#भारत की राजनीति

bolkar speaker

भारत सरकार ने कौन से चाइनीज ऐप्स को बैन किया और बैन करने का क्या कारण है?

Bharat Sarkar Ne Kaun Se Chinese Apps Ko Ban Kiya Aur Ban Karne Ka Kya Karan Hai
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:44
भारत सरकार ने शनिवार को गुलसिता को बैन किया था लेकिन जिम में कौन सा तत्व जैसे कि टिपटॉप हां हेलो हां हेलो हां यूसी ब्राउजर है और हमने आप भी हैं तथा इस को बैन करने का कारण था कि हमारी बॉर्डर की सीमा को लांग रहे थे तथा दूसरा दिन में कोरोनावायरस को फैला था जिसकी वजह से अपने आप को बंद किया भारतीय लोगों ने तथा भारतीय की सरकार
Bhaarat sarakaar ne shanivaar ko gulasita ko bain kiya tha lekin jim mein kaun sa tatv jaise ki tipatop haan helo haan helo haan yoosee braujar hai aur hamane aap bhee hain tatha is ko bain karane ka kaaran tha ki hamaaree bordar kee seema ko laang rahe the tatha doosara din mein koronaavaayaras ko phaila tha jisakee vajah se apane aap ko band kiya bhaarateey logon ne tatha bhaarateey kee sarakaar
  • सवाल पूछने के लिए ऐप डाउनलोड करें
  • सवाल पूछने के लिए ऎप डाउनलोड करें
  • Download App

