#undefined

bolkar speaker

कुएँ अक्सर गोल क्यों बनाए जाते हैं?

Kuein Aksar Gol Kyun Banaye Jate Hain
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
2:35
हेलो सर नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है कोई अक्सर गोल क्यों बनाए जाते हैं जब हम किसी भी तरल पदार्थ को जो है स्टोर करते हैं तो उसकी भीतर का जो प्रेशर होता है वह उस दीवार पर जो है वह दबाव बनाता है जिसमें उसे स्टोर किया गया जो पानी होता है वह दीवारों पर जो है प्रेशर बनाए लगता है जैसे कि यदि हम ही को चकोर कर देंगे तो उसके भीतर का जो शमा जल होता है वह भंडार का प्रेशर जो होता है वह दीवारों के बजाय फिर उसी चारों कोनों पर पहुंच जाएगा अगर हम चार चौकोर करेंगे तो इसमें फ्रेंड ही कीजो उम्र होती है वह ज्यादा दिन तक नहीं चलती थी कॉल नहीं हो पाती और जल्दी ही टूटने का जो है सब में हो ना बना रहता है जबकि फ्रेंड यदि उसे गोल बनाया जाता है तो उसकी दीवारें होती ही नहीं है फिर और जल जो है का जो प्रेशर होता है जल भंडारे का जो प्रेषण होता है वह कुएं पर सभी जगह समान तरीके से जो पड़ता है इससे उन्हें का जो उम्र होता है यह ज्यादा दिन तक रहता है और ज्यादा दिन तक यह चलता है इसी प्रकार फ्रेंड अगर आप वैज्ञानिक दृष्टि से देखना चाहे तो पूरा जो होता है वह एक हरा वृत्ताकार कुमकुमा जो होता है गोलू बाबू काफी मजबूत माना जाता है इसे बनाने में फ्रेंड ने सुगमता होती है और धनी में फंसाने में जो है * मतलब खोजने में जो है भागवत अधिक सहायता होती है जिससे यह जो रुखा उल्टी होती है जैसे कि अगर आप लंबा को देंगे तो कई प्रकार की रुकावट ही आएगी और अगर गोल खो देंगे तो रुकावटें ज्यादा नहीं आती है तो इसका जो झुकाओ है नियंत्रण रखा जा सकता है यदि कंक्रीट से बना होता है यह काफी हद तक सस्ता पड़ता है और कुआं जहां भी खुद आ जाता है वहां की मिट्टी जो है वह कड़ी होती है जिससे वह जो है वह नीचे धसने ना पाए और उसका लाइफ जियो जीवन में जो है वह कई वर्षों तक हूं वह जो है ऐसे लोग पानी निकाल सके ऐसा एक आप सभी को या जानकारी पसंद आई होगी शुक्रिया
Helo sar namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai koee aksar gol kyon banae jaate hain jab ham kisee bhee taral padaarth ko jo hai stor karate hain to usakee bheetar ka jo preshar hota hai vah us deevaar par jo hai vah dabaav banaata hai jisamen use stor kiya gaya jo paanee hota hai vah deevaaron par jo hai preshar banae lagata hai jaise ki yadi ham hee ko chakor kar denge to usake bheetar ka jo shama jal hota hai vah bhandaar ka preshar jo hota hai vah deevaaron ke bajaay phir usee chaaron konon par pahunch jaega agar ham chaar chaukor karenge to isamen phrend hee keejo umr hotee hai vah jyaada din tak nahin chalatee thee kol nahin ho paatee aur jaldee hee tootane ka jo hai sab mein ho na bana rahata hai jabaki phrend yadi use gol banaaya jaata hai to usakee deevaaren hotee hee nahin hai phir aur jal jo hai ka jo preshar hota hai jal bhandaare ka jo preshan hota hai vah kuen par sabhee jagah samaan tareeke se jo padata hai isase unhen ka jo umr hota hai yah jyaada din tak rahata hai aur jyaada din tak yah chalata hai isee prakaar phrend agar aap vaigyaanik drshti se dekhana chaahe to poora jo hota hai vah ek hara vrttaakaar kumakuma jo hota hai goloo baaboo kaaphee majaboot maana jaata hai ise banaane mein phrend ne sugamata hotee hai aur dhanee mein phansaane mein jo hai * matalab khojane mein jo hai bhaagavat adhik sahaayata hotee hai jisase yah jo rukha ultee hotee hai jaise ki agar aap lamba ko denge to kaee prakaar kee rukaavat hee aaegee aur agar gol kho denge to rukaavaten jyaada nahin aatee hai to isaka jo jhukao hai niyantran rakha ja sakata hai yadi kankreet se bana hota hai yah kaaphee had tak sasta padata hai aur kuaan jahaan bhee khud aa jaata hai vahaan kee mittee jo hai vah kadee hotee hai jisase vah jo hai vah neeche dhasane na pae aur usaka laiph jiyo jeevan mein jo hai vah kaee varshon tak hoon vah jo hai aise log paanee nikaal sake aisa ek aap sabhee ko ya jaanakaaree pasand aaee hogee shukriya

