#भारत की राजनीति

bolkar speaker

क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?

Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:41
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है या पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो सकता है कि यहां फ्रेंड यह अपने-अपने नेचर के ऊपर होता है पद उसमें कोई मायने नहीं रखता है उसके पद पर भी बैठी हुई बहुत सारे व्यक्ति ऐसे होते हैं जो चरित्रहीन होते हैं उनका चरित्र बहुत गंदा होता है और महिलाओं को व स्त्रियों को बुरी नजर से देखते हैं तथा गए मैसेज छोटे लोगों को भी दबाने की कोशिश करते हैं तथा वे चरित्र के अच्छे नहीं होते हैं तो उसमें पर कोई मायने नहीं रखता है तो स्वभाव के ऊपर होता है और वह गलत प्रभाव के होते हैं इसलिए उनका चरित्र भी खराब होता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai ya pad par baithe vyakti bhee charitraheen ho sakata hai ki yahaan phrend yah apane-apane nechar ke oopar hota hai pad usamen koee maayane nahin rakhata hai usake pad par bhee baithee huee bahut saare vyakti aise hote hain jo charitraheen hote hain unaka charitr bahut ganda hota hai aur mahilaon ko va striyon ko buree najar se dekhate hain tatha gae maisej chhote logon ko bhee dabaane kee koshish karate hain tatha ve charitr ke achchhe nahin hote hain to usamen par koee maayane nahin rakhata hai to svabhaav ke oopar hota hai aur vah galat prabhaav ke hote hain isalie unaka charitr bhee kharaab hota hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
Dinesh Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dinesh जी का जवाब
Ji
2:14
सवाल पूछा गया है कि क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो सकते हैं या नहीं तो सवाल करता को बता दें कि आज के जमाने में यहां पर पद भी रिश्वत से ही मिलती है तो अगर जिसके पास पैसा होगा तो वह अपनी पद भी रिश्वत से ही पा सकता है इसीलिए और यहां तक की पद तो बहुत दूर की बात है यहां पर एजुकेशन भी ऐसा कहीं कहीं पर देखा जा सकता है जहां पर स्कूल के प्रिंसिपल सोते हैं जो यूनिवर्सिटी के लोग होते हैं वह इतने बिकाऊ होते हैं कि मार्क्स भी अच्छे से दे देते हैं पैसे लेकर तू मांस अच्छे मिल जाएंगे उसके बाद पद अच्छा मिल जाएगा रिश्वत देने से ही तो सीधी सी बातें कोई भी चरित्रहीन व्यक्ति जिसके पास पैसा है तो वह भी अपने पैसों के दम पर उच्च पद प्राप्त कर सकता है तो उसके लिए कोई भी ऐसा सिस्टम नहीं बनाया गया है सरकारी दो या फिर प्राइवेट मेरी कोई ऐसा सिस्टम नहीं है कि हम मिस के दो-तीन महीने इसको देखेंगे इसको यूज़ करके इसका कैसा है आचार विचार उसके बाद उसको रखेंगे तो ऐसा कोई भी सिस्टम किसी भी कंपनी में या किसी भी सरकारी पद पदों पर ऐसा कोई भी सिस्टम है नहीं और ना ही उनके ऊपर कोई निगरानी रखने वाला है कि चलो भाई वह किस तरीके से काम करता है तो उनके ऊपर सीसीटीवी कैमरा हो या ऑडियो हो कि जो भी वह काम कर रहा है उसका कुछ सब कुछ रिकॉर्डिंग हो जाए सब कुछ भी नहीं है इसलिए इस सिस्टम में थोड़ी गड़बड़ है इसलिए आपके सवाल का तो जवाब है उस पद पर रहता ही व्यक्ति हो सकते हैं तो बिल्कुल हो सकते हैं हंड्रेड पर्सन ऐसे बहुत से नेताओं की भी अपने पोस्टिंग देखी होगी जो उच्च पद पर है वह बहुत ही गंदे भाषण यार भड़काऊ भाषण देते रहते हैं आजकल तो वह सब बहुत ही ज्यादा चर्चे में है न्यूज़ में है देख देखने को मिल सकता मिस करता हूं मेरा जवाब आपको पसंद आया होगा और किसी के दिल को ठेस ना बची हो अगर हां तो मैं उससे दिल से क्षमा मांगता हूं अगले सवाल के साथ मुझसे जरूर जोड़िए गा धन्यवाद
