#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?

Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Jyoti Malik Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Jyoti जी का जवाब
Student
1:27
प्रश्न है मोबाइल का अंधेरे में उपयोग करना क्यों सही नहीं है और उसे उपयोग क्यों नहीं करना चाहिए देखिए जो मोबाइल की रेडिएशंस होती है वह हमारी आंखों पर बहुत असर डालती हैं और इसके साथ ही जो जब हम अंधेरे में मोबाइल का प्रयोग करते हैं तो उसमें से जब वह ब्लूलाइट निकलती है तो वह हमारी आंखों पर असर डालती है वैज्ञानिक भी इस बात को मानते हैं क्योंकि उन्होंने इस बात को खुद आजमाया है कि आंखों की कोशिकाओं पर इसका बहुत बुरा असर डालता है और तभी उन्होंने भी आगाह किया है कि हमें कभी भी अंधेरे में मोबाइल का प्रयोग नहीं करना चाहिए अगर वैज्ञानिक तौर से मैं आपको बताऊं हम पूरा दिन सूरज की रोशनी में निकालते हैं कि हमें मोबाइल की रोशनी देखने की इतनी आदत नहीं होती और ऐसे में जब हम अंधेरे में मोबाइल का प्रयोग करते हैं तो वह हमारी आंखों को और भी नुकसान पहुंचाता है और हमारी आंख और भी कमजोर बना देता है जिससे कि हमें धुंधलापन जैसी बीमारी भी हो सकती है तो इसी वजह से कहा जाता है कि जो इतनी ब्लूलाइट और इतनी बुरी जो रोशनी है वह हमारी आंखों को नुकसान ना पहुंचाएं इसलिए मोबाइल को अंधेरे में उपयोग करने से जितना हो सके उतना बचा जाए इसीलिए हमें कहा जाता है कि मोबाइल का धीरे में प्रयोग नहीं करना चाहिए धन्यवाद
Prashn hai mobail ka andhere mein upayog karana kyon sahee nahin hai aur use upayog kyon nahin karana chaahie dekhie jo mobail kee redieshans hotee hai vah hamaaree aankhon par bahut asar daalatee hain aur isake saath hee jo jab ham andhere mein mobail ka prayog karate hain to usamen se jab vah bloolait nikalatee hai to vah hamaaree aankhon par asar daalatee hai vaigyaanik bhee is baat ko maanate hain kyonki unhonne is baat ko khud aajamaaya hai ki aankhon kee koshikaon par isaka bahut bura asar daalata hai aur tabhee unhonne bhee aagaah kiya hai ki hamen kabhee bhee andhere mein mobail ka prayog nahin karana chaahie agar vaigyaanik taur se main aapako bataoon ham poora din sooraj kee roshanee mein nikaalate hain ki hamen mobail kee roshanee dekhane kee itanee aadat nahin hotee aur aise mein jab ham andhere mein mobail ka prayog karate hain to vah hamaaree aankhon ko aur bhee nukasaan pahunchaata hai aur hamaaree aankh aur bhee kamajor bana deta hai jisase ki hamen dhundhalaapan jaisee beemaaree bhee ho sakatee hai to isee vajah se kaha jaata hai ki jo itanee bloolait aur itanee buree jo roshanee hai vah hamaaree aankhon ko nukasaan na pahunchaen isalie mobail ko andhere mein upayog karane se jitana ho sake utana bacha jae iseelie hamen kaha jaata hai ki mobail ka dheere mein prayog nahin karana chaahie dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Rajeev Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajeev जी का जवाब
Student
1:29
काबिल है मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए मोबाइल का अंधेरे में प्रयोग नहीं करना चाहिए यह बात सही है क्योंकि जब हम अंधेरे कमरे में फोन का प्रयोग करते हैं तो पूरे कमरे में ध्यान दिया रहते हैं बस एक जगह थी जहां में उजाला होता है और बोलता है हमारा फोन फोन की स्क्रीन में सिर्फ जाना होता है और हम अपनी आंखों से देखते हैं तो उससे कहा था हमारी आंखों पर उसे इफेक्ट पड़ता है हमारी आंखें खराब होती है तो उसे 90% यह है कि जो लोग अंधेरे में फोन का उपयोग करते हैं उनकी आंखों में जलन होता है जब वह स्टडी करते हैं उस टाइम भी उनकी आंखों में जलन होती है आंखों से पानी निकलता है जी सब उसी की वजह से होता है जब मंदिर में फोन चलाते हैं तुम मेरे फोन का यूज नहीं करना चाहिए अगर आपको करना है तो जालिम कर सकते हैं जहां पर थोड़ा बहुत उजाला हो लेकिन एक बंद कमरे में अंधेरा उनका परिवार को नहीं करना चाहिए यह मैं आपके लिए घातक और और और और मस्तिष्क का कनेक्शन होता है तो उससे आंखों की वजह से हमारे सिर में भी दर्द होता है वाले बच्चों के लिए चाहिए पहुंचा सके तो हमें अंधेरे कमरे में मोबाइल का उपयोग नहीं करना चाहिए
Kaabil hai mobail ka andhere mein kyon upayog nahin karana chaahie mobail ka andhere mein prayog nahin karana chaahie yah baat sahee hai kyonki jab ham andhere kamare mein phon ka prayog karate hain to poore kamare mein dhyaan diya rahate hain bas ek jagah thee jahaan mein ujaala hota hai aur bolata hai hamaara phon phon kee skreen mein sirph jaana hota hai aur ham apanee aankhon se dekhate hain to usase kaha tha hamaaree aankhon par use iphekt padata hai hamaaree aankhen kharaab hotee hai to use 90% yah hai ki jo log andhere mein phon ka upayog karate hain unakee aankhon mein jalan hota hai jab vah stadee karate hain us taim bhee unakee aankhon mein jalan hotee hai aankhon se paanee nikalata hai jee sab usee kee vajah se hota hai jab mandir mein phon chalaate hain tum mere phon ka yooj nahin karana chaahie agar aapako karana hai to jaalim kar sakate hain jahaan par thoda bahut ujaala ho lekin ek band kamare mein andhera unaka parivaar ko nahin karana chaahie yah main aapake lie ghaatak aur aur aur aur mastishk ka kanekshan hota hai to usase aankhon kee vajah se hamaare sir mein bhee dard hota hai vaale bachchon ke lie chaahie pahuncha sake to hamen andhere kamare mein mobail ka upayog nahin karana chaahie

