#जीवन शैली

bolkar speaker

किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?

Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:46
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसा पता लगाएं दोस्तों किसी व्यक्ति के बारे में अच्छाई या बुराई का पता लगाना मुश्किल तो नहीं है लेकिन आसान भी नहीं है दोस्तों इसके लिए आपका कोई परिचित है तो उसे उस व्यक्ति के साथ है मिलवा सकते हैं उसका दीपू परिचित हो और फिर वे दोनों आपस में आपकी बातें यहां आपके किसी दोस्त की बातें करेंगे तो फिर आपके दोस्त को उनके बारे में जिससे आप बात कर रहे हैं पता चल जाएगा कि उनकी बातों से क्या महसूस हो रहा है और की चुगली कर रहा है उनकी पढ़ाई की जगह तारीफ की जगह और उनकी कमियां गिना रहा है और उनकी बातों से यह पता चल रहा है कि वह सत्य बोल रहा है क्या शानदार नहीं है या फिर वह पक्षपाती है और व्यवहार अच्छा नहीं कर रहा है उनकी मधुरता वाणी में है ही नहीं तो इस प्रकार से उनकी अच्छाइयों और उनकी बुराइयों के बारे में पता लगाया जा सकता है या फिर डायरेक्ट आप उनसे मिल कर के और सीधी-सादी बातें कर सकते हैं किसी भी टॉपिक पर कोई परिजनों के टॉपिक पर या फिर अपनी पढ़ाई के टॉपिक पर भविष्य के टॉपिक पर मेरा मतलब है कोई भी शिक्षक किसी भी टॉपिक पर आप हमसे बात करिए जैसे कि हम सभी को किसी भी से बात करने से पता चल जाता है कि जिस व्यक्ति से हम बात कर रहे हैं उसका व्यवहार उसकी मां का स्वभाव कैसा है लगाओ मेलजोल है या नहीं बोलने से ही दोस्तों व्यक्तियों की आधी सच्चाई का पता चल जाता है तो किसी के साथ दो चार बार मुलाकात करके देखिए आपको खुद ब खुद पता चल जाएगा कि व्यक्ति कैसा है व्यक्ति में छाया है या बुराइयां दोस्तों हम सभी जानते हैं कि किसी भी व्यक्ति से हम मिलकर के और पता लगा लेते हैं उसको देखने मात्र से उसके व्यवहार मात्र से कि वह कैसा है ऐसे उसके बारे में पता लगाया जा सकता है धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn hai kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaisa pata lagaen doston kisee vyakti ke baare mein achchhaee ya buraee ka pata lagaana mushkil to nahin hai lekin aasaan bhee nahin hai doston isake lie aapaka koee parichit hai to use us vyakti ke saath hai milava sakate hain usaka deepoo parichit ho aur phir ve donon aapas mein aapakee baaten yahaan aapake kisee dost kee baaten karenge to phir aapake dost ko unake baare mein jisase aap baat kar rahe hain pata chal jaega ki unakee baaton se kya mahasoos ho raha hai aur kee chugalee kar raha hai unakee padhaee kee jagah taareeph kee jagah aur unakee kamiyaan gina raha hai aur unakee baaton se yah pata chal raha hai ki vah saty bol raha hai kya shaanadaar nahin hai ya phir vah pakshapaatee hai aur vyavahaar achchha nahin kar raha hai unakee madhurata vaanee mein hai hee nahin to is prakaar se unakee achchhaiyon aur unakee buraiyon ke baare mein pata lagaaya ja sakata hai ya phir daayarekt aap unase mil kar ke aur seedhee-saadee baaten kar sakate hain kisee bhee topik par koee parijanon ke topik par ya phir apanee padhaee ke topik par bhavishy ke topik par mera matalab hai koee bhee shikshak kisee bhee topik par aap hamase baat karie jaise ki ham sabhee ko kisee bhee se baat karane se pata chal jaata hai ki jis vyakti se ham baat kar rahe hain usaka vyavahaar usakee maan ka svabhaav kaisa hai lagao melajol hai ya nahin bolane se hee doston vyaktiyon kee aadhee sachchaee ka pata chal jaata hai to kisee ke saath do chaar baar mulaakaat karake dekhie aapako khud ba khud pata chal jaega ki vyakti kaisa hai vyakti mein chhaaya hai ya buraiyaan doston ham sabhee jaanate hain ki kisee bhee vyakti se ham milakar ke aur pata laga lete hain usako dekhane maatr se usake vyavahaar maatr se ki vah kaisa hai aise usake baare mein pata lagaaya ja sakata hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
mahendra meena Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए mahendra जी का जवाब
Unknown
1:40
नमस्कार मैं हूं आप का चाहिता मैजिक रैंबो आप का सवाल है किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं तो उसका पता प्राचीन काल में कैसे लगाया जाता था प्राचीन काल में उसकी परीक्षा ली जाती थी जिससे पता चलता था कि उसमें क्या अच्छा है और क्या बुरा है तो आज के इस समय में आज अभी आप किसी की परीक्षा लेते हैं तो लगभग मेरे हिसाब से आपको उसकी अच्छाई और बुराई के बारे में पता चल जाएगा परंतु से पता नहीं होना चाहिए कि आपकी परीक्षा ले रहा है फिर उसे पता चल गया तो क्या बताऊं एक्टिंग करें बुराई को अच्छा बनाने में एक्टिंग करने लग जाए उसे पता रहेगा तो उसे पता है कि हमें कोई भी बुरे कर्म नहीं करें अच्छे कर्म करने उसको पता चल जाएगा इसलिए किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई उसके सोच उसके विचार और अच्छे गुण कई सारे उनसे आप पता लगा सकते हैं थैंक यू

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:35
जय दशमा ना की किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में तो 70% तक उनके बारे में नहीं सोचेंगे जिस दिन मैं चाय के बारे में सोचने लग जाएंगे तो और लोगों का साथ देना चाहिए अच्छी बातें करना तो ड्राइवर को अपने आप छोड़ जाएगी क्योंकि हमारे अच्छाई सहने की आदत पड़ चुकी है तो बुरा इसमें भी नहीं आएगी
Jay dashama na kee kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein to 70% tak unake baare mein nahin sochenge jis din main chaay ke baare mein sochane lag jaenge to aur logon ka saath dena chaahie achchhee baaten karana to draivar ko apane aap chhod jaegee kyonki hamaare achchhaee sahane kee aadat pad chukee hai to bura isamen bhee nahin aaegee

