#undefined

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:12
ख्वाजा सवाल है कि मदद करने की बीमारी क्या है आप एक ऐसे व्यक्ति को क्या कहना चाहेंगे जिसको मदद करने की बीमारी इंसान होते हैं कि जिनको अपने आसपास से मतलब यह देखा नहीं जाता है कि कोई प्रॉब्लम में हूं कोई कितना हंसता खेलता रहता है जो सदन साइड हो गया है उसकी जिंदगी में कोई प्रॉब्लम है बहुत लोग ऐसे होते कि वह शेयर नहीं करें हाव भाव देख कर पता चल जाता है इससे मदद की जरूरत है या फिर यह किसी प्रॉब्लम में है लेकिन वह बताता नहीं है तो बहुत लोग उसके दोस्तों से पूछते हैं जितने भी फ्रेंड से क्लास में चंद से जाकर पूछते हैं किसे क्या हुआ कुछ ऐसा हुआ था क्या जिस वजह से वह सेंड लाने की कोशिश करते हैं तो उसकी मदद भी करेंगे तो वह इंसान कुछ भी सुना सकता है यह क्यों तुम इन बोर हो रहे हो जब हमने कॉल नहीं किया जिंदगी में अगर ऐसा देखा है कि जब कोई इंसान किसी प्रॉब्लम होता है तो कैसे उनके हेल्थ और मेंटल हेल्थ कितना मतलब नुकसान करता है तो उस चीज को फील किया होगा इसलिए बहुत सारे लोगों की आदत एक्सपीरियंस कर लिए होते हैं और देखते किन चीजों से सफर कर रहा है तुम देख नहीं पाते तो बहुत सारे इंसान की आदत होती है कि किसी प्रॉब्लम में हो बता भी नहीं रहा है तो मदद करने के लिए कोशिश करते हैं और ठीक हो जाए वह इंसान खुश हो जाए तो ऐसे ही कहना चाहूंगी कि बहुत अच्छी क्वालिटी है लेकिन कभी कदार क्या होता है कि जब कोई इंसान बार-बार आपकी बेइज्जती कर रहा हूं बार-बार वह कह रहा हूं कि मदद नहीं करना है कोई कॉल नहीं करना चाहता है वह ज्यादा और गुस्सा हो जा रहा है कुछ समय के लिए मेरे हिसाब से आपको वहां पर यह सब चीज नहीं करना चाहिए क्योंकि जितना ज्यादा सीन क्रिएट होता मैं उनको डर लगता है जब ठीक से और साथ में और शांति से रहे तब जाकर आप उन्हें समझाइए उनको बताइए और आप बताइए क्या मदद उनकी कैसे किस तरह से कर सकते हैं प्रॉब्लम ठीक हो सकता
Khvaaja savaal hai ki madad karane kee beemaaree kya hai aap ek aise vyakti ko kya kahana chaahenge jisako madad karane kee beemaaree insaan hote hain ki jinako apane aasapaas se matalab yah dekha nahin jaata hai ki koee problam mein hoon koee kitana hansata khelata rahata hai jo sadan said ho gaya hai usakee jindagee mein koee problam hai bahut log aise hote ki vah sheyar nahin karen haav bhaav dekh kar pata chal jaata hai isase madad kee jaroorat hai ya phir yah kisee problam mein hai lekin vah bataata nahin hai to bahut log usake doston se poochhate hain jitane bhee phrend se klaas mein chand se jaakar poochhate hain kise kya hua kuchh aisa hua tha kya jis vajah se vah send laane kee koshish karate hain to usakee madad bhee karenge to vah insaan kuchh bhee suna sakata hai yah kyon tum in bor ho rahe ho jab hamane kol nahin kiya jindagee mein agar aisa dekha hai ki jab koee insaan kisee problam hota hai to kaise unake helth aur mental helth kitana matalab nukasaan karata hai to us cheej ko pheel kiya hoga isalie bahut saare logon kee aadat eksapeeriyans kar lie hote hain aur dekhate kin cheejon se saphar kar raha hai tum dekh nahin paate to bahut saare insaan kee aadat hotee hai ki kisee problam mein ho bata bhee nahin raha hai to madad karane ke lie koshish karate hain aur theek ho jae vah insaan khush ho jae to aise hee kahana chaahoongee ki bahut achchhee kvaalitee hai lekin kabhee kadaar kya hota hai ki jab koee insaan baar-baar aapakee beijjatee kar raha hoon baar-baar vah kah raha hoon ki madad nahin karana hai koee kol nahin karana chaahata hai vah jyaada aur gussa ho ja raha hai kuchh samay ke lie mere hisaab se aapako vahaan par yah sab cheej nahin karana chaahie kyonki jitana jyaada seen kriet hota main unako dar lagata hai jab theek se aur saath mein aur shaanti se rahe tab jaakar aap unhen samajhaie unako bataie aur aap bataie kya madad unakee kaise kis tarah se kar sakate hain problam theek ho sakata