और जवाब सुनें

bolkar speaker
भारत सरकार ने कौन से चाइनीज ऐप्स को बैन किया और बैन करने का क्या कारण है?Bharat Sarkar Ne Kaun Se Chinese Apps Ko Ban Kiya Aur Ban Karne Ka Kya Karan Hai
Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
3:37
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोल करें पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है भारत सरकार ने कौन से चाइनीज ऐप्स को बैन किया और बहन करने का क्या कारण है मित्र भारत सरकार की ओर से 50 से भी ज्यादा चाइनीज ऐप्स को बैंक करने का फैसला लिया गया था बैंक किए गए एप्स की लिस्ट में ढेरों पापुलर एप्स भी शामिल है जैसे टिक टॉक यू सी ब्राउजर और शेयर इट जैसे इन एप्स को बंद किए जाने की वजह इनका चाइनीज होना ही नहीं है अपितु देश की सुरक्षा और एकता को बनाए रखने के लिए जरूरी कदम मानते हुए ऐसा किया गया है करीब 59 एप्स को जल्द ही गूगल प्ले स्टोर और एप्पल एप स्टोर से हटा दिया गया भारत और चीन सीमा पर पिछले कुछ वक्त से चल रहे तनाव के बीच 15 जून 2020 को गर्ल बांध घाटी में सैनिकों की शहादत के बाद से ही चाइनीज ऐप्स बैंक करने और प्रोडक्ट को बायकाट करने की मांग उठने लगी थी एप्स को बैन करने की असल वजह आधिकारिक बयान में इंफॉर्मेशन और टेक्नोलॉजी मिनिस्ट्री ने बताया है इसमें कहा गया है कि मंत्रालय को अलग-अलग पोस्ट इन एप से जुड़ी शिकायतें मिल रही थी और कई रिपोर्ट्स में यूजर्स के डाटा का गलत इस्तेमाल करने की बात भी सामने आई थी ऑफिस यदि स्टेटमेंट के अनुसार अनुसार एंड्रॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म से यूजर्स का डाटा चोरी करने और गलत तरीके अपनाते हुए भारत से बाहर के सर्वर में स्टोर करने की बात भी सामने आई थी बयान में कहा गया था कि डाटा चोरी से जुड़ी शिकायतों को देखते हुए पाया गया है कि यह भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है और भारत की एकता और अखंडता को भी नुकसान पहुंचाने की कोशिश इस तरह से की जा सकती है ऐसे में तुरंत इन एप्स के खिलाफ इमरजेंसी एक्शन लेने की जरूरत महसूस की गई थी चाइनीज ऐप्स पर इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी एक्ट के 69 69 ए सेक्शन ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी जिसको पब्लिक इनफॉरमेशन का एक्सेस सुरक्षा की दृष्टि से ब्लॉक करने से जुड़ा हुआ माना जाता है उसके नियम 2009 के तहत कार्यवाही की गई है बैंक किए गए एप्स की लिस्ट में पॉपुलर टिक टॉक शेयर इट यूसी ब्राउजर बायतु मैप हेलो लाईकी मी कम्युनिटी क्लब फैक्ट्री यूसी न्यूज़ b2me वीडियो कॉल सावनी विवो मीडिया विवो वीडियो और क्लीन मास्टर कैन स्कैमर जैसे ऐप शामिल है जिनके लाखों डाउनलोड भी हम सरकार की ओर से इन ऐप को बंद करने का फैसला इसलिए किया गया जिससे यह देश के नागरिकों का डाटा एक्सेस ना कर सके और उसका गलत इस्तेमाल न किया जाए भारत सरकार की एजेंसी कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम सीनियर टीम की ओर से भी कहा गया था कि एप्स में यूजर्स की निजता का हनन ऐसे मामले भी देखने को मिले हैं इसके अलावा इंडियन साइबर क्राइम कारनेशन सेंटर और होम मिनिस्ट्री की ओर से भी इन मेडिसन ऐप को ब्लॉक करने के लिए कहा गया था सरकार का कहना है कि भारत के साइबरस्पेस की सुरक्षा की उसकी जिम्मेदारी है जिससे भारत में मोबाइल और इंटरनेट यूजर्स को किसी भी तरह के नुकसान से बचाया जा सके ऐसे में जरूरत पड़ने पर आगे भी इस तरह के कदम उठाए जा सकते हैं तो मित्रों यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद
Namaskaar main braham prakaash mishr aapaka bol karen par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai bhaarat sarakaar ne kaun se chaineej aips ko bain kiya aur bahan karane ka kya kaaran hai mitr bhaarat sarakaar kee or se 50 se bhee jyaada chaineej aips ko baink karane ka phaisala liya gaya tha baink kie gae eps kee list mein dheron paapular eps bhee shaamil hai jaise tik tok yoo see braujar aur sheyar it jaise in eps ko band kie jaane kee vajah inaka chaineej hona hee nahin hai apitu desh kee suraksha aur ekata ko banae rakhane ke lie jarooree kadam maanate hue aisa kiya gaya hai kareeb 59 eps ko jald hee googal ple stor aur eppal ep stor se hata diya gaya bhaarat aur cheen seema par pichhale kuchh vakt se chal rahe tanaav ke beech 15 joon 2020 ko garl baandh ghaatee mein sainikon kee shahaadat ke baad se hee chaineej aips baink karane aur prodakt ko baayakaat karane kee maang uthane lagee thee eps ko bain karane kee asal vajah aadhikaarik bayaan mein imphormeshan aur teknolojee ministree ne bataaya hai isamen kaha gaya hai ki mantraalay ko alag-alag post in ep se judee shikaayaten mil rahee thee aur kaee riports mein yoojars ke daata ka galat istemaal karane kee baat bhee saamane aaee thee ophis yadi stetament ke anusaar anusaar endroyad aur aaeeoes pletaphorm se yoojars ka daata choree karane aur galat tareeke apanaate hue bhaarat se baahar ke sarvar mein stor karane kee baat bhee saamane aaee thee bayaan mein kaha gaya tha ki daata choree se judee shikaayaton ko dekhate hue paaya gaya hai ki yah bhaarat kee raashtreey suraksha ke lie khatara hai aur bhaarat kee ekata aur akhandata ko bhee nukasaan pahunchaane kee koshish is tarah se kee ja sakatee hai aise mein turant in eps ke khilaaph imarajensee ekshan lene kee jaroorat mahasoos kee gaee thee chaineej aips par inaphorameshan teknolojee ekt ke 69 69 e sekshan of inaphaarmeshan teknolojee jisako pablik inaphorameshan ka ekses suraksha kee drshti se blok karane se juda hua maana jaata hai usake niyam 2009 ke tahat kaaryavaahee kee gaee hai baink kie gae eps kee list mein popular tik tok sheyar it yoosee braujar baayatu maip helo laeekee mee kamyunitee klab phaiktree yoosee nyooz b2mai veediyo kol saavanee vivo meediya vivo veediyo aur kleen maastar kain skaimar jaise aip shaamil hai jinake laakhon daunalod bhee ham sarakaar kee or se in aip ko band karane ka phaisala isalie kiya gaya jisase yah desh ke naagarikon ka daata ekses na kar sake aur usaka galat istemaal na kiya jae bhaarat sarakaar kee ejensee kampyootar imarajensee rispaans teem seeniyar teem kee or se bhee kaha gaya tha ki eps mein yoojars kee nijata ka hanan aise maamale bhee dekhane ko mile hain isake alaava indiyan saibar kraim kaaraneshan sentar aur hom ministree kee or se bhee in medisan aip ko blok karane ke lie kaha gaya tha sarakaar ka kahana hai ki bhaarat ke saibaraspes kee suraksha kee usakee jimmedaaree hai jisase bhaarat mein mobail aur intaranet yoojars ko kisee bhee tarah ke nukasaan se bachaaya ja sake aise mein jaroorat padane par aage bhee is tarah ke kadam uthae ja sakate hain to mitron yah javaab achchha laga ho to krpaya sabsakraib laik sheyar aur kament karake jaroor bataen dhanyavaad