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:44
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं तो दोस्तों बहुत लोगों के बारे में आप अच्छाई या बुराई मात्र बात करके या हाव भाव देखकर नहीं लगा सकते हैं बहुत सारे ऐसे लोग बहुत आपको व्यवहार में कुशल दिखाई देंगे क्योंकि आप उस से आधे घंटे या ऑफिस में व्यापार के कारण से कहीं पार्क में क्लब में मिलते होंगे अच्छे से अच्छाई या बुराई तब आपको पता चलती है किसी व्यक्ति के बारे में जब उसके साथ आप समय गुजारते हैं हमें कैसे गुजारेंगे समय गुजारने का तरीका है कभी आप उसके साथ कोई टूर पर गए एक या 2 दिन के साथ रूम शेयर किया या उससे बहुत ज्यादा अपने लेनदेन किया या उससे कोई पाटनर बना कर व्यापार किया या उससे और कई आपने कार्य करवाएं या किए जब लेनदेन जब ज्यादा होगा उस मिलना ज्यादा होगा तो आपको उस की अच्छाइयां और बुराइयां पता चलने लगेगी कि कहो बहुत सारे लोग सभी के साथ ऐसा है बहुत सारी चीजें लोग जो दर्शाते हैं वह वैसा होता नहीं है बहुत सारे लोग घर पर माता-पिता आते हैं बोलते हैं उसका तो बेटा बहुत अच्छा है उसकी बहू बहुत अच्छी है क्योंकि वह क्षणिक देखते हैं और उन्हें नहीं पता कि वहां पर अगर उनके मां बाप से पूछो जहां वह देख कर आया है तो उससे भी वह परेशान रहते हैं उनके मां-बाप तो यह देखने में ऐसा लगता है तो अगर आप उससे व्यावहारिक लेनदेन कोई रखते साथ रहते हैं तो निश्चित रूप से आपको उसकी कमियां अच्छाइयां बुराइयां सब पता आपको चले लग जाती है धीरे-धीरे धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaise pata lagaen to doston bahut logon ke baare mein aap achchhaee ya buraee maatr baat karake ya haav bhaav dekhakar nahin laga sakate hain bahut saare aise log bahut aapako vyavahaar mein kushal dikhaee denge kyonki aap us se aadhe ghante ya ophis mein vyaapaar ke kaaran se kaheen paark mein klab mein milate honge achchhe se achchhaee ya buraee tab aapako pata chalatee hai kisee vyakti ke baare mein jab usake saath aap samay gujaarate hain hamen kaise gujaarenge samay gujaarane ka tareeka hai kabhee aap usake saath koee toor par gae ek ya 2 din ke saath room sheyar kiya ya usase bahut jyaada apane lenaden kiya ya usase koee paatanar bana kar vyaapaar kiya ya usase aur kaee aapane kaary karavaen ya kie jab lenaden jab jyaada hoga us milana jyaada hoga to aapako us kee achchhaiyaan aur buraiyaan pata chalane lagegee ki kaho bahut saare log sabhee ke saath aisa hai bahut saaree cheejen log jo darshaate hain vah vaisa hota nahin hai bahut saare log ghar par maata-pita aate hain bolate hain usaka to beta bahut achchha hai usakee bahoo bahut achchhee hai kyonki vah kshanik dekhate hain aur unhen nahin pata ki vahaan par agar unake maan baap se poochho jahaan vah dekh kar aaya hai to usase bhee vah pareshaan rahate hain unake maan-baap to yah dekhane mein aisa lagata hai to agar aap usase vyaavahaarik lenaden koee rakhate saath rahate hain to nishchit roop se aapako usakee kamiyaan achchhaiyaan buraiyaan sab pata aapako chale lag jaatee hai dheere-dheere dhanyavaad

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:31
वाले किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं चाचा पहली बार किसी के मन में क्या चल रहा है उस बात का अंदाजा भी नहीं लगा सकते हैं जी हां बिल्कुल अगर किसी व्यक्ति को जानते हैं आप अंदाजा लगा सकते हैं आप यह चित्र कर सकते हैं कि कब किस व्यक्ति के मन में क्या चल रहा है रही बात उसके कार्यों की कर्मों की अच्छा है व्यक्ति या बुरा है तो यह चीज आप उसके वर्क प्लेस से जॉब प्लेस पर जा करके इसकी जैसी जिन लोगों से उसके साथ मिलना है जिन्होंने मुझको अपना है उनके वहां पर जाकर के बारे में पता लगाया जा सकता है
Vaale kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaise pata lagaen chaacha pahalee baar kisee ke man mein kya chal raha hai us baat ka andaaja bhee nahin laga sakate hain jee haan bilkul agar kisee vyakti ko jaanate hain aap andaaja laga sakate hain aap yah chitr kar sakate hain ki kab kis vyakti ke man mein kya chal raha hai rahee baat usake kaaryon kee karmon kee achchha hai vyakti ya bura hai to yah cheej aap usake vark ples se job ples par ja karake isakee jaisee jin logon se usake saath milana hai jinhonne mujhako apana hai unake vahaan par jaakar ke baare mein pata lagaaya ja sakata hai

