#भारत की राजनीति

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:08
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है क्या किसानों की नीलामी सरकार की ऐसी राजनीति से अगले लोकसभा चुनाव कांग्रेस सत्ता में आएगी तो फ्रेंड से यह तो सब भविष्य की बातें होती है कि सत्ता में कौन आएगा कौन नहीं आएगा जनता किसको चुने की इस समय आगामी भविष्य की बातें होती हैं लेकिन किसान लोग जो अपना किसान जो सरकार के प्रति आंदोलन कर रहे हैं अपने कानूनों के खिलाफ तो जोश में कांग्रेसी राजनीति बहुत कर रही है और अपनी रोटियां सेकने में लगी हुई है तो ऐसा नहीं करना चाहिए कांग्रेस को भी अच्छे से बात करना चाहिए किसी अभद्र बात बिल्कुल भी नहीं करनी चाहिए और अगर आप कांग्रेस का समर्थन कर रहे हैं तो समर्थन कीजिए लेकिन सरकार की बुराई भी आपको नहीं करना चाहिए तो कांग्रेस तो वैसे भी सत्ता में नहीं आने वाली है इस समय माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी प्रधानमंत्री और आगे भी उम्मीद है कि वही बनेंगे और विदेश के लिए अच्छा भी कर रहे तो कांग्रेसमें सत्ता में पैसे भी नहीं है तो कांग्रेस को सोचना बंद कर ही बोलना चाहिए नहीं तो उसको आगे आने वाले चुनाव में और कम से कम सीट मिलेगी धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai kya kisaanon kee neelaamee sarakaar kee aisee raajaneeti se agale lokasabha chunaav kaangres satta mein aaegee to phrend se yah to sab bhavishy kee baaten hotee hai ki satta mein kaun aaega kaun nahin aaega janata kisako chune kee is samay aagaamee bhavishy kee baaten hotee hain lekin kisaan log jo apana kisaan jo sarakaar ke prati aandolan kar rahe hain apane kaanoonon ke khilaaph to josh mein kaangresee raajaneeti bahut kar rahee hai aur apanee rotiyaan sekane mein lagee huee hai to aisa nahin karana chaahie kaangres ko bhee achchhe se baat karana chaahie kisee abhadr baat bilkul bhee nahin karanee chaahie aur agar aap kaangres ka samarthan kar rahe hain to samarthan keejie lekin sarakaar kee buraee bhee aapako nahin karana chaahie to kaangres to vaise bhee satta mein nahin aane vaalee hai is samay maananeey pradhaanamantree modee jee pradhaanamantree aur aage bhee ummeed hai ki vahee banenge aur videsh ke lie achchha bhee kar rahe to kaangresamen satta mein paise bhee nahin hai to kaangres ko sochana band kar hee bolana chaahie nahin to usako aage aane vaale chunaav mein aur kam se kam seet milegee dhanyavaad

और जवाब सुनें

Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:57
आकाशवाणी की किसानों के खिलाफ सरकार की ऐसी रणनीति से अगले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का नहीं आएगी तू अभी तक पूरी तरह से साथ में होते हैं कि कितने किसान इंदल के समर्थन में और कितने कसाना मिलकर संगठन नहीं है मेरे ख्याल से कांगेस के पास अभी भी लोकप्रिय चेहरा नहीं है और मोदी जी के पास बहुत ही कुशलता से नेतृत्व करने वाली सरकार है और मेरे ख्याल से जब तक कांग्रेस के पास एक लोकप्रिय चेहरा जो जनता उस पर विश्वास करके ऐसी कोई चेहरा आएगा तो कांग्रेस को सत्ता में आएगी वरना किसानों से जोधपुर ज्यादा चलने वाला
Aakaashavaanee kee kisaanon ke khilaaph sarakaar kee aisee rananeeti se agale lokasabha chunaav mein kaangres ka nahin aaegee too abhee tak pooree tarah se saath mein hote hain ki kitane kisaan indal ke samarthan mein aur kitane kasaana milakar sangathan nahin hai mere khyaal se kaanges ke paas abhee bhee lokapriy chehara nahin hai aur modee jee ke paas bahut hee kushalata se netrtv karane vaalee sarakaar hai aur mere khyaal se jab tak kaangres ke paas ek lokapriy chehara jo janata us par vishvaas karake aisee koee chehara aaega to kaangres ko satta mein aaegee varana kisaanon se jodhapur jyaada chalane vaala

