#undefined

bolkar speaker

मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?

Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
मैं विश्वास राज की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं किसी किसी ने एक बहुत अच्छा और पूछा है और बहुत सारे लोगों का एहसान तो हमेशा होता रहता है तो इसके निवारण के हेतु हमें पहले किसी पर विश्वास भी नहीं रखना चाहिए हम जल्दबाजी करते हैं भावना के अभाव में भी जाते हैं हमारे मन में आशंका नहीं आती और हम खुले दिल के होते हैं और हम सोचते हैं कि जैसे हम हैं वैसे दूसरे लोग भी लेकिन ऐसा नहीं होता है अब यही कारण है कि हमेशा विश्वासघात हो जाता है जिसको भी आप अपना समझे वह कुछ ना कुछ ऐसा काम करता है कि जो हमारे दिल को चोट पहुंचा पहुंचाता है तो पहले थोड़ा 70% सही रहना सीखना चाहिए किसी पर किसी पर पूरा विश्वास भी नहीं रखना है और पूरा विश्वास भी नहीं रखना है विश्वास और अविश्वास के बीच का मध्य पकड़ना है तो दोनों भी हो सकते हैं और दोनों की नहीं हो सकती किसी भी चीज पर पूरा विचार करना चाहिए कि सामने वाला जो है वह क्या कर सकता है और क्या नहीं कर सकता है हम किसी पर अपना कितना दांव पर लगाते हैं एकदम ज्यादा किस कोई चीज जाओ दाव पर लगाने नहीं चाहिए थोड़ा कम बाद में थोड़ा थोड़ा ज्यादा करके हम अपने जआउटपुट को लेकर और दूसरे को भी आउट मिले इसका भी ख्याल रखकर व्यवहार करना चाहिए चाहे वह भावनात्मक विहार हो चाहे वह आर्थिक विहार अब दूसरी एक बार मधुपुर में भर्ती वैसे वह बहुत कॉम्प्लिकेशन है इसको अष्टावधाना कहते हैं 8 तरीके के बंधन होते हैं और धनियानी सावधान सावधान था हमें हर वक्त अटल धानुका हो जनों के साथ जीना है और उसके लिए कोई कुछ साधना करनी करनी पड़ती है कुछ अभ्यास करना पड़ता है क्योंकि यह आपको इंटरनेट यूट्यूब पर भी शायद है मैंने वहीं पर सुना था कि आप पढ़ा था और उस पर एक आर्टिकल लिखा था और मेरे ब्लॉक प्रमुख प्रकाशित किया था अच्छी तरह से देखा गया तू हट जा करके उधर से सावधान तय होती है जैसे सामने से कोई चीज हम किसी चीज पर जाकर टकरा सकते हैं अगर इसकी शक करता है तो हमेशा उधर रहना चाहिए पीछे पीछे से जो आ रहा है उसके लिए भी सावधान था देनी चाहिए और कई मुझे तो कर को प्राप्त हुए बुद्ध पुरुष होते हैं वह कहीं दूर लंबे लंबे अंतर पुरुष पर रहने वाली या घटने वाली घटनाओं का उद्यान उन्हें हो जाता है समझ में आता है बुद्ध को अगर वह किसी रास्ते पर चलाए जाते थे तो आगे जब जाकर कोई साफ शब्दों में दुरुस्त से गुजरने वाला है या डाकू दोस्ती में आने वाले हैं तुमको यह समझ में आता था ऐसा बताया जाता है शायरी ध्यान की गहराई में जाने के बाद हो सकता है धन्यवाद
Main vishvaas raaj kee peeda ko kaise door kar sakata hoon kisee kisee ne ek bahut achchha aur poochha hai aur bahut saare logon ka ehasaan to hamesha hota rahata hai to isake nivaaran ke hetu hamen pahale kisee par vishvaas bhee nahin rakhana chaahie ham jaldabaajee karate hain bhaavana ke abhaav mein bhee jaate hain hamaare man mein aashanka nahin aatee aur ham khule dil ke hote hain aur ham sochate hain ki jaise ham hain vaise doosare log bhee lekin aisa nahin hota hai ab yahee kaaran hai ki hamesha vishvaasaghaat ho jaata hai jisako bhee aap apana samajhe vah kuchh na kuchh aisa kaam karata hai ki jo hamaare dil ko chot pahuncha pahunchaata hai to pahale thoda 70% sahee rahana seekhana chaahie kisee par kisee par poora vishvaas bhee nahin rakhana hai aur poora vishvaas bhee nahin rakhana hai vishvaas aur avishvaas ke beech ka madhy pakadana hai to donon bhee ho sakate hain aur donon kee nahin ho sakatee kisee bhee cheej par poora vichaar karana chaahie ki saamane vaala jo hai vah kya kar sakata hai aur kya nahin kar sakata hai ham kisee par apana kitana daanv par lagaate hain ekadam jyaada kis koee cheej jao daav par lagaane nahin chaahie thoda kam baad mein thoda thoda jyaada karake ham apane jaautaput ko lekar aur doosare ko bhee aaut mile isaka bhee khyaal rakhakar vyavahaar karana chaahie chaahe vah bhaavanaatmak vihaar ho chaahe vah aarthik vihaar ab doosaree ek baar madhupur mein bhartee vaise vah bahut komplikeshan hai isako ashtaavadhaana kahate hain 8 tareeke ke bandhan hote hain aur dhaniyaanee saavadhaan saavadhaan tha hamen har vakt atal dhaanuka ho janon ke saath jeena hai aur usake lie koee kuchh saadhana karanee karanee padatee hai kuchh abhyaas karana padata hai kyonki yah aapako intaranet yootyoob par bhee shaayad hai mainne vaheen par suna tha ki aap padha tha aur us par ek aartikal likha tha aur mere blok pramukh prakaashit kiya tha achchhee tarah se dekha gaya too hat ja