#undefined

bolkar speaker

हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?

Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
Laxmi devi sant Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Laxmi जी का जवाब
Self development online classes abhi join kare instagram me
1:31
आपका प्रश्न है पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों नहीं तुम्हारी स्वास्थ के लिए लाभदायक पसीना है क्योंकि अगर आप आधे घंटे काम कर रहे हैं तो आपका फैन हो रहा है क्या हो रहा है कि आपके शरीर में जो फैट है वह बढ़ नहीं रहा है काम हो रहा है लेकिन आप सोचेंगे कि हम मोटे हैं 24 घंटे करते हैं जी नहीं इससे आपके अंदर में पानी की कमी हो जाएगी क्योंकि पसीना हमारे फ्रेंड को बर्न करता है ठीक है और अगर हमने ज्यादा कर दिया तो यह हमारे अंदर की पानी मतलब हमारे अंदर जो भी पानी है प्रोटीन जो भी है वह सब चीज की कमी कर देता है और इसलिए हम बीमार पड़ जाते हैं और डिहाइड्रेशन के शिकार हो जाते हैं और हम लोगों को अगर फैट बंद करना है तो आधे घंटे हमने फिटनेस का काम किया पसीना बहा अच्छी बात है लेकिन हमें फिर उसके साथ प्रोटीन लेना हमें जूस लेना होगा प्रोटीन वाले जूस लेने होंगे कौन डी वाला पानी पीना होगा इससे क्या होगा हमारे अंदर पानी की कमी नहीं होगी और हम डिहाइड्रेशन के शिकार नहीं होंगे डिहाइड्रेशन के चलते बहुत ज्यादा प्रॉब्लम होती है लोगों को इसलिए अगर आपको सेट भी बंद करना तो आधे घंटे 1 दिन में आधा घंटा पसीना निकाल सकते हैं लेकिन उसके साथ आपको अपना आहार भी सही लेना होगा ठीक है लेकिन अगर आपने ज्यादा मेहनत कर दी तो इससे आपको डिहाइड्रेशन के आप शिकार हो सकते हैं थैंक यू सो मच
Aapaka prashn hai paseena kyon nikalata hai hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak kyon nahin tumhaaree svaasth ke lie laabhadaayak paseena hai kyonki agar aap aadhe ghante kaam kar rahe hain to aapaka phain ho raha hai kya ho raha hai ki aapake shareer mein jo phait hai vah badh nahin raha hai kaam ho raha hai lekin aap sochenge ki ham mote hain 24 ghante karate hain jee nahin isase aapake andar mein paanee kee kamee ho jaegee kyonki paseena hamaare phrend ko barn karata hai theek hai aur agar hamane jyaada kar diya to yah hamaare andar kee paanee matalab hamaare andar jo bhee paanee hai proteen jo bhee hai vah sab cheej kee kamee kar deta hai aur isalie ham beemaar pad jaate hain aur dihaidreshan ke shikaar ho jaate hain aur ham logon ko agar phait band karana hai to aadhe ghante hamane phitanes ka kaam kiya paseena baha achchhee baat hai lekin hamen phir usake saath proteen lena hamen joos lena hoga proteen vaale joos lene honge kaun dee vaala paanee peena hoga isase kya hoga hamaare andar paanee kee kamee nahin hogee aur ham dihaidreshan ke shikaar nahin honge dihaidreshan ke chalate bahut jyaada problam hotee hai logon ko isalie agar aapako set bhee band karana to aadhe ghante 1 din mein aadha ghanta paseena nikaal sakate hain lekin usake saath aapako apana aahaar bhee sahee lena hoga theek hai lekin agar aapane jyaada mehanat kar dee to isase aapako dihaidreshan ke aap shikaar ho sakate hain thaink yoo so mach

