#undefined

bolkar speaker

अगर मन में नकारात्मक सोच रही है तो इससे छुटकारा कैसे पाएं?

Agar Man Mein Sakaratmak Soch Rahi Hai To Isse Chhutkara Kaise Paye
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:41
हालांकि अगर मन में सर्टेन सोच रही हो तो इसे कैसे छुटकारा पाएं तो सरकार में सोचें को छुटकारा नहीं पाया जाता है अगर आप ना कार में सोच रहे हैं तो इसके लिए आप याद रख याद रखें हर दौर दौर भी तो आ जाता है अपनी कामयाबी को नहीं भूले हमेशा खुद निर्णय लेना सी के जीवन में सिर्फ बुराई ही नहीं करनी चाहिए ऐसे बहुत से सवाल है जो नाकाम सोच पैदा करते हैं हमेशा के लिए सोचना बंद करेंगे तो अपने आप आप सरकार में सोचने लगेंगे धन्यवाद
Haalaanki agar man mein sarten soch rahee ho to ise kaise chhutakaara paen to sarakaar mein sochen ko chhutakaara nahin paaya jaata hai agar aap na kaar mein soch rahe hain to isake lie aap yaad rakh yaad rakhen har daur daur bhee to aa jaata hai apanee kaamayaabee ko nahin bhoole hamesha khud nirnay lena see ke jeevan mein sirph buraee hee nahin karanee chaahie aise bahut se savaal hai jo naakaam soch paida karate hain hamesha ke lie sochana band karenge to apane aap aap sarakaar mein sochane lagenge dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
अगर मन में नकारात्मक सोच रही है तो इससे छुटकारा कैसे पाएं?Agar Man Mein Sakaratmak Soch Rahi Hai To Isse Chhutkara Kaise Paye
sanjay kumar pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए sanjay जी का जवाब
Writer, Teacher, motivational youtuber
1:06
हैप्पी रिपब्लिक डे सवाल है कि अगर मन में सकारात्मक सोच रही है तो इससे छुटकारा कैसे पाएं लेकिन सकारात्मक सोच से छुटकारा पाने की क्या जरूरत है यह तो अच्छी बात है नकारात्मक सोच नहीं होनी चाहिए क्योंकि जब नकारात्मकता बढ़ती है तो हम नाहक परेशान होते हैं वैसी वैसी बातें दिमाग में आने लगती है कि जो बिल्कुल भी जिसका कोई सरोकार नहीं होता है उन बातों से और हम अनाप-शनाप कुछ भी सोचते नहीं लगते हैं लेकिन सकारात्मकता है बहुत जरूरी चीज है जीवन में वह हमें काफी ऊंचाई पर ले जा सकती है बिल्कुल सकारात्मक रहना चाहिए रहिए से छुटकारा पाने की क्या जरूरत है आपके नकारात्मकता में जीना है तो मनुष्य का मनुष्य की बर्बादी का लक्षण है जितनी अधिक नौकर त से दूर रहे हैं और सकारात्मक रहे हैं तो आपका जीवन सुख में होगा थैंक यू
Haippee ripablik de savaal hai ki agar man mein sakaaraatmak soch rahee hai to isase chhutakaara kaise paen lekin sakaaraatmak soch se chhutakaara paane kee kya jaroorat hai yah to achchhee baat hai nakaaraatmak soch nahin honee chaahie kyonki jab nakaaraatmakata badhatee hai to ham naahak pareshaan hote hain vaisee vaisee baaten dimaag mein aane lagatee hai ki jo bilkul bhee jisaka koee sarokaar nahin hota hai un baaton se aur ham anaap-shanaap kuchh bhee sochate nahin lagate hain lekin sakaaraatmakata hai bahut jarooree cheej hai jeevan mein vah hamen kaaphee oonchaee par le ja sakatee hai bilkul sakaaraatmak rahana chaahie rahie se chhutakaara paane kee kya jaroorat hai aapake nakaaraatmakata mein jeena hai to manushy ka manushy kee barbaadee ka lakshan hai jitanee adhik naukar ta se door rahe hain aur sakaaraatmak rahe hain to aapaka jeevan sukh mein hoga thaink yoo

