#जीवन शैली

bolkar speaker

कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता?

Koi Bhe Abhimaan Tibbat Ke Upar Se Kyun Nahin Utarta
Ramlal Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ramlal जी का जवाब
Students
0:35

और जवाब सुनें

bolkar speaker
कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता?Koi Bhe Abhimaan Tibbat Ke Upar Se Kyun Nahin Utarta
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
0:28

bolkar speaker
कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता?Koi Bhe Abhimaan Tibbat Ke Upar Se Kyun Nahin Utarta
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:57
कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से तो नहीं हो सकता तो मेरे ख्याल से आप ने एक अजीब सा सवाल पूछा है आपका कहने का मतलब है कोई की कोई भी विमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उठता है तो तिब्बत चीन का एक वाक्य चेत्र चीन के दक्षिण पूर्व भाग में यह और भारत के साथ पश्चिमी नेपाल दक्षिण वर्मा और दक्षिण के पूर्व में भूटान के साथ सीमा साझा करता है तिब्बत पठार दुनिया में सबसे ऊंचे हैं यह एक महान हिमालय का घर है एवरेस्ट लगभग 8850 मीटर है और कंचनगंगा 8586 मीटर ऊंचा है और माउंट कैलाश जो कि 6638 मीटर है और मकालू लगभग 8481 मीटर है जो जो जो यूं जो कि 8201 मिनट में जैसे पर्वत एमपी भूमि से ऊंचाई सी पर्वत श्रंखला की ओर स्तनों ऊंचाई लगभग 8000 मीटर है कि भी मानती इसलिए अभिमान तिब्बत पर उड़ान भरने के लिए नहीं सुनते हैं क्योंकि दुनिया सबसे ऊंचे पहाड़ों की एक्शन कला के साथ 8850 मीटर लगभग 29035 मीटर से सबसे ऊंचा एवरेस्ट जवानों के लिए एक विशाल पहाड़ बन जाता है वाणिज्य और किसानों की अनुमति के लिए लगभग 28000 या 35000 फीट या 8000 फीट है इसी कारण तिब्बत के ऊपर से वह है वाहन नहीं उड़ते हैं धन्यवाद
Koee bhee abhimaan tibbat ke oopar se to nahin ho sakata to mere khyaal se aap ne ek ajeeb sa savaal poochha hai aapaka kahane ka matalab hai koee kee koee bhee vimaan tibbat ke oopar se kyon nahin uthata hai to tibbat cheen ka ek vaaky chetr cheen ke dakshin poorv bhaag mein yah aur bhaarat ke saath pashchimee nepaal dakshin varma aur dakshin ke poorv mein bhootaan ke saath seema saajha karata hai tibbat pathaar duniya mein sabase oonche hain yah ek mahaan himaalay ka ghar hai evarest lagabhag 8850 meetar hai aur kanchanaganga 8586 meetar ooncha hai aur maunt kailaash jo ki 6638 meetar hai aur makaaloo lagabhag 8481 meetar hai jo jo jo yoon jo ki 8201 minat mein jaise parvat emapee bhoomi se oonchaee see parvat shrankhala kee or stanon oonchaee lagabhag 8000 meetar hai ki bhee maanatee isalie abhimaan tibbat par udaan bharane ke lie nahin sunate hain kyonki duniya sabase oonche pahaadon kee ekshan kala ke saath 8850 meetar lagabhag 29035 meetar se sabase ooncha evarest javaanon ke lie ek vishaal pahaad ban jaata hai vaanijy aur kisaanon kee anumati ke lie lagabhag 28000 ya 35000 pheet ya 8000 pheet hai isee kaaran tibbat ke oopar se vah hai vaahan nahin udate hain dhanyavaad

