#undefined

bolkar speaker

आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?

Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
1:06
हेलो फ्रेंड्स नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है इसकी नवीन शाखाओं में ऐड किया और गैलेक्टिको री नामक कीट अंदर जाग जाते हैं और यह अंडे देते हैं औरों के आसपास फ्रेंड जो स्वरस एकत्र होता है उनके द्वारा बनाए गए जो एक रस एकत्रित होता है उससे जो जो है ग्रंथि बनती है और की तक सहित इस ग्रंथ को जो है फ्रेंड माजूफल या माया पाल कहते हैं माजूफल जो होता फ्रेंड वह गोलाकार होता है जी आप अंडाकार भी कह सकते हैं जो कि 6 से 50 मिमी व्यास का जो है यह एक चिकना चमकीला धूसर भूरे रंग का जो है होता है आशा है कि आप सभी को यह जवाब पसंद आया होगा शुक्रिया
Helo phrends namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai aayurved mein varnit maajoophal kya hota hai isakee naveen shaakhaon mein aid kiya aur gailektiko ree naamak keet andar jaag jaate hain aur yah ande dete hain auron ke aasapaas phrend jo svaras ekatr hota hai unake dvaara banae gae jo ek ras ekatrit hota hai usase jo jo hai granthi banatee hai aur kee tak sahit is granth ko jo hai phrend maajoophal ya maaya paal kahate hain maajoophal jo hota phrend vah golaakaar hota hai jee aap andaakaar bhee kah sakate hain jo ki 6 se 50 mimee vyaas ka jo hai yah ek chikana chamakeela dhoosar bhoore rang ka jo hai hota hai aasha hai ki aap sabhee ko yah javaab pasand aaya hoga shukriya

और जवाब सुनें

bolkar speaker
आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
2:18
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोल करे पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है जी मित्र माजूफल जिस का वानस्पतिक नाम क्वेर्कस इनफेक्टोरिया होता है जो कि एक ऐसी कुल का होता है और इसको अंग्रेजी में गांव लोग और संस्कृत में माजूफल मंजू फल या माया फल कहा जाता है जबकि हिंदी में इसको माजूफल कहते हैं तुम माजूफल यह एक ऐसा आयुर्वेदिक फल होता है या ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटी होती है जो भारत में उत्तराखंड उत्तर प्रदेश आदि क्षेत्रों में पाई जाती है और इसका वृक्ष इन क्षेत्रों में विशेष तौर पर पाया जाता है इसके ब्रिज की ऊंचाई लगभग 2 से 5 मीटर होती है और इसकी नवीन शाखाओं में ऐड लेरिया गैलेटिन क्योंकि नामक की अंदर जाकर अंडे देता है उन अंडों के आसपास वर्ष की कथित होकर एक ग्रंथ बनती है कि ट्रक सहित इस ग्रंथ को माजूफल या माया फल कहते हैं माजूफल गोलाकार अथवा अंडाकार 6 से 50 मिलीमीटर व्यास का चिकना चमकीला दूसर भूरे वर्ण का होता है माजूफल आयुर्वेद में अपने औषधीय गुण कर्मों के कारण प्रसिद्ध है क्योंकि माजूफल कसाई कटु रघु दीक्षित सामक तथा केशव को काला करने वाला होता है यह गलत स्तंभक या उस मा जन्नत लाल शराब रोधक भी और बल कारक भी होता है माजूफल के आयुर्वेद में कई फायदे होते हैं जैसे नकसीर में इससे आराम मिलता है दंत रोगों में इसका प्रयोग करने से आराम मिलता है मुख पाकिया दंत वेस्ट में भी इसका प्रयोग किया जाता है या आयुर्वेदिक औषधियों में कंट्रोल कम करने के लिए या स्वास्कास को कम करने के लिए भी माजूफल का प्रयोग किया जाता है तो मित्र यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया अपना सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद
Namaskaar main braham prakaash mishr aapaka bol kare par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai aayurved mein varnit maajoophal kya hota hai jee mitr maajoophal jis ka vaanaspatik naam kverkas inaphektoriya hota hai jo ki ek aisee kul ka hota hai aur isako angrejee mein gaanv log aur sanskrt mein maajoophal manjoo phal ya maaya phal kaha jaata hai jabaki hindee mein isako maajoophal kahate hain tum maajoophal yah ek aisa aayurvedik phal hota hai ya aisee aayurvedik jadee bootee hotee hai jo bhaarat mein uttaraakhand uttar pradesh aadi kshetron mein paee jaatee hai aur isaka vrksh in kshetron mein vishesh taur par paaya jaata hai isake brij kee oonchaee lagabhag 2 se 5 meetar hotee hai aur isakee naveen shaakhaon mein aid leriya gailetin kyonki naamak kee andar jaakar ande deta hai un andon ke aasapaas varsh kee kathit hokar ek granth banatee hai ki trak sahit is granth ko maajoophal ya maaya phal kahate hain maajoophal golaakaar athava andaakaar 6 se 50 mileemeetar vyaas ka chikana chamakeela doosar bhoore varn ka hota hai maajoophal aayurved mein apane aushadheey gun karmon ke kaaran prasiddh hai kyonki maajoophal kasaee katu raghu deekshit saamak tatha keshav ko kaala karane vaala hota hai yah galat stambhak ya us ma jannat laal sharaab rodhak bhee aur bal kaarak bhee hota hai maajoophal ke aayurved mein kaee phaayade hote hain jaise nakaseer mein isase aaraam milata hai dant rogon mein isaka prayog karane se aaraam milata hai mukh paakiya dant vest mein bhee isaka prayog kiya jaata hai ya aayurvedik aushadhiyon mein kantrol kam karane ke lie ya svaaskaas ko kam karane ke lie bhee maajoophal ka prayog kiya jaata hai to mitr yah javaab achchha laga ho to krpaya apana sabsakraib laik sheyar aur kament karake jaroor bataen dhanyavaad

bolkar speaker
आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
2:18
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका बोल करे पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है जी मित्र माजूफल जिस का वानस्पतिक नाम क्वेर्कस इनफेक्टोरिया होता है जो कि एक ऐसी कुल का होता है और इसको अंग्रेजी में गांव लोग और संस्कृत में माजूफल मंजू फल या माया फल कहा जाता है जबकि हिंदी में इसको माजूफल कहते हैं तुम माजूफल यह एक ऐसा आयुर्वेदिक फल होता है या ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटी होती है जो भारत में उत्तराखंड उत्तर प्रदेश आदि क्षेत्रों में पाई जाती है और इसका वृक्ष इन क्षेत्रों में विशेष तौर पर पाया जाता है इसके ब्रिज की ऊंचाई लगभग 2 से 5 मीटर होती है और इसकी नवीन शाखाओं में ऐड लेरिया गैलेटिन क्योंकि नामक की अंदर जाकर अंडे देता है उन अंडों के आसपास वर्ष की कथित होकर एक ग्रंथ बनती है कि ट्रक सहित इस ग्रंथ को माजूफल या माया फल कहते हैं माजूफल गोलाकार अथवा अंडाकार 6 से 50 मिलीमीटर व्यास का चिकना चमकीला दूसर भूरे वर्ण का होता है माजूफल आयुर्वेद में अपने औषधीय गुण कर्मों के कारण प्रसिद्ध है क्योंकि माजूफल कसाई कटु रघु दीक्षित सामक तथा केशव को काला करने वाला होता है यह गलत स्तंभक या उस मा जन्नत लाल शराब रोधक भी और बल कारक भी होता है माजूफल के आयुर्वेद में कई फायदे होते हैं जैसे नकसीर में इससे आराम मिलता है दंत रोगों में इसका प्रयोग करने से आराम मिलता है मुख पाकिया दंत वेस्ट में भी इसका प्रयोग किया जाता है या आयुर्वेदिक औषधियों में कंट्रोल कम करने के लिए या स्वास्कास को कम करने के लिए भी माजूफल का प्रयोग किया जाता है तो मित्र यह जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया अपना सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद
Namaskaar main braham prakaash mishr aapaka bol kare par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai aayurved mein varnit maajoophal kya hota hai jee mitr maajoophal jis ka vaanaspatik naam kverkas inaphektoriya hota hai jo ki ek aisee kul ka hota hai aur isako angrejee mein gaanv log aur sanskrt mein maajoophal manjoo phal ya maaya phal kaha jaata hai jabaki hindee mein isako maajoophal kahate hain tum maajoophal yah ek aisa aayurvedik phal hota hai ya aisee aayurvedik jadee bootee hotee hai jo bhaarat mein uttaraakhand uttar pradesh aadi kshetron mein paee jaatee hai aur isaka vrksh in kshetron mein vishesh taur par paaya jaata hai isake brij kee oonchaee lagabhag 2 se 5 meetar hotee hai aur isakee naveen shaakhaon mein aid leriya gailetin kyonki naamak kee andar jaakar ande deta hai un andon ke aasapaas varsh kee kathit hokar ek granth banatee hai ki trak sahit is granth ko maajoophal ya maaya phal kahate hain maajoophal golaakaar athava andaakaar 6 se 50 mileemeetar vyaas ka chikana chamakeela doosar bhoore varn ka hota hai maajoophal aayurved mein apane aushadheey gun karmon ke kaaran prasiddh hai kyonki maajoophal kasaee katu raghu deekshit saamak tatha keshav ko kaala karane vaala hota hai yah galat stambhak ya us ma jannat laal sharaab rodhak bhee aur bal kaarak bhee hota hai maajoophal ke aayurved mein kaee phaayade hote hain jaise nakaseer mein isase aaraam milata hai dant rogon mein isaka prayog karane se aaraam milata hai mukh paakiya dant vest mein bhee isaka prayog kiya jaata hai ya aayurvedik aushadhiyon mein kantrol kam karane ke lie ya svaaskaas ko kam karane ke lie bhee maajoophal ka prayog kiya jaata hai to mitr yah javaab achchha laga ho to krpaya apana sabsakraib laik sheyar aur kament karake jaroor bataen dhanyavaad

