#पढ़ाई लिखाई

Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College
1:20
क्या ऑनलाइन पढ़ाई शहर फ्रूट सुनाना आवश्यक होता है क्लास पीडीएफ से पढ़ना ठीक है तो ही डिपेंड करता है कि आप किस चीज के लिए पढ़ रहे हो एग्जाम के लिए पढ़ना है अगले दिन हमें तो आपको पीरियड ही पढ़ना पड़ेगा क्या ग्राफ सेल्फ नोट पढ़ाएंगे बनाएंगे तो आपका सारा समय निकल जाएगा बनाने में और पढ़ने में कुछ टाइम नहीं बचेगा आपके पास समय है तो जरूर सेल्फ नोट सुनाई क्योंकि देखिए बुक में तो हर चीज देखी है तो ऐसा भी हो सकता है कि आप कुछ ना लिखें लेकिन जब आप बुक से एक नोट बनाकर आपने अपनी लैंग्वेज में लिखते हैं अपनी राइटिंग में लिखते हैं तो बाद में 10 साल बाद भी अगर आप उन्हें खोलेंगे तो आपको याद आ जाएगा कि इस चैप्टर में यह था और इसका मतलब यह होता है ज्यादा इसलिए आपको याद रहता है साथ ही जब आप अपनी लैंग्वेज में उस चीज को लिखते हैं तो कहीं ना कहीं आपको थोड़ा-बहुत समझना पड़ता है तो कोई भी कॉन्प्लेक्स चैप्टर है कोई कांटेक्ट कांसेप्ट है तो अगर आप उसे अपनी लैंग्वेज में लिखना है सिंपल लैंग्वेज में लिखना तो उसे आप को समझना काफी जरूरी होता है तो इसी समझने के चक्कर में आप कहीं ना कहीं थोड़ा बहुत कांसेप्ट ज्यादा अच्छे से समझ भी लेते हैं तो सेल्फ नोट्स और खुद पढ़ना काफी जरूरी होता चाहे टीचर पढ़ाई या ना पड़े
Kya onalain padhaee shahar phroot sunaana aavashyak hota hai klaas peedeeeph se padhana theek hai to hee dipend karata hai ki aap kis cheej ke lie padh rahe ho egjaam ke lie padhana hai agale din hamen to aapako peeriyad hee padhana padega kya graaph selph not padhaenge banaenge to aapaka saara samay nikal jaega banaane mein aur padhane mein kuchh taim nahin bachega aapake paas samay hai to jaroor selph not sunaee kyonki dekhie buk mein to har cheej dekhee hai to aisa bhee ho sakata hai ki aap kuchh na likhen lekin jab aap buk se ek not banaakar aapane apanee laingvej mein likhate hain apanee raiting mein likhate hain to baad mein 10 saal baad bhee agar aap unhen kholenge to aapako yaad aa jaega ki is chaiptar mein yah tha aur isaka matalab yah hota hai jyaada isalie aapako yaad rahata hai saath hee jab aap apanee laingvej mein us cheej ko likhate hain to kaheen na kaheen aapako thoda-bahut samajhana padata hai to koee bhee konpleks chaiptar hai koee kaantekt kaansept hai to agar aap use apanee laingvej mein likhana hai simpal laingvej mein likhana to use aap ko samajhana kaaphee jarooree hota hai to isee samajhane ke chakkar mein aap kaheen na kaheen thoda bahut kaansept jyaada achchhe se samajh bhee lete hain to selph nots aur khud padhana kaaphee jarooree hota chaahe teechar padhaee ya na pade

और जवाब सुनें

ABHIMANYU KUMAR SINGH Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ABHIMANYU जी का जवाब
Part time teaching
0:57

Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
1:20
क्या ऑनलाइन पढ़ाई में सिल्क मूड बनाना आवश्यक होता है या क्लास पीडीएफ से पढ़ना ठीक होता है आप ऑनलाइन पढ़िए या बुक से पढ़िए या किसी भी नोट से पढ़िए उससे निचोड़ निकालकर हमारी खुद की सेल्फी नोट बनाना सबसे ज्यादा अच्छा होता है क्योंकि जब हम सेल्फ नोट बनाते हो और भी कंस्ट्रिक्ट हो जाती है छोटी हो जाती है जब सेल्फ नोट बनाते हैं तो सिर्फ नोट्स बनाने का मतलब यह नहीं कि वह जो दिया है मैं वैसे वैसे मेरी इसमें लिख लो उस का निचोड़ बनाकर उसके प्रॉपर पाई चार्ट बनाकर उसके टेबल बनाते हुए मैं अगर मेरे इस में लेकर आता हूं तो मैं एक 10 पन्ने के चैप्टर को एक शॉप एक पन्ने में सीमित कर सकता हूं और इस तरीके से जब हम नोट बनाते हैं तो हमें पढ़ने में आसानी होती के लिए एग्जाम आएगी तो हम यह पड़ेंगे बीच-बीच में रिवीजन में भी हमें यह पढ़ेंगे तो 10 चैप्टर आपके 10 पेजेस में आ जानी चाहिए इस तरीके की अगर आप के नोट्स होती है तो शुरू में आपको मेहनत होगी यह बनाने में लेकिन आपके पास इतनी तगड़ी मोड बनेगी कि आप इस कार्यक्रम से लेते हुए किसी एग्जाम को क्लियर कर सकते हो चाहे लिखित वाली हो ऐसे ऑब्जेक्टिव हो लेकिन नोट बनाने से सही में ने हम लोगों की इनसाइड काफी बढ़ते हैं और इसी नोट के अंदर में हम लोग बाकी कहीं से एडिशनल इंफॉर्मेशन होती है तो उसको ऐड करते रहते तो ए केंद्रीय नोट बनती है हमारी तो नोट हमेशा बनाना चाहिए आप चाहे कैसे भी पढ़े
Kya onalain padhaee mein silk mood banaana aavashyak hota hai ya klaas peedeeeph se padhana theek hota hai aap onalain padhie ya buk se padhie ya kisee bhee not se padhie usase nichod nikaalakar hamaaree khud kee selphee not banaana sabase jyaada achchha hota hai kyonki jab ham selph not banaate ho aur bhee kanstrikt ho jaatee hai chhotee ho jaatee hai jab selph not banaate hain to sirph nots banaane ka matalab yah nahin ki vah jo diya hai main vaise vaise meree isamen likh lo us ka nichod banaakar usake propar paee chaart banaakar usake tebal banaate hue main agar mere is mein lekar aata hoon to main ek 10 panne ke chaiptar ko ek shop ek panne mein seemit kar sakata hoon aur is tareeke se jab ham not banaate hain to hamen padhane mein aasaanee hotee ke lie egjaam aaegee to ham yah padenge beech-beech mein riveejan mein bhee hamen yah padhenge to 10 chaiptar aapake 10 pejes mein aa jaanee chaahie is tareeke kee agar aap ke nots hotee hai to shuroo mein aapako mehanat hogee yah banaane mein lekin aapake paas itanee tagadee mod banegee ki aap is kaaryakram se lete hue kisee egjaam ko kliyar kar sakate ho chaahe likhit vaalee ho aise objektiv ho lekin not banaane se sahee mein ne ham logon kee inasaid kaaphee badhate hain aur isee not ke andar mein ham log baakee kaheen se edishanal imphormeshan hotee hai to usako aid karate rahate to e kendreey not banatee hai hamaaree to not hamesha banaana chaahie aap chaahe kaise bhee padhe

srikant pal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए srikant जी का जवाब
Student
0:42

Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:19
ऑफिस वाले की क्या ऑनलाइन पढ़ाई सिर्फ नोट बनाना आवश्यक है या क्लास पीडीएफ से ही पढ़ना ठीक है देखेंगे आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप किस तरीके से अच्छी पढ़ाई कर सकते हैं मेन मोटिव है अच्छी तरीके से पढ़ाई करना सीखो समाज ऐसे क्या बच्चे स्कूल कर सके फिर चाहे वह अपने सुनो सुना के कन्हैया फिर पीडीएफ से पढ़ें आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद
Ophis vaale kee kya onalain padhaee sirph not banaana aavashyak hai ya klaas peedeeeph se hee padhana theek hai dekhenge aapake oopar nirbhar karata hai ki aap kis tareeke se achchhee padhaee kar sakate hain men motiv hai achchhee tareeke se padhaee karana seekho samaaj aise kya bachche skool kar sake phir chaahe vah apane suno suna ke kanhaiya phir peedeeeph se padhen aapaka din shubh rahe dhanyavaad

Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:30
जैसा कि आपका प्रश्न है कि क्या ऑनलाइन पढ़ाई सेल्फ नोट्स बनाना आवश्यक होता है या क्लास पीडीएफ से कहना कि तू मेरी सलाह है कि आप ऑनलाइन अप्लाई करें या खास में पीडीएफ से पढ़ें आपको सेल्फ नोट्स बनाने के बाद ही अपनी क्षमताओं का पता लगता है और सेल्फ नोट बनाने पर आप चीजों की अच्छी तरह से तैयारी कर सकते हैं मेरा यही कहना है और मेरा नंबर भी यही है कि सेट हर तरीके से बेस्ट होते हैं जब तक आप सेंड क्लॉक नहीं बनाएंगे तो आप आगे नहीं बढ़ने दे सेल्फ नॉट आप के बाद तक के जीवन के लिए सुनहरा एक सुनहरा पल होते हैं जो आप को संजो कर रखना चाहिए सेल्फ नोट की आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं नोट से आपके अंदर एक कौन डांस पैदा होता है जो आपकी सफलता में एक बहुत बड़ा हाथ और एक बहुत बड़ा रोल अदा करता है मेरा यही सुझाव है कि इस नोट पर ही हर स्टूडेंट को उस पर ध्यान देना बहुत जरूरी होता है क्योंकि जब आप साइंस नोट्स बनाते हैं तो आप चीजों को एक बार पढ़ते हैं दूसरी बार लगते हैं और अगर तीसरी बार पढ़ने तो वह चीजें क्यों लेट हो जाती है धन्यवाद
Jaisa ki aapaka prashn hai ki kya onalain padhaee selph nots banaana aavashyak hota hai ya klaas peedeeeph se kahana ki too meree salaah hai ki aap onalain aplaee karen ya khaas mein peedeeeph se padhen aapako selph nots banaane ke baad hee apanee kshamataon ka pata lagata hai aur selph not banaane par aap cheejon kee achchhee tarah se taiyaaree kar sakate hain mera yahee kahana hai aur mera nambar bhee yahee hai ki set har tareeke se best hote hain jab tak aap send klok nahin banaenge to aap aage nahin badhane de selph not aap ke baad tak ke jeevan ke lie sunahara ek sunahara pal hote hain jo aap ko sanjo kar rakhana chaahie selph not kee aapako aage badhane ke lie prerit karate hain not se aapake andar ek kaun daans paida hota hai jo aapakee saphalata mein ek bahut bada haath aur ek bahut bada rol ada karata hai mera yahee sujhaav hai ki is not par hee har stoodent ko us par dhyaan dena bahut jarooree hota hai kyonki jab aap sains nots banaate hain to aap cheejon ko ek baar padhate hain doosaree baar lagate hain aur agar teesaree baar padhane to vah cheejen kyon let ho jaatee hai dhanyavaad

Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
0:57
दोस्तों आपका सवाल क्या ऑनलाइन पढ़ाई में सिर्फ नोट्स बनाना आवश्यक है या क्लास की पीडीएफ पढ़ना ठीक है अगर आपके पास टाइम की कमी है और एग्जाम नजदीक है तो आप ऑनलाइन पढ़ते हो तो सेल्फ नॉट मत बनाइए वह क्लास की पीडीएफ से पढ़ना सही होगा अगर आपके पास एग्जाम में अभी टाइम है तो फिर खुद के सिर्फ नोट्स बनाना चाहिए क्योंकि तब खुद के साथ नॉट अप्लाई होते हैं तो उस नोट से हमें वापस रिकवरी करने में वह जल्दी ही कॉल कर लेते हैं पढ़ने के लिए हमें अच्छा समय मिलता है और पीडीएफ हमें वापस पढ़ने में मोबाइल पर जाकर तेरी पढ़ने से हमें मोबाइल से बहुत से हानि कारी कि नहीं निकलती इससे हमें वह सारी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है इसलिए खुद के नोट्स बनाई हुई कॉपी के अंदर सबसे अच्छे हैं और खुद दिनों से बनाई होना चाहिए और चल पढ़ाई करनी चाहिए खुद के नोट से तो सबसे बेहतर होता है धन्यवाद दोस्तों आपका स्वागत है हमारे चैनल
Doston aapaka savaal kya onalain padhaee mein sirph nots banaana aavashyak hai ya klaas kee peedeeeph padhana theek hai agar aapake paas taim kee kamee hai aur egjaam najadeek hai to aap onalain padhate ho to selph not mat banaie vah klaas kee peedeeeph se padhana sahee hoga agar aapake paas egjaam mein abhee taim hai to phir khud ke sirph nots banaana chaahie kyonki tab khud ke saath not aplaee hote hain to us not se hamen vaapas rikavaree karane mein vah jaldee hee kol kar lete hain padhane ke lie hamen achchha samay milata hai aur peedeeeph hamen vaapas padhane mein mobail par jaakar teree padhane se hamen mobail se bahut se haani kaaree ki nahin nikalatee isase hamen vah saaree beemaariyon ka saamana karana pad sakata hai isalie khud ke nots banaee huee kopee ke andar sabase achchhe hain aur khud dinon se banaee hona chaahie aur chal padhaee karanee chaahie khud ke not se to sabase behatar hota hai dhanyavaad doston aapaka svaagat hai hamaare chainal

Gajanand Genan  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gajanand जी का जवाब
Unknown
0:42
किशन पूछा गया है कि क्या ऑनलाइन पढ़ाई हेल्प नोट्स बनाना आवश्यक होता है या क्लास पीडीएफ से पढ़ना ठीक होता है तो इसका आंसर है जब भी आप ऑनलाइन पढ़ते हो तो ऑनलाइन पढ़ने के बाद में पीडीएफ से पढ़ना ठीक इसलिए नहीं रहता क्योंकि पीडीएफ से आपकी लिखने की रूचि खत्म हो जाएगी इसलिए आप लिख लिखकर नोट्स बनाएंगे तो वह अच्छा भी होगा और आपको अधिक ज्ञान प्राप्त होगा
Kishan poochha gaya hai ki kya onalain padhaee help nots banaana aavashyak hota hai ya klaas peedeeeph se padhana theek hota hai to isaka aansar hai jab bhee aap onalain padhate ho to onalain padhane ke baad mein peedeeeph se padhana theek isalie nahin rahata kyonki peedeeeph se aapakee likhane kee roochi khatm ho jaegee isalie aap likh likhakar nots banaenge to vah achchha bhee hoga aur aapako adhik gyaan praapt hoga

