#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker

क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?

Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
2:05
नहीं क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है तू बिल्कुल हंड्रेड परसेंट आवश्यक है क्योंकि हम बहुत ऐसी चीजें हैं ऑनलाइन देख सकते हैं उसके अलावा हम उसे लोड करके मैं तो यूट्यूब के माध्यम से जो भी चैनल यूट्यूब पर आप देख सकते हैं यूट्यूब के माध्यम से हम बहुत कुछ अच्छी चीजें हैं डाउनलोड करके वह हमेशा पढ़ सकते हैं बहुत उसने चीजें अच्छी हैं हम पहले क्या करते थे हम खरीदते थे अब ऊपर चीज नहीं कर पाते आज है आपके पास नेट है एंड्रॉयड है आपके पास आपके पास नेट अवेलेबल होगा आप जरूर नहीं डल आते होंगे आप क्या करेंगे उसे डाउनलोड कर लेंगे जैसे डाउनलोड करके आप हमेशा उसे जब तक आपकी जब तक याद नहीं होता तब तक आप देख सकते हैं एक बार 2 बार 10 बार बहुत अच्छी बुक है जो भी आप डाउनलोड कर लेंगे बहुत मिली है बहुत सारे ऐसे हैं कि आपको एसएससी रेलवे इसके अलावा यूपीएससी पुलिस का है अगर एमटीएस का तैयारी करना चाहते हैं या एयरफोर्स की तैयारी करना चाहते हैं सीडीएस की तैयारी करना चाहते तो ऑटोमेटिक आप ऐप के माध्यम से कुछ जानकारियां ऐसी चीजें हैं जो आपको एक जगह मिल जाएगी एक प्लेटफार्म पर मिल जाए उसके अलावा बहुत सारी यूट्यूब पर चैनल के माध्यम से आईएएस पीसीएस से तक की पढ़ाई कर सकते हैं आपको चैनल मिल जाएगा उसके साथ-साथ आपको बहुत सारी कोचिंग है जो आपको वाईफाई इस सीडी के माध्यम से आप कर सकते हैं अनअकैडमी के माध्यम से कर सकते तो ऐसे बहुत से चैनल है जो आजकल मोबाइल पर ही आपको सारे कुछ अवलेबल एक ही प्लेटफार्म पर एक ही समय कर सकते हैं आप एक जगह बैठ के सब कुछ देखते पहले क्या होता था मोबाइल नहीं थी एंड्राइड नहीं था तो हमें क्या करना तो पूछ ही करना पड़ता था कई जगह जाकर मुझे इसकी जीएसटी अलग कोचिंग करनी है मैं इसके अलावा कुछ इंग्लिश किया अलग कोचिंग करनी है रीजनिंग कोचिंग करनी है तो ऐसे क्या होता था वहीं से उसी जिस कोचिंग आप जो आपको कोचिंग पसंद आती होगी वहां से आप डायरेक्ट जुड़ सकते हैं और कुछ पैसे पे कराओ अपने घर पर ही चीजें का आनंद उठा सकते हैं तो इसलिए मोबाइल बहुत बेस्ट है और पढ़ने के लिए तो आपके लिए बहुत ही ज्यादा यूज़फुल है अगर आप सही तरीके से यूज करें तो
Nahin kya aajakal padhaee ke lie mobail aavashyak hai too bilkul handred parasent aavashyak hai kyonki ham bahut aisee cheejen hain onalain dekh sakate hain usake alaava ham use lod karake main to yootyoob ke maadhyam se jo bhee chainal yootyoob par aap dekh sakate hain yootyoob ke maadhyam se ham bahut kuchh achchhee cheejen hain daunalod karake vah hamesha padh sakate hain bahut usane cheejen achchhee hain ham pahale kya karate the ham khareedate the ab oopar cheej nahin kar paate aaj hai aapake paas net hai endroyad hai aapake paas aapake paas net avelebal hoga aap jaroor nahin dal aate honge aap kya karenge use daunalod kar lenge jaise daunalod karake aap hamesha use jab tak aapakee jab tak yaad nahin hota tab tak aap dekh sakate hain ek baar 2 baar 10 baar bahut achchhee buk hai jo bhee aap daunalod kar lenge bahut milee hai bahut saare aise hain ki aapako esesasee relave isake alaava yoopeeesasee pulis ka hai agar emateees ka taiyaaree karana chaahate hain ya eyaraphors kee taiyaaree karana chaahate hain seedeees kee taiyaaree karana chaahate to otometik aap aip ke maadhyam se kuchh jaanakaariyaan aisee cheejen hain jo aapako ek jagah mil jaegee ek pletaphaarm par mil jae usake alaava bahut saaree yootyoob par chainal ke maadhyam se aaeeees peeseees se tak kee padhaee kar sakate hain aapako chainal mil jaega usake saath-saath aapako bahut saaree koching hai jo aapako vaeephaee is seedee ke maadhyam se aap kar sakate hain anakaidamee ke maadhyam se kar sakate to aise bahut se chainal hai jo aajakal mobail par hee aapako saare kuchh avalebal ek hee pletaphaarm par ek hee samay kar sakate hain aap ek jagah baith ke sab kuchh dekhate pahale kya hota tha mobail nahin thee endraid nahin tha to hamen kya karana to poochh hee karana padata tha kaee jagah jaakar mujhe isakee jeeesatee alag koching karanee hai main isake alaava kuchh inglish kiya alag koching karanee hai reejaning koching karanee hai to aise kya hota tha vaheen se usee jis koching aap jo aapako koching pasand aatee hogee vahaan se aap daayarekt jud sakate hain aur kuchh paise pe karao apane ghar par hee cheejen ka aanand utha sakate hain to isalie mobail bahut best hai aur padhane ke lie to aapake lie bahut hee jyaada yoozaphul hai agar aap sahee tareeke se yooj karen to

