#undefined

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:13
तो आज आप का सवाल है कि क्या एड्स रोगी का सेविंग करने का दरिया रे जरिए एड्स फैलाने में सहायक हो सकता है जी हां बिल्कुल हमें जो पढ़ाया गया था लालू जी में आएगी किन-किन चीजों की वजह से मतलब एड्स फैलता है उसमें से क्लियर नहीं था तो क्या होता है कि एचआईवी वायरस की वजह से होता है तो यह वायरस क्या होता है कि बहुत देर तक मतलब एक्लिप्स के माध्यम से बहुत देर तक यह किसी भी प्लेस में सरवाइव कर सकता और जिंदा रह सकता है क्या होगा कि अब किसी को 8:00 से और उसने अगर वह सेम ब्लेड से अगर उसने मतलब शेविंग किया है और उस ब्लड में हद तक हो वायरस चला गया है और उसके बाद वहीं ब्लेड और कोई दूसरा दिखे वालों से तुरंत मर जा रतन कोई प्रॉब्लम नहीं है लेकिन वह बहुत देर तक जिंदा रह सकता है वहीं बुलेट कोई दूसरा इंसान जैसे नहीं हुआ अगर वह करेगा तो उसके शरीर में भी एक तरह से यह वायरस चला ही गया अभी जिंदा है तो मल्टिप्लाई मल्टिप्लाई वायरस हमें पता है कि बहुत ज्यादा मल्टीप्लाई करता है एक्टिव रहता है तो इस तरह से उसके शरीर में भी फैल जाएगा तो इसलिए कभी भी किसी का यूज किया हुआ चीज जैसे कि इंजेक्शन हो गया आपके रहोगे तो यह सब चीज हुआ है या नहीं हुआ यह तो मैं देखे बाद में पता चलता कि आप जिस को जानते नहीं है जैसे मैं ऐसे होटल हॉस्टल कॉलेज में कर लेते किसी को जानते नहीं है यह छोटे-मोटे पैसे के लिए और या फिर लेविंस्की कौन जाकर अभी खरीदेगा तो अच्छा यही होता है कि यह सिलेबी नस नहीं दिखाने के लिए और खुद का अपना सामान रखना चाहिए और किसी का भी यूज किया हुआ चीज जैसे कि यह शब्द अंग्रेजी में बात करें बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए और हॉस्पिटल भी जाना चाहिए तो देखना चाहिए कि आप को इंजेक्शन पड़ रहा है तो वह नया निडिल निकाल रहे हैं यानी वाला पैकेट पढ़ रहे हैं या नहीं यूज किया हुआ तो नहीं फाड़ अगर वह ऐसा कर रहे हैं यूज किया हुआ तो आपको पूरी हक है क्या वहां पर बोल सकते हैं कि आप यह वाला इंजेक्शन नहीं लेंगे तो यह सब चीजों का ध्यान रखें क्योंकि यह छोटी मोटी गलती बड़ी बीमारी का शिकार हम लोग बड़ी बीमारी का शिकार हो जाता तो यह सब चीजों का ध्यान दीजिए
To aaj aap ka savaal hai ki kya eds rogee ka seving karane ka dariya re jarie eds phailaane mein sahaayak ho sakata hai jee haan bilkul hamen jo padhaaya gaya tha laaloo jee mein aaegee kin-kin cheejon kee vajah se matalab eds phailata hai usamen se kliyar nahin tha to kya hota hai ki echaeevee vaayaras kee vajah se hota hai to yah vaayaras kya hota hai ki bahut der tak matalab eklips ke maadhyam se bahut der tak yah kisee bhee ples mein saravaiv kar sakata aur jinda rah sakata hai kya hoga ki ab kisee ko 8:00 se aur usane agar vah sem bled se agar usane matalab sheving kiya hai aur us blad mein had tak ho vaayaras chala gaya hai aur usake baad vaheen bled aur koee doosara dikhe vaalon se turant mar ja ratan koee problam nahin hai lekin vah bahut der tak jinda rah sakata hai vaheen bulet koee doosara insaan jaise nahin hua agar vah karega to usake shareer mein bhee ek tarah se yah vaayaras chala hee gaya abhee jinda hai to maltiplaee maltiplaee vaayaras hamen pata hai ki bahut jyaada malteeplaee karata hai ektiv rahata hai to is tarah se usake shareer mein bhee phail jaega to isalie kabhee bhee kisee ka yooj kiya hua cheej jaise ki injekshan ho gaya aapake rahoge to yah sab cheej hua hai ya nahin hua yah to main dekhe baad mein pata chalata ki aap jis ko jaanate nahin hai jaise main aise hotal hostal kolej mein kar lete kisee ko jaanate nahin hai yah chhote-mote paise ke lie aur ya phir levinskee kaun jaakar abhee khareedega to achchha yahee hota hai ki yah silebee nas nahin dikhaane ke lie aur khud ka apana saamaan rakhana chaahie aur kisee ka bhee yooj kiya hua cheej jaise ki yah shabd angrejee mein baat karen bilkul bhee nahin karana chaahie aur hospital bhee jaana chaahie to dekhana chaahie ki aap ko injekshan pad raha hai to vah naya nidil nikaal rahe hain yaanee vaala paiket padh rahe hain ya nahin yooj kiya hua to nahin phaad agar vah aisa kar rahe hain yooj kiya hua to aapako pooree hak hai kya vahaan par bol sakate hain ki aap yah vaala injekshan nahin lenge to yah sab cheejon ka dhyaan rakhen kyonki yah chhotee motee galatee badee beemaaree ka shikaar ham log badee beemaaree ka shikaar ho jaata to yah sab cheejon ka dhyaan deejie