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
3:59
प्रश्न पूछा गया है कि किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं कि किसी की अच्छाई और बुराई के बारे में अगर पता लगाना है आपको देखे क्या है ना आजकल दिखावे की दुनिया और कुछ लोग देखिए इस बात को समझ जाते हैं जो कुछ इस के बहकावे में आ जाते हैं कई बार देखे ऐसा भी होता है कि आप किसी के दिखावे को प्यार समझ लेते हैं और इस वजह से देखिए आपका जो दिल टूट भी जाता है अपनी भावनाओं के लिए देखिए आपको इस बात को देखिए पहचान होनी बहुत जरूरी कि कौन आपका अपना और कौन पराया देखिए इस बात का पता लगाना दिखे थोड़ा मुश्किल होता है लेकिन कई बार क्या है आपको दिल की जगह दिमाग का दिखे संभाल करना चाहिए ताकि आप इस बात को समझ जाएं और आपकी जो भावनाओं को ठेस न पहुंचे लोगों की पहचान तक ज्यादा होती जब तक कि आप किसी पूरी परिस्थिति में फंसे होते हैं तो वह व्यक्ति की अच्छाई और बुराई बारे में कैसे पता लगाना है तो मैं जरूर कुछ ना कुछ देखे आपको जरूर बताऊंगा देखे बुरे लोग की सबसे बड़ी पहचान नहीं होती कि वह आपको हमेशा काबू में करने की कोशिश करते हैं वह ऐसी बातें करेंगे जिससे आप उनकी बातों पर जल्दी भरोसा कर लेते और वह जैसा बोलते हैं आप वैसे ही करते हैं इस बात को देखिए आपको खुद समझने की जरूरत है कि वह आप को काबू में करने के बारे में सोच रहे हैं लेकिन जो कि सिर्फ बाहर सच होता और हमेशा कोशिश करेंगे कि वह लोगों को अटेंशन अपनी तरफ कर ले उनका ध्यान बस इस बात पर होता है कि वह ऐसा क्या करेंगे जिससे वह सबका ध्यान अपनी तरफ कर सके मतलब सब का टेंशन पाने की कोशिश करते हैं तो बुरे इंसान कभी भी देखे आपको अपना सही चेहरा नहीं दिखा दे वह हमेशा आपके चेहरे पर अच्छा बनते हैं और पीठ पीछे देखिए आपके साथ बुरा करने के बारे में सोचेंगे तो जो इंसान आपसे हमेशा प्यार शिव मीठी मीठी बातें करता है आप को उन पर भी किस सोच समझकर भरोसा करना चाहिए तो जो लोग देखिए अंदर से बुरे होते हैं वह हमेशा देखिए अपने आप को सर्वोत्तम दिखाने के लिए की कोशिश करेंगे अगर कोई बहस भी होती है तो वह इस प्रयास होते हैं कि वह खुद को कैसे सही साबित करें और बाकियों को गलत अगर आप किसी ऐसे इंसान को देखते तो आपको देखे सतर्क रहने की जरूरत है जो लोग बुरे होते हैं ना वह हमेशा अपनी किसी भी कहानी को घुमा फिरा कर बोलते हैं ताकि वह देखे दूसरों की जो सहानुभूति फूफा सके तो अच्छाई और बुराई के बात आप पूछ रहे हैं तो अगर वह सच्चा है तो हर किसी को इज्जत से वह बोलेगा अपनी सोच के हिसाब से ही अपनी पसंद के अनुसार किसी को बदनाम करने की कोशिश नहीं करेगा जो अच्छा व्यक्ति होता है इसके विपरीत लोग चुके बनावटी तरह के होते हैं उन्हें बेइज्जत करने में दिखे लगता भी नहीं पसंद करते हो तो इज्जत की बात होती है वैसे ही सच्चा और इमानदार इंसान किसी एक कोने में बैठकर वही करता है जो उसका करता है वह रोज अपना काम करेगा भले ही वह लोगों के लिए देखिए सहायक सिद्ध ना हो लेकिन उसके लिए वह केवल देखे उसका काम ही कहलाता है वह बदले में दिखे शुक्रिया के उम्मीद भी नहीं करता देखिए देखिए अगर आपको कुछ सच्चा दोस्त होगा तो मुझे आपकी बुराई को या किसी भी बुरी बात को आपके मुंह पर बोलेगा तो कि वह देखकर भविष्य में आपका अच्छा जाता है यह होता है अच्छाई और बुराई का पता करने का आपको मैंने कुछ बातें बताई हैं जय हिंद जय भारत
Prashn poochha gaya hai ki kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaise pata lagaen ki kisee kee achchhaee aur buraee ke baare mein agar pata lagaana hai aapako dekhe kya hai na aajakal dikhaave kee duniya aur kuchh log dekhie is baat ko samajh jaate hain jo kuchh is ke bahakaave mein aa jaate hain kaee baar dekhe aisa bhee hota hai ki aap kisee ke dikhaave ko pyaar samajh lete hain aur is vajah se dekhie aapaka jo dil toot bhee jaata hai apanee bhaavanaon ke lie dekhie aapako is baat ko dekhie pahachaan honee bahut jarooree ki kaun aapaka apana aur kaun paraaya dekhie is baat ka pata lagaana dikhe thoda mushkil hota hai lekin kaee baar kya hai aapako dil kee jagah dimaag ka dikhe sambhaal karana chaahie taaki aap is baat ko samajh jaen aur aapakee jo bhaavanaon ko thes na pahunche logon kee pahachaan tak jyaada hotee jab tak ki aap kisee pooree paristhiti mein phanse hote hain to vah vyakti kee achchhaee aur buraee baare mein kaise pata lagaana hai to main jaroor kuchh na kuchh dekhe aapako jaroor bataoonga dekhe bure log kee sabase badee pahachaan nahin hotee ki vah aapako hamesha kaaboo mein karane kee koshish karate hain vah aisee baaten karenge jisase aap unakee baaton par jaldee bharosa kar lete aur vah jaisa bolate hain aap vaise hee karate hain is baat ko dekhie aapako khud samajhane kee jaroorat hai ki vah aap ko kaaboo mein karane ke baare mein soch rahe hain lekin jo ki sirph baahar sach hota aur hamesha koshish karenge ki vah logon ko atenshan apanee taraph kar le unaka dhyaan bas is baat par hota hai ki vah aisa kya karenge jisase vah sabaka dhyaan apanee taraph kar sake matalab sab ka tenshan paane kee koshish karate hain to bure insaan kabhee bhee dekhe aapako apana sahee chehara nahin dikha de vah hamesha aapake chehare par achchha banate hain aur peeth peechhe dekhie aapake saath bura karane ke baare mein sochenge to jo insaan aapase hamesha pyaar shiv meethee meethee baaten karata hai aap ko un par bhee kis soch samajhakar bharosa karana chaahie to jo log dekhie andar se bure hote hain vah hamesha dekhie apane aap ko sarvottam dikhaane ke lie kee koshish karenge agar koee bahas bhee hotee hai to vah is prayaas hote hain ki vah khud ko kaise sahee saabit karen aur baakiyon ko galat agar aap kisee aise insaan ko dekhate to aapako dekhe satark rahane kee jaroorat hai jo log bure hote hain na vah hamesha apanee kisee bhee kahaanee ko ghuma phira kar bolate hain taaki vah dekhe doosaron kee jo sahaanubhooti phoopha sake to achchhaee aur buraee ke baat aap poochh rahe hain to agar vah sachcha hai to har kisee ko ijjat se vah bolega apanee soch ke hisaab se hee apanee pasand ke anusaar kisee ko badanaam karane kee koshish nahin karega jo achchha vyakti hota hai isake vipareet log chuke banaavatee tarah ke hote hain unhen beijjat karane mein dikhe lagata bhee nahin pasand karate ho to ijjat kee baat hotee hai vaise hee sachcha aur imaanadaar insaan kisee ek kone mein baithakar vahee karata hai jo usaka karata hai vah roj apana kaam karega bhale hee vah logon ke lie dekhie sahaayak siddh na ho lekin usake lie vah keval dekhe usaka kaam hee kahalaata hai vah badale mein dikhe shukriya ke ummeed bhee nahin karata dekhie dekhie agar aapako kuchh sachcha dost hoga to mujhe aapakee buraee ko ya kisee bhee buree baat ko aapake munh par bolega to ki vah dekhakar bhavishy mein aapaka achchha jaata hai yah hota hai achchhaee aur buraee ka pata karane ka aapako mainne kuchh baaten bataee hain jay hind jay bhaarat

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Rohit Soni Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Journalism
1:16
कि किसी भी व्यक्ति के शरीर में कैसा लग रहा हूं किसी व्यक्ति के बारे में मां-बाप या या 32 साल का है तो उसकी पत्नी से पूछा कि बिल्कुल बाहर निकलने वाली बात करता है घर के अंदर बिल्कुल पत्नी से अपनी मांगों को बताने से बात करते हैं और कुछ नहीं देखना चाहोगी भाई उन लोगों को भी यह बोलो कि आपके लिए बैठे हैं कोई भी गलती हो गई गलती होती है आपकी मदद करने के लिए
Ki kisee bhee vyakti ke shareer mein kaisa lag raha hoon kisee vyakti ke baare mein maan-baap ya ya 32 saal ka hai to usakee patnee se poochha ki bilkul baahar nikalane vaalee baat karata hai ghar ke andar bilkul patnee se apanee maangon ko bataane se baat karate hain aur kuchh nahin dekhana chaahogee bhaee un logon ko bhee yah bolo ki aapake lie baithe hain koee bhee galatee ho gaee galatee hotee hai aapakee madad karane ke lie

