#undefined

bolkar speaker

मैं स्टेशनरी का व्यापार कैसे शुरू करु?

Main Stationery Ka Vyapaar Kaise Shuru Karu
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
2:37
प्रश्न है कि मैं स्टेशनरी का व्यापार कैसे शुरू करो आमतौर पर स्टेशनरी आइटम वह सब वस्तुएं आती हैं जिनका इस्तेमाल लिखने की प्रक्रिया के दौरान किया जाता है इसमें पेन पेंसिल नोटपैड की प्रिंटिंग स्टेशनरी भी शामिल हो सकती है देखिए स्टेशनरी आइटम और उनके प्रयोग तीन प्रकार में विभाजित हो सकते हैं पहला मान्य स्टेशनरी सामान स्टेशनरी आइटम से हमारा आशय यह है कि ऐसे स्टेशनरी जिनका उपयोग सामान्य इस्तेमाल में किया जाता है मुख्य तौर पर पेन पेंसिल इरेज़र लिफाफे नोटपैड्स एक होती है प्रिंटिंग स्टेशनरी कुर्ती कंप्यूटर स्टेशनरी प्रिंटिंग स्टेशनरी जैसे के नाम से स्पष्ट है प्रिंटिंग स्टेशनरी का इस्तेमाल मुद्रण अर्थात प्रिंटिंग कार्यों को अंजाम देने में जैसे A4 साइज पर वांट पेपर प्रिंटर इत्यादि और कंप्यूटर स्टेशनरी से हमारा स्टेशनरी से है जिनका इस्तेमाल कंप्यूटर में किया जा सकता है इनमें मुख्य तौर पर पेनड्राइव माउस पर आ सकते हैं यदि आप किसी व्यक्ति से स्टेशनरी शॉप ओपन करने की प्रक्रिया के बारे में पूछेंगे तो उसका बेहद ही आसान सा जवाब यह होगा कि सर्वप्रथम एक दुकान किराए पर ले और उसमें रंग इत्यादि का काम कराएं उसके बाद स्टेशनरी आइटम्स खरीदकर उन्हें अपनी दुकान के माध्यम में बेचकर कमाई कर ले लेकिन एक व्यक्ति को स्टेशनरी शॉप बिजनेस शुरू करने के लिए इससे भी अधिक अर्थ विभिन्न प्रक्रियाओं से होकर गुजरना पड़ता है सबसे महत्वपूर्ण चीज है लोकेशन आपको उस जगह पर अपनी स्टेशनरी की दुकान खोली चाहिए जहां आपको लगता है कि वह काफी अच्छी बिक्री कर सकते हो जैसे कि स्कूल कॉलेजेस क्योंकि वहां के आसपास के जो बच्चे होंगे वह ज्यादा से ज्यादा स्टेशनरी खरीदेंगे इसके अलावा आप यह देख सकते हैं कि आपको उस लोकेशन पर दुकान अपनी लेनी है या फिर किराए पर लेनी है और किराया उसका कितना होगा इसके अलावा की रजिस्ट्रेशन और पंजीकरण कराना वैसे तो देखा जाए तो शुरुआती दौर में छोटे स्तर पर इस तरह का बिजनेस करने के लिए किसी विशेष लाइसेंस पंजीकरण की जरूरत तो नहीं है स्थानीय नियम अलग-अलग भी हो सकते हैं तो आपको वहां की नगर निगम या ग्राम पंचायत जो भी है उनसे बात करनी होगी रोने एक बार सूचित भी करना होगा और इसके बाद अब यदि स्टेशनरी शॉप बिजनेस कर रहे हैं तो उसमें रजिस्ट्रेशन और पंजीकरण की प्रक्रिया कर पूरी हो जाती है तो अब अगला कदम यह होगा कि आपको एक बजट निर्धारित करना होगा कि आप कितना सामान किस समय लाएंगे और वह कितने में बेचेंगे तो यह बहुत जरूरी है आपके बिजनेस को आगे बढ़ाने में धन्यवाद
Prashn hai ki main steshanaree ka vyaapaar kaise shuroo karo aamataur par steshanaree aaitam vah sab vastuen aatee hain jinaka istemaal likhane kee prakriya ke dauraan kiya jaata hai isamen pen pensil notapaid kee printing steshanaree bhee shaamil ho sakatee hai dekhie steshanaree aaitam aur unake prayog teen prakaar mein vibhaajit ho sakate hain pahala maany steshanaree saamaan steshanaree aaitam se hamaara aashay yah hai ki aise steshanaree jinaka upayog saamaany istemaal mein kiya jaata hai mukhy taur par pen pensil irezar liphaaphe notapaids ek hotee hai printing steshanaree kurtee kampyootar steshanaree printing steshanaree jaise ke naam se spasht hai printing steshanaree ka istemaal mudran arthaat printing kaaryon ko anjaam dene mein jaise a4 saij par vaant pepar printar ityaadi aur kampyootar steshanaree se hamaara steshanaree se hai jinaka istemaal kampyootar mein kiya ja sakata hai inamen mukhy taur par penadraiv maus par aa sakate hain yadi aap kisee vyakti se steshanaree shop opan karane kee prakriya ke baare mein poochhenge to usaka behad hee aasaan sa javaab yah hoga ki sarvapratham ek dukaan kirae par le aur usamen rang ityaadi ka kaam karaen usake baad steshanaree aaitams khareedakar unhen apanee dukaan ke maadhyam mein bechakar kamaee kar le lekin ek vyakti ko steshanaree shop bijanes shuroo karane ke lie isase bhee adhik arth vibhinn prakriyaon se hokar gujarana padata hai sabase mahatvapoorn cheej hai lokeshan aapako us jagah par apanee steshanaree kee dukaan kholee chaahie jahaan aapako lagata hai ki vah kaaphee achchhee bikree kar sakate ho jaise ki skool kolejes kyonki vahaan ke aasapaas ke jo bachche honge vah jyaada se jyaada steshanaree khareedenge isake alaava aap yah dekh sakate hain ki aapako us lokeshan par dukaan apanee lenee hai ya phir kirae par lenee hai aur kiraaya usaka kitana hoga isake alaava kee rajistreshan aur panjeekaran karaana vaise to dekha jae to shuruaatee daur mein chhote star par is tarah ka bijanes karane ke lie kisee vishesh laisens panjeekaran kee jaroorat to nahin hai sthaaneey niyam alag-alag bhee ho sakate hain to aapako vahaan kee nagar nigam ya graam panchaayat jo bhee hai unase baat karanee hogee rone ek baar soochit bhee karana hoga aur isake baad ab yadi steshanaree shop bijanes kar rahe hain to usamen rajistreshan aur panjeekaran kee prakriya kar pooree ho jaatee hai to ab agala kadam yah hoga ki aapako ek bajat nirdhaarit karana hoga ki aap kitana saamaan kis samay laenge aur vah kitane mein bechenge to yah bahut jarooree hai aapake bijanes ko aage badhaane mein dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
मैं स्टेशनरी का व्यापार कैसे शुरू करु?Main Stationery Ka Vyapaar Kaise Shuru Karu
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:19
अच्छी सोच होनी चाहिए कोशिश करें कि यह सब किसी स्कूल या कॉलेज के पास हूं कि यह इस टाइप की स्टेशनरी शॉप बहुत अच्छे से चलती है उसमें वही सब सामान रख जो बच्चों को चाय पी ली पेन पेंसिल रबर लेजर स्कैल्प कॉलेज स्कूल के आस-पास हो सकती है
Achchhee soch honee chaahie koshish karen ki yah sab kisee skool ya kolej ke paas hoon ki yah is taip kee steshanaree shop bahut achchhe se chalatee hai usamen vahee sab saamaan rakh jo bachchon ko chaay pee lee pen pensil rabar lejar skailp kolej skool ke aas-paas ho sakatee hai