और जवाब सुनें

pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:34
घरवाले मदद करने की बीमारी क्या है आप ऐसे व्यक्ति को क्या कहना चाहेंगे जी ने मदद करने की बीमारी हो किसी की सहायता करना बहुत अच्छी बात है और हम लोग हमेशा यही कहते भी हैं करनी चाहिए सब की सहायता करनी चाहिए मुस्लिम लोगों का साथ देना चाहिए लेकिन किसी की मदद करते हैं और हमारे मदद करने से मान लीजिए किसी को किसी व्यक्ति को जाने वाली सहायता करना भी अगर किसी को कष्ट देता है वहां पर हमें क्या मदद नहीं करनी चाहिए क्योंकि ऐसे ही मैंने कई बार देखा है कि किसी के द्वारा मदद किया गया किसी दूसरे को कष्ट देता है वहां पर आकर मदद करते भी हैं तो यानी किसी को कष्ट दे रहे होते हैं इसलिए यहां पर मदद नहीं करनी चाहिए जैसे कि जैसे कि एक मैं छोटा कहे जा कर लेना चाहिए जैसे मान लीजिए किसी के घर में उनके खाने-पीने की चीजें हैं और कोई मांग नहीं आती है भाई सुने अभी नहीं लगी है अभी भूख लगेगी या नहीं हमको दे सकती है अपने हिस्से का खाना तो दे सकते हैं और जो मैंने उनके साथ ही बच्चे भी हैं उनके लिए भी मांग रहे होते अगर हम अपने बच्चे का खाना घर के बच्चे को दे दिया नहीं मेरे को तो खर्च होगा तो वहां पर आप बहुत अगर आपने जो खाना दिया उन्हें को बांट कर खा सकते हैं और आपके आपके लिए भी बच्चे ने हमें इतनी मदद करनी चाहिए जो किसी को कष्ट ना दें तुम भी कहते हैं सवाल का जवाब पसंद आएगा हम लोग को चाहिए दूसरों को भी खुश रखे धन्यवाद
Gharavaale madad karane kee beemaaree kya hai aap aise vyakti ko kya kahana chaahenge jee ne madad karane kee beemaaree ho kisee kee sahaayata karana bahut achchhee baat hai aur ham log hamesha yahee kahate bhee hain karanee chaahie sab kee sahaayata karanee chaahie muslim logon ka saath dena chaahie lekin kisee kee madad karate hain aur hamaare madad karane se maan leejie kisee ko kisee vyakti ko jaane vaalee sahaayata karana bhee agar kisee ko kasht deta hai vahaan par hamen kya madad nahin karanee chaahie kyonki aise hee mainne kaee baar dekha hai ki kisee ke dvaara madad kiya gaya kisee doosare ko kasht deta hai vahaan par aakar madad karate bhee hain to yaanee kisee ko kasht de rahe hote hain isalie yahaan par madad nahin karanee chaahie jaise ki jaise ki ek main chhota kahe ja kar lena chaahie jaise maan leejie kisee ke ghar mein unake khaane-peene kee cheejen hain aur koee maang nahin aatee hai bhaee sune abhee nahin lagee hai abhee bhookh lagegee ya nahin hamako de sakatee hai apane hisse ka khaana to de sakate hain aur jo mainne unake saath hee bachche bhee hain unake lie bhee maang rahe hote agar ham apane bachche ka khaana ghar ke bachche ko de diya nahin mere ko to kharch hoga to vahaan par aap bahut agar aapane jo khaana diya unhen ko baant kar kha sakate hain aur aapake aapake lie bhee bachche ne hamen itanee madad karanee chaahie jo kisee ko kasht na den tum bhee kahate hain savaal ka javaab pasand aaega ham log ko chaahie doosaron ko bhee khush rakhe dhanyavaad

Laxmi devi sant Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Laxmi जी का जवाब
🧖‍♀️life coach,Spiritual Advisor And Motivational speaker🙏
2:09
