#भारत की राजनीति

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:36
खाना का प्रश्न किसान के लिए जो बिन सरकार ने पास किया है वह सुविधा किसानों तक पहुंच पाएगी जो की फसल बेचने वाले हैं तो आप बता दीजिए अभी तो फिलहाल सुप्रीम कोर्ट ने तीनों दिलों पर स्टे लगा दिया है और एक कमेटी का गठन किया है अब देखने वाली बात यह रहेगी कि क्या सही मायनों में यहां पर किसान जो है वह इन बिलों को खारिज करवा पाते हैं या नहीं उसके बाद ही इसमें आगे कोई टीका टिप्पणी नहीं की जा सकती है क्योंकि मामला कोर्ट में है तो बहुत ज्यादा बोलने का प्रश्न नहीं उठता है मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Khaana ka prashn kisaan ke lie jo bin sarakaar ne paas kiya hai vah suvidha kisaanon tak pahunch paegee jo kee phasal bechane vaale hain to aap bata deejie abhee to philahaal supreem kort ne teenon dilon par ste laga diya hai aur ek kametee ka gathan kiya hai ab dekhane vaalee baat yah rahegee ki kya sahee maayanon mein yahaan par kisaan jo hai vah in bilon ko khaarij karava paate hain ya nahin usake baad hee isamen aage koee teeka tippanee nahin kee ja sakatee hai kyonki maamala kort mein hai to bahut jyaada bolane ka prashn nahin uthata hai meree shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

और जवाब सुनें

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
2:15
मनोज जी के दौरान रोते प्रश्न है कि किसान के लिए जो बिल सरकार ने पास की है वह सुविधा किसानों तक पहुंच पाएगी जो की फसल बेचने वाले हैं किसान अपनी राय दें इसमें क्या है कि पहले तीनों बिल को समझ ले पहला जो बिल है वह है कि किसानों की जमीन नहीं जाएगी इसका क्या मतलब है किसान की तुझे भी आज भी थी और पहले भी थी दूसरी बातों पर है कि मंडी नहीं बंद होगी भाई मंडी तो वैसे भी चालू हो रही है यह कौन सा फायदा है तीसरा फायदा यह बताती है सरकार की अपनी फसल कहीं भी भेज पाएंगे जो प्रश्न में पूछा जा रहा की फसल भेज पाएंगे किस बेस पर फसल भेज पाएंगे भाई आप एमएसपी दे ही नहीं रहे वह उन्हें तू किस बेस पर अपनी फसल को भेजेंगे आप किसान को मिनिमम सपोर्ट प्राइस तो दीजिए क्यों किसान कहीं भी अपनी जमीन बेच पाएगा कहां भेज पाएगा वहीं बताओ तो किसान इसी बात के लिए गाड़ी में की किसानों के लिए जो है जो मिनिमम सपोर्ट प्राइस नहीं सरकार दे रही है जिसकी वजह से किसान परेशान है क्योंकि अगर देखा जाए तो जो मिनिमम सपोर्ट प्राइस जाती है तो क्या होता है कि एक जैसे गर्भधान किए धान की अगर आप 1835 किए हैं जो विधान और वहीं अगर देखा जाए यूपी बिहार में तो 800 900 के हिसाब से बिक रहा है तो एमएसपी अगर मिल जाता जो बिहार में 889 चीजें बिक रही है वह सीधी सीधी अट्ठारह सौ की बिकती जो और जगह एमएसपी पर अट्ठारह सौ है और ऐसे आपको 800 900 पर आप बेच रहे हो तो कहीं न कहीं किसान को तो नुकसान हो रहा है ना तू यही किसान की मांग है कि आप जो फसल बेचने की बात कर रहे हो हमें एमएसपी दे दो और आप कुछ मत करो सरकार दे ही नहीं रही है तू यही मामला फंसा हुआ है और जहां तक ईशान भाई लोग सभी लोग परेशान हैं सरकार से सरकार ने इस फायदा नहीं कहीं ना कहीं किसानों को नुकसान पहुंचाने के लिए बिल बिल दिया है और
Manoj jee ke dauraan rote prashn hai ki kisaan ke lie jo bil sarakaar ne paas kee hai vah suvidha kisaanon tak pahunch paegee jo kee phasal bechane vaale hain kisaan apanee raay den isamen kya hai ki pahale teenon bil ko samajh le pahala jo bil hai vah hai ki kisaanon kee jameen nahin jaegee isaka kya matalab hai kisaan kee tujhe bhee aaj bhee thee aur pahale bhee thee doosaree baaton par hai ki mandee nahin band hogee bhaee mandee to vaise bhee chaaloo ho rahee hai yah kaun sa phaayada hai teesara phaayada yah bataatee hai sarakaar kee apanee phasal kaheen bhee bhej paenge jo prashn mein poochha ja raha kee phasal bhej paenge kis bes par phasal bhej paenge bhaee aap emesapee de hee nahin rahe vah unhen too kis bes par apanee phasal ko bhejenge aap kisaan ko minimam saport prais to deejie kyon kisaan kaheen bhee apanee jameen bech paega kahaan bhej paega vaheen batao to kisaan isee baat ke lie gaadee mein kee kisaanon ke lie jo hai jo minimam saport prais nahin sarakaar de rahee hai jisakee vajah se kisaan pareshaan hai kyonki agar dekha jae to jo minimam saport prais jaatee hai to kya hota hai ki ek jaise garbhadhaan kie dhaan kee agar aap 1835 kie hain jo vidhaan aur vaheen agar dekha jae yoopee bihaar mein to 800 900 ke hisaab se bik raha hai to emesapee agar mil jaata jo bihaar mein 889 cheejen bik rahee hai vah seedhee seedhee atthaarah sau kee bikatee jo aur jagah emesapee par atthaarah sau hai aur aise aapako 800 900 par aap bech rahe ho to kaheen na kaheen kisaan ko to nukasaan ho raha hai na too yahee kisaan kee maang hai ki aap jo phasal bechane kee baat kar rahe ho hamen emesapee de do aur aap kuchh mat karo sarakaar de hee nahin rahee hai too yahee maamala phansa hua hai aur jahaan tak eeshaan bhaee log sabhee log pareshaan hain sarakaar se sarakaar ne is phaayada nahin kaheen na kaheen kisaanon ko nukasaan pahunchaane ke lie bil bil diya hai aur