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
2:07
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं एक तो अगर आप अच्छे मेडिटेटर हो और आप हमेशा अच्छे और हमें रहते हो तो आपको ऐसे ही पता चल जाएगा कि कौन अच्छा है कौन बुरा है क्योंकि हर इंसान की वाइब्रेशंस होते हैं जो हमें मिलती है हमें कंफर्टेबल फील होता है कोई इंसान अपने आसपास आ जाता है और उसके अलावा अगर आपकी नियत सही है काम करने की अगर आपकी नियत सही है तो आप अगर अच्छे इंटेंशन से काम कर रहे हो कोई दूसरा बंदा उसी काम को अच्छे टेंशन से नहीं कर रहे तो आपको उसका आपके साथ उसके क्लास हो जाएगा काम करते समय और उसके पास कोई आपके पास उसका रीजन है किसी काम को करने का कि मैं यह काम किस लिए ऐसे करना चाहता हूं दूसरे आदमी के पास भी कोई ना कोई कारण होगा मैं उसको ऐसा करना चाहता हूं अगर यह दोनों कारण क्लास होते एक मिक्सर तो आप 1 मिनट से बात करोगे आप एक में कुछ पूछोगे कि मैं इसलिए ऐसा करना चाहता हूं वह भी आपको पता है क्योंकि मैं ऐसा करना चाहता हूं बहुत सही है और किस तरीके से काम करने से क्या फायदा हो सकता हूं सही है दूसरे आदमी ने आपको एक और अच्छी सोच बता दी कि आप ऐसे ऐसे करोगे तो ज्यादा फायदा हो सकता है लेकिन किसी आदमी ने आपको ऐसा बताने की कोशिश की कि ऐसा करेंगे तो ऐसा फायदा हो सकता है लेकिन वो एक्सप्लेन नहीं कर पा रहे होगा कि आप क्यों सवाल पूछे उसको तो बता नहीं पाएगा तब से होता है कि उसका भेजते डेंटल रह सकता है उसका उसका खुद का इंटरेस्ट उसके अंदर होता है तो ऐसा व्यक्ति हमें वहां तुरंत पता चल जाता है कि क्या क्या लेना देना है इस काम के अंदर में अच्छा है या बुरा है और इसके गांव भर लोगों के साथ कैसे हैं कि तुरंत हमें पता चल जाता है बुरा इंसान हो गया तो उसके बारे में मार्केट में आज नहीं कल नहीं परसों ने कभी ना कभी आप सुनो ही लोगे किसी क्योंकि मैंने अगर किसी से चोट खाई है तो दूसरे आदमी भले आदमी को हमेशा अलग करूंगा किस-किस से बच के रहना
Kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaise pata lagaen ek to agar aap achchhe meditetar ho aur aap hamesha achchhe aur hamen rahate ho to aapako aise hee pata chal jaega ki kaun achchha hai kaun bura hai kyonki har insaan kee vaibreshans hote hain jo hamen milatee hai hamen kamphartebal pheel hota hai koee insaan apane aasapaas aa jaata hai aur usake alaava agar aapakee niyat sahee hai kaam karane kee agar aapakee niyat sahee hai to aap agar achchhe intenshan se kaam kar rahe ho koee doosara banda usee kaam ko achchhe tenshan se nahin kar rahe to aapako usaka aapake saath usake klaas ho jaega kaam karate samay aur usake paas koee aapake paas usaka reejan hai kisee kaam ko karane ka ki main yah kaam kis lie aise karana chaahata hoon doosare aadamee ke paas bhee koee na koee kaaran hoga main usako aisa karana chaahata hoon agar yah donon kaaran klaas hote ek miksar to aap 1 minat se baat karoge aap ek mein kuchh poochhoge ki main isalie aisa karana chaahata hoon vah bhee aapako pata hai kyonki main aisa karana chaahata hoon bahut sahee hai aur kis tareeke se kaam karane se kya phaayada ho sakata hoon sahee hai doosare aadamee ne aapako ek aur achchhee soch bata dee ki aap aise aise karoge to jyaada phaayada ho sakata hai lekin kisee aadamee ne aapako aisa bataane kee koshish kee ki aisa karenge to aisa phaayada ho sakata hai lekin vo eksaplen nahin kar pa rahe hoga ki aap kyon savaal poochhe usako to bata nahin paega tab se hota hai ki usaka bhejate dental rah sakata hai usaka usaka khud ka intarest usake andar hota hai to aisa vyakti hamen vahaan turant pata chal jaata hai ki kya kya lena dena hai is kaam ke andar mein achchha hai ya bura hai aur isake gaanv bhar logon ke saath kaise hain ki turant hamen pata chal jaata hai bura insaan ho gaya to usake baare mein maarket mein aaj nahin kal nahin parason ne kabhee na kabhee aap suno hee loge kisee kyonki mainne agar kisee se chot khaee hai to doosare aadamee bhale aadamee ko hamesha alag karoonga kis-kis se bach ke rahana

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Abhishek Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Abhishek जी का जवाब
Student
0:36
पीके अच्छाई और बुराई के पता करेला तोहरा के पहले खुद अपने अंदर झांक कर देखें पड़ा कि हम किशन दिखती है अभी तोहरा के लगा था कि हम आएंगे तब फिर ड्यूटी अच्छाई और बुराई पता करे की जरूरत ही ना पड़े तो तुरंत पहचान बता दें कि क्या-क्या अच्छाई अगर सही तेरे से कल मैं बाहर से और अगर खून से पता चला
Peeke achchhaee aur buraee ke pata karela tohara ke pahale khud apane andar jhaank kar dekhen pada ki ham kishan dikhatee hai abhee tohara ke laga tha ki ham aaenge tab phir dyootee achchhaee aur buraee pata kare kee jaroorat hee na pade to turant pahachaan bata den ki kya-kya achchhaee agar sahee tere se kal main baahar se aur agar khoon se pata chala

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
शिवम मौर्या Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए शिवम जी का जवाब
Unknown
0:59
अंग्रेजी में एक कहावत है फर्स्ट इंप्रेशन इज लास्ट इंप्रेशन तो कहने का मतलब यह है कि आप किसी से आज जिस रूप में पहली बार मिलते हैं जब आपकी मुलाकात होती है वह चित्र से सामने वाला आपके साथ पेश आता है तो आप उसी के अकॉर्डिंग को जज करने लगते हैं कि हां यह इस नेचर का आदमी है तो ऐसा कई बार गलत साबित हो सकता है कि जब हम किसी से मिल जाते हैं थोड़ी एक दो बार तो हम उनको अच्छा समझने लगते हैं या कई बार ऐसी परिस्थितियां होती है कि हम उसको बुरा समझने लगते हैं तो ऐसा होता नहीं है अगर आपको किसी को समझना है छाई बुराई किसी के अंदर कि तू उसके साथ एक काफी लोंग टाइम आपको देना पड़ेगा बिताना पड़ेगा कुछ महीने कुछ हफ्ते को साल तू जितनी बारीकी से आप उसके साथ घुल मिल जाएंगे उसका ही अच्छी तरीके से उस आदमी के अंदर की अच्छाइयां और बुराइयां आप पता लगा सकते हैं यह कहिए कि एक दो बार की मुलाकात में आप उसको अच्छी तरह से परख ले तो यह असंभव है
Angrejee mein ek kahaavat hai pharst impreshan ij laast impreshan to kahane ka matalab yah hai ki aap kisee se aaj jis roop mein pahalee baar milate hain jab aapakee mulaakaat hotee hai vah chitr se saamane vaala aapake saath pesh aata hai to aap usee ke akording ko jaj karane lagate hain ki haan yah is nechar ka aadamee hai to aisa kaee baar galat saabit ho sakata hai ki jab ham kisee se mil jaate hain thodee ek do baar to ham unako achchha samajhane lagate hain ya kaee baar aisee paristhitiyaan hotee hai ki ham usako bura samajhane lagate hain to aisa hota nahin hai agar aapako kisee ko samajhana hai chhaee buraee kisee ke andar ki too usake saath ek kaaphee long taim aapako dena padega bitaana padega kuchh maheene kuchh haphte ko saal too jitanee baareekee se aap usake saath ghul mil jaenge usaka hee achchhee tareeke se us aadamee ke andar kee achchhaiyaan aur buraiyaan aap pata laga sakate hain yah kahie ki ek do baar kee mulaakaat mein aap usako achchhee tarah se parakh le to yah asambhav hai