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
0:26
लिकेमोबाइल को जवाब दो मतलब अंधेरे में भी बाहर कर रहे हैं तो याद रखिए उसका अंदर की जो लाइट से गुजर ऑडियो सुने लाइट को कहना कि आपकी आंखों की ज्योति बिल से रिटर्न है वहां पर जाकर उसको रिपीट कर सकते हैं इसीलिए हम हमेशा बोलते हैं कि मोबाइल को रात के अंधेरे में कभी मत यूज़ करिए एक लॉन्ग टाइम तक जवाब यूज करोगे तो आपका आंखों की पावर को कम कर सकता है या फिर ज्यादा बढ़ा सकता है और इस को प्रभावित कर सकता है धन्यवाद
Likemobail ko javaab do matalab andhere mein bhee baahar kar rahe hain to yaad rakhie usaka andar kee jo lait se gujar odiyo sune lait ko kahana ki aapakee aankhon kee jyoti bil se ritarn hai vahaan par jaakar usako ripeet kar sakate hain iseelie ham hamesha bolate hain ki mobail ko raat ke andhere mein kabhee mat yooz karie ek long taim tak javaab yooj karoge to aapaka aankhon kee paavar ko kam kar sakata hai ya phir jyaada badha sakata hai aur is ko prabhaavit kar sakata hai dhanyavaad

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:42
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है मोबाइल को मोबाइल का देहरी में उपयोग क्यों नहीं करना चाहिए तो दोस्तों सब कुछ नहीं है आपको जहां मोबाइल चलाना चाहिए आप वहां चला सकते हैं जब आपके जज्बात मोबाइल निकाल लीजिए या चला लीजिए और अंधेरे में क्या होता है कि ब्राइटनेस कभी कबार ज्यादा होती है तो आपकी आंखों पर असर पड़ता है इसलिए आप क्या कोई साइड इफेक्ट हो सकता है और आपको अगर मान लीजिए किसी को जेल और अंधेरे में ब्राइटनेस कम करके चलाइए और आप लोग हैं मुझे ले में है और अब की ब्राइटनेस कम है तो आपको दिखेगा नहीं तो आप लोग उसको बैठना पड़ा कि फिर बाहर जाया करें तो धन्यवाद दोस्तों लाइक करें
Namaskaar doston aapaka prashn hai mobail ko mobail ka deharee mein upayog kyon nahin karana chaahie to doston sab kuchh nahin hai aapako jahaan mobail chalaana chaahie aap vahaan chala sakate hain jab aapake jajbaat mobail nikaal leejie ya chala leejie aur andhere mein kya hota hai ki braitanes kabhee kabaar jyaada hotee hai to aapakee aankhon par asar padata hai isalie aap kya koee said iphekt ho sakata hai aur aapako agar maan leejie kisee ko jel aur andhere mein braitanes kam karake chalaie aur aap log hain mujhe le mein hai aur ab kee braitanes kam hai to aapako dikhega nahin to aap log usako baithana pada ki phir baahar jaaya karen to dhanyavaad doston laik karen