Barsan Banerjee Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Barsan जी का जवाब
Unknown
0:51
दोनों चीज से ही दोनों चीजों के तरफ अलग है दोस्तों यहां पर सवाल तो आपने पूछा है और जवाब में देना चाहता हूं ठीक है या तो सवाल तो बहुत अच्छा पूछा गया है ऑनलाइन क्लास में हम खुद के नोट्स करे तो उसका भी अलग फायदा होता है और क्लास में जो हमें पढ़ाए जाते उसका भी अलग कर नष्ट कर देते नोट्स कर सके तो वह भी बहुत ज्यादा अच्छा था दोनों तरफ की नोट सपोर्ट करना बहुत जरूरी है इससे आपका दिमाग उस चीज पर कनेक्ट हो सकते हम लोग अगर कोई चीज बार-बार करते रहे तू श्याम कनेक्ट कर पाते हैं जैसे अगर आप रोज दिन से उठते हैं और ब्रिज कहां रहता है आपको ना देख कर पता चल बता सकते हैं कहां रहता है या पास कहां रहता है यह आपका चीजें कहां रहती है सबको पता है तो आप रोज करते हैं वैसे ही कहीं भी अगर आप हमेशा करते रहे और नोट हमेशा बना रहे तो आपका ब्रेन कनेक्ट कर पाएगा और आपका पढ़ाई अच्छी होगी अगर पसंद आए तो लाइक कर देना और मित्र सेट कर देना धन्यवाद
Donon cheej se hee donon cheejon ke taraph alag hai doston yahaan par savaal to aapane poochha hai aur javaab mein dena chaahata hoon theek hai ya to savaal to bahut achchha poochha gaya hai onalain klaas mein ham khud ke nots kare to usaka bhee alag phaayada hota hai aur klaas mein jo hamen padhae jaate usaka bhee alag kar nasht kar dete nots kar sake to vah bhee bahut jyaada achchha tha donon taraph kee not saport karana bahut jarooree hai isase aapaka dimaag us cheej par kanekt ho sakate ham log agar koee cheej baar-baar karate rahe too shyaam kanekt kar paate hain jaise agar aap roj din se uthate hain aur brij kahaan rahata hai aapako na dekh kar pata chal bata sakate hain kahaan rahata hai ya paas kahaan rahata hai yah aapaka cheejen kahaan rahatee hai sabako pata hai to aap roj karate hain vaise hee kaheen bhee agar aap hamesha karate rahe aur not hamesha bana rahe to aapaka bren kanekt kar paega aur aapaka padhaee achchhee hogee agar pasand aae to laik kar dena aur mitr set kar dena dhanyavaad

Rohit Rathore Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Student
1:19
बैक स्वागत आप सबका मेरी बोलकर ए प्रोफाइल पर और आप सुन रहे हैं रोहित राठौर को तैयार क्या ऑनलाइन पढ़ाई में हमें सिर्फ नोट बनाने चाहिए यह जो हमें टीचर्स पीडीएफ प्रोवाइड करें हम उससे भी पढ़ सकते हैं तो इस यह आज की कई स्टूडेंट्स की सवाल होते हैं कि आर्मी पीडीएफ से पढ़ लूं या फिर अपने खुद के नोट्स बनाऊं तो मैं तुमसे एक बात कहना चाहता हूं घर आकर ऑनलाइन क्लासेस चल रही है तो आप क्लास में सेंड कर दो क्योंकि मैं जानता हूं ऑनलाइन क्लासेस में कितनी पढ़ाई होती है कि मैं खुद होने की ताकत अटेंड करता हूं तो यार अगर आप ऑनलाइन पैसे सब अटेंड कर रहे हो तो आपको सिर्फ रोड बनाने चाहिए क्योंकि इससे आपका एक बार रिवीजन जरूर हो जाता है और आप अपने फेस रोड बनाते टाइम अब यह भी अपने हिसाब से लिखते हो तो आपको पढ़ने में भी वह बाद में आसानी होती है क्योंकि पीडीएफ में आप कई बार भूल जाते हो आप पीडीएफ से डिवाइस भी नहीं करते हो और पीडीएफ अगर आपको इसमें लैपटॉप्स में देखते रहते हो तो इससे आपकी आंखों पर भेजो तब क्लास के दौरान अपने सेल्स नोट्स बनाएं यह आपके लिए बहुत ही अच्छी बात होगी और अगर पीडीएफ से ही पढ़ना चाहते हैं तो ठीक है पर मैं प्रपोज करूंगा कि आप क्लास के बाद या क्लास के दौरान ही अपने से और एक सेल्फी नोट इतने छोटे बनाया कि ऐसा आपको उसको भी मतलब डिटेल में समझ में आ गया अब पढ़ते से ही उन्हें डिटेल में समझ ले और आपका रिवीजन हो जाए तो इसलिए मैं फिर करूंगा आपसे नोट बनाएं क्योंकि ऑनलाइन क्लासेस में कुछ खास पढ़ाई नहीं होती है यह मैं जानता हूं धन्यवाद ऐसे ही क्वेश्चन करते रहिए नहीं समझता है क्यों पढ़ते रहिए मिलते हैं अब से अगले सवाल
Baik svaagat aap sabaka meree bolakar e prophail par aur aap sun rahe hain rohit raathaur ko taiyaar kya onalain padhaee mein hamen sirph not banaane chaahie yah jo hamen teechars peedeeeph provaid karen ham usase bhee padh sakate hain to is yah aaj kee kaee stoodents kee savaal hote hain ki aarmee peedeeeph se padh loon ya phir apane khud ke nots banaoon to main tumase ek baat kahana chaahata hoon ghar aakar onalain klaases chal rahee hai to aap klaas mein send kar do kyonki main jaanata hoon onalain klaases mein kitanee padhaee hotee hai ki main khud hone kee taakat atend karata hoon to yaar agar aap onalain paise sab atend kar rahe ho to aapako sirph rod banaane chaahie kyonki isase aapaka ek baar riveejan jaroor ho jaata hai aur aap apane phes rod banaate taim ab yah bhee apane hisaab se likhate ho to aapako padhane mein bhee vah baad mein aasaanee hotee hai kyonki peedeeeph mein aap kaee baar bhool jaate ho aap peedeeeph se divais bhee nahin karate ho aur peedeeeph agar aapako isamen laipatops mein dekhate rahate ho to isase aapakee aankhon par bhejo tab klaas ke dauraan apane sels nots banaen yah aapake lie bahut hee achchhee baat hogee aur agar peedeeeph se hee padhana chaahate hain to theek hai par main prapoj karoonga ki aap klaas ke baad ya klaas ke dauraan hee apane se aur ek selphee not itane chhote banaaya ki aisa aapako usako bhee matalab ditel mein samajh mein aa gaya ab padhate se hee unhen ditel mein samajh le aur aapaka riveejan ho jae to isalie main phir karoonga aapase not banaen kyonki onalain klaases mein kuchh khaas padhaee nahin hotee hai yah main jaanata hoon dhanyavaad aise hee kveshchan karate rahie nahin samajhata hai kyon padhate rahie milate hain ab se agale savaal

