#undefined

bolkar speaker

चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?

Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:41
नमस्कार आपका प्रश्न है चंदन के पेड़ पर ना क्यों रहते हैं तो चंदन के पेड़ पर सांप है ना इसलिए रहते हैं क्योंकि चंदन का पेड़ काफी ठंडा होता है और सांपों को ठंडक बहुत अच्छी लगती है इसलिए वे चंदन के पेड़ पर रहते हैं और चंदन का पेड़ काफी सुगंधित सुगंध होती है उसमें सुगंध के कारण भी उस में लिपटे रहते हैं उन्हें चंदन के पेड़ में लिपट ना बहुत अच्छा लगता है सांपों को इसलिए वह चंदन के पेड़ में लिपटे रहते हैं तो आपको मेरे जवाब अच्छे लगते हैं तो प्लीज लाइक करते रहिए सच टाइप करते रहिए धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai chandan ke ped par na kyon rahate hain to chandan ke ped par saamp hai na isalie rahate hain kyonki chandan ka ped kaaphee thanda hota hai aur saampon ko thandak bahut achchhee lagatee hai isalie ve chandan ke ped par rahate hain aur chandan ka ped kaaphee sugandhit sugandh hotee hai usamen sugandh ke kaaran bhee us mein lipate rahate hain unhen chandan ke ped mein lipat na bahut achchha lagata hai saampon ko isalie vah chandan ke ped mein lipate rahate hain to aapako mere javaab achchhe lagate hain to pleej laik karate rahie sach taip karate rahie dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:41
सवाल है चंदन के पेट पर लात क्यों रहते हैं वैसे तो यही कहते हैं आपके ऊपर लागू होती है विज्ञान के ऊपर और न्यूजीलैंड के स्कोर को छोड़ दी इसकी वजह है इसका एक कथा होना और हमेशा पानी में और पानी के आस पास पाए जाते हैं तापमान बाकी पेड़ पौधे थोड़ा कम होता है और आकर्षित करते हैं बस
Savaal hai chandan ke pet par laat kyon rahate hain vaise to yahee kahate hain aapake oopar laagoo hotee hai vigyaan ke oopar aur nyoojeelaind ke skor ko chhod dee isakee vajah hai isaka ek katha hona aur hamesha paanee mein aur paanee ke aas paas pae jaate hain taapamaan baakee ped paudhe thoda kam hota hai aur aakarshit karate hain bas

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
0:29
देखिए इसका कारण सिर्फ इतना ही है कि चंदन के पेड़ की खुशबू जो होती है ना वह नाक को अपने प्रकट करते हैं और लकड़ी से सब कोई संबंध नहीं है स्पेशल पेड़ से नहीं है फिर भी है खुशबू चंदन की खुशबू जी होती है वह नागपुर चैट करती है और पुराने समय में भी ऋषि चंदन यूज करते थे तो उनके आसपास नाग रखते थे तो यह इस समय की बात नहीं है यह सदियों से होता रहा
Dekhie isaka kaaran sirph itana hee hai ki chandan ke ped kee khushaboo jo hotee hai na vah naak ko apane prakat karate hain aur lakadee se sab koee sambandh nahin hai speshal ped se nahin hai phir bhee hai khushaboo chandan kee khushaboo jee hotee hai vah naagapur chait karatee hai aur puraane samay mein bhee rshi chandan yooj karate the to unake aasapaas naag rakhate the to yah is samay kee baat nahin hai yah sadiyon se hota raha

