#undefined

bolkar speaker

अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए?

Akaal Mritiyu Se Bachaav Hetu Kaun Kaun Se Upaay Karne Chahiye
A.k.s. Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए A.k.s. जी का जवाब
Teacher
2:57
अकाल मृत्यु से बचने के लिए आपको सिर्फ एक ही उपाय करना है और वह उपाय है कि आपको संतमत के मार्ग को अपनाना है लेकिन नाम की कमाई करना है इनकी भजन सिमरन जो व्यक्ति नाम से जुड़ जाता है जो व्यक्ति भजन और सिमरन प्रतिदिन नियमित रूप से करता है तो कल जो है यानी कि जो काल होता है तो यमराज यानी उसके पास नहीं आता है या फिर सो जाता है या नहीं चला जाता है जो है उससे पूछता है उसका जो है फ़िदा दीदार उस परमात्मा से ही होता है और परमात्मा से इस प्रकार से होगा कि आपके कर्म के अनुसार ही आपको फिर दूसरी शरीर मिलेगी और अगर आपके अच्छे अगर यदि कर्म है तो आपको मोक्ष की प्राप्ति भी हो सकती है तो इस प्रकार से बचने का बस और सीधा सरल उपाय है कि आप नाम के साथ जुड़ जाइए लेकिन नाम की कमाई कीजिए कि भजन और सिमरन आपको जो है अकाल मृत्यु आपको नहीं होगी यानी कि कल जो है आपके पास मरने के समय काल जो है आपको नहीं लेने आएंगे नहीं आएंगे आपको जो है सीना आपके कर्म के अनुसार एक यूनिट दूसरी होने में ट्रांसफर कर दिया जाएगा यानी कि जिस प्रकार उसी प्रकार से आपको सभी मिल जाएगी और आप अपने समय के अनुरूप ही मरेंगे यंकी जब भी आपकी मृत्यु अपने पूरे जीवन पूंजी करके उसके बाद ही मरेंगे और उसके बाद अकाल मृत्यु होती क्या है अकाउंट में तो देखे वह होती है इसके बारे में जानते हैं अकाल मृत्यु समय से पहले शरीर को त्याग ना पड़ जाए वह कार्यकाल आती है जैसे कि खुदकुशी करना है जहर खाना या फिर आत्महत्या करना जैसे जिस प्रकार से होता है या फिर किसी जहरीले सर्प बिच्छू इतिहास से अगर कोई प्राणी मरता है तो उसे अकाल मित्र की प्राप्ति होती है किंतु जो संतमत के नाम की कमाई करता है जो भजन और करता है कॉल भी डरता है यानी कि कल जो है फिर उस आत्मा को नहीं पूछता है उसकी काल से मुक्ति हो जाती है उसका सीधा लेखा-जोखा जो होता है वह सीधा परमात्मा के द्वारा होता है और जिस प्रकार से आप का कर्म होगा उसी के अनुरूप आपको सिम मिल जाएगी हां यह है कि आपको अकाल मित्र की प्राप्ति कभी भी नहीं होगी आप जो है जब भी मारेंगे आपको दूसरी शरीर धारण करनी पड़ेगी इस आधार पर के आत्मा प्रेत योनि में नहीं जाना पड़ेगा इसके लिए सबसे सरल उपाय है कि आप नाम की कमाई कीजिए नहीं भजन कीजिए सीमेंट कीजिए उस तंत्र से जुड़े रहिए जो आपको नामदान दे रहा है जिसने आप को नाम दान दिया है आप उसके मार को अपनाकर के नाम भी कमाई कीजिए अकाल मृत्यु आपको कभी भी नहीं होगी मतलब जब तक आप जाएंगे आप अपने स्वरूप जिएंगे आप अपनी आयु के अनुरूप ही जिएंगे उससे पहले आपको अकाउंट नहीं होनी है सीधा सा उपाय है कि नाम की कमाई कीजिए बस यही ऑप्शन है धन्यवाद
Akaal mrtyu se bachane ke lie aapako sirph ek hee upaay karana hai aur vah upaay hai ki aapako santamat ke maarg ko apanaana hai lekin naam kee kamaee karana hai inakee bhajan simaran jo vyakti naam se jud jaata hai jo vyakti bhajan aur simaran pratidin niyamit roop se karata hai to kal jo hai yaanee ki jo kaal hota hai to yamaraaj yaanee usake paas nahin aata hai ya phir so jaata hai ya nahin chala jaata hai jo hai usase poochhata hai usaka jo hai fida deedaar us paramaatma se hee hota hai aur paramaatma se is prakaar se hoga ki aapake karm ke anusaar hee aapako phir doosaree shareer milegee aur agar aapake achchhe agar yadi karm hai to aapako moksh kee praapti bhee ho sakatee hai to is prakaar se bachane ka bas aur seedha saral upaay hai ki aap naam ke saath jud jaie lekin naam kee kamaee keejie ki bhajan aur simaran