karake udhar se saavadhaan tay hotee hai jaise saamane se koee cheej ham kisee cheej par jaakar takara sakate hain agar isakee shak karata hai to hamesha udhar rahana chaahie peechhe peechhe se jo aa raha hai usake lie bhee saavadhaan tha denee chaahie aur kaee mujhe to kar ko praapt hue buddh purush hote hain vah kaheen door lambe lambe antar purush par rahane vaalee ya ghatane vaalee ghatanaon ka udyaan unhen ho jaata hai samajh mein aata hai buddh ko agar vah kisee raaste par chalae jaate the to aage jab jaakar koee saaph shabdon mein durust se gujarane vaala hai ya daakoo dostee mein aane vaale hain tumako yah samajh mein aata tha aisa bataaya jaata hai shaayaree dhyaan kee gaharaee mein jaane ke baad ho sakata hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
2:15
ऑफिस वालों ने कि मैं विश्वास है आपकी पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं तो विश्वासघात की पीड़ा के ऊपर इंद्र पाने के लिए मैं आपको एक उदाहरण दे रहा हूं एक जस्सू के उदाहरण जो संपूर्ण आपके सामने हैं हमारे पापी स्वभाव हमें बुराई के बदले बुराई करने के लिए प्रतिवेदन करता है किंतु जैसों ने हमें अपने विपरीत सिखाया परंतु मैं तुम्हें यह कहता हूं कि बुरे का सामना न करना पड़े तो जो भी तेरे दाहिने गाल पर थप्पड़ मारे इसकी और दूसरा भी फेर दे परंतु मैं तुम्हें करता हूं कि अपने पैरों से प्रेम रखो और अपने सताने वालों के लिए प्रार्थना करो गाली सुनकर गाली नहीं देना पड़ता है और दुख उठाकर किसी को भी धमकाना नहीं होता है नमूने का उदाहरण भी विश्वासघाती को विश्वासघाती को गाली के बदले गाली नहीं देते हुए इस को धमकी और दो बार दोनों सम्मिलित हैं दोस्ती करनी चाहिए विश्वास न्यू को सदैव लाभ पहुंचाना होता है यहां तक कि उन्हें भी नुकसान पहुंचाते हैं दरबार में पानी पीके गड़बड़ी इत्यादि जैसे विषय में हूं चिपक राधे नायक को प्राप्त करना नहीं ज्यादा पिया से न्याय की प्राप्ति की चाहत प्रतिरोध की इच्छा के प्रति होती हैं विश्वासघात की गढ़वा घाट के ऊपर नियंत्रण पाने का एक समर्थन पूंजी धोखा देने वालों को समा कनेक्ट करता है क्षमा में देना सम्मिलित है जब किसी को छमा करना चुनते हैं तो वास्तव में व्यक्ति का व्यक्तिगत और स्वतंत्र जीवन उपहार देते हैं परंतु आप स्वयं को हम भी एक भाकरोद मुक्त जीवन भी दे रहे हैं परमेश्वर के प्रेम के लिए करवा दो क्रोध को आदान-प्रदान करना एक अद्भुत देने वाला विनय विनय में है धन्यवाद
Ophis vaalon ne ki main vishvaas hai aapakee peeda ko kaise door kar sakata hoon to vishvaasaghaat kee peeda ke oopar indr paane ke lie main aapako ek udaaharan de raha hoon ek jassoo ke udaaharan jo sampoorn aapake saamane hain hamaare paapee svabhaav hamen buraee ke badale buraee karane ke lie prativedan karata hai kintu jaison ne hamen apane vipareet sikhaaya parantu main tumhen yah kahata hoon ki bure ka saamana na karana pade to jo bhee tere daahine gaal par thappad maare isakee aur doosara bhee pher de parantu main tumhen karata hoon ki apane pairon se prem rakho aur apane sataane vaalon ke lie praarthana karo gaalee sunakar gaalee nahin dena padata hai aur dukh uthaakar kisee ko bhee dhamakaana nahin hota hai namoone ka udaaharan bhee vishvaasaghaatee ko vishvaasaghaatee ko gaalee ke badale gaalee nahin dete hue is ko dhamakee aur do baar donon sammilit hain dostee karanee chaahie vishvaas nyoo ko sadaiv laabh pahunchaana hota hai yahaan tak ki unhen bhee nukasaan pahunchaate hain darabaar mein paanee peeke gadabadee ityaadi jaise vishay mein hoon chipak raadhe naayak ko praapt karana nahin jyaada piya se nyaay kee praapti kee chaahat pratirodh kee ichchha ke prati hotee hain vishvaasaghaat kee gadhava ghaat ke oopar niyantran paane ka ek samarthan poonjee dhokha dene vaalon ko sama kanekt karata hai kshama mein dena sammilit hai jab kisee ko chhama karana chunate hain to vaastav mein vyakti ka vyaktigat aur svatantr jeevan upahaar dete hain parantu aap svayan ko ham bhee ek bhaakarod mukt jeevan bhee de rahe hain parameshvar ke prem ke lie karava do krodh ko aadaan-pradaan karana ek adbhut dene vaala vinay vinay mein hai dhanyavaad

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
sanjay kumar pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sanjay जी का जवाब
Writer, Teacher, motivational youtuber
2:58
