#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

दीवार तथा छत बनाते समय बीच में थर्माकोल का प्रयोग क्यों किया जाता है?

Deevar Tatha Chhat Banate Samay Beech Mein Tharmacol Ka Pryog Kyun Kiya Jata Hai
Barsan Banerjee Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Barsan जी का जवाब
Unknown
0:31
दीवार होती है उसके अंदर हमें एलिफेटिक पॉलिटिक्स टाइप का एक चीज होता है जो हमें देना पड़ता नहीं तो जो मजबूती होते हैं वह टूट जाती है और इस वजह से हमें उसके अंदर थर्माकोल देना पड़ता है तो थर्माकोल भी देख सकते हैं तो उसे भी आग लगी तो बहुत जल्दी फट जाते हैं अब मतलब जल जाता है बट अगर आप उसमें धूप दे तो बहुत ज्यादा सख्त हो सकता है ऐसे बहुत से थर्माकोल बहुत ज्यादा मजबूत होता है इसलिए वह थर्माकोल समय जब दीवार बनाने बत्ती है तब वह दिया जाता है बहुत जगह पर एक लकड़ी से भी या जो अब उठ होता है उसको भी देते हैं
Deevaar hotee hai usake andar hamen eliphetik politiks taip ka ek cheej hota hai jo hamen dena padata nahin to jo majabootee hote hain vah toot jaatee hai aur is vajah se hamen usake andar tharmaakol dena padata hai to tharmaakol bhee dekh sakate hain to use bhee aag lagee to bahut jaldee phat jaate hain ab matalab jal jaata hai bat agar aap usamen dhoop de to bahut jyaada sakht ho sakata hai aise bahut se tharmaakol bahut jyaada majaboot hota hai isalie vah tharmaakol samay jab deevaar banaane battee hai tab vah diya jaata hai bahut jagah par ek lakadee se bhee ya jo ab uth hota hai usako bhee dete hain

और जवाब सुनें

bolkar speaker
दीवार तथा छत बनाते समय बीच में थर्माकोल का प्रयोग क्यों किया जाता है?Deevar Tatha Chhat Banate Samay Beech Mein Tharmacol Ka Pryog Kyun Kiya Jata Hai
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
1:33
आपका सवाल है दीवार तो साक्षात बनाते समय बीच में थर्माकोल का प्रयोग क्यों किया जाता है तो वर्तमान समय में नई तकनीकी वाली मशीन आ गई है जिससे कंस्ट्रक्शन का काम काफी आसान कर दिया दीवार के बीच में थर्माकोल लगाते देख कर हैरान हो जाते हैं लेकिन जब उन्हें इसके पीछे की सच्चाई पता चलता है तो वहां से चकित हो जाते हैं साधारण से दिखने वाला थर्माकोल के लिए किसी वरदान से कम नहीं होगा इसका प्रयोग की चीजों में किया था जैसे स्कूल की लिए क्राफ्ट बरसना पिघल है देने वाली आइसक्रीम पेटी और प्लेट क्लास भी बनाने में विश्वास किया जाता लेकिन यह सभी बातें सभी को पता है लेकिन ही थर्माकोल का घर बनाने में प्रयोग किया जाता है यह नीचे आइए आपको बताएंगे थर्माकोल के डबल दीवार बनाते तक दोनों दीवारों के बीच में लगाया जाता है यह इसलिए लगाया जाता है क्योंकि गर्मी और शादी से बचा सके और दोस्तों गर्मी बाहर की ओर से दीवार में पढ़ने वाली धूप अंदर नहीं आती इसकी वजह से कमरा गर्म नहीं होता है जिस तरह गर्मी में काम करता है उसी तरह यह सर्दी में भी काम करता है सर्दी को दीवार से बाहर सभी को अंदर नहीं आने देता है इसकी वजह से आपको ठंड नहीं लगती और यह अपने कि आज देश में ही नहीं बल्कि भारत में भी काफी प्रसिद्ध होती चली गई है धन्यवाद दोस्तों आपका चैनल पर स्वागत है हमारा
Aapaka savaal hai deevaar to saakshaat banaate samay beech mein tharmaakol ka prayog kyon kiya jaata hai to vartamaan samay mein naee takaneekee vaalee masheen aa gaee hai jisase kanstrakshan ka kaam kaaphee aasaan kar diya deevaar ke beech mein tharmaakol lagaate dekh kar hairaan ho jaate hain lekin jab unhen isake peechhe kee sachchaee pata chalata hai to vahaan se chakit ho jaate hain saadhaaran se dikhane vaala tharmaakol ke lie kisee varadaan se kam nahin hoga isaka prayog kee cheejon mein kiya tha jaise skool kee lie kraapht barasana pighal hai dene vaalee aaisakreem petee aur plet klaas bhee banaane mein vishvaas kiya jaata lekin yah sabhee baaten sabhee ko pata hai lekin hee tharmaakol ka ghar banaane mein prayog kiya jaata hai yah neeche aaie aapako bataenge tharmaakol ke dabal deevaar banaate tak donon deevaaron ke beech mein lagaaya jaata hai yah isalie lagaaya jaata hai kyonki garmee aur shaadee se bacha sake aur doston garmee baahar kee or se deevaar mein padhane vaalee dhoop andar nahin aatee isakee vajah se kamara garm nahin hota hai jis tarah garmee mein kaam karata hai usee tarah yah sardee mein bhee kaam karata hai sardee ko deevaar se baahar sabhee ko andar nahin aane deta hai isakee vajah se aapako thand nahin lagatee aur yah apane ki aaj desh mein hee nahin balki bhaarat mein bhee kaaphee prasiddh hotee chalee gaee hai dhanyavaad doston aapaka chainal par svaagat hai hamaara