pawan Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए pawan जी का जवाब
Government services (8814983819)
2:02
अभी लोकसभा चुनाव होने में 3 लगभग 3 वर्ष का समय बाकी है और 3 साल में मोदी सरकार क्या करती है वह समय बताएगा कि वह 2024 में भी सत्ता में या अगले लोकसभा में चुनाव में आ पाएगी या नहीं आ पाएगी इसके अलावा कांग्रेसमें मजबूत नेता या मजबूत चेहरे की रिक्वायरमेंट है मतलब कौन बनाया चेहरा होगा कौन मजबूत चेहरा होगा जो आने वाले समय में कांग्रेस को संभाल सके कांग्रेस को जो है युवाओं की खोज क्यों पर भी ध्यान देना पड़ेगा कांग्रेस को अपने कार्यकर्ताओं को बढ़ाने को पर ध्यान देना पड़ेगा कांग्रेस कुछ गए जिस तरह से कांग्रेस ढीली पड़ी है जिस तरह से कांग्रेस से चीजों के ऊपर काम नहीं कर रही है उन चीजों के ऊपर कांग्रेस को बड़ी गहराई से और बड़े संघर्ष के साथ इन चीजों में उतरना पड़ेगा और अपनी खोई हुई जमीन है उसको वापस करने के लिए जनता में भरोसा लाना पड़ेगा क्योंकि यह मात्र कृषि कानूनी या किसानों के खिलाफ से कॉन्ग्रेस आ जाए यह जरूरी नहीं है क्योंकि कांग्रेस के के अंदर वर्तमान में जो है जिस तरह से कांग्रेस सोई पड़ी है या जिस तरह से कांग्रेस की स्थितियां है उन चीजों को कांग्रेस को डेवलप करना पड़ेगा कांग्रेस को संभालना पड़ेगा कांग्रेस को एक सूची तैयार करनी पड़ेगी जब तक कांग्रेस के डीजे प्रोसेसिंग में नहीं चलेगी तब तक लीडरशिप जाना बड़ा मुश्किल है लेकिन हां अगर मोदी सरकार लगातार गलतियां करती हैं और आमजन के लिए परेशानी का सबब बनते हैं तो डेफिनेटली जो है 2024 में भारत में कांग्रेस की सरकार आपको देखने को मिल सकती है और बाकी 2022 में 23 में 24 में और 2021 में जिन राज्यों में चुनाव होने हैं उन राज्यों की प्रोसेसिंग बताएगी कि भविष्य कराएं क्योंकि यूपी का चुनाव है 2022 में अगर बीजेपी 2022 में यूपी का चुनाव हारती है तो 99% चार्ज हो जाएगी क्योंकि जो कि बीजेपी बाहर हो रही है थैंक यू
Abhee lokasabha chunaav hone mein 3 lagabhag 3 varsh ka samay baakee hai aur 3 saal mein modee sarakaar kya karatee hai vah samay bataega ki vah 2024 mein bhee satta mein ya agale lokasabha mein chunaav mein aa paegee ya nahin aa paegee isake alaava kaangresamen majaboot neta ya majaboot chehare kee rikvaayarament hai matalab kaun banaaya chehara hoga kaun majaboot chehara hoga jo aane vaale samay mein kaangres ko sambhaal sake kaangres ko jo hai yuvaon kee khoj kyon par bhee dhyaan dena padega kaangres ko apane kaaryakartaon ko badhaane ko par dhyaan dena padega kaangres kuchh gae jis tarah se kaangres dheelee padee hai jis tarah se kaangres se cheejon ke oopar kaam nahin kar rahee hai un cheejon ke oopar kaangres ko badee gaharaee se aur bade sangharsh ke saath in cheejon mein utarana padega aur apanee khoee huee jameen hai usako vaapas karane ke lie janata mein bharosa laana padega kyonki yah maatr krshi kaanoonee ya kisaanon ke khilaaph se kongres aa jae yah jarooree nahin hai kyonki kaangres ke ke andar vartamaan mein jo hai jis tarah se kaangres soee padee hai ya jis tarah se kaangres kee sthitiyaan hai un cheejon ko kaangres ko devalap karana padega kaangres ko sambhaalana padega kaangres ko ek soochee taiyaar karanee padegee jab tak kaangres ke deeje prosesing mein nahin chalegee tab tak leedaraship jaana bada mushkil hai lekin haan agar modee sarakaar lagaataar galatiyaan karatee hain aur aamajan ke lie pareshaanee ka sabab banate hain to dephinetalee jo hai 2024 mein bhaarat mein kaangres kee sarakaar aapako dekhane ko mil sakatee hai aur baakee 2022 mein 23 mein 24 mein aur 2021 mein jin raajyon mein chunaav hone hain un raajyon kee prosesing bataegee ki bhavishy karaen kyonki yoopee ka chunaav hai 2022 mein agar beejepee 2022 mein yoopee ka chunaav haaratee hai to 99% chaarj ho jaegee kyonki jo ki beejepee baahar ho rahee hai thaink yoo