और जवाब सुनें

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
3:07
क्या एड्स रोगी का सेविंग करने का उत्तर या रेजल भी एड्स फैलाने में सहायक होता है हो सकता है तो जब चेहरे पर जख्म जख्म से खून निकले और वह उस उस तरह रेजर पर लगे और उसी उत्तर या रेजर से दूसरे व्यक्ति ने सेविंग किया और सेंड करते वक्त कहीं ना कहीं छोटा सा खून निकला तो वो संक्रमण हो सकता है वह इंफेक्शन एक दूसरे को हो सकता है मैंने ऐसे एक व्यक्ति को कई साल पहले देखा था वह उसके पत्नी के साथ मर गए दोनों मर गए वह शोरूम में काम करता था बहुत अच्छा है कैरेक्टर था उसका लेकिन क्या मालूम एक दिन उनकी तबीयत डाउन होकर हो गई तबीयत शरीर खराब होता गया और 1 दिन दोनों ही मर गए दिन भी अच्छे चरण के थे दोनों की मृत्यु हो गई उनके बच्चे अब जवान हुए हैं लेकिन मुझे वो याद है और उनके किस पेपर पर एचआईवी पॉजिटिव रेखा भी गया था दोनों भी एचआईवी पॉजिटिव पॉजिटिव पाए गए थे 1 साल उम्र में काम करता था 1000 महीने आपको बताया यह सत्य घटना है और इसके और पूरे देश में हुए जगत में कुछ उदाहरण हो सकते हैं तो निश्चित रूप से एक ही बुरा सब को नहीं लगाना चाहिए अलग-अलग ब्लड लगाते हैं भाई लोग इस खबरदारी को ध्यान में रखते हुए धन्यवाद
Kya eds rogee ka seving karane ka uttar ya rejal bhee eds phailaane mein sahaayak hota hai ho sakata hai to jab chehare par jakhm jakhm se khoon nikale aur vah us us tarah rejar par lage aur usee uttar ya rejar se doosare vyakti ne seving kiya aur send karate vakt kaheen na kaheen chhota sa khoon nikala to vo sankraman ho sakata hai vah imphekshan ek doosare ko ho sakata hai mainne aise ek vyakti ko kaee saal pahale dekha tha vah usake patnee ke saath mar gae donon mar gae vah shoroom mein kaam karata tha bahut achchha hai kairektar tha usaka lekin kya maaloom ek din unakee tabeeyat daun hokar ho gaee tabeeyat shareer kharaab hota gaya aur 1 din donon hee mar gae din bhee achchhe charan ke the donon kee mrtyu ho gaee unake bachche ab javaan hue hain lekin mujhe vo yaad hai aur unake kis pepar par echaeevee pojitiv rekha bhee gaya tha donon bhee echaeevee pojitiv pojitiv pae gae the 1 saal umr mein kaam karata tha 1000 maheene aapako bataaya yah saty ghatana hai aur isake aur poore desh mein hue jagat mein kuchh udaaharan ho sakate hain to nishchit roop se ek hee bura sab ko nahin lagaana chaahie alag-alag blad lagaate hain bhaee log is khabaradaaree ko dhyaan mein rakhate hue dhanyavaad