कृष्ण की मदद करने की बीमारी क्या है आप ऐसे व्यक्ति को क्या कहना चाहेंगे जिसे मदद करने की बीमारी होती है जो कोई पैसा इकट्ठा करता जाता है रक्त रक्त किसी की मदद नहीं करता तो उसे वह खुदा भी देखता है और सिर्फ इतना कहता है कि जब तू किसी की मदद नहीं करता तो तेरी मदद मैं कैसे करूं जो किसी की मदद करता है वह सच में यकीन है बहुत इमोशनल बैठती है और उसका दिल सच में साफ है तभी वह सब की मदद करता है कि हर कोई किसी की मदद नहीं करता लॉकडाउन में आपने देखा होगा कि सब लोगों ने मदद तो की लेकिन सब लोगों ने नहीं सब लोगों में कुछ लोगों ने मदद की और वह इंसान होते हैं जिनका दिल साफ होता है किसी को तकलीफ में नहीं देख पाती अगर आपके पास पैसा ना हो और कोई इंसान जिसको आप जैसे कह रहे की बीमारी है मदद करने कि आपके पास पैसा ना हो घर नाम कुछ ना अब सड़क पर अकेले हैं आपके पास तो हम भी नहीं हो जिसे मदद करने की बीमारी है आप इस क्वेश्चन में कह रहे हैं वह व्यक्ति आकर अगर आपकी मदद करें कि यह लोग पैसे तुम अपना बिजनेस शुरू करो अगर कोई जरूरत है तो मुझसे मदद लो तो क्या आप उस इंसान को बीमार व्यक्ति कहीं नहीं नहीं ना आप उस इंसान को एक फरिश्ता कहेंगे कि आपकी जिंदगी में एक ऐसा व्यक्ति आया जिसने आप को पैसे दिए इंडिपेंडेंट बनने के लिए सहायता करने के लिए उसने आपको कार्ड नंबर भी दिया तो वह आपके लिए फरिश्ता बनकर आया उस समय वह व्यक्ति आपको बीमार नहीं लगेगा उस समय आपको वह भगवान लगेगा एक फरिश्ता लगेगा ही किंजल लगेगा तो हमेशा यह समझिए कि हम किसी की मदद कर रहे हैं तो बीमार नहीं है हमारा दिल साफ है हर कोई है जो पैसे कलेक्ट करता रहता करता रहता लेकिन किसी की हेल्प नहीं करता ठीक है किसी की है नहीं करता उसकी खुदा भी हेल्प नहीं करते और जो हर किसी की मदद करता है खुदा किसी न किसी तरीके से उसकी मदद करता ही करता है थैंक यू सो मच
Krshn kee madad karane kee beemaaree kya hai aap aise vyakti ko kya kahana chaahenge jise madad karane kee beemaaree hotee hai jo koee paisa ikattha karata jaata hai rakt rakt kisee kee madad nahin karata to use vah khuda bhee dekhata hai aur sirph itana kahata hai ki jab too kisee kee madad nahin karata to teree madad main kaise karoon jo kisee kee madad karata hai vah sach mein yakeen hai bahut imoshanal baithatee hai aur usaka dil sach mein saaph hai tabhee vah sab kee madad karata hai ki har koee kisee kee madad nahin karata lokadaun mein aapane dekha hoga ki sab logon ne madad to kee lekin sab logon ne nahin sab logon mein kuchh logon ne madad kee aur vah insaan hote hain jinaka dil saaph hota hai kisee ko takaleeph mein nahin dekh paatee agar aapake paas paisa na ho aur koee insaan jisako aap jaise kah rahe kee beemaaree hai madad karane ki aapake paas paisa na ho ghar naam kuchh na ab sadak par akele hain aapake paas to ham bhee nahin ho jise madad karane kee beemaaree hai aap is kveshchan mein kah rahe hain vah vyakti aakar agar aapakee madad karen ki yah log paise tum apana bijanes shuroo karo agar koee jaroorat hai to mujhase madad lo to kya aap us insaan ko beemaar vyakti kaheen nahin nahin na aap us insaan ko ek pharishta kahenge ki aapakee jindagee mein ek aisa vyakti aaya jisane aap ko paise die indipendent banane ke lie sahaayata karane ke lie usane aapako kaard nambar bhee diya to vah aapake lie pharishta banakar aaya us samay vah vyakti aapako beemaar nahin lagega us samay aapako vah bhagavaan lagega ek pharishta lagega hee kinjal lagega to hamesha yah samajhie ki ham kisee kee madad kar rahe hain to beemaar nahin hai hamaara dil saaph hai har koee hai jo paise kalekt karata rahata karata rahata lekin kisee kee help nahin karata theek hai kisee kee hai nahin karata usakee khuda bhee help nahin karate aur jo har kisee kee madad karata hai khuda kisee na kisee tareeke se usakee madad karata hee karata hai thaink yoo so mach

anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
2:50