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
1:20
चंदन के पेड़ पर कुछ भी बहुत ज्यादा होती है तो खुशबू ज्यादा होने के साथ-साथ आप उन्हें खोजने में सक्षम होते हैं बता दो ना जल्दी खोज लेते हैं उसके बाद आप यहां आकर आसानी से बसेरा बना लेते हैं तथा सांप चंदन ही नहीं चंदन के साथ रजनीगंधा और चमेली जैसे खुशबूदार वीडियो पर या उसके आसपास आना पसंद करते हैं ऐसा माना जाता है कि पेड़ों की खुशबू सांपों को आकर्षित करती है लेकिन जब कोई व्यक्ति चांदण्या रजनीगंधा यात्रा में लीन कपूरिया संबंध तोड़ता है तो उससे पहले मैं नागौर सांपों का आंखों से दूर करना होता था लगना होता तो लेकिन कई लोग मरते नहीं तो दवाई छिड़क दें जिससे कारण या बेहोश हो जाते हैं उसके बाद चंदन के पेड़ काट सकते हैं आलिया को पति तोड़ सकते हैं अन्यथा नहीं तोड़ सकते हैं सब की झांकी उनकी रक्षा करते हैं
Chandan ke ped par kuchh bhee bahut jyaada hotee hai to khushaboo jyaada hone ke saath-saath aap unhen khojane mein saksham hote hain bata do na jaldee khoj lete hain usake baad aap yahaan aakar aasaanee se basera bana lete hain tatha saamp chandan hee nahin chandan ke saath rajaneegandha aur chamelee jaise khushaboodaar veediyo par ya usake aasapaas aana pasand karate hain aisa maana jaata hai ki pedon kee khushaboo saampon ko aakarshit karatee hai lekin jab koee vyakti chaandanya rajaneegandha yaatra mein leen kapooriya sambandh todata hai to usase pahale main naagaur saampon ka aankhon se door karana hota tha lagana hota to lekin kaee log marate nahin to davaee chhidak den jisase kaaran ya behosh ho jaate hain usake baad chandan ke ped kaat sakate hain aaliya ko pati tod sakate hain anyatha nahin tod sakate hain sab kee jhaankee unakee raksha karate hain

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:48
चंदन के पेड़ पर नाग तो रहते हैं देखिए आपने कई बार यह जरूर सुना होगा कि आप अक्सर चंदन के पेड़ पर लिपटे रहते हैं तो आपको बता दें कि यह बिल्कुल सच है साथ सिर्फ चंदन के पेड़ पर ही नहीं बल्कि रजनीगंधा और चंदेली जैसे पेड़ों पर भी रहना पसंद करते हैं कई लोगों को यह लगता है कि सांप खुशबू की वजह से हीन पेड़ों पर लिखते रहते हैं क्योंकि सांपों को यह खुशबू आकर्षित करती है इसके अलावा चंदन के पेड़ से सांपों को ठंडक महसूस होती है क्योंकि चंदन तहसील का ठंडा होता है अक्सर इसलिए सर्प चंदन के पेड़ों में लिपटे रहते हैं धन्यवाद
Chandan ke ped par naag to rahate hain dekhie aapane kaee baar yah jaroor suna hoga ki aap aksar chandan ke ped par lipate rahate hain to aapako bata den ki yah bilkul sach hai saath sirph chandan ke ped par hee nahin balki rajaneegandha aur chandelee jaise pedon par bhee rahana pasand karate hain kaee logon ko yah lagata hai ki saamp khushaboo kee vajah se heen pedon par likhate rahate hain kyonki saampon ko yah khushaboo aakarshit karatee hai isake alaava chandan ke ped se saampon ko thandak mahasoos hotee hai kyonki chandan tahaseel ka thanda hota hai aksar isalie sarp chandan ke pedon mein lipate rahate hain dhanyavaad

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
guru ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए guru जी का जवाब
Students
1:21