aapako jo hai akaal mrtyu aapako nahin hogee yaanee ki kal jo hai aapake paas marane ke samay kaal jo hai aapako nahin lene aaenge nahin aaenge aapako jo hai seena aapake karm ke anusaar ek yoonit doosaree hone mein traansaphar kar diya jaega yaanee ki jis prakaar usee prakaar se aapako sabhee mil jaegee aur aap apane samay ke anuroop hee marenge yankee jab bhee aapakee mrtyu apane poore jeevan poonjee karake usake baad hee marenge aur usake baad akaal mrtyu hotee kya hai akaunt mein to dekhe vah hotee hai isake baare mein jaanate hain akaal mrtyu samay se pahale shareer ko tyaag na pad jae vah kaaryakaal aatee hai jaise ki khudakushee karana hai jahar khaana ya phir aatmahatya karana jaise jis prakaar se hota hai ya phir kisee jahareele sarp bichchhoo itihaas se agar koee praanee marata hai to use akaal mitr kee praapti hotee hai kintu jo santamat ke naam kee kamaee karata hai jo bhajan aur karata hai kol bhee darata hai yaanee ki kal jo hai phir us aatma ko nahin poochhata hai usakee kaal se mukti ho jaatee hai usaka seedha lekha-jokha jo hota hai vah seedha paramaatma ke dvaara hota hai aur jis prakaar se aap ka karm hoga usee ke anuroop aapako sim mil jaegee haan yah hai ki aapako akaal mitr kee praapti kabhee bhee nahin hogee aap jo hai jab bhee maarenge aapako doosaree shareer dhaaran karanee padegee is aadhaar par ke aatma pret yoni mein nahin jaana padega isake lie sabase saral upaay hai ki aap naam kee kamaee keejie nahin bhajan keejie seement keejie us tantr se jude rahie jo aapako naamadaan de raha hai jisane aap ko naam daan diya hai aap usake maar ko apanaakar ke naam bhee kamaee keejie akaal mrtyu aapako kabhee bhee nahin hogee matalab jab tak aap jaenge aap apane svaroop jienge aap apanee aayu ke anuroop hee jienge usase pahale aapako akaunt nahin honee hai seedha sa upaay hai ki naam kee kamaee keejie bas yahee opshan hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए?Akaal Mritiyu Se Bachaav Hetu Kaun Kaun Se Upaay Karne Chahiye
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:11
व्रत जो है शाश्वत है इसे रोका नहीं जा सकता सांसो की गिनती जो है परमात्मा ने हमको दी है कितने सांसे लेने हैं और इतने दिन नियत है और मृत तभी होगी क्योंकि आपने देखा होगा कि जावेद नेपाल में जब भूचाल आया था तो उन्होंने कितने मकान उसने सुबह और उसमें भी लोग जिंदा निकले थे मुंबई में अभी बिल्डिंग गिरी थी उसमें जो लोग जिंदा निकले थे तो अकाल मृत्यु तो तब होती है कि अचानक बिजली गिर जाए बाद में खड़े खड़े हुए में मर जाए वह काल मृत्यु हो गई लेकिन उसमें भी परिस्थितियां यह होती है कि ईश्वर करे जाको राखे साइयां मार सके न कोई आदमी ठीक सड़क सड़क चला जा रहा है और एक्सीडेंट हो गया वह मर गया बहुत से लोग होते हैं कि पूरी पूरी ट्रेन निकल जाती है और बीच में फस जाते हो चुपचाप शांति से लेटे रहते हैं और बज जाते हैं तो अकाल मृत्यु तो दिखे किसी भी समय आ सकते और अकाल मृत्यु से बचने के लिए इंश्योरेंस ले लीजिए घर परिवार से अच्छे तो हैं और मन से अपने अकाल मृत्यु का भय निकाल दीजिए कि मृत्यु तभी आती है जब उसके सांसो की गिनती पूरी हो जाती हो यह परमात्मा के पास उसका लेखा-जोखा रहता है