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Christina KC Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Christina जी का जवाब
MBA Govt job in PSU/Assistant Manager (HR)
0:38
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए मोबाइल पर आप को अंधेरे में इस्तेमाल इसी नहीं करना चाहिए क्योंकि रात अंधेरी में इस्तेमाल करते हो तो आपकी आंखें जो है वह खराब होने की चार आसान चीज होती है और आंखों की खराबी की वजह से ही जो है आपको डार्क मॉड तब रात में जो है आपको नहीं चलानी चाहिए उसके अलावा भी जो है जरूरी है आपको देखना कि अंधेरे में अगर आप मोबाइल चलाते हो तो आप कभी कबार दर्द कुछ बटन दबा सकते हो क्योंकि आप नहीं चाहते होंगे फिर कुछ गलत कर लेते होंगे जो आप नहीं चाहते हमें ऐसी ही सवाल का
Mobail ka andhere mein kyon upayog nahin karana chaahie mobail par aap ko andhere mein istemaal isee nahin karana chaahie kyonki raat andheree mein istemaal karate ho to aapakee aankhen jo hai vah kharaab hone kee chaar aasaan cheej hotee hai aur aankhon kee kharaabee kee vajah se hee jo hai aapako daark mod tab raat mein jo hai aapako nahin chalaanee chaahie usake alaava bhee jo hai jarooree hai aapako dekhana ki andhere mein agar aap mobail chalaate ho to aap kabhee kabaar dard kuchh batan daba sakate ho kyonki aap nahin chaahate honge phir kuchh galat kar lete honge jo aap nahin chaahate hamen aisee hee savaal ka

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:31
एस वाले की मोबाइल कहां देने में उपयोग क्यों नहीं करना चाहिए तो मोबाइल के हाई एनर्जी दीदी वाला लाइट या ब्लू लाइट निकलती है जो कि आंखों के लिए बेहद नुकसानदायक होती हैं असल में एक लैब स्टडी के द्वारा इस लाइट में एक्सपोजर के बाद आंखों की रोशनी में बदलाव देखने को मिलता है इसलिए विज्ञानिक इस नतीजे पर पहुंचे कि आज तक के अंधेरे में मोबाइल स्क्रीन को नहीं देखना चाहिए धन्यवाद
Es vaale kee mobail kahaan dene mein upayog kyon nahin karana chaahie to mobail ke haee enarjee deedee vaala lait ya bloo lait nikalatee hai jo ki aankhon ke lie behad nukasaanadaayak hotee hain asal mein ek laib stadee ke dvaara is lait mein eksapojar ke baad aankhon kee roshanee mein badalaav dekhane ko milata hai isalie vigyaanik is nateeje par pahunche ki aaj tak ke andhere mein mobail skreen ko nahin dekhana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
guru ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए guru जी का जवाब
Students
0:23

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Vikash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikash जी का जवाब
Unknown
1:14

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:24
अंधेरे में मोबाइल का उपयोग अधिक घंटे से ज्यादा नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आंखों के चारों तरफ सूजन भी आ सकता है जिसकी वजह से रेटीना पर बुरा प्रभाव पड़ता है फिर साथ-साथ भी दिमाग पर भी असर पड़ता जिसे सिर दर्द होने की संभावना भी हो सकती है
Andhere mein mobail ka upayog adhik ghante se jyaada nahin karana chaahie kyonki aisa karane se aankhon ke chaaron taraph soojan bhee aa sakata hai jisakee vajah se reteena par bura prabhaav padata hai phir saath-saath bhee dimaag par bhee asar padata jise sir dard hone kee sambhaavana bhee ho sakatee hai

