#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है?

Raja Rammohan Ray Ko Samaj Sudhark Kin Karano Se Kaha Jata Hai
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:45
नमस्कार आपका सामान ए राजा राम मोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है कि जब बात आती है सती प्रथा की सती प्रथा का अंत कहां जाता कि राजा राममोहन राय ने किया जो कि हमारे समाज में एक त्रुटि थी यह देश इनके प्रयास के द्वारा से हटाया गया था जबकि सती प्रथा का अंत लॉर्ड विलियम बेंटिक के शासनकाल में हुआ था जो जेठालाल की असली मोती और राजा राममोहन राय का उसने बहुत ही बड़ा योगदान था अगर किसी कंपटीशन एग्जाम में आ जाए कि सती प्रथा का अंत किसने किया था राजा राममोहन राय का नाम और लॉर्ड विलियम बेंटिक लॉर्ड विलियम बेंटिक पर ही टेक करेंगे क्योंकि लॉर्ड विलियम बैंटिक नहीं सती प्रथा का अंत किया था लेकिन बेटी का नाम नहीं रहता है तो राजा राममोहन राय पार्टी करेंगे ठीक है के प्रयासों के द्वारा ही सती प्रथा का अंत हो पाया था सती प्रथा का अंत करने के लिए प्यार किया पर वो अब वापस आ रहा जबकि इससे पहले अकबर अकबर ने भी प्रयास किया था और कहा जाता जो मुगल साम्राज्य में बहुत ही अच्छा काम किए थे लेकिन उनका प्रयास सफल रहा इसके बाद इन्होंने प्रयास किया जो कि सफल रहा और हमारे दिमाग से एक को रोते चली गई और ब्रह्म समाज की स्थापना की थी जो कि 1828 उन्होंने लिखी थी और इसमें भी बहुत सारी अच्छाइयां थी जिसके कारण सैनी समाज सुधारक कहा जाता है और दूसरे इन्होंने जागरूकता फैलाई करते हैं सवाल का जवाब पसंद आएगा आपको कुछ चाहिए तो उसको बुखार चेक करने वाला
Namaskaar aapaka saamaan e raaja raam mohan raay ko samaaj sudhaarak kin kaaranon se kaha jaata hai ki jab baat aatee hai satee pratha kee satee pratha ka ant kahaan jaata ki raaja raamamohan raay ne kiya jo ki hamaare samaaj mein ek truti thee yah desh inake prayaas ke dvaara se hataaya gaya tha jabaki satee pratha ka ant lord viliyam bentik ke shaasanakaal mein hua tha jo jethaalaal kee asalee motee aur raaja raamamohan raay ka usane bahut hee bada yogadaan tha agar kisee kampateeshan egjaam mein aa jae ki satee pratha ka ant kisane kiya tha raaja raamamohan raay ka naam aur lord viliyam bentik lord viliyam bentik par hee tek karenge kyonki lord viliyam baintik nahin satee pratha ka ant kiya tha lekin betee ka naam nahin rahata hai to raaja raamamohan raay paartee karenge theek hai ke prayaason ke dvaara hee satee pratha ka ant ho paaya tha satee pratha ka ant karane ke lie pyaar kiya par vo ab vaapas aa raha jabaki isase pahale akabar akabar ne bhee prayaas kiya tha aur kaha jaata jo mugal saamraajy mein bahut hee achchha kaam kie the lekin unaka prayaas saphal raha isake baad inhonne prayaas kiya jo ki saphal raha aur hamaare dimaag se ek ko rote chalee gaee aur brahm samaaj kee sthaapana kee thee jo ki 1828 unhonne likhee thee aur isamen bhee bahut saaree achchhaiyaan thee jisake kaaran sainee samaaj sudhaarak kaha jaata hai aur doosare inhonne jaagarookata phailaee karate hain savaal ka javaab pasand aaega aapako kuchh chaahie to usako bukhaar chek karane vaala

और जवाब सुनें

bolkar speaker
राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है?Raja Rammohan Ray Ko Samaj Sudhark Kin Karano Se Kaha Jata Hai
Anand Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Anand जी का जवाब
Mathematics Teacher
0:40
सफल है राजा राम मोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है तो दे ही राजा राममोहन राय विशेष समाज सुधारक में उनका नाम आता है गुलाम थे जब हम अंग्रेजों के सब राजा राममोहन राय ने कुछ ऐसी प्रथाएं ऐसे रीति रिवाज जो भी अंग्रेजों द्वारा उस समय हुआ करते थे जैसे सती प्रथा एक बहुत ही बेकार जो प्रथा बनाई गई थी उसे रोकने या बंद करने में राजा राममोहन राय जी का योगदान था इसलिए उन्हें समाज सुधारक कहा जाता है
Saphal hai raaja raam mohan raay ko samaaj sudhaarak kin kaaranon se kaha jaata hai to de hee raaja raamamohan raay vishesh samaaj sudhaarak mein unaka naam aata hai gulaam the jab ham angrejon ke sab raaja raamamohan raay ne kuchh aisee prathaen aise reeti rivaaj jo bhee angrejon dvaara us samay hua karate the jaise satee pratha ek bahut hee bekaar jo pratha banaee gaee thee use rokane ya band karane mein raaja raamamohan raay jee ka yogadaan tha isalie unhen samaaj sudhaarak kaha jaata hai