और जवाब सुनें

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:50
हमें पसीना क्यों निकलता हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है कि हमारा शरीर एक टेंपरेचर मेंटेन करता है आपने देखा होगा कि साढे 97 डिग्री सेल्सियस * फारेनहाइट सेल्सियस फारेनहाइट शरीर का तापमान होता है और उसी हिसाब से हमारी हार्ट पल्पिटेशंस काम करती है अगर इससे ज्यादा बढ़ गया है तो नाड़ी की गति भी तेज हो जाती है इससे कम है तो गतिविधि में भी हो जाती है तो कुछ परिस्थितियों में जब सारा शरीर के तापमान को मेंटेन करना पड़ता है वाह रे वाह वाह वातावरण के द्वारा तो उस वातावरण के कारण हम मर चुके हमारे शरीर का 70 परसेंट से ज्यादा भाग पानी होता है तो हम लोग पानी पीते हैं तो वह तो यूरिन के माध्यम से निकल जाता है कुछ तो ब्लड पुरीफिकेशन में लग जाता है और उसे पसीने के माध्यम से निकलता है ताज के बॉडी का टेंपरेचर को मेंटेन करें तो जब ज्यादा पसीना निकलता है तो इसका मतलब है कि उसके जितने भी टॉक से सब बाहर निकल जाते हैं उसमें कुछ महिंद्रा सुजीत निकल जाते हैं क्वालिटी भी निकल जाता है उसे सोडियम क्लोराइड कहते हैं यह भी सब निकल जाते हैं लेकिन जो कि हम लोग जो डेली डाइट में अपने खाते हैं मंदिर साल्ट यह सब उस साइट को मेंटेन करते हैं तो इसीलिए कहा जाता है कि दिल्ली अपने खाने में हर्षोल्लास के मिनरल्स और यह फल वगैरा खाने चाहिए ताकि उसमें पूरी डाइट मेंटेन होते रहे अंखियों से काफी भाग उसका जो है यूरिन और पसीने के माध्यम से वह बाहर निकल जाता है और पसीना गन्ना निकले तो शरीर का टेंपरेचर एकदम बढ़ता चला जाएगा यह भक्ता चला जाएगा अगर शरीर के ताप कम हो गई तो फिर आदमी जो हार्ड की चाल आपकी होगी बंद हो जाएगी इसलिए पसीना निकलने के प्राकृतिक प्रक्रिया है जो बिल्कुल ईश्वरी है जिसमें कि अगर किसी भी प्रकार की कोई बाधा पड़ती है तो उसके कॉम्प्लिकेशंस तैयार हो जाते हैं
Hamen paseena kyon nikalata hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak kyon hai ki hamaara shareer ek temparechar menten karata hai aapane dekha hoga ki saadhe 97 digree selsiyas * phaarenahait selsiyas phaarenahait shareer ka taapamaan hota hai aur usee hisaab se hamaaree haart palpiteshans kaam karatee hai agar isase jyaada badh gaya hai to naadee kee gati bhee tej ho jaatee hai isase kam hai to gatividhi mein bhee ho jaatee hai to kuchh paristhitiyon mein jab saara shareer ke taapamaan ko menten karana padata hai vaah re vaah vaah vaataavaran ke dvaara to us vaataavaran ke kaaran ham mar chuke hamaare shareer ka 70 parasent se jyaada bhaag paanee hota hai to ham log paanee peete hain to vah to yoorin ke maadhyam se nikal jaata hai kuchh to blad pureephikeshan mein lag jaata hai aur use paseene ke maadhyam se nikalata hai taaj ke bodee ka temparechar ko menten karen to jab jyaada paseena nikalata hai to isaka matalab hai ki usake jitane bhee tok se sab baahar nikal jaate hain usamen kuchh mahindra sujeet nikal jaate hain kvaalitee bhee nikal jaata hai use sodiyam kloraid kahate hain yah bhee sab nikal jaate hain lekin jo ki ham log jo delee dait mein apane khaate hain mandir saalt yah sab us sait ko menten karate hain to iseelie kaha jaata hai ki dillee apane khaane mein harshollaas ke minarals aur yah phal vagaira khaane chaahie taaki usamen pooree dait menten hote rahe ankhiyon se kaaphee bhaag usaka jo hai yoorin aur paseene ke maadhyam se vah baahar nikal jaata hai aur paseena ganna nikale to shareer ka temparechar ekadam badhata chala jaega yah bhakta chala jaega agar shareer ke taap kam ho gaee to phir aadamee jo haard kee chaal aapakee hogee band ho jaegee isalie paseena nikalane ke praakrtik prakriya hai jo bilkul eeshvaree hai jisamen ki agar kisee bhee prakaar kee koee baadha padatee hai to usake komplikeshans taiyaar ho jaate hain

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
0:31
f&c मोदी कमल का साल पहले चली इनका सवाल लिखते हैं सवाल है कि हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता खराब पानी वह मैं शरीर से बाहर निकल जाता है जिससे कि हमें शरीर हमारा स्वस्थ रहता पसीना निकलना भी स्वास्थ्य के लिए जरूरत है बदुआ लप्पा न्यू खराब होता बदल बाल निकल जाता है और कोई हमें प्रॉब्लम भी नहीं होती है ठीक है तो तुम तो पसीना निकलना भी हमारे शरीर से बहुत जरूरी होता है तुमको ठीक है
F\\u0026ch modee kamal ka saal pahale chalee inaka savaal likhate hain savaal hai ki hamen paseena kyon nikalata hai hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak hota kharaab paanee vah main shareer se baahar nikal jaata hai jisase ki hamen shareer hamaara svasth rahata paseena nikalana bhee svaasthy ke lie jaroorat hai badua lappa nyoo kharaab hota badal baal nikal jaata hai aur koee hamen problam bhee nahin hotee hai theek hai to tum to paseena nikalana bhee hamaare shareer se bahut jarooree hota hai tumako theek hai