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Rajesh Kumar swami Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajesh जी का जवाब
Student
0:36
मोबाइल का अंधेरे में उपयोग नहीं करना चाहिए क्या अंधेरे में धांधली हुई क्यों करेंगे तो हमारी आंखों की रोशनी है उससे प्रकाश पड़ेगा आपको भी प्रकाश पड़ेगा तो वह किरण कमजोर भी हो सकती है केंद्र के अंदर हम जैसे फोन चलाते हैं तो वह सीधा पकड़ना पड़ता है और लाइट होती है तो उसके अंदर सिद्ध प्रकाश माली पर नहीं पड़ता है वह चरित्र फैल जाता है इसी वजह से उनको अंधेरे में मोबाइल का प्रयोग नहीं करना चाहिए उपयोग नहीं करना चाहिए यही कारण है कि इससे हमारा पूरा से थोड़ी धीमी हो जाएगी वह भी जा सकती है मेरा फोन चलाया अंधेरे के अंदर यह समस्या होती है
Mobail ka andhere mein upayog nahin karana chaahie kya andhere mein dhaandhalee huee kyon karenge to hamaaree aankhon kee roshanee hai usase prakaash padega aapako bhee prakaash padega to vah kiran kamajor bhee ho sakatee hai kendr ke andar ham jaise phon chalaate hain to vah seedha pakadana padata hai aur lait hotee hai to usake andar siddh prakaash maalee par nahin padata hai vah charitr phail jaata hai isee vajah se unako andhere mein mobail ka prayog nahin karana chaahie upayog nahin karana chaahie yahee kaaran hai ki isase hamaara poora se thodee dheemee ho jaegee vah bhee ja sakatee hai mera phon chalaaya andhere ke andar yah samasya hotee hai

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
ravideep singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ravideep जी का जवाब
students
0:48

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Abdul_Ahad  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Abdul_Ahad जी का जवाब
Unknown
1:17
आप जो सवाल पूछा है कि भाई का अंधेरे में क्यों इस्तेमाल नहीं करना चाहिए तो यह कहेंगे ना कि मोबाइल के अंदर से क्यों नहीं सोती है उसकी जो फुल लाइफ से बहुत नुकसानदायक होती है हम तो सोती है कि इसके लिए और दूसरी बात यह है कि इसका इस्तेमाल करते हैं तो उसकी जो ब्लू लाइट होती है वह ब्लू लाइट हमारी आंखों को कहीं ना कहीं खराब कर दिए तो आप अगर आपके मोबाइल में ब्लू लाइट को प्रोटेक्ट करने के लिए कोई सॉफ्टवेयर अवेलेबल है या नाइट विजन आपके मोबाइल के अंदर एप्लीकेशन है जो आपके मोबाइल को नाइट्रोजन बना सकता है तो अब से इस्तेमाल करके रात में इस्तेमाल कर सकते हैं वैसे हमें चाहिए कि हम कम से कम मोबाइल का समर्थन वैसे मैंने मेरे मोबाइल के अंदर 5 घंटे का टोटल 24 घंटे में 5 घंटे तक का मन करने लगा रखा है अगर आपको ऐसा लगता है तो आप किस पिक्चर का इस्तेमाल कर सकते हैं बाहर से भी ज्यादा बताएं एक पिक्चर देखने को और 2 घंटे आप आराम से व्हाट्सएप को कैसे चलाना है आप यस करो तो रात से क्या आप दिन में भी बच पाओगे
Aap jo savaal poochha hai ki bhaee ka andhere mein kyon istemaal nahin karana chaahie to yah kahenge na ki mobail ke andar se kyon nahin sotee hai usakee jo phul laiph se bahut nukasaanadaayak hotee hai ham to sotee hai ki isake lie aur doosaree baat yah hai ki isaka istemaal karate hain to usakee jo bloo lait hotee hai vah bloo lait hamaaree aankhon ko kaheen na kaheen kharaab kar die to aap agar aapake mobail mein bloo lait ko protekt karane ke lie koee sophtaveyar avelebal hai ya nait vijan aapake mobail ke andar epleekeshan hai jo aapake mobail ko naitrojan bana sakata hai to ab se istemaal karake raat mein istemaal kar sakate hain vaise hamen chaahie ki ham kam se kam mobail ka samarthan vaise mainne mere mobail ke andar 5 ghante ka total 24 ghante mein 5 ghante tak ka man karane laga rakha hai agar aapako aisa lagata hai to aap kis pikchar ka istemaal kar sakate hain baahar se bhee jyaada bataen ek pikchar dekhane ko aur 2 ghante aap aaraam se vhaatsep ko kaise chalaana hai aap yas karo to raat se kya aap din mein bhee bach paoge

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
SUNITA SIYAR Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए SUNITA जी का जवाब
Unknown
0:43

