#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker

अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?

Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
1:27
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए विकी भाई अकेले फोन आपको महसूस हो रहा है क्यों हो रहा है क्या आप अकेली रहती हो जय हो आप तो सामाजिक तौर पर कहीं से नहीं जुड़ होगी आपके दोस्त ने हम फिर आपके नॉन कम होंगे या उन लोगों से दूरियां बनाना शुरु कर देंगे तो अकेलापन बढ़ता चला जाएगा निश्चित तौर पर आपको अपने मन में अपने दोस्त है यार है अपनी जो सराउंडिंग सांप रहते हैं उस लोगों से मिलना जुलना पड़ेगा उनसे बात करना पड़ेगा किए जाते हैं कि हम इंसान हैं एक दूसरे के सुख दुख में एक दूसरे से मिलजुल कर के एक दूसरे से बात करते और अकेलापन अगर मन से अब महसूस करने लगेंगे यार हम कैसे होगा यह आप का कालापन कभी नहीं तो निश्चित तौर पर अपने अंदर से काट के साथ लीजिए लोगों से मिलने के लिए अपने अंदर से जरूर रखें और अपने बातों को रखें सार्वजनिक तौर पर आप किसी से मिलने से मतलब नहीं है आप घर में परिवार के सदस्य हैं आपके आसपास की सोसाइटी में हैं वहां 9 लोग हैं उनसे मिली बात नहीं की
Akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie vikee bhaee akele phon aapako mahasoos ho raha hai kyon ho raha hai kya aap akelee rahatee ho jay ho aap to saamaajik taur par kaheen se nahin jud hogee aapake dost ne ham phir aapake non kam honge ya un logon se dooriyaan banaana shuru kar denge to akelaapan badhata chala jaega nishchit taur par aapako apane man mein apane dost hai yaar hai apanee jo saraunding saamp rahate hain us logon se milana julana padega unase baat karana padega kie jaate hain ki ham insaan hain ek doosare ke sukh dukh mein ek doosare se milajul kar ke ek doosare se baat karate aur akelaapan agar man se ab mahasoos karane lagenge yaar ham kaise hoga yah aap ka kaalaapan kabhee nahin to nishchit taur par apane andar se kaat ke saath leejie logon se milane ke lie apane andar se jaroor rakhen aur apane baaton ko rakhen saarvajanik taur par aap kisee se milane se matalab nahin hai aap ghar mein parivaar ke sadasy hain aapake aasapaas kee sosaitee mein hain vahaan 9 log hain unase milee baat nahin kee

और जवाब सुनें

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
0:30
प्रश्न कुंडली बड़ी कमाल का कितने प्रश्न क्या अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए तो सबसे पहले दोस्तों आपको अकेले पंजाब पानी के लिए ज्यादातर बिजी रहना चाहिए सॉन्ग सुननी चाहिए कॉमेडी देखनी चाहिए यूट्यूब पर ज्यादा सुनता जाइए मूवी देखने के लिए कारण हो सकते जो आपको करनी चाहिए गाना गाना चाहिए डांस गाना चाहिए पढ़ना चाहिए एडिट करनी चाहिए तो आप अकेलेपन को मैसेज नहीं करेंगे उसका सही हो जाए कोई दिक्कत नहीं होगी ठीक है
Prashn kundalee badee kamaal ka kitane prashn kya akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie to sabase pahale doston aapako akele panjaab paanee ke lie jyaadaatar bijee rahana chaahie song sunanee chaahie komedee dekhanee chaahie yootyoob par jyaada sunata jaie moovee dekhane ke lie kaaran ho sakate jo aapako karanee chaahie gaana gaana chaahie daans gaana chaahie padhana chaahie edit karanee chaahie to aap akelepan ko maisej nahin karenge usaka sahee ho jae koee dikkat nahin hogee theek hai

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Shivangi Dixit.  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shivangi जी का जवाब
Unknown
0:40
चंडी भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए देखिए भावना जो है वह आप अपने मन से खुद से दूर कर पाएंगे इसलिए आप 4 लोगों में बैठे बातें करें घूमने भी जा रहे हैं तो सबके साथ घूमने जाए बातें भी करिए थोड़ा सब लोगों में घुले मिले हो सुबह थोड़ा सा योगा मेडिटेशन कीजिएगा जब तक पॉजिटिविटी अपने अंदर नहीं आएगी तब तक आप इन सब चीजों से भी बाहर नहीं निकल पाएंगे तो यह मेन चीज है क्या मेडिटेशन करना थोड़ा थोड़ी सी जॉब नौकरी करना स्टार्ट करें और के साथ में जो है आप सभी लोगों के साथ रहे अकेलेपन की भावना को अपने मन से ऐसे ही दूर किया जा सकता है जब आप अपने लिए नहीं जब आप लोगों के लिए भी सोचे कि तभी चीज जो है वह धीरे-धीरे चली जाएगी जो भी पसंद हो तो लाइक करें सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Chandee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie dekhie bhaavana jo hai vah aap apane man se khud se door kar paenge isalie aap 4 logon mein baithe baaten karen ghoomane bhee ja rahe hain to sabake saath ghoomane jae baaten bhee karie thoda sab logon mein ghule mile ho subah thoda sa yoga mediteshan keejiega jab tak pojitivitee apane andar nahin aaegee tab tak aap in sab cheejon se bhee baahar nahin nikal paenge to yah men cheej hai kya mediteshan karana thoda thodee see job naukaree karana staart karen aur ke saath mein jo hai aap sabhee logon ke saath rahe akelepan kee bhaavana ko apane man se aise hee door kiya ja sakata hai jab aap apane lie nahin jab aap logon ke lie bhee soche ki tabhee cheej jo hai vah dheere-dheere chalee jaegee jo bhee pasand ho to laik karen sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
0:47
देखे बर खिलाफ उनका भावना जो आता है वह असली भी आता है कि हम किसी पर बोझ नहीं करते हम चाहते कि सामने वाला क्लोज करें तो जब आपको लगे कि कोई सही आदमी है कोई दोस्त बनने के लायक होता मुझसे रोज भी कीजिएगा और खुद को फिट रखे थे कि सामने वाला हो या कोई भी हो आजकल बंदे एक दूसरे में फिटनेस पसंद करते मेंटली फिट फॉर फिजिकली फिट हो तो खुद को फिट रखिए लाइफ में क्या करना यह डिसाइड कीजिए और अप्रोच करना सीखिए कितना पर्सेंट टाइम आदमी अप्रोच नहीं करने के कारण सही समय पर पहुंच नहीं करने का अकेले हो जाते हैं थैंक यू
Dekhe bar khilaaph unaka bhaavana jo aata hai vah asalee bhee aata hai ki ham kisee par bojh nahin karate ham chaahate ki saamane vaala kloj karen to jab aapako lage ki koee sahee aadamee hai koee dost banane ke laayak hota mujhase roj bhee keejiega aur khud ko phit rakhe the ki saamane vaala ho ya koee bhee ho aajakal bande ek doosare mein phitanes pasand karate mentalee phit phor phijikalee phit ho to khud ko phit rakhie laiph mein kya karana yah disaid keejie aur aproch karana seekhie kitana parsent taim aadamee aproch nahin karane ke kaaran sahee samay par pahunch nahin karane ka akele ho jaate hain thaink yoo