हैप्पी रिपब्लिक डे सवाल यह है कि मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं देखिए मैं समझ सकता हूं कि विश्वासघात की पीड़ा बहुत ही कष्टकारी होती है बहुत कष्टकारी इस पीड़ा को सहन करना वास्तव में बहुत कठिन काम है जब आप यहां किसी पर इतना अधिक विश्वास कर लेते हैं जियो से अपने से भी अधिक मान लेते हैं और फिर उसके द्वारा विश्वासघात जब किया जाता है तो वह पीड़ा हमें मौत से भी अधिक पीड़ादायक होती यह सच है तो इसे दूर करने का तो मैं यही कहूंगा कि दूर करने का कोई तुरंत उपाय तो नहीं है बस यही है कि जिंदगी में समझदारी से चलना होगा उसे उस विश्वासघाती को पूरी तरह से नजरअंदाज कर दीजिए पूरी तरह से एक झटके में जैसे होता है मुझे से उसने विश्वासघात कर दिया उस तरह से आप उसे झटके से अपनी जिंदगी से निकाल दे पूरी तरह से हर तरह से सोच ले कि वह आपका था ही नहीं आपने गलत धरती पर विश्वास कर लिया और उसे अपनी जिंदगी से हर तरह से निकाल देना उसका फोन डिलीट कर दें उसका कुछ भी हो उसे खत्म कर दें और फिर लेकिन यही बात है कि कभी-कभी गलतफहमियां भी हो जाती है इस को परखने के बाद देखने के बाद ही हो कभी कभी आंखों देखी बात भी झूठ हो जाती है कानूनी बात भी झूठ हो जाती है तो बाद में पछतावा ना रहे इसके लिए नयन कहूंगा कि पूरी तरह से सोच समझ कर जांच पड़ताल करने के बाद ही उसे आप विश्वासघाती माने और तब फिर उससे हर तरह का कनेक्शन तोड़ दें यही इसका उपाय हो सकता है उसकी पीड़ा को दूर किया जा सकता है थैंक यू
Haippee ripablik de savaal yah hai ki main vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon dekhie main samajh sakata hoon ki vishvaasaghaat kee peeda bahut hee kashtakaaree hotee hai bahut kashtakaaree is peeda ko sahan karana vaastav mein bahut kathin kaam hai jab aap yahaan kisee par itana adhik vishvaas kar lete hain jiyo se apane se bhee adhik maan lete hain aur phir usake dvaara vishvaasaghaat jab kiya jaata hai to vah peeda hamen maut se bhee adhik peedaadaayak hotee yah sach hai to ise door karane ka to main yahee kahoonga ki door karane ka koee turant upaay to nahin hai bas yahee hai ki jindagee mein samajhadaaree se chalana hoga use us vishvaasaghaatee ko pooree tarah se najarandaaj kar deejie pooree tarah se ek jhatake mein jaise hota hai mujhe se usane vishvaasaghaat kar diya us tarah se aap use jhatake se apanee jindagee se nikaal de pooree tarah se har tarah se soch le ki vah aapaka tha hee nahin aapane galat dharatee par vishvaas kar liya aur use apanee jindagee se har tarah se nikaal dena usaka phon dileet kar den usaka kuchh bhee ho use khatm kar den aur phir lekin yahee baat hai ki kabhee-kabhee galataphahamiyaan bhee ho jaatee hai is ko parakhane ke baad dekhane ke baad hee ho kabhee kabhee aankhon dekhee baat bhee jhooth ho jaatee hai kaanoonee baat bhee jhooth ho jaatee hai to baad mein pachhataava na rahe isake lie nayan kahoonga ki pooree tarah se soch samajh kar jaanch padataal karane ke baad hee use aap vishvaasaghaatee maane aur tab phir usase har tarah ka kanekshan tod den yahee isaka upaay ho sakata hai usakee peeda ko door kiya ja sakata hai thaink yoo

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
1:07
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं देख कर आपको जिस बात से ऐसा हो कि आपका विश्वास टूटा है आपको धोखा मिला है तो उस बात को जाना है याद ना करें उस चीज को बार बार याद आती है तो अपना माइंड क्यों है वहां से पलटने की कोशिश करें कुछ और काम में बिजी हो जाए कुछ और करने लग जाए किसी को कॉल कर ले कुछ भी हो जाए लेकिन वो चीज जो है वापस ऊपर हावी ना होने दें मोदी के युद्ध पीड़ा जो है आप जो कह रहे हैं पीड़ा यह आपको एक प्रकार का सबक है जब कोई हमेशा विश्वासघात करता है कुछ भी करता है तो हमारे लिए उस टाइम के लिए जरूर बुरा लगता है और वह बाथरूम धीरे-धीरे भूल भी जाते हैं तो आपको भी थोड़ा सा टाइम लग सकता है लेकिन उसको बनाने के लिए सबसे अच्छी चीज यही है कि आप ना थोड़ा सा उस को अवॉइड करें उस चीज को सोचना और मेडिटेशन करें तो सुबह शाम को मैं कुछ अच्छी बुक पढ़े ऐसी चीज गाने वाने सुन ले और उस चीज को ज्यादा याद मत करिए इसी से आपका अच्छा ही आपके लिए ठीक है इससे आप यह जब आप मन में अंदर सोचेंगे कि मेरे लिए आगे के लिए बहुत अच्छी पिक है तो आपको ऐसा लगेगा क्या बहुत कुछ सीखा है