नमस्कार दोस्तों बोलकर में स्वागत है आज का सवाल है कि मदद करने की बीमारी क्या है तो मेरा कान्हा का मकान की मदद करना एक छापा कहलाता है तथा जैसे कि कोई असहाय या गरीब या अपन या विकलांग या बीमार व्यक्ति की मदद करने से किसी भी चीज से मदद कर सकते हैं जैसे प्यासे से या किसी चीज को खिलाकर किया उन्हें खाना खिलाकर या दूसरे स्थान को पार करने में या मुसीबत की घड़ी में उनका साथ देना मैं शब्द मदद के ही उपाय हैं छाता कामना से हमें कभी भी पीछे नहीं हटना चाहिए जहां तक संभव हो हर एक व्यक्ति को किसी न किसी की सहायता जरूर करनी चाहिए चारों गरीब हो शालीमार हो चाल विकलांग हो चाहे अंधा हो चाहे कैसा भी हो या पागल हो लेकिन दूसरे की नजर में हम देखते देखते हैं तो यह सोचते हैं कौन जाएगा इसके पास कि कौन करेगा इसके साथ ऐसा नहीं करना चाहिए और ना कि दूसरों की नजर में ना मतलब हम लोग कुछ भी कहें लेकिन कहने दो हमारा जो फर्ज बनता है लोगों की सेवा करना चाहता मैं तो यही संभव है कि ऐसा करने से मन को भी संतुष्टि मिलेगी और अगला भी हमने बात करेगा तो उससे भी हमें दिल मत ठेस पहुंचेगी कि हम खुश महसूस करेंगे जैसे कि कोरोनावायरस में अक्षय कुमार ने करोड़ों रुपया दिया थे तो लोगों की मदद के लिए दिए थे तो उनका नाम रोशन भी हो गया साथ ही उनका नाम भी लिया जाता कि उन्होंने कोरोनावायरस के वक्त लोगों की सहायता के लिए कितने पैसे दिए थे इसलिए हमें ना ज्यादा तो नहीं माना तो यह नाम नाम इज्जत और आज को आगे बढ़ाने के लिए हमें किसी ना किसी के साथ तो जरूर करनी चाहिए
Namaskaar doston bolakar mein svaagat hai aaj ka savaal hai ki madad karane kee beemaaree kya hai to mera kaanha ka makaan kee madad karana ek chhaapa kahalaata hai tatha jaise ki koee asahaay ya gareeb ya apan ya vikalaang ya beemaar vyakti kee madad karane se kisee bhee cheej se madad kar sakate hain jaise pyaase se ya kisee cheej ko khilaakar kiya unhen khaana khilaakar ya doosare sthaan ko paar karane mein ya museebat kee ghadee mein unaka saath dena main shabd madad ke hee upaay hain chhaata kaamana se hamen kabhee bhee peechhe nahin hatana chaahie jahaan tak sambhav ho har ek vyakti ko kisee na kisee kee sahaayata jaroor karanee chaahie chaaron gareeb ho shaaleemaar ho chaal vikalaang ho chaahe andha ho chaahe kaisa bhee ho ya paagal ho lekin doosare kee najar mein ham dekhate dekhate hain to yah sochate hain kaun jaega isake paas ki kaun karega isake saath aisa nahin karana chaahie aur na ki doosaron kee najar mein na matalab ham log kuchh bhee kahen lekin kahane do hamaara jo pharj banata hai logon kee seva karana chaahata main to yahee sambhav hai ki aisa karane se man ko bhee santushti milegee aur agala bhee hamane baat karega to usase bhee hamen dil mat thes pahunchegee ki ham khush mahasoos karenge jaise ki koronaavaayaras mein akshay kumaar ne karodon rupaya diya the to logon kee madad ke lie die the to unaka naam roshan bhee ho gaya saath hee unaka naam bhee liya jaata ki unhonne koronaavaayaras ke vakt logon kee sahaayata ke lie kitane paise die the isalie hamen na jyaada to nahin maana to yah naam naam ijjat aur aaj ko aage badhaane ke lie hamen kisee na kisee ke saath to jaroor karanee chaahie

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:38
स्वागत है आपका आपका दिल से मदद करने की बीमारी क्या है आप ऐसे व्यक्ति को क्या कहना चाहेंगे जिसे मदद करने की बीमारी हो तो फ्रेंड किसी की मदद करना कोई बीमारी नहीं होती मदद करना एक अच्छी बात होती है हर इंसान एक दूसरे की मदद करेगा तो उसमें अच्छा होता है जो हम किसी की मदद करेंगे तो वह लोग भी हमारी मदद जरूर करेंगे और किसी इंसान का मन दयालु होता है वह किसी की तकलीफ नहीं देख पाता है और मदद करता है तो यह कोई बीमारी नहीं होती मदद करना एक अच्छी आदत होती है और यह मानवता होती है तो फ्रेंड सब को जवाब पसंद आए तो लाइक करेगा धन्यवाद
Svaagat hai aapaka aapaka dil se madad karane kee beemaaree kya hai aap aise vyakti ko kya kahana chaahenge jise madad karane kee beemaaree ho to phrend kisee kee madad karana koee beemaaree nahin hotee madad karana ek achchhee baat hotee hai har insaan ek doosare kee madad karega to usamen achchha hota hai jo ham kisee kee madad karenge to vah log bhee hamaaree madad jaroor karenge aur kisee insaan ka man dayaalu hota hai vah kisee kee takaleeph nahin dekh paata hai aur madad karata hai to yah koee beemaaree nahin hotee madad karana ek achchhee aadat hotee hai aur yah maanavata hotee hai to phrend sab ko javaab pasand aae to laik karega dhanyavaad

umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Farmer
0:57
भाई आपने जो सवाल पूछा है उसका में आंसर दे देना चाहता हूं कि मदद करने वाली बीमारी नहीं होती है इंसानियत होती है जिसके अंदर इंसानियत जागृत होती है वही हाथ हमेशा आगे बढ़ता है किसी की मदद करने के लिए यह हर इंसान के अंदर होनी चाहिए इंसानियत इंसानियत को जगा कर रखना चाहिए हर आदमी को अपने अंदर और हर इंसान को जरूरतमंदों की मदद करने की कोशिश करनी चाहिए जहां तक हो सच्चा में यह नहीं कि जबरदस्ती करनी है कि आपके पास नहीं है मदद करने को आप खुद मदद करने चले जा आपके पास तो इतनी क्षमता है उतने ही मदद करें कोई जरूरतमंद आपके सामने है तो उसका मदद कर दे मदद करना अच्छी बात है इंसानियत की पहचान है यह बहुत बढ़िया काम है
Bhaee aapane jo savaal poochha hai usaka mein aansar de dena chaahata hoon ki madad karane vaalee beemaaree nahin hotee hai insaaniyat hotee hai jisake andar insaaniyat jaagrt hotee hai vahee haath hamesha aage badhata hai kisee kee madad karane ke lie yah har insaan ke andar honee chaahie insaaniyat insaaniyat ko jaga kar rakhana chaahie har aadamee ko apane andar aur har insaan ko jarooratamandon kee madad karane kee koshish karanee chaahie jahaan tak ho sachcha mein yah nahin ki jabaradastee karanee hai ki aapake paas nahin hai madad karane ko aap khud madad karane chale ja aapake paas to itanee kshamata hai utane hee madad karen koee jarooratamand aapake saamane hai to usaka madad kar de madad karana achchhee baat hai insaaniyat kee pahachaan hai yah bahut badhiya kaam hai

Dt. Mayuari official Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dt. जी का जवाब
Medical field
2:59
और क्वेश्चन है जिन्होंने प्रश्न करता ने पूछा है कि मदद करने की बीमारी क्या है ऐसे व्यक्ति को क्या कहना चाहेंगे जिससे मदद करने की बीमारी हो ठीक है तो अगर आपको मदद करने की बीमारी है मैं उसे बीमारी तो नहीं कहूंगी क्योंकि किसी की मदद करना बहुत ही अच्छी बात होती है क्योंकि आजकल के टाइम पर बहुत कम ही लोग ऐसे होते हैं जो किसी अनजान की मदद करते हैं आजकल लोग अपनों की मदद करने से कतराते हैं अनजान तो बहुत दूर की बात है कि किसी अनजान की हेल्प करें तो हेल्प करना कोई बीमारी नहीं है आपको हर हर इंसान को जो है वह हेल्प कर देना या बिना किसी यह समझे कि कोई इंसान को सच में आपकी हेल्प की जरूरत है या नहीं जरूरत है यह वह सच में आपकी हर चाहता है या नहीं चाहता है आप अपनी तरफ से हर हर मैटर पर हेल्प करें वह भी थोड़ा गलत है वह चीज आपको सोच नहीं चाहिए जहां आपको मदद करने की जरूरत हो आप वहां मदद करें जहां आपको लगे कि सामने वाला आपका आपकी मदद चाहता है आपकी हर चाहता है वहां आप मदद करें ऐसी मदद ना करें कि आप जो है हेल्पलेस हो जाएं इतनी मदद ना करें इतनी हेल्प ना करें कि खुद ही आपको खुद आप हेल्पलेस महसूस करें तो वह मदद ऐसी मदद ना करें बता कर मदद आप कर रहे हैं और उससे आपको कोई नुकसान नहीं है उससे जो है आपको और कोई नुकसान नहीं है आप किसी कठिनाई में नहीं करेंगे या नहीं पड़ेंगे आपको किसी करने का सामना नहीं करना पड़ेगा जो मदद आप कर रहे हैं तो ऐसी मदद करने में कोई हर्ज नहीं है ऐसी मदद मेरे ख्याल से सब को करनी चाहिए ठीक है लेकिन अगर किसी व्यक्ति जो आपसे मदद नहीं मांग रहा हूं आप उसकी भी मदद करने पर तुले हुए हो या हर मैटर उसकी मदद कर रहे हो जो आपको पसंद ना करता हो तो फिर ऐसे में और यह चीज पर थोड़ा आपको विचार करने की जरूरत है आपको सोचना चाहिए कि काम गलत जा रहा है कहां सही जा रहा है क्या जिसको आप हेल्प कर रहे हैं वह सच में आपकी हेप्पी लायक है कि नहीं सच में आपसे यह चाहता है या नहीं या उसके दिल में आपके लिए क्या है ठीक है तो यह सब जानकर यह सब समझ के इस विचार विमर्श करके तब आप कोई निर्णय ले वह ज्यादा सही है और इसे यह बीमारी तो नहीं है लेकिन हां यह आदत है जो आप कंट्रोल भी कर सकते हैं ठीक है इसमें कोई ऐसी चीज़ नहीं है कि यह इसका कोई इलाज नहीं ऐसा कुछ भी नहीं है आप इसे कंट्रोल भी कर सकते हैं मैं थोड़ा आप को रुकना थोड़ा सोचना समझना और निर्णय लेना यह आपके हाथ में है और यह आपको ही करना पड़ेगा और मुझे उम्मीद है कि आप यह करने में सफल भी होंगे तो यह निर्णय आपके ऊपर है कि आपको मदद देखना है कि जरूरत है या नहीं