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
RAM NIWASH AWASTHI Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAM जी का जवाब
विद्यार्थी
1:21
जैसा कि आप का सवाल है हमे पसीना क्यों आते निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है देखिए गर्मियों में एक आम समस्या जो लोगों को परेशान करता है पसीने के कारण शरीर की गंध कुछ लोगों को अत्यधिक मात्रा में पसीना आता है वही जबकि कुछ लोगों को पसीना कम आता है लेकिन सभी को पसीने से चुनौती है क्योंकि उन्हें लगता है कि यह किसी भी तरह से अच्छा नहीं है लेकिन पसीना सेहत के लिए काफी फायदेमंद है जब पसीना आता है शरीर गुड हार्मोन एंड और चीन का स्राव करता है पसीना शरीर से इन रसायनों को खत्म करता है ताकि स्वास्थ्य जोखिम कम हो सके जब पसीना आता है तब त्वचा के रोम छिद्र खुल जाते हैं जिससे शरीर से सारी गंदगी और बैक्टीरिया बाहर निकल आते हैं इसीलिए आपके चेहरे को भी साफ करने में मदद करता है यदि गर्मी के समय या किसी कठोर व्यायाम के दौरान भी पसीना ना आए तो डॉक्टर को दिखाना जरूरी हो जाता है जवाब सुनने के लिए धन्यवाद
Jaisa ki aap ka savaal hai hame paseena kyon aate nikalata hai hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak kyon hai dekhie garmiyon mein ek aam samasya jo logon ko pareshaan karata hai paseene ke kaaran shareer kee gandh kuchh logon ko atyadhik maatra mein paseena aata hai vahee jabaki kuchh logon ko paseena kam aata hai lekin sabhee ko paseene se chunautee hai kyonki unhen lagata hai ki yah kisee bhee tarah se achchha nahin hai lekin paseena sehat ke lie kaaphee phaayademand hai jab paseena aata hai shareer gud haarmon end aur cheen ka sraav karata hai paseena shareer se in rasaayanon ko khatm karata hai taaki svaasthy jokhim kam ho sake jab paseena aata hai tab tvacha ke rom chhidr khul jaate hain jisase shareer se saaree gandagee aur baikteeriya baahar nikal aate hain iseelie aapake chehare ko bhee saaph karane mein madad karata hai yadi garmee ke samay ya kisee kathor vyaayaam ke dauraan bhee paseena na aae to doktar ko dikhaana jarooree ho jaata hai javaab sunane ke lie dhanyavaad

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
मोहित कुमार Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए मोहित जी का जवाब
बिजनेस
0:44
दोस्तों सवाल है हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे शौच के लिए लाभदायक है तो दोस्तों हमारे स्वास्थ्य के लिए पसीना निकलना बहुत ही लाभदायक होता है जो लोग मेहनत और परिश्रम करते हैं उन लोगों के ज्यादातर पसीना निकलता है क्यों लोग ऐसी हवा पंखे में रहते हैं वह पसीना बिल्कुल ही निकलता और पसीना निकलना भी स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होता है जिससे स्वास्थ्य की चर्बी बढ़ जाएगी आप मोटे होने लगेंगे जिससे की बीमारियां भी बढ़ जाएंगे दोस्तों पसीना निकलना लाभदायक होता है धन्यवाद
Doston savaal hai hamen paseena kyon nikalata hai hamaare shauch ke lie laabhadaayak hai to doston hamaare svaasthy ke lie paseena nikalana bahut hee laabhadaayak hota hai jo log mehanat aur parishram karate hain un logon ke jyaadaatar paseena nikalata hai kyon log aisee hava pankhe mein rahate hain vah paseena bilkul hee nikalata aur paseena nikalana bhee svaasthy ke lie bahut haanikaarak hota hai jisase svaasthy kee charbee badh jaegee aap mote hone lagenge jisase kee beemaariyaan bhee badh jaenge doston paseena nikalana laabhadaayak hota hai dhanyavaad