bolkar speaker
राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है?Raja Rammohan Ray Ko Samaj Sudhark Kin Karano Se Kaha Jata Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:34
सोने की राजा राममोहन राय को समाज सुधारक क्यों आया किन कहां से खा जाते हैं तो राजा मोहन राय को समाज की सेटिंग कुरीतियों को दूर करने के लिए जाना जाता है इस वक्त इनको क्यों को दूर करना तो दूर उनके खिलाफ बोलना भी पाप माना जाता था लेकिन समाज सुधारक और पत्रकार राजा राममोहन राय ने खुशियों को याद किया और सभा को दूर करके इस दम
Sone kee raaja raamamohan raay ko samaaj sudhaarak kyon aaya kin kahaan se kha jaate hain to raaja mohan raay ko samaaj kee seting kureetiyon ko door karane ke lie jaana jaata hai is vakt inako kyon ko door karana to door unake khilaaph bolana bhee paap maana jaata tha lekin samaaj sudhaarak aur patrakaar raaja raamamohan raay ne khushiyon ko yaad kiya aur sabha ko door karake is dam

bolkar speaker
राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है?Raja Rammohan Ray Ko Samaj Sudhark Kin Karano Se Kaha Jata Hai
Gopal rana Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Gopal जी का जवाब
Unknown
0:27
राजा राममोहन राय को समाज सुधारक इसलिए कहा जाता है क्योंकि वह उन्होंने विशेष प्रकार के भारत में प्रचार महोदय वाले सती प्रथा को और बाल विवाह के नंबरों के विरोधी थे जो इस राशि की प्रक्रिया में जो भारत में होती थी जो परंपराएं चल चलती थी उसके खिलाफ से
Raaja raamamohan raay ko samaaj sudhaarak isalie kaha jaata hai kyonki vah unhonne vishesh prakaar ke bhaarat mein prachaar mahoday vaale satee pratha ko aur baal vivaah ke nambaron ke virodhee the jo is raashi kee prakriya mein jo bhaarat mein hotee thee jo paramparaen chal chalatee thee usake khilaaph se

bolkar speaker
राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है?Raja Rammohan Ray Ko Samaj Sudhark Kin Karano Se Kaha Jata Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:11
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है तो फ्रेंड्स राजा राममोहन राय ने बहुत सारे कार्य के लिए हैं समाज सुधार के लिए उन्हें समाज सुधारक कहा जाता है फ्रेंड से राजा राममोहन राय ने सती प्रथा का विरोध किया था तथा सती प्रथा कानून को बदल वाया था और पर्दा प्रथा यदि बहुत पुरजोर हो जो विरोध में किया था सती प्रथा पर्दा प्रथा इन सब का बहुत यू नो विरोध किया था और समाज में जो भी बुराइयां फैली हुई थी उनको ठीक किया था और छुआछूत की बुराई क्यों होती है उसको भी इन्होंने बदला था तो उन्होंने बहुत ही समाज के लिए अच्छे अच्छे कार्य किए थे इसीलिए उनका नाम बहुत ही अच्छे से याद किया जाता है राजा राममोहन राय ने स्त्रियों के लिए भी काफी हद तक काम किया था उन्होंने यह घूंघट पर कार्रवाई थी और जो स्त्रियां जिसके प्रति खत्म हो जाते थे हो जाती थी विवि रखवाया था इन सब कुरीतियों के विरुद्ध इन सब को दूध कुरीतियों को हटवाया था समाज में इसलिए उनका नाम इज्जत से लिया जाता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai raaja raamamohan raay ko samaaj sudhaarak kin kaaranon se kaha jaata hai to phrends raaja raamamohan raay ne bahut saare kaary ke lie hain samaaj sudhaar ke lie unhen samaaj sudhaarak kaha jaata hai phrend se raaja raamamohan raay ne satee pratha ka virodh kiya tha tatha satee pratha kaanoon ko badal vaaya tha aur parda pratha yadi bahut purajor ho jo virodh mein kiya tha satee pratha parda pratha in sab ka bahut yoo no virodh kiya tha aur samaaj mein jo bhee buraiyaan phailee huee thee unako theek kiya tha aur chhuaachhoot kee buraee kyon hotee hai usako bhee inhonne badala tha to unhonne bahut hee samaaj ke lie achchhe achchhe kaary kie the iseelie unaka naam bahut hee achchhe se yaad kiya jaata hai raaja raamamohan raay ne striyon ke lie bhee kaaphee had tak kaam kiya tha unhonne yah ghoonghat par kaarravaee thee aur jo striyaan jisake prati khatm ho jaate the ho jaatee thee vivi rakhavaaya tha in sab kureetiyon ke viruddh in sab ko doodh kureetiyon ko hatavaaya tha samaaj mein isalie unaka naam ijjat se liya jaata hai dhanyavaad