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
Aditya Tripathi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aditya जी का जवाब
Student
1:04
मैं आदित्य पार्टी आपका प्रश्न है चंदन के पेड़ पर ना क्यों रहते तो आपको यह समझने से पहले यह जानना होगा सांप के नाते तापमान के नियंत्रण के लिए अपने शरीर के तापमान के नियंत्रण के लिए बाहरी पैरामीटर पर निर्भर रहते और अधिक पसंद होती है क्योंकि रजनीगंधा चंदन के पेड़ का तापमान अनपढ़ के तापमान से कम होता है इसलिए सोफिया नाम यहां रहना अधिक पसंद करते हैं और सांप का नाम की सुनने की क्षमता जीवों की तुलना में अधिक होती और चंदन क्या रजनीगंधा के पेड़ की सौगंध के कारण भी काफी आसान होता है इसलिए उसके पास उसकी ठंडा के कारण रहना अधिक पसंद करते हैं धन्यवाद
Main aadity paartee aapaka prashn hai chandan ke ped par na kyon rahate to aapako yah samajhane se pahale yah jaanana hoga saamp ke naate taapamaan ke niyantran ke lie apane shareer ke taapamaan ke niyantran ke lie baaharee pairaameetar par nirbhar rahate aur adhik pasand hotee hai kyonki rajaneegandha chandan ke ped ka taapamaan anapadh ke taapamaan se kam hota hai isalie sophiya naam yahaan rahana adhik pasand karate hain aur saamp ka naam kee sunane kee kshamata jeevon kee tulana mein adhik hotee aur chandan kya rajaneegandha ke ped kee saugandh ke kaaran bhee kaaphee aasaan hota hai isalie usake paas usakee thanda ke kaaran rahana adhik pasand karate hain dhanyavaad

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:47
आपको पता चल मन बिगड़ को महान क्यों रहते हैं आप सुनाओ जो रहीम उत्तम प्रकृति का करी सकत कुसंग चंदन विष व्यापत नहीं लिपटे सर क्यों चंदन के पेड़ पर ज्यादा लिपट है उसका कांड के सदके जो प्रकृति होती बहुत गर्म होती है वह 20 तारीख और विस्तार से उनका शरीर भी चलता रहता है चंदन में प्रकृति को शांति शांति प्राकृतिक को उसके अंदर होती है इसलिए उस खुशबू और उसका शांत वातावरण जो है उसमें लिपटने से उनके शरीर को काफी आराम मिलता है इसलिए सर चंदन के वृक्ष का निवारण करते हैं उनको किसी प्रकार से तकलीफ ना हो और यह प्राकृतिक उनको शक्ति प्रदान की
Aapako pata chal man bigad ko mahaan kyon rahate hain aap sunao jo raheem uttam prakrti ka karee sakat kusang chandan vish vyaapat nahin lipate sar kyon chandan ke ped par jyaada lipat hai usaka kaand ke sadake jo prakrti hotee bahut garm hotee hai vah 20 taareekh aur vistaar se unaka shareer bhee chalata rahata hai chandan mein prakrti ko shaanti shaanti praakrtik ko usake andar hotee hai isalie us khushaboo aur usaka shaant vaataavaran jo hai usamen lipatane se unake shareer ko kaaphee aaraam milata hai isalie sar chandan ke vrksh ka nivaaran karate hain unako kisee prakaar se takaleeph na ho aur yah praakrtik unako shakti pradaan kee

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
vk yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vk जी का जवाब
Student
0:32
वर्तमान काल के हवाले चंदन के पेड़ पटना में क्यों रहते हैं चंदन के पेड़ पर नामजद अपराधियों की हिम्मत इतनी खुशी होती है इसलिए उसकी ओर आकर्षित होते दर्द सेलिब्रिटी और चंदन की पीढ़ी की लड़की लकड़ी बहुत ठंडक होती है ठंडक देती है इसलिए उसकी फिर से लिपटी रहती हैं पेड़ से लेते रहते हैं नाम चंदन की लकड़ी बहुत अच्छी खुशी होती है संबंध आती है तूने बहुत अच्छी लगती है यह सवाल
Vartamaan kaal ke havaale chandan ke ped patana mein kyon rahate hain chandan ke ped par naamajad aparaadhiyon kee himmat itanee khushee hotee hai isalie usakee or aakarshit hote dard selibritee aur chandan kee peedhee kee ladakee lakadee bahut thandak hotee hai thandak detee hai isalie usakee phir se lipatee rahatee hain ped se lete rahate hain naam chandan kee lakadee bahut achchhee khushee hotee hai sambandh aatee hai toone bahut achchhee lagatee hai yah savaal