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
2:15
सवाल 11 में पसीना क्यों निकलता है और हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है पसीना मुख्य रूप से पानी की छोटी-छोटी बूंदे हैं जिसमें कई तरह की केमिकल जैसे अमोनिया से यूरिया नमक और चीनी मौजूद रहता है आम तौर पर हमें पसीना तो निकलता है तो हमको ही मेहनत वाला काम करते हैं एक्सरसाइज करते हैं हमें बुखार हो या फिर हम दरिया बेचैनी महसूस हो रही हो हम जब हमारा शरीर गर्म हो जाता है तो शरीर से पसीना निकलता यह शरीर का तरीका है खुद को ठंडा रखने का दरअसल जब अंदर से शरीर का तापमान बढ़ने लगता है तो पसीनो की गलतियां पानी रिलीज करती है तो त्वचा की सतह पर आता है जैसे ही है पसीना वापस होकर उड़ता है आपकी त्वचा त्वचा के नीचे मौजूद खून दोनों ठंडे हो जाते हैं पसीना निकलने के बहुत से फायदे हैं जैसे शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है पसीना हमारे शरीर से पसीना निकलने की सबसे अहम वजह यही है कि पति ने शरीर के अपन को रेगुलेट यानी नियंत्रित करने में मदद करता है ऐसा होना बेहद जरूरी है क्योंकि इससे शरीर में गीत शो के समस्या नहीं होती एक्सरसाइज के दौरान पसीना निकलने की बहुत-बहुत जैसे जब भी कोई व्यक्ति एक्सरसाइज करता है तो उसके शरीर गर्म हो जाता वह हृदय की धड़कन बढ़ जाती है हम दोनों ही परिस्थितियों की वजह से पसीना आने लगता है और जैसे ही है पसीना वास्ते तू कर उठ जाता है शरीर ठंडा हो जाता है एक्सरसाइज वर्कआउट के बाद पसीना आना इससे भी अच्छा है क्योंकि इससे आपके शरीर को गौर हिट होने से बच जाता है और आप बेहोश नहीं होते अच्छे एक्सरसाइज के दौरान पसीना निकल चुकी है स्वास्थ्य भोजन बनाने आता है मूड बेहतर होता है और अच्छी नींद आती है बीमारी में भी पसीना आने की बहुत से फायदे हैं जैसे जब कोई बीमार होता है खासकर जब बुखार होता तब भी पसीना निकलता है इसको संबंधित शरीर के तापमान से यह पसीना निकलने पर शरीर का तापमान नियंत्रित होता है जिससे बुखार जल्दी ठीक हो जाता है पसीना निकलने का मतलब है कि ब्रिटानिया बैटरी जिन्होंने आपको बीमार बनाया था यह पसीने खिचड़ी शरीर से बाहर निकल जाते हैं अगर बुखार होने पर पसीना निकलने लगे तो बुखार के बहुत ज्यादा बढ़ने की आशंका कम हो जाती है काम करने में मदद करता है पसीना केमिकल सुधारों को बाहर निकालता है पसीना
Savaal 11 mein paseena kyon nikalata hai aur hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak kyon hai paseena mukhy roop se paanee kee chhotee-chhotee boonde hain jisamen kaee tarah kee kemikal jaise amoniya se yooriya namak aur cheenee maujood rahata hai aam taur par hamen paseena to nikalata hai to hamako hee mehanat vaala kaam karate hain eksarasaij karate hain hamen bukhaar ho ya phir ham dariya bechainee mahasoos ho rahee ho ham jab hamaara shareer garm ho jaata hai to shareer se paseena nikalata yah shareer ka tareeka hai khud ko thanda rakhane ka darasal jab andar se shareer ka taapamaan badhane lagata hai to paseeno kee galatiyaan paanee rileej karatee hai to tvacha kee satah par aata hai jaise hee hai paseena vaapas hokar udata hai aapakee tvacha tvacha ke neeche maujood khoon donon thande ho jaate hain paseena nikalane ke bahut se phaayade hain jaise shareer ke taapamaan ko niyantrit karata hai paseena hamaare shareer se paseena nikalane kee sabase aham vajah yahee hai ki pati ne shareer ke apan ko regulet yaanee niyantrit karane mein madad karata hai aisa hona behad jarooree hai kyonki isase shareer mein geet sho ke samasya nahin hotee eksarasaij ke dauraan paseena nikalane kee bahut-bahut jaise jab bhee koee vyakti eksarasaij karata hai to usake shareer garm ho jaata vah hrday kee dhadakan badh jaatee hai ham donon hee paristhitiyon kee vajah se paseena aane lagata hai aur jaise hee hai paseena vaaste too kar uth jaata hai shareer thanda ho jaata hai eksarasaij varkaut ke baad paseena aana isase bhee achchha hai kyonki isase aapake shareer ko gaur hit hone se bach jaata hai aur aap behosh nahin hote achchhe eksarasaij ke dauraan paseena nikal chukee hai svaasthy bhojan banaane aata hai mood behatar hota hai aur achchhee neend aatee hai beemaaree mein bhee paseena aane kee bahut se phaayade hain jaise jab koee beemaar hota hai khaasakar jab bukhaar hota tab bhee paseena nikalata hai isako sambandhit shareer ke taapamaan se yah paseena nikalane par shareer ka taapamaan niyantrit hota hai jisase bukhaar jaldee theek ho jaata hai paseena nikalane ka matalab hai ki britaaniya baitaree jinhonne aapako beemaar banaaya tha yah paseene khichadee shareer se baahar nikal jaate hain agar bukhaar hone par paseena nikalane lage to bukhaar ke bahut jyaada badhane kee aashanka kam ho jaatee hai kaam karane mein madad karata hai paseena kemikal sudhaaron ko baahar nikaalata hai paseena