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Ashish Lavania Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Ashish जी का जवाब
Yoga Instructor
0:39
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए ठीक है जैसा आप खुद ही क्वेश्चन में कह रहे हैं कि एक भावनाएं मित्तल एक आपने ऐसा सोच रखना इमोशनली फील कर रखा है अकेलापन तो इसके लिए लेकर जितना हो सकता है फैमिली के साथ टाइम बिताना शुरू करें हंसी मजाक करी 1 लोगों के बीच में नहीं है चाहे वह फ्रेंड सर्कल और दोस्तों यारों भाइयों बहनों थोड़ा सा घूम कर आया थोड़ा घूमी है ठीक है बाहर थोड़ा विजिट करके आइए उस से क्या होगा थोड़ा सा बढ़ते तनाव होता तो भी अकेली पंजा से ख्याल आते जवाब दे सनसिटी में चले जाते डिप्रेशन में चली जाती है तभी अकेलापन होता है दरवाजे में ऐसा ही होता अच्छी-अच्छी भेजना वीडियो में देखिए बिल्कुल नॉर्मल का जाप करिए प्रणब करिए बहुत फायदा मिलेगा
Akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie theek hai jaisa aap khud hee kveshchan mein kah rahe hain ki ek bhaavanaen mittal ek aapane aisa soch rakhana imoshanalee pheel kar rakha hai akelaapan to isake lie lekar jitana ho sakata hai phaimilee ke saath taim bitaana shuroo karen hansee majaak karee 1 logon ke beech mein nahin hai chaahe vah phrend sarkal aur doston yaaron bhaiyon bahanon thoda sa ghoom kar aaya thoda ghoomee hai theek hai baahar thoda vijit karake aaie us se kya hoga thoda sa badhate tanaav hota to bhee akelee panja se khyaal aate javaab de sanasitee mein chale jaate dipreshan mein chalee jaatee hai tabhee akelaapan hota hai daravaaje mein aisa hee hota achchhee-achchhee bhejana veediyo mein dekhie bilkul normal ka jaap karie pranab karie bahut phaayada milega