bolkar speaker
राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है?Raja Rammohan Ray Ko Samaj Sudhark Kin Karano Se Kaha Jata Hai
KamalKishorAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए KamalKishorAwasthi जी का जवाब
Unknown
1:16
सवाल है राजा राम मोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है देखिए भारतीय सामाजिक और धार्मिक पुनर्जागरण के क्षेत्र में राजा राममोहन राय का विशिष्ट स्थान है वह ब्रह्म समाज के संस्थापक भारतीय भाषाई प्रेस के प्रवर्तक जन जागरण और सामाजिक सुधार आंदोलन के प्रणेता तथा बंगाल में नवजागरण युग के पितामह थे उन्होंने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम और पत्रकारिता के कुशल सहयोग से दोनों क्षेत्रों को गति प्रदान की थी उनके आंदोलनों ने जहां पत्रकारिता को चमक दी वहीं उनकी पत्रकारिता ने आंदोलनों को सही दिशा दिखाने का कार्य किया था हिंदू समाज की कुरीतियों के घोर विरोधी होने के कारण 1828 में राजा राममोहन राय ने समाज नामक एक नए प्रकार की समाज की स्थापना की ब्रह्म समाज तथा आत्मीय सभा के संस्थापक भी रहे तथा आजीवन रूढ़िवादी विवादों को दूर करने के लिए प्रयासरत रहें धन्यवाद
Savaal hai raaja raam mohan raay ko samaaj sudhaarak kin kaaranon se kaha jaata hai dekhie bhaarateey saamaajik aur dhaarmik punarjaagaran ke kshetr mein raaja raamamohan raay ka vishisht sthaan hai vah brahm samaaj ke sansthaapak bhaarateey bhaashaee pres ke pravartak jan jaagaran aur saamaajik sudhaar aandolan ke praneta tatha bangaal mein navajaagaran yug ke pitaamah the unhonne bhaarateey svatantrata sangraam aur patrakaarita ke kushal sahayog se donon kshetron ko gati pradaan kee thee unake aandolanon ne jahaan patrakaarita ko chamak dee vaheen unakee patrakaarita ne aandolanon ko sahee disha dikhaane ka kaary kiya tha hindoo samaaj kee kureetiyon ke ghor virodhee hone ke kaaran 1828 mein raaja raamamohan raay ne samaaj naamak ek nae prakaar kee samaaj kee sthaapana kee brahm samaaj tatha aatmeey sabha ke sansthaapak bhee rahe tatha aajeevan roodhivaadee vivaadon ko door karane ke lie prayaasarat rahen dhanyavaad

bolkar speaker
राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है?Raja Rammohan Ray Ko Samaj Sudhark Kin Karano Se Kaha Jata Hai
Qamar jahan Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Qamar जी का जवाब
Student
0:56
राजा राममोहन राय को आधुनिक भारत का जनक भी कहा जाता है इनका जीवन काल था 1772 से 18 सो 33 के बीच तत्कालीन समय में पश्चिमी संस्कृति के प्रभाव के चलते भारतीय समाज सांस्कृतिक संक्रमण के दौर से गुजर रहा था उस समय को तो हिंदू धर्म के अंदर ही अनेक विरोधियों ने अपनी जगह बना ली थी तो दूसरी ओर ईसाई धर्म प्रचारक अपनी इसाई धर्म को हिंदुओं पर जबरदस्ती थोपने के लिए प्रयासरत थे अति समाज पर दोहरा संकट था ऐसे समय समाज सुधारक का जिम्मा राजा राममोहन राय ने संभाला गौरतलब है कि समाज सुधारक को धार्मिक सुधारों की बिना प्राप्त करना संभव प्रतीत नहीं होता अति राजा राममोहन राय ने धार्मिक को शिक्षा की सुधारों पर भी जोर दिया इसी कारण राजा राममोहन राय सिख समाज समाज सुधारक के रूप में उभर कर हमारे सामने आए
Raaja raamamohan raay ko aadhunik bhaarat ka janak bhee kaha jaata hai inaka jeevan kaal tha 1772 se 18 so 33 ke beech tatkaaleen samay mein pashchimee sanskrti ke prabhaav ke chalate bhaarateey samaaj saanskrtik sankraman ke daur se gujar raha tha us samay ko to hindoo dharm ke andar hee anek virodhiyon ne apanee jagah bana lee thee to doosaree or eesaee dharm prachaarak apanee isaee dharm ko hinduon par jabaradastee thopane ke lie prayaasarat the ati samaaj par dohara sankat tha aise samay samaaj sudhaarak ka jimma raaja raamamohan raay ne sambhaala gauratalab hai ki samaaj sudhaarak ko dhaarmik sudhaaron kee bina praapt karana sambhav prateet nahin hota ati raaja raamamohan raay ne dhaarmik ko shiksha kee sudhaaron par bhee jor diya isee kaaran raaja raamamohan raay sikh samaaj samaaj sudhaarak ke roop mein ubhar kar hamaare saamane aae

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • राजा राममोहन राय को समाज सुधारक किन कारणों से कहा जाता है समाज सुधारक राजा राममोहन राय
URL copied to clipboard