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Abhishek Shukla ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Abhishek जी का जवाब
Motivational speaker
1:16
क्या जी समय में जो है तो पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है क्या तू देखी हां सही बात है आज के समय में जो है तो काफी सारे स्त्रोत जो है तो पढ़ाई से रिलेटेड जो है तो मोबाइल में अब काफी आसानी से मिल जाते हैं हमने दर्द जगह जो है तो किताबों का सहारा नहीं लेना पड़ता सभी चीजें हैं जो है बिजली मिल जाती है तो काफी बेहतर तरीके से हमारे लिए कारगर साबित हो रहा है जो कि हमारे रोजमर्रा के जीवन में जो है तो कोई भी ज्ञान प्राप्ति के लिए बहुत आवश्यक है तो लेकिन इसके दुष्परिणाम भी है कि आप जो है कि यदि अधिक ज्यादा समय बिताते इसमें आपको शादी चौक पर जो है तो कुछ ना कुछ और मानसिकता तो मानसिक तौर पर भी कुछ ना कुछ दिक्कत है हो सकती है और जो है तो परिवार से भी लोगों की दूरी अपेक्षित पहले के आज के समय में बहुत ज्यादा दूरी बन रही है तो इसे उतना ही इस्तेमाल करें जितना इसका प्रयोग हो बाकी जो भी आपको समझ लगता है कि इसमें कितना समय आपको हिसाब से आप इसे दें और ज्यादा से ज्यादा समय जो है तो अपने बाहरी दुनिया में जो आप पर मिले और मिले हैं तो उससे कम ही रहे और सुना सुना हो सपनों के साथ भी था और गुस्सा दोस्तों गाने
Kya jee samay mein jo hai to padhaee ke lie mobail aavashyak hai kya too dekhee haan sahee baat hai aaj ke samay mein jo hai to kaaphee saare strot jo hai to padhaee se rileted jo hai to mobail mein ab kaaphee aasaanee se mil jaate hain hamane dard jagah jo hai to kitaabon ka sahaara nahin lena padata sabhee cheejen hain jo hai bijalee mil jaatee hai to kaaphee behatar tareeke se hamaare lie kaaragar saabit ho raha hai jo ki hamaare rojamarra ke jeevan mein jo hai to koee bhee gyaan praapti ke lie bahut aavashyak hai to lekin isake dushparinaam bhee hai ki aap jo hai ki yadi adhik jyaada samay bitaate isamen aapako shaadee chauk par jo hai to kuchh na kuchh aur maanasikata to maanasik taur par bhee kuchh na kuchh dikkat hai ho sakatee hai aur jo hai to parivaar se bhee logon kee dooree apekshit pahale ke aaj ke samay mein bahut jyaada dooree ban rahee hai to ise utana hee istemaal karen jitana isaka prayog ho baakee jo bhee aapako samajh lagata hai ki isamen kitana samay aapako hisaab se aap ise den aur jyaada se jyaada samay jo hai to apane baaharee duniya mein jo aap par mile aur mile hain to usase kam hee rahe aur suna suna ho sapanon ke saath bhee tha aur gussa doston gaane

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
0:42
शक है क्या आजकल पढ़ाई कीजिए मोबाइल आवश्यक है तो देखिए बिल्कुल आजकल पढ़ाई के लिए आज ट्रेन चल रहा है सब है यह सब डिजिटल का मूड है तो मैं मोबाइल की जरूरत पड़ती है ऑनलाइन क्लासेस में अभी आपने देखा होगा बोनाकाल चल रहा था तब तक ऑनलाइन ही पढ़ रहे थे तो वह चीज कहां से आई थी और किसी के पास लैपटॉप नहीं है कुछ नहीं है तो एंड्रॉयड फोन होता है कुछ भी होता तो वह क्लास ले सकता है तो मोबाइल के लिए पढ़ाई पढ़ाई के लिए मोबाइल बहुत ज्यादा जरूरी है क्योंकि हर एक छोटी से छोटी चीज होती है अगर में कुछ सर्च करना होता है तो हम जाकर बैठ कर लेते कूची कूची होती तो मोबाइल के जरिए को सेंड करते हैं वहां से मैं उसका आंसर मिल जाता है तो मोबाइल बहुत ज्यादा जरूरी है जवाब पसंद है तो लाइक करें धन्यवाद
Shak hai kya aajakal padhaee keejie mobail aavashyak hai to dekhie bilkul aajakal padhaee ke lie aaj tren chal raha hai sab hai yah sab dijital ka mood hai to main mobail kee jaroorat padatee hai onalain klaases mein abhee aapane dekha hoga bonaakaal chal raha tha tab tak onalain hee padh rahe the to vah cheej kahaan se aaee thee aur kisee ke paas laipatop nahin hai kuchh nahin hai to endroyad phon hota hai kuchh bhee hota to vah klaas le sakata hai to mobail ke lie padhaee padhaee ke lie mobail bahut jyaada jarooree hai kyonki har ek chhotee se chhotee cheej hotee hai agar mein kuchh sarch karana hota hai to ham jaakar baith kar lete koochee koochee hotee to mobail ke jarie ko send karate hain vahaan se main usaka aansar mil jaata hai to mobail bahut jyaada jarooree hai javaab pasand hai to laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:03