Main vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon dekh kar aapako jis baat se aisa ho ki aapaka vishvaas toota hai aapako dhokha mila hai to us baat ko jaana hai yaad na karen us cheej ko baar baar yaad aatee hai to apana maind kyon hai vahaan se palatane kee koshish karen kuchh aur kaam mein bijee ho jae kuchh aur karane lag jae kisee ko kol kar le kuchh bhee ho jae lekin vo cheej jo hai vaapas oopar haavee na hone den modee ke yuddh peeda jo hai aap jo kah rahe hain peeda yah aapako ek prakaar ka sabak hai jab koee hamesha vishvaasaghaat karata hai kuchh bhee karata hai to hamaare lie us taim ke lie jaroor bura lagata hai aur vah baatharoom dheere-dheere bhool bhee jaate hain to aapako bhee thoda sa taim lag sakata hai lekin usako banaane ke lie sabase achchhee cheej yahee hai ki aap na thoda sa us ko avoid karen us cheej ko sochana aur mediteshan karen to subah shaam ko main kuchh achchhee buk padhe aisee cheej gaane vaane sun le aur us cheej ko jyaada yaad mat karie isee se aapaka achchha hee aapake lie theek hai isase aap yah jab aap man mein andar sochenge ki mere lie aage ke lie bahut achchhee pik hai to aapako aisa lagega kya bahut kuchh seekha hai

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:44
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं दोस्तों विश्वासघात यानी कि धोखा दगाबाज एक ऐसी स्थिति है जो की असहनीय होती है विश्वास कामत की जो पीड़ा है धर्म में वह कोई भी सहन नहीं कर सकता इतनी ज्यादा गंभीर होती है लेकिन फिर भी इसके ऊपर हमें नियंत्रण करना चाहिए क्योंकि विश्वासघात किसी दूसरे ने किया है आपने तो किया नहीं इसलिए आपका कोई दोस्त नहीं है लेकिन जिस किसी ने भी किया है उसकी वजह से आप चिंता ग्रस्त क्यों हो इसलिए किसी और के द्वारा किए गए विश्वासघात पर आपको ईरान ने इसके लिए उसके बारे में भूल जाना ही सबसे बेहतर होता है और स्थिति को और ज्यादा सुधारने में आप समय लगाइए और जो हुआ क्या जो आपके पास कोई भी धोखा कोई विश्वासघात हुआ है तो उसको सही ढंग से सोच समझ कर उन पर काबू पाने की इच्छा रखी और एकदम अचानक से कोई कदम उठाना या कुछ अनर्थ करना किसी दूसरे को हनी करना पहुंचाना तो यह हो सकता है कि धीरे-धीरे आपके लिए बहुत गलत साबित हो सकता है एक दुर्घटना के समान एक हादसे के समय तो जो हुआ उसे तो वापस भेजा का विषय बनाया नहीं जा सकता है लेकिन खुद पर कुछ अनर्थ होने से कुछ कोई दुर्घटना होने से खुद को बताया जा सकता है और किसी भी विश्वासघात की पीड़ा को दूर करने का एकमात्र उपाय कुछ बुरे कृत्य नहीं हो सकते हैं और पीड़ा यदि दूर करने की आप साधन खोज रहे हैं तो मौन रहना और सोच समझकर कदम उठाने से बड़ा कोई उपाय नहीं होता तो इसी प्रकार से इस पीड़ा को दूर किया जा सकता है धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn hai main vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon doston vishvaasaghaat yaanee ki dhokha dagaabaaj ek aisee sthiti hai jo kee asahaneey hotee hai vishvaas kaamat kee jo peeda hai dharm mein vah koee bhee sahan nahin kar sakata itanee jyaada gambheer hotee hai lekin phir bhee isake oopar hamen niyantran karana chaahie kyonki vishvaasaghaat kisee doosare ne kiya hai aapane to kiya nahin isalie aapaka koee dost nahin hai lekin jis kisee ne bhee kiya hai usakee vajah se aap chinta grast kyon ho isalie kisee aur ke dvaara kie gae vishvaasaghaat par aapako eeraan ne isake lie usake baare mein bhool jaana hee sabase behatar hota hai aur sthiti ko aur jyaada sudhaarane mein aap samay lagaie aur jo hua kya jo aapake paas koee bhee dhokha koee vishvaasaghaat hua hai to usako sahee dhang se soch samajh kar un par kaaboo paane kee ichchha rakhee aur ekadam achaanak se koee kadam uthaana ya kuchh anarth karana kisee doosare ko hanee karana pahunchaana to yah ho sakata hai ki dheere-dheere aapake lie bahut galat saabit ho sakata hai ek durghatana ke samaan ek haadase ke samay to jo hua use to vaapas bheja ka vishay banaaya nahin ja sakata hai lekin khud par kuchh anarth hone se kuchh koee durghatana hone se khud ko bataaya ja sakata hai aur kisee bhee vishvaasaghaat kee peeda ko door karane ka ekamaatr upaay kuchh bure krty nahin ho sakate hain aur peeda yadi door karane kee aap saadhan khoj rahe hain to maun rahana aur soch samajhakar kadam uthaane se bada koee upaay nahin hota to isee prakaar se is peeda ko door kiya ja sakata hai dhanyavaad

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:35
उसका विश्वासघात की पीड़ा भोजपुरी और क्या किसी ने जवाब के साथ विश्वास करके धोखा दिया हो तो बहुत बुरा लगता है लेकिन आप तो अच्छा सोचे अच्छे के बारे में ही सोची आप उस विश्वासघाती को माफ कर दीजिए और बस आप भला सोचे खुद का तो थोड़े दिनों में आप उसको भूल जाएंगे उस पीड़ा को भूल जाएंगे और कुछ ध्यान रखिए कि आगे से कोई ऐसा नहीं करें इसलिए आपको थोड़ी से अपने जो प्रयास से अपनी जो कदम है वह सोच समझ कर रखें धन्यवाद
