#भारत की राजनीति

bolkar speaker

भारत के लोग सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है?

Bharat Ke Log Sarkari Naukri Ki Taraf Itna Aakarshit Kyun Hote Hai
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:11
भारत के लोग सरकारी नौकरी सीखना प्रसिद्ध है वह तो मैं समझती हूं कि लोग सरकारी नौकरी कितना थे इसलिए करते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि एक बार वह सरकारी नौकरी अगर पाए जाते हैं तो अपने आप को सुरक्षित महसूस करते हैं और उन्हें लगता है कि उनकी जो नौकरी हो जीवन भाई की हो गई है और वो जीवनभर और सुरक्षित रहेंगे और इसी तरीके की नौकरी रहेगी जबकि प्राइवेट जॉब होती है जो प्राइवेट नौकरी होती है उनमें हमेशा जो है किसी भी छोटी रीजन के लिए वह निकाल सकते हैं और वह उनके ऊपर डिपेंड करता है कड़ी मेहनत करने के बावजूद भी आप कुछ लोगों का जो थे प्रमोशन नहीं होता है या फिर कड़ी मेहनत के बाद एक छोटी सी एक गलती की वजह से वह कभी भी निकाल सकते हैं तो कुछ ऐसी रीजन सोते हैं जिनमें जिसकी वजह से वह अपने आप को प्राइवेट नौकरी में सीएफ नहीं समझते हैं और गवर्नमेंट जॉब में वह अपने आप को क्या समझती है चाहिए लगता है यही कारण है जिसकी वजह से लोग सरकारी नौकरी के लिए इतने आकर्षित होते हैं तुम इतने सवाल का जवाब पसंद आए आप लोग को चाहिए दूसरों को भी खुश रखे धन्यवाद
Bhaarat ke log sarakaaree naukaree seekhana prasiddh hai vah to main samajhatee hoon ki log sarakaaree naukaree kitana the isalie karate hain kyonki unhen lagata hai ki ek baar vah sarakaaree naukaree agar pae jaate hain to apane aap ko surakshit mahasoos karate hain aur unhen lagata hai ki unakee jo naukaree ho jeevan bhaee kee ho gaee hai aur vo jeevanabhar aur surakshit rahenge aur isee tareeke kee naukaree rahegee jabaki praivet job hotee hai jo praivet naukaree hotee hai unamen hamesha jo hai kisee bhee chhotee reejan ke lie vah nikaal sakate hain aur vah unake oopar dipend karata hai kadee mehanat karane ke baavajood bhee aap kuchh logon ka jo the pramoshan nahin hota hai ya phir kadee mehanat ke baad ek chhotee see ek galatee kee vajah se vah kabhee bhee nikaal sakate hain to kuchh aisee reejan sote hain jinamen jisakee vajah se vah apane aap ko praivet naukaree mein seeeph nahin samajhate hain aur gavarnament job mein vah apane aap ko kya samajhatee hai chaahie lagata hai yahee kaaran hai jisakee vajah se log sarakaaree naukaree ke lie itane aakarshit hote hain tum itane savaal ka javaab pasand aae aap log ko chaahie doosaron ko bhee khush rakhe dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
भारत के लोग सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है?Bharat Ke Log Sarkari Naukri Ki Taraf Itna Aakarshit Kyun Hote Hai
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
2:51