Vrat jo hai shaashvat hai ise roka nahin ja sakata saanso kee ginatee jo hai paramaatma ne hamako dee hai kitane saanse lene hain aur itane din niyat hai aur mrt tabhee hogee kyonki aapane dekha hoga ki jaaved nepaal mein jab bhoochaal aaya tha to unhonne kitane makaan usane subah aur usamen bhee log jinda nikale the mumbee mein abhee bilding giree thee usamen jo log jinda nikale the to akaal mrtyu to tab hotee hai ki achaanak bijalee gir jae baad mein khade khade hue mein mar jae vah kaal mrtyu ho gaee lekin usamen bhee paristhitiyaan yah hotee hai ki eeshvar kare jaako raakhe saiyaan maar sake na koee aadamee theek sadak sadak chala ja raha hai aur ekseedent ho gaya vah mar gaya bahut se log hote hain ki pooree pooree tren nikal jaatee hai aur beech mein phas jaate ho chupachaap shaanti se lete rahate hain aur baj jaate hain to akaal mrtyu to dikhe kisee bhee samay aa sakate aur akaal mrtyu se bachane ke lie inshyorens le leejie ghar parivaar se achchhe to hain aur man se apane akaal mrtyu ka bhay nikaal deejie ki mrtyu tabhee aatee hai jab usake saanso kee ginatee pooree ho jaatee ho yah paramaatma ke paas usaka lekha-jokha rahata hai

bolkar speaker
अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए?Akaal Mritiyu Se Bachaav Hetu Kaun Kaun Se Upaay Karne Chahiye
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
1:42
नमस्कार दोस्तों बोलकर आप में स्वागत है कि आज का सवाल है कि अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करना चाहिए तो इसमें मेरा मानना तो यह है कि हनुमानजी एकमात्र ऐसे देवता हैं और भगवान शिव भी अकाशी देता हूं जिनकी पूजा पाठ करने से प्रताप भगवान शिव का मंत्र ओम त्र्यंबकम यजामहे सुगंधिम पुष्टिवर्धनम उर्वारुकमिव वंदना मृत्योर्मुक्षीय मामृतात् इस मंत्र का जाप करने से अकाल मृत्यु टल सकती है तथा हनुमान जी का संकट मोचन महाबली हनुमान यह नाम भी तो 8 बार जपने से कोई हनुमान जी के मंदिर में पूजा पाठ करने से या हनुमान जी के मंदिर में दो खाने से या प्रसाद चढ़ाने से बीच हमारी अकाल मृत्यु टल सकती है क्योंकि हैं जब शनिदेव जब हनुमान और काल देव का युद्ध हुआ तो हनुमान जी ने कालदेव को हरा था इसीलिए उन्होंने उनको यह वचन दिया कि जब भी तुम्हारा कोई नाम जपेगा तो तुम्हें हैं तुम्हारे भक्तों का और तुम्हें अकाल मृत्यु से भय नहीं रहेगा अर्थात अकाल मृत्यु तक जाएगी हनुमान जी की जो भी कोई बात नहीं छोड़ता से हैं या विश्वास से पूजा पाठ करता है या नाम लेता है या जब करता है या तब करता तो वह अकाल मृत्यु को टाल सकता है
Namaskaar doston bolakar aap mein svaagat hai ki aaj ka savaal hai ki akaal mrtyu se bachaav hetu kaun-kaun se upaay karana chaahie to isamen mera maanana to yah hai ki hanumaanajee ekamaatr aise devata hain aur bhagavaan shiv bhee akaashee deta hoon jinakee pooja paath karane se prataap bhagavaan shiv ka mantr om tryambakam yajaamahe sugandhim pushtivardhanam urvaarukamiv vandana mrtyormuksheey maamrtaat is mantr ka jaap karane se akaal mrtyu tal sakatee hai tatha hanumaan jee ka sankat mochan mahaabalee hanumaan yah naam bhee to 8 baar japane se koee hanumaan jee ke mandir mein pooja paath karane se ya hanumaan jee ke mandir mein do khaane se ya prasaad chadhaane se beech hamaaree akaal mrtyu tal sakatee hai kyonki hain jab shanidev jab hanumaan aur kaal dev ka yuddh hua to hanumaan jee ne kaaladev ko hara tha iseelie unhonne unako yah vachan diya ki jab bhee tumhaara koee naam japega to tumhen hain tumhaare bhakton ka aur tumhen akaal mrtyu se bhay nahin rahega arthaat akaal mrtyu tak jaegee hanumaan jee kee jo bhee koee baat nahin chhodata se hain ya vishvaas se pooja paath karata hai ya naam leta hai ya jab karata hai ya tab karata to vah akaal mrtyu ko taal sakata hai

bolkar speaker
अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए?Akaal Mritiyu Se Bachaav Hetu Kaun Kaun Se Upaay Karne Chahiye
Gopal rana Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gopal जी का जवाब
Unknown
0:46
अकाल मृत्यु से बचाव हेतु हमारे शास्त्रों में निम्नलिखित उपाय किए गए हैं लेकिन उनमें से एक मंत्र का जो जाप करने से अकाल मृत्यु को डाला जा सकता है विवाह मंत्र जो है मार्कंडेय ऋषि द्वारा लिखित है ओम त्र्यंबकम यजामहे सुगंधिम पुष्टिवर्धनम उर्वारुकमिव वंदना मृत्योर्मुक्षीय मामृतात् एस बीज मंत्र का उच्चारण या श्रवण मात्र से इंसान का अकाल मृत्यु से छुटकारा मिल जाता है
Akaal mrtyu se bachaav hetu hamaare shaastron mein nimnalikhit upaay kie gae hain lekin unamen se ek mantr ka jo jaap karane se akaal mrtyu ko daala ja sakata hai vivaah mantr jo hai maarkandey rshi dvaara likhit hai om tryambakam yajaamahe sugandhim pushtivardhanam urvaarukamiv vandana mrtyormuksheey maamrtaat es beej mantr ka uchchaaran ya shravan maatr se insaan ka akaal mrtyu se chhutakaara mil jaata hai

bolkar speaker
अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए?Akaal Mritiyu Se Bachaav Hetu Kaun Kaun Se Upaay Karne Chahiye
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:54
नमस्ते दोस्तों आज आपका प्रश्न है अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए तो मित्रों आपके प्रश्न का उत्तर है अकाल मृत्यु से बचने हेतु कुछ उपाय हैं दशमी तिथि को ज्ञान की पूजा करनी चाहिए वह नीचे थी सभी रोगों को नष्ट करने वाले और नरक तथा मृत्यु से मानव का उद्धार करने वाले हैं हमें एकादशी तिथि को विश्व देव की भली प्रकार से पूजा करनी चाहिए योग सूर्योदय से प्रांत 9:48 पर करना चाहिए और कुछ उपाय हैं महाकाल शिव करेंगे काल से रक्षा महामृत्युंजय मंत्र करना चाहिए ओम नम शिवाय मंत्र का जाप करना चाहिए धन्यवाद साथियों खुश रहो
Namaste doston aaj aapaka prashn hai akaal mrtyu se bachaav hetu kaun-kaun se upaay karane chaahie to mitron aapake prashn ka uttar hai akaal mrtyu se bachane hetu kuchh upaay hain dashamee tithi ko gyaan kee pooja karanee chaahie vah neeche thee sabhee rogon ko nasht karane vaale aur narak tatha mrtyu se maanav ka uddhaar karane vaale hain hamen ekaadashee tithi ko vishv dev kee bhalee prakaar se pooja karanee chaahie yog sooryoday se praant 9:48 par karana chaahie aur kuchh upaay hain mahaakaal shiv karenge kaal se raksha mahaamrtyunjay mantr karana chaahie om nam shivaay mantr ka jaap karana chaahie dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए?Akaal Mritiyu Se Bachaav Hetu Kaun Kaun Se Upaay Karne Chahiye
Dinesh Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dinesh जी का जवाब
Ji
1:42
सवाल पूछा गया है कि अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए तो सवाल करता है बहुत खूब प्रश्न किया है परंतु कौन-कौन से उपाय मतलब बहुत सारे उपाय होंगे परंतु यहां पर हमारे वेदों में हमारे शास्त्रों में सिर्फ और सिर्फ एक ही उपाय बताया गया है जिसको करने से अकाल मृत्यु से बचाव हो सकता है और वह सिर्फ एक ही ऐसा है जो हमें बचा सकता है वह यह है हरे कृष्णा हरे कृष्णा कृष्णा कृष्णा हरे हरे हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे इस मंत्र का लगातार जाप करना इसी से ही अकाल मृत्यु से बचा सकता है और कोई भी अन्य उपाय किस को काटने के लिए से बचाव करने के लिए सक्षम हो ही नहीं सकता सिर्फ एक ही उपाय है इस धरती पर इस कलयुग में इस पूरे वर्ल्ड में इस पूरे ब्रह्मांड में सिर्फ एक ही उपाय है जो इस कार्य को करने से अकाल मृत्यु से बचाव हो सकता है उम्मीद करता हूं यह जवाब आपको पसंद आया होगा और संतुष्टि दे दी होगी अगर हां तो अपने अगले सभा के साथ जरूर जुड़िए गा अगर नहीं तो अपने शास्त्रों में जरूर देख लीजिएगा इसका सही जवाब यही रहेगा यही मिलेगा और अपने संतो से भी आपको यही मिलेगा उम्मीद करता हूं आप हमसे जरूर जल्द जरूर जल्दी जुड़ेंगे किसी अन्य किसी रोमांटिक कृष्ण के साथ धन्यवाद