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Som Prakash Gupta Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Som जी का जवाब
Open to work
0:43
मोबाइल फोन कीजिए रोशनी होती वह आर्टिफिशियल होती है नेचुरल लाइट के अंदर से सनलाइट के अंदर भी उसको यूज़ में नहीं ले सकते क्योंकि यदि अपन सनलाइट में मोबाइल को ज्यादा यूज में लेंगे तो हो सकता है उसका इफेक्ट ज्यादा ना अंधेरे में उसे काम है कि अंधेरे में वह ज्यादा वह जो लाइट होती वह आंखों की पुतलियों के लिए काफी हानिकारक होगी आपकी आंखें मत लो चूड़ी और तीर होकर आप उसको देखोगे ज्यादा आगे चौड़ी करके लगातार मोबाइल स्क्रीन को देखोगे तो हो सकता है कि आपकी आंखें ड्रायवोजॉय ड्राई आइस हो सकती है आपके मोबाइल आपके आंखों पर चश्मा भी चढ़ता आपके नंबर दे दिया और लेडीस चश्मा चढ़ा हुआ तो चश्मे का नंबर चेंज हो जाए लाइट के अंदर ही उसे यूज में ले तो ज्यादा अच्छा है
Mobail phon keejie roshanee hotee vah aartiphishiyal hotee hai nechural lait ke andar se sanalait ke andar bhee usako yooz mein nahin le sakate kyonki yadi apan sanalait mein mobail ko jyaada yooj mein lenge to ho sakata hai usaka iphekt jyaada na andhere mein use kaam hai ki andhere mein vah jyaada vah jo lait hotee vah aankhon kee putaliyon ke lie kaaphee haanikaarak hogee aapakee aankhen mat lo choodee aur teer hokar aap usako dekhoge jyaada aage chaudee karake lagaataar mobail skreen ko dekhoge to ho sakata hai ki aapakee aankhen draayavojoy draee aais ho sakatee hai aapake mobail aapake aankhon par chashma bhee chadhata aapake nambar de diya aur ledees chashma chadha hua to chashme ka nambar chenj ho jae lait ke andar hee use yooj mein le to jyaada achchha hai

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Tanvi  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Tanvi जी का जवाब
Unknown
0:32
मोबाइल की ब्राइटनेस और उसके रेट में संधि किसे कहते हैं और अगर हम कैसे निकालते हैं यही मोबाइल की रोशनी हमारी आंखों को खराब कर सकते हैं उन्हें और तुम जो भी बना सकती हो इसलिए कहा जाता है कि मोबाइल का बंद होना और देख लो रोटी रखी तो ही अच्छा है
Mobail kee braitanes aur usake ret mein sandhi kise kahate hain aur agar ham kaise nikaalate hain yahee mobail kee roshanee hamaaree aankhon ko kharaab kar sakate hain unhen aur tum jo bhee bana sakatee ho isalie kaha jaata hai ki mobail ka band hona aur dekh lo rotee rakhee to hee achchha hai

bolkar speaker
मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए?Mobile Ka Andhere Mein Kyun Upyog Nahin Karna Chaiye
Laxmi devi sant Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Laxmi जी का जवाब
Life coach
0:49
आपका फेस नहीं मोबाइल का अंधेरे में उपयोग क्यों नहीं करना चाहिए क्योंकि आप अगर कमरे की लाइट बंद करके और सेलफोन का इस्तेमाल करेंगे तो सेल फोन की जो रोशनी है उस रोशनी से एक रेडिएशन निकलता है जो कि हमारी आंखों को कमजोर करता है अगर आपने लगातार ऐसा करना शुरू किया लाइट बंद करके अपने ससुर को चलाना शुरु किया तो धीरे-धीरे आपकी आंखें कमजोर होने लगेंगी और एक टाइम आएगा कि आप देख नहीं पाएंगे आप पूरी तरीके से ब्लैंक हो जाएंगे और यह रियल की स्टोरी है एक छोटी सी बच्ची ने ऐसे ही किया था उसके बाद से वह देख नहीं पाती तो यही कारण होता है कि अंधेरे में कभी भी मोबाइल फोन का इस्तेमाल ना करें थैंक यू सो मच
Aapaka phes nahin mobail ka andhere mein upayog kyon nahin karana chaahie kyonki aap agar kamare kee lait band karake aur selaphon ka istemaal karenge to sel phon kee jo roshanee hai us roshanee se ek redieshan nikalata hai jo ki hamaaree aankhon ko kamajor karata hai agar aapane lagaataar aisa karana shuroo kiya lait band karake apane sasur ko chalaana shuru kiya to dheere-dheere aapakee aankhen kamajor hone lagengee aur ek taim aaega ki aap dekh nahin paenge aap pooree tareeke se blaink ho jaenge aur yah riyal kee storee hai ek chhotee see bachchee ne aise hee kiya tha usake baad se vah dekh nahin paatee to yahee kaaran hota hai ki andhere mein kabhee bhee mobail phon ka istemaal na karen thaink yoo so mach

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग नहीं करना चाहिए मोबाइल का अंधेरे में क्यों उपयोग न करें
URL copied to clipboard