हेलो फ्रेंड्स नमस्कार जैसा कि आपका फ्रांस में भारत के लोग सरकारी नौकरी से इतना आकर्षित क्यों है सरकारी और प्राइवेट सेक्टर में जो है कुछ सीमाएं होती हैं कुछ इन मेटल्स एंड कंडीशन लागू होते हैं सरकारी में क्या होता है प्रिंट कि आप की सबसे बड़ी बात जो होती है वह आपकी जॉब सिक्योरिटी होती है कि आप कुछ भी कर रहे हैं जो है तो उसमें आपको जो हिसाब से नहीं निकाला जाएगा और आपकी पेमेंट जो है वह आती रहती है प्राइवेट सेक्टर में आपका कोई किसी प्रकार से जॉब सिक्योरिटी नहीं होती आप कब आओ जब चाहे आप को निकाल सकता है जब चाहे आपकी सैलरी में से पैसा काट सकता है उसमें कोई किसी प्रकार का जो है सिक्योरिटी नहीं होती है और काम का प्रेशर जो है वह बहुत ज्यादा रहता है प्राइवेट सेक्टर में आपको काम बहुत ज्यादा देते हैं सैलरी कम देते हैं सरकारी वगैरह में काम भी बहुत ज्यादा नहीं होता नॉर्मल रहता है और सैलरी भी अच्छी खासी मिल जाती है तो कई कंडीशन होती हैं सबको देख वे लोग जो है वह सरकारी जॉब जो है ज्यादा पसंद करते हैं लेकिन आजकल आपने देखा होगा कि इतनी भरमार हो गई इतनी बेरोजगारी हो गए कि जितनी फॉर्म निकलते हैं उससे कहीं ज्यादा जो है वह अप्लाई हो जाते हैं और वैकेंसी फुल हो जाती हैं उसे तो आजकल के हालांकि ऐसा नहीं है कि आपको जॉब नहीं मिलेगी आपके अंदर टैलेंट होना चाहिए आपके अंदर स्किल होनी चाहिए बाकी आप कहीं भी रहेंगे फ्रेंड वह आपको जॉब मिलेगी मिलेगी चाहे आप प्राइवेट सेक्टर में हो जाए आप सरकारी सेक्टर में हो कुत्ता क्या फ्रेंड की जैसे की फीस बताया भी नहीं कि इसमें जॉब सिक्योरिटी नहीं होती टेंशन होता है प्रेशर होता है बॉस का तो इन सब से लोग बचने के लिए जो है सरकारी जॉब का सहारा लेते हैं सरकारी जॉब इन सब का जो है वह दबाव कम रहता है अगर आप सरकारी जॉब में एक बार भर्ती होली आपका सिलेक्शन हो जाता है तो आप को निकालना जो है थोड़ा सा मुश्किल हो जाता है क्योंकि इसमें कई प्रोसेस होते हैं दोनों पक्षकारों को देखा जाता है कि गलती किसकी होती है जल्दी कहां से हुई है अगर आप की वास्तविकता में गलती है तो एक दो बार जो है आपको माफी भी मिल सकती है कि नहीं ठीक है सरकारी कर्मचारी हैं हो गया गलती हो गई इंसान ही है तो इन सबको देखते हुए एक बार रियायत मिल सकती है लेकिन प्राइवेट सेक्टर में अगर आप थोड़ा सा भी गलती किए तो आपने देखा होगा कि कई लोगों की जो जॉब होती है वह उनकी हथेली पर होती है कि थोड़ा सा अगर इधर उधर हुआ थोड़ा सा काम गलत हुआ तो वह अपनी नौकरी से ही हाथ धो बैठते हैं तो यह सब पैसा रहता है फ्रेंड इसीलिए लोगों का जो जो काम है वह सरकारी जॉब की तरफ ज्यादा होता है आशा है कि आप सभी को है जवाब पसंद आया होगा नमस्कार
Helo phrends namaskaar jaisa ki aapaka phraans mein bhaarat ke log sarakaaree naukaree se itana aakarshit kyon hai sarakaaree aur praivet sektar mein jo hai kuchh seemaen hotee hain kuchh in metals end kandeeshan laagoo hote hain sarakaaree mein kya hota hai print ki aap kee sabase badee baat jo hotee hai vah aapakee job sikyoritee hotee hai ki aap kuchh bhee kar rahe hain jo hai to usamen aapako jo hisaab se nahin nikaala jaega aur aapakee pement jo hai vah aatee rahatee hai praivet sektar mein aapaka koee kisee prakaar se job sikyoritee nahin hotee aap kab aao jab chaahe aap ko nikaal sakata hai jab chaahe aapakee sailaree mein se paisa kaat sakata hai usamen koee kisee prakaar ka jo hai sikyoritee nahin hotee hai aur kaam ka preshar jo hai vah bahut jyaada rahata hai praivet sektar mein aapako kaam bahut jyaada dete hain sailaree kam dete hain sarakaaree vagairah mein kaam bhee bahut jyaada nahin hota normal rahata hai aur sailaree bhee achchhee khaasee mil jaatee hai to kaee kandeeshan hotee hain sabako dekh ve log jo hai vah sarakaaree job jo hai jyaada pasand karate