Savaal poochha gaya hai ki akaal mrtyu se bachaav hetu kaun-kaun se upaay karane chaahie to savaal karata hai bahut khoob prashn kiya hai parantu kaun-kaun se upaay matalab bahut saare upaay honge parantu yahaan par hamaare vedon mein hamaare shaastron mein sirph aur sirph ek hee upaay bataaya gaya hai jisako karane se akaal mrtyu se bachaav ho sakata hai aur vah sirph ek hee aisa hai jo hamen bacha sakata hai vah yah hai hare krshna hare krshna krshna krshna hare hare hare raam hare raam raam raam hare hare is mantr ka lagaataar jaap karana isee se hee akaal mrtyu se bacha sakata hai aur koee bhee any upaay kis ko kaatane ke lie se bachaav karane ke lie saksham ho hee nahin sakata sirph ek hee upaay hai is dharatee par is kalayug mein is poore varld mein is poore brahmaand mein sirph ek hee upaay hai jo is kaary ko karane se akaal mrtyu se bachaav ho sakata hai ummeed karata hoon yah javaab aapako pasand aaya hoga aur santushti de dee hogee agar haan to apane agale sabha ke saath jaroor judie ga agar nahin to apane shaastron mein jaroor dekh leejiega isaka sahee javaab yahee rahega yahee milega aur apane santo se bhee aapako yahee milega ummeed karata hoon aap hamase jaroor jald jaroor jaldee judenge kisee any kisee romaantik krshn ke saath dhanyavaad

bolkar speaker
अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए?Akaal Mritiyu Se Bachaav Hetu Kaun Kaun Se Upaay Karne Chahiye
मनोज कुमार यादव Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए मनोज जी का जवाब
कृषक 🌾🌾🌾🌾
1:06
नमस्कार मित्रों जैसे आपका प्रश्न है अकाल मृत्यु से बचाव हेतु कौन-कौन से उपाय करने चाहिए यह गाना बहुत ही कठिन है लेकिन भागवत गीता में इसका प्रमाण मिलता है कि अगर बेटी को बारी है तो उसके साथ बिता कर भोजन करता है तो उसे जीवन में कभी अकाल मृत्यु नहीं होती क्योंकि बेटी अगर कुमारी जाते हैं तो उसका काल हर लेता है और उसे अकाल मृत्यु की नहीं होती है इसलिए करके अगर बेटी कुमारी है तो उसके साथ भोजन करने में कोई आपत्ति नहीं है और उससे आपको अकाल मृत्यु होने की समय से बचाव के लिए होते हैं इसका भागवत गीता में 183 श्लोक में ज्ञात किया है जिससे की बेटी के साथ भोजन करने से वह आपको अकाल मृत्यु हर लेते हैं कभी जीवन में नहीं होगा धन्यवाद
Namaskaar mitron jaise aapaka prashn hai akaal mrtyu se bachaav hetu kaun-kaun se upaay karane chaahie yah gaana bahut hee kathin hai lekin bhaagavat geeta mein isaka pramaan milata hai ki agar betee ko baaree hai to usake saath bita kar bhojan karata hai to use jeevan mein kabhee akaal mrtyu nahin hotee kyonki betee agar kumaaree jaate hain to usaka kaal har leta hai aur use akaal mrtyu kee nahin hotee hai isalie karake agar betee kumaaree hai to usake saath bhojan karane mein koee aapatti nahin hai aur usase aapako akaal mrtyu hone kee samay se bachaav ke lie hote hain isaka bhaagavat geeta mein 183 shlok mein gyaat kiya hai jisase kee betee ke saath bhojan karane se vah aapako akaal mrtyu har lete hain kabhee jeevan mein nahin hoga dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • अकाल मृत्यु से बचने के लिए मंत्र, मृत्यु से बचने का उपाय, अकाल मृत्यु निवारण
URL copied to clipboard