bolkar speaker
दीवार तथा छत बनाते समय बीच में थर्माकोल का प्रयोग क्यों किया जाता है?Deevar Tatha Chhat Banate Samay Beech Mein Tharmacol Ka Pryog Kyun Kiya Jata Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:31
सवाल यह है कि दीवार तथा छात्र बनाते समय बीच में थर्माकोल का प्रयोग क्यों किया जाता है तो वर्तमान समय में नई तकनीक वाली मशीनें आ गई है जिन्होंने कंस्ट्रक्शन के कामों को काफी आसान कर दिया है दीवार के बीच में थर्माकोल लगाते देख लोग हैरान हो जाते हैं लेकिन जब उनके पीछे की सच्चाई का पता चलता है तो मैं आश्चर्य हो जाते हैं साधारण सा दिखने वाला थर्माकोल लोगों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है का प्रयोग कई चीजों में किया जाता है जैसे स्कूल के लिए क्राफ्ट वर्क ना पर बुलाने देना और तो और इसे प्लेट गिलास के लिए बनाने के लिए समाज में लाया जाता है थर्माकोल को डबल दीवार बनाते वक्त और दोनों दीवार के बीच में भी लगाया जाता है और यह इसलिए करते हैं क्योंकि गर्मी और सर्दी में बचाव हो सके गर्मी में बाहर की ओर से दीवार पर पड़ने वाली धूप से गर्मी अंदर नहीं आ पाती है जिसकी वजह से कमरा गर्म नहीं होता है जिस तरह यह गर्मी में काम करता है उसी तरह यह सर्दी में भी काम करता है सर्दी में शिवा बाहर की सर्दी में अफवाह दीवार के बाहर की सर्दी कमरे के अंदर नहीं आ पाती जिसकी वजह से हमें ठंड नहीं लगती है इस तकनीक को आज भी देश में ही नहीं बल्कि भारत में भी काफी प्रयोग में लाया जा रहा है आज कल बारिश में यह वेदरप्रूफ किया सॉन्ग ब्लूटूथ किस तरह काम करता है
Savaal yah hai ki deevaar tatha chhaatr banaate samay beech mein tharmaakol ka prayog kyon kiya jaata hai to vartamaan samay mein naee takaneek vaalee masheenen aa gaee hai jinhonne kanstrakshan ke kaamon ko kaaphee aasaan kar diya hai deevaar ke beech mein tharmaakol lagaate dekh log hairaan ho jaate hain lekin jab unake peechhe kee sachchaee ka pata chalata hai to main aashchary ho jaate hain saadhaaran sa dikhane vaala tharmaakol logon ke lie kisee varadaan se kam nahin hai ka prayog kaee cheejon mein kiya jaata hai jaise skool ke lie kraapht vark na par bulaane dena aur to aur ise plet gilaas ke lie banaane ke lie samaaj mein laaya jaata hai tharmaakol ko dabal deevaar banaate vakt aur donon deevaar ke beech mein bhee lagaaya jaata hai aur yah isalie karate hain kyonki garmee aur sardee mein bachaav ho sake garmee mein baahar kee or se deevaar par padane vaalee dhoop se garmee andar nahin aa paatee hai jisakee vajah se kamara garm nahin hota hai jis tarah yah garmee mein kaam karata hai usee tarah yah sardee mein bhee kaam karata hai sardee mein shiva baahar kee sardee mein aphavaah deevaar ke baahar kee sardee kamare ke andar nahin aa paatee jisakee vajah se hamen thand nahin lagatee hai is takaneek ko aaj bhee desh mein hee nahin balki bhaarat mein bhee kaaphee prayog mein laaya ja raha hai aaj kal baarish mein yah vedaraprooph kiya song blootooth kis tarah kaam karata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • दीवार तथा छत बनाते समय बीच में थर्माकोल का प्रयोग क्यों किया जाता है दीवार तथा छत बनाते समय बीच में थर्माकोल का प्रयोग
URL copied to clipboard