bolkar speaker
मैं स्टेशनरी का व्यापार कैसे शुरू करु?Main Stationery Ka Vyapaar Kaise Shuru Karu
Shyam sundar Nai Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Shyam जी का जवाब
नोकरी
2:03
नमस्कार आप का सवाल है कि मैं स्टेशनरी का व्यापार कैसे शुरू करूं वह जगह चुनी होगी जहां स्टेशन का अधिकतम उपयोग या विक्रय होता है जैसे आप उस स्थान को चुनिए यहां आस-पास में सरकारी व प्राइवेट स्कूल हैं काफी हूं इसके अलावा स्थान सुनने के बाद आपको उचित दर से स्टेट में है वह मंगानी है और अपनी दुकान में रख कर ग्राहकों को वितरित करने के लिए आप स्टूडेंट डांस अलग-अलग तरह की नई नई डिजाइन की कॉपियां किताबें पास रुके हैं मेरे यहां स्कूल बैग अंधेरा बहुत सारे आइटम है जो बच्चों को जितनी तेरी की वैरायटी होगी उतनी देर से हुई ना लाइक करेगी खरीदने के लिए तो आप खाना खा रही थी कि स्टेशन अपनी दुकान में रखें ग्राहकों को अच्छे से वादे जो छात्र और छात्रा आप से सामान ले रहे हैं अगर वह सामान आपके पास तुरंत उसे नोट कर लेवे आने वाले 2 दिनों से उपलब्ध कराने का वादा करें और वाजिब दाम पर अगर आप स्टेशंस लोगों को उपलब्ध कराएंगे तो आपका स्टेशन के बाद आ रहे हैं वह बहुत अच्छा चल पड़ेगा धन्यवाद
Namaskaar aap ka savaal hai ki main steshanaree ka vyaapaar kaise shuroo karoon vah jagah chunee hogee jahaan steshan ka adhikatam upayog ya vikray hota hai jaise aap us sthaan ko chunie yahaan aas-paas mein sarakaaree va praivet skool hain kaaphee hoon isake alaava sthaan sunane ke baad aapako uchit dar se stet mein hai vah mangaanee hai aur apanee dukaan mein rakh kar graahakon ko vitarit karane ke lie aap stoodent daans alag-alag tarah kee naee naee dijain kee kopiyaan kitaaben paas ruke hain mere yahaan skool baig andhera bahut saare aaitam hai jo bachchon ko jitanee teree kee vairaayatee hogee utanee der se huee na laik karegee khareedane ke lie to aap khaana kha rahee thee ki steshan apanee dukaan mein rakhen graahakon ko achchhe se vaade jo chhaatr aur chhaatra aap se saamaan le rahe hain agar vah saamaan aapake paas turant use not kar leve aane vaale 2 dinon se upalabdh karaane ka vaada karen aur vaajib daam par agar aap steshans logon ko upalabdh karaenge to aapaka steshan ke baad aa rahe hain vah bahut achchha chal padega dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मैं स्टेशनरी का व्यापार कैसे शुरू करु स्टेशनरी का व्यापार
URL copied to clipboard