Ashok Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Ashok जी का जवाब
कृषक👳💦
1:34
मनोज कुमार यादव जी ने प्रश्न का अनुरोध किया है कि किसान के लिए जो गेल सरकार ने पास किया है वह सुविधा किसानों तक पहुंच पाएगी जो की फसल बेचने वाले किसान हैं वे अपनी राय दें तो देखी मनोज जी जिस प्रकार सरकार ने रेलवे का प्राइवेट ही कर्म किया एयर इंडिया का प्राइवेट कारण किया स्कूलों का प्राइवेट करण कर रही है उसी प्रकार यह तीनों कृषक बेल हैं यह प्राइवेट ई करण का एक हिस्सा है एम एस टी से बचने के लिए क्योंकि एमएसपी जो कानून है मनमोहन सिंह जी ने बनाया था जो हमारे भूतपूर्व प्रधानमंत्री तो मोदी सरकार उसे खत्म कर देना चाहती है अब प्यार में ही आप देख लीजिए चावल 10 से ₹12 किलो में बिक रहे हैं और आप दूसरे राज्यों में नहीं भेज सकते तो इस कानून से उन किसानों को तो फायदा पड़ेगा क्योंकि आप यदि बिहार में चावल और गेहूं के रेट सही नहीं मिल रहा है तो आप मध्य प्रदेश की मंडियों में भेज सकते हैं इसी बात को लेकर किसान आंदोलन कर रहे हैं अब यदि सरकार इन बिलों में कोई सुधार करती है फिलहाल मामला कोर्ट के पास धन्यवाद
Manoj kumaar yaadav jee ne prashn ka anurodh kiya hai ki kisaan ke lie jo gel sarakaar ne paas kiya hai vah suvidha kisaanon tak pahunch paegee jo kee phasal bechane vaale kisaan hain ve apanee raay den to dekhee manoj jee jis prakaar sarakaar ne relave ka praivet hee karm kiya eyar indiya ka praivet kaaran kiya skoolon ka praivet karan kar rahee hai usee prakaar yah teenon krshak bel hain yah praivet ee karan ka ek hissa hai em es tee se bachane ke lie kyonki emesapee jo kaanoon hai manamohan sinh jee ne banaaya tha jo hamaare bhootapoorv pradhaanamantree to modee sarakaar use khatm kar dena chaahatee hai ab pyaar mein hee aap dekh leejie chaaval 10 se ₹12 kilo mein bik rahe hain aur aap doosare raajyon mein nahin bhej sakate to is kaanoon se un kisaanon ko to phaayada padega kyonki aap yadi bihaar mein chaaval aur gehoon ke ret sahee nahin mil raha hai to aap madhy pradesh kee mandiyon mein bhej sakate hain isee baat ko lekar kisaan aandolan kar rahe hain ab yadi sarakaar in bilon mein koee sudhaar karatee hai philahaal maamala kort ke paas dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • किसान के लिए जो बिल सरकार ने पास किया है उसमे किसानो का क्या भला होगा, फसल बेचने वाले किसानो को क्या सुविधा मीलेगी
URL copied to clipboard