और जवाब सुनें

bolkar speaker
कुएँ अक्सर गोल क्यों बनाए जाते हैं?Kuein Aksar Gol Kyun Banaye Jate Hain
Aditya Tripathi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aditya जी का जवाब
Student
0:58
नदी त्रिपाठी आपका प्रश्न है कोई अक्सर बोल क्यों बनाए जाते हैं तो आपने देखा ही होगा उन्हें आकार अधिक तरफ गोल ही बनाया जाता है इसके पीछे कारण यह है कि अगर हम किसी भी चीज में कोई तरल पदार्थ भरते तो उसका प्रेशर हमेशा उन दीवारों पर लगता है जिसमें भरा जाता है तो अगर हम कुएं को बोलना बनाकर कोई और आकार दें जैसे आयताकार बना दे तू उसका वह प्रेशर दीवारों में ना लगते उन कौन हो पिला देगा लव यू गोल बनाने पर वर्क प्रेशर समान रूप से पूरे दीवारों पर वितरित हो जाएगा और उसमें उसकी आयु हुए की आयु बढ़ जाएगी इसके पीछे का एक कारण यही चाहिए धन्यवाद
Nadee tripaathee aapaka prashn hai koee aksar bol kyon banae jaate hain to aapane dekha hee hoga unhen aakaar adhik taraph gol hee banaaya jaata hai isake peechhe kaaran yah hai ki agar ham kisee bhee cheej mein koee taral padaarth bharate to usaka preshar hamesha un deevaaron par lagata hai jisamen bhara jaata hai to agar ham kuen ko bolana banaakar koee aur aakaar den jaise aayataakaar bana de too usaka vah preshar deevaaron mein na lagate un kaun ho pila dega lav yoo gol banaane par vark preshar samaan roop se poore deevaaron par vitarit ho jaega aur usamen usakee aayu hue kee aayu badh jaegee isake peechhe ka ek kaaran yahee chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
कुएँ अक्सर गोल क्यों बनाए जाते हैं?Kuein Aksar Gol Kyun Banaye Jate Hain
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:50
आलेख में अक्सर गोल क्यों बनाए जाते हैं देखिए अगर आपने कभी पहले के बड़े बूढ़ों लोगों को कहते हुए सुना होगा को यह में 2 आदमी अंदर घुसकर खुद के थे इसके पीछे एक कारण है अगर कुछ गड़बड़ आई तो कुआं गोल होने की वजह से मिट्टी धरती नहीं है और जो भी मिट्टी मजदूर होते थे तो उनको गोल आप सच में खोजने में आसानी होती थी अगर पियो को चौकोर बना दिया जाए तो उसके हर दीवार पर ज्यादा फोर्स लगे जिसके कारण हुए को दब जाने के चांस ज्यादा होते हैं और इसमें जानमाल का भी नुकसान हो सकता है इसलिए हुए गोल बनाए जाते थे धन्यवाद
Aalekh mein aksar gol kyon banae jaate hain dekhie agar aapane kabhee pahale ke bade boodhon logon ko kahate hue suna hoga ko yah mein 2 aadamee andar ghusakar khud ke the isake peechhe ek kaaran hai agar kuchh gadabad aaee to kuaan gol hone kee vajah se mittee dharatee nahin hai aur jo bhee mittee majadoor hote the to unako gol aap sach mein khojane mein aasaanee hotee thee agar piyo ko chaukor bana diya jae to usake har deevaar par jyaada phors lage jisake kaaran hue ko dab jaane ke chaans jyaada hote hain aur isamen jaanamaal ka bhee nukasaan ho sakata hai isalie hue gol banae jaate the dhanyavaad