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
0:48
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं अच्छाई और बुराई किसी व्यक्ति की अच्छाई के बारे में हम तब पता लगा सकते हैं जब वह लोगों के बारे में अच्छा सोचता है किसी के बारे में अच्छा करने की विचार रखता है अपने लिए अच्छा करता है लोगों के लिए अच्छा करने का सोचता है अपने परिवार का ख्याल रखता है तो मान सकते हैं कि वह उसका आदमी का या उस व्यक्ति का अच्छाई है और बुराई जब वह बिना सोचे समझे अपने स्वार्थ के लिए लोगों को लोगों के साथ बुरा करता है बुरा बर्ताव करता है अच्छे से बर्ताव नहीं करता अपने फायदे के लिए लोगों का फायदा उठाता है तो हम उसे पता चल सकता है कि वह व्यक्ति बुरा है या उसके अंदर बुराई है धन्यवाद
Kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaise pata lagaen achchhaee aur buraee kisee vyakti kee achchhaee ke baare mein ham tab pata laga sakate hain jab vah logon ke baare mein achchha sochata hai kisee ke baare mein achchha karane kee vichaar rakhata hai apane lie achchha karata hai logon ke lie achchha karane ka sochata hai apane parivaar ka khyaal rakhata hai to maan sakate hain ki vah usaka aadamee ka ya us vyakti ka achchhaee hai aur buraee jab vah bina soche samajhe apane svaarth ke lie logon ko logon ke saath bura karata hai bura bartaav karata hai achchhe se bartaav nahin karata apane phaayade ke lie logon ka phaayada uthaata hai to ham use pata chal sakata hai ki vah vyakti bura hai ya usake andar buraee hai dhanyavaad

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Deepak Kumar kushwaha  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deepak जी का जवाब
सामाजिक कार्य, शिक्षक, नेटवर्किंग मार्केटिंग,
2:25
नमस्कार आपका प्रश्न किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाया जाए कि यह कोई व्यक्ति अच्छा और कोई व्यक्ति बुरा नहीं होता है सिर्फ उसके की गई कृत और उसी स्थिति के अनुरूप हो जाए तो व्यक्ति अच्छा होता है और वह किए गए करी तो उसके समय के विपरीत होता है तो व्यक्ति बुरा होता है उसको पहचानने के लिए आपको बहुत ही सिंपल से पढ़ना है कि जिस समय की जो चीजें डिमांड अगर उसके अनुरूप किए गए कार्य अगर किया जा रहा तो व्यक्ति को अच्छा अच्छा है बेस्ट है उसके साथ आप साथ दे सकते अगर जो समय की डिमांड नहीं है समय की मांग नहीं है और उसके विपरीत कार्य कर रहा है जाहिर सी बात है उसका रिजल्ट आएगा वह लोगों के अंदर अनुकूलता है पहला लोगों के अंदर नर्वस करेगा जैसे लोग बुरे होते हैं जैसा कि छात्र जीवन की जिंदगी जिंदगी है पढ़ाई करने के लिए अगर उसके समय में पढ़ाई ना करते हुए किसी अन्य काम को कर्ज से ज्यादा फोकस दें जबकि छात्र को चाहिए कि छात्र जीवन में ज्यादा से ज्यादा ज्ञान प्राप्त करो ज्ञान को अपने जीवन में अपनाकर और ज्यादा दे इन चीजों पर कम ध्यान देते हुए अनर्गल जिससे घूमना फिरना मौज मस्ती आया अदर चीजों के ट्रेड पर काम करे जिसका कोई स्कोप ना हो जाए ऐसा मान लीजिए कि वह किसी के साथ बैठकर बिना बात का बास करना बिना नॉलेज के किसी मुद्दे में बात करना जिस मुद्दे की कोई वार्तालाप ना हो तो मुद्दे को लेकर बात करना है ऐसे सारे अगर कोई भी हेल्प कर रहा है चाय पानी क्यों गलत रास्ते पर एक्टिव रहा है कैसे पता कर सकते हैं साथ ही साथ पूरा पता करने के लिए जैसे कि आप की आवश्यकता मेरी आवश्यकता दुनिया की किसी की आवश्यकता है वह चाहता है और सत्ता के समय जगत की आपके सहयोग भी नहीं आता है और इसका गलत इस्तेमाल करता है चलो भैया इतना लिख कर देते हैं तुम्हारी परेशानी है अगर ऐसा हो गया तो समझ लो बुरा है क्योंकि आपको यूज़ कर रहा है अच्छाई पहचानने के लिए किस समय की जरूरत है उसका नाम किया गया कुछ इस व्यक्ति द्वारा किया जाएगा व्यक्ति अच्छा माना जाएगा और अच्छा होता भी है इतिहास की रेट भी रहा है इतिहास का एक प्रकोष्ठ विद्यालयों द्वारा भी सिद्ध किया गया और जीते हमारे महापुर सेक्सी सारी चीजों को देख सकते घूमने समय की मांग के परिवर्तन में हर कर मन तन धन सबसे उम्र में परिवर्तन लाने का प्रयास किया और सिद्ध कर दिया कि समय के साथ जो मांगू उसको कर दिया जाए तो अच्छा में बदल जाती है उम्मीद करता हूं कि मेरे द्वारा दी गई जानकारी आपको बहुत ही संतुष्ट और बेहतर लगा होगा अच्छा लगे तो दूसरों को भी शेयर करें कमेंट करें लाइक करें बहुत-बहुत धन्यवाद हो सके तो मुझे फॉलो भी करें
Namaskaar aapaka prashn kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaise pata lagaaya jae ki yah koee vyakti achchha aur koee vyakti bura nahin hota hai sirph usake kee gaee krt aur usee sthiti ke anuroop ho jae to vyakti achchha hota hai aur vah kie gae karee to usake samay ke vipareet hota hai to vyakti bura hota hai usako pahachaanane ke lie aapako bahut hee simpal se padhana hai ki jis samay kee jo cheejen dimaand agar usake anuroop kie gae kaary agar kiya ja raha to vyakti ko achchha achchha hai best hai usake saath aap saath de sakate agar jo samay kee dimaand nahin hai samay kee maang nahin hai aur usake vipareet kaary kar raha hai jaahir see baat hai usaka rijalt aaega vah logon ke andar anukoolata hai pahala logon ke andar narvas karega jaise log bure hote hain jaisa ki chhaatr jeevan kee jindagee jindagee hai padhaee karane ke lie agar usake samay mein padhaee na karate hue kisee any kaam ko karj se jyaada phokas den jabaki chhaatr ko chaahie ki chhaatr jeevan mein jyaada se jyaada gyaan praapt karo gyaan ko apane jeevan mein apanaakar aur jyaada de in cheejon par kam dhyaan dete hue anargal jisase ghoomana phirana mauj mastee aaya adar cheejon ke tred par kaam kare jisaka koee skop na ho jae aisa maan leejie ki vah kisee ke saath baithakar bina baat ka baas karana bina nolej ke kisee mudde mein baat karana jis mudde kee koee vaartaalaap na ho to mudde ko lekar baat karana hai aise saare agar koee bhee help kar raha hai chaay paanee kyon galat raaste par ektiv raha hai kaise pata kar sakate hain saath hee saath poora pata karane ke lie jaise ki aap kee aavashyakata meree aavashyakata duniya kee kisee kee aavashyakata hai vah chaahata hai aur satta ke samay jagat kee aapake sahayog bhee nahin aata hai aur isaka galat istemaal karata hai chalo bhaiya itana likh kar dete hain tumhaaree pareshaanee hai agar aisa ho gaya to samajh lo bura hai kyonki aapako yooz kar raha hai achchhaee pahachaanane ke lie kis samay kee jaroorat hai usaka naam kiya gaya kuchh is vyakti dvaara kiya jaega vyakti achchha maana jaega aur achchha hota bhee hai itihaas kee ret bhee raha hai itihaas ka ek prakoshth vidyaalayon dvaara bhee siddh kiya gaya aur jeete hamaare mahaapur seksee saaree cheejon ko dekh sakate ghoomane samay kee maang ke parivartan mein har kar man tan dhan sabase umr mein parivartan laane ka prayaas kiya aur siddh kar diya ki samay ke saath jo maangoo usako kar diya jae to achchha mein badal jaatee hai ummeed karata hoon ki mere dvaara dee gaee jaanakaaree aapako bahut hee santusht aur behatar laga hoga achchha lage to doosaron ko bhee sheyar karen kament karen laik karen bahut-bahut dhanyavaad ho sake to mujhe pholo bhee karen

