहीं पहुंच गया मैं ट्रेन में बैठा हूं या मैं हरिद्वार में हूं तो आप तो कहेंगे मैं तो घर पर लेटा हूं लेकिन मैं हरिद्वार कैसे पहुंच गया था देखने में तो वह आप नहीं आपका सोचना चाहिए जो है वह इधर-उधर भटकता है जाता है आत्मा के स्थूल शरीर में ही होती है टिकट स्कूल श्री बाहरी शरीर होता है और उसमें तीन अंदर शरीर होता है ठीक है तो हमारा शरीर ही भगवान के पास जाता है और वही पाप पुण्य का फल भोगता है ठीक है तो भगवान सब कुछ दिखाते हैं जो हमारे जीवन का जन्म से लेकर के आखिर तक सब कुछ वहां पर भगवान सब कुछ मतलब उस व्यक्ति को दिखाते हैं और फिर से पूछते हैं और जब सब खत्म हो जाती है कहानी हमारे जीवन पर लेकर अंतिम तक कि फिर वह यमराज को चित्रगुप्त जो कि लेख लिखते हैं जब नोट डाउन करते हैं ठीक है तो उनसे कहते हैं कि हां अब बताइए इस इंसान का जिसने जीवन में कितने पाठ किए और पुणे के तो सब को तोड़ कर के तो कहते हैं कि जैसे इसके 100 किलो तो पाप हैं और 10 किलो जो है पुण्य हैं तो कहते हैं भगवान पूछते हैं अभी पहले पात का फल भोग गया पुण्य का तो इंसान क्या कहता है जी मैं आपका ही पहले प्रभु गूंगा फिर पुण्य का एक ऐसा इंसान घबरा जाता है जब उसको तुझे पापी लोग होते हैं तो उनको जो है वही आदेश दिया जाता है ताकि लोगों को कि जो भगवान जो दूध होते हैं यमराज के तुम को आदेश दिया जाता है कि इनको जो पापी लोग हैं इनको इत्यादि इत्यादि जिला में डाल दो आगे से कोई कुत्ता बंद करके आ गया कोई बिल्ली बंद करके आ गया कोई मकोड़ा कीड़ा बन करके आ गया तो यह चीज होती है उदाहरण है उम्मीद है कि आपको मेरा सवाल का जवाब समझ आया होगा कुछ गलती हुई हो तो क्षमा चाहूंगा धन्यवाद
Namaskaar aapako savaal hai ki jo ki sabako jaana chaahie isaka javaab aur bahut achchha se vaale praapt hone ka hisaab kaise hota hai tujhe khojee jab koee insaan kee mrtyu hotee hai hamane shreemad bhaagavat mahaapuraan mein pandit shree anuj aachaary aniruddh aachaary jee mahaaraaj jee ke mukhaaravind se suna tumane bataaya ki jab kisee bhee insaan kee mrtyu hotee hai to use sabase pahale bhagavaan ke paas hee le jaaya jaata hai to jo paapee bhee hote hain ya punyaatma log hote hain to unako bhee jikr le jaaya jaata hai to vahaan par phir bhagavaan unako milate hain aur aise hee jaise aap log baithe hain vaise hee vahaan par bhee to marane ke baad jo hamaara siks masheen hamaare shareer ke andar bhee ek shareer hota hai vah kaise javaab sapana le rahee hotee ho sone ke baad jab aap dekhate ho ki main kaheen pahunch gaya main tren mein baitha hoon ya main haridvaar mein hoon to aap to kahenge main to ghar par leta hoon lekin main haridvaar kaise pahunch gaya tha dekhane mein to vah aap nahin aapaka sochana chaahie jo hai vah idhar-udhar bhatakata hai jaata hai aatma ke sthool shareer mein hee hotee hai tikat skool shree baaharee shareer hota hai aur usamen teen andar shareer hota hai theek hai to hamaara shareer hee bhagavaan ke paas jaata hai aur vahee paap puny ka phal bhogata hai theek hai to bhagavaan sab kuchh dikhaate hain jo hamaare jeevan ka janm se lekar ke aakhir tak sab kuchh vahaan par bhagavaan sab kuchh matalab us vyakti ko dikhaate hain aur phir se poochhate hain aur jab sab khatm ho jaatee hai kahaanee hamaare jeevan par lekar antim tak ki phir vah yamaraaj ko chitragupt jo ki lekh likhate hain jab not daun karate hain theek hai to unase kahate hain ki haan ab bataie is insaan ka jisane jeevan mein kitane paath kie aur pune ke to sab ko tod kar ke to kahate hain ki jaise isake 100 kilo to paap hain aur 10 kilo jo hai puny hain to kahate hain bhagavaan poochhate hain abhee pahale paat ka phal bhog gaya puny ka to insaan kya kahata hai jee main aapaka hee pahale prabhu goonga phir puny ka ek aisa insaan ghabara jaata hai jab usako tujhe paapee log hote hain to unako jo hai vahee aadesh diya jaata hai taaki logon ko ki jo bhagavaan jo doodh hote hain yamaraaj ke tum ko aadesh diya jaata hai ki inako jo paapee log hain inako ityaadi ityaadi jila mein daal do aage se koee kutta band karake aa gaya koee billee band karake aa gaya koee makoda keeda ban karake aa gaya to yah cheej hotee hai udaaharan hai ummeed hai ki aapako mera savaal ka javaab samajh aaya hoga kuchh galatee huee ho to kshama chaahoonga dhanyavaad

bolkar speaker
पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है?Paap Aur Punya Ka Hisaab Kaise Hota Hai
Ajay dangi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ajay जी का जवाब
Unknown
0:10

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • पाप और पुण्य का हिसाब कैसे होता है पाप और पुण्य का हिसाब
URL copied to clipboard