#भारत की राजनीति

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
3:31
देखा जाए तो इस मामले पर कई बार यह मुद्दा उठा था जब बीजेपी की पहली बार सरकार हुई थी उस समय भी मुद्दा उठा था उसके बाद धीरे-धीरे तूल पकड़ लिया था लेकिन फिर भी सरकार और कुछ ऐसी संस्थाएं हैं भारत में जो आज बैलेट पेपर से नौकर आकर ईवीएम को ज्यादा बढ़ावा दे रही है लेकिन आपको बता दें कि इलेक्ट्रॉनिक चीजें हैं जिसे हमारा डिजिटल है रिटर्न में क्या है कि हम पूरी तरह से मल्टीमीडिया पर और सबसे ज्यादा है किसी में होता है जो इलेक्ट्रॉनिक्स चीज है उसको हैक करना बहुत आसान है कंपैरिजन टॉयलेट पेपर बैलेट पेपर को हैक आपका सकते मतलब आप उसे किसी बूथ पर जाकर एक चीज को आप बस कन्वर्ट कर सकते हैं लेकिन अगर देखा जाए तो ईवीएम को हैक करना बहुत आसान है आप एक ही जगह से धीरे-धीरे आप ऐसे ही अपने लोगों ऐसे मोटिवेशन करनी है ऐसी चीजें उसमें है कि आप अब डाइवर्ट कर सकते हैं और यह भी कहा गया है कि वह किसी और को दिया जाता है लेकिन पूछता किसी और को तो कहीं ना कहीं सच्चाई है अगर चीजें होती हैं गलत तो जरूर मार्केट में आती हैं कहा जाता है कि बिना गलती के कोई आपको गलत नहीं ठहरा सकता है बेशक आप भले से अपनी अपने आपको सफाई दे सकते हैं लेकिन हम जहां तक जानते हैं कि ईवीएम को हैक करना बहुत आसान है कंपैरिजन टू वैलेट पेपर बैलेट पेपर को हम है कि नहीं कर सकते हैं उसको हम भी होता है लेकिन कुछ भूत वैसे ही डाल देते हैं तो वह भी केवल एक बॉक्स खराब होता है लेकिन अगर ईवीएम को हैक किया जाए जिस जकोड पड़ रहा है ईवीएम से जिस मशीन को हैक किया गया उस मशीन से सारे जो भी उठ होंगे सारे को चारों है क्या कर दिया जाएगा तो आप सोच सकते हैं कि है करना बहुत आसान है आज कितने हैकर हैं आप सूची सकते हैं कि आज बड़ी-बड़ी मोबाइल है चाहे आप का एंड्राइड हो जाए लैपटॉप टेबलेट जो भी कुछ है आपकी है कर लेना है कितने अकाउंट साफ हो जा रहे हैं सब आसान हो गए धीरे-धीरे जितना हम एंड्रॉयड में जाते रहेंगे उतना ही ज्यादा है कर भी हमें परेशान करेंगे लेकिन आपसे बस बता दें कि जो भी इलेक्ट्रॉनिक चीजें हमसे है करना आसान होता है यही कारण है कि पूरी दुनिया है जो भी विकसित देश है वह समझते हैं कि कहीं न कहीं इस जनता के साथ धोखा हो रहा है वहां की जनता जो है वहां का संविधान जो है उसे सर्वोपरि मानते हुए जानते हैं कि जो चीज गलत है हम उसे नहीं कर सकते किसी भी एक इंसान की हम इच्छा को नहीं मार सकते यहां तो पूरे पूरे समाज की बात होती है पूरे देश की बात होती है देश की हर एक नागरिक को उसका मत जाने के लिए हम क्या गलत है अगर बैलेट पेपर से तो बैलेट पेपर से होना चाहिए क्योंकि कहीं ना कहीं यह चीजें गलत है क्योंकि जो भी बड़े देश है जो भी विकसित देश है वह ईवीएम को नहीं मानते हैं आईबीएम से ज्यादा कोई भी चुनाव नहीं कराने की कोशिश करते हैं वह बैलट पेपर को ही वैलेट मानते हैं जो हकीकत है हमारा संविधान भी हमारा जो कानून भी इसे इजाजत देता है लेकिन अभी तो सरकार इसकी पूरी तरह से कहा जाए कि वैलेट पेपर के पक्ष में नहीं है विपक्ष में है और वह चाहती भी नहीं चाहती है कि हमारा सब कुछ है हम इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से ही जो कुछ भी करेंगे उसी से करेंगे हमें बहुत ज्यादा फायदा है