Deepak Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Deepak जी का जवाब
संस्कृतप्रचारक:
1:26
नमस्कार मित्र आप ने प्रश्न किया है क्या ऑनलाइन पढ़ाई सेल्फ नोट्स बनाना आवश्यक होता है या क्लास पीडीएफ से पढ़ना ठीक है मित्र यदि आप देखे ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको जो है सेल्फ नोट्स बनाना ही ज्यादा महत्वपूर्ण रहेगा क्योंकि जब आप पागल सेल्फ नोट्स मतलब क्या आप खुद लिख करके बना रहे हैं तो वह जवाब लिखकर ना रहे तो आपके दिमाग में फिट हो रहा है अब आप क्लास में लिखे हुए ही जो नोट्स है उनके लड़के तो उसको आप जब उतारे ने तो आपको केवल उसको बस पढ़ रहे हैं उतार रहे हैं ऐसे लिखे जा रहे हैं देख देख कर के वह अलग है और आप खुद सर बोल रहे हैं और वहां से आप नोट्स बना रहे हैं खुद अपने से तो वह आपको बहुत ज्यादा लाभ देने वाले हैं क्योंकि यह मैंने भी प्रयोग किया है मेरा भी चीज देखा है कि जब मैं खुद सेल्फ नोट्स बनाता हूं तो मुझे जब मतलब उसको आसानी से समझने में और समझने में आसानी होती है और जब क्लास के नोट्स ओं है पीडीएफ उसको अगर मैं पढ़ता हूं तो उससे इतना मजा नहीं आता जितना खुद लिख करके पढ़ता हूं सेल्फी नोट बना करके पढ़ता हूं उसमें आता है तो इसलिए मेरा तो यही कहना है कि आप सेल्फ नोट्स बना करके ही पढ़ाई करें अगर आप ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं तो बजाए क्लास पीडीएफ के धन्यवाद
Namaskaar mitr aap ne prashn kiya hai kya onalain padhaee selph nots banaana aavashyak hota hai ya klaas peedeeeph se padhana theek hai mitr yadi aap dekhe onalain padhaee kar rahe hain to aapako jo hai selph nots banaana hee jyaada mahatvapoorn rahega kyonki jab aap paagal selph nots matalab kya aap khud likh karake bana rahe hain to vah javaab likhakar na rahe to aapake dimaag mein phit ho raha hai ab aap klaas mein likhe hue hee jo nots hai unake ladake to usako aap jab utaare ne to aapako keval usako bas padh rahe hain utaar rahe hain aise likhe ja rahe hain dekh dekh kar ke vah alag hai aur aap khud sar bol rahe hain aur vahaan se aap nots bana rahe hain khud apane se to vah aapako bahut jyaada laabh dene vaale hain kyonki yah mainne bhee prayog kiya hai mera bhee cheej dekha hai ki jab main khud selph nots banaata hoon to mujhe jab matalab usako aasaanee se samajhane mein aur samajhane mein aasaanee hotee hai aur jab klaas ke nots on hai peedeeeph usako agar main padhata hoon to usase itana maja nahin aata jitana khud likh karake padhata hoon selphee not bana karake padhata hoon usamen aata hai to isalie mera to yahee kahana hai ki aap selph nots bana karake hee padhaee karen agar aap onalain padhaee kar rahe hain to bajae klaas peedeeeph ke dhanyavaad

डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
2:18
बेटा आप कब तक में क्या ऑनलाइन पढ़ाई सिर्फ नोट्स बनाना आवश्यक होता है या क्लास पीडीएफ से पढ़ना चाहिए देखें क्षमताओं पर निर्भर करता है क्या अपनी क्षमता कितनी कुछ बच्चे जो होते मैं इंटेलिजेंट होते हैं एक दो बार किसी चैप्टर को पढ़ लेते तो नहीं आता जाता है अपना लेकिन जैसे मैथ्स फिजिक्स केमिस्ट्री इसके लिए तो आपको अभ्यास करना पड़ेगा 8th सब्जेक्ट में थोड़ा सा शुभ लिए 30 पीढ़ियों से पढ़ कर काम चला सकते हैं आप अब आया कि सेल्फ नोट से जब सेल्फ नोट्स व्यक्ति बनाता है तो सबसे बड़ा फायदा होता है कि उसका दिमाग उसमें लगता है यार ना खुद ध्यान देकर के नोट्स बनाता है तो टाइम अगर हो तो एक बार नोट समोसे बनाना चाहिए क्योंकि उसे एकाग्रता के नाते वह से जो संदर्भ होते हैं वह दिमाग में बैठ जाते हैं और जब आप एग्जाम आ रही देते हैं तो वह आसानी से आपको याद आ जाता और एग्जाम का मतलब क्या होता है नाम का मतलब कई बार में वीडियो में बता चुका हूं कि ग्राम का मतलब सिर्फ यह होता है कि बातें आपको याद रहे और है उसको आप अप्लाई कर सके समझे आपने कि जैसे गणित का एक फार्मूला आपको याद है तो उस फार्मूले को आप कितने तरीके से अप्लाई कर सकते हैं उसके लिए ही निकल आप को दिया जाता है और अपनी बौद्धिक क्षमता का कितना उपयोग कर सकते हैं जब आप किसी सर्विस में आते हैं इसलिए मेरे विचार से अगर समय हो तो सिर्फ नोट जरूर एक बार बनाना चाहिए और एक बैठक में पूरा एक चैप्टर तैयार करना चाहिए समझे ना यह नहीं कि आप टुकड़ों में नोट्स तैयार करें जितना तैयार करें पूरा तैयार करें हां उससे पहले बार पीडीएफ पढ़ लेते हैं और ऑनलाइन पढ़ लेते हैं तो ज्यादा अच्छा है और उसको देख कर के भी नोट्स बनाते तो भी अच्छा है लेकिन मनाना चाहिए और एक बैठक में बनाना चाह इसे क्या है कि आपको और संकट के क्षण में एग्जाम के चरणों में कैसे भी हो एक बार अपना ध्यान से नोट्स बनाया है तो वह परीक्षा के समय आपको याद आएगा और आसानी से आप उसे पास कर सकेंगे कंपटीशन को भी आप क्वालीफाई कर सके ना थैंक यू
Beta aap kab tak mein kya onalain padhaee sirph nots banaana aavashyak hota hai ya klaas peedeeeph se padhana chaahie dekhen kshamataon par nirbhar karata hai kya apanee kshamata kitanee kuchh bachche jo hote main intelijent hote hain ek do baar kisee chaiptar ko padh lete to nahin aata jaata hai apana lekin jaise maiths phijiks kemistree isake lie to aapako abhyaas karana padega 8th sabjekt mein thoda sa shubh lie 30 peedhiyon se padh kar kaam chala sakate hain aap ab aaya ki selph not se jab selph nots vyakti banaata hai to sabase bada phaayada hota hai ki usaka dimaag usamen lagata hai yaar na khud dhyaan dekar ke nots banaata hai to taim agar ho to ek baar not samose banaana chaahie kyonki use ekaagrata ke naate vah se jo sandarbh hote hain vah dimaag mein baith jaate hain aur jab aap egjaam aa rahee dete hain to vah aasaanee se aapako yaad aa jaata aur egjaam ka matalab kya hota hai naam ka matalab kaee baar mein veediyo mein bata chuka hoon ki graam ka matalab sirph yah hota hai ki baaten aapako yaad rahe aur hai usako aap aplaee kar sake samajhe aapane ki jaise ganit ka ek phaarmoola aapako yaad hai to us phaarmoole ko aap kitane tareeke se aplaee kar sakate hain usake lie hee nikal aap ko diya jaata hai aur apanee bauddhik kshamata ka kitana upayog kar sakate hain jab aap kisee sarvis mein aate hain isalie mere vichaar se agar samay ho to sirph not jaroor ek baar banaana chaahie aur ek baithak mein poora ek chaiptar taiyaar karana chaahie samajhe na yah nahin ki aap tukadon mein nots taiyaar karen jitana taiyaar karen poora taiyaar karen haan usase pahale baar peedeeeph padh lete hain aur onalain padh lete hain to jyaada achchha hai aur usako dekh kar ke bhee nots banaate to bhee achchha hai lekin manaana chaahie aur ek baithak mein banaana chaah ise kya hai ki aapako aur sankat ke kshan mein egjaam ke charanon mein kaise bhee ho ek baar apana dhyaan se nots banaaya hai to vah pareeksha ke samay aapako yaad aaega aur aasaanee se aap use paas kar sakenge kampateeshan ko bhee aap kvaaleephaee kar sake na thaink yoo

Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:23
सवाली की क्या ऑनलाइन पढ़ाई चल फ्रूट बनाना आवश्यक होता है या क्लास पीडीएफ से पढ़ना ठीक है तो आप अगर फल फ्रूट बनाते हैं तो आपके लिए यह बेहतर होगा क्योंकि जब आप सेल्स नोट बना दे तो आप उस चीज को देख लेते हैं क्योंकि लिखने लिखी हुई चीज पड़ी पड़ी हुई थी इससे ज्यादा देर तक याद रहती हो सादर अच्छे से समझ आ जाती है
Savaalee kee kya onalain padhaee chal phroot banaana aavashyak hota hai ya klaas peedeeeph se padhana theek hai to aap agar phal phroot banaate hain to aapake lie yah behatar hoga kyonki jab aap sels not bana de to aap us cheej ko dekh lete hain kyonki likhane likhee huee cheej padee padee huee thee isase jyaada der tak yaad rahatee ho saadar achchhe se samajh aa jaatee hai