Savaal poochha gaya hai ki kya uchch pad par baithe vyakti bhee charitraheen ho sakate hain ya nahin to savaal karata ko bata den ki aaj ke jamaane mein yahaan par pad bhee rishvat se hee milatee hai to agar jisake paas paisa hoga to vah apanee pad bhee rishvat se hee pa sakata hai iseelie aur yahaan tak kee pad to bahut door kee baat hai yahaan par ejukeshan bhee aisa kaheen kaheen par dekha ja sakata hai jahaan par skool ke prinsipal sote hain jo yoonivarsitee ke log hote hain vah itane bikaoo hote hain ki maarks bhee achchhe se de dete hain paise lekar too maans achchhe mil jaenge usake baad pad achchha mil jaega rishvat dene se hee to seedhee see baaten koee bhee charitraheen vyakti jisake paas paisa hai to vah bhee apane paison ke dam par uchch pad praapt kar sakata hai to usake lie koee bhee aisa sistam nahin banaaya gaya hai sarakaaree do ya phir praivet meree koee aisa sistam nahin hai ki ham mis ke do-teen maheene isako dekhenge isako yooz karake isaka kaisa hai aachaar vichaar usake baad usako rakhenge to aisa koee bhee sistam kisee bhee kampanee mein ya kisee bhee sarakaaree pad padon par aisa koee bhee sistam hai nahin aur na hee unake oopar koee nigaraanee rakhane vaala hai ki chalo bhaee vah kis tareeke se kaam karata hai to unake oopar seeseeteevee kaimara ho ya odiyo ho ki jo bhee vah kaam kar raha hai usaka kuchh sab kuchh rikording ho jae sab kuchh bhee nahin hai isalie is sistam mein thodee gadabad hai isalie aapake savaal ka to javaab hai us pad par rahata hee vyakti ho sakate hain to bilkul ho sakate hain handred parsan aise bahut se netaon kee bhee apane posting dekhee hogee jo uchch pad par hai vah bahut hee gande bhaashan yaar bhadakaoo bhaashan dete rahate hain aajakal to vah sab bahut hee jyaada charche mein hai nyooz mein hai dekh dekhane ko mil sakata mis karata hoon mera javaab aapako pasand aaya hoga aur kisee ke dil ko thes na bachee ho agar haan to main usase dil se kshama maangata hoon agale savaal ke saath mujhase jaroor jodie ga dhanyavaad

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
Sandeep chhipa Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sandeep जी का जवाब
social worker (MSW)
1:05
पद पर बैठा व्यक्ति भी चरित्रहीन हो सकता है जी हां हो सकता है लेकिन सभी लोग नहीं हो सकते कुछ ही लोग होते हैं जो ऊंचे पद पर रहकर भ्रष्टाचार में लिप्त है यानी भ्रष्टाचार के अलावा चरित्र में भी लिप्त है कई समस्याओं से घिरे रहते हैं इन समस्याओं से बाहर निकलने के लिए वह चरित्रहीन हो जाते हैं इसीलिए कई मामले देखे गए हैं पिछले दिनों में 365 दिनों में 362 भ्रष्टाचारियों को गिरफ्तार किया गया है राजस्थान में बहुत बड़ी यह बात कहने का मतलब यही है छत पर बैठे हुए आसीन व्यक्ति भ्रष्ट तो है ही साथ ही काम भी नहीं करते हैं अनेक अनेक चीजों से वह तनावग्रस्त भी रहते हैं इसीलिए पांचू अंगुली सामान्य थी कुछ ही लोग हैं कुछ ही प्रतिशत की मात्रा है जो चरित्रहीन होते हैं चरित्रहीन किसी प्रकार से समझा जा सकता है सामाजिक धार्मिक या आर्थिक सर्वेक्षण जय हिंद जय भारत सभी मित्रों को धन्यवाद