hain lekin aajakal aapane dekha hoga ki itanee bharamaar ho gaee itanee berojagaaree ho gae ki jitanee phorm nikalate hain usase kaheen jyaada jo hai vah aplaee ho jaate hain aur vaikensee phul ho jaatee hain use to aajakal ke haalaanki aisa nahin hai ki aapako job nahin milegee aapake andar tailent hona chaahie aapake andar skil honee chaahie baakee aap kaheen bhee rahenge phrend vah aapako job milegee milegee chaahe aap praivet sektar mein ho jae aap sarakaaree sektar mein ho kutta kya phrend kee jaise kee phees bataaya bhee nahin ki isamen job sikyoritee nahin hotee tenshan hota hai preshar hota hai bos ka to in sab se log bachane ke lie jo hai sarakaaree job ka sahaara lete hain sarakaaree job in sab ka jo hai vah dabaav kam rahata hai agar aap sarakaaree job mein ek baar bhartee holee aapaka silekshan ho jaata hai to aap ko nikaalana jo hai thoda sa mushkil ho jaata hai kyonki isamen kaee proses hote hain donon pakshakaaron ko dekha jaata hai ki galatee kisakee hotee hai jaldee kahaan se huee hai agar aap kee vaastavikata mein galatee hai to ek do baar jo hai aapako maaphee bhee mil sakatee hai ki nahin theek hai sarakaaree karmachaaree hain ho gaya galatee ho gaee insaan hee hai to in sabako dekhate hue ek baar riyaayat mil sakatee hai lekin praivet sektar mein agar aap thoda sa bhee galatee kie to aapane dekha hoga ki kaee logon kee jo job hotee hai vah unakee hathelee par hotee hai ki thoda sa agar idhar udhar hua thoda sa kaam galat hua to vah apanee naukaree se hee haath dho baithate hain to yah sab paisa rahata hai phrend iseelie logon ka jo jo kaam hai vah sarakaaree job kee taraph jyaada hota hai aasha hai ki aap sabhee ko hai javaab pasand aaya hoga namaskaar

bolkar speaker
भारत के लोग सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है?Bharat Ke Log Sarkari Naukri Ki Taraf Itna Aakarshit Kyun Hote Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
2:26
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि भारत के लोग सरकारी नौकरी में इतना आकर्षित क्यों है तो दोस्तों सरकारी नौकरी में आकर्षित सबसे पहले आकर्षित का कारण है जॉब सिक्योरिटी अगर आप यह कुणाल में भी देख सकते हैं बहुत सारे बड़े-बड़े अच्छी पोस्ट वाले प्राइवेट जो है कर्मचारियों की या तो चटनी हो गई या सैलरी आधी मिल रही है कई जगह लेकिन किसी भी सरकारी कर्मचारी को ना ही छुट्टी पर कोई सैलरी उसकी कटी है ना ही उसकी कोई चटनी है तो सबसे बड़ी एक तो जॉब सिक्योरिटी होती है अब चलो पेंशन पक्ष पहले आकर्षण था वह नहीं रह गया और दूसरा सबसे कारण यह है कि आपकी सरकारी चेक किसी भी पोस्ट में सरकारी नौकरी लग गई हो आपको एक सुंदर सुशील एक कन्या से विवाह होने का प्रस्ताव भी पारित हो जाता है यानी कि आपने देवताओं में आप की गिनती होने लगेगी आपको अप्सराएं मिलेंगी और साथ में धन तो अलग-अलग मिलेगा मैं यूपी बिहार में जैसे पूर्वांचल की तरफ का हूं तो मैं बताना चाहता हूं वहां तो बिहार में ऐड आती आईएस कितने लाख रुपए मिलेंगे बैंक पीओ कितने मिलेंगे चपरासी कितने मिलेंगे हो सकता है क्या कोई बिजनेस कर रहा हो या प्राइवेट नौकरी में बहुत अच्छा पैसे कमाता हूं लेकिन लोगों का जो है मानसिक स्तर इतना गिरा