Satyam Srivastava Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Satyam जी का जवाब
Faculty for Civil Services Exams (UPSC PCS)
2:58
देखिए आज के समय में इंडिया डिजिटल हो रहा है और दुनिया डिजिटल हो रही है तो ऐसे में यह आज की न्यूज़ है कि हम भी डिजिटल लिटरेट हो जाएं अधिक से अधिक तो जाहिर है कि ऑनलाइन स्टडी ऑनलाइन इस तरीके से पढ़ाई करना पीडीएफ से पढ़ाई करना या डिजिटल अवेयर होना बहुत जरूरी है हल्की ट्रेडिशनल जो तरीका है वह भी 7 साल देते हुए चले यानी कि अपने सेल्फ नोट्स बनाते रहे और जो ऑफर जो किताबें हैं उनसे भी पड़े लेकिन आज की यह नीड है समय की मांग है कि हमें ऑनलाइन पढ़ाई चाहिए ऑनलाइन पढ़ाई से मतलब सारी चीजें समझ आनी चाहिए कंप्यूटर चलाना आना चाहिए टेबलेट में कैसे पढ़ा जाता है यह सारी चीजें आनी चाहिए किस तरह से एप्लीकेशन की मदद ली जानी चाहिए क्योंकि आने वाला समय ऐसा है कि बहुत कुछ सब ऑनलाइन होने वाला है एआई की वजह से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रोबोट एक्स इंटरनेट ऑफ थिंग्स सारी चीजें बहुत ही क्रांतिकारी तरीके से होने वाली हैं सब कुछ रिवॉल्यूशनाइज होने वाला है सब कुछ बदलने वाला है आपने देखा कोरोना का काल में किस तरह से परिवर्तन आया जो परिवर्तन 2030 में होने वाले थे 2035 तक जो चीजें होने वाली थी वह चीजें हमने देखा कि 2020 में में ही हो गई सारा सिस्टम ऑनलाइन हो गया सारी स्टडी एजुकेशन जो है ऑनलाइन हो गई जबकि यह चीजें 2030 2035 2050 में होने वाला था लेकिन यह समय की मांग भी है और यह होना ही था आगे चल के तो यह सब कोई सोचना चाहिए कि हमें सबको ऑनलाइन जो है वह शिफ्ट होना है हालांकि इसमें टाइम लगेगा कोरोना न्यू में फोर्स किया कि अभी जरूरी है सारी टीचर्स को पोस्ट किया कि कंप्यूटर सीखें ऑनलाइन पढ़ाना सीखे और स्टूडेंट्स को भी फोर्स का किया कि वह भी स्टडी करना इस तरह सीखे जो रूरल बैकग्राउंड के बच्चे हैं उनको कंप्यूटर चलाना नहीं आता या बहुत से ऐसे शहर के ही बच्चे हैं जिनको यह अवेयर नहीं है बहुत सारी चीजों से कैसे भाई पीडीएफ बनानी है कैसे ऑनलाइन नोट्स बनाने हैं तो यह सब चीजें हमें सीखनी पड़ेगी धीरे-धीरे और आगे तो यही होने वाला तो हालांकि यह नहीं कहा जा रहा है कि आप किताब भी पढ़ें आदत ना अपनी खराब है मतलब आदत भी वह भी डालें और
Dekhie aaj ke samay mein indiya dijital ho raha hai aur duniya dijital ho rahee hai to aise mein yah aaj kee nyooz hai ki ham bhee dijital litaret ho jaen adhik se adhik to jaahir hai ki onalain stadee onalain is tareeke se padhaee karana peedeeeph se padhaee karana ya dijital aveyar hona bahut jarooree hai halkee tredishanal jo tareeka hai vah bhee 7 saal dete hue chale yaanee ki apane selph nots banaate rahe aur jo ophar jo kitaaben hain unase bhee pade lekin aaj kee yah need hai samay kee maang hai ki hamen onalain padhaee chaahie onalain padhaee se matalab saaree cheejen samajh aanee chaahie kampyootar chalaana aana chaahie tebalet mein kaise padha jaata hai yah saaree cheejen aanee chaahie kis tarah se epleekeshan kee madad lee jaanee chaahie kyonki aane vaala samay aisa hai ki bahut kuchh sab onalain hone vaala hai eaee kee vajah se aartiphishiyal intelijens robot eks intaranet oph things saaree cheejen bahut hee kraantikaaree tareeke se hone vaalee hain sab kuchh rivolyooshanaij hone vaala hai sab kuchh badalane vaala hai aapane dekha korona ka kaal mein kis tarah se parivartan aaya jo parivartan 2030 mein hone vaale the 2035 tak jo cheejen hone vaalee thee vah cheejen hamane dekha ki 2020 mein mein hee ho gaee saara sistam onalain ho gaya saaree stadee ejukeshan jo hai onalain ho gaee jabaki yah cheejen 2030 2035 2050 mein hone vaala tha lekin yah samay kee maang bhee hai aur yah hona hee tha aage chal ke to yah sab koee sochana chaahie ki hamen sabako onalain jo hai vah shipht hona hai haalaanki isamen taim lagega korona nyoo mein phors kiya ki abhee jarooree hai saaree teechars ko post kiya ki kampyootar seekhen onalain padhaana seekhe aur stoodents ko bhee phors ka kiya ki vah bhee stadee karana is tarah seekhe jo rooral baikagraund ke bachche hain unako kampyootar chalaana nahin aata ya bahut se aise shahar ke hee bachche hain jinako yah aveyar nahin hai bahut saaree cheejon se kaise bhaee peedeeeph banaanee hai kaise onalain nots banaane hain to yah sab cheejen hamen seekhanee padegee dheere-dheere aur aage to yahee hone vaala to haalaanki yah nahin kaha ja raha hai ki aap kitaab bhee padhen aadat na apanee kharaab hai matalab aadat bhee vah bhee daalen aur

