#undefined

bolkar speaker

क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है?

Kya Manorog Ka Ilaaj Ho Sakta Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:20
आरा का प्रश्न के मनोरोग का इलाज हो सकता है तो आपको बता देंगे बिल्कुल मनो रोग का इलाज भी होता है उसके लिए काउंसलिंग से सांस लेने होते हैं तो उसके बारे में आप देख लीजिए कोई अच्छा दिखाओ सर का पता करके अच्छा सोच लीजिए निश्चित रूप से आपको यहां पर सफलता मिलेगी मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Aara ka prashn ke manorog ka ilaaj ho sakata hai to aapako bata denge bilkul mano rog ka ilaaj bhee hota hai usake lie kaunsaling se saans lene hote hain to usake baare mein aap dekh leejie koee achchha dikhao sar ka pata karake achchha soch leejie nishchit roop se aapako yahaan par saphalata milegee main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है?Kya Manorog Ka Ilaaj Ho Sakta Hai
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
2:51
तो आप का सवाल है मन रोग का इलाज हो सकता है तुम मानसिक रोगों को मनोविकार या मानसिक स्वास्थ्य विकार आदि नामों से भी जाना जाता है मानसिक रोग के प्रति व्यक्ति की मनोदशा यादाश्त सभाव इत्यादि परबतिया पर प्रभाव डालता है व्यक्ति अपने भाव की जल्द काबू नहीं देता है मानसिक रोग प्रकार के होते हैं डिप्रेशन मानसिक रोग यह सबसे ज्यादा बातें और अवसाद या डिप्रेशन आउट ऑफिस की शुरुआत चुनाव से होती है और कुछ समय बाद यह अवसाद का रूप धारण कर लेता है भूलने की बीमारी हम सभी के लिए सभी बातें याद रखने की कभी मुश्किल होता है और यह एक आम चीजें क्योंकि कुछ चीजें बोलने के लायक ही होती है मगर कुछ लोगों को ऐसा देखा जाता है कि वे कुछ देर पहले हुई चीजों को बुझाते दासल एक मांस हीरो की खेलने की बीमारी का इलाज मस्त के नाम से जाना जाता है बाकी सब मानसिक व अन्य प्रकार की संजय सिंह मस्तिष्क की नसों में जोड़कर देखा जाता है कि जो व्यक्ति मस्जिद से कोई नस दब जाती है तो उसे मेडिकल भाषा में बाल किशन कहा जाता है ऐसी मारी जवानी काम जैसे एक गिलास या का एक हाथ में उठाना सुई धागा इत्यादि कामों में करने में परेशानी होती है खुफिया मामलों के अन्य प्रकार के फोबिया होते हैं जिसमें ज्यादातर लोग डर से जोड़कर देखते हैं मगर उनका सोचना बिल्कुल गलत है क्योंकि खूबियां बॉर्डर काफी अंतर है जहां एक तरफ वाली चीज होती है जो दुख समय के साथ समय को ठीक हो जाती है वही दूसरों को भी काफी गंभीर समस्या रूप देखा जाता है जिसके लिए मेडिकल इलाज की जरूरत पड़ती है एचडी मां शेरों को मैं देखने को मिलता है जिन्हें सबसे आम एडीएसडी स्टेशन देखी थी हाइपरएक्टिव आम भाषा में प्यार नहीं दे सकता निकाल रोग हो जाते हैं कुछ पढ़ने लिखने के दौरान बच्चों को देखने मिलता है मानसिक रोगी के रोग के लक्षण होते हैं दोस्त उदास लेना मांस हीरो की कमी के लक्षण खुदा से है दोस्तों परिवार चालीसा अलग रहता है मूल बार-बार बदलता रहता है सामान्य बताओ करता है घबराहट और डर लगता है और परिवारिक मॉल में सही नहीं होगा मानसिक रोगी कब हो सकता है परिवार का माहौल सही नहीं होता है सिर पर चोट लगने से हो सकता है बस में नहीं तो कहां से हो सकता है पौष्टिक भोजन से हो सकता है नशीले पदार्थ का सेवन से हो सकता है धन्यवाद दोस्तों