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Divya Singh  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Divya जी का जवाब
Mentor teacher at DoE, Delhi
4:57
नमस्कार प्रश्न है अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए लिखे अकेलेपन की भावना जो है वह कई बार खतरनाक साबित हो जाती है क्योंकि मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है और एक सोशल एनिमल को कहा जाता है कि ह्यूमन देंगे जो सोशल एनिमल हिंदी में ज्यादा अच्छा सुनने को लगता है सामाजिक प्राणी है तो बिल्कुल सामाजिक प्राणी है तो जो कि मिलजुल कर अपने जैसे ही लोगों के साथ या सह अस्तित्व में पशु पक्षियों प्रकृति पेड़ पौधों इन सब के साथ रहकर आनंद महसूस होता है किसी भी मानव को इस भावना को दूर करने के लिए जरूर प्रयासरत है ना बहुत ही अच्छी बात है छपरा से है हम उसी स्थिति में नहीं जाना चाहते कि हमें अकेलापन महसूस हो तो इसके लिए हमें अपने पास के लोगों से बातचीत करना जरूरी है अब अगर उन्हीं से हमें दिक्कत है इसी वजह से हम अकेलापन महसूस कर रहे हैं तो फिर हम स्वयं के साथ भी कुछ समय एक माइंडफूलनेस तो हमेशा ही अपने उत्तर में इसको रखती हूं कि जहां भी यह संबंधित होता है तो माइंडफूलनेस कहते हैं अपने आप के साथ अपने शांत मन के साथ शांत चित्त होकर सहज भाव से बैठना और वर्तमान की स्थिति में आ जाना वर्तमान की स्थिति में आने से यहां पर अभिप्राय है आपको जो भी उस समय हो रहा है सिर्फ उस पर ध्यान देना है या तो अपने आप ब्रीडिंग पर भी ध्यान दे सकते हैं सांसो पर ब्रीडिंग माइंडफूलनेस कर सकता लिसनिंग माइंडफूलनेस कर सकते आवाजों को सुनकर लाभ क्या होता है जिससे मैं सिर्फ आइस क्लोज करके या नीचे की तरफ देखते हुए अपने आसपास की आवाजों पर पूरा ध्यान लगा रहे हैं तो मेरा जो मां मेरे मन में जो विचार आ रहे हैं वह विचारों पर मेरा ध्यान नहीं जाता ध्यान देना ही माइंडफूलनेस अब ध्यान कहां देना है वर्तमान में वर्तमान में भी आपकी सांसे हो सकती है आपके आसपास की आवाज हो सकती है आप जहां बैठे हैं उस जगह को महसूस करना हो सकता है अपने हाथों की हथेलियों को देखना हो सकता है और फिर आपका ध्यान उस एक ही कार्य पर हो ना कि अपने दिमाग में आने वाले पास या फ्यूचर के विचारों पर उसी को हमें अवॉइड करना यार वही माइंडफूलनेस जो लिसनिंग और ब्रीडिंग पर ध्यान देना है यह सिर्फ एक अभ्यास के लिए है इसमें भी हम अच्छा शांत महसूस करते हैं और फिर हम दूसरी तरह की अन्य गरम खाना खा रहे हैं कपड़े धो रहे हैं सफाई कर रहे हैं कुछ लिख रहे हैं कुछ पढ़ रहे हैं तो भी हम लोग डिस्ट्रक्शन सोते हैं फ्यूचर या पास की कोई बात हमारे माइंड में होती है और अकेलेपन की भी विचार जो मन में आ रहे हैं उससे भी हम इस एक्टिविटी से बच सकते हैं तो यह तो हुआ कि आप अकेले में भी बैठ कर क्या कर सकते हैं उन भावों से बचने के लिए मेरा यह रहेगा या पैसे स्ट्रैटेजी बनाएं कि आप अपने कुछ मित्रों या कुछ और समाज में किसी के जहां पर आप सेवा करना चाहते हो जैसे कि कुछ पढ़ा ना हो सकता है बच्चों को यह समाज का कोई भी ऐसा क्षेत्र जहां को लगता है कि आप उसके आपने कोई योग्यता है कि आप समाज में अपना योगदान उस तरह से दे सकते हैं तो वहां पर अपने उस कार्य को करने में समय बिता सकते हैं कुछ लोग जैसे ही पशु पक्षियों को अपने घर की ही छत पर या कहीं आपको पानी उनके लिए रखना दाना उनके लिए रखना ऐसे कार्य जिनसे हमें लगता है कि हम किसी और के लिए कुछ कर पाए हैं किसी और के लिए कुछ ऐसा जिससे वह खुश हैं तो अक्सर हम आजकल के जीवन में अपने आसपास के संबंधियों मित्रों से यदि हम हमें नहीं लगता कि हम और सामंजस्य बिठा पा रहे हैं तो हम परेशान हैं उस करते हैं अकेला महसूस करते हैं तो हमें फिर इसी तरह से क्या किसी पशु पक्षियों की मदद करके या किसी जो जरूरतमंद लोग हैं उनकी सहायता करके खुशी मिलती है और वह खुशी का अहसास आप को अकेले के भाव से बाहर निकाल नाता है तो बिल्कुल ना यह कुछ बातें जो मैंने साझा की है इन से आपको लाभ जरूर मिलेगा और बहुत ही अच्छा होगा कि आपको जिन से मनमुटाव के कारण अगर ऐसा कुछ भाव आ रहा है तुम उनसे और कुछ अपनी तरफ से भी गिले-शिकवे आप मिटाकर कई बार हम अपने मन में है इतने गाने बना लेते हैं तो हम उस से उबर नहीं पाते हैं तो कहीं ना कहीं हम माफ करने का दया क्षमा का भाव लेकर आएं अगर बोलने की यदि हमारे अंदर विश्नोई की शक्ति होगी हम भूल पाए उन चीजों को तो एक अच्छा रहता है धन्यवाद
Namaskaar prashn hai akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie likhe akelepan kee bhaavana jo hai vah kaee baar khataranaak saabit ho jaatee hai kyonki manushy ek saamaajik praanee hai aur ek soshal enimal ko kaha jaata hai ki hyooman denge jo soshal enimal hindee mein jyaada achchha sunane ko lagata hai saamaajik praanee hai to bilkul saamaajik praanee hai to jo ki milajul kar apane jaise hee logon ke saath ya sah astitv mein pashu pakshiyon prakrti ped paudhon in sab ke saath rahakar aanand mahasoos hota hai kisee bhee maanav ko is bhaavana ko door karane ke lie jaroor prayaasarat hai na bahut hee achchhee baat hai chhapara se hai ham usee sthiti mein nahin jaana chaahate ki hamen akelaapan mahasoos ho to isake lie hamen apane paas ke logon se baatacheet karana jarooree hai ab agar unheen se hamen dikkat hai isee vajah se ham akelaapan mahasoos kar rahe hain to phir ham svayan ke saath bhee kuchh samay ek maindaphoolanes to hamesha hee apane uttar mein isako rakhatee hoon ki jahaan bhee yah sambandhit hota hai to maindaphoolanes kahate hain apane aap ke saath apane shaant man ke saath shaant chitt hokar sahaj bhaav se baithana aur vartamaan kee sthiti mein aa jaana vartamaan kee sthiti mein aane se yahaan par abhipraay hai aapako jo bhee us samay ho raha hai sirph us par dhyaan dena hai ya to apane aap breeding par bhee dhyaan de sakate hain saanso par breeding maindaphoolanes kar sakata lisaning maindaphoolanes kar sakate aavaajon ko sunakar laabh kya hota hai jisase main sirph aais kloj karake ya neeche kee taraph dekhate hue apane aasapaas kee aavaajon par poora dhyaan laga rahe hain to mera jo maan mere man mein jo vichaar aa rahe hain vah vichaaron par mera dhyaan nahin jaata dhyaan dena hee maindaphoolanes ab dhyaan kahaan dena hai vartamaan mein vartamaan mein bhee aapakee saanse ho sakatee hai aapake aasapaas kee aavaaj ho sakatee hai aap jahaan baithe hain us jagah ko mahasoos karana ho sakata hai apane haathon kee hatheliyon ko dekhana ho sakata hai aur phir aapaka dhyaan us ek hee kaary par ho na ki apane dimaag mein aane vaale paas ya phyoochar ke vichaaron par usee ko hamen avoid karana yaar vahee maindaphoolanes jo lisaning aur breeding par dhyaan dena hai yah sirph ek abhyaas ke lie hai isamen bhee ham achchha shaant mahasoos karate hain aur phir ham doosaree tarah kee any garam khaana kha rahe hain kapade dho rahe hain saphaee kar rahe hain kuchh likh rahe hain kuchh padh rahe hain to bhee ham log distrakshan sote hain phyoochar ya paas kee koee baat hamaare maind mein hotee hai aur akelepan kee bhee vichaar jo man mein aa rahe hain usase bhee ham is ektivitee se bach sakate hain to yah to hua ki aap akele mein bhee baith kar kya kar sakate hain un bhaavon se bachane ke lie mera yah rahega ya paise straitejee banaen ki aap apane kuchh mitron ya kuchh aur samaaj mein kisee ke jahaan par aap seva karana chaahate ho jaise ki kuchh padha na ho sakata hai bachchon ko yah samaaj ka koee bhee aisa kshetr jahaan ko lagata hai ki aap usake aapane koee yogyata hai ki aap samaaj mein apana yogadaan us tarah se de sakate hain to vahaan par apane us kaary ko karane mein samay bita sakate hain kuchh log jaise hee pashu pakshiyon ko apane ghar kee hee chhat par ya kaheen aapako paanee unake lie rakhana daana unake lie rakhana aise kaary jinase hamen lagata hai ki ham kisee aur ke lie kuchh kar pae hain kisee aur ke lie kuchh aisa jisase vah khush hain to aksar ham aajakal ke jeevan mein apane aasapaas ke sambandhiyon mitron se yadi ham hamen nahin lagata ki ham aur saamanjasy bitha pa rahe hain to ham pareshaan hain us karate hain akela mahasoos karate hain to hamen phir isee tarah se kya kisee pashu pakshiyon kee madad karake ya kisee jo jarooratamand log hain unakee sahaayata karake khushee milatee hai aur vah khushee ka ahasaas aap ko akele ke bhaav se baahar nikaal naata hai to bilkul na yah kuchh baaten jo mainne saajha kee hai in se aapako laabh jaroor milega aur bahut hee achchha hoga ki aapako jin se manamutaav ke kaaran agar aisa kuchh bhaav aa raha hai tum unase aur kuchh apanee taraph se bhee gile-shikave aap mitaakar kaee baar ham apane man mein hai itane gaane bana lete hain to ham us se ubar nahin paate hain to kaheen na kaheen ham maaph karane ka daya kshama ka bhaav lekar aaen agar bolane kee yadi hamaare andar vishnoee kee shakti hogee ham bhool pae un cheejon ko to ek achchha rahata hai dhanyavaad