bolkar speaker
भारत सरकार ने कौन से चाइनीज ऐप्स को बैन किया और बैन करने का क्या कारण है?Bharat Sarkar Ne Kaun Se Chinese Apps Ko Ban Kiya Aur Ban Karne Ka Kya Karan Hai
Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College Student
1:08
नमस्कार सोता भारत सरकार ने कौन सा नीचे आप स्पेन की एक तो वह कई सौ सौ दो सौ के बराबर उन्होंने एप्स पहन किए थे पर क्या कारण था तो ऑफिशल स्टेटमेंट है तो उसमें इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी एक्ट के सेक्शन 69a के तहत यह सारे ऐप्स बनके गए थे और उन्होंने ऑफिशल स्टेटमेंट में कहा था कि सरकार को इस इनपुट मिले थे कि यह भारत की एकता और अखंडता भारत की सुरक्षा स्टेट सिक्योरिटी आफ पब्लिक ऑर्डर को नुकसान पहुंचाने वाली एक्टिविटीज में शामिल थे और इसी के चलते मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी की ओर से नेट स्कोर इंडिया में बैन कर दिया क्या कुछ मुख्य एप्स देवीचे था एक लूडो ऑल स्टार पब जी मोबाइल जिस पर काफी हंगामा हुआ एक टिक टॉक था इसके अलावा स्नेक वीडियो थी जिसके बारे में ज्यादा लोग जानते नहीं थे और व्हाई डू क्लास नाइंथ यह मुख्य थे और बाकी सारे कुछ थे छोटे-मोटे एप्स धन्यवाद
Namaskaar sota bhaarat sarakaar ne kaun sa neeche aap spen kee ek to vah kaee sau sau do sau ke baraabar unhonne eps pahan kie the par kya kaaran tha to ophishal stetament hai to usamen inaphorameshan teknolojee ekt ke sekshan 69a ke tahat yah saare aips banake gae the aur unhonne ophishal stetament mein kaha tha ki sarakaar ko is inaput mile the ki yah bhaarat kee ekata aur akhandata bhaarat kee suraksha stet sikyoritee aaph pablik ordar ko nukasaan pahunchaane vaalee ektiviteej mein shaamil the aur isee ke chalate ministree oph ilektroniks end inaphorameshan teknolojee kee or se net skor indiya mein bain kar diya kya kuchh mukhy eps deveeche tha ek loodo ol staar pab jee mobail jis par kaaphee hangaama hua ek tik tok tha isake alaava snek veediyo thee jisake baare mein jyaada log jaanate nahin the aur vhaee doo klaas nainth yah mukhy the aur baakee saare kuchh the chhote-mote eps dhanyavaad

bolkar speaker
भारत सरकार ने कौन से चाइनीज ऐप्स को बैन किया और बैन करने का क्या कारण है?Bharat Sarkar Ne Kaun Se Chinese Apps Ko Ban Kiya Aur Ban Karne Ka Kya Karan Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:29
साले कि भारत सरकार ने कौन से सैनिक ऐप को बंद किया है और बंद करने का क्या कारण था भारत में चाइनीज के जितने भी ऐप है लगभग सारी मन कर दिया और भारत सरकार ने बैन करने का मुख्य कारण यह बताएं कि वह हमारे भारत के युद्ध से डाटा चोरी करते हैं इसलिए चाइना के ऐप को बैंक कर दी है धन्यवाद
Saale ki bhaarat sarakaar ne kaun se sainik aip ko band kiya hai aur band karane ka kya kaaran tha bhaarat mein chaineej ke jitane bhee aip hai lagabhag saaree man kar diya aur bhaarat sarakaar ne bain karane ka mukhy kaaran yah bataen ki vah hamaare bhaarat ke yuddh se daata choree karate hain isalie chaina ke aip ko baink kar dee hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भारत सरकार चाइनीस ऐप्स
URL copied to clipboard