Pad par baitha vyakti bhee charitraheen ho sakata hai jee haan ho sakata hai lekin sabhee log nahin ho sakate kuchh hee log hote hain jo oonche pad par rahakar bhrashtaachaar mein lipt hai yaanee bhrashtaachaar ke alaava charitr mein bhee lipt hai kaee samasyaon se ghire rahate hain in samasyaon se baahar nikalane ke lie vah charitraheen ho jaate hain iseelie kaee maamale dekhe gae hain pichhale dinon mein 365 dinon mein 362 bhrashtaachaariyon ko giraphtaar kiya gaya hai raajasthaan mein bahut badee yah baat kahane ka matalab yahee hai chhat par baithe hue aaseen vyakti bhrasht to hai hee saath hee kaam bhee nahin karate hain anek anek cheejon se vah tanaavagrast bhee rahate hain iseelie paanchoo angulee saamaany thee kuchh hee log hain kuchh hee pratishat kee maatra hai jo charitraheen hote hain charitraheen kisee prakaar se samajha ja sakata hai saamaajik dhaarmik ya aarthik sarvekshan jay hind jay bhaarat sabhee mitron ko dhanyavaad

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
0:55
अमित करवाने के उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो सकते हैं तो देखिए ऐसा नहीं है कि उच्च पद पर बैठे व्यक्ति होते हैं और चलते ही नहीं हो सकते अभी चुन्नी में पद पर बैठे होते तो कुछ भी नहीं है क्योंकि वह के विचारों पर विचारों के ऊपर करता है कि आप किस प्रकार के विचार रखते हैं आपके व्यवहार के प्रकार के फर्नीचर थे वह आपके ऊपर डिपेंड करता है और उस पद पर बैठे व्यक्ति भी हो सकते हैं और नहीं पी सकते हैं और निम्न पद पर जो रहते हैं क्योंकि अब वह हमारे विचारों पर और व्यवहार करता है कि किस प्रकार के विचार रखती है कि अपना बारे नेचर कहता है उस व्यक्ति के ऊपर निर्भर करता है तो उस पर पर बैठना है कि निम्न पद पर बैठना है कोई मैटर नहीं रखता है तो मैं करते हैं सवाल का जवाब पसंद है ना आप लोग को चाहिए मुझे को भी खुश रखे थे क्या
Amit karavaane ke uchch pad par baithe vyakti bhee charitraheen ho sakate hain to dekhie aisa nahin hai ki uchch pad par baithe vyakti hote hain aur chalate hee nahin ho sakate abhee chunnee mein pad par baithe hote to kuchh bhee nahin hai kyonki vah ke vichaaron par vichaaron ke oopar karata hai ki aap kis prakaar ke vichaar rakhate hain aapake vyavahaar ke prakaar ke pharneechar the vah aapake oopar dipend karata hai aur us pad par baithe vyakti bhee ho sakate hain aur nahin pee sakate hain aur nimn pad par jo rahate hain kyonki ab vah hamaare vichaaron par aur vyavahaar karata hai ki kis prakaar ke vichaar rakhatee hai ki apana baare nechar kahata hai us vyakti ke oopar nirbhar karata hai to us par par baithana hai ki nimn pad par baithana hai koee maitar nahin rakhata hai to main karate hain savaal ka javaab pasand hai na aap log ko chaahie mujhe ko bhee khush rakhe the kya

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:04
मैं क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति ही चरित्रहीन हो सकते हैं हर व्यक्ति बुरे और अच्छे कर्म होते हैं कुछ व्यक्ति बुरे कर्मों में और अच्छे कर्मों में अपने स्वभाव और अपने चरित्र के हिसाब से जाने जाते हैं जो व्यक्ति बुरे कर्म और चरित्र हीनता अपने में शामिल रखता है वह कहीं ना कहीं लज्जित होता है या जेल जाता है इस प्रकार के कई कैसे देखने को मिले हैं क्यूट पद पर बैठे व्यक्ति ने शोषण किया और उसका खुलासा हुआ और उसको अपने परिवार दोस्तों रिश्तेदारों हर जगह लज्जित होना पड़ा और सजा हो गई और जेल चले गए व्यक्ति अपना सामान तो होता ही है साथ ही अपना पूरा जीवन बर्बाद कर लेता है ऐसे व्यक्ति को ना तो इस दुनिया में जगह है और ना ही उस दुनिया में मिलेगी वह हमेशा तिरस्कार ही रहेगा धन्यवाद मित्रों