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:24
हेलो एवरीवन तो आज आप का सवाल है कि हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है तो देखिए आपने देखा होगा कि बाहर जो पौधे पेड़ पौधे होते उसके पत्ते में भी पानी मतलब रहता है सुबह के समय आपने देखा होगा नॉर्मल भी आप देखेंगे कि अगला रहता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जो पत्ते हैं उसमें भी छोटे छोटे गोल और कोर्स टाइप का होता है तो जब हम ज्यादा पानी डाल देते हैं तो वह इतना ज्यादा पानी में तो सरवाइव नहीं कर पाता तो ट्रांस्पिरेशन के थ्रू वह पानी निकल जाता है पत्ते में जो छोटे-छोटे फूल हो तो उसके तू निकल जाता जो ज्यादा पानी हो गया उसका निकल जाता है वैसे हमारे शरीर में भी छोटे-छोटे पोस्ट बनाएंगे हम तो सर में तेल लगाते हैं तो कैसे अब जब करता वह छोटे-छोटे जो है उसके वजह से हमारे शरीर में एक्सेस वाटर हो जाता है या फिर हम मतलब ऐसे में धूप में कहीं जाते हैं तो जो वाटर होता है वह उस पोस्ट के थ्रू निकल जाता है जिसे हम पसीना कहते हैं तो यह जरूरी होता है कि आपके शरीर में कोई भी एक से स्वेटर नहीं है अच्छे से प्रोसेस अच्छे से सारे काम हो रहे हैं आपके शरीर में दंगे अच्छी बात है लेकिन पसीना को ज्यादा देर तक शरीर में नहीं रखना चाहिए जब भी अगर गर्मी पसीना हो तो तुरंत आपको फ्रेश होना चाहिए क्योंकि उस पसीना में बहुत बहुत ज्यादा मतलब बाप का जन्म होता है तो उसे शरीर में इतने दिन देर तक रखना इचिंग खुजली से इन्फेक्शन एलर्जी हो सके
Helo evareevan to aaj aap ka savaal hai ki hamen paseena kyon nikalata hai hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak kyon hai to dekhie aapane dekha hoga ki baahar jo paudhe ped paudhe hote usake patte mein bhee paanee matalab rahata hai subah ke samay aapane dekha hoga normal bhee aap dekhenge ki agala rahata hai aisa isalie hota hai kyonki jo patte hain usamen bhee chhote chhote gol aur kors taip ka hota hai to jab ham jyaada paanee daal dete hain to vah itana jyaada paanee mein to saravaiv nahin kar paata to traanspireshan ke throo vah paanee nikal jaata hai patte mein jo chhote-chhote phool ho to usake too nikal jaata jo jyaada paanee ho gaya usaka nikal jaata hai vaise hamaare shareer mein bhee chhote-chhote post banaenge ham to sar mein tel lagaate hain to kaise ab jab karata vah chhote-chhote jo hai usake vajah se hamaare shareer mein ekses vaatar ho jaata hai ya phir ham matalab aise mein dhoop mein kaheen jaate hain to jo vaatar hota hai vah us post ke throo nikal jaata hai jise ham paseena kahate hain to yah jarooree hota hai ki aapake shareer mein koee bhee ek se svetar nahin hai achchhe se proses achchhe se saare kaam ho rahe hain aapake shareer mein dange achchhee baat hai lekin paseena ko jyaada der tak shareer mein nahin rakhana chaahie jab bhee agar garmee paseena ho to turant aapako phresh hona chaahie kyonki us paseena mein bahut bahut jyaada matalab baap ka janm hota hai to use shareer mein itane din der tak rakhana iching khujalee se inphekshan elarjee ho sake