Usaka vishvaasaghaat kee peeda bhojapuree aur kya kisee ne javaab ke saath vishvaas karake dhokha diya ho to bahut bura lagata hai lekin aap to achchha soche achchhe ke baare mein hee sochee aap us vishvaasaghaatee ko maaph kar deejie aur bas aap bhala soche khud ka to thode dinon mein aap usako bhool jaenge us peeda ko bhool jaenge aur kuchh dhyaan rakhie ki aage se koee aisa nahin karen isalie aapako thodee se apane jo prayaas se apanee jo kadam hai vah soch samajh kar rakhen dhanyavaad

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:08
विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं लेकिन जब कोई व्यक्ति किसी अपना बड़प्पन ही होता है और हम उस पर भरोसा करते हैं और जब हमको विश्वासघात कर रे भरोसे पर हमारे लात मार देता है इसे विश्वासघात करते हैं और ऐसे लोगों से फिर बहुत नफरत भी हो जाती है लेकिन अभी है कि उसने विश्वासघात तो कर ही दिया है ऐसे लोगों से दूरी बना लेना ही ज्यादा अच्छा है और ऐसे लोगों से दूरी बना लीजिए और और ऐसे लोगों से सतर्क भी रहना चाहिए लेकिन अब जो घटना घट गई है अब घर परिवार को भी आदमी हो सकता है कहीं बाहर का भी हो सकता है तो बाहर वाले को तो आप बिल्कुल एकदम अल्कोहल कर दिया एकदम से ठीक लगा दिए दोबारा वह आपके घर के आसपास में दिखाई दे जाओ रिश्तेदार वाला जैसे होता जैसे पासपोर्ट विश्वासघात करता है कि उसको थोड़ा सा इग्नोर कर रही है फिर उसको ऊपर भरोसा करने की कोई जरूरत नहीं धीरे धीरे धीरे धीरे मन के अंदर जो समाप्त हो जाएगी उसकी स्थिति बनाई जा सकती है तो नकारात्मक विचार निकालिए लेकर सतर्क रहने की जरूरत है आपको बस
Vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon lekin jab koee vyakti kisee apana badappan hee hota hai aur ham us par bharosa karate hain aur jab hamako vishvaasaghaat kar re bharose par hamaare laat maar deta hai ise vishvaasaghaat karate hain aur aise logon se phir bahut napharat bhee ho jaatee hai lekin abhee hai ki usane vishvaasaghaat to kar hee diya hai aise logon se dooree bana lena hee jyaada achchha hai aur aise logon se dooree bana leejie aur aur aise logon se satark bhee rahana chaahie lekin ab jo ghatana ghat gaee hai ab ghar parivaar ko bhee aadamee ho sakata hai kaheen baahar ka bhee ho sakata hai to baahar vaale ko to aap bilkul ekadam alkohal kar diya ekadam se theek laga die dobaara vah aapake ghar ke aasapaas mein dikhaee de jao rishtedaar vaala jaise hota jaise paasaport vishvaasaghaat karata hai ki usako thoda sa ignor kar rahee hai phir usako oopar bharosa karane kee koee jaroorat nahin dheere dheere dheere dheere man ke andar jo samaapt ho jaegee usakee sthiti banaee ja sakatee hai to nakaaraatmak vichaar nikaalie lekar satark rahane kee jaroorat hai aapako bas

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:27
नमस्कार आपके प्रश्न का उत्तर यह है कि विश्वासघात भरोसे के प्रति एक धर्मवीर नंदन है और मनुष्य के ऊपर आने वाली पीढ़ियों में सबसे अधिक विनाशकारी ग्रुपों में से एक हो सकता है विश्वासघात की पीड़ा अक्सर अति संवेदनशीलता और लोग उनकी भावनाओं को बढ़ा देती है बहुत से लोगों के लिए विश्वासघात की पीड़ा शारीरिक हिंसा पूर्वाग्रह से भी अधिक पहुंचाने वाली होती है विश्वासघात भरोसे की न्यू को नष्ट कर देता है विश्वासघात की कड़वाहट के ऊपर नियंत्रण पाने में एक और सामर्थ्य साली को धोखा देने वालों को सलमा करने के लिए परमेश्वर पर 10 जनता सब जमा देना सम्मिलित है जब हम किसी को माफ करना सुनते हैं तो हमें वास्तव में उस व्यक्ति को व्यक्तिगत विचार से स्वतंत्र जीवन उपहार देते हैं परंतु आप स्वयं को भी एक बार को मुक्त जीवन भी दे रहे हैं परमेश्वर के प्रेम के लिए वह अपनों कड़वाहट और क्रोध को आदान प्रदान करना एक अद्भुत जीवन देने वाला भी नहीं मैं है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Namaskaar aapake prashn ka uttar yah hai ki vishvaasaghaat bharose ke prati ek dharmaveer nandan hai aur manushy ke oopar aane vaalee peedhiyon mein sabase adhik vinaashakaaree grupon mein se ek ho sakata hai vishvaasaghaat kee peeda aksar ati sanvedanasheelata aur log unakee bhaavanaon ko badha detee hai bahut se logon ke lie vishvaasaghaat kee peeda shaareerik hinsa poorvaagrah se bhee adhik pahunchaane vaalee hotee hai vishvaasaghaat bharose kee nyoo ko nasht kar deta hai vishvaasaghaat kee kadavaahat ke oopar niyantran paane mein ek aur saamarthy saalee ko dhokha dene vaalon ko salama karane ke lie parameshvar par 10 janata sab jama dena sammilit hai jab ham kisee ko maaph karana sunate hain to hamen vaastav mein us vyakti ko vyaktigat vichaar se svatantr jeevan upahaar dete hain parantu aap svayan ko bhee ek baar ko mukt jeevan bhee de rahe hain parameshvar ke prem ke lie vah apanon kadavaahat aur krodh ko aadaan pradaan karana ek adbhut jeevan dene vaala bhee nahin main hai dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:34