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है लेकिन कहीं 2020 में लॉक हो गए और ज्यादा से ज्यादा बच्चों की पढ़ाई हो रहा है मोबाइल के थ्रू हो गई या दूसरे सोर्सेज के थ्रू हो गई तो उसमें आवश्यकता हो गई और हकीकत यही हुआ कि अब मोबाइल की आवश्यकता बच्चों को है और कहीं गए इस कारण से बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित हुई है उनका इंटरेस्ट है पढ़ाई में कम हुआ है दूसरे और साइटों में ज्यादा हुआ है और यह दुर्भाग्यपूर्ण पहलू है कि लेकिन कहते हैं कि स्कूल पूरी तरह से बंद होने के कारण से तो निश्चित तौर पर हमें जरूरत है मोबाइल की और बच्चों को उस मोबाइल का और कहीं ना कहीं स्टूडेंट उसका मोबाइल का इस्तेमाल भी कर रहे हैं अगर ऐसा नहीं करेंगे तो हंड्रेड परसेंट उनका कैरियर सफर कर जाएगा वह पढ़ नहीं पाएंगे और भी बहुत सारी है तो आज के समय में अब देखिए कि बहुत सारे ऐसे ही आ गए हैं दूसरे से सेट आ गए जो कहेंगे हम बच्चों को शेयर कर दिया गया है और बच्चों की आवश्यकता के अनुसार है तो मैं समझता हूं कि जरूरी भी है और आज के समय में बेहतरीन है और बिना से उनकी पढ़ाई का कोई ज्यादा हो नहीं सकता तो निश्चित तौर पर आज के समय को देखते हुए और जिसका से खबर 19 का प्रभाव रहा है स्कूल बंद रहे हैं उसमें तो जरूरत है और आगे चलकर अगर स्कूल खुल जाते हैं तो मैं समझता हूं कि ऐसी कोई ज्यादा जरूरत थी जो तुम नहीं होगी और फिर यह सब ठीक हो जाएगा तो सब सही हो जाएगा
Kya aajakal padhaee ke lie mobail aavashyak hai lekin kaheen 2020 mein lok ho gae aur jyaada se jyaada bachchon kee padhaee ho raha hai mobail ke throo ho gaee ya doosare sorsej ke throo ho gaee to usamen aavashyakata ho gaee aur hakeekat yahee hua ki ab mobail kee aavashyakata bachchon ko hai aur kaheen gae is kaaran se bachchon kee padhaee bhee prabhaavit huee hai unaka intarest hai padhaee mein kam hua hai doosare aur saiton mein jyaada hua hai aur yah durbhaagyapoorn pahaloo hai ki lekin kahate hain ki skool pooree tarah se band hone ke kaaran se to nishchit taur par hamen jaroorat hai mobail kee aur bachchon ko us mobail ka aur kaheen na kaheen stoodent usaka mobail ka istemaal bhee kar rahe hain agar aisa nahin karenge to handred parasent unaka kairiyar saphar kar jaega vah padh nahin paenge aur bhee bahut saaree hai to aaj ke samay mein ab dekhie ki bahut saare aise hee aa gae hain doosare se set aa gae jo kahenge ham bachchon ko sheyar kar diya gaya hai aur bachchon kee aavashyakata ke anusaar hai to main samajhata hoon ki jarooree bhee hai aur aaj ke samay mein behatareen hai aur bina se unakee padhaee ka koee jyaada ho nahin sakata to nishchit taur par aaj ke samay ko dekhate hue aur jisaka se khabar 19 ka prabhaav raha hai skool band rahe hain usamen to jaroorat hai aur aage chalakar agar skool khul jaate hain to main samajhata hoon ki aisee koee jyaada jaroorat thee jo tum nahin hogee aur phir yah sab theek ho jaega to sab sahee ho jaega

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
KamalKishorAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए KamalKishorAwasthi जी का जवाब
घर पर ही रहता हूं बैटरी बनाने का कार्य करता हूं और मोबाइल रिचार्ज इत्यादि
1:30
सवाल है क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है देखिए मोबाइल बहुत ही उपयोगी है बहरहाल उसका पढ़ाई के लिए प्रयोग किया जाए सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए मोबाइल से काफी लाभ है लेकिन उसका दुरुपयोग ना किया जाए देखिए मोबाइल के दो प्रयोग होते हैं पहला अच्छे के लिए जैसे विकिपीडिया प्रेरणा देने वाले ब्लॉग पोस्ट इलेक्ट्रॉनिक बुक्स गणक पढ़ाई से संबंधित जानकारी लेना इत्यादि विषयों को समझने में दिक्कत होती है तो सबसे अच्छा मोबाइल पर कुछ विषय के बारे में पूरी तत्व को पढ़ लीजिए पढ़ने से बहुत अच्छे से समझ में आ जाएगा किसी भी शब्द को अंग्रेजी में ढूंढने के लिए सबसे अच्छा डिक्शनरी इंटरनेट पर उपलब्ध है किसी भी हिंदी वाक्य को किसी भी भाषा में ट्रांसलेट करने के लिए मोबाइल का उपयोग किया जा सकता है दूसरा उपयोग सोशल साइट पर दिनभर लगे रहना गलत वेब साइटों को देखना मोबाइल का असीमित उपयोग पढ़ाई के वक्त मोबाइल पर लगे रहना इत्यादि आजकल विद्यार्थी जरूरत से ज्यादा फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं ऑनलाइन पढ़ाई के कारण पढ़ाई के अलावा फोन इस्तेमाल ना करें तो बेहतर है धन्यवाद