Main kya uchch pad par baithe vyakti hee charitraheen ho sakate hain har vyakti bure aur achchhe karm hote hain kuchh vyakti bure karmon mein aur achchhe karmon mein apane svabhaav aur apane charitr ke hisaab se jaane jaate hain jo vyakti bure karm aur charitr heenata apane mein shaamil rakhata hai vah kaheen na kaheen lajjit hota hai ya jel jaata hai is prakaar ke kaee kaise dekhane ko mile hain kyoot pad par baithe vyakti ne shoshan kiya aur usaka khulaasa hua aur usako apane parivaar doston rishtedaaron har jagah lajjit hona pada aur saja ho gaee aur jel chale gae vyakti apana saamaan to hota hee hai saath hee apana poora jeevan barbaad kar leta hai aise vyakti ko na to is duniya mein jagah hai aur na hee us duniya mein milegee vah hamesha tiraskaar hee rahega dhanyavaad mitron

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
0:58
नमस्कार दोस्तों प्रश्न ही क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो सकता है तो दोस्तों जहां तक जो उच्च पद पर बैठे होते हैं वही ज्यादा चरित्रहीन होने लग जाते हैं क्योंकि जब आपके पास पैसा आता आता शक्तियां था आती हैं तो उसके बाद सबसे वक्त रहते हैं उसके साथ में चाटुकार लोग लगे रहते हैं तो हर चीज वह चाहता है वह उपलब्ध कराते हैं उनके लिए तो ज्यादातर आप देखेंगे जब आपके पास जाना जाएगा मैं सबके लिए ऐसा नहीं कह रहा हूं लेकिन बहुत सारे आप ऐसे देखेंगे कि आपके पास धन आ जाएगा शक्ति आ जाएगी पावर आ जाएगी तो उसके साथ सारे उल्टे सीधे कार्य करने लग जाते हैं वह लोग और थे चरित्रहीन सुनी जो बोला था वह एक जो है बड़े-बड़े लोगों के रसूख का सुख माना जाता है सौंदर्य माना जाता है तो वह सारे काम कर सकते हैं जो आप सोच भी नहीं सकते और वह बहुत बड़े स्तर का होता है तो इसलिए कहीं बात पता भी नहीं चलती ना ही उसके चाटुकार को कहीं उजागर करते हैं तो ऐसा निश्चित रूप से हो सकता है होता भी है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hee kya uchch pad par baithe vyakti bhee charitraheen ho sakata hai to doston jahaan tak jo uchch pad par baithe hote hain vahee jyaada charitraheen hone lag jaate hain kyonki jab aapake paas paisa aata aata shaktiyaan tha aatee hain to usake baad sabase vakt rahate hain usake saath mein chaatukaar log lage rahate hain to har cheej vah chaahata hai vah upalabdh karaate hain unake lie to jyaadaatar aap dekhenge jab aapake paas jaana jaega main sabake lie aisa nahin kah raha hoon lekin bahut saare aap aise dekhenge ki aapake paas dhan aa jaega shakti aa jaegee paavar aa jaegee to usake saath saare ulte seedhe kaary karane lag jaate hain vah log aur the charitraheen sunee jo bola tha vah ek jo hai bade-bade logon ke rasookh ka sukh maana jaata hai saundary maana jaata hai to vah saare kaam kar sakate hain jo aap soch bhee nahin sakate aur vah bahut bade star ka hota hai to isalie kaheen baat pata bhee nahin chalatee na hee usake chaatukaar ko kaheen ujaagar karate hain to aisa nishchit roop se ho sakata hai hota bhee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
paramveer koshlaindra Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए paramveer जी का जवाब
Unknown
0:13
क्यों क्या कुछ पद पर बैठे व्यक्ति व्यक्ति नहीं होता क्या केंद्र फीलिंग नहीं होती क्या जो नहीं हो सकता गुण अवगुण सपने होते हैं इसमें कोई दो राय नहीं
Kyon kya kuchh pad par baithe vyakti vyakti nahin hota kya kendr pheeling nahin hotee kya jo nahin ho sakata gun avagun sapane hote hain isamen koee do raay nahin

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
6:27