हुआ है वहां पर इतना सोच है कि सरकारी नौकरी वाले व्यक्ति से ही शादी करनी है तो सरकारी नौकरी से शादी करनी है तो आकर तो बना ही रहेगा और अब धीरे-धीरे पैसा देने में सक्षम है और सरकारी नौकरी वाले गति से ही शादी कर दे भले आर्मी मैन से कर ले शादी और शहीद हो जाए जाकर लड़की विधवा हो जाए लेकिन वह कोई 50,000 लड़का तुम्हारा हुआ प्राइवेट नौकरी में या व्यापार करने में तो कई लोग नहीं करना चाहेंगे अपनी लड़की को चाहते हैं कि इस का कैरियर बिल्कुल सेट हो जाए उसका शादी के बाद ऐसा नहीं हो कि पैसे के लिए दर-दर ठोकरें खाने पड़े उस को परेशानी हो तो पहले के लोगों की शादी हुआ करती थी घरों में बैल देखे जाते थे अब ट्रैक्टर देखे जाने लगे बीच में अब कुछ नहीं देखा जाता है सरकारी नौकरी है कोई बात नहीं कर लेगा कमा लेगा होते हैं और होना भी चाहिए यह स्वाभाविक बात है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki bhaarat ke log sarakaaree naukaree mein itana aakarshit kyon hai to doston sarakaaree naukaree mein aakarshit sabase pahale aakarshit ka kaaran hai job sikyoritee agar aap yah kunaal mein bhee dekh sakate hain bahut saare bade-bade achchhee post vaale praivet jo hai karmachaariyon kee ya to chatanee ho gaee ya sailaree aadhee mil rahee hai kaee jagah lekin kisee bhee sarakaaree karmachaaree ko na hee chhuttee par koee sailaree usakee katee hai na hee usakee koee chatanee hai to sabase badee ek to job sikyoritee hotee hai ab chalo penshan paksh pahale aakarshan tha vah nahin rah gaya aur doosara sabase kaaran yah hai ki aapakee sarakaaree chek kisee bhee post mein sarakaaree naukaree lag gaee ho aapako ek sundar susheel ek kanya se vivaah hone ka prastaav bhee paarit ho jaata hai yaanee ki aapane devataon mein aap kee ginatee hone lagegee aapako apsaraen milengee aur saath mein dhan to alag-alag milega main yoopee bihaar mein jaise poorvaanchal kee taraph ka hoon to main bataana chaahata hoon vahaan to bihaar mein aid aatee aaeees kitane laakh rupe milenge baink peeo kitane milenge chaparaasee kitane milenge ho sakata hai kya koee bijanes kar raha ho ya praivet naukaree mein bahut achchha paise kamaata hoon lekin logon ka jo hai maanasik star itana gira hua hai vahaan par itana soch hai ki sarakaaree naukaree vaale vyakti se hee shaadee karanee hai to sarakaaree naukaree se shaadee karanee hai to aakar to bana hee rahega aur ab dheere-dheere paisa dene mein saksham hai aur sarakaaree naukaree vaale gati se hee shaadee kar de bhale aarmee main se kar le shaadee aur shaheed ho jae jaakar ladakee vidhava ho jae lekin vah koee 50,000 ladaka tumhaara hua praivet naukaree mein ya vyaapaar karane mein to kaee log nahin karana chaahenge apanee ladakee ko chaahate hain ki is ka kairiyar bilkul set ho jae usaka shaadee ke baad aisa nahin ho ki paise ke lie dar-dar thokaren khaane pade us ko pareshaanee ho to pahale ke logon kee shaadee hua karatee thee gharon mein bail dekhe jaate the ab traiktar dekhe jaane lage beech mein ab kuchh nahin dekha jaata hai sarakaaree naukaree hai koee baat nahin kar lega kama lega hote hain aur hona bhee chaahie yah svaabhaavik baat hai dhanyavaad