Savaal hai kya aajakal padhaee ke lie mobail aavashyak hai dekhie mobail bahut hee upayogee hai baharahaal usaka padhaee ke lie prayog kiya jae sahee tareeke se istemaal kiya jae mobail se kaaphee laabh hai lekin usaka durupayog na kiya jae dekhie mobail ke do prayog hote hain pahala achchhe ke lie jaise vikipeediya prerana dene vaale blog post ilektronik buks ganak padhaee se sambandhit jaanakaaree lena ityaadi vishayon ko samajhane mein dikkat hotee hai to sabase achchha mobail par kuchh vishay ke baare mein pooree tatv ko padh leejie padhane se bahut achchhe se samajh mein aa jaega kisee bhee shabd ko angrejee mein dhoondhane ke lie sabase achchha dikshanaree intaranet par upalabdh hai kisee bhee hindee vaaky ko kisee bhee bhaasha mein traansalet karane ke lie mobail ka upayog kiya ja sakata hai doosara upayog soshal sait par dinabhar lage rahana galat veb saiton ko dekhana mobail ka aseemit upayog padhaee ke vakt mobail par lage rahana ityaadi aajakal vidyaarthee jaroorat se jyaada phon ka istemaal kar rahe hain onalain padhaee ke kaaran padhaee ke alaava phon istemaal na karen to behatar hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:16
सवाल किया गया है आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल मोबाइल मोबाइल मोबाइल कंपोजिशन
Savaal kiya gaya hai aajakal padhaee ke lie mobail mobail mobail mobail kampojishan

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Vijay shankar pal Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Vijay जी का जवाब
My youtube channel - Tech with vijay
1:09
नमस्कार साथियों सवाल है क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है तो साथियों पहले मोबाइल नहीं थी थी तो क्या लोग नहीं पढ़ पाते थे क्या लोग बड़े अफसर नहीं बनते थे क्या लोग लोगों की पढ़ाई में कमजोर ही रहती थी ऐसी कोई बात नहीं लेकिन आज की पढ़ाई थोड़ा आसान हो गया का मोबाइल है मेरे पास तो हम कोई चीज ब्रेड गली देख सकते हैं पहले ऐसा नहीं हो पाता था सिर्फ हम हमें जो फिगर के माध्यम से बताया जाता था उसी में हम समझ पाते थे और हमें काफी समय लगता था उसको समझने लेकिन आजकल मोबाइल है तो उसे हम आसानी से समझ सकते हैं और उसे प्रिडिकली देख सकते हैं कैसे काम करता है क्या है उसकी पूरा बेवरा हम ले सकते हैं किसी से पहले हमें कॉलेजों में जाकर के टीचर से सवाल करने पड़ते हैं और टीचर उसके सवाल करें नहीं दे पाता था या फिर आप संतुष्ट नहीं हो पाते थे लेकिन आज ऐसा नहीं है आज अगर एक टीचर से नहीं संतुष्ट होते हो तो आप दूसरे को देखे तीसरे को देखिए लेकिन आप अपने सवाल से हमेशा कंफ्यूजन आपका दूर रहेगा यह मोबाइल की खासियत है आई हो कि जवाब पसंद आया होगा
Namaskaar saathiyon savaal hai kya aajakal padhaee ke lie mobail aavashyak hai to saathiyon pahale mobail nahin thee thee to kya log nahin padh paate the kya log bade aphasar nahin banate the kya log logon kee padhaee mein kamajor hee rahatee thee aisee koee baat nahin lekin aaj kee padhaee thoda aasaan ho gaya ka mobail hai mere paas to ham koee cheej bred galee dekh sakate hain pahale aisa nahin ho paata tha sirph ham hamen jo phigar ke maadhyam se bataaya jaata tha usee mein ham samajh paate the aur hamen kaaphee samay lagata tha usako samajhane lekin aajakal mobail hai to use ham aasaanee se samajh sakate hain aur use pridikalee dekh sakate hain kaise kaam karata hai kya hai usakee poora bevara ham le sakate hain kisee se pahale hamen kolejon mein jaakar ke teechar se savaal karane padate hain aur teechar usake savaal karen nahin de paata tha ya phir aap santusht nahin ho paate the lekin aaj aisa nahin hai aaj agar ek teechar se nahin santusht hote ho to aap doosare ko dekhe teesare ko dekhie lekin aap apane savaal se hamesha kamphyoojan aapaka door rahega yah mobail kee khaasiyat hai aaee ho ki javaab pasand aaya hoga

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है तो कहीं जैसी है कि जो ऑनलाइन होती है उसके लिए मोबाइल लिया लैपटॉप या पीसी जरूरी होता है ऑनलाइन कोर्स होते हैं ऑनलाइन लेक्चर सोचते हैं असाइनमेंट होते होते हैं क्वेश्चन आंसर होता है डिस्कशन होता है मीटिंग होती है झूम जैसे एक के ऊपर एक महत्वपूर्ण मोबाइल का शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण बन गए हैं कई सेमिनार सही से होते हैं कि वहां तक हवा में नहीं जा सकते बुद्धू का अंतर होता है लेकिन फिर भी हम जिस में शामिल हो सकते हैं शॉट पुट जट पूरी तरीके से उसको समझ सकते हैं उसमें अपने विचार रखते हैं अपने रिसर्च पेपर्स विवाह पर और सत्य पिक्चर दे सकते हैं और भी आसान भी बहुत है सेकंड में दिल्ली के आदमी सैया अमेरिका के आदमी से जुड़ सकता है ऑनलाइन और उसको देख सकता है उनसे बोल सकता है मगर इसका उपयोग पढ़ाई और ज्ञान वर्धन के लिए करने की कोई किसी की इच्छा है तो यह बहुत बड़ी चीज है जो इंसान के हाथ लगी है ऐसा मैं मानता हूं जैसे हम दुनिया मुट्ठी में ऐसा कहते हैं उस तरीके से मोबाइल मुट्ठी में अगर है तो सब दुनिया मुठ्ठी में इससे कुछ भी परमिशन मिल सकती है सब चीजों का विकिपीडिया पड़ा हुआ है यूट्यूब पर सारे टॉपिक्स ऑनलाइन फॉर्म भरने की सुविधाएं सावित्री