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Hitesh jain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hitesh जी का जवाब
Blogger- Content Writer
2:59
मोहब्बत वाले किसी व्यक्ति की अच्छाई या बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं बहुत ही अच्छा सवारी जिसने भी किया है उन्होंने आशंका जताई जा रही है आप दिखे खेलती हो नर्मदा मैया की मीठी मीठी बातें करो जान निकल जाएगा आपको गलत कामों में गुंजन की कोशिश करेगा और आपके आप की विचारधारा को बदलने की कोशिश करेगा अगर आपको ज़ी टीवी तो आपको पूरी तरह से निकलने की कोशिश करेगा अपने परिवार के खिलाफ बढ़ जाएगा आपने ऊंचाई भाई बहन वाला उनके खिलाफ धीरे-धीरे पड़ता है ना वह सब नेता बन जाएगी साथ में कि नहीं मैं तो ऐसे ही कह रहा हूं टीवी एक्शन लेना चाहिए तुझे लाइक करती है ऐसे मतलब की दुनिया वालों को किसी व्यक्ति को केजीबीवी को बताते हैं जैसे कि बाप से मीठी बातें करेंगे मीठी मीठी बातें करके हम करेंगे आपको कोई चक्कर में डालेंगे तो ज्यादा का नुकसान होगा उसी में वह दादा आपको हंसाने की थी उसमें क्या फायदा होगा और जो अच्छा व्यक्ति होगा जिस व्यक्ति की अच्छाई और सच्चाई होगी तो अच्छा होता है उसी तरीके से बात करनी थी एक बूढ़ा व्यक्ति आपसे किसी भी बात को लेकर स्पष्ट रूप से बात करेगा तो आपसे बातें कभी कोई बात नहीं करेगा कि मुझे लगती है वह आपसे हमेशा अच्छे से बात करेगा आपसे पूरी अस्पष्ट माफ करेगा चाहे वह किसी भी जाति के बाद जो आपको सही रास्ता दिखाएगा और ऑनलाइन टाइम मैं आपका सच्चा साथी के रिश्तेदार रहते हैं तो आपको खुद ब खुद पता चल जाएगा यह बात एक ही व्यक्ति को ध्यान में थोड़ा वक्त लगता है लेकिन आपको भी दिल तो मीठी मीठी बातें करके अगर आपको जानकर आप का नुकसान हो गया था कि आप के फायदे के प्रति वफादार हमेशा ईमानदारी से आपके साथ काम करने वाले कभी कोई बात नहीं खेल पाएगा तेरा दिमाग से अधिक शेयर करें ताकि बच्चे बड़े होते हैं लेकिन सच्चे होते हैं हमेशा साथ देते हैं जो कड़वा होता है वही होता है जो मीठा होता है
Mohabbat vaale kisee vyakti kee achchhaee ya buraee ke baare mein kaise pata lagaen bahut hee achchha savaaree jisane bhee kiya hai unhonne aashanka jataee ja rahee hai aap dikhe khelatee ho narmada maiya kee meethee meethee baaten karo jaan nikal jaega aapako galat kaamon mein gunjan kee koshish karega aur aapake aap kee vichaaradhaara ko badalane kee koshish karega agar aapako zee teevee to aapako pooree tarah se nikalane kee koshish karega apane parivaar ke khilaaph badh jaega aapane oonchaee bhaee bahan vaala unake khilaaph dheere-dheere padata hai na vah sab neta ban jaegee saath mein ki nahin main to aise hee kah raha hoon teevee ekshan lena chaahie tujhe laik karatee hai aise matalab kee duniya vaalon ko kisee vyakti ko kejeebeevee ko bataate hain jaise ki baap se meethee baaten karenge meethee meethee baaten karake ham karenge aapako koee chakkar mein daalenge to jyaada ka nukasaan hoga usee mein vah daada aapako hansaane kee thee usamen kya phaayada hoga aur jo achchha vyakti hoga jis vyakti kee achchhaee aur sachchaee hogee to achchha hota hai usee tareeke se baat karanee thee ek boodha vyakti aapase kisee bhee baat ko lekar spasht roop se baat karega to aapase baaten kabhee koee baat nahin karega ki mujhe lagatee hai vah aapase hamesha achchhe se baat karega aapase pooree aspasht maaph karega chaahe vah kisee bhee jaati ke baad jo aapako sahee raasta dikhaega aur onalain taim main aapaka sachcha saathee ke rishtedaar rahate hain to aapako khud ba khud pata chal jaega yah baat ek hee vyakti ko dhyaan mein thoda vakt lagata hai lekin aapako bhee dil to meethee meethee baaten karake agar aapako jaanakar aap ka nukasaan ho gaya tha ki aap ke phaayade ke prati vaphaadaar hamesha eemaanadaaree se aapake saath kaam karane vaale kabhee koee baat nahin khel paega tera dimaag se adhik sheyar karen taaki bachche bade hote hain lekin sachche hote hain hamesha saath dete hain jo kadava hota hai vahee hota hai jo meetha hota hai