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Mohitrajput Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohitrajput जी का जवाब
Unknown
0:34
11 की भावनाओं को दूर करने के लिए तुम्हें क्या करना चाहिए तरीका बताओ तो तुम्हें अकेले रहना चाहिए बहुत अकेला रहना चाहिए और बाद में यह बताता हूं कि के अगर तुम उम्मीद कर रहे हो कि तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड होगी या फिर तुम्हें कोई बताएगा यह तुम्हें कोई छुटकारा दिलाएगा अकेलेपन से तुझे भूल जाऊं मैं इधर बार कर चुका हूं पर अकेलेपन से कोई चक्कर आ नहीं सकता अगर भगवान करेगा तो तुम्हारा अकेलापन बहुत जल्दी दूर हो जाएगा अगर तुम्हारी जिंदगी में टेढ़ापन रखा है तो वह से कोई दूर नहीं कर सकता कभी भी नहीं हो सकता तुम्हारा दिल
11 kee bhaavanaon ko door karane ke lie tumhen kya karana chaahie tareeka batao to tumhen akele rahana chaahie bahut akela rahana chaahie aur baad mein yah bataata hoon ki ke agar tum ummeed kar rahe ho ki tumhaaree koee garlaphrend hogee ya phir tumhen koee bataega yah tumhen koee chhutakaara dilaega akelepan se tujhe bhool jaoon main idhar baar kar chuka hoon par akelepan se koee chakkar aa nahin sakata agar bhagavaan karega to tumhaara akelaapan bahut jaldee door ho jaega agar tumhaaree jindagee mein tedhaapan rakha hai to vah se koee door nahin kar sakata kabhee bhee nahin ho sakata tumhaara dil

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
1:01
हाय फ्रेंड्स क्वेश्चन पूछा गया है क्या अकेला मन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए हर व्यक्ति जो होता है अपने जीवन में अकेला कभी ना कभी महसूस करता है अकेलापन जो होता है वह एक बीमारी नहीं है बट अगर हमारे अंदर की भावना के अंदर जो है अगर अकेलापन का साया अगर हमारे अंदर घर बना ले तो बहुत ही दिक्कत होती है इसलिए हमें अकेलापन को दूर करने के लिए कई तरह का उपाय कर सकते हैं बालाजी अगर हमें अकेलापन महसूस हो रहा हो कभी भी जुड़ना में खाली जो है नहीं बैठना चाहिए क्योंकि खाली बैठने से जो होता है हम अपने आप को अकेलापन महसूस करते हैं इसके अलावा अगर हमारे अंदर नकारात्मक ताकि भावा पर हो तुम भी हो सकता है कि हम अकेलापन महसूस करें
Haay phrends kveshchan poochha gaya hai kya akela man kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie har vyakti jo hota hai apane jeevan mein akela kabhee na kabhee mahasoos karata hai akelaapan jo hota hai vah ek beemaaree nahin hai bat agar hamaare andar kee bhaavana ke andar jo hai agar akelaapan ka saaya agar hamaare andar ghar bana le to bahut hee dikkat hotee hai isalie hamen akelaapan ko door karane ke lie kaee tarah ka upaay kar sakate hain baalaajee agar hamen akelaapan mahasoos ho raha ho kabhee bhee judana mein khaalee jo hai nahin baithana chaahie kyonki khaalee baithane se jo hota hai ham apane aap ko akelaapan mahasoos karate hain isake alaava agar hamaare andar nakaaraatmak taaki bhaava par ho tum bhee ho sakata hai ki ham akelaapan mahasoos karen

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:49
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए क्या करना चाहिए देखे एकाकीपन यह मनुष्य के संबंधित होते जो आदमी से मिलने मिलने में विश्वास रखता है वह अगर उसके पास नहीं है तो कुछ किताबें पढ़ता है अच्छी-अच्छी पोस्ट के हैं आकर देख लीजिए क्यों आध्यात्मिक पुस्तक कोई देख लीजिए थोड़ा सही होगा वगैरह कर लीजिए इसके बाद आप संगीत कभी आप प्रयोग कर सकते हैं तो इस तरह से आपका समय जो है कट जगह अकेलापन तभी महसूस होता है कि जब हम कुछ करें नहीं आ आलस्य बस लेटे रहे तब तो अकेलापन महसूस होगा जब अपने दिनचर्या को आप समय-समय पर आप अपने कार्यों में बैठे रहेंगे और अध्ययन करेंगे योगा वगैरह करेंगे तो फिर आपको अकेलापन महसूस नहीं होगा
Akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie kya karana chaahie dekhe ekaakeepan yah manushy ke sambandhit hote jo aadamee se milane milane mein vishvaas rakhata hai vah agar usake paas nahin hai to kuchh kitaaben padhata hai achchhee-achchhee post ke hain aakar dekh leejie kyon aadhyaatmik pustak koee dekh leejie thoda sahee hoga vagairah kar leejie isake baad aap sangeet kabhee aap prayog kar sakate hain to is tarah se aapaka samay jo hai kat jagah akelaapan tabhee mahasoos hota hai ki jab ham kuchh karen nahin aa aalasy bas lete rahe tab to akelaapan mahasoos hoga jab apane dinacharya ko aap samay-samay par aap apane kaaryon mein baithe rahenge aur adhyayan karenge yoga vagairah karenge to phir aapako akelaapan mahasoos nahin hoga