आरा का प्रश्न है कि मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं तो आपको बताना चाहेंगे देखे विश्वासघात अगर आपके साथ हुआ भी है तो आपकी मानिए कहीं ना कहीं इसमें आपकी भी गलती है आपने भी आंख मूंदकर के सामने वाले पर भरोसा किया होगा तभी आपको यह दिन देखने को मिला है कोशिश करें कभी भी अपने जीवन में आंख मूंदकर किसी पर भरोसा ना करें अपने आंख नाक कान सब खुले रखें ताकि आप इस तरह के स्वाद खास से भविष्य में खुद को बचा सके मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Aara ka prashn hai ki main vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon to aapako bataana chaahenge dekhe vishvaasaghaat agar aapake saath hua bhee hai to aapakee maanie kaheen na kaheen isamen aapakee bhee galatee hai aapane bhee aankh moondakar ke saamane vaale par bharosa kiya hoga tabhee aapako yah din dekhane ko mila hai koshish karen kabhee bhee apane jeevan mein aankh moondakar kisee par bharosa na karen apane aankh naak kaan sab khule rakhen taaki aap is tarah ke svaad khaas se bhavishy mein khud ko bacha sake main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
KamalKishorAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए KamalKishorAwasthi जी का जवाब
घर पर ही रहता हूं बैटरी बनाने का कार्य करता हूं और मोबाइल रिचार्ज इत्यादि
1:47
सवाल है मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं देखिए अगर आप जीवन चक्र को समझ जाते हैं तो विश्वासघात की पीड़ा से दूर हो सकते हैं क्योंकि आपके साथ कुछ लोग ऐसे ही रहेंगे जो आपको साथ देते रहेंगे लेकिन आपको याद भी समझना होगा कि हमारे साथ कुछ ऐसे भी लोग हैं जो हमारे साथ विश्वासघात करेंगे विश्वासघात भरुचि के प्रति एक गंभीर उल्लंघन है और मनुष्य के ऊपर आने वाली पीढ़ियों ने सबसे अधिक विभिन्न सरकारी रूपों में से एक हो सकता है विश्वासघात की पीड़ा अक्सर अति संवेदनशीलता और जोखिम की भावना को बढ़ा देती है बहुत से लोगों के लिए विश्वासघात की पीड़ा शारीरिक हिंसा या इससे भी कठिन अधिक ठेस पहुंचाने वाली होती है विश्वासघात भरोसे की न्यू को ही नष्ट कर देता है विश्वासघात की पीड़ा के पश्चात भी हमारे पास एक ऐसा तरीका है जिसके द्वारा हम विश्वासघात के ऊपर विजय को प्राप्त कर सकते हैं सामर्थ्य सीधे परमेश्वर और क्षमा की शक्ति से आती है इसलिए विश्वासघात करने वाले व्यक्ति को यदि क्षमा कर दिया जाए क्षमाशील व्यक्ति को विश्वासघात की पीड़ा कभी नहीं बता सकती इसलिए ईश्वर पर भरोसा रखने वाले धैर्य रखते हुए क्षमाशील बनना चाहिए जब आप किसी को क्षमा कर देते हैं आपके मन को असीम शांति मिलती है और जब मन को असीम शांति है तो विश्वास घाट की पीड़ा आपको यकीन मानिए कभी नहीं सताएगी धन्यवाद
Savaal hai main vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon dekhie agar aap jeevan chakr ko samajh jaate hain to vishvaasaghaat kee peeda se door ho sakate hain kyonki aapake saath kuchh log aise hee rahenge jo aapako saath dete rahenge lekin aapako yaad bhee samajhana hoga ki hamaare saath kuchh aise bhee log hain jo hamaare saath vishvaasaghaat karenge vishvaasaghaat bharuchi ke prati ek gambheer ullanghan hai aur manushy ke oopar aane vaalee peedhiyon ne sabase adhik vibhinn sarakaaree roopon mein se ek ho sakata hai vishvaasaghaat kee peeda aksar ati sanvedanasheelata aur jokhim kee bhaavana ko badha detee hai bahut se logon ke lie vishvaasaghaat kee peeda shaareerik hinsa ya isase bhee kathin adhik thes pahunchaane vaalee hotee hai vishvaasaghaat bharose kee nyoo ko hee nasht kar deta hai vishvaasaghaat kee peeda ke pashchaat bhee hamaare paas ek aisa tareeka hai jisake dvaara ham vishvaasaghaat ke oopar vijay ko praapt kar sakate hain saamarthy seedhe parameshvar aur kshama kee shakti se aatee hai isalie vishvaasaghaat karane vaale vyakti ko yadi kshama kar diya jae kshamaasheel vyakti ko vishvaasaghaat kee peeda kabhee nahin bata sakatee isalie eeshvar par bharosa rakhane vaale dhairy rakhate hue kshamaasheel banana chaahie jab aap kisee ko kshama kar dete hain aapake man ko aseem shaanti milatee hai aur jab man ko aseem shaanti hai to vishvaas ghaat kee peeda aapako yakeen maanie kabhee nahin sataegee dhanyavaad

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
2:59