sanjay kumar pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए sanjay जी का जवाब
Writer, Teacher, motivational youtuber
1:20
गुड इवनिंग सवाल यह है कि क्या एड्स रोगी का सेविंग करने का उत्तर या रेजर भी एड्स फैलाने में सहायक हो सकता है हां यह बिल्कुल हो सकता है क्योंकि अगर कोई ऐड्स रोगी है और उस तरह या रिजर्व कर रहा है और वही उत्तर आया रिजल्ट किसी दूसरे व्यक्ति द्वारा प्रयोग में लाया जाता है और मतलब सूरत चलाया जाता है यह ज्यादा देर तक कीटाणुओं क्योंकि उस पर सरवाइव नहीं करते हैं तो हो जाता है तो वह होता है वह और उसके ब्लड कांटेक्ट में है जो आया रहता घरवालों की प्रक्रिया है उसका कटा और तो उसका जीवाणु उस पर आ जाता है और फिर उसी तरह से अब दूसरे व्यक्ति को बनाया जाता है और उसका भी कट जाता है तो वह तो वह भी उसके अंदर चला जाता है तो यह तो बताया जाता है कि जो है एड्स के रोगी को बिल्कुल या ऐसे भी हमें उसे चेंज करने जिसका ब्लड चेंज करा लेना चाहिए और उस तरह को साफ करा लेना चाहिए डेटोल से सूरत प्रयोग में नहीं लाया जाए किसी का प्रयोग किया हुआ उस तरह है अरे जरूरी होता है थैंक यू
Gud ivaning savaal yah hai ki kya eds rogee ka seving karane ka uttar ya rejar bhee eds phailaane mein sahaayak ho sakata hai haan yah bilkul ho sakata hai kyonki agar koee aids rogee hai aur us tarah ya rijarv kar raha hai aur vahee uttar aaya rijalt kisee doosare vyakti dvaara prayog mein laaya jaata hai aur matalab soorat chalaaya jaata hai yah jyaada der tak keetaanuon kyonki us par saravaiv nahin karate hain to ho jaata hai to vah hota hai vah aur usake blad kaantekt mein hai jo aaya rahata gharavaalon kee prakriya hai usaka kata aur to usaka jeevaanu us par aa jaata hai aur phir usee tarah se ab doosare vyakti ko banaaya jaata hai aur usaka bhee kat jaata hai to vah to vah bhee usake andar chala jaata hai to yah to bataaya jaata hai ki jo hai eds ke rogee ko bilkul ya aise bhee hamen use chenj karane jisaka blad chenj kara lena chaahie aur us tarah ko saaph kara lena chaahie detol se soorat prayog mein nahin laaya jae kisee ka prayog kiya hua us tarah hai are jarooree hota hai thaink yoo

पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:33
देसी एक्स का वीडियो होता है उसका खून में आठ के जीवाणु आ जाती है तो चारों दाढ़ी बनाने से हो या उत्तरा से भी हो उसका कोई भी सामान विश्वास नहीं करना चाहिए जब देश पर सी बीमारी होती है और इस पर सी बीमारी ठोक के द्वारा उनके द्वारा आंख के आंसू के द्वारा स्वास्थ के द्वारा किसी भी तरह से हुआ सकती है तो ऐसा नहीं कि सेक्सुअल एंजॉयमेंट से मतलब फाइल का हो किसी भी परिस्थिति में हो सकता है यहां के डॉक्टर सुई को गर्म करके नहीं लगाते हैं तो उसे भी हो सकता है
Desee eks ka veediyo hota hai usaka khoon mein aath ke jeevaanu aa jaatee hai to chaaron daadhee banaane se ho ya uttara se bhee ho usaka koee bhee saamaan vishvaas nahin karana chaahie jab desh par see beemaaree hotee hai aur is par see beemaaree thok ke dvaara unake dvaara aankh ke aansoo ke dvaara svaasth ke dvaara kisee bhee tarah se hua sakatee hai to aisa nahin ki seksual enjoyament se matalab phail ka ho kisee bhee paristhiti mein ho sakata hai yahaan ke doktar suee ko garm karake nahin lagaate hain to use bhee ho sakata hai