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student
0:58
नमस्कार दोस्तों कैसे हो सवाल अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए ताकि अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए आप उसे खत्म करना क्या है कि आपको अपने परिवार के साथ हमेशा मिलजुल कर दिया पूरा प्रसाद रही है और आप अपने दोस्तों के साथ इंजॉय कर अपने दोस्तों के साथ हमेशा प्रसन्न रहें तथा मतलब मौज मस्ती करें और यही सब चीजें आभास फॉलो करें अपने जीवन में आपको परिवार सहित छात्र सर प्यार मिलता है आपके माता-पिता आपको काफी प्यार करते हैं ऐसा नहीं है कि किसी के माता-पिता किसी को प्यार नहीं करते तो छतरपुर आपको अकेलेपन की मतलब अकेलापन बिल्कुल महसूस नहीं करना है क्योंकि आपके माता-पिता तथा दोस्त भी है तो निश्चित तौर पर वापसी काफी प्यार करते हैं तो इन्हीं सब लोगों के बीच हिल मिल कर रही है तथा हमेशा खुश रहिए जब टाइम मिले मौज मस्ती करो जो भी आप मतलब पढ़ाई करते हैं या मलिक कुछ जॉब करते हैं तो मतलब वह हमेशा हो मुझे पसंद करके करिए तो मैं करता हूं सवाल का जवाब अच्छा लगा होगा अगर अच्छा लगे तो प्लीज लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Namaskaar doston kaise ho savaal akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie taaki akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie aap use khatm karana kya hai ki aapako apane parivaar ke saath hamesha milajul kar diya poora prasaad rahee hai aur aap apane doston ke saath injoy kar apane doston ke saath hamesha prasann rahen tatha matalab mauj mastee karen aur yahee sab cheejen aabhaas pholo karen apane jeevan mein aapako parivaar sahit chhaatr sar pyaar milata hai aapake maata-pita aapako kaaphee pyaar karate hain aisa nahin hai ki kisee ke maata-pita kisee ko pyaar nahin karate to chhatarapur aapako akelepan kee matalab akelaapan bilkul mahasoos nahin karana hai kyonki aapake maata-pita tatha dost bhee hai to nishchit taur par vaapasee kaaphee pyaar karate hain to inheen sab logon ke beech hil mil kar rahee hai tatha hamesha khush rahie jab taim mile mauj mastee karo jo bhee aap matalab padhaee karate hain ya malik kuchh job karate hain to matalab vah hamesha ho mujhe pasand karake karie to main karata hoon savaal ka javaab achchha laga hoga agar achchha lage to pleej laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
5:33
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए ऐसा सवाल पूछा गया है यह बहुत सारे लोगों का प्रॉब्लम होता है और जो लोग ज्यादा इंट्रोवर्ट होते हैं या अंतर्मुखी होते हैं उनमें ज्यादा अकेलेपन की भावना हो जाते हैं लेकिन अगर ये अकेलापन अच्छा लगता है तो कुछ प्रॉब्लम नहीं है उसमें कई चीजें चीजों के काम किए जा सकते हैं और क्रिएटिव वर्क हो जाते बन जाते हैं दुनिया के बड़े प्रतिभा वाले दो महान साहित्य कवि प्लस ऑफिस चित्रकार कलाकार ऐसे जो खेती और करने वाले लोग होते हैं उनमें यह गुण पाया जाता है और इससे कोई गलतफहमी में नहीं जाना चाहिए कि मैं अकेले अकेला अकेला पड़ गया मेरी एक बीमारी है यह कई जीनियस लोगों में यह गुण पाया गया है और यह बात जो है वह संशोधन से साबित हो गई है अगर किसी को अकेलापन जो है उससे दूर करना है तो ज्यादा से ज्यादा ज्यादा से ज्यादा इसमें किसी काम में लगे लगा रहना जरूरी है एक हो गया दूसरा काम करने का तीसरा हो गया घर का हो चाहे अपने खुद के शरीर को स्वच्छता स्वच्छता के लिए इसलिए कि यह हमारे कपड़े होते हैं या हमारे घर होता है मैं सफाई करना बाजार में जाना फिटर में जाकर फिल्म देखना ज्यादा पब्लिक प्लेसेस में रहने रहने की आदत डालनी चाहिए तो धीरे-धीरे बुलबुल ने का शुरुआत करनी चाहिए और सबसे महत्वपूर्ण चीज यह है कि पढ़ने की आदत डाल लेनी चाहिए जिसको पढ़ने की पुस्तकें पढ़ने की आदत है उसको अपने आप ही समझ समझ में आता है कि कौन सी पुस्तकें पढ़ी जाए इसमें वह खुशी होती है कि जिस को बताना भी बताने के लिए शब्द भी नहीं है क्योंकि जब उसमें से जान ध्यान में क्यों मिलता है तब एक अलग तरह की खुशी इंसान को होती है और उसको अपने आप को सुधारने के लिए बड़ा बनने के लिए अमीर बनने के लिए सभी रास्ते उसमें उसमें से मालूम पड़ते के बहू मल्टीडाइमेंशनल बात है हर तरह के क्षेत्र का ज्ञान होता है और किसी ने किसी क्षेत्र में आदमी आदमी की रूचि बढ़ जाती है और क्या उसको लगता है कि इसमें मैं मैं पैसा भी कमा सकता हूं तो हौसला और आनंद बढ़ जाता है और टोटल पर्सनैलिटी जो है वह उसमें एक मैं चुटिया जाती है और आके अकेलापन जो है मेरे को लगता ही नहीं कि मैं अकेला ज्यादा करके रहता हूं और यह कोई बहुत बड़ी गलती कर रहा हूं तेजाजी बातें मुझे मालूम हो गई हुई है और मैं भी उसे इस्तेमाल करता चला आ रहा हूं बरसों से और मैं खुश रहता हूं ज्यादा करके खुशी ज्यादा है और दुख कम है और हर दुख के समय में मुझे महापुरुषों के जीवन से प्रेरणा मिलकर मुझे फिर से खड़ा होकर आगे चलता रहने की प्रेरणा मिलती है धन्यवाद
Akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie aisa savaal poochha gaya hai yah bahut saare logon ka problam hota hai aur jo log jyaada introvart hote hain ya antarmukhee hote hain unamen jyaada akelepan kee bhaavana ho jaate hain lekin agar ye akelaapan achchha lagata hai to kuchh problam nahin hai usamen kaee cheejen cheejon ke kaam kie ja sakate hain aur krietiv vark ho jaate ban jaate hain duniya ke bade pratibha vaale do mahaan saahity kavi plas ophis chitrakaar kalaakaar aise jo khetee aur karane vaale log hote hain unamen yah gun paaya jaata hai aur isase koee galataphahamee mein nahin jaana chaahie ki main akele akela akela pad gaya meree ek beemaaree hai yah kaee jeeniyas logon mein yah gun paaya gaya hai aur yah baat jo hai vah sanshodhan se saabit ho gaee hai agar kisee ko akelaapan jo hai usase door karana hai to jyaada se jyaada jyaada se jyaada isamen kisee kaam mein lage laga rahana jarooree hai ek ho gaya doosara kaam karane ka teesara ho gaya ghar ka ho chaahe apane khud ke shareer ko svachchhata svachchhata ke lie isalie ki yah hamaare kapade hote hain ya hamaare ghar hota hai main saphaee karana baajaar mein jaana phitar mein jaakar philm dekhana jyaada pablik pleses mein rahane rahane kee aadat daalanee chaahie to dheere-dheere bulabul ne ka shuruaat karanee chaahie aur sabase mahatvapoorn cheej yah hai ki padhane kee aadat daal lenee chaahie jisako padhane kee pustaken padhane kee aadat hai usako apane aap hee samajh samajh mein aata hai ki kaun see pustaken padhee jae isamen vah khushee hotee hai ki jis ko bataana bhee bataane ke lie shabd bhee nahin hai kyonki jab usamen se jaan dhyaan mein kyon milata hai tab ek alag tarah kee khushee insaan ko hotee hai aur usako apane aap ko sudhaarane ke lie bada banane ke lie ameer banane ke lie sabhee raaste usamen usamen se maaloom padate ke bahoo malteedaimenshanal baat hai har tarah ke kshetr ka gyaan hota hai aur kisee ne kisee kshetr mein aadamee aadamee kee roochi badh jaatee hai aur kya usako lagata hai ki isamen main main paisa bhee kama sakata hoon to hausala aur aanand badh jaata hai aur total parsanailitee jo hai vah usamen ek main chutiya jaatee hai aur aake akelaapan jo hai mere ko lagata hee nahin ki main akela jyaada karake rahata hoon aur yah koee bahut badee galatee kar raha hoon tejaajee baaten mujhe maaloom ho gaee huee hai aur main bhee use istemaal karata chala aa raha hoon barason se aur main khush rahata hoon jyaada karake khushee jyaada hai aur dukh kam hai aur har dukh ke samay mein mujhe mahaapurushon ke jeevan se prerana milakar mujhe phir se khada hokar aage chalata rahane kee prerana milatee hai dhanyavaad

