#रिश्ते और संबंध

Seema yadav   PGT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Seema जी का जवाब
Teaching
1:55
नमस्कार आपका सवाल है कि अगर आपके घरवाले आपको बोलनी थी आपको या काम करना है आप उस समय मैं बिजी नहीं रहते हैं तो आप दूसरे काम मेरे से होते हैं तो आप कैसे करें क्या करें मेरे कि मेरा मानना है कि अगर हमारे घर पर उसे बोलते हैं कि आप कोई काम करना है और मेरा मन नहीं है फिर भी उनकी इच्छा के मुताबिक उनका नाम रखने के लिए उस काम को करने की कोशिश करूंगी और नहीं हो पाएगा अगर बाई चांस मेरे को काम मेरे से नहीं हो पाता है बोल दूंगी काम में करने की कोशिश कर रहे हो मेरे से नहीं हो रहा है काम तो दूसरा काम जो मेरे पसंद का काम था उसको मैं बोलूंगा अगर इस तरह का काम कोई होता तो मैं अवश्य कर लेती जैसी बात है कि वह मेरे को दे दो जी को देखते हुए वह मुझसे अवश्य देंगे फिर से आंखों में काम करो क्योंकि इस तरह से देखें उनका काम तो उनकी बातों से मिलना भी नहीं कर रही और अपना काम भी कर रहे हो जो मुझ में रुचि मैं जिस में रखती हूं तो मेरा मानना है कि हर किसी को अपने घर वालों की बात माननी चाहिए आपकी मर्जी हो या ना हो उसे कोशिश करो कितनी कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती तो तुम कोशिश करेंगे तो कार्य असंभव काम भी कारण ही संभव हो तो कोई भी कार्य संभव नहीं होता है और रुचि की बात रहेगी अपनी पसंद की कोई जरूरी नहीं है कि आपकी जो रुचि का ध्यान आपके माता-पिता की घरवाली ना रखी है काम आप कर लीजिए मुझे लगता है कि हम सभी को ऐसा ही करना चाहिए धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki agar aapake gharavaale aapako bolanee thee aapako ya kaam karana hai aap us samay main bijee nahin rahate hain to aap doosare kaam mere se hote hain to aap kaise karen kya karen mere ki mera maanana hai ki agar hamaare ghar par use bolate hain ki aap koee kaam karana hai aur mera man nahin hai phir bhee unakee ichchha ke mutaabik unaka naam rakhane ke lie us kaam ko karane kee koshish karoongee aur nahin ho paega agar baee chaans mere ko kaam mere se nahin ho paata hai bol doongee kaam mein karane kee koshish kar rahe ho mere se nahin ho raha hai kaam to doosara kaam jo mere pasand ka kaam tha usako main boloonga agar is tarah ka kaam koee hota to main avashy kar letee jaisee baat hai ki vah mere ko de do jee ko dekhate hue vah mujhase avashy denge phir se aankhon mein kaam karo kyonki is tarah se dekhen unaka kaam to unakee baaton se milana bhee nahin kar rahee aur apana kaam bhee kar rahe ho jo mujh mein ruchi main jis mein rakhatee hoon to mera maanana hai ki har kisee ko apane ghar vaalon kee baat maananee chaahie aapakee marjee ho ya na ho use koshish karo kitanee koshish karane vaalon kee kabhee haar nahin hotee to tum koshish karenge to kaary asambhav kaam bhee kaaran hee sambhav ho to koee bhee kaary sambhav nahin hota hai aur ruchi kee baat rahegee apanee pasand kee koee jarooree nahin hai ki aapakee jo ruchi ka dhyaan aapake maata-pita kee gharavaalee na rakhee hai kaam aap kar leejie mujhe lagata hai ki ham sabhee ko aisa hee karana chaahie dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard