#भारत की राजनीति

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:52
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है किसान आंदोलन के बीच क्या बीजेपी ने भी अपने किसान नेता खड़े किए हैं आंदोलन को अपने पक्ष में बदलने के लिए तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर यह है किसान आंदोलन के बीच बीजेपी ने अपने किसान नेता खड़े किए हैं वह किसान नहीं है वह बीजेपी के कार्यकर्ता हैं और उनको किसान बनाकर जो खड़ा किया है वह हमारे देश की जनता को सबको मालूम है क्योंकि हमारे देश की सरकार ने जो तीन काले कानून बनाए हैं वह किसान विरोधी कानून है इसलिए बीजेपी कितनी भी लाख कोशिश कर ले लेकिन किसान नेता को कितना भी खड़ा क्यों न कर दे लेकिन हमारे देश की जनता और हमारे अन्नदाता को सबको मालूम है कि यह किसान नेता नहीं है यह सिर्फ बीजेपी के कार्यकर्ता है इसलिए इनका कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है क्योंकि जो हमारे देश में किसान की हक की जो लड़ाई लड़ रहे हैं वह हमारे देश को सभी को मालूम है कि कौन किसान की आवाज को लड़ रहा है इसलिए सभी को मालूम है तो बीजेपी के किसान नेता खड़े होने का हमारे किसान आंदोलन में कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है और बीजेपी कितनी भी कोशिश क्यों न कर ले लेकिन किसान नेता उनके पक्ष में कभी नहीं खड़ा होगा क्योंकि बीजेपी ने तीन काले कानून बनाए हैं जो किसानों के हित में नहीं है इसलिए आंदोलन उनके पक्ष में नहीं होने वाला है क्योंकि अगर आंदोलन को अपने पक्ष में मोड़ने का काम अगर करना होता तो तीन काले कानूनों को वह हटाने का काम करते तब जरूर किसान उनके पक्ष में खड़ा हो जाता लेकिन अब खड़ा नहीं होगा क्योंकि जब धागे में गांठ पड़ जाती है तो वह गांठ कभी मिटती नहीं है वह हमेशा वह गाड़ी लगी रहती है इसलिए किसान को कितनी भी कोशिश क्यों न कर ले लेकिन बीजेपी के पक्ष में नहीं होंगे धन्यवाद दोस्तों
Namaskaar doston aapaka savaal hai kisaan aandolan ke beech kya beejepee ne bhee apane kisaan neta khade kie hain aandolan ko apane paksh mein badalane ke lie to doston aapake savaal ka uttar yah hai kisaan aandolan ke beech beejepee ne apane kisaan neta khade kie hain vah kisaan nahin hai vah beejepee ke kaaryakarta hain aur unako kisaan banaakar jo khada kiya hai vah hamaare desh kee janata ko sabako maaloom hai kyonki hamaare desh kee sarakaar ne jo teen kaale kaanoon banae hain vah kisaan virodhee kaanoon hai isalie beejepee kitanee bhee laakh koshish kar le lekin kisaan neta ko kitana bhee khada kyon na kar de lekin hamaare desh kee janata aur hamaare annadaata ko sabako maaloom hai ki yah kisaan neta nahin hai yah sirph beejepee ke kaaryakarta hai isalie inaka koee phark nahin padane vaala hai kyonki jo hamaare desh mein kisaan kee hak kee jo ladaee lad rahe hain vah hamaare desh ko sabhee ko maaloom hai ki kaun kisaan kee aavaaj ko lad raha hai isalie sabhee ko maaloom hai to beejepee ke kisaan neta khade hone ka hamaare kisaan aandolan mein koee phark nahin padane vaala hai aur beejepee kitanee bhee koshish kyon na kar le lekin kisaan neta unake paksh mein kabhee nahin khada hoga kyonki beejepee ne teen kaale kaanoon banae hain jo kisaanon ke hit mein nahin hai isalie aandolan unake paksh mein nahin hone vaala hai kyonki agar aandolan ko apane paksh mein modane ka kaam agar karana hota to teen kaale kaanoonon ko vah hataane ka kaam karate tab jaroor kisaan unake paksh mein khada ho jaata lekin ab khada nahin hoga kyonki jab dhaage mein gaanth pad jaatee hai to vah gaanth kabhee mitatee nahin hai vah hamesha vah gaadee lagee rahatee hai isalie kisaan ko kitanee bhee koshish kyon na kar le lekin beejepee ke paksh mein nahin honge dhanyavaad doston

और जवाब सुनें

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
4:23
किसान आंदोलन के बीच क्या बीजेपी बीजेपी ने भी अपने किसान नेता खड़े किए हैं निश्चित रूप से यह राजनीति का मामला भी है और किसान सिर्फ किसान नहीं होते वह भी राजनीति में होते हैं मोदी राजगढ़ राजनीति करते हैं देश के हर इंसान में एक राजनीतिक कार्यकर्ता या नेता छुपा हुआ है ऐसा ही देश की राजनीति राज का राजनीति है लेकिन दूसरे नीचे जो है वह नहीं भरी हुई है जैसे कि देश का विकास सभी का विकास पर्यावरण पर जागरूकता कार्य का उल्लंघन करना सिस्टम में सरकारी निर्देशों का उपयोग करना ऐसी बहुत सारी बातें उनके अंदर नहीं आती लेकिन राजनीति तो आती है तो ऐसी स्थिति में बीजेपी क्या और कोई कोई पार्टी होती है तो वह उसे विरोध करने वाले हैं खड़े किए जाते हैं यह भारत का ही नहीं पूरे दुनिया का इतिहास है तो इस आंदोलन में जो नकली किशन होगी शायद उनके कार्यकर्ता और उनके सपोर्टर्स होंगे और खेती तो लगभग सभी करते हैं तो उनको ही आगे किसानों में फूट पाटने के लिए खूब डालने के लिए ऐसा बीजेपी कर सकता है और किया भी ऐसा मुझे लगता है और किसान नेता भी उनको मिलते हैं सिर्फ किसान ही ने दलित नेता मिल सकते हैं मुस्लिम नेता मिल सकते हैं आदिवासी नेता मिल सकते हैं ऐसे लिखने वालों की इस देश में कमी नहीं है राजा सिकंदर के साथ बात भी उस काल में भी ऐसे लोगों ने बेरोजगारी किया है इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है लेकिन अब मामला जो है वह सुप्रीम कोर्ट में न्यूज़ की बहस गरमा गरम बहस हो रही है और आज ही सुप्रीम कोर्ट ने फटकारा है सरकार को अब एक मीटिंग बुलाई है उनमें किसान नेता और सरकार के प्रतिनिधि और खेती के संबंध के विशेषज्ञ लेकिन एक बात तो निश्चित मुझे लगता है कि यह मामला जो है वह long-term वाला है यह पूरे देश पर लॉन्ग टर्म इफेक्ट करेगा पूरे समाज पर यह इफेक्ट करेगा कई पीढ़ियों का वीडियो में पर यही पे करेगा इसलिए इसको पूरा पूरी तरह से इसकी सब कमी और उसकी जो सब अच्छा ही है उनका विचार मंथन पूरे देश में होने के बाद दिए लागू करना चाहिए या इसमें बदल करना चाहिए या कैंसिल करना चाहिए मुझे तो ऐसा लगता है अगर आपको मेरा जवाब सही लगा तो कृपया लाइक कीजिए धन्यवाद
Kisaan aandolan ke beech kya beejepee beejepee ne bhee apane kisaan neta khade kie hain nishchit roop se yah raajaneeti ka maamala bhee hai aur kisaan sirph kisaan nahin hote vah bhee raajaneeti mein hote hain modee raajagadh raajaneeti karate hain desh ke har insaan mein ek raajaneetik kaaryakarta ya neta chhupa hua hai aisa hee desh kee raajaneeti raaj ka raajaneeti hai lekin doosare neeche jo hai vah nahin bharee huee hai jaise ki desh ka vikaas sabhee ka vikaas paryaavaran par jaagarookata kaary ka ullanghan karana sistam mein sarakaaree nirdeshon ka upayog karana aisee bahut saaree baaten unake andar nahin aatee lekin raajaneeti to aatee hai to aisee sthiti mein beejepee kya aur koee koee paartee hotee hai to vah use virodh karane vaale hain khade kie jaate hain yah bhaarat ka hee nahin poore duniya ka itihaas hai to is aandolan mein jo nakalee kishan hogee shaayad unake kaaryakarta aur unake saportars honge aur khetee to lagabhag sabhee karate hain to unako hee aage kisaanon mein phoot paatane ke lie khoob daalane ke lie aisa beejepee kar sakata hai aur kiya bhee aisa mujhe lagata hai aur kisaan neta bhee unako milate hain sirph kisaan hee ne dalit neta mil sakate hain muslim neta mil sakate hain aadivaasee neta mil sakate hain aise likhane vaalon kee is desh mein kamee nahin hai raaja sikandar ke saath baat bhee us kaal mein bhee aise logon ne berojagaaree kiya hai isamen koee aashchary kee baat nahin hai lekin ab maamala jo hai vah supreem kort mein nyooz kee bahas garama garam bahas ho rahee hai aur aaj hee supreem kort ne phatakaara hai sarakaar ko ab ek meeting bulaee hai unamen kisaan neta aur sarakaar ke pratinidhi aur khetee ke sambandh ke visheshagy lekin ek baat to nishchit mujhe lagata hai ki yah maamala jo hai vah long-tairm vaala hai yah poore desh par long tarm iphekt karega poore samaaj par yah iphekt karega kaee peedhiyon ka veediyo mein par yahee pe karega isalie isako poora pooree tarah se isakee sab kamee aur usakee jo sab achchha hee hai unaka vichaar manthan poore desh mein hone ke baad die laagoo karana chaahie ya isamen badal karana chaahie ya kainsil karana chaahie mujhe to aisa lagata hai agar aapako mera javaab sahee laga to krpaya laik keejie dhanyavaad

Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
0:59
आंदोलन के बीच क्या बीजेपी ने भी अपने किसान नेता खड़े किए हैं हम दोनों को अपने पक्ष में बदलने के लिए राजनीति का जो धड़ा है कहीं-कहीं जो सपोर्टिंग वाले लोग हैं उनको लेकर चल तो रहा है जिस तरह से आंदोलन में कांग्रेसी और दूसरे का मिस्ड पार्टी है उनके नेता है या उसे संबंधी जुड़ा हुआ संगठन है उसी तरह से इनके समर्थन में बीजेपी या उससे जो एनडीए की पार्टियां उनके भी नहीं और यह दोनों मिलकर की राजनीति कर रहे हैं और निश्चित तौर पर मैं समझ नहीं पा रहा हूं जो कि सुप्रीम कोर्ट ने आज कहा है कि वह इस अमित बना दी गई है आप लोग संगीत के समक्ष अपना पक्ष प्रस्तुत करो जो कमियां है उसको दूर करो और जल्दी से जल्दी खत्म करो तो यह दोनों मानने को तैयार नहीं अपने स्तर पर एक दुर्भाग्यपूर्ण है और यह इस तरह से देश में हो ना जो है वह गलत है
Aandolan ke beech kya beejepee ne bhee apane kisaan neta khade kie hain ham donon ko apane paksh mein badalane ke lie raajaneeti ka jo dhada hai kaheen-kaheen jo saporting vaale log hain unako lekar chal to raha hai jis tarah se aandolan mein kaangresee aur doosare ka misd paartee hai unake neta hai ya use sambandhee juda hua sangathan hai usee tarah se inake samarthan mein beejepee ya usase jo enadeee kee paartiyaan unake bhee nahin aur yah donon milakar kee raajaneeti kar rahe hain aur nishchit taur par main samajh nahin pa raha hoon jo ki supreem kort ne aaj kaha hai ki vah is amit bana dee gaee hai aap log sangeet ke samaksh apana paksh prastut karo jo kamiyaan hai usako door karo aur jaldee se jaldee khatm karo to yah donon maanane ko taiyaar nahin apane star par ek durbhaagyapoorn hai aur yah is tarah se desh mein ho na jo hai vah galat hai

vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
0:34
अच्छे नहीं होते तो अच्छा होता है किसान आंदोलन के बीच क्या बीजेपी नेता खड़े किए हैं आंदोलन की हालत बबलू चाहिए बीजेपी ने भी अपने किसान नेता खड़ी कर दी है जिससे आंदोलन प्रवचन हो और उनके पक्ष में हट जाए सरकार के प्रति बहुत अन्याय हो रहा है किसानों के साथ न्याय नहीं हो रहा है यह बहुत प्यारी बहुत बड़ी घटना है इसको खुद को समझना चाहिए तो बताओ यार
Achchhe nahin hote to achchha hota hai kisaan aandolan ke beech kya beejepee neta khade kie hain aandolan kee haalat babaloo chaahie beejepee ne bhee apane kisaan neta khadee kar dee hai jisase aandolan pravachan ho aur unake paksh mein hat jae sarakaar ke prati bahut anyaay ho raha hai kisaanon ke saath nyaay nahin ho raha hai yah bahut pyaaree bahut badee ghatana hai isako khud ko samajhana chaahie to batao yaar

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
2:40
रोशनी किसान आंदोलन के बीच के बीजेपी ने भी अपने किसान नेता खड़े किए हैं आंदोलन को अपने पक्ष में बदलने के लिए मैं आपकी बातों से सहमत हूं और इस बात से मैं दो चीजें बताऊंगा क्योंकि कल कल जो सुनवाई हुई थी और सरकार के दावों को मजबूत करते हुए और सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसान भाइयों को जून नया ऋषि कानून लाया है उसमें सरकार को यह होल्ड कर देना चाहिए और होल्ड करने की बात कही और आज जो नया आया है सुप्रीम कोर्ट का इसमें इसको पूरी तरह से लागू न किया जाए इसे रोक दिया जाए उसके साथ-साथ इसमें कमेटी बनाई जाएगी इस कमेटी में चार जो लोग होंगे वह किसान आंदोलन की जो नेता है उसमें से रखे जाएंगे तो कहीं ना कहीं जो बीजेपी करवाया है पूरी तरह से ऐसा है कि उन्होंने भी अपना एक पक्ष मजबूत करने की एक आंदोलन में ही अपना एक कहा जाएगी बीजेपी सरकार षड्यंत्र रच रही है और कहीं ना कहीं कुछ समय के लिए मतलब किसान भाई लोगों ने यह कहा था कि हम 26 तारीख को पूरी तरह से दिल्ली को जाम करेंगे और इसी को देखते हुए सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है और सुप्रीम कोर्ट ने भी किया किया है इस पर कुछ समय के लिए लगाम लगाने के लिए उसने कहा है कि इसमें किसान भाई लोगों को आंदोलन करने से कुछ भी हल नहीं मिलेगा उसी बातचीत से ही हल मिलेगा और इसी एवज में सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश है उन्होंने बोला कि हां इसको अभी नए कानून को रोक दिया जाए और लागू न किया जाए उसके साथ साथ हम एक बेंच बनाएंगे और छह लोगों की कमेटी बनाएगी जिससे कि साफ जाहिर हो कि हम जो किसान भाई लोग जो परेशान हैं जो मुद्दा चाहते हैं जो उन्हें उनके पक्ष में होना चाहिए और जो भी सरकार क्या जाती है इन दोनों के पक्ष को मजबूत से रखने के लिए अलग अलग से लोगों को चूस किया जा रहा है और उन्होंने बताया कि हां यह लोग रह सकते हैं और यह पूरी तरह से इसका जायजा लेकर हमें देंगे उसके बाद से इसकी सुनवाई होगी तो कहीं ना कहीं मुझे लगता है कि यह सरकार की भी ऐसी मंशा है कि हम जैसे चाहे वैसे कर सकें
Roshanee kisaan aandolan ke beech ke beejepee ne bhee apane kisaan neta khade kie hain aandolan ko apane paksh mein badalane ke lie main aapakee baaton se sahamat hoon aur is baat se main do cheejen bataoonga kyonki kal kal jo sunavaee huee thee aur sarakaar ke daavon ko majaboot karate hue aur supreem kort ne kaha ki kisaan bhaiyon ko joon naya rshi kaanoon laaya hai usamen sarakaar ko yah hold kar dena chaahie aur hold karane kee baat kahee aur aaj jo naya aaya hai supreem kort ka isamen isako pooree tarah se laagoo na kiya jae ise rok diya jae usake saath-saath isamen kametee banaee jaegee is kametee