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:08
नमस्कार आपकी बात बिल्कुल सत्य है कि चंदन के पेड़ पर हमेशा याद रहते हैं सांप रहते हैं और चंदन के पेड़ पर ही नहीं जिस दिन खुशबू आती है उस पेड़ पर रहते हैं जैसे कि आज जमीन का पेड़ दिखा जाए और चंदन का पेड़ आप हमेशा ही रहते हैं ना दी खुशबू होती है जो किसानों को बहुत ही आकर्षित करती है और उन्हें अच्छा लगता है और चंदन के पेड़ पर वह हमेशा रहती है उसमें चंदन के पेड़ में इतनी खुशी होती है उनके विषय में जहर भी कुछ नहीं कर पाते हैं इसलिए जब भी किसी और चीज का एग्जांपल दिया जाता है तो चंदन के पेड़ और सांप का एग्जांपल दिया जाता है कि मैं भी सोने के बाद भी चंदन के पेड़ पर क्यों नहीं प्रभाव पड़ता है ठीक उसी प्रकार से मनुष्य की प्रवृत्ति भी होती है अच्छा मनुष्य हैं उनके अच्छे विचार हैं तो किसी भी व्यक्ति के बीच में तुम पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा तो मैं कहते हैं सवाल का जवाब पसंद आएगा आप लोग खुश रहिए
Namaskaar aapakee baat bilkul saty hai ki chandan ke ped par hamesha yaad rahate hain saamp rahate hain aur chandan ke ped par hee nahin jis din khushaboo aatee hai us ped par rahate hain jaise ki aaj jameen ka ped dikha jae aur chandan ka ped aap hamesha hee rahate hain na dee khushaboo hotee hai jo kisaanon ko bahut hee aakarshit karatee hai aur unhen achchha lagata hai aur chandan ke ped par vah hamesha rahatee hai usamen chandan ke ped mein itanee khushee hotee hai unake vishay mein jahar bhee kuchh nahin kar paate hain isalie jab bhee kisee aur cheej ka egjaampal diya jaata hai to chandan ke ped aur saamp ka egjaampal diya jaata hai ki main bhee sone ke baad bhee chandan ke ped par kyon nahin prabhaav padata hai theek usee prakaar se manushy kee pravrtti bhee hotee hai achchha manushy hain unake achchhe vichaar hain to kisee bhee vyakti ke beech mein tum par koee prabhaav nahin padega to main kahate hain savaal ka javaab pasand aaega aap log khush rahie