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
डॉ0 सीता शुक्ला Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए डॉ0 जी का जवाब
Unknown
2:59
कार मित्र आसपास रहिए और प्रसन्न रहिए मित्र आपका प्रश्न है हमे पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है तो मित्र ना तो अधिकांश यह सभी लोगों के निकलता है और जो इसके विषय में जानकारी भी होना बहुत आवश्यक है बहुत अच्छा प्रश्न किया है आपने मित्र बहुत-बहुत धन्यवाद आपको ओके जब हम बहुत ही ज्यादा खेलते कूदते दौड़ते और कोई भी बहुत ज्यादा वर्कआउट करते हैं कसरत करते हैं तो हम बहुत अधिक पसीना निकलने लगता है और इससे क्या होता है जिसमें हमारी ऊर्जा बहुत अधिक खर्च होते हो जाती है या कभी बहुत अधिक है घबराहट होती है बेचैनी होती है तब भी बहुत अधिक पसीना आने लगता है और हमारे शरीर में शरीर 30 से 40 लाख पसीना छोड़ने वाली जो स्वेद ग्रंथियां होती है मैं तो यह सोचा के नीचे रहने वाली बहुत ही भारी नलिया जैसी होती हैं जो शरीर के तापमान को नियंत्रित करने का कार्य करती हैं यह स्वेद ग्रंथियां अलग-अलग अंगों में अलग-अलग तरह से यह पाई जाती हैं जैसे जब हम बहुत अधिक वर्कआउट करते हैं बबलू हाथ में पसीना आने लगता है यह अपोक्राइन ब्लेंड ग्रंथि होती है और इस ग्रंथ से आने वाले शरीर में ऐड एनलाइन हारमोंस रिलीज होने पर यह पसीना बनता है और शरीर में सबसे अधिक स्वेद ग्रंथि जो होती है वह एक क्रेन ब्लड होती है यह ग्रंथि हथेलियां तलवा और माथे में होती है इस ग्रंथि से निकला हुआ जो पसीना होता है वह गंदे रहे थे और यह तापमान को सबसे अधिक नियंत्रित करने में सहायक होती है यह ग्रंथि हाइपोथैलेमस के द्वारा यह नियंत्रित होती है और चेहरे और सिर पर जो ग्रंथि और स्वेद ग्रंथि होती है उसे सब एसीएस ब्लेंडर कहते हैं यह जो है यह पसीना होता है वह से थोड़ी होता है और यह भी कंधे हीन होता है हमारे शरीर में पसीना ना बहुत अधिक आना चाहिए और हिना बहुत काम आना चाहिए यह दोनों ही बहुत ही चिंताजनक का कारण होता है और मैं तुझे पसीना मेरे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है क्योंकि हमारे शरीर में कहीं कार्बनिक रसायन मौजूद होते हैं जो स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं और पसीना जो इसको समाप्त कर देता है और पसीना से हमारी त्वचा की जो होते हैं वह रोम छिद्र खुल जाते हैं जिससे शरीर से वाली पूरी गंदगी और व्यक्ति रियली सब बाहर निकल जाते हैं और यह शरीर को ठंडा रखने में भी मौत मदद करता है लेकिन जब यह और सोता क्या कि हमारी इम्यूनिटी को भी बहुत बड़ा आता है और नींद भी अच्छी आती है और मन भी बहुत पसंद होता है तो चाबी बहुत सुंदर लगने लगती है और बहुत अधिक पसीना होता है वह हार्मोन असंतुलन के कारण हो सकता है इसलिए बहुत अधिक पसीना आने लगता है
Kaar mitr aasapaas rahie aur prasann rahie mitr aapaka prashn hai hame paseena kyon nikalata hai hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak kyon hai to mitr na to adhikaansh yah sabhee logon ke nikalata hai aur jo isake vishay mein jaanakaaree bhee hona bahut aavashyak hai bahut achchha prashn kiya hai aapane mitr bahut-bahut dhanyavaad aapako oke jab ham bahut hee jyaada khelate koodate daudate aur koee bhee bahut jyaada varkaut karate hain kasarat karate hain to ham bahut adhik paseena nikalane lagata hai aur isase kya hota hai jisamen hamaaree oorja bahut adhik kharch hote ho jaatee hai ya kabhee bahut adhik hai ghabaraahat hotee hai bechainee hotee hai tab bhee bahut adhik paseena aane lagata hai aur hamaare shareer mein shareer 30 se 40 laakh paseena chhodane vaalee jo sved granthiyaan hotee hai main to yah socha ke neeche rahane vaalee bahut hee bhaaree naliya jaisee hotee hain jo shareer ke taapamaan ko niyantrit karane ka kaary karatee hain yah sved granthiyaan alag-alag angon mein alag-alag tarah se yah paee jaatee hain jaise jab ham bahut adhik varkaut karate hain babaloo haath mein paseena aane lagata hai yah apokrain blend granthi hotee hai aur is granth se aane vaale shareer mein aid enalain haaramons rileej hone par yah paseena banata hai aur shareer mein sabase adhik sved granthi jo hotee hai vah ek kren blad hotee hai yah granthi hatheliyaan talava aur maathe mein hotee hai is granthi se nikala hua jo paseena hota hai vah gande rahe the aur yah taapamaan ko sabase adhik niyantrit karane mein sahaayak hotee hai yah granthi haipothailemas ke dvaara yah niyantrit hotee hai aur chehare aur sir par jo granthi aur sved granthi hotee hai use sab eseees blendar kahate hain yah jo hai yah paseena hota hai vah se thodee hota hai aur yah bhee kandhe heen hota hai hamaare shareer mein paseena na bahut adhik aana chaahie aur hina bahut kaam aana chaahie yah donon hee bahut hee chintaajanak ka kaaran hota hai aur main tujhe paseena mere svaasthy ke lie bahut laabhadaayak hota hai kyonki hamaare shareer mein kaheen kaarbanik rasaayan maujood hote hain jo svaasthy ko prabhaavit karate hain aur paseena jo isako samaapt kar deta hai aur paseena se hamaaree tvacha kee jo hote hain vah rom chhidr khul jaate hain jisase shareer se vaalee pooree gandagee aur vyakti riyalee sab baahar nikal jaate hain aur yah shareer ko thanda rakhane mein bhee maut madad karata hai lekin jab yah aur sota kya ki hamaaree imyoonitee ko bhee bahut bada aata hai aur neend bhee achchhee aatee hai aur man bhee bahut pasand hota hai to chaabee bahut sundar lagane lagatee hai aur bahut adhik paseena hota hai vah haarmon asantulan ke kaaran ho sakata hai isalie bahut adhik paseena aane lagata hai