की सुविधा यहां पर उपलब्ध हो गई है और अब आने वाला दो क्लास लिस्ट लर्निंग का होने वाला है उस वक्त की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका रखेगा और रखने वाला है सभी बड़े जो इंफ्रास्ट्रक्चर बनाए गए हैं सरकारों द्वारा उसकी कोई जरूरत नहीं रहेगी ऐसे संसाधन व्यक्ति के पास आ जाएगी तो ऐसे संस्थाएं बंद न्यू स्टाइल बंद होगी कोई भी कम से कम इन्वेस्टमेंट करना चाहेगा सरकार भी कम से कम खर्चा करना चाहेगी मणिपुर इंटर सारा मामला होने वाला है और एक प्रतिस्पर्धा बीच में बड़ी भूमिका निभाने वाली है तो मैंने तो मोबाइल का इस तरह किया है कि हर एक सब्जेक्ट में सब्जेक्ट में में लिखा भी रखता हूं कि हर एक नए सब्जेक्ट में घुसता हो और उसके कल तक जाने का प्रयास करता हूं और ऐसा सहज रूप से होता है कोई विवाद टीपीए लिमिटेड जैन के वर्कशॉप में हिस्सा ले रहा हूं और वह भी अंडे अंडे काव्य के क्षेत्र से लेकर साइंस के क्षेत्र मैच में हिस्सा लेता और भी अच्छा लगता है कि मेरा स्वभाव हो जाए उस तरीके से इस तरीके के जैसा बना हुआ है मुझको लेकिन हर एक का ऐसा नहीं होता लेकिन पढ़ाई के लिए मोबाइल मत अच्छा राहुल शिक्षा संबंधी इसके बावजूद हमारे हेल्थ के ऊपर इसके जो परिणाम हो सकते हैं उनको भी ध्यान में रखना जरूरी है और उसके समाज में प्रबोधन होना चाहिए मोबाइल से ही और मोबाइल में भी इसके संबंध में बैठे इंफॉर्मेशन है सलाम है पूरे स्केलेटन और लंबे होते हैं वह भी वहां पर है तो देख कर इसका यूज करने का एक मैनेजमेंट टाइम मैनेजमेंट करना बहुत जल्दी होगा आने वाले दिनों में नहीं तो आंखें आंखों से लेकर दिमाग तक की और कैंसर तक की बीमारी हो सकती है हटके बीमारी हो सकती है
Kya aajakal padhaee ke lie mobail aavashyak hai to kaheen jaisee hai ki jo onalain hotee hai usake lie mobail liya laipatop ya peesee jarooree hota hai onalain kors hote hain onalain lekchar sochate hain asainament hote hote hain kveshchan aansar hota hai diskashan hota hai meeting hotee hai jhoom jaise ek ke oopar ek mahatvapoorn mobail ka shiksha ke kshetr mein mahatvapoorn ban gae hain kaee seminaar sahee se hote hain ki vahaan tak hava mein nahin ja sakate buddhoo ka antar hota hai lekin phir bhee ham jis mein shaamil ho sakate hain shot put jat pooree tareeke se usako samajh sakate hain usamen apane vichaar rakhate hain apane risarch pepars vivaah par aur saty pikchar de sakate hain aur bhee aasaan bhee bahut hai sekand mein dillee ke aadamee saiya amerika ke aadamee se jud sakata hai onalain aur usako dekh sakata hai unase bol sakata hai magar isaka upayog padhaee aur gyaan vardhan ke lie karane kee koee kisee kee ichchha hai to yah bahut badee cheej hai jo insaan ke haath lagee hai aisa main maanata hoon jaise ham duniya mutthee mein aisa kahate hain us tareeke se mobail mutthee mein agar hai to sab duniya muththee mein isase kuchh bhee paramishan mil sakatee hai sab cheejon ka vikipeediya pada hua hai yootyoob par saare topiks onalain phorm bharane kee suvidhaen saavitree kee suvidha yahaan par upalabdh ho gaee hai aur ab aane vaala do klaas list larning ka hone vaala hai us vakt kee bahut mahatvapoorn bhoomika rakhega aur rakhane vaala hai sabhee bade jo imphraastrakchar banae gae hain sarakaaron dvaara usakee koee jaroorat nahin rahegee aise sansaadhan vyakti ke paas aa jaegee to aise sansthaen band nyoo stail band hogee koee bhee kam se kam investament karana chaahega sarakaar bhee kam se kam kharcha karana chaahegee manipur intar saara maamala hone vaala hai aur ek pratispardha beech mein badee bhoomika nibhaane vaalee hai to mainne to mobail ka is tarah kiya hai ki har ek sabjekt mein sabjekt mein mein likha bhee rakhata hoon ki har ek nae sabjekt mein ghusata ho aur usake kal tak jaane ka prayaas karata hoon aur aisa sahaj roop se hota hai koee vivaad teepeee limited jain ke varkashop mein hissa le raha hoon aur vah bhee ande ande kaavy ke kshetr se lekar sains ke kshetr maich mein hissa leta aur bhee achchha lagata hai ki mera svabhaav ho jae us tareeke se is tareeke ke jaisa bana hua hai mujhako lekin har ek ka aisa nahin hota lekin padhaee ke lie mobail mat achchha raahul shiksha sambandhee isake baavajood hamaare helth ke oopar isake jo parinaam ho sakate hain unako bhee dhyaan mein rakhana jarooree hai aur usake samaaj mein prabodhan hona chaahie mobail se hee aur mobail mein bhee isake sambandh mein baithe imphormeshan hai salaam hai poore skeletan aur lambe hote hain vah bhee vahaan par hai to dekh kar isaka yooj karane ka ek mainejament taim mainejament karana bahut jaldee hoga aane vaale dinon mein nahin to aankhen aankhon se lekar dimaag tak kee aur kainsar tak kee beemaaree ho sakatee hai hatake beemaaree ho sakatee hai