bolkar speaker
आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:25
आपके सवाल की आयुर्वेदिक में वर्णित माजूफल क्या होता है तो माजूफल का श्याम कुटीर और लघु तेरे क्षण क्षण बात साफ-साफ दिमाग राही स्तंभक शीतला नाक तथा केस को काला करने वाला होता है इसका जॉनी निकलता है धन्यवाद
Aapake savaal kee aayurvedik mein varnit maajoophal kya hota hai to maajoophal ka shyaam kuteer aur laghu tere kshan kshan baat saaph-saaph dimaag raahee stambhak sheetala naak tatha kes ko kaala karane vaala hota hai isaka jonee nikalata hai dhanyavaad

bolkar speaker
आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:41
सवाल यह है कि आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है माजूफल कोई फल नहीं होता बल्कि एक जंगली वृक्ष की शाखा का एक विशेष प्रकार के कीड़े के द्वारा छेद करने और उन क्षेत्रों में अपने अंडे रखने से वहां बैठे उभर आती हैं उन्हीं का ठोको माजूफल कहते हैं माजूफल का वैज्ञानिक नाम वर्कर्स इनफेक्टोरिया है माजूफल दांतो मलद्वार अंडकोष गर्भधारण लिकोरिया टूटी हुई हड्डी मुंह के छालों के लिए उपयोगी है माजूफल में एंटी ऑक्सीडेंट तत्व होते हैं जो सभी प्रकार के कैंसर को रोकने में कारगर होता है ऑफिस की चाय बनाकर भी पी सकते हैं आयुर्वेद में इसके बहुत सारे उपयोग हैं
Savaal yah hai ki aayurved mein varnit maajoophal kya hota hai maajoophal koee phal nahin hota balki ek jangalee vrksh kee shaakha ka ek vishesh prakaar ke keede ke dvaara chhed karane aur un kshetron mein apane ande rakhane se vahaan baithe ubhar aatee hain unheen ka thoko maajoophal kahate hain maajoophal ka vaigyaanik naam varkars inaphektoriya hai maajoophal daanto maladvaar andakosh garbhadhaaran likoriya tootee huee haddee munh ke chhaalon ke lie upayogee hai maajoophal mein entee okseedent tatv hote hain jo sabhee prakaar ke kainsar ko rokane mein kaaragar hota hai ophis kee chaay banaakar bhee pee sakate hain aayurved mein isake bahut saare upayog hain

bolkar speaker
आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:16
जो फल कसारा टो उचाना लघु शिक्षण सामग्री 15 सितंबर तथा बालों को काला करना आयुर्वेद में वर्णित माजूफल का उपयोग किया जाता है
Jo phal kasaara to uchaana laghu shikshan saamagree 15 sitambar tatha baalon ko kaala karana aayurved mein varnit maajoophal ka upayog kiya jaata hai

bolkar speaker
आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
guru ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए guru जी का जवाब
Students
0:18

bolkar speaker
आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है?Aayurved Mei Varnit Maajuphal Kya Hai
Divya Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Divya जी का जवाब
Unknown
2:01
हाल है आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है भारत में उत्तराखंड उत्तर प्रदेश आदि क्षेत्रों में इसका वृक्ष पाया जाता है इसका वृक्ष लगभग 25 मीटर ऊंचा होता है इसकी नवीन शाखाओं में अगली एरिया गैलेटिन कटोरी नाम की अंदर जाकर अंडे देता है उन अंडों के आसपास स्वरस एकत्रित होकर ग्रंथि बनता है किस ग्रंथि को माजूफल या माया फल कहते हैं गोलाकार अथवा अंडाकार होता है चिकना चमकीला धूसर भूरे रंग का होता है आयुर्वेदिक गुण बहुत होते हैं कोलकाता 1 अक्टूबर 15 सितंबर को काला करने वाला होता है इसके गोल सुषमा जनन सारस्वत रोधक भेजना हरात्मक विचारक
Haal hai aayurved mein varnit maajoophal kya hota hai bhaarat mein uttaraakhand uttar pradesh aadi kshetron mein isaka vrksh paaya jaata hai isaka vrksh lagabhag 25 meetar ooncha hota hai isakee naveen shaakhaon mein agalee eriya gailetin katoree naam kee andar jaakar ande deta hai un andon ke aasapaas svaras ekatrit hokar granthi banata hai kis granthi ko maajoophal ya maaya phal kahate hain golaakaar athava andaakaar hota hai chikana chamakeela dhoosar bhoore rang ka hota hai aayurvedik gun bahut hote hain kolakaata 1 aktoobar 15 sitambar ko kaala karane vaala hota hai isake gol sushama janan saarasvat rodhak bhejana haraatmak vichaarak

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • आयुर्वेद में वर्णित माजूफल क्या होता है आयुर्वेद में वर्णित माजूफल
URL copied to clipboard