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
1:38
हेलो फ्रेंड्स नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है चंदन के पेड़ पर ना क्यों रहते हैं रहीम दास जी ने लिखा है कि जो रहीम उत्तम प्रकृति का करि सकत कुसंग चंदन विष व्यापत नहीं लिपटे रहत भुजंग उन्होंने यह दुआ कहा है कि पता है कि संतों यानी अच्छे गुणों वाले लोगों की खासियत बताता है इसे समझने के लिए उन्होंने साफ और चंदन का उदाहरण दिया फ्रेंड इस दोहे का अर्थ है बाद से यह कह रहा है कि बुरे लोगों की संगति अच्छे लोगों की खामियां पैदा नहीं कर सकती ठीक वैसे ही जैसे चंदन के पेड़ से लिपटी साफ कभी उसे जहरीला नहीं कर पाते फ्रेंड इस दोहे से मिलने वाली बाजू है वह काफी हद तक सही है लेकिन फिर भी यहां पर क्वेश्चन उठता है कि सांप चंदन की संगत में ही क्यों रहता है तो यह जो है एक ऐसी भी जानकारी जो है यह बात यह है कि इस आप में अक्सर जो है चंदन के पेड़ को अपना ठिकाना बनाते हैं केवल चंदन ही नहीं रजनीगंधा चमेली जैसे कई खुशबूदार पेड़ों या उनके आसपास रहना यह पसंद भी करते हैं ऐसा माना जाता है फ्रेंड कि इन पेड़ों की खुशबू सबको आकर्षित करती है यह बात बहुत हद तक जो है सही है इसलिए जो है यह सुगंधित पेड़ पौधे के पास ही रहते हैं आशा है कि आप को या जानकारी पसंद आई होगी शुक्रिया
Helo phrends namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai chandan ke ped par na kyon rahate hain raheem daas jee ne likha hai ki jo raheem uttam prakrti ka kari sakat kusang chandan vish vyaapat nahin lipate rahat bhujang unhonne yah dua kaha hai ki pata hai ki santon yaanee achchhe gunon vaale logon kee khaasiyat bataata hai ise samajhane ke lie unhonne saaph aur chandan ka udaaharan diya phrend is dohe ka arth hai baad se yah kah raha hai ki bure logon kee sangati achchhe logon kee khaamiyaan paida nahin kar sakatee theek vaise hee jaise chandan ke ped se lipatee saaph kabhee use jahareela nahin kar paate phrend is dohe se milane vaalee baajoo hai vah kaaphee had tak sahee hai lekin phir bhee yahaan par kveshchan uthata hai ki saamp chandan kee sangat mein hee kyon rahata hai to yah jo hai ek aisee bhee jaanakaaree jo hai yah baat yah hai ki is aap mein aksar jo hai chandan ke ped ko apana thikaana banaate hain keval chandan hee nahin rajaneegandha chamelee jaise kaee khushaboodaar pedon ya unake aasapaas rahana yah pasand bhee karate hain aisa maana jaata hai phrend ki in pedon kee khushaboo sabako aakarshit karatee hai yah baat bahut had tak jo hai sahee hai isalie jo hai yah sugandhit ped paudhe ke paas hee rahate hain aasha hai ki aap ko ya jaanakaaree pasand aaee hogee shukriya

bolkar speaker
चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं?Chandan Ke Ped Par Naag Kyun Rehte Hain
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
0:54
रजनी चंदन के पेड़ पर ना क्यों रहते हैं कहां गया है चंदन विष व्यापत नहीं लिपटे रहत भुजंग चंदन के पेड़ पर सांप इसलिए लिपटे रहते हैं क्योंकि चंदन का पेड़ ठंडा होता है और शाम को काफी गर्मी महसूस होती है इसलिए उन से लिपटे रहते हैं इसका कारण होता है की तासीर गर्म होती है सांपों में विष पाया जाता है इसीलिए सांपों को अधिक गर्मी महसूस होती है कहीं पर सोने चांदी का ढेर हो या माया घड़ी हो वहां पर सांप जरूर पाए जाते हैं और उसका मेन कारण क्या होता है कि वह अपनी गर्मी की वजह से उस सोने चांदी से चिपके रहते हैं और अपने को उस गर्मी से दूर रखते हैं धन्यवाद
Rajanee chandan ke ped par na kyon rahate hain kahaan gaya hai chandan vish vyaapat nahin lipate rahat bhujang chandan ke ped par saamp isalie lipate rahate hain kyonki chandan ka ped thanda hota hai aur shaam ko kaaphee garmee mahasoos hotee hai isalie un se lipate rahate hain isaka kaaran hota hai kee taaseer garm hotee hai saampon mein vish paaya jaata hai iseelie saampon ko adhik garmee mahasoos hotee hai kaheen par sone chaandee ka dher ho ya maaya ghadee ho vahaan par saamp jaroor pae jaate hain aur usaka men kaaran kya hota hai ki vah apanee garmee kee vajah se us sone chaandee se chipake rahate hain aur apane ko us garmee se door rakhate hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • चंदन के पेड़ पर नाग क्यों रहते हैं चंदन के पेड़ पर नाग
URL copied to clipboard