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Naayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Naayank जी का जवाब
College
1:52
नमस्कार सोता हूं जो समय होता है वह काफी जल्दी बदलता है उसका कोई ऐसा नहीं है कि इस दिन से समय बदल जाए वह सबको अपनी आदत बदल नहीं पड़ेगी धीरे-धीरे अपना समय बदलता रहता है नई नई चीज से आती रहती है और अगर कोई समय के साथ ना चलता कोई नहीं चलेगा तो समझ के लिए कभी रुकता नहीं वह आगे निकल जाता है वैसी चीज टेक्नोलॉजी में है पहले पढ़ाई में मोबाइल बहुत रेल चिश्ती बहुत कम बाय स्माल किया जाता था क्या पर मेरे जाकर एक दो बार काम कर लिया लेकिन अब मोबाइल का प्रिंट हो गया है आप देखते होंगे कि बच्चों के जो स्कूल के दो ग्रुप होते हैं क्लास क्लास रूम के जो ग्रुप होते हैं उसके लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप बना दिया जाता है कि इंफॉर्मेशन पासवान कर दी जाए इसके अलावा जो यूट्यूब वीडियोस है उस पर भी काफी इंटरेस्टिंग बातें भी होती है और जो चीज उन्हें स्कूल में सिखा जाता है उसको भी काफी अच्छी तरीके से एक आम मैं कहूंगा विजुलाइजेशन काफी अच्छे तरीके से देखा जा सकता है यूट्यूब हो या और भी कई सारे ऑप्शन यहां पर बच्चे बेहतर तरीके से विजुलाइज करके कोई नया कॉन्सेप्ट समझ सकते हैं इसके अलावा कुछ नई चीज भी जान सकते हैं ऐसे टेट का एक यूट्यूब चैनल है जो काफी नई नई चीज है उसमें नजर आती है काफी अलग-अलग होते हैं तो नई आईडिया से भी अवगत किया जाता है छोटे बच्चों को भी साथ उन्हें इस प्रकार से मदद मिलती है कि उन्हें अब हर बुक्स लेने की जरूरत नहीं होती वो भी अवेलेबल होती है पैसा नहीं है क्यों नहीं हम ₹500 हर बुक के अलग-अलग बुक के लेने पड़ेंगे फ्री की चीज में ले सकते हैं नेट पर जो फ्रिली अवेलेबल होती है पीडीएफ उनका भी फायदा उठा सकते हैं
Namaskaar sota hoon jo samay hota hai vah kaaphee jaldee badalata hai usaka koee aisa nahin hai ki is din se samay badal jae vah sabako apanee aadat badal nahin padegee dheere-dheere apana samay badalata rahata hai naee naee cheej se aatee rahatee hai aur agar koee samay ke saath na chalata koee nahin chalega to samajh ke lie kabhee rukata nahin vah aage nikal jaata hai vaisee cheej teknolojee mein hai pahale padhaee mein mobail bahut rel chishtee bahut kam baay smaal kiya jaata tha kya par mere jaakar ek do baar kaam kar liya lekin ab mobail ka print ho gaya hai aap dekhate honge ki bachchon ke jo skool ke do grup hote hain klaas klaas room ke jo grup hote hain usake lie ek vhaatsep grup bana diya jaata hai ki imphormeshan paasavaan kar dee jae isake alaava jo yootyoob veediyos hai us par bhee kaaphee intaresting baaten bhee hotee hai aur jo cheej unhen skool mein sikha jaata hai usako bhee kaaphee achchhee tareeke se ek aam main kahoonga vijulaijeshan kaaphee achchhe tareeke se dekha ja sakata hai yootyoob ho ya aur bhee kaee saare opshan yahaan par bachche behatar tareeke se vijulaij karake koee naya konsept samajh sakate hain isake alaava kuchh naee cheej bhee jaan sakate hain aise tet ka ek yootyoob chainal hai jo kaaphee naee naee cheej hai usamen najar aatee hai kaaphee alag-alag hote hain to naee aaeediya se bhee avagat kiya jaata hai chhote bachchon ko bhee saath unhen is prakaar se madad milatee hai ki unhen ab har buks lene kee jaroorat nahin hotee vo bhee avelebal hotee hai paisa nahin hai kyon nahin ham ₹500 har buk ke alag-alag buk ke lene padenge phree kee cheej mein le sakate hain net par jo phrilee avelebal hotee hai peedeeeph unaka bhee phaayada utha sakate hain

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Mohitrajput Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohitrajput जी का जवाब
Unknown
0:34
पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है ऐसी कौन सी चीज है जो कौन से आते हैं पर मैं भी आता हूं कि आवश्यक नहीं है कि हम कितनी अच्छी पढ़ाई होती थी आज भी वैसे ही होती हैं बस एक कहावत दे दी गई है कि फोन से पढ़ाई कौन से तो बस थोड़े बहुत असाइनमेंट होते हैं जो हम जो वैसे बाहर नहीं मिलते उन्हें ढूंढने के लिए और कुछ कौन से पढ़ाई नहीं होती
Padhaee ke lie mobail aavashyak hai aisee kaun see cheej hai jo kaun se aate hain par main bhee aata hoon ki aavashyak nahin hai ki ham kitanee achchhee padhaee hotee thee aaj bhee vaise hee hotee hain bas ek kahaavat de dee gaee hai ki phon se padhaee kaun se to bas thode bahut asainament hote hain jo ham jo vaise baahar nahin milate unhen dhoondhane ke lie aur kuchh kaun se padhaee nahin hotee