To aap ka savaal hai man rog ka ilaaj ho sakata hai tum maanasik rogon ko manovikaar ya maanasik svaasthy vikaar aadi naamon se bhee jaana jaata hai maanasik rog ke prati vyakti kee manodasha yaadaasht sabhaav ityaadi parabatiya par prabhaav daalata hai vyakti apane bhaav kee jald kaaboo nahin deta hai maanasik rog prakaar ke hote hain dipreshan maanasik rog yah sabase jyaada baaten aur avasaad ya dipreshan aaut ophis kee shuruaat chunaav se hotee hai aur kuchh samay baad yah avasaad ka roop dhaaran kar leta hai bhoolane kee beemaaree ham sabhee ke lie sabhee baaten yaad rakhane kee kabhee mushkil hota hai aur yah ek aam cheejen kyonki kuchh cheejen bolane ke laayak hee hotee hai magar kuchh logon ko aisa dekha jaata hai ki ve kuchh der pahale huee cheejon ko bujhaate daasal ek maans heero kee khelane kee beemaaree ka ilaaj mast ke naam se jaana jaata hai baakee sab maanasik va any prakaar kee sanjay sinh mastishk kee nason mein jodakar dekha jaata hai ki jo vyakti masjid se koee nas dab jaatee hai to use medikal bhaasha mein baal kishan kaha jaata hai aisee maaree javaanee kaam jaise ek gilaas ya ka ek haath mein uthaana suee dhaaga ityaadi kaamon mein karane mein pareshaanee hotee hai khuphiya maamalon ke any prakaar ke phobiya hote hain jisamen jyaadaatar log dar se jodakar dekhate hain magar unaka sochana bilkul galat hai kyonki khoobiyaan bordar kaaphee antar hai jahaan ek taraph vaalee cheej hotee hai jo dukh samay ke saath samay ko theek ho jaatee hai vahee doosaron ko bhee kaaphee gambheer samasya roop dekha jaata hai jisake lie medikal ilaaj kee jaroorat padatee hai echadee maan sheron ko main dekhane ko milata hai jinhen sabase aam edeeesadee steshan dekhee thee haiparektiv aam bhaasha mein pyaar nahin de sakata nikaal rog ho jaate hain kuchh padhane likhane ke dauraan bachchon ko dekhane milata hai maanasik rogee ke rog ke lakshan hote hain dost udaas lena maans heero kee kamee ke lakshan khuda se hai doston parivaar chaaleesa alag rahata hai mool baar-baar badalata rahata hai saamaany batao karata hai ghabaraahat aur dar lagata hai aur parivaarik mol mein sahee nahin hoga maanasik rogee kab ho sakata hai parivaar ka maahaul sahee nahin hota hai sir par chot lagane se ho sakata hai bas mein nahin to kahaan se ho sakata hai paushtik bhojan se ho sakata hai nasheele padaarth ka sevan se ho sakata hai dhanyavaad doston

bolkar speaker
क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है?Kya Manorog Ka Ilaaj Ho Sakta Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:42