Aur kveshchan hai jinhonne prashn karata ne poochha hai ki madad karane kee beemaaree kya hai aise vyakti ko kya kahana chaahenge jisase madad karane kee beemaaree ho theek hai to agar aapako madad karane kee beemaaree hai main use beemaaree to nahin kahoongee kyonki kisee kee madad karana bahut hee achchhee baat hotee hai kyonki aajakal ke taim par bahut kam hee log aise hote hain jo kisee anajaan kee madad karate hain aajakal log apanon kee madad karane se kataraate hain anajaan to bahut door kee baat hai ki kisee anajaan kee help karen to help karana koee beemaaree nahin hai aapako har har insaan ko jo hai vah help kar dena ya bina kisee yah samajhe ki koee insaan ko sach mein aapakee help kee jaroorat hai ya nahin jaroorat hai yah vah sach mein aapakee har chaahata hai ya nahin chaahata hai aap apanee taraph se har har maitar par help karen vah bhee thoda galat hai vah cheej aapako soch nahin chaahie jahaan aapako madad karane kee jaroorat ho aap vahaan madad karen jahaan aapako lage ki saamane vaala aapaka aapakee madad chaahata hai aapakee har chaahata hai vahaan aap madad karen aisee madad na karen ki aap jo hai helpales ho jaen itanee madad na karen itanee help na karen ki khud hee aapako khud aap helpales mahasoos karen to vah madad aisee madad na karen bata kar madad aap kar rahe hain aur usase aapako koee nukasaan nahin hai usase jo hai aapako aur koee nukasaan nahin hai aap kisee kathinaee mein nahin karenge ya nahin padenge aapako kisee karane ka saamana nahin karana padega jo madad aap kar rahe hain to aisee madad karane mein koee harj nahin hai aisee madad mere khyaal se sab ko karanee chaahie theek hai lekin agar kisee vyakti jo aapase madad nahin maang raha hoon aap usakee bhee madad karane par tule hue ho ya har maitar usakee madad kar rahe ho jo aapako pasand na karata ho to phir aise mein aur yah cheej par thoda aapako vichaar karane kee jaroorat hai aapako sochana chaahie ki kaam galat ja raha hai kahaan sahee ja raha hai kya jisako aap help kar rahe hain vah sach mein aapakee heppee laayak hai ki nahin sach mein aapase yah chaahata hai ya nahin ya usake dil mein aapake lie kya hai theek hai to yah sab jaanakar yah sab samajh ke is vichaar vimarsh karake tab aap koee nirnay le vah jyaada sahee hai aur ise yah beemaaree to nahin hai lekin haan yah aadat hai jo aap kantrol bhee kar sakate hain theek hai isamen koee aisee cheez nahin hai ki yah isaka koee ilaaj nahin aisa kuchh bhee nahin hai aap ise kantrol bhee kar sakate hain main thoda aap ko rukana thoda sochana samajhana aur nirnay lena yah aapake haath mein hai aur yah aapako hee karana padega aur mujhe ummeed hai ki aap yah karane mein saphal bhee honge to yah nirnay aapake oopar hai ki aapako madad dekhana hai ki jaroorat hai ya nahin

Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
5:00