bolkar speaker
भारत के लोग सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है?Bharat Ke Log Sarkari Naukri Ki Taraf Itna Aakarshit Kyun Hote Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
1:28
किलो सरकारी नौकरी से इतना आकर्षित क्यों देखिए कहीं ना कहीं लोगों को एक नजरिया होता है कि भर्ती नौकरी हमारे लिए ज्यादा सुरक्षित है और क्योंकि आप देखेंगे जब स्कूल से कॉलेज से बच्चा निकलता है तो उसका पहले लग सकता है सरकारी नौकरी उत्तर और खास करके हिंदुस्तान की कल्चर में इस तरह से हो गया है और उन्हें लगता है कि हम आसानी से वहां पहुंच जाएंगे तो पूरी जिंदगी बन जाएगी कहीं ना कहीं सरकारी नौकरियों में एक प्रकार की लापरवाही नजर आने लगी है और खास करके जो एडमिनिस्ट्रतिफ होते हैं वहां जिम्मेदारियां बहुत होती है वहां तक के बहुत कम लोग जाते हैं तो निश्चित तौर पर अगर इस तरह से लोगों के बीच में आप देखना चाहते हैं तो एक क्रेज बढ़ता चला जा रहा और दिन प्रतिदिन ना है और भाभी की कोविड-19 का प्रभाव हुआ है सब ठीक-ठाक हो गए सब नष्ट हो गए तो कहीं नहीं सरकारी नौकरी जितने भी थे वो अपने आप को सुरक्षित महसूस करते सेफ्टी और सुरक्षा और सामाजिक प्रतिष्ठा को ध्यान में रखते लोगों का टेंशन ज्यादा है और इसी कारण से उधर की तरफ जाते हैं
Kilo sarakaaree naukaree se itana aakarshit kyon dekhie kaheen na kaheen logon ko ek najariya hota hai ki bhartee naukaree hamaare lie jyaada surakshit hai aur kyonki aap dekhenge jab skool se kolej se bachcha nikalata hai to usaka pahale lag sakata hai sarakaaree naukaree uttar aur khaas karake hindustaan kee kalchar mein is tarah se ho gaya hai aur unhen lagata hai ki ham aasaanee se vahaan pahunch jaenge to pooree jindagee ban jaegee kaheen na kaheen sarakaaree naukariyon mein ek prakaar kee laaparavaahee najar aane lagee hai aur khaas karake jo edaministratiph hote hain vahaan jimmedaariyaan bahut hotee hai vahaan tak ke bahut kam log jaate hain to nishchit taur par agar is tarah se logon ke beech mein aap dekhana chaahate hain to ek krej badhata chala ja raha aur din pratidin na hai aur bhaabhee kee kovid-19 ka prabhaav hua hai sab theek-thaak ho gae sab nasht ho gae to kaheen nahin sarakaaree naukaree jitane bhee the vo apane aap ko surakshit mahasoos karate sephtee aur suraksha aur saamaajik pratishtha ko dhyaan mein rakhate logon ka tenshan jyaada hai aur isee kaaran se udhar kee taraph jaate hain

bolkar speaker
भारत के लोग सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है?Bharat Ke Log Sarkari Naukri Ki Taraf Itna Aakarshit Kyun Hote Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:37
स्टार दोस्तों भारत के लोग सरकारी नौकरी के में इतना कष्ट क्यों है क्यों क्योंकि दोस्तों सरकारी नौकरी परमानेंट नौकरी रहती है सरकारी नौकरी में जो एक बार हो जाता है उसका इतनी जल्दी नौकरी छोड़ना आसान नहीं है और समय के साथ आपकी सैलरी बढ़ती जाती है इस वजह से सरकारी नौकरी बहुत ही फायदेमंद है कम समय में आपको ज्यादा पैसा मिलता है और काम भी को थोड़ा बहुत ही होता है ज्यादा काम भी आपको नहीं करना पड़ता है और सरकारी नौकरी के बहुत सारे फायदे भी होते हैं आप को सैलरी के साथ काफी चीजें भी बेनिफिट से मिलते हैं उसमें तो अगर आपको जवाब अच्छा लगा हो तो प्लीज लाइक जरुर करें