bolkar speaker
कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता?Koi Bhe Abhimaan Tibbat Ke Upar Se Kyun Nahin Utarta
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
2:57
कोई भी विमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता की बस जो है जो दुनिया का सबसे बड़ा पठानी प्रदेश उसको दुनिया का शहर कहा जाता है इतना उदयपुर तो इतने ऊपर से मन करना मुश्किल भरा होता है रिस्की होता है क्योंकि ऊंचाई पर स्वाति परस्पर प्रजापति वह अपनी होती है इशिका ग्रेविटेशनल फोर्स में उर्दू से जब दूर जाती है तब कब कम हो जाता है आपकी बर्थ हिमालय जैसे भानु सिंह गिरा हुआ है गलती से पहाड़ से बड़ों से टकरा सकता है ऊंचाई पर ध्वजा बादल जो होते हैं उसमें से और पहाड़ों में से गुजरने के लिए इटली और स्वच्छ वातावरण की जरूरत होती है ऊंचाई पर नहीं रहता इसलिए विमान की जरूरत है अंजनी की शीला के खिलाफ जब हम पर बनाए गए 3:00 बजे शिवजी जो पुराना सही नहीं है ऐसा वैज्ञानिक सोचते धन्यवाद
Koee bhee vimaan tibbat ke oopar se kyon nahin utarata kee bas jo hai jo duniya ka sabase bada pathaanee pradesh usako duniya ka shahar kaha jaata hai itana udayapur to itane oopar se man karana mushkil bhara hota hai riskee hota hai kyonki oonchaee par svaati paraspar prajaapati vah apanee hotee hai ishika greviteshanal phors mein urdoo se jab door jaatee hai tab kab kam ho jaata hai aapakee barth himaalay jaise bhaanu sinh gira hua hai galatee se pahaad se badon se takara sakata hai oonchaee par dhvaja baadal jo hote hain usamen se aur pahaadon mein se gujarane ke lie italee aur svachchh vaataavaran kee jaroorat hotee hai oonchaee par nahin rahata isalie vimaan kee jaroorat hai anjanee kee sheela ke khilaaph jab ham par banae gae 3:00 baje shivajee jo puraana sahee nahin hai aisa vaigyaanik sochate dhanyavaad

bolkar speaker
कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता?Koi Bhe Abhimaan Tibbat Ke Upar Se Kyun Nahin Utarta
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:35
सारा कपास में कोई भी मानते बस के ऊपर से क्यों नहीं उतरता तो आपको बता दें कि तिब्बत जो है यह छात्रों से पहाड़ियों से घिरा हुआ है जिस कारण यहां पर जॉब अधिवेशन से जुड़े लोग हैं उनके मुताबिक उड़ने की अच्छी संभावनाएं नहीं होती कोई भी पेन बनाने की अच्छी संभावनाएं नहीं होती है से इलाके में जिसके कारण यहां पर जो हवाई जहाज है यजमान है वह तिब्बत के ऊपर से नहीं उड़ाए जाते हैं मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Saara kapaas mein koee bhee maanate bas ke oopar se kyon nahin utarata to aapako bata den ki tibbat jo hai yah chhaatron se pahaadiyon se ghira hua hai jis kaaran yahaan par job adhiveshan se jude log hain unake mutaabik udane kee achchhee sambhaavanaen nahin hotee koee bhee pen banaane kee achchhee sambhaavanaen nahin hotee hai se ilaake mein jisake kaaran yahaan par jo havaee jahaaj hai yajamaan hai vah tibbat ke oopar se nahin udae jaate hain main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

bolkar speaker
कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता?Koi Bhe Abhimaan Tibbat Ke Upar Se Kyun Nahin Utarta
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:33
सवाली की कोई भी व्यवहार तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता तिब्बत पठारी दुनिया में सबसे ऊंचा है और यह महान हिमालय का घर है एवरेज 8850 मीटर कंचनजंगा 8886 मीटर माउंट कैलाश 6603 6638 मीटर मकालू 8481 मीटर ओयो 8201 मीटर जैसे पर्वत तिब्बती भूमि में ऊंचे हैं इस पर्वत श्रंखला की औसत ऊंचाई 8000 मीटर है
Savaalee kee koee bhee vyavahaar tibbat ke oopar se kyon nahin utarata tibbat pathaaree duniya mein sabase ooncha hai aur yah mahaan himaalay ka ghar hai evarej 8850 meetar kanchanajanga 8886 meetar maunt kailaash 6603 6638 meetar makaaloo 8481 meetar oyo 8201 meetar jaise parvat tibbatee bhoomi mein oonche hain is parvat shrankhala kee ausat oonchaee 8000 meetar hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • कोई भी अभिमान तिब्बत के ऊपर से क्यों नहीं उतरता
URL copied to clipboard