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Yogi Nath Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Yogi जी का जवाब
Unknown
2:58
उसका व्यक्ति जब खुद में दिलचस्पी लेने लगता है ना तो उसका के लेपन खुद-ब-खुद खत्म हो जाता है अकेलापन दरअसल तब होता है जब हम खुद को इतना महत्व नहीं देते और दूसरों को बहुत ज्यादा महत्व देने लगते हैं हम बाहरी तौर पर खुशियां जोड़ते हैं चाहे वह कोई वस्तु बहुत जिया कोई व्यक्ति हो हम पूरी तरह से उस पर डिपेंड हो जाते हैं अगर वह मिलेगा वह हमारे साथ रहेगा यह चीज में हमें हासिल हो जाएगी तो हमें खुशी मिलेगी अचीवमेंट लेकिन इस खुशी को बहुत कराने वाला फोन है हम खुद हैं सर खुशियां अंदर से आती है हम अपने से ज्यादा दूसरों को जानने में दिलचस्पी रखने लगते हैं तो हमें अकेलापन 2:00 बजे तक जब हम खुद को जानने की कोशिश करेंगे खुद को समय देंगे अपनी अच्छाई और बुराई अपनी कमियों को अपनी जो समर्थ है उसको अगर समय देंगे जाने की कोशिश करेंगे टटोलने की कोशिश करें खुद को खंगालने की कोशिश करेंगे तो कभी भी आप अकेलापन लगेगा आप इतने व्यस्त हो जाएंगे आप अपने आप में ही एक ही यूनिवर्सिटी हैं आप अपने आप में यह कैसी किताब है जो कभी खत्म होने वाली होती है और बहुत ज्यादा दिलचस्प होती है तो अपने आप को जानने की कोशिश करें अपने आप को समझने की कोशिश करें वास्तविक में आप करना क्या चाहते हैं और उसे किस तरह से करना चाहते क्या हासिल करना चाहता फिर से हासिल कर सकते हैं इन चीजों पर काम करेंगे आप पाएंगे कि सब लोग आपके पास आने लगेंगे अब से जुड़ने लगे जवाब किसी के पास भागते होना चाहते हो तो आप से दूर भागते हैं फिर आप उसके पास और जा रही कोशिश करता हूं पूरी बढ़ाता है ज्यादातर लोग पता कीजिए तो टाइप भी अपने अंदर अपने आप में अपनी प्रतिभा को बढ़ाता है तो लोग खुद उसके पास आने चाहते उसे अट्रैक्टिव होते हैं किसी और से ट्रेक्टर होने के बजाय खुद को इतना अट्रैक्टिव बनाएं अपनी प्रतिभा को भी लोग आपके पास आना चाहे आप से मिलना चाहे तो इस तरह से आपका जवाब ही अकेलापन है खुद ब खुद हो जाएगा कि आप कमेंट के माध्यम से अपनी अपनी राय स्पोर्ट्स के बारे में जो मैंने आपको बात बताई नहीं हो जरूर रखें हमारे समक्ष और इस तरह के सवाल जवाब सुनने के लिए सब्सक्राइब कर सकते हैं हमारा प्रोफाइल पेज और बैल आइकन है उसे जरूर जब आइएगा ताकि नोटिफिकेशन मिले जब भी मैं कोई नई पोस्ट अपलोड करूं और लाइक करें अगर आपको यह पता
Usaka vyakti jab khud mein dilachaspee lene lagata hai na to usaka ke lepan khud-ba-khud khatm ho jaata hai akelaapan darasal tab hota hai jab ham khud ko itana mahatv nahin dete aur doosaron ko bahut jyaada mahatv dene lagate hain ham baaharee taur par khushiyaan jodate hain chaahe vah koee vastu bahut jiya koee vyakti ho ham pooree tarah se us par dipend ho jaate hain agar vah milega vah hamaare saath rahega yah cheej mein hamen haasil ho jaegee to hamen khushee milegee acheevament lekin is khushee ko bahut karaane vaala phon hai ham khud hain sar khushiyaan andar se aatee hai ham apane se jyaada doosaron ko jaanane mein dilachaspee rakhane lagate hain to hamen akelaapan 2:00 baje tak jab ham khud ko jaanane kee koshish karenge khud ko samay denge apanee achchhaee aur buraee apanee kamiyon ko apanee jo samarth hai usako agar samay denge jaane kee koshish karenge tatolane kee koshish karen khud ko khangaalane kee koshish karenge to kabhee bhee aap akelaapan lagega aap itane vyast ho jaenge aap apane aap mein hee ek hee yoonivarsitee hain aap apane aap mein yah kaisee kitaab hai jo kabhee khatm hone vaalee hotee hai aur bahut jyaada dilachasp hotee hai to apane aap ko jaanane kee koshish karen apane aap ko samajhane kee koshish karen vaastavik mein aap karana kya chaahate hain aur use kis tarah se karana chaahate kya haasil karana chaahata phir se haasil kar sakate hain in cheejon par kaam karenge aap paenge ki sab log aapake paas aane lagenge ab se judane lage javaab kisee ke paas bhaagate hona chaahate ho to aap se door bhaagate hain phir aap usake paas aur ja rahee koshish karata hoon pooree badhaata hai jyaadaatar log pata keejie to taip bhee apane andar apane aap mein apanee pratibha ko badhaata hai to log khud usake paas aane chaahate use atraiktiv hote hain kisee aur se trektar hone ke bajaay khud ko itana atraiktiv banaen apanee pratibha ko bhee log aapake paas aana chaahe aap se milana chaahe to is tarah se aapaka javaab hee akelaapan hai khud ba khud ho jaega ki aap kament ke maadhyam se apanee apanee raay sports ke baare mein jo mainne aapako baat bataee nahin ho jaroor rakhen hamaare samaksh aur is tarah ke savaal javaab sunane ke lie sabsakraib kar sakate hain hamaara prophail pej aur bail aaikan hai use jaroor jab aaiega taaki notiphikeshan mile jab bhee main koee naee post apalod karoon aur laik karen agar aapako yah pata

