#जीवन शैली

Aditya Tripathi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aditya जी का जवाब
Student
1:41
आपका प्रश्न है रात के समय जानवरों की आंखें हल्की सी रोशनी पड़ने पर भी अंगारे की तरह चमकती है जबकि मनुष्य के साथ ऐसा नहीं होता क्यों तो आपने रात में बिल्ली तो देखी ही हो अंधेरे में काली बिल्ली का शरीर दिखाई नहीं देता लेकिन उसके जुगनू से आंखें जरूर दिखाई थी यही शेर चीता तेंदुआ समेत कई जानवरों के साथ होता है इसका कारण यह है कि जानवरों की आंख में एक विशेष प्रकार की मणि भी पदार्थ है निकला इन सब्सटेंस की पतली परत होती पढ़ने वाली प्रकाश को परावर्तित कर देते हैं यही कारण है कि इन जानवरों की आंखें रात में चमकती हुई दिखाई देती है अर्थात इसका कारण कृष्णा ए सब्सटेंस है ठीक इसके अलावा दिल्ली के आंखों में एल्युमीनियम ट्रैक्टर मिनी लुमिनस टेबिटम नामक पदार्थ पाया जाता है जो भी प्रकाश को परावर्तित कर देता है और इन जानवरों में एक बात और गौर करने वाली होती है कि सभी जानवरों की आंख की चमक का काला रंग एक जैसा नहीं होता तू जिनमें नाक में खून पीने से अधिक होती है उनकी चमक लाल रंग की होती है और जिनमें कम होती है उनकी चमक सफेद या हल्का पीलापन लिए होती है इन जानवरों को रात में कुछ साफ दिखाई देता है धन्यवाद
Aapaka prashn hai raat ke samay jaanavaron kee aankhen halkee see roshanee padane par bhee angaare kee tarah chamakatee hai jabaki manushy ke saath aisa nahin hota kyon to aapane raat mein billee to dekhee hee ho andhere mein kaalee billee ka shareer dikhaee nahin deta lekin usake juganoo se aankhen jaroor dikhaee thee yahee sher cheeta tendua samet kaee jaanavaron ke saath hota hai isaka kaaran yah hai ki jaanavaron kee aankh mein ek vishesh prakaar kee mani bhee padaarth hai nikala in sabsatens kee patalee parat hotee padhane vaalee prakaash ko paraavartit kar dete hain yahee kaaran hai ki in jaanavaron kee aankhen raat mein chamakatee huee dikhaee detee hai arthaat isaka kaaran krshna e sabsatens hai theek isake alaava dillee ke aankhon mein elyumeeniyam traiktar minee luminas tebitam naamak padaarth paaya jaata hai jo bhee prakaash ko paraavartit kar deta hai aur in jaanavaron mein ek baat aur gaur karane vaalee hotee hai ki sabhee jaanavaron kee aankh kee chamak ka kaala rang ek jaisa nahin hota too jinamen naak mein khoon peene se adhik hotee hai unakee chamak laal rang kee hotee hai aur jinamen kam hotee hai unakee chamak saphed ya halka peelaapan lie hotee hai in jaanavaron ko raat mein kuchh saaph dikhaee deta hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

URL copied to clipboard