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
Sanjay Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sanjay जी का जवाब
Unknown
0:47
पसीना क्यों निकलता है हमारे शरीर के लिए लाभदायक क्यों है पसीना निकल हमारे शरीर के लायक इसलिए होता है क्योंकि वह पसीना होता है पसीना एक रखा पानी होता है वह पानी में क्या होता सॉल्ट होता है और इसके अलावा जो हमारे शरीर की अपशिष्ट पदार्थ होते हैं वह रिसाव के रूप में पसीने के रूप में ही निकलते हैं तो जब रे पसीना हमारे शरीर से निकल जाता है तो हमें थोड़ा ठंडा हवा लगे तो काफी अच्छा महसूस होता है और साथ में ज्योतिष पदार्थ होते हैं वह उसने गैस भी थोड़ी बहुत शामिल होती है तो गैर भी निकल जाती है इस तरह से हमारे जो शरीर का पाचन किस लिए होती वह भी ठीक-ठाक चलती रहती है और पसीना निकल जाता है आपसे पदार्थ निकल जाते हैं इस तरह से यह हमारे शरीर के लिए स्वास्थ के लिए लाभदायक है अगर पसीना ना निकले पसीने के रूप में अपशिष्ट पदार्थ ना निकले तो वही चीजें हमारे लिए आगे चलकर खा लिया जा कष्टकारी हो जाती हो
Paseena kyon nikalata hai hamaare shareer ke lie laabhadaayak kyon hai paseena nikal hamaare shareer ke laayak isalie hota hai kyonki vah paseena hota hai paseena ek rakha paanee hota hai vah paanee mein kya hota solt hota hai aur isake alaava jo hamaare shareer kee apashisht padaarth hote hain vah risaav ke roop mein paseene ke roop mein hee nikalate hain to jab re paseena hamaare shareer se nikal jaata hai to hamen thoda thanda hava lage to kaaphee achchha mahasoos hota hai aur saath mein jyotish padaarth hote hain vah usane gais bhee thodee bahut shaamil hotee hai to gair bhee nikal jaatee hai is tarah se hamaare jo shareer ka paachan kis lie hotee vah bhee theek-thaak chalatee rahatee hai aur paseena nikal jaata hai aapase padaarth nikal jaate hain is tarah se yah hamaare shareer ke lie svaasth ke lie laabhadaayak hai agar paseena na nikale paseene ke roop mein apashisht padaarth na nikale to vahee cheejen hamaare lie aage chalakar kha liya ja kashtakaaree ho jaatee ho