bolkar speaker
अगर मन में नकारात्मक सोच रही है तो इससे छुटकारा कैसे पाएं?Agar Man Mein Sakaratmak Soch Rahi Hai To Isse Chhutkara Kaise Paye
 Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए जी का जवाब
Unknown
0:48
आपका प्रश्न है अगर मन में सकारात्मक दिखे या फिर सकारात्मक नहीं है नकारात्मक सोच रही है होगा तो दिखे अगर अब ऐसे सोच रहे तो नकारात्मक विचारों पर विश्वास करना सफलता की सबसे बड़ी रुकावट है ना की नकारात्मक पर ज्यादा ध्यान ना दें और अपने जीवन में सकारात्मक पर ध्यान केंद्रित करें नकारात्मक विचारों का कारण बनने से बस यही रवैया अपनाने नकारात्मक गानों को सकारात्मक रूप में बदल सकते हैं अपना विश्वास बनाए रखें आत्मविश्वास की कमी ना आने दे क्योंकि ज्यादातर लोग आत्मविश्वास की कमी से नकारात्मक सोच की शिकार बनते हैं अपने अतीत के बारे में मत सोचो क्योंकि अतीत की गलतियां या भविष्य बनाने की चिंता ही नेगेटिव थिंकिंग का मुख्य स्रोत होता है
Aapaka prashn hai agar man mein sakaaraatmak dikhe ya phir sakaaraatmak nahin hai nakaaraatmak soch rahee hai hoga to dikhe agar ab aise soch rahe to nakaaraatmak vichaaron par vishvaas karana saphalata kee sabase badee rukaavat hai na kee nakaaraatmak par jyaada dhyaan na den aur apane jeevan mein sakaaraatmak par dhyaan kendrit karen nakaaraatmak vichaaron ka kaaran banane se bas yahee ravaiya apanaane nakaaraatmak gaanon ko sakaaraatmak roop mein badal sakate hain apana vishvaas banae rakhen aatmavishvaas kee kamee na aane de kyonki jyaadaatar log aatmavishvaas kee kamee se nakaaraatmak soch kee shikaar banate hain apane ateet ke baare mein mat socho kyonki ateet kee galatiyaan ya bhavishy banaane kee chinta hee negetiv thinking ka mukhy srot hota hai

bolkar speaker
अगर मन में नकारात्मक सोच रही है तो इससे छुटकारा कैसे पाएं?Agar Man Mein Sakaratmak Soch Rahi Hai To Isse Chhutkara Kaise Paye
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:25
आरा का प्रश्न अगर मन में सकारात्मक सोच रही है तो इस से कैसे छुटकारा पाएं तो आपको बता देंगे कि सकारात्मक सोच तो मनुष्य के अंदर होनी चाहिए अगर आप यहां पर सकारात्मक सोच के साथ जीवन जीने तभी आपने जीवन में प्रगति कर पाएंगे नकारात्मक सोच से व्यक्ति को अपने आप को दूर रखना चाहिए सकारात्मक सोच तो हमेशा अपनी बनाकर रखनी चाहिए मैं शुभकामनाएं आपके साथ धन्यवाद
Aara ka prashn agar man mein sakaaraatmak soch rahee hai to is se kaise chhutakaara paen to aapako bata denge ki sakaaraatmak soch to manushy ke andar honee chaahie agar aap yahaan par sakaaraatmak soch ke saath jeevan jeene tabhee aapane jeevan mein pragati kar paenge nakaaraatmak soch se vyakti ko apane aap ko door rakhana chaahie sakaaraatmak soch to hamesha apanee banaakar rakhanee chaahie main shubhakaamanaen aapake saath dhanyavaad

bolkar speaker
अगर मन में नकारात्मक सोच रही है तो इससे छुटकारा कैसे पाएं?Agar Man Mein Sakaratmak Soch Rahi Hai To Isse Chhutkara Kaise Paye
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:36
दवा लेके अगर मन में सकारात्मक सोच रही है तो इस से कैसे छुटकारा कैसे पाएं तो देगी सकारात्मक सोच से क्यों छुटकारा पाना है पता नहीं हां ना करत मुझसे जरूर आपको नेगेटिविटी से जरूर आना चाहिए साथ ही जीना सबसे ज्यादा बेहतर होता है यदि आप मीटिंग ज्यादा सोचेंगे तो निश्चित तौर पर आपके साथ गलत होगा आपकी सोच वैसी ही हो जाएगी आप पूरा ही सोचते रहेंगे आज प्रेस फील करेंगे जबकि अगर आप पॉजिटिविटी की तरफ रहेंगे पॉजिटिव लोगों के साथ में उठाएंगे बैठे तो निश्चित तौर पर शांति और सुकून का अहसास कर पाएंगे आपको धन्यवाद
Dava leke agar man mein sakaaraatmak soch rahee hai to is se kaise chhutakaara kaise paen to degee sakaaraatmak soch se kyon chhutakaara paana hai pata nahin haan na karat mujhase jaroor aapako negetivitee se jaroor aana chaahie saath hee jeena sabase jyaada behatar hota hai yadi aap meeting jyaada sochenge to nishchit taur par aapake saath galat hoga aapakee soch vaisee hee ho jaegee aap poora hee sochate rahenge aaj pres pheel karenge jabaki agar aap pojitivitee kee taraph rahenge pojitiv logon ke saath mein uthaenge baithe to nishchit taur par shaanti aur sukoon ka ahasaas kar paenge aapako dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • अगर मन में नकारात्मक सोच रही है तो इससे छुटकारा कैसे पाएं नकारात्मक सोच से छुटकारा
URL copied to clipboard