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Rajesh Kumar Naveriya  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Rajesh जी का जवाब
Ast. Teacher
2:27
तू किसी भी बरस की अच्छाई और बुराई का पता हम कैसे लगते हैं कि बुरा जो देखन मैं चला बुरा न मिलिया कोय जो दिल खोजा आपना मुझसे बुरा न कोई तो यदि व्यक्ति किसी दूसरे की बुराई और अच्छाई होता है तो वह तो सबसे महान वैज्ञानिक माना जाता है क्योंकि उसके समान बड़ा तो कोई है ही नहीं है कि दूसरे की बुराई खोजने में लगा है हां यदि खोजना है तो अच्छाइयां जरूर खींचना चाहिए अपने पड़ोस में देखना चाहिए देखना चाहिए घर में देखना चाहिए कि इस आदमी का यदि नाम है पैसा है किस कारण है इसका क्या स्टाइल है अच्छाइयों को कह रहे हैं और छोटा भी हो रहा है उनकी बुराई है उस पर ध्यान नहीं देना चाहिए क्योंकि देखते-देखते कुरकुरे बन जाते हैं तो हमें बुराइयों की तरफ बिल्कुल किसी का ध्यान देना चाहिए हमें खुद की पढ़ाई में देखना चाहिए कि क्या क्या बुराई है जो मांगे नहीं उठ पा रहे हैं दूसरा अधिक क्यों होता है तो उसमें हमें कमियां अवश्य में कुछ ज्ञान लेना चाहिए उसी पर बनाना चाहिए उसमें जो चाहिए उसको अगर करना चाहिए हमें दूसरे को अपना गुरु बनाना चाहिए ना की खोजबीन बड़ के दूध के पिक्चर है जैसे आदमी जो है वह भगवान मूर्ख हो जाते हैं दुश्मन खिलते रहते हैं और अपने अवगुणों को छुपाए रखते हैं और दूसरों को परेशान करते रहते हैं जैसे आज नहीं तुम उसको क्योंकि वहां को कहां करना चाहिए जो चाहिए वह हमें भी बुराई है तो कैसे दूर हो या हमारी दवाइयां क्या-क्या चाहिए आता है तो बिन पानी बिन साधना निर्मल करे सुभाय तो हमें अभी निंदक नियरे राखिए आंगन कुटी छवाय बिन पानी में साधना अब तो निंदा करने वाले कोई मत हो जाना चाहिए हमें बुराइयां अच्छाइयां खोजने से कुछ नहीं होने वाला है ठीक है अच्छा ही है खोजो खोजो की निंदा करने वाले कोई मित्र बनाया यदि ज्ञान रखते हैं तो हम अपना दिल साफ रख पाते हैं अपनी दवाइयों पर बात है थैंक यू
Too kisee bhee baras kee achchhaee aur buraee ka pata ham kaise lagate hain ki bura jo dekhan main chala bura na miliya koy jo dil khoja aapana mujhase bura na koee to yadi vyakti kisee doosare kee buraee aur achchhaee hota hai to vah to sabase mahaan vaigyaanik maana jaata hai kyonki usake samaan bada to koee hai hee nahin hai ki doosare kee buraee khojane mein laga hai haan yadi khojana hai to achchhaiyaan jaroor kheenchana chaahie apane pados mein dekhana chaahie dekhana chaahie ghar mein dekhana chaahie ki is aadamee ka yadi naam hai paisa hai kis kaaran hai isaka kya stail hai achchhaiyon ko kah rahe hain aur chhota bhee ho raha hai unakee buraee hai us par dhyaan nahin dena chaahie kyonki dekhate-dekhate kurakure ban jaate hain to hamen buraiyon kee taraph bilkul kisee ka dhyaan dena chaahie hamen khud kee padhaee mein dekhana chaahie ki kya kya buraee hai jo maange nahin uth pa rahe hain doosara adhik kyon hota hai to usamen hamen kamiyaan avashy mein kuchh gyaan lena chaahie usee par banaana chaahie usamen jo chaahie usako agar karana chaahie hamen doosare ko apana guru banaana chaahie na kee khojabeen bad ke doodh ke pikchar hai jaise aadamee jo hai vah bhagavaan moorkh ho jaate hain dushman khilate rahate hain aur apane avagunon ko chhupae rakhate hain aur doosaron ko pareshaan karate rahate hain jaise aaj nahin tum usako kyonki vahaan ko kahaan karana chaahie jo chaahie vah hamen bhee buraee hai to kaise door ho ya hamaaree davaiyaan kya-kya chaahie aata hai to bin paanee bin saadhana nirmal kare subhaay to hamen abhee nindak niyare raakhie aangan kutee chhavaay bin paanee mein saadhana ab to ninda karane vaale koee mat ho jaana chaahie hamen buraiyaan achchhaiyaan khojane se kuchh nahin hone vaala hai theek hai achchha hee hai khojo khojo kee ninda karane vaale koee mitr banaaya yadi gyaan rakhate hain to ham apana dil saaph rakh paate hain apanee davaiyon par baat hai thaink yoo

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
himanshu bansal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए himanshu जी का जवाब
Influencer, trainer,motivate speaker
2:56
मिस्टर से भी कोई आते सवाल है कि किसी व्यक्ति की अच्छाई या बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं तो किसी व्यक्ति की अच्छाई या बुराई पता लगाने के लिए आपको ऐसी चीज चाहिए जो कि है समय आप किसी भी व्यक्ति को एक ही बारी में जल नहीं कर सकते कि मैं अच्छा व्यक्ति है या फिर बुरा व्यक्ति है और कोई मैं मानता हूं कि आदमी या कोई व्यक्ति अच्छा बोल नहीं होता हालात अच्छे बुरे हालात के हिसाब से वह जैसा रिएक्ट करें वह अच्छा या बुरा होता है ना कि हमको यही कह दे कि यह व्यक्ति बुरा है और किसी भी अच्छा है हर व्यक्ति अच्छा नहीं होता और हर व्यक्ति बुरा नहीं होता कुलधरा बुरे होते हैं तो हालात बुरे होते हैं और उन हालात के हिसाब से जो हम को याद करें वह हमारा अच्छा और बुरा बताता है ना कि यह कि हम लोगों को टैग लाइन दीदी चाहते कि नहीं थी अच्छी ही रहती हैं और यह बुरी बात ऐसा नहीं कर सकते कि आप एक बार मेरी फेमिली और आप कहां से हो सकता है कि हालात ऐसे बने हो और सामने वाले व्यक्ति को कुछ ऐसा कदम उठाना पड़ जाए जो कि आपको पसंद आए तो आप वहां से उसके लिए कि नहीं बना सकते अजीत ने ऐसा किया तो बुरा ही देखते नहीं क्या पता हालात कैसे हो क्या पता उसकी मजबूरी कैसी हो तो आप उसको ऐसे ही नहीं बोल सकते कि अच्छा व्यक्ति है या फिर बुरा करती है आपको कभी नहीं पता आपको कुछ नहीं पता उस व्यक्ति के बारे में तो आप कैसे उस के बारे में जजमेंट हो सकते हैं तो हर एक व्यक्ति को ब्याव अच्छा में भी हो चाहे वह बुरा व्यक्ति हो तो हर एक व्यक्ति हालात उसको अच्छा बनाते हैं बनाते हैं और हर एक व्यक्ति को अच्छी या बुरा का पता लगाने के लिए हम लोगों को चाहिए तो ठीक समय समय के साथ हम लोग को बात करते हैं कि यह अच्छा है या फिर बुरा क्यों की अलग-अलग हम उस समय के दौरान पीड़ा है देखेंगे अलग-अलग हालात देखेंगे और हालात के अंदर हम लोगों को पता लग जाएगा यह हर व्यक्ति अच्छा है या बुरा अगर कोई व्यक्ति हालातों में ढूंढ हो रहा है कुछ हालातों में वह व्यक्ति अपनी अच्छाई को दबा रहा है तो इसका मतलब यह नहीं कि वह बुरा ही व्यक्ति क्योंकि हर जगह अच्छा बनकर भी काम नहीं होता और अगर कोई व्यक्ति हर वक्त अच्छा नहीं बन रहा ज्यादा कर बुरा ही बनता जा रहा है जहां पर वह अच्छा बन सकता था वहां भी बुरा बन रहा है तो वह भी आपको समय के साथ पता लगेगा लेकिन हम हर अच्छे बन के भी नहीं रह सकते पर हर वक्त बुरे बन कर भी नहीं रह सकते क्योंकि ज्यादा अच्छाई का भी लोग फायदा उठाते हैं और ज्यादा बुराई तो होनी ही नहीं चाहिए तो हम लोगों को न्यूट्रल रहना चाहिए हालात के हिसाब से हम लोगों को अच्छा या बुरा करना चाहिए बहुत बार ऐसा होता है कि दूसरे का अच्छा हमारा पूरा हो जाता है और दूसरे का पूरा हमारा अच्छा हो जाता है तो हालात के हिसाब से हम लोगों को अच्छा और बुरा तय करना चाहिए और किसी भी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई को मध्य नजर रखते हुए ही कहूंगा कि हम लोगों को समय चाहिए उस व्यक्ति को परखने के लिए तभी हम टाइमर बताएंगे कि वह अच्छा व्यक्ति
Mistar se bhee koee aate savaal hai ki kisee vyakti kee achchhaee ya buraee ke baare mein kaise pata lagaen to kisee vyakti kee achchhaee ya buraee pata lagaane ke lie aapako aisee cheej chaahie jo ki hai samay aap kisee bhee vyakti ko ek hee baaree mein jal nahin kar sakate ki main achchha vyakti hai ya phir bura vyakti hai aur koee main maanata hoon ki aadamee ya koee vyakti achchha bol nahin hota haalaat achchhe bure haalaat ke hisaab se vah jaisa riekt karen vah achchha ya bura hota hai na ki hamako yahee kah de ki yah vyakti bura hai aur kisee bhee achchha hai har vyakti achchha nahin hota aur har vyakti bura nahin hota kuladhara bure hote hain to haalaat bure hote hain aur un haalaat ke hisaab se jo ham ko yaad karen vah hamaara achchha aur bura bataata hai na ki yah ki ham logon ko taig lain deedee chaahate ki nahin thee achchhee hee rahatee hain aur yah buree baat aisa nahin kar sakate ki aap ek baar meree phemilee aur aap kahaan se ho sakata hai ki haalaat aise bane ho aur saamane vaale vyakti ko kuchh aisa kadam uthaana pad jae jo ki aapako pasand aae to aap vahaan se usake lie ki nahin bana sakate ajeet ne aisa kiya to bura hee dekhate nahin kya pata haalaat kaise ho kya pata usakee majabooree kaisee ho to aap usako aise hee nahin bol sakate ki achchha vyakti hai ya phir bura karatee hai aapako kabhee nahin pata aapako kuchh nahin pata us vyakti ke baare mein to aap kaise us ke baare mein jajament ho sakate hain to har ek vyakti ko byaav achchha mein bhee ho chaahe vah bura vyakti ho to har ek vyakti haalaat usako achchha banaate hain banaate hain aur har ek vyakti ko achchhee ya bura ka pata lagaane ke lie ham logon ko chaahie to theek samay samay ke saath ham log ko baat karate hain ki yah achchha hai ya phir bura kyon kee alag-alag ham us samay ke dauraan peeda hai dekhenge alag-alag haalaat dekhenge aur haalaat ke andar ham logon ko pata lag jaega yah har vyakti achchha hai ya bura agar koee vyakti haalaaton mein dhoondh ho raha hai kuchh haalaaton mein vah vyakti apanee achchhaee ko daba raha hai to isaka matalab yah nahin ki vah bura hee vyakti kyonki har jagah achchha banakar bhee kaam nahin hota aur agar koee vyakti har vakt achchha nahin ban raha jyaada kar bura hee banata ja raha hai jahaan par vah achchha ban sakata tha vahaan bhee bura ban raha hai to vah bhee aapako samay ke saath pata lagega lekin ham har achchhe ban ke bhee nahin rah sakate par har vakt bure ban kar bhee nahin rah sakate kyonki jyaada achchhaee ka bhee log phaayada uthaate hain aur jyaada buraee to honee hee nahin chaahie to ham logon ko nyootral rahana chaahie haalaat ke hisaab se ham logon ko achchha ya bura karana chaahie bahut baar aisa hota hai ki doosare ka achchha hamaara poora ho jaata hai aur doosare ka poora hamaara achchha ho jaata hai to haalaat ke hisaab se ham logon ko achchha aur bura tay karana chaahie aur kisee bhee vyakti kee achchhaee aur buraee ko madhy najar rakhate hue hee kahoonga ki ham logon ko samay chaahie us vyakti ko parakhane ke lie tabhee ham taimar bataenge ki vah achchha vyakti