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:27
भ्रष्ट है हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है दिखे फ्रेंड क्या होता है कि पसीना क्यों निकलता है पसीना निकलने का यही कारण है कि हमारे शरीर में बहुत सारे चित्र हैं और इस चित्र को खोलने के लिए क्या होता है यह पसीना होता है अगर पसीना खोला ना जा छिद्रों कर ना खुले तो पसीना नहीं होगा और हमें क्या होता है कि अंदर जो खराब चीजों की ओके होती होगी कि हमारी त्वचा को चढ़ाने का काम करेगी तो इसी वजह से इसी संडे को बचाने के लिए हमारे शरीर की गंदगी को बाहर निकालने के लिए पसीना होता है यह क्या होता है कि हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक होता है क्योंकि त्वचा के रोम छिद्र होते हैं वह खुल जाते हैं और शरीर की सारी जो गंदगी होती है और बैक्टीरिया बाहर निकल जाते हैं इसलिए यह हमारे शरीर या चेहरे को साफ करने में मदद करता है और क्या होता वर्कआउट करने के बाद हम एक क्यों थे जैंटल क्लीनर से हमें एक क्लीनर से हम अपने चेहरों को भी धोना चाहिए और वह सके तो आप अपने शरीर को एक अच्छी साबुन से धो लीजिए जी से क्या होता है कि वह शराब उसकी जो छिद्र होते हैं वह पूरी तरह खुल जाएंगे आज अब खुल जाएंगे तो क्या होगा कि हमारे शरीर में जो भी कुछ खराब चीजों की वह पसीने के द्वारा बाहर निकल जाएगी
Bhrasht hai hamen paseena kyon nikalata hai hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak kyon hai dikhe phrend kya hota hai ki paseena kyon nikalata hai paseena nikalane ka yahee kaaran hai ki hamaare shareer mein bahut saare chitr hain aur is chitr ko kholane ke lie kya hota hai yah paseena hota hai agar paseena khola na ja chhidron kar na khule to paseena nahin hoga aur hamen kya hota hai ki andar jo kharaab cheejon kee oke hotee hogee ki hamaaree tvacha ko chadhaane ka kaam karegee to isee vajah se isee sande ko bachaane ke lie hamaare shareer kee gandagee ko baahar nikaalane ke lie paseena hota hai yah kya hota hai ki hamaare shareer ke lie bahut laabhadaayak hota hai kyonki tvacha ke rom chhidr hote hain vah khul jaate hain aur shareer kee saaree jo gandagee hotee hai aur baikteeriya baahar nikal jaate hain isalie yah hamaare shareer ya chehare ko saaph karane mein madad karata hai aur kya hota varkaut karane ke baad ham ek kyon the jaintal kleenar se hamen ek kleenar se ham apane cheharon ko bhee dhona chaahie aur vah sake to aap apane shareer ko ek achchhee saabun se dho leejie jee se kya hota hai ki vah sharaab usakee jo chhidr hote hain vah pooree tarah khul jaenge aaj ab khul jaenge to kya hoga ki hamaare shareer mein jo bhee kuchh kharaab cheejon kee vah paseene ke dvaara baahar nikal jaegee

bolkar speaker
हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है?Hume Paseena Kyun Nikalta Hai Humare Svasthya Ke Lie Labhdayak Kyun Hai
Rajesh Kumar swami Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajesh जी का जवाब
Student
0:48
अमर सिंह का पसीना निकलता है वह मार्च स्वास्थ्य की लादे होता है कि जो बीमारी होती तो वायरस होते हैं यादों को और कुछ कौन होते हो हमारे शरीर से पसीने के द्वारा ही बाहर निकलते हैं तो उसे हमारे स्वस्थ रहता है दूसरी वजह से बारी-बारी उनका दिमाग बजे रखा है उसका साथ हम काम करेंगे आपस में धर्मेंद्र काम के पसीने से निकलेगा तो हमारी 4 साल का होगा और दिमाग भी साफ सुथरा रहेगा मनीषा पत्रिका क्या यह कर लेते यह गलती से कोई काम कर रहा है या उसे घर बैठा है तो उसका मन करता रह गया कि हां यह सही है सही है और उसका डिप्रेशन दिमाग चला जाता है तो वह भी सही हो जाता है उसका दो अमर सीजर से बच्चा निकलता है उसके अंदर वायरस ऐसे बहुत सारे हम कौन होते हैं उसी से बाहर निकल आते हैं तो इस वजह से हमारे शरीर के लिए पसीना निकलना स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा लाइक
Amar sinh ka paseena nikalata hai vah maarch svaasthy kee laade hota hai ki jo beemaaree hotee to vaayaras hote hain yaadon ko aur kuchh kaun hote ho hamaare shareer se paseene ke dvaara hee baahar nikalate hain to use hamaare svasth rahata hai doosaree vajah se baaree-baaree unaka dimaag baje rakha hai usaka saath ham kaam karenge aapas mein dharmendr kaam ke paseene se nikalega to hamaaree 4 saal ka hoga aur dimaag bhee saaph suthara rahega maneesha patrika kya yah kar lete yah galatee se koee kaam kar raha hai ya use ghar baitha hai to usaka man karata rah gaya ki haan yah sahee hai sahee hai aur usaka dipreshan dimaag chala jaata hai to vah bhee sahee ho jaata hai usaka do amar seejar se bachcha nikalata hai usake andar vaayaras aise bahut saare ham kaun hote hain usee se baahar nikal aate hain to is vajah se hamaare shareer ke lie paseena nikalana svaasthy ke lie bahut jyaada laik

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • हमें पसीना क्यों निकलता है हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक क्यों है हमें पसीना क्यों निकलता है
URL copied to clipboard