bolkar speaker
कुएँ अक्सर गोल क्यों बनाए जाते हैं?Kuein Aksar Gol Kyun Banaye Jate Hain
satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
1:07
हाय फ्रेंड क्वेश्चन पूछा गया है कि को में अक्सर जो होते हैं गोल क्यों बनाए जाते हैं तो आसान शब्दों में समझने की कोशिश करें तो जब हम किसी भी तरल पदार्थ को होस्ट करते हैं तो उसके भीतर का प्रेशर उस वस्तु की दीवारों पर 14 दबाव बनाता है जिससे उस वस्तु किया जा रहा है यदि हम उनको चौकोर बना दे तो उसके भीतर जो भी हम जमा जल रखते हैं वह जल भंडार का पेपर जो है दीवारों के बजाय उसके चारों कोनों पर पहुंच जाएगा ऐसी स्थिति में देखा जाए तो कुएं की उम्र जो होती है वह कम हो जाएगी उसके टूटकर जो है गिरने की संभावनाएं भी ज्यादा हो जाएगी जबकि यदि उसे गोल बना दिया गोल हम बनाते हैं उसमें तिवारी नहीं होती हैं और को ना भी नहीं होता है जिससे क्या होता है कि जल भंडार का फेसबुक पूरी है पर समान रूप से वितरित हो जाता है इसके कारण जो होता है कुवे की उम्र ज्यादा हो जाती हैं
Haay phrend kveshchan poochha gaya hai ki ko mein aksar jo hote hain gol kyon banae jaate hain to aasaan shabdon mein samajhane kee koshish karen to jab ham kisee bhee taral padaarth ko host karate hain to usake bheetar ka preshar us vastu kee deevaaron par 14 dabaav banaata hai jisase us vastu kiya ja raha hai yadi ham unako chaukor bana de to usake bheetar jo bhee ham jama jal rakhate hain vah jal bhandaar ka pepar jo hai deevaaron ke bajaay usake chaaron konon par pahunch jaega aisee sthiti mein dekha jae to kuen kee umr jo hotee hai vah kam ho jaegee usake tootakar jo hai girane kee sambhaavanaen bhee jyaada ho jaegee jabaki yadi use gol bana diya gol ham banaate hain usamen tivaaree nahin hotee hain aur ko na bhee nahin hota hai jisase kya hota hai ki jal bhandaar ka phesabuk pooree hai par samaan roop se vitarit ho jaata hai isake kaaran jo hota hai kuve kee umr jyaada ho jaatee hain

bolkar speaker
कुएँ अक्सर गोल क्यों बनाए जाते हैं?Kuein Aksar Gol Kyun Banaye Jate Hain
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:25
यह गोल कुआं बनाने की पद्धति तेल के कुवे से निकल कर आई है क्योंकि जब शुरुआत में हुए के दिन से तेल पानी निकाला जाता तो बेलूर मठ का प्रयोग किया जाता था और वह क्यों गोल गोल चक्कर लगाया करते थे इसी वजह से हुए फूल बनाए जाते हैं
Yah gol kuaan banaane kee paddhati tel ke kuve se nikal kar aaee hai kyonki jab shuruaat mein hue ke din se tel paanee nikaala jaata to beloor math ka prayog kiya jaata tha aur vah kyon gol gol chakkar lagaaya karate the isee vajah se hue phool banae jaate hain

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • कुआ कितने प्रकार का होता है
URL copied to clipboard