#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

जो जन्म से अंधे होते हैं उसे क्या झलकता होगा?

Jo Janam Se Andhe Hote Hain Use Kya Jhalkta Hoga
Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
1:58
बीटी इस संबंध में तुमको ईश्वर के विधान पर याद करना चाहिए ईश्वर के राज्य में सभी के साथ समानता है और सभी के साथ की कामना है क्योंकि ईश्वर ने किसी से कोई चीज पीनी है या प्रकृति ने किसी से कोई चीज नहीं है तो उसको कुछ चीजें अतृप्त भी दी है यह निशान के चले जिनके जो जन्म से अंधे होते हैं उनकी प्रज्ञा चक्षु तेज होते हैं वे उनके अनुमान शक्ति बहुत तेज होती है उनकी सुनने की शक्ति बातें होती है उनको समझने की शक्ति भाग प्रकृति देती है बहुत से आपने ब्रांडों को देखा होगा कि वह उतना सुंदर हारमोनियम बजाते हैं यह बहुत से सुन जो ग्रैंड हैं जो जन्मांध हैं वह सूरदास जैसे प्रशिक्षक चूहे जोरदार इतने सुंदर पब्लिक इन्होंने आज तक हिंदी साहित्य में उनसे अच्छे पद लिखने वाला उससे अच्छी भक्ति की कृष्ण भक्ति की रचनाएं करने वाला उनके समान बाल लीलाओं का सुंदर चित्रण करने वाला और अन्य कोई दूसरा कभी हिंदी में नहीं हो सका है इसलिए सूरदास जी को हिंदी साहित्य का सूर्य कहते हैं सूर सूर तुलसी शशि उड़न केशवदास और अब के कवि के दोस्त समझौते करें प्रकाश तो बेटे उनको भगवान ने अंतर चाकसू बहुत तेज दिए हैं उनकी समझने की शक्ति बहुत तेज है तो प्रकृति का कुछ कीमती है वह कुछ एक्स्ट्रा भी देती है यह निश्चित मानकर चलें क्योंकि ईश्वर के राज्य में हमेशा समानता है अंधेर नहीं होता इस औषधि का काम ही है ईश्वर सभी का कल्याण चाहता है तो उसने सब कुछ छीना है तो कुछ अच्छा भी दिया है
Beetee is sambandh mein tumako eeshvar ke vidhaan par yaad karana chaahie eeshvar ke raajy mein sabhee ke saath samaanata hai aur sabhee ke saath kee kaamana hai kyonki eeshvar ne kisee se koee cheej peenee hai ya prakrti ne kisee se koee cheej nahin hai to usako kuchh cheejen atrpt bhee dee hai yah nishaan ke chale jinake jo janm se andhe hote hain unakee pragya chakshu tej hote hain ve unake anumaan shakti bahut tej hotee hai unakee sunane kee shakti baaten hotee hai unako samajhane kee shakti bhaag prakrti detee hai bahut se aapane braandon ko dekha hoga ki vah utana sundar haaramoniyam bajaate hain yah bahut se sun jo graind hain jo janmaandh hain vah sooradaas jaise prashikshak choohe joradaar itane sundar pablik inhonne aaj tak hindee saahity mein unase achchhe pad likhane vaala usase achchhee bhakti kee krshn bhakti kee rachanaen karane vaala unake samaan baal leelaon ka sundar chitran karane vaala aur any koee doosara kabhee hindee mein nahin ho saka hai isalie sooradaas jee ko hindee saahity ka soory kahate hain soor soor tulasee shashi udan keshavadaas aur ab ke kavi ke dost samajhaute karen prakaash to bete unako bhagavaan ne antar chaakasoo bahut tej die hain unakee samajhane kee shakti bahut tej hai to prakrti ka kuchh keematee hai vah kuchh ekstra bhee detee hai yah nishchit maanakar chalen kyonki eeshvar ke raajy mein hamesha samaanata hai andher nahin hota is aushadhi ka kaam hee hai eeshvar sabhee ka kalyaan chaahata hai to usane sab kuchh chheena hai to kuchh achchha bhee diya hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • जो जन्म से अंधे होते हैं उसे क्या झलकता होगा
URL copied to clipboard