souramita Deb Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए souramita जी का जवाब
Unknown
1:25
क्या ऑनलाइन पढ़ाई चैप्टर नोट्स बनाना आवश्यक होता है यह क्लास पीडीएफ से पढ़ना ठीक है देखिए यह अपने ऊपर डिपेंड करता है कि हम सिर्फ मुंह से अपना पढ़ाई पूरा कर पाते हैं या क्लास पीडीएफ हमारे लिए ना होता है पर अगर मेरी बात करी या दादा तो स्टूडेंट्स के लिए मैं यही सलाह देना चाहूंगी कि सेल्फ नोट्स बनाना बहुत जरूरी होता है क्योंकि एग्जाम के ऐन मौके पर जब हमारे सिलेबस कवर नहीं होता है या पूरा इतना टाइम हमें नहीं मिलता एक पेपर से दूसरे पेपर के बीच कि हम 1 दिन में पूरा मतलब किताब अच्छे से पढ़ ले तो तब हमारा जो हम उस टैक्स नोट्स बनाते हैं वह हमारा बहुत काम का होता है क्योंकि हम सेल्फ नोट से जो है जब एग्जाम के पहले बनाते हैं अच्छे से पूरा बुक पढ़ लेते हैं फिर उसको पढ़ कर उनका जो नोट्स होता है वह अपने हिसाब से करते जिससे हमें पढ़ने में सहायता मिले और इजी हो तो उस एग्जाम के पहले अगर हम सिर्फ नोट्स बना लिया और सेल्फी उसको पढ़ कर चले जाए तो हमें याद भी रहता है और जर्सी याद भी आ जाता है कि हमने पहले क्या पढ़ा था किस चैप्टर में गया था उसको कैसे याद किया था तू 10 नोट्स बनाना ज्यादा अच्छा होता है और ऑनलाइन क्लास में पीडीएफ वगैरा पढ़ना ठीक है ऐसा नहीं है कि वह भी ठीक नहीं है वह भी ठीक है और स्टाइल सूट ज्यादा अच्छा होता है धन्यवाद
Kya onalain padhaee chaiptar nots banaana aavashyak hota hai yah klaas peedeeeph se padhana theek hai dekhie yah apane oopar dipend karata hai ki ham sirph munh se apana padhaee poora kar paate hain ya klaas peedeeeph hamaare lie na hota hai par agar meree baat karee ya daada to stoodents ke lie main yahee salaah dena chaahoongee ki selph nots banaana bahut jarooree hota hai kyonki egjaam ke ain mauke par jab hamaare silebas kavar nahin hota hai ya poora itana taim hamen nahin milata ek pepar se doosare pepar ke beech ki ham 1 din mein poora matalab kitaab achchhe se padh le to tab hamaara jo ham us taiks nots banaate hain vah hamaara bahut kaam ka hota hai kyonki ham selph not se jo hai jab egjaam ke pahale banaate hain achchhe se poora buk padh lete hain phir usako padh kar unaka jo nots hota hai vah apane hisaab se karate jisase hamen padhane mein sahaayata mile aur ijee ho to us egjaam ke pahale agar ham sirph nots bana liya aur selphee usako padh kar chale jae to hamen yaad bhee rahata hai aur jarsee yaad bhee aa jaata hai ki hamane pahale kya padha tha kis chaiptar mein gaya tha usako kaise yaad kiya tha too 10 nots banaana jyaada achchha hota hai aur onalain klaas mein peedeeeph vagaira padhana theek hai aisa nahin hai ki vah bhee theek nahin hai vah bhee theek hai aur stail soot jyaada achchha hota hai dhanyavaad

रमेश सिन्हा Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए रमेश जी का जवाब
Unknown
0:47

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:44
हेलो एवरीवन स्वागत है आपका आपका प्रश्न है क्या ऑनलाइन पढ़ाई हेल्लो में सोशल नोट्स बनाना आवश्यक है या क्लास पीडीएफ से पढ़ना ठीक है तो फ्रेंड से यह आपके पढ़ने के ऊपर निर्भर है कि आप को किस तरह से पढ़ना अच्छा लग रहा है आपको नोट बनाना है नहीं बनाना है या पीडीएफ से पढ़ना है आपको जैसा ऑप्शन अच्छा लगे तो आप पैसे पड़ सकते हैं यह अपने पढ़ने के ऊपर होता है बस आपको पढ़ाई करनी है चाहे आप नोट बनाकर कीजिए चाहे पीडीएफ चेक कीजिए लेकिन आपको हमने पढ़ाई करनी है अपनी बुक में देखना है कॉपी में पढ़ना है आपको या पीडीएफ से पढ़ना है कुल मिलाकर आपको अपने पढ़ाई पर ध्यान देना है बस धन्यवाद
Helo evareevan svaagat hai aapaka aapaka prashn hai kya onalain padhaee hello mein soshal nots banaana aavashyak hai ya klaas peedeeeph se padhana theek hai to phrend se yah aapake padhane ke oopar nirbhar hai ki aap ko kis tarah se padhana achchha lag raha hai aapako not banaana hai nahin banaana hai ya peedeeeph se padhana hai aapako jaisa opshan achchha lage to aap paise pad sakate hain yah apane padhane ke oopar hota hai bas aapako padhaee karanee hai chaahe aap not banaakar keejie chaahe peedeeeph chek keejie lekin aapako hamane padhaee karanee hai apanee buk mein dekhana hai kopee mein padhana hai aapako ya peedeeeph se padhana hai kul milaakar aapako apane padhaee par dhyaan dena hai bas dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
  • नोट्स बनाने के फायदे, नोट्स का क्या उपयोग है, नोट की आवश्यकता
URL copied to clipboard