Dekha jae to is maamale par kaee baar yah mudda utha tha jab beejepee kee pahalee baar sarakaar huee thee us samay bhee mudda utha tha usake baad dheere-dheere tool pakad liya tha lekin phir bhee sarakaar aur kuchh aisee sansthaen hain bhaarat mein jo aaj bailet pepar se naukar aakar eeveeem ko jyaada badhaava de rahee hai lekin aapako bata den ki ilektronik cheejen hain jise hamaara dijital hai ritarn mein kya hai ki ham pooree tarah se malteemeediya par aur sabase jyaada hai kisee mein hota hai jo ilektroniks cheej hai usako haik karana bahut aasaan hai kampairijan toyalet pepar bailet pepar ko haik aapaka sakate matalab aap use kisee booth par jaakar ek cheej ko aap bas kanvart kar sakate hain lekin agar dekha jae to eeveeem ko haik karana bahut aasaan hai aap ek hee jagah se dheere-dheere aap aise hee apane logon aise motiveshan karanee hai aisee cheejen usamen hai ki aap ab daivart kar sakate hain aur yah bhee kaha gaya hai ki vah kisee aur ko diya jaata hai lekin poochhata kisee aur ko to kaheen na kaheen sachchaee hai agar cheejen hotee hain galat to jaroor maarket mein aatee hain kaha jaata hai ki bina galatee ke koee aapako galat nahin thahara sakata hai beshak aap bhale se apanee apane aapako saphaee de sakate hain lekin ham jahaan tak jaanate hain ki eeveeem ko haik karana bahut aasaan hai kampairijan too vailet pepar bailet pepar ko ham hai ki nahin kar sakate hain usako ham bhee hota hai lekin kuchh bhoot vaise hee daal dete hain to vah bhee keval ek boks kharaab hota hai lekin agar eeveeem ko haik kiya jae jis jakod pad raha hai eeveeem se jis masheen ko haik kiya gaya us masheen se saare jo bhee uth honge saare ko chaaron hai kya kar diya jaega to aap soch sakate hain ki hai karana bahut aasaan hai aaj kitane haikar hain aap soochee sakate hain ki aaj badee-badee mobail hai chaahe aap ka endraid ho jae laipatop tebalet jo bhee kuchh hai aapakee hai kar lena hai kitane akaunt saaph ho ja rahe hain sab aasaan ho gae dheere-dheere jitana ham endroyad mein jaate rahenge utana hee jyaada hai kar bhee hamen pareshaan karenge lekin aapase bas bata den ki jo bhee ilektronik cheejen hamase hai karana aasaan hota hai yahee kaaran hai ki pooree duniya hai jo bhee vikasit desh hai vah samajhate hain ki kaheen na kaheen is janata ke saath dhokha ho raha hai vahaan kee janata jo hai vahaan ka sanvidhaan jo hai use sarvopari maanate hue jaanate hain ki jo cheej galat hai ham use nahin kar sakate kisee bhee ek insaan kee ham ichchha ko nahin maar sakate yahaan to poore poore samaaj kee baat hotee hai poore desh kee baat hotee hai desh kee har ek naagarik ko usaka mat jaane ke lie ham kya galat hai agar bailet pepar se to bailet pepar se hona chaahie kyonki kaheen na kaheen yah cheejen galat hai kyonki jo bhee bade desh hai jo bhee vikasit desh hai vah eeveeem ko nahin maanate hain aaeebeeem se jyaada koee bhee chunaav nahin karaane kee koshish karate hain vah bailat pepar ko hee vailet maanate hain jo hakeekat hai hamaara sanvidhaan bhee hamaara jo kaanoon bhee ise ijaajat deta hai lekin abhee to sarakaar isakee pooree tarah se kaha jae ki vailet pepar ke paksh mein nahin hai vipaksh mein hai aur vah chaahatee bhee nahin chaahatee hai ki hamaara sab kuchh hai ham ilektronik voting masheen se hee jo kuchh bhee karenge usee se karenge hamen bahut jyaada phaayada hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • EVM और बैलेट पेपर वोटिंग में क्या अंतर होता है, बैलेट पेपर वोटिंग कैसे होती है
URL copied to clipboard