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:15
तो आज आप का सवाल है कि अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए तो देखिए अकेलापन हर एक इंसान को फील होता है और मैं उस उस होता तुझे जरूरी नहीं होता है कि हर एक फैसिलिटी सारी सुविधाएं हर एक इंसान हमारे साथ हमेशा हो तो अकेलेपन को ऐसे समय पर जब कोई ना हो और मतलब दूर करने के लिए हमें हम हम हमारा जिस चीज में इंटरेस्ट हो जो चीज हमारे पास अवेलेबल हो वह चीजों में इंग्लिश गाना चाहिए खुश रहना चाहिए जैसे कि घर पर अगर आपको टीवी देखना या फिर करना या फिर यूट्यूब पर आपको घूमना फिरना दोस्त के साथ मिलना जुलाई पसंद है तुझसे यह महामारी है ऐसे समय पर नहीं मिल पाएंगे नहीं घूम आएंगे तो फिर आपको अच्छा नहीं लगेगा और फिर आपको अकेलापन महसूस होगा तो चीज आपके पास अवेलेबल हो वह चीजों में खुश रहने की कोशिश करनी चाहिए सुबह से लोगों कुछ खाना बनाना अकेलापन लगता है तो खाना देखते हैं यह टीवी देखते तो यह सब चीजें तो अकेलापन महसूस नहीं होगा
To aaj aap ka savaal hai ki akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie to dekhie akelaapan har ek insaan ko pheel hota hai aur main us us hota tujhe jarooree nahin hota hai ki har ek phaisilitee saaree suvidhaen har ek insaan hamaare saath hamesha ho to akelepan ko aise samay par jab koee na ho aur matalab door karane ke lie hamen ham ham hamaara jis cheej mein intarest ho jo cheej hamaare paas avelebal ho vah cheejon mein inglish gaana chaahie khush rahana chaahie jaise ki ghar par agar aapako teevee dekhana ya phir karana ya phir yootyoob par aapako ghoomana phirana dost ke saath milana julaee pasand hai tujhase yah mahaamaaree hai aise samay par nahin mil paenge nahin ghoom aaenge to phir aapako achchha nahin lagega aur phir aapako akelaapan mahasoos hoga to cheej aapake paas avelebal ho vah cheejon mein khush rahane kee koshish karanee chaahie subah se logon kuchh khaana banaana akelaapan lagata hai to khaana dekhate hain yah teevee dekhate to yah sab cheejen to akelaapan mahasoos nahin hoga

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
2:01
अकेलेपन की भावना को दूर कैसे करें यह हर व्यक्ति के जीवन मुझे लगता है ऐसा लगता है कि मैं बिल्कुल उनके साथ हमेशा उनके माता-पिता होते हैं जो कुछ ऐसी बातें होती तो उस समय हमें लगता है कि कोई हमारे साथ नहीं है लेकिन चाय हमारे साथ रहे या ना रहे हमारे माता-पिता हमेशा हमारे साथ होते हैं लेकिन उस समय हमें यह नहीं लगता कि माता-पिता देंगे या नहीं बताना चाहिए नहीं लेकिन मेरा जवाब यह है कि आपको बताना चाहिए और हमारे माता पिता हमारे साथ खड़े होते हैं क्योंकि अगर कोई गलती हमसे हुई तो दुनिया हमारे खिलाफ यदि माता-पिता में जरूर बताने का प्रयास करना चाहिए और एक सच्चा दोस्त जो होते हैं वह हमारे साथ होते हैं हमेशा आराम के माता-पिता को तुम्हारे जीवन में बताना चाहिए कि कुछ बातें बताने से हमारे मन का बोझ हल्का हो जाता है ऐसा नहीं है कि दुनिया में अकेले ही कुछ ऐसी परिस्थिति है कि मुझे लगता है कि कोई और हमें प्रॉब्लम को सॉल्व कैसे करें क्योंकि कुछ खुशियां बांटते हैं कभी भी कब बात नहीं करती अपने मन का बता देते हैं तो उसे आपको कोई सलूशन मिल जाएगा और मेरा गला खराब है
Akelepan kee bhaavana ko door kaise karen yah har vyakti ke jeevan mujhe lagata hai aisa lagata hai ki main bilkul unake saath hamesha unake maata-pita hote hain jo kuchh aisee baaten hotee to us samay hamen lagata hai ki koee hamaare saath nahin hai lekin chaay hamaare saath rahe ya na rahe hamaare maata-pita hamesha hamaare saath hote hain lekin us samay hamen yah nahin lagata ki maata-pita denge ya nahin bataana chaahie nahin lekin mera javaab yah hai ki aapako bataana chaahie aur hamaare maata pita hamaare saath khade hote hain kyonki agar koee galatee hamase huee to duniya hamaare khilaaph yadi maata-pita mein jaroor bataane ka prayaas karana chaahie aur ek sachcha dost jo hote hain vah hamaare saath hote hain hamesha aaraam ke maata-pita ko tumhaare jeevan mein bataana chaahie ki kuchh baaten bataane se hamaare man ka bojh halka ho jaata hai aisa nahin hai ki duniya mein akele hee kuchh aisee paristhiti hai ki mujhe lagata hai ki koee aur hamen problam ko solv kaise karen kyonki kuchh khushiyaan baantate hain kabhee bhee kab baat nahin karatee apane man ka bata dete hain to use aapako koee salooshan mil jaega aur mera gala kharaab hai