कोई भी चीज जब सीमा से बाहर होगी तो वह परेशानियों का कारण बनेगी यह सब हमारी नैतिकता हमारी मान्यता हमारी इंसानियत यह कहती है कि हमें दूसरों की सहायता करनी चाहिए लेकिन उसकी भी एक लिमिट होनी चाहिए मैं आपको ऐसी सहायता करने के लिए मदद करने के लिए प्रेरित नहीं कर सकता हूं जो आपको अपना घर जमीन जायदाद भेजें आप अपने बच्चों को परेशानियों में कारण कारण बने तो सीमा से अधिक सहायता के लिए मैं आपको प्रेरित नहीं कर सकता हां सहायता करनी चाहिए अवश्य करनी चाहिए एक लिमिट में रहकर के सहायता करना एक मानवीय गुण है इंसानियत है और प्रत्येक मानव को करना चाहिए विचार लो कि मृत्यु हो न मृत्यु से डरो कभी मरो पर झूमर की याद तो करें सभी लोग तुमको याद जब भी करेंगे जब दूसरों की सेवा करोगे सहायता करोगे मदद करोगे आप लेकिन उसके लिए सीमा होती है हर व्यक्ति को उतना दूसरों की सेवा सहायता करनी चाहिए मदद करनी चाहिए जितनी उसकी पॉकेट इजीली अलाउड करती है जितना उसके परिवार के भरण-पोषण करने के बाद उस पर पद जाता है उसकी हेल्प करनी उससे आप हेल्प करें सहायता करें अच्छा गुण हैं लेकिन हां यह अवश्य ही दुर्गुण बन जाएगा उस समय कि जिस समय आप उसे सीमा से बाहर निकल जाएंगे आपकी पाक आपको वेतन मिलता है ₹15000 और ₹15000 को पूरी कोई सब दूसरों की सहायता में मदद में लगा देंगे तो आकर बचा आपके परिवार का भरण पोषण को कौन करेगा कैसे होगा इसलिए बेहतर यह है कि आप अपने बच्चों का भरण पोषण करें अति आवश्यकता है जो आपकी हैं उनको पूरा करें अपने परिवार की आवश्यकता को पूरा करें उसके बाद यदि कुछ समझता है तो आपको दूसरों की सेवा सहायता मदद आदि में लगाना चाहिए दान देना चाहिए अवश्य देना चाहिए लेकिन दान की भी एक लिमिट होनी चाहिए हम राजा बलि तो बन नहीं सकते हैं हम दानवीर कर्ण भी नहीं बन सकते हैं क्योंकि उनके पास तो अनाप-शनाप था पैसा था उन लोगों ने दान किया कर सकती थी हमारे तुम्हारे पास एक लिमिट है हम कलयुग की प्राणी हैं और उस लिमिट से बाहर बीएम सहायता नहीं कर सकते हैं मदद नहीं कर सकते हैं तो इसलिए इसको एक कुड़ी ही रहने दें अब गुंडा बनाएं यदि आप भी अपना घर बार जमीन ज्यादा तेज करके किसी की मदद की तो वह मेरे विचार से इस जमाने में आपकी मूर्खता कल आएगी मैं कैसा एग्जांपल प्रस्तुत कर रहा हूं कि एक बार एक मेरे मित्र को बहुत बढ़िया सकता थी पैसे की और मेरे पास भी पैसा नहीं था मैंने मेरी मित्र से कह कर के उसकी जमानत देकर के इस शर्त पर पैसा दिलाया कि मेरे मित्र ने साफ शब्दों में कह दिया कि मैं आप जिस को लाइक कर आए हो मेरे पास उसको नहीं जानता हूं मैं आपको जानता हूं तुम मेरे मित्र हो इसलिए मैं पैसा तुमको दे रहा हूं तुम मुझे लौट आओगे उस वायदे पर मैंने ले लिया मेरे मित्र उसका बच्चा बीमार था और उसको ₹100000 दिलवा दी है और शर्त उसमें यह हुई थी कि भाई मैं आपको 1 साल के अंतर्गत ही पैसा लौटा दूंगा मेरे मित्र यह जमाना आ गया है कि 4 साल तक उस बंदे ने बिल्कुल सांस ही नहीं नहीं 4 साल तक उस पैसे को नहीं लौटाया प्रणाम एक दिन मेरे मित्र ने मेरे घर आकर की कहां तैयार तुमने यह क्या किया यार उस व्यक्ति ने तो मेरे से नमस्कार करना भी बंद कर दिया और वह मेरी शक्ल देखकर कि भागता है अब यार मेरे पैसे को जाम करवाओ यार 4 साल हो गए इस पैसे को आखिर यह हुआ कि मुझे मेरी जमानत के अनुसार वह मेरी जेब से देना पड़ा अब आप सोचो ऐसे लोगों को जिनकी आप मदद कर रहे हैं क्या उन्होंने अच्छा परिणाम दिया
Koee bhee cheej jab seema se baahar hogee to vah pareshaaniyon ka kaaran banegee yah sab hamaaree naitikata hamaaree maanyata hamaaree insaaniyat yah kahatee hai ki hamen doosaron kee sahaayata karanee chaahie lekin usakee bhee ek limit honee chaahie main aapako aisee sahaayata karane ke lie madad karane ke lie prerit nahin kar sakata hoon jo aapako apana ghar jameen jaayadaad bhejen aap apane bachchon ko pareshaaniyon mein kaaran kaaran bane to seema se adhik sahaayata ke lie main aapako prerit nahin kar sakata haan sahaayata karanee chaahie avashy karanee chaahie ek limit mein rahakar ke sahaayata karana ek maanaveey gun hai insaaniyat hai aur pratyek maanav ko karana chaahie vichaar lo ki mrtyu ho na mrtyu se daro kabhee maro par jhoomar kee yaad to karen sabhee log tumako yaad jab bhee karenge jab doosaron kee seva karoge sahaayata karoge madad karoge aap lekin usake lie