bolkar speaker
किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए?Kisi Vyakti Ki Achai Aur Burai Ke Bare Mein Kaise Pata Lagaye
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:44
सवाल ये कि किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाएं तो रामायण में महर्षि बाल्मीकि ने कुछ ऐसे ज्ञान की बातें बताइए जो जीवन को नई दिशा देनी है इनकी बातों में बताया गया है कि कैसे अच्छे और बुरे इंसान की पहचान कर सकते हैं रामायण में भी यह बताया गया है कि इससे समय की पहचान कैसे करें वही दोस्ती और दुश्मनी से जुड़ी हुई बातें बताई गई हैं हम अच्छे और बुरे इंसान की पहचान कुछ समय मित्रता का लक्षण है और कार करना शतरूपा का लक्षण है आप किसी का कर ना सको निभाना बहुत कठिन होता है संसार में कुछ भी दुर्लभ नहीं है कुछ साहिल दिन और शोकाकुल मनुष्य के सभी काम बिगड़ जाते हैं वह घोर विपत्ति में जाता है अच्छे लोग ही हैं जो गति से गहरे मित्र का साथ थे और सच्चा बंधु वही है जो अपने को मार्ग गामी बंधु यानी बुरे रास्ते पर चलने वाले भाई की सहायता करें चाहे देनी हो या नेटवर्क दुखी हो या दुखी निर्दोष हो या तो दो मित्र ही मनुष्य का सबसे बड़ा सहारा होता है शत्रु पर महा अभिषेक सर के साथ भले ही रहे लेकिन ऐसे मनुष्य के साथ कभी भी ना रहे जो ऊपर से तो मित्र कहलाता है लेकिन भीतर भीतर शत्रु का हित साधक को किसी से अधिक प्रेम या अधिक बार ना करें क्योंकि दोनों की अत्यंत अनुस्मारक होते हैं तथा मध्यम मार्ग का ही अलग नंबर करना श्रेष्ठ होगा
Savaal ye ki kisee vyakti kee achchhaee aur buraee ke baare mein kaise pata lagaen to raamaayan mein maharshi baalmeeki ne kuchh aise gyaan kee baaten bataie jo jeevan ko naee disha denee hai inakee baaton mein bataaya gaya hai ki kaise achchhe aur bure insaan kee pahachaan kar sakate hain raamaayan mein bhee yah bataaya gaya hai ki isase samay kee pahachaan kaise karen vahee dostee aur dushmanee se judee huee baaten bataee gaee hain ham achchhe aur bure insaan kee pahachaan kuchh samay mitrata ka lakshan hai aur kaar karana shataroopa ka lakshan hai aap kisee ka kar na sako nibhaana bahut kathin hota hai sansaar mein kuchh bhee durlabh nahin hai kuchh saahil din aur shokaakul manushy ke sabhee kaam bigad jaate hain vah ghor vipatti mein jaata hai achchhe log hee hain jo gati se gahare mitr ka saath the aur sachcha bandhu vahee hai jo apane ko maarg gaamee bandhu yaanee bure raaste par chalane vaale bhaee kee sahaayata karen chaahe denee ho ya netavark dukhee ho ya dukhee nirdosh ho ya to do mitr hee manushy ka sabase bada sahaara hota hai shatru par maha abhishek sar ke saath bhale hee rahe lekin aise manushy ke saath kabhee bhee na rahe jo oopar se to mitr kahalaata hai lekin bheetar bheetar shatru ka hit saadhak ko kisee se adhik prem ya adhik baar na karen kyonki donon kee atyant anusmaarak hote hain tatha madhyam maarg ka hee alag nambar karana shreshth hoga

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • किसी व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए व्यक्ति की अच्छाई और बुराई के बारे में कैसे पता लगाए
URL copied to clipboard