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्र और दिन होता हो सकता है चरित्रहीन नहीं है तो क्या दिखाई दे रहा है हमें इस देश में लेकिन जब तक उनका असली चरित्र लोगों के सामने आता नहीं और उसमें कुछ गंभीर गलत ही आए तब तक लोग उसको अपने सर पर उठा लेते हैं उसके पूरे जीवन में झांक रही नहीं देखते केवल ऊपरी बातें जो बातें जो मिली एनिवर्सरी होगी वही लेकर अपना मत बनाते हैं इसलिए बाकी चीजों के बारे में लोगों को पता भी नहीं होता है ऐसा कोई जरूरी नहीं है कि मुझे पद पर बैठे व्यक्ति सिर्फ रवाना होंगे भारत की जो राष्ट्रीय संस्कृति राजनीति प्रशासन सुरक्षा व्यवस्था पुलिस व्यवस्था न्याय व्यवस्था शिक्षा व्यवस्था मीडिया की व्यवस्था सभी जगह से लगभग सभी जगहों पर बड़े पद पर बैठे हुए व्यक्ति बहुत कम समय में बहुत पैसे वाले कैसे बन जाते हैं और इनका पैसा कैसे जाता है इनके बगैर होते हैं उतने में वह धनवान नहीं हो सकती प्लीज लोग हैं अपनी करनी बीमा एबी मनी करने के पैसे वसूल करते हैं और देने वाली भी भेजें अभी वह धंधा यह लोग करते हैं और फिर भी देश चलता है लगभग 95% दो उच्च पद पर जा बैठे हैं और निश्चित उसे चरित्रहीन है लेकिन सभी के चरित्र की शादी नहीं आती जब जरूरत पड़ती है तब मीडिया एक स्ट्रैटेजिक की तरह एक्सप्लेन के तहत किसी षड्यंत्र के तहत किसी एक व्यक्ति को बड़े बच्चे को श्री चरित्र हीनता लोगों के सामने लाते राजनीति की जरूरत होती है या सामाजिक नीति की जरूरत होती है हाउसफुल बाबा का बवाल करते हैं और लोगों को लगता है कि यह दो चार व्यक्ति श्री कृष्ण ने पाकिस्तान मेरा जो नेता है या मेरा जुनून गांव वालों का जात वाला जो ऑप्शन है वह इतना चरित्रहीन नहीं छोड़ा है ठीक है कोई बात नहीं अपनी जाति का काम करेगा ऐसा सोचकर दुर्लक्ष करती है लेकिन चरित्र हीनता चरित्र हीनता और अगर हम होते हैं निश्चित निश्चित रूप से पता चलेगा क्या क्या चलता है मैं पिक्चर कर के काम करते हो उस जगह पर घुमा तुम तो यही चित्र में नाना पाटेकर ने कहा था 100 में से 80 बेईमान प्लीज मेरा भारत महान बाबू संख्या है उन 98% तक गई है यहां पर केस अगर आपको मेरा जवाब सही लगा इसे लाइक करें धन्यवाद
Kya uchch pad par baithe vyakti bhee charitr aur din hota ho sakata hai charitraheen nahin hai to kya dikhaee de raha hai hamen is desh mein lekin jab tak unaka asalee charitr logon ke saamane aata nahin aur usamen kuchh gambheer galat hee aae tab tak log usako apane sar par utha lete hain usake poore jeevan mein jhaank rahee nahin dekhate keval ooparee baaten jo baaten jo milee enivarsaree hogee vahee lekar apana mat banaate hain isalie baakee cheejon ke baare mein logon ko pata bhee nahin hota hai aisa koee jarooree nahin hai ki mujhe pad par baithe vyakti sirph ravaana honge bhaarat kee jo raashtreey sanskrti raajaneeti prashaasan suraksha vyavastha pulis vyavastha nyaay vyavastha shiksha vyavastha meediya kee vyavastha sabhee jagah se lagabhag sabhee jagahon par bade pad par baithe hue vyakti bahut kam samay mein bahut paise vaale kaise ban jaate hain aur inaka paisa kaise jaata hai inake bagair hote hain utane mein vah dhanavaan nahin ho sakatee pleej log hain apanee karanee beema ebee manee karane ke paise vasool karate hain aur dene vaalee bhee bhejen abhee vah dhandha yah log karate hain aur phir bhee desh chalata hai lagabhag 95% do uchch pad par ja baithe hain aur nishchit use charitraheen hai lekin sabhee ke charitr kee shaadee nahin aatee jab jaroorat padatee hai tab meediya ek straitejik kee tarah eksaplen ke tahat kisee shadyantr ke tahat kisee ek vyakti ko bade bachche ko shree charitr heenata logon ke saamane laate raajaneeti kee jaroorat hotee hai ya saamaajik neeti kee jaroorat hotee hai hausaphul baaba ka bavaal karate hain aur logon ko lagata hai ki yah do chaar vyakti shree krshn ne paakistaan mera