mein chaar jo log honge vah kisaan aandolan kee jo neta hai usamen se rakhe jaenge to kaheen na kaheen jo beejepee karavaaya hai pooree tarah se aisa hai ki unhonne bhee apana ek paksh majaboot karane kee ek aandolan mein hee apana ek kaha jaegee beejepee sarakaar shadyantr rach rahee hai aur kaheen na kaheen kuchh samay ke lie matalab kisaan bhaee logon ne yah kaha tha ki ham 26 taareekh ko pooree tarah se dillee ko jaam karenge aur isee ko dekhate hue sarakaar ne supreem kort ka daravaaja khatakhataaya hai aur supreem kort ne bhee kiya kiya hai is par kuchh samay ke lie lagaam lagaane ke lie usane kaha hai ki isamen kisaan bhaee logon ko aandolan karane se kuchh bhee hal nahin milega usee baatacheet se hee hal milega aur isee evaj mein supreem kort ke nyaayaadheesh hai unhonne bola ki haan isako abhee nae kaanoon ko rok diya jae aur laagoo na kiya jae usake saath saath ham ek bench banaenge aur chhah logon kee kametee banaegee jisase ki saaph jaahir ho ki ham jo kisaan bhaee log jo pareshaan hain jo mudda chaahate hain jo unhen unake paksh mein hona chaahie aur jo bhee sarakaar kya jaatee hai in donon ke paksh ko majaboot se rakhane ke lie alag alag se logon ko choos kiya ja raha hai aur unhonne bataaya ki haan yah log rah sakate hain aur yah pooree tarah se isaka jaayaja lekar hamen denge usake baad se isakee sunavaee hogee to kaheen na kaheen mujhe lagata hai ki yah sarakaar kee bhee aisee mansha hai ki ham jaise chaahe vaise kar saken

rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
1:10
जैसे कि हम देख रहे हैं कि यह कांग्रेस और बीजेपी की लड़ाई दिख रही है अभी हम सोशल मीडिया या पेपर न्यूज़ प्रिंट मीडिया पर देखे तो ऐसा लगता है और आपका सवाल यह है कि आंदोलन को अपने पक्ष में बदलने के लिए बीजेपी ने अपने किसान नेता खड़े किए हैं कुछ कुछ जगह जहां हो रहा है जैसे कि हो रहा है यानी कि जिस तरह विरोध दर्शाने के लिए नेताओं को इस रास्ते पर आ चुके हैं वह जो कानून बनाया है वह कानून अच्छा नहीं है किसानों के लिए यह बताने के लिए उसी तरह जो भारतीय जनता पक्ष की जो शेतकरी नेताओं ने तेरे पर आ चुके हैं इसलिए कि जो कानून बनाया है और कानून शेतकरी की भविष्य के लिए कितना जरूरी है यह बताने के लिए वह भी रास्ते पर आ चुके हैं
Jaise ki ham dekh rahe hain ki yah kaangres aur beejepee kee ladaee dikh rahee hai abhee ham soshal meediya ya pepar nyooz print meediya par dekhe to aisa lagata hai aur aapaka savaal yah hai ki aandolan ko apane paksh mein badalane ke lie beejepee ne apane kisaan neta khade kie hain kuchh kuchh jagah jahaan ho raha hai jaise ki ho raha hai yaanee ki jis tarah virodh darshaane ke lie netaon ko is raaste par aa chuke hain vah jo kaanoon banaaya hai vah kaanoon achchha nahin hai kisaanon ke lie yah bataane ke lie usee tarah jo bhaarateey janata paksh kee jo shetakaree netaon ne tere par aa chuke hain isalie ki jo kaanoon banaaya hai aur kaanoon shetakaree kee bhavishy ke lie kitana jarooree hai yah bataane ke lie vah bhee raaste par aa chuke hain

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • किसान आंदोलन के बीच क्या बीजेपी ने भी अपने किसान नेता खड़े किए है, किसान आंदोलन
  • किसान आंदोलन के बीच दंगे, किसान आंदोलन और सरकार के बीच विवाद
URL copied to clipboard