Staar doston bhaarat ke log sarakaaree naukaree ke mein itana kasht kyon hai kyon kyonki doston sarakaaree naukaree paramaanent naukaree rahatee hai sarakaaree naukaree mein jo ek baar ho jaata hai usaka itanee jaldee naukaree chhodana aasaan nahin hai aur samay ke saath aapakee sailaree badhatee jaatee hai is vajah se sarakaaree naukaree bahut hee phaayademand hai kam samay mein aapako jyaada paisa milata hai aur kaam bhee ko thoda bahut hee hota hai jyaada kaam bhee aapako nahin karana padata hai aur sarakaaree naukaree ke bahut saare phaayade bhee hote hain aap ko sailaree ke saath kaaphee cheejen bhee beniphit se milate hain usamen to agar aapako javaab achchha laga ho to pleej laik jarur karen

bolkar speaker
भारत के लोग सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है?Bharat Ke Log Sarkari Naukri Ki Taraf Itna Aakarshit Kyun Hote Hai
paramveer koshlaindra Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए paramveer जी का जवाब
Unknown
0:29
तुझे हमारी मानसिकता है कि वस्त्र कर नौकरी है उसकी जिंदगी सेटल है बस इसी के कारण सभी दौड़े जा रहे हैं सोने जा रहे हैं जबकि यह दूसरे सम देखा जाए तो तू मेरी जान है तू वहां हिंदुत्व का नौकरी में लोग इतना इंटरेस्ट लेते नहीं हो बिजी तो कर लेते हैं और जितेंद्र की आंखें नॉर्मल लाइफ जीने की आदी है और शेयर भी करें
Tujhe hamaaree maanasikata hai ki vastr kar naukaree hai usakee jindagee setal hai bas isee ke kaaran sabhee daude ja rahe hain sone ja rahe hain jabaki yah doosare sam dekha jae to too meree jaan hai too vahaan hindutv ka naukaree mein log itana intarest lete nahin ho bijee to kar lete hain aur jitendr kee aankhen normal laiph jeene kee aadee hai aur sheyar bhee karen

bolkar speaker
भारत के लोग सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है?Bharat Ke Log Sarkari Naukri Ki Taraf Itna Aakarshit Kyun Hote Hai
Anand Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Anand जी का जवाब
Mathematics Teacher
0:30
सवाल है भारत के लोग सरकारी नौकरी से इतना आकर्षित क्यों हिंदी कि भारत के लोग सरकारी नौकरी को आकर्षण का केंद्र मानते हैं कि देखिए विचार से जानते हैं कि यह सर्व सुविधा युक्त और कोई भी आपत्ति इसमें नहीं है कोई भी आपत्ति आपके जीवन में नहीं आ सकती है सरकारी नौकरी करने वालों के लिए बहुत सुविधाएं मिलती हैं और 1 तरीके से मानसिकता लोगों ने बना लिया भारत के लोगों ने सरकारी नौकरी सबसे अच्छी चीज है
Savaal hai bhaarat ke log sarakaaree naukaree se itana aakarshit kyon hindee ki bhaarat ke log sarakaaree naukaree ko aakarshan ka kendr maanate hain ki dekhie vichaar se jaanate hain ki yah sarv suvidha yukt aur koee bhee aapatti isamen nahin hai koee bhee aapatti aapake jeevan mein nahin aa sakatee hai sarakaaree naukaree karane vaalon ke lie bahut suvidhaen milatee hain aur 1 tareeke se maanasikata logon ne bana liya bhaarat ke logon ne sarakaaree naukaree sabase achchhee cheej hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भारतीय सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है, सरकारी नौकरी की तरफ इतना आकर्षित क्यों होते है भारतीय
URL copied to clipboard