#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?

Mahashivratri Ka Tyauhar Kyo Manaya Jata Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
2:17
महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है हमारे देश में टी20 है कि भगवान शिव शिव माता पार्वती ने विवाह किया था आयुष विभाग के कारण ही महाशिवरात्रि का त्योहार मनाया जाता है माता पार्वती ने हजारों साल तक करके भगवान शिव की आराधना करके उनको प्राप्त किया था और इसी कारण महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाया जाता है कुछ कुछ पंक्तियां कुछ और भी है देख कहा जाता है कि भगवान शिव के जन्म उत्सव के रूप में महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाया जाता कृष्ण की शिव की उत्पत्ति जो है सच ईस्ट और समागम से हुई भगवान शिव ने मैंने जन्म लिया पिंकी जन्म का जो अरुण की आराधना का उनके प्रति श्रद्धा भाव का जो है वह एक अलग महत्व लेकिन शिवरात्रि जी का जो है त्योहार है खुशियों का है और इसलिए इस दिन उपवास रखा जाता है कि भगवान कृष्ण की जन्माष्टमी पर उपवास रखा जाता है इसी तरह भगवान शिव की विभाग में जन्मदिन पर भी वहां के दिन पर भी उपवास रखा जाता है यही हिंदू धर्म में प्रत्यय की कन्या का जिस दिन विवाह होता तो कन्यादान कुछ का उपवास रखा जाता है कन्यादान करने के बाद माता-पिता या जो कन्यादान का उपवास रखते हैं वह
Mahaashivaraatri ka tyauhaar kyon manaaya jaata hai hamaare desh mein tee20 hai ki bhagavaan shiv shiv maata paarvatee ne vivaah kiya tha aayush vibhaag ke kaaran hee mahaashivaraatri ka tyohaar manaaya jaata hai maata paarvatee ne hajaaron saal tak karake bhagavaan shiv kee aaraadhana karake unako praapt kiya tha aur isee kaaran mahaashivaraatri ka tyauhaar manaaya jaata hai kuchh kuchh panktiyaan kuchh aur bhee hai dekh kaha jaata hai ki bhagavaan shiv ke janm utsav ke roop mein mahaashivaraatri ka tyauhaar manaaya jaata krshn kee shiv kee utpatti jo hai sach eest aur samaagam se huee bhagavaan shiv ne mainne janm liya pinkee janm ka jo arun kee aaraadhana ka unake prati shraddha bhaav ka jo hai vah ek alag mahatv lekin shivaraatri jee ka jo hai tyohaar hai khushiyon ka hai aur isalie is din upavaas rakha jaata hai ki bhagavaan krshn kee janmaashtamee par upavaas rakha jaata hai isee tarah bhagavaan shiv kee vibhaag mein janmadin par bhee vahaan ke din par bhee upavaas rakha jaata hai yahee hindoo dharm mein pratyay kee kanya ka jis din vivaah hota to kanyaadaan kuchh ka upavaas rakha jaata hai kanyaadaan karane ke baad maata-pita ya jo kanyaadaan ka upavaas rakhate hain vah

और जवाब सुनें

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?Mahashivratri Ka Tyauhar Kyo Manaya Jata Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:29
हेलो एवरीवन स्वागत है आपका आपका दृष्टि महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाया जाता है इस महा शिवरात्रि का त्योहार शंकर भगवान और पार्वती जी की शादी हुई थी महाशिवरात्रि के दिन तो उसी दिन को मनाने के लिए हम लोग महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाते हैं इस दिन भगवान भोलेनाथ की पूजा करी जाती है और मां पार्वती की पूजा करी जाती है और यह महाशिवरात्रि के दिन भगवान शंकर और पार्वती जी की शादी हुई थी धन्यवाद
Helo evareevan svaagat hai aapaka aapaka drshti mahaashivaraatri ka tyauhaar manaaya jaata hai is maha shivaraatri ka tyohaar shankar bhagavaan aur paarvatee jee kee shaadee huee thee mahaashivaraatri ke din to usee din ko manaane ke lie ham log mahaashivaraatri ka tyauhaar manaate hain is din bhagavaan bholenaath kee pooja karee jaatee hai aur maan paarvatee kee pooja karee jaatee hai aur yah mahaashivaraatri ke din bhagavaan shankar aur paarvatee jee kee shaadee huee thee dhanyavaad

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?Mahashivratri Ka Tyauhar Kyo Manaya Jata Hai
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
1:45
महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है पौराणिक कथाओं के अनुसार महाशिवरात्रि के दिन शिवजी पहली बार प्रकट किए थे क्यों का प्राकृतिक ज्योतिर्लिंग यानी अग्नि के शिवलिंग के रूप में था ऐसा शिवलिंग जिसका ना तो आज का और ना अंत था बताया जाता है कि शिवलिंग का पता लगाने के लिए ब्रह्मा जी के रूप में सीलिंग के सबसे ऊपरी भाग को देखने की कोशिश कर रहे थे लेकिन वह सफल नहीं हो पाए वो लिंग के सबसे ऊपरी भाग तक नहीं पहुंच पाए दूसरी और भगवान विष्णु जी बारा का रूप लेकर शिवलिंग के आधार घूम रहे थे लेकिन उन्हें भी आधार नहीं मिला एक और कथा यह भी है कि महाशिवरात्रि के दिन शिवलिंग इन 64 जगहों पर प्रकट किए थे उनमें से हमें केवल 12 जगहों के नाम पता है इन्हें हम 12 ज्योतिर्लिंग के नाम से जानते हैं महाशिवरात्रि के उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में लोग दीपस्तंभ लगाते हैं इसलिए लगाते हैं ताकि लोग शिव जी के अग्नि वाले आनंद सिंह का अनुभव कर सके या जो मूर्ति है उसका नाम लिंगो भाव यानी जो लिंग से प्रकट किए थे ऐसा लिंग की ना तो आदमी था और ना अंडर था तभी से पूरे भारतवर्ष फाल्गुन मास चतुर्दशी तिथि को महाशिवरात्रि पर्व बड़े धूम-धाम से मनाया जाता है यह सुबह महाशिवरात्रि पर्व 11 मार्च 2021 दिन गुरुवार को मनाया जाएगा धन्यवाद
Mahaashivaraatri ka tyauhaar kyon manaaya jaata hai pauraanik kathaon ke anusaar mahaashivaraatri ke din shivajee pahalee baar prakat kie the kyon ka praakrtik jyotirling yaanee agni ke shivaling ke roop mein tha aisa shivaling jisaka na to aaj ka aur na ant tha bataaya jaata hai ki shivaling ka pata lagaane ke lie brahma jee ke roop mein seeling ke sabase ooparee bhaag ko dekhane kee koshish kar rahe the lekin vah saphal nahin ho pae vo ling ke sabase ooparee bhaag tak nahin pahunch pae doosaree aur bhagavaan vishnu jee baara ka roop lekar shivaling ke aadhaar ghoom rahe the lekin unhen bhee aadhaar nahin mila ek aur katha yah bhee hai ki mahaashivaraatri ke din shivaling in 64 jagahon par prakat kie the unamen se hamen keval 12 jagahon ke