#भारत की राजनीति

Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
2:59
सरकार के आंकड़े या किसी भी पार्टी के नेताओं के दिए हुए आंकड़े यथार्थ की कसौटी पर कस कर के ही उनको सत्य और असत्य जाना चाहिए क्योंकि यह नेतागण जो देते हैं आंकड़े उनमें सत्य कितना होता है यह तुमको और मुझको जब तक सत्य की कसौटी पर हम नहीं करते तब तक उसे सख्त नहीं मानना चाहिए क्योंकि यह तो नेता है अब मोदी जी आपने जो है अधिक विश्वसनीय इसलिए हैं क्योंकि आज की डेट में इस देश में यदि समस्त पॉलीटिकल पार्टीज के नेताओं में आप नजर डालेंगे तो केवल दो ना में से देख सकते हो जो विशुद्ध देश के वफादार करते हैं जो देश के प्रति निष्ठावान हैं देश के प्रति कर्तव्य निष्ठ हैं और देश के लिए समर्पित हैं वे दो नाम है आदरणीय मोदी जी और आदरणीय भाई जी यह दो देश के प्रति निष्ठावान भी हैं वफादार भी हैं कदम कर्तव्यनिष्ठ भी हैं और जनहितकारी कार्यों में रुचि रखते हैं जनकल्याण ही जिनका राजनीति का मुख्य उद्देश्य है जो देश सेवा करते हुए नजर आ रहे हैं जो देश सेवा के लिए समर्पित प्रतीत हो रहे हैं बाकी अन्य नेताओं की मैं किसी की नहीं कहता कि उन सबकी बातें जनहितकारी हैं या देश सेवा संबंधित हैं क्योंकि उन सब की कथनी करनी का जमीन आसमान का अंतर है यदि उत्तर की कहते हैं तो निश्चित मानिए दक्षिण जाएंगे और यदि पूर्व की बात करते हैं तो समझ लीजिए एक निश्चित रूप से पश्चिम की ओर जाने वाले हैं क्योंकि इनके नेताओं के जो आपने होते हैं या बातें होती हैं इनकी कथनी करनी के अंतर से भरपूर होती है यह तो गूगल जी लालच आदि से भरे हुए हैं और भारतीय गंदी राजनीति का हिस्सा है लेकिन इन दोनों पर आपको बिलीव करना चाहिए क्योंकि जो देश को समर्पित है जो देश के प्रति वफादार रहे हैं जो कर्तव्यनिष्ठ हैं वे सम्मान योग्य होते हैं चाहे वह किसी भी पॉलीटिकल पार्टीज के जबकि आज तुम देख रहे हो समस्त पॉलिटिकल पार्टियों की हालत एक जैसी है यह स्वार्थ खुदगर्जी और लालच की राजनीति कर रहे हैं जो देश को निम्न स्तर की ओर ले जा रही है
Sarakaar ke aankade ya kisee bhee paartee ke netaon ke die hue aankade yathaarth kee kasautee par kas kar ke hee unako saty aur asaty jaana chaahie kyonki yah netaagan jo dete hain aankade unamen saty kitana hota hai yah tumako aur mujhako jab tak saty kee kasautee par ham nahin karate tab tak use sakht nahin maanana chaahie kyonki yah to neta hai ab modee jee aapane jo hai adhik vishvasaneey isalie hain kyonki aaj kee det mein is desh mein yadi samast poleetikal paarteej ke netaon mein aap najar daalenge to keval do na mein se dekh sakate ho jo vishuddh desh ke vaphaadaar karate hain jo desh ke prati nishthaavaan hain desh ke prati kartavy nishth hain aur desh ke lie samarpit hain ve do naam hai aadaraneey modee jee aur aadaraneey bhaee jee yah do desh ke prati nishthaavaan bhee hain vaphaadaar bhee hain kadam kartavyanishth bhee hain aur janahitakaaree kaaryon mein ruchi rakhate hain janakalyaan hee jinaka raajaneeti ka mukhy uddeshy hai jo desh seva karate hue najar aa rahe hain jo desh seva ke lie samarpit prateet ho rahe hain baakee any netaon kee main kisee kee nahin kahata ki un sabakee baaten janahitakaaree hain ya desh seva sambandhit hain kyonki un sab kee kathanee karanee ka jameen aasamaan ka antar hai yadi uttar kee kahate hain to nishchit maanie dakshin jaenge aur yadi poorv kee baat karate hain to samajh leejie ek nishchit roop se pashchim kee or jaane vaale hain kyonki inake netaon ke jo aapane hote hain ya baaten hotee hain inakee kathanee karanee ke antar se bharapoor hotee hai yah to googal jee laalach aadi se bhare hue hain aur bhaarateey gandee raajaneeti ka hissa hai lekin in donon par aapako bileev karana chaahie kyonki jo desh ko samarpit hai jo desh ke prati vaphaadaar rahe hain jo kartavyanishth hain ve sammaan yogy hote hain chaahe vah kisee bhee poleetikal paarteej ke jabaki aaj tum dekh rahe ho samast politikal paartiyon kee haalat ek jaisee hai yah svaarth khudagarjee aur laalach kee raajaneeti kar rahe hain jo desh ko nimn star kee or le ja rahee hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मोदी सरकार के भाषण.. बेरोजगारी के बढ़ते आंकड़े
URL copied to clipboard