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं आप देखो विश्वासघात जब हो रहा है तो दो लोगों के बीच में कुछ रिलेशनशिप स्टाइलिश होती है और रिलेशनशिप एक ट्रस्ट के पैसे स्पेस पब्लिश होती है कि मैं आपसे बेझिझक कुछ चीजें चाहूंगा और आप मेरे से कुछ चीजें चाहोगे यह जो स्टाइलिश होती है इसके कुछ बेसिस होते हैं इसके पैसे से होते हैं कि कॉमन कॉमन बिलीफ सिस्टम होती है कोई भी हो तो लोग एक कॉमन पर्पस के लिए पास में आते हैं अब एक और पावन पर्व पर जैसे फॉर एग्जांपल अगर बिजनेस की बात कर लो बिजनेस में दो पाटनर है तो एक कॉमन पर्पस के लिए साथ में आए हैं कि इस बिजनेस को करो करना है उसको करने के लिए दोनों साइड से इनपुट दिए जाते हैं हो सकता है कि मानवीय लेवल पर मेरे इनपुट कम हो या किसी के ज्यादा हो मानवी स्किल्स में मैं कौन हूं कोई चाहता है कि छोटी मोटी चीजें हो सकती है लेकिन दोनों भी दोनों जन अपने तन मन धन से उस देश को अच्छा बनाने के लिए प्रयास कर रहे अच्छे लोगों से मिल रहे अच्छे एम्पलॉइस लेकर आ रहे हैं उसमें काफी इनपुट दे रहे हैं और कोशिश है दिन-ब-दिन कोशिश जारी है कि जिस बिजनेस को कैसे फॉलो करें तो ऐसे कैसे में क्या होता है क्या परपस डिफाइंड है और कौन से रेलगाड़ी के पटरी पर यह आपकी रिलेशनशिप है यह बहुत इंपॉर्टेंट है क्योंकि विश्वास रात में क्या होता है कि 2 इमेजेस क्रिएट होती है कि मैं चेक होता है कि आपको एक दोस्त है आपका अपना भाई है एक रिलेशन और दूसरा यह होता है कि आपके व्यवहारिक रिलेशन दिया अब क्या होता है क्या वाकई बहुत प्यारा दोस्त है या भाई है तो यही में जो होती है इंपॉर्टेंट होती है इसको यह मैसेज को धोखा दे सकती है दूसरी मुझको अगर व्यवहारिक रिलेशन अच्छे नहीं रहे तो इसलिए मैं बार-बार हो रहा है विश्वास है जहां पर हम कॉमन पर्पस के लिए पास में आए हैं यह हमें अच्छी करना है तो उस समय पर दो चीजों को सेपरेट रखी है कि हम लोग उसको उसका अचीवमेंट के लिए क्या करें सोने जा रहे क्या करने वाले थे उसका क्लियर कट विजेंद्र रखी है तो एकदम क्लियर भी पिक आउट कीजिए और दूसरा है कि जो परसों रिलेशनशिप है उसको भी मत पहुंचा है अगर इन दोनों में अगर दोनों को नहीं समझते हो आपके दोनों में क्लियर नहीं होते हो तो एक बात बनी रहती है कंटिन्यू जो कि जो नहीं दोनों को दोनों की दोनों तरीके से दोनों साइड से उसमें हम ध्यान नहीं देते हो क्या बढ़ता चला जाता है और उसका उसके अंदर फिर जो दूसरी पार्टी होती है उसको फिल्म करने के लिए और कहीं से 16 घंटे और हमें विश्वास है कि इसको से बातचीत से और एक सही विजन के साथ ही क्लियर किया जा सकता नहीं हो रहा है तो आप डायरेक्ट बोल सकते हो यह परपज कि हम मिले थे परपज सॉल्व नहीं हो रहा है तो आगे कैसे तो वह अल्लाह ने आपको आंसर देगा उसके लिए
Main vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon aap dekho vishvaasaghaat jab ho raha hai to do logon ke beech mein kuchh rileshanaship stailish hotee hai aur rileshanaship ek trast ke paise spes pablish hotee hai ki main aapase bejhijhak kuchh cheejen chaahoonga aur aap mere se kuchh cheejen chaahoge yah jo stailish hotee hai isake kuchh besis hote hain isake paise se hote hain ki koman koman bileeph sistam hotee hai koee bhee ho to log ek koman parpas ke lie paas mein aate hain ab ek aur paavan parv par jaise phor egjaampal agar bijanes kee baat kar lo bijanes mein do paatanar hai to ek koman parpas ke lie saath mein aae hain ki is bijanes ko karo karana hai usako karane ke lie donon said se inaput die jaate hain ho sakata hai ki maanaveey leval par mere inaput kam ho ya kisee ke jyaada ho maanavee skils mein main kaun hoon koee chaahata hai ki chhotee motee cheejen ho sakatee hai lekin donon bhee donon jan apane tan man dhan se us desh ko achchha banaane ke lie prayaas kar rahe achchhe logon se mil rahe achchhe empalois lekar aa rahe hain usamen kaaphee inaput de rahe hain aur koshish hai din-ba-din koshish jaaree hai ki jis bijanes ko kaise pholo karen to aise kaise mein kya hota hai kya parapas diphaind hai aur kaun se relagaadee ke pataree par yah aapakee rileshanaship hai yah bahut importent hai kyonki vishvaas raat mein kya hota hai ki 2 imejes kriet hotee hai ki main chek hota hai ki aapako ek dost hai aapaka apana bhaee hai ek rileshan aur doosara yah hota hai ki aapake vyavahaarik rileshan diya ab kya hota hai kya vaakee bahut pyaara dost hai ya bhaee hai to yahee mein jo hotee hai importent hotee hai isako yah maisej ko dhokha de sakatee hai doosaree mujhako agar vyavahaarik rileshan achchhe nahin rahe to isalie main baar-baar ho raha hai vishvaas hai jahaan par ham koman parpas ke lie paas mein aae hain yah hamen