नमस्कार सर आपका प्रश्न है क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है तो साथियों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है हमारे मनो रोग का इलाज हो सकता है क्योंकि हमारे मनोविज्ञान के पास जाना या योग करने से अलावा मनोविज्ञान के पास मानसिक रोग का इलाज करने का विकल्प हो सकता है क्यों मनोवैज्ञानिक मानसिक रोगी के मस्तिक की स्थिति की जांच कर सकता है और उनके अनुसार ही मानसिक रोगों का इलाज करता है दवाई लेना मानसिक रोगों का इलाज दवाई द्वारा भी संभव हो सकता है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Namaskaar sar aapaka prashn hai kya manorog ka ilaaj ho sakata hai to saathiyon aapake savaal ka uttar is prakaar se hai hamaare mano rog ka ilaaj ho sakata hai kyonki hamaare manovigyaan ke paas jaana ya yog karane se alaava manovigyaan ke paas maanasik rog ka ilaaj karane ka vikalp ho sakata hai kyon manovaigyaanik maanasik rogee ke mastik kee sthiti kee jaanch kar sakata hai aur unake anusaar hee maanasik rogon ka ilaaj karata hai davaee lena maanasik rogon ka ilaaj davaee dvaara bhee sambhav ho sakata hai dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है?Kya Manorog Ka Ilaaj Ho Sakta Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:03
फ्रेंड स्वागत है आपका आपको किसने क्या मनो रोग का इलाज हो सकता है कि आप फ्रेंड्स बिल्कुल बिल्कुल हो सकता है मैं लोगों का इलाज होता है और लोग करते भी हैं ज्यादा से ज्यादा मनोरोग बीमारियां डॉक्टर को दिखाने से साइकिलिस्ट को सेक्रेटेरिया मनोज सबको दिखाने को बिल्कुल ठीक हो जाती है और इसका प्रोफाइल आज करिए परहेज करिए जब तक जो बताते हैं उस तरह से आता हुआ खाइए और आराम से नींद लीजिए आप 7 से 8 घंटे 9 घंटे 8 घंटे की नींद आराम से लेकर आपको जो भी मनोरोग है बिल्कुल भी ठीक हो जाएंगे और कोई परेशानी की बात नहीं है जिससे शरीर में कोई बीमारियां हो जाती है और दवा लेने से भी ठीक हो जाती है उसी प्रकार मनोरोग भी दिमाग में अगर कोई बीमारी है तो डॉक्टर को बिल्कुल ठीक कर देते हैं इसमें आप बिल्कुल मत पूछो कि ये बिल्कुल मंगलवार बिल्कुल घबराने की कोई भी जरूरत नहीं है आप डॉक्टर को दिखाएंगे तो मनोरोग बिल्कुल आराम से आसानी से ठीक हो जाता है बस इसका इलाज थोड़ा लंबा चल रहा है लेकिन बिल्कुल ठीक हो जाता है यह बात बनती है धन्यवाद
Phrend svaagat hai aapaka aapako kisane kya mano rog ka ilaaj ho sakata hai ki aap phrends bilkul bilkul ho sakata hai main logon ka ilaaj hota hai aur log karate bhee hain jyaada se jyaada manorog beemaariyaan doktar ko dikhaane se saikilist ko sekreteriya manoj sabako dikhaane ko bilkul theek ho jaatee hai aur isaka prophail aaj karie parahej karie jab tak jo bataate hain us tarah se aata hua khaie aur aaraam se neend leejie aap 7 se 8 ghante 9 ghante 8 ghante kee neend aaraam se lekar aapako jo bhee manorog hai bilkul bhee theek ho jaenge aur koee pareshaanee kee baat nahin hai jisase shareer mein koee beemaariyaan ho jaatee hai aur dava lene se bhee theek ho jaatee hai usee prakaar manorog bhee dimaag mein agar koee beemaaree hai to doktar ko bilkul theek kar dete hain isamen aap bilkul mat poochho ki ye bilkul mangalavaar bilkul ghabaraane kee koee bhee jaroorat nahin hai aap doktar ko dikhaenge to manorog bilkul aaraam se aasaanee se theek ho jaata hai bas isaka ilaaj thoda lamba chal raha hai lekin bilkul theek ho jaata hai yah baat banatee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है?Kya Manorog Ka Ilaaj Ho Sakta Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:34