jo neta hai ya mera junoon gaanv vaalon ka jaat vaala jo opshan hai vah itana charitraheen nahin chhoda hai theek hai koee baat nahin apanee jaati ka kaam karega aisa sochakar durlaksh karatee hai lekin charitr heenata charitr heenata aur agar ham hote hain nishchit nishchit roop se pata chalega kya kya chalata hai main pikchar kar ke kaam karate ho us jagah par ghuma tum to yahee chitr mein naana paatekar ne kaha tha 100 mein se 80 beeemaan pleej mera bhaarat mahaan baaboo sankhya hai un 98% tak gaee hai yahaan par kes agar aapako mera javaab sahee laga ise laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
Gulab Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gulab जी का जवाब
Unknown
1:21

bolkar speaker
क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति भी चरित्रहीन हो है?Kya Uchch Pad Par Baithe Wyakti Bhi Charitrahin Ho Sakte Hain
डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
1:22
बेटा आपका प्रश्न क्या उच्च पद पर बैठे व्यक्ति वितरित नहीं हो सकते हैं तो दिखे पद और चरित्र हीनता एक चरित्रवान होना अलग-अलग चीजें हैं जो व्यक्ति होता वही पद पर बैठता है और पद कभी आचरण से देख कर के नहीं मिलता है समझा अपना सर्टिफिकेट देख कर के और योग्यता देख करके मिलता है आप कहीं f.i.r. आदि है तो उसके नाते में नौकरी मिलने में बाधा होती है अन्यथा व्यक्ति व्यक्ति होता है और परिस्थितियां उसके चरित्र का निर्धारण करती है अच्छे अच्छे लोग हैं कभी कभी भटक जाते हैं और भटकते हुए लोग भी कभी-कभी संभल सकते हैं इसलिए पद और चरित्र दो अलग-अलग चीजें हैं समझे आपने हां कुछ पल ऐसे होते हैं जहां चरित्रवान होने की कल्पना कर सकते जैसे साधु सुनते हैं समय आपने या किसी बड़े पद का बड़ी उम्र का व्यक्ति है तो उससे मूवी देख कर सकते हैं अन्यथा पद और चरित्र का कोई दूर दूर का रिश्ता नहीं है और आपका एक प्रश्न जो है वह सकारात्मक है कहां उच्च पद पर बैठे हुए व्यक्ति भी चरित्रहीन हो सकते हैं लेकिन इसका उल्टा भी है कुछ पद पर बैठे हुए लोग चरित्रवान भी हो सकते हैं जिन्हें मानक के रूप में स्वीकार करते हैं थैंक यू
Beta aapaka prashn kya uchch pad par baithe vyakti vitarit nahin ho sakate hain to dikhe pad aur charitr heenata ek charitravaan hona alag-alag cheejen hain jo vyakti hota vahee pad par baithata hai aur pad kabhee aacharan se dekh kar ke nahin milata hai samajha apana sartiphiket dekh kar ke aur yogyata dekh karake milata hai aap kaheen f.i.r. aadi hai to usake naate mein naukaree milane mein baadha hotee hai anyatha vyakti vyakti hota hai aur paristhitiyaan usake charitr ka nirdhaaran karatee hai achchhe achchhe log hain kabhee kabhee bhatak jaate hain aur bhatakate hue log bhee kabhee-kabhee sambhal sakate hain isalie pad aur charitr do alag-alag cheejen hain samajhe aapane haan kuchh pal aise hote hain jahaan charitravaan hone kee kalpana kar sakate jaise saadhu sunate hain samay aapane ya kisee bade pad ka badee umr ka vyakti hai to usase moovee dekh kar sakate hain anyatha pad aur charitr ka koee door door ka rishta nahin hai aur aapaka ek prashn jo hai vah sakaaraatmak hai kahaan uchch pad par baithe hue vyakti bhee charitraheen ho sakate hain lekin isaka ulta bhee hai kuchh pad par baithe hue log charitravaan bhee ho sakate hain jinhen maanak ke roop mein sveekaar karate hain thaink yoo

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • उच्च पद की प्राप्ति, उच्च पद प्राप्ति के उपाय, उच्च पद की सरकारी नौकरी
URL copied to clipboard