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:33
खाना कंपनी का हिट्स रोगी का शेविंग करने का उत्तर आया रिजर्वेशन आने के सहायक हो सकता है तो आपको बता दें कि नहीं नॉर्मल ही तरह से एड्स नहीं फैलता है लेकिन अगर आप सेम ब्लड यूज कर रहे हैं और अगर उसको कहीं कट लगता है और उसका इंफेक्शन ब्लड पर आता है उसे ब्लेड से आप भी सेव करते हैं और आपके बिना कट लगता है तो उनकी जान से बढ़ जाते हैं इसलिए कोशिश करें कि आप शेविंग ब्लेड रहा था इसलिए अपना चेंज करने में शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Khaana kampanee ka hits rogee ka sheving karane ka uttar aaya rijarveshan aane ke sahaayak ho sakata hai to aapako bata den ki nahin normal hee tarah se eds nahin phailata hai lekin agar aap sem blad yooj kar rahe hain aur agar usako kaheen kat lagata hai aur usaka imphekshan blad par aata hai use bled se aap bhee sev karate hain aur aapake bina kat lagata hai to unakee jaan se badh jaate hain isalie koshish karen ki aap sheving bled raha tha isalie apana chenj karane mein shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

nav kishor aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nav जी का जवाब
Service
1:22
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या एड्स रोगी का शेविंग करने का उस तरह यार इधर भी आज बनाने में सहायक हो सकता है जी हां बिल्कुल हो सकता है क्योंकि देखिए जब भी कोई भी व्यक्ति सेविंग करता है या उसके का इस्तेमाल ए लेजर का इस्तेमाल करता है तो कहीं ना कहीं हल्का-फुल्का उस लेजर पर उस व्यक्ति के चमड़ी के निशान या उसकी गलती से ग्रुप कट जाता तो उसका जो खून होता है ब्लड होता है वह सिर पर आ जाता है और वह एस के कटान उस पर लग जाते हैं तो जैसी वह उस तरह बिना धोए बिना गर्म पानी में वाले हुए और वह किसी दूसरे व्यक्ति को इस्तेमाल करने के लिए दिया जाता है कोई पड़ता है तो तुरंत उस में एड्स के लक्षण प्रकट हो जाते हैं एड्स का मतलब यह नहीं है कि खाली सेक्स करने से ही एड्स नहीं फैलता एस का मतलब है अगर किसी भी इंसान का कोई भी चीज जैसे मान लीजिए कोई खास रहा है उसका जरा सा भी वह भी अगर किसी व्यक्ति के शरीर में टच कर जाएगा या उसके अंदर चला जाएगा तो तुरंत हो जाएगा तो ऐड्स एक बीमारी है और काफी है ताकि करुणा से भी मिलती जुलती है इसलिए जरूरी है क्या आप ऐड से सावधानी रखें अगर कोई एप्स का मरीज है तो उससे थोड़ा दूरी बनाकर रखें उसके साथ ना तो खाए पिए ना ही उसकी किसी वस्तु का कोई इस्तेमाल करें और अपने आप को सुरक्षित रखें अपना ध्यान रखें धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya eds rogee ka sheving karane ka us tarah yaar idhar bhee aaj banaane mein sahaayak ho sakata hai jee haan bilkul ho sakata hai kyonki dekhie jab bhee koee bhee vyakti seving karata hai ya usake ka istemaal e lejar ka istemaal karata hai to kaheen na kaheen halka-phulka us lejar par us vyakti ke chamadee ke nishaan ya usakee galatee se grup kat jaata to usaka jo khoon hota hai blad hota hai vah sir par aa jaata hai aur vah es ke kataan us par lag jaate hain to jaisee vah us tarah bina dhoe bina garm paanee mein vaale hue aur vah kisee doosare vyakti ko istemaal karane ke lie diya jaata hai koee padata hai to turant us mein eds ke lakshan prakat ho jaate hain eds ka matalab yah nahin hai ki khaalee seks karane se hee eds nahin phailata es ka matalab hai agar kisee bhee insaan ka koee bhee cheej jaise maan leejie koee khaas raha hai usaka jara sa bhee vah bhee agar kisee vyakti ke shareer mein tach kar jaega ya usake andar chala jaega to turant ho jaega to aids ek beemaaree hai aur kaaphee hai taaki karuna se bhee milatee julatee hai isalie jarooree hai kya aap aid se saavadhaanee rakhen agar koee eps ka mareej hai to usase thoda dooree banaakar rakhen usake saath na to khae pie na hee usakee kisee vastu ka koee istemaal karen aur apane aap ko surakshit rakhen apana dhyaan rakhen dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या एड्स रोगी का सेविंग करने का उस्तर या रेजर भी एड्स फैलाने में सहायक हो सकता है क्या एड्स रोगी का सेविंग करने का रेजर एड्स फैलाने में सहायक हो सकता है
URL copied to clipboard