सवाल यह है कि का क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है तो जी हां बिल्कुल आज के टाइम में मनोरोग का इलाज बिल्कुल पॉसिबल है तो आप योगा कर सकते हैं अगर मानसिक रोगियों की स्थिति पर समय रहते ध्यान दिया जाए तो संभव है कि वह इस समस्या का हल निकाल पाए मानसिक रोगी अगर ध्यान में बैठे तो उनका दिमाग शांत होगा और इससे काफी लाभ भी मिलेगा इसी के साथ योग करने से सकारात्मक ऊर्जा भी आएगी और मानसिक रोग के ठीक होने की संभावना बढ़ जाएगी दूसरा है मनोवैज्ञानिक के पास जाना यदि योग से आराम नहीं मिलता तो आप मनोवैज्ञानिक के पास भी इलाज करवा सकते हैं मेंटल हेल्थ को सुधारने में मनोवैज्ञानिक काफी मदद करते हैं और एक बेहतर विकल्प है दवाई से भी ठीक हो सकता है मानसिक मानसिक रोग मानसिक रोग का इलाज दवाइयों के द्वारा पूरी तरह से संभव है फिजियोथैरेपी लेना आज इस तरह से मानसिक रोग अलग प्रकार के होते हैं उसी तरह उनका इलाज भी होता है ऐसे में संभावना होती है कि मनोवैज्ञानिक मानसिक रोगी की फिजियोथैरेपी लेने की सलाह दें क्योंकि उनके मानसिक रोग में दवाइयां योग्यता दी कारगर साबित नहीं होते हैं नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती होना मानसिक रोग का मुख्य कारण नशीले पदार्थ की लत भी हो सकता है ऐसी स्थिति में मानसिक रोग का इलाज नशा मुक्ति केंद्र में भी हो सकता है और यह बात हमेशा याद रखें कि मानसिक रोग भी आम लोगों की आम लोगों की तरह इसकी तुलना पागल से पागलपन से बिल्कुल भी नहीं कहीं नहीं की जा सकती
Savaal yah hai ki ka kya manorog ka ilaaj ho sakata hai to jee haan bilkul aaj ke taim mein manorog ka ilaaj bilkul posibal hai to aap yoga kar sakate hain agar maanasik rogiyon kee sthiti par samay rahate dhyaan diya jae to sambhav hai ki vah is samasya ka hal nikaal pae maanasik rogee agar dhyaan mein baithe to unaka dimaag shaant hoga aur isase kaaphee laabh bhee milega isee ke saath yog karane se sakaaraatmak oorja bhee aaegee aur maanasik rog ke theek hone kee sambhaavana badh jaegee doosara hai manovaigyaanik ke paas jaana yadi yog se aaraam nahin milata to aap manovaigyaanik ke paas bhee ilaaj karava sakate hain mental helth ko sudhaarane mein manovaigyaanik kaaphee madad karate hain aur ek behatar vikalp hai davaee se bhee theek ho sakata hai maanasik maanasik rog maanasik rog ka ilaaj davaiyon ke dvaara pooree tarah se sambhav hai phijiyothairepee lena aaj is tarah se maanasik rog alag prakaar ke hote hain usee tarah unaka ilaaj bhee hota hai aise mein sambhaavana hotee hai ki manovaigyaanik maanasik rogee kee phijiyothairepee lene kee salaah den kyonki unake maanasik rog mein davaiyaan yogyata dee kaaragar saabit nahin hote hain nasha mukti kendr mein bhartee hona maanasik rog ka mukhy kaaran nasheele padaarth kee lat bhee ho sakata hai aisee sthiti mein maanasik rog ka ilaaj nasha mukti kendr mein bhee ho sakata hai aur yah baat hamesha yaad rakhen ki maanasik rog bhee aam logon kee aam logon kee tarah isakee tulana paagal se paagalapan se bilkul bhee nahin kaheen nahin kee ja sakatee

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या मनोरोग का इलाज हो सकता है मनोरोग का इलाज
URL copied to clipboard