achchhee karana hai to us samay par do cheejon ko separet rakhee hai ki ham log usako usaka acheevament ke lie kya karen sone ja rahe kya karane vaale the usaka kliyar kat vijendr rakhee hai to ekadam kliyar bhee pik aaut keejie aur doosara hai ki jo parason rileshanaship hai usako bhee mat pahuncha hai agar in donon mein agar donon ko nahin samajhate ho aapake donon mein kliyar nahin hote ho to ek baat banee rahatee hai kantinyoo jo ki jo nahin donon ko donon kee donon tareeke se donon said se usamen ham dhyaan nahin dete ho kya badhata chala jaata hai aur usaka usake andar phir jo doosaree paartee hotee hai usako philm karane ke lie aur kaheen se 16 ghante aur hamen vishvaas hai ki isako se baatacheet se aur ek sahee vijan ke saath hee kliyar kiya ja sakata nahin ho raha hai to aap daayarekt bol sakate ho yah parapaj ki ham mile the parapaj solv nahin ho raha hai to aage kaise to vah allaah ne aapako aansar dega usake lie

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Abhishek Shukla ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Abhishek जी का जवाब
Motivational speaker
1:07
देखिए हो सकता है जीवन में आपको जो है तो कहीं ना कहीं आपको किसी ने भरोसा तोड़ा होगा तो घंटी उस व्यक्ति विशेष की नहीं है गलती स्वयं आपकी है क्योंकि आपने उनसे मौका दिया ज्यादा भरोसा दिखाने का तो देखिएगा यहां पर हमारी खुद की होती है जो कि हम लोगों पर ज्यादा भरोसा कर लेते हैं कि बाद में हम भी खुद को पछतावा होता है इसलिए जो आगे से इस बात का ध्यान रखें कि कोई भी व्यक्ति विशेष पर यदि आप भरोसा करते हैं तो इतना ज्यादा भरोसा ना करने के बाद में आपको पछतावा हो या फिर देखो देखी आप यदि ऐसा हो चुका तो आप एक काम कर सकते हैं उस बारे में सोचना बंद कर दीजिए जिस बारे में उस व्यक्ति विशेष में आपको आपका विश्वास खोया है और आगे अपने जीवन में बढ़ते जाइए और इससे एक सीख लेने की जरूरत है कि लोगों पर आसानी से भरोसा नहीं करना चाहिए और अधिक करते भी है तू पढ़ाई कीजिए जितना हमें दुख ना हो आगे चलकर की इन बातों का ध्यान रखें और उस बात को भूल कर आप जो अपने जीवन में आगे बढ़े खुश रहे दोस्तों धन्यवाद
Dekhie ho sakata hai jeevan mein aapako jo hai to kaheen na kaheen aapako kisee ne bharosa toda hoga to ghantee us vyakti vishesh kee nahin hai galatee svayan aapakee hai kyonki aapane unase mauka diya jyaada bharosa dikhaane ka to dekhiega yahaan par hamaaree khud kee hotee hai jo ki ham logon par jyaada bharosa kar lete hain ki baad mein ham bhee khud ko pachhataava hota hai isalie jo aage se is baat ka dhyaan rakhen ki koee bhee vyakti vishesh par yadi aap bharosa karate hain to itana jyaada bharosa na karane ke baad mein aapako pachhataava ho ya phir dekho dekhee aap yadi aisa ho chuka to aap ek kaam kar sakate hain us baare mein sochana band kar deejie jis baare mein us vyakti vishesh mein aapako aapaka vishvaas khoya hai aur aage apane jeevan mein badhate jaie aur isase ek seekh lene kee jaroorat hai ki logon par aasaanee se bharosa nahin karana chaahie aur adhik karate bhee hai too padhaee keejie jitana hamen dukh na ho aage chalakar kee in baaton ka dhyaan rakhen aur us baat ko bhool kar aap jo apane jeevan mein aage badhe khush rahe doston dhanyavaad

bolkar speaker
मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं?Main Vishvasghaat Ki Peeda Ko Kaise Door Kar Sakta Hu
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:24
अपने कि मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं बहुत जरूरी है कि इस स्ट्रेस से खुद को आप निकाली और उसके लिए आप कुछ ऐसा काम करें जिससे कि आप खुद को बिजी रख सके इतना ज्यादा आपको बिजी रखेंगे अच्छे कामों में जैसे कि आप स्टेफ्री फील कर पाए आपको अच्छा लगेगा अच्छा महसूस करेंगे आप लेकिन बहुत जरूरी है कि अपने मित्र कर कार्य में ज्यादा से ज्यादा समय बताएं आते शुभ रहे धन्यवाद
Apane ki main vishvaasaghaat kee peeda ko kaise door kar sakata hoon bahut jarooree hai ki is stres se khud ko aap nikaalee aur usake lie aap kuchh aisa kaam karen jisase ki aap khud ko bijee rakh sake itana jyaada aapako bijee rakhenge achchhe kaamon mein jaise ki aap stephree pheel kar pae aapako achchha lagega achchha mahasoos karenge aap lekin bahut jarooree hai ki apane mitr kar kaary mein jyaada se jyaada samay bataen aate shubh rahe dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मैं विश्वासघात की पीड़ा को कैसे दूर कर सकता हूं विश्वासघात की पीड़ा
URL copied to clipboard