seema hotee hai har vyakti ko utana doosaron kee seva sahaayata karanee chaahie madad karanee chaahie jitanee usakee poket ijeelee alaud karatee hai jitana usake parivaar ke bharan-poshan karane ke baad us par pad jaata hai usakee help karanee usase aap help karen sahaayata karen achchha gun hain lekin haan yah avashy hee durgun ban jaega us samay ki jis samay aap use seema se baahar nikal jaenge aapakee paak aapako vetan milata hai ₹15000 aur ₹15000 ko pooree koee sab doosaron kee sahaayata mein madad mein laga denge to aakar bacha aapake parivaar ka bharan poshan ko kaun karega kaise hoga isalie behatar yah hai ki aap apane bachchon ka bharan poshan karen ati aavashyakata hai jo aapakee hain unako poora karen apane parivaar kee aavashyakata ko poora karen usake baad yadi kuchh samajhata hai to aapako doosaron kee seva sahaayata madad aadi mein lagaana chaahie daan dena chaahie avashy dena chaahie lekin daan kee bhee ek limit honee chaahie ham raaja bali to ban nahin sakate hain ham daanaveer karn bhee nahin ban sakate hain kyonki unake paas to anaap-shanaap tha paisa tha un logon ne daan kiya kar sakatee thee hamaare tumhaare paas ek limit hai ham kalayug kee praanee hain aur us limit se baahar beeem sahaayata nahin kar sakate hain madad nahin kar sakate hain to isalie isako ek kudee hee rahane den ab gunda banaen yadi aap bhee apana ghar baar jameen jyaada tej karake kisee kee madad kee to vah mere vichaar se is jamaane mein aapakee moorkhata kal aaegee main kaisa egjaampal prastut kar raha hoon ki ek baar ek mere mitr ko bahut badhiya sakata thee paise kee aur mere paas bhee paisa nahin tha mainne meree mitr se kah kar ke usakee jamaanat dekar ke is shart par paisa dilaaya ki mere mitr ne saaph shabdon mein kah diya ki main aap jis ko laik kar aae ho mere paas usako nahin jaanata hoon main aapako jaanata hoon tum mere mitr ho isalie main paisa tumako de raha hoon tum mujhe laut aaoge us vaayade par mainne le liya mere mitr usaka bachcha beemaar tha aur usako ₹100000 dilava dee hai aur shart usamen yah huee thee ki bhaee main aapako 1 saal ke antargat hee paisa lauta doonga mere mitr yah jamaana aa gaya hai ki 4 saal tak us bande ne bilkul saans hee nahin nahin 4 saal tak us paise ko nahin lautaaya pranaam ek din mere mitr ne mere ghar aakar kee kahaan taiyaar tumane yah kya kiya yaar us vyakti ne to mere se namaskaar karana bhee band kar diya aur vah meree shakl dekhakar ki bhaagata hai ab yaar mere paise ko jaam karavao yaar 4 saal ho gae is paise ko aakhir yah hua ki mujhe meree jamaanat ke anusaar vah meree jeb se dena pada ab aap socho aise logon ko jinakee aap madad kar rahe hain kya unhonne achchha parinaam diya

Dukh kaise mite Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dukh जी का जवाब
Unknown
1:12
आपने पूछा कि क्या आप एक विज्ञान है इससे प्रसन्न होते हैं लेकिन परिवार को दुखी करके रानीता बैनर्जी ताकि परिवार की दुकानों की अपने छत्तीसगढ़ से लोन कैसे प्राप्त कर सकते हैं उसका कोलकाता और भक्ति मां के पर तेरी पर तेरी मेरी शुभकामनाएं आपके साथ है हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरि कथा
Aapane poochha ki kya aap ek vigyaan hai isase prasann hote hain lekin parivaar ko dukhee karake raaneeta bainarjee taaki parivaar kee dukaanon kee apane chhatteesagadh se lon kaise praapt kar sakate hain usaka kolakaata aur bhakti maan ke par teree par teree meree shubhakaamanaen aapake saath hai hare krshn hare krshn hari katha

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • जयदा मदद करना कोई बीमारी है क्या ...मदद करने की दुआ
URL copied to clipboard