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Sandeep chhipa Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sandeep जी का जवाब
social worker (MSW)
0:55
टेलीफोन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए आपको मन की खुशी के लिए और अकेलेपन को दूर हटाने के लिए आप जो चाहे वह करना चाहिए जैसे मनपसंद खाना बनाना भगवान की आराधना करना इसके अलावा माता-पिता को याद करना दोस्तों से बातें करना टीवी देखना प्रोग्राम देखना भजन कीर्तन सुनना अकेलेपन की भावनाओं को दूर करता है इसके अलावा योग करना इसके अलावा आप बड़ों की सलाह लेना इसके अलावा आप छोटों को आशीर्वाद देना यह सब अकेलेपन की दूर करना की भावना के मूल मंत्र भी है इसके अलावा आपको जो चाहे वह करो जैसे पेंटिंग बनाना भजन सुनना आदि जय हिंद जय भारत सभी मित्रों को धन्यवाद
Teleephon kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie aapako man kee khushee ke lie aur akelepan ko door hataane ke lie aap jo chaahe vah karana chaahie jaise manapasand khaana banaana bhagavaan kee aaraadhana karana isake alaava maata-pita ko yaad karana doston se baaten karana teevee dekhana prograam dekhana bhajan keertan sunana akelepan kee bhaavanaon ko door karata hai isake alaava yog karana isake alaava aap badon kee salaah lena isake alaava aap chhoton ko aasheervaad dena yah sab akelepan kee door karana kee bhaavana ke mool mantr bhee hai isake alaava aapako jo chaahe vah karo jaise penting banaana bhajan sunana aadi jay hind jay bhaarat sabhee mitron ko dhanyavaad

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:01
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका दोस्त आपका सवाल है अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए अगर आपको अकेलापन लगता है तो आप किसी पेट को रख लीजिए अपने घर में तो आपको अकेलापन नहीं लगेगा जैसे डॉग या तो कबूतर या तोता खरगोश कुछ भी आप रख लीजिए क्योंकि पेट इंसान के अकेलेपन को बहुत हद तक दूर करते हैं और वह बहुत प्यारे होते हैं आप उनसे प्यार करेंगे तो वह भी आपसे प्यार करेंगे और आपको अकेलापन लगता है तो आप म्यूजिक सुनिए किताबें पढ़िए और अपने पेट से प्यार कीजिए क्योंकि पेट बहुत अच्छे होते हैं और डॉगी तो इतने अच्छे होते हैं कि उनसे प्यार करो तो बहुत वफादारी करते हैं इसलिए आप पढ़ लीजिए आपका अकेलापन बिल्कुल दूर हो जाएगा और आपको के साथ समय बिताने में आपके पास टाइम ही नहीं बचेगा तो अगर आपको जवाब अच्छे लगते हैं तो प्लीज लाइक जरूर करिएगा और सब्सक्राइब करना ना भूलें धन्यवाद
Helo doston svaagat hai aapaka dost aapaka savaal hai akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie agar aapako akelaapan lagata hai to aap kisee pet ko rakh leejie apane ghar mein to aapako akelaapan nahin lagega jaise dog ya to kabootar ya tota kharagosh kuchh bhee aap rakh leejie kyonki pet insaan ke akelepan ko bahut had tak door karate hain aur vah bahut pyaare hote hain aap unase pyaar karenge to vah bhee aapase pyaar karenge aur aapako akelaapan lagata hai to aap myoojik sunie kitaaben padhie aur apane pet se pyaar keejie kyonki pet bahut achchhe hote hain aur dogee to itane achchhe hote hain ki unase pyaar karo to bahut vaphaadaaree karate hain isalie aap padh leejie aapaka akelaapan bilkul door ho jaega aur aapako ke saath samay bitaane mein aapake paas taim hee nahin bachega to agar aapako javaab achchhe lagate hain to pleej laik jaroor kariega aur sabsakraib karana na bhoolen dhanyavaad

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
BK. SHYAAM. KARWA Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए BK. जी का जवाब
Unknown
0:49
नमस्कार आप ने प्रश्न किया है कि अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए कि मैं आपको बताना चाहूंगा कि यदि आप अपने आप को अकेलापन महसूस करती हैं उसे दूर करने के लिए आपको सोशल एक्टिविटी में भाग लेना चाहिए क्या चाहिए अपने फ्रेंड के साथ ज्यादा रहना चाहिए अपने बालों को शेयर करना चाहिए अपनी परेशानियों को शेयर करना चाहिए ताकि वाक्य में चली जाती नए नए लोगों से मिलना चाहिए उनका हाल पूछना चाहिए उनकी मदद करनी चाहिए और उनसे मदद लेनी चाहिए तभी आप अपने अकेलेपन को दूर कर सकते हैं साथ ही अपने आपको बिजी रखने का प्रयास कीजिए
Namaskaar aap ne prashn kiya hai ki akelepan kee bhaavana ko door karane ke lie mujhe kya karana chaahie ki main aapako bataana chaahoonga ki yadi aap apane aap ko akelaapan mahasoos karatee hain use door karane ke lie aapako soshal ektivitee mein bhaag lena chaahie kya chaahie apane phrend ke saath jyaada rahana chaahie apane baalon ko sheyar karana chaahie apanee pareshaaniyon ko sheyar karana chaahie taaki vaaky mein chalee jaatee nae nae logon se milana chaahie unaka haal poochhana chaahie unakee madad karanee chaahie aur unase madad lenee chaahie tabhee aap apane akelepan ko door kar sakate hain saath hee apane aapako bijee rakhane ka prayaas keejie

bolkar speaker
अकेलेपन की भावना को दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?Akelepan Ki Bhavna Ko Door Karne Ke Lie Mujhe Kya Karna Chaiye
 Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए जी का जवाब
Unknown
0:35
जैसे कि आपका प्रश्न है अकेलापन की भावना को दूर करने के लिए क्या करना चाहिए देखिए अकेलेपन का इलाज से स्वयं से प्यार करना ऐसे में इस और ध्यान देना आवश्यक है इसके लिए सबसे महत्वपूर्ण है अपने आप से प्यार करना यह अकेलापन को अपने से दूर करने का सबसे आसान और अच्छा तरीका होता है स्वयं को खुद से ज्यादा ना तो कोई जानता है और ना ही समझता सकता है
Jaise ki aapaka prashn hai akelaapan kee bhaavana ko door karane ke lie kya karana chaahie dekhie akelepan ka ilaaj se svayan se pyaar karana aise mein is aur dhyaan dena aavashyak hai isake lie sabase mahatvapoorn hai apane aap se pyaar karana yah akelaapan ko apane se door karane ka sabase aasaan aur achchha tareeka hota hai svayan ko khud se jyaada na to koee jaanata hai aur na hee samajhata sakata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • अकेलेपन की भावना अकेलेपन की भावना को दूर करने का उपाय
URL copied to clipboard