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:39
जैसा कि दोस्तों आपका प्रश्न है क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल हाउस आवश्यक है तो दोस्तों आपके प्रश्न का उत्तर है वर्तमान समय में पुराना काल की वजह से और एक दूसरे से संपर्क नहीं बना पा रहे हैं इनकी वजह से ज्यादातर पढ़ाई लिखाई आजकल मोबाइल के माध्यम से ही होने लग गया है क्योंकि इनसे एक दूसरे का संपर्क नहीं हो पाता है सिर्फ ऑनलाइन के माध्यम से ही एजुकेशन लड़ाई होने लग गई है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Jaisa ki doston aapaka prashn hai kya aajakal padhaee ke lie mobail haus aavashyak hai to doston aapake prashn ka uttar hai vartamaan samay mein puraana kaal kee vajah se aur ek doosare se sampark nahin bana pa rahe hain inakee vajah se jyaadaatar padhaee likhaee aajakal mobail ke maadhyam se hee hone lag gaya hai kyonki inase ek doosare ka sampark nahin ho paata hai sirph onalain ke maadhyam se hee ejukeshan ladaee hone lag gaee hai dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
Deepak Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Deepak जी का जवाब
संस्कृतप्रचारक, संस्कृतभारती जयपुरमहानगर प्रचारप्रमुख और सन्देशप्रमुख
1:58
नमस्कार मित्र आप ने प्रश्न किया है क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है मित्र यह भारत जो है यह आधुनिक भारत है और आपने देखा होगा कि जब अभी कोरोना के कारण पूरे भारत में लोक डाउन था तब सभी पढ़ाई जाए स्कूल लेवल के हो कॉलेज लेवल की हो जो सभी पढ़ाई जो है ऑनलाइन होने लग चुकी थी और ऑनलाइन पढ़ाई होने के कारण अब आपको आवश्यकता तुम मोबाइल की ही पड़ेगी क्योंकि मोबाइल में नेट होगा और उसी से ही हम पढ़ाई कर पाएंगे क्योंकि जैसे अभी कोचिंग से भी बंद थी पहले तो जिन्होंने कोचिंग जो मलक कोचिंग कर रहे थे अब अचानक सुनकर जब कोचिंग बंद हुई तो जो कोचिंग वाले थे उन्होंने उन ऑफलाइन वालों रुको ऑनलाइन में भी कोर्स दिया और उन्हें ऑनलाइन पढ़ाई करवाई थी यह सब किसके कारण हुआ मोबाइल के कारण क्योंकि मोबाइल में इंटरनेट था तभी हम से मोबाइल को यूज ले करके अपनी पढ़ाई कर सके तो इसीलिए आजकल का जो यह समय है इससे यह मान लीजिए कि इसके लिए मोबाइल बिल्कुल ही 1 तरीके से आवश्यक होता जा रहा है आपको पता हो तो हम को जो भी सामान अगर खरीदना है वह हम ऑनलाइन घर बैठे भी खरीद करके मंगवा सकते हैं या फिर आपको लगता है कि अजीत सही नहीं है यह गलत आ गई तो उसे दोस्ती हम वापस भी कर सकते हैं इसलिए आज उस समय मोबाइल की उपयोगिता दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है धन्यवाद
Namaskaar mitr aap ne prashn kiya hai kya aajakal padhaee ke lie mobail aavashyak hai mitr yah bhaarat jo hai yah aadhunik bhaarat hai aur aapane dekha hoga ki jab abhee korona ke kaaran poore bhaarat mein lok daun tha tab sabhee padhaee jae skool leval ke ho kolej leval kee ho jo sabhee padhaee jo hai onalain hone lag chukee thee aur onalain padhaee hone ke kaaran ab aapako aavashyakata tum mobail kee hee padegee kyonki mobail mein net hoga aur usee se hee ham padhaee kar paenge kyonki jaise abhee koching se bhee band thee pahale to jinhonne koching jo malak koching kar rahe the ab achaanak sunakar jab koching band huee to jo koching vaale the unhonne un ophalain vaalon ruko onalain mein bhee kors diya aur unhen onalain padhaee karavaee thee yah sab kisake kaaran hua mobail ke kaaran kyonki mobail mein intaranet tha tabhee ham se mobail ko yooj le karake apanee padhaee kar sake to iseelie aajakal ka jo yah samay hai isase yah maan leejie ki isake lie mobail bilkul hee 1 tareeke se aavashyak hota ja raha hai aapako pata ho to ham ko jo bhee saamaan agar khareedana hai vah ham onalain ghar baithe bhee khareed karake mangava sakate hain ya phir aapako lagata hai ki ajeet sahee nahin hai yah galat aa gaee to use dostee ham vaapas bhee kar sakate hain isalie aaj us samay mobail kee upayogita dinon din badhatee hee ja rahee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है?Kya Aajkal Padhai Ke Lie Mobil3 Aavashyak Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:29
