#भारत की राजनीति

bolkar speaker

क्या इस बार के बजट में रोजगार को लेकर कोई योजना आएगी?

Kya Is Baar Ke Budget Mein Rojgaar Ko Lekar Koi Yojna Aaegi
Som Prakash Gupta Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Som जी का जवाब
Open to work
2:25
लग तो रहा है कि जो बजट आया है उससे हेल्थकेयर सेक्टर में और इंफ्रास्ट्रक्चर के सेक्टर में काफी बूम आ सकता है क्योंकि कोरोना की वजह से लोगों का ध्यान हेल्थी लाइफस्टाइल हेल्थकेयर इंस्टीट्यूट हो रही है क्योंकि धीरे-धीरे लोगों की जो जीवन शैली है वह उसी तरह की बंदरी लोग पहले खेतों में रहते थे झोपड़ी में ना दे दे आज हम धीरे-धीरे हो शहरी करण होता जा रहा है मोबाइल स्मार्टफोन हर इंसान के पास हो गया है लैपटॉप कंप्यूटर टीवी फ्रिज एसी माइक्रोवेव ओवन सभी हो गया तो इसके लिए उन्हें रोजगार बढ़ेंगे बजट भी एक कारण हो सकता है कि बजट है तो वही रोजगार मिलेगा आपके पास तो कंपनी बस पैसा ही नहीं है तो फिर कहां से रोजगार कंपनी लोन लेकर भी रोजगार प्रोवाइड कर सकती है बड़े-बड़े कंपनी जो होती है वह लाखों करोड़ों का लोन लेती है उसके बाद में उसको उससे मेन पावर को हेयर कट मेन पावर वर्क करते हैं और उसे फिर कंपनी को प्रॉफिट भी होता है वह सैलरी देते हैं इस तरह से और बजट के अंदर है जैसे लोग इस बार डिपॉजिट ब्याज मिल रहा है वह कम कर दिया गया लोन की किस्त लोन की जो 4 दिन है वह भी कम कर दी गई है आसानी से आम आदमी भी लोन ले सकता है बड़ी-बड़ी कंपनियां में लोन ले सकती हैं हर इंसान लोन ले सकता है पर किसानों के लिए अभी थोड़ा इतना नहीं हो पा रहे किसान लोग अभी भी आंदोलन कर रहे हैं दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे हैं उनको पूरा मूल्य नहीं मिल पा रहा है पता नहीं क्या कानून बनाया किसी कारण बनाया जिसके वह विरोध कर रहे हैं वह चाहते हैं कि वह परेशानियों पर है पंजाब के किसान ज्यादा विरोध कर रहे हैं इस बारे में काफी तो पंजाब में हल्ला हुआ रवि दिल्ली बॉर्डर पर हुआ 26 जुलाई पर जो वह आप सब ने देखा तो देखो यह कब तक चलता है पर यदि किसानों को ध्यान में रखकर आम आदमी को ध्यान में रखकर अगर बजट बनाया जाए तो उसे रोजगार बढ़ेगा रोजगार एक्चुअली ऐसा भी हो जाएगी अब किसी ने आपको बहुत काम करा लिया रोजगार तो दे दिया अब नंबर तो दे दिया पर उसके बाद में आपको देते कितना है वह आपको दिन के ₹100 भी नहीं दे रहे आपका दिल्ली अलाउंस मोहिनी निकलेगा अरे कम से कम हजार रुपए तो दिल्ली के एक इंसान कब आए तब जाकर उसका घर चल सकता है इस तरह से अपन ध्यान में दे सकते कि रोजगार पढ़ने से ही कुछ ऐसा जरूरी नहीं है साथ में उनको पूरा मेहनत का फल भी मिलना चाहिए
Lag to raha hai ki jo bajat aaya hai usase helthakeyar sektar mein aur imphraastrakchar ke sektar mein kaaphee boom aa sakata hai kyonki korona kee vajah se logon ka dhyaan helthee laiphastail helthakeyar insteetyoot ho rahee hai kyonki dheere-dheere logon kee jo jeevan shailee hai vah usee tarah kee bandaree log pahale kheton mein rahate the jhopadee mein na de de aaj ham dheere-dheere ho shaharee karan hota ja raha hai mobail smaartaphon har insaan ke paas ho gaya hai laipatop kampyootar teevee phrij esee maikrovev ovan sabhee ho gaya to isake lie unhen rojagaar badhenge bajat bhee ek kaaran ho sakata hai ki bajat hai to vahee rojagaar milega aapake paas to kampanee bas paisa hee nahin hai to phir kahaan se rojagaar kampanee lon lekar bhee rojagaar provaid kar sakatee hai bade-bade kampanee jo hotee hai vah laakhon karodon ka lon letee hai usake baad mein usako usase men paavar ko heyar kat men paavar vark karate hain aur use phir kampanee ko prophit bhee hota hai vah sailaree dete hain is tarah se aur bajat ke andar hai jaise log is baar dipojit byaaj mil raha hai vah kam kar diya gaya lon kee kist lon kee jo 4 din hai vah bhee kam kar dee gaee hai aasaanee se aam aadamee bhee lon le sakata hai badee-badee kampaniyaan mein lon le sakatee hain har insaan lon le sakata hai par kisaanon ke lie abhee thoda itana nahin ho pa rahe kisaan log abhee bhee aandolan kar rahe hain dillee ke bordar par baithe hain unako poora mooly nahin mil pa raha hai pata nahin kya kaanoon banaaya kisee kaaran banaaya jisake vah virodh kar rahe hain vah chaahate hain ki vah pareshaaniyon par hai panjaab ke kisaan jyaada virodh kar rahe hain is baare mein kaaphee to panjaab mein halla hua ravi dillee bordar par hua 26 julaee par jo vah aap sab ne dekha to dekho yah kab tak chalata hai par yadi kisaanon ko dhyaan mein rakhakar aam aadamee ko dhyaan mein rakhakar agar bajat banaaya jae to use rojagaar badhega rojagaar ekchualee aisa bhee ho jaegee ab kisee ne aapako bahut kaam kara liya rojagaar to de diya ab nambar to de diya par usake baad mein aapako dete kitana hai vah aapako din ke ₹100 bhee nahin de rahe aapaka dillee alauns mohinee nikalega are kam se kam hajaar rupe to dillee ke ek insaan kab aae tab jaakar usaka ghar chal sakata hai is tarah se apan dhyaan mein de sakate ki rojagaar padhane se hee kuchh aisa jarooree nahin hai saath mein unako poora mehanat ka phal bhee milana chaahie

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या इस बार के बजट में रोजगार को लेकर कोई योजना आएगी बजट में रोजगार को लेकर कोई योजना
URL copied to clipboard