T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:56
आपका प्रश्न यह है कि क्या किसानों के खिलाफ सरकार की ऐसी राजनीति से अगले लोकसभा चुनाव कांग्रेस सत्ता में आ पाएंगे कि मैं कोई भविष्यवक्ता तो नहीं हूं लेकिन जितना मैं समझता हूं इस देश में रहने वाला वह कोई भी नहीं करी चाहे वह हिंदू हो चाहे वह मुस्लिम हो चाहे वह सीखो हो चाहे वह ईसाई हो पारसी हो चैन हो किसी भी धर्म को मानने वाला व्यक्ति जो राष्ट्रवादी है जो अपने राष्ट्र से प्यार करता जो अपने देश से प्यार करता है जो अपनी मातृभूमि से प्यार करता है जो अपनी जमीन को अपनी मिट्टी को अपने सर पर लगा कर अपने मस्तक पर लगाकर गौरवान्वित महसूस करता वह व्यक्ति तो किसी भी स्थिति में किसी अन्य पार्टी को वोट फिलहाल देगा मुझे इस बात में संशय और दूसरी बात यह है कि किसानों के खिलाफ सरकार की ऐसी राजनीति अरे भाई क्या खराब राजनीति कर रही है किसानों के खिलाफ अब समझी एक गैंग यह एक कुछ मुट्ठी भर गैंग है और एक बात समझ लीजिए आप इस भारत देश को अगर कभी भी पीछे जाता हुआ देखेंगे और अगर इस प्रदेश को बर्बाद करने के लिए इस देश को नुकसान पहुंचाने के लिए अगर कोई दरवाजा है वह दरवाजा बाहर से शायद कोई खोलने वाला नहीं है और किसी में हिम्मत भी नहीं है लेकिन उस दरवाजे को खोलने के लिए देश से ज्यादा देश के अंदर ऐसे लोग हैं जो देश को नुकसान पहुंचाने के लिए उसे दरवाजे को खोलने के लिए तैयार है अब यह देश के आम नागरिकों को भारत के प्रबुद्ध नागरिक को यह समझने की जरूरत है क्या आप उन लोगों के साथ खड़ा होगा जो वह अंदर से ही उस दरवाजे को खोलना चाहते हैं फैसला आप लोगों के हाथ में क्या आप अपनी मातृभूमि को एक गौरव को देखना चाहते हैं मातृभूमि की महानता को देखना चाहते हैं ऐसे लोग आतंकवादी गतिविधियों को देखना चाहते हैं धन्यवाद
Aapaka prashn yah hai ki kya kisaanon ke khilaaph sarakaar kee aisee raajaneeti se agale lokasabha chunaav kaangres satta mein aa paenge ki main koee bhavishyavakta to nahin hoon lekin jitana main samajhata hoon is desh mein rahane vaala vah koee bhee nahin karee chaahe vah hindoo ho chaahe vah muslim ho chaahe vah seekho ho chaahe vah eesaee ho paarasee ho chain ho kisee bhee dharm ko maanane vaala vyakti jo raashtravaadee hai jo apane raashtr se pyaar karata jo apane desh se pyaar karata hai jo apanee maatrbhoomi se pyaar karata hai jo apanee jameen ko apanee mittee ko apane sar par laga kar apane mastak par lagaakar gauravaanvit mahasoos karata vah vyakti to kisee bhee sthiti mein kisee any paartee ko vot philahaal dega mujhe is baat mein sanshay aur doosaree baat yah hai ki kisaanon ke khilaaph sarakaar kee aisee raajaneeti are bhaee kya kharaab raajaneeti kar rahee hai kisaanon ke khilaaph ab samajhee ek gaing yah ek kuchh mutthee bhar gaing hai aur ek baat samajh leejie aap is bhaarat desh ko agar kabhee bhee peechhe jaata hua dekhenge aur agar is pradesh ko barbaad karane ke lie is desh ko nukasaan pahunchaane ke lie agar koee daravaaja hai vah daravaaja baahar se shaayad koee kholane vaala nahin hai aur kisee mein himmat bhee nahin hai lekin us daravaaje ko kholane ke lie desh se jyaada desh ke andar aise log hain jo desh ko nukasaan pahunchaane ke lie use daravaaje ko kholane ke lie taiyaar hai ab yah desh ke aam naagarikon ko bhaarat ke prabuddh naagarik ko yah samajhane kee jaroorat hai kya aap un logon ke saath khada hoga jo vah andar se hee us daravaaje ko kholana chaahate hain phaisala aap logon ke haath mein kya aap apanee maatrbhoomi ko ek gaurav ko dekhana chaahate hain maatrbhoomi kee mahaanata ko dekhana chaahate hain aise log aatankavaadee gatividhiyon ko dekhana chaahate hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • किसानो के खिलाफ सरकार की ऐसी राजनीति से अगले लोकसभा चुनाव कांग्रेस को फायदा होगा, लोकसभा चुनाव
URL copied to clipboard