तो आज आप का सवाल है कि क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है या नहीं तो देखिए अगर आप सचमुच पढ़ाई के लिए अगर सोच रहे हैं तन्हा यह बहुत जरूरी है क्योंकि क्या होता है बहुत पर हमें स्कूल से मिला टीचर इतने सारे बच्चों को पढ़ा रहे होते हैं तो इंडिविजुअल 11 को डाउट क्लियर नहीं कर पाते 45 मिनट का पीरियड होता है उसमें से थोड़ा बातचीत होता है डाउट होता है फिर वह कुछ कोर्स बढ़ाते फिर आप मतलब डाउट क्लियर करते हैं तो जरूरी नहीं होता आपको हमेशा रहते संभल जाए और इसका जो भी चीज होता है सारा चीज के बारे में बहुत ही कम डिस्कस किया जाता है क्योंकि उनका टारगेट दलोदा फोर्स गठित करने का फैसला चीजों में ध्यान देना जितना भी आपको ही करना होता है वह खुद को डाउन होता है तो अब आप तो झूठे सुन टीचर अगर ट्यूशन जाते हैं तो वह भी ज्यादा से ज्यादा आपके एनसीआरटी पर ध्यान देते उसके बाद आप वहां पर भी देख सकते लेकिन बहुत बार क्यों थे कि आपकी ट्यूशन जोशी वकील हार्ड हो सकता है लेकिन अगर आप यूट्यूब में देखते मोबाइल से जो भी टीचर जो भी वीडियो या फिर लाइन पर आते ही मैंने जो पढ़ाती हैं उनकी फार्मूला कॉम्प्लिकेटेड तक वजह से समझ आती है उस फार्मूला में समझाते जिस तरह से एनसीआरटी में दिया गया है लेकिन आपको नए-नए फार्मूला मैंने ट्रिक भी पता चलता है कि कैसे जल्दी सॉल्व करना है जो आपको यूट्यूब में बहुत वैरायटी के मिलेंगे तो यह बहुत हेल्पफुल होता है आपको हर एक ईयर के सैंपल पेपर भी मिलता है प्रोबेबल क्वेश्चंस ज्यादा रिपीटेड होते यह भी बताया जाता है कि इस बताया जाता है क्या कितने टाइम में कौन से पैटर्न पहले कंप्लीट करना कौन सा सेक्शन पहले कंप्लीट करना यह भी बताया जाता है तो यह सब चीज जानकर एग्जाम में जाना और फिर एग्जाम में मतलब लिखना क्यों किससे पढ़कर जाना जरूरी इन द टाइम मैनेज करना ट्रिक के साथ जाना सब जरूरी होता है तो यह सब आप अगर फोन से देखना नहीं लेना चाहते तो यह बहुत बहुत ज्यादा आवश्यक है अगर नहीं हो तो कोई भी नहीं रह सकता है यूट्यूब में कितने सारे लोग करते हैं समझ रहे हैं सीख रहे हैं यह तो जा ही रहा है प्लीज कुछ तो जान भी पा रहे हैं क्लासिक हो रहा है तुम हिसाब से ही सच्ची जगह दिखा दे और बच्चे अगर पढ़ाई को लेकर अगर सच में आप उनका इस्तेमाल करें तन जी सच में बहुत बहुत ज्यादा आवश्यक है
To aaj aap ka savaal hai ki kya aajakal padhaee ke lie mobail aavashyak hai ya nahin to dekhie agar aap sachamuch padhaee ke lie agar soch rahe hain tanha yah bahut jarooree hai kyonki kya hota hai bahut par hamen skool se mila teechar itane saare bachchon ko padha rahe hote hain to indivijual 11 ko daut kliyar nahin kar paate 45 minat ka peeriyad hota hai usamen se thoda baatacheet hota hai daut hota hai phir vah kuchh kors badhaate phir aap matalab daut kliyar karate hain to jarooree nahin hota aapako hamesha rahate sambhal jae aur isaka jo bhee cheej hota hai saara cheej ke baare mein bahut hee kam diskas kiya jaata hai kyonki unaka taaraget daloda phors gathit karane ka phaisala cheejon mein dhyaan dena jitana bhee aapako hee karana hota hai vah khud ko daun hota hai to ab aap to jhoothe sun teechar agar tyooshan jaate hain to vah bhee jyaada se jyaada aapake enaseeaaratee par dhyaan dete usake baad aap vahaan par bhee dekh sakate lekin bahut baar kyon the ki aapakee tyooshan joshee vakeel haard ho sakata hai lekin agar aap yootyoob mein dekhate mobail se jo bhee teechar jo bhee veediyo ya phir lain par aate hee mainne jo padhaatee hain unakee phaarmoola kompliketed tak vajah se samajh aatee hai us phaarmoola mein samajhaate jis tarah se enaseeaaratee mein diya gaya hai lekin aapako nae-nae phaarmoola mainne trik bhee pata chalata hai ki kaise jaldee solv karana hai jo aapako yootyoob mein bahut vairaayatee ke milenge to yah bahut helpaphul hota hai aapako har ek eeyar ke saimpal pepar bhee milata hai probebal kveshchans jyaada ripeeted hote yah bhee bataaya jaata hai ki is bataaya jaata hai kya kitane taim mein kaun se paitarn pahale kampleet karana kaun sa sekshan pahale kampleet karana yah bhee bataaya jaata hai to yah sab cheej jaanakar egjaam mein jaana aur phir egjaam mein matalab likhana kyon kisase padhakar jaana jarooree in da taim mainej karana trik ke saath jaana sab jarooree hota hai to yah sab aap agar phon se dekhana nahin lena chaahate to yah bahut bahut jyaada aavashyak hai agar nahin ho to koee bhee nahin rah sakata hai yootyoob mein kitane saare log karate hain samajh rahe hain seekh rahe hain yah to ja hee raha hai pleej kuchh to jaan bhee pa rahe hain klaasik ho raha hai tum hisaab se hee sachchee jagah dikha de aur bachche agar padhaee ko lekar agar sach mein aap unaka istemaal karen tan jee sach mein bahut bahut jyaada aavashyak hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या आजकल पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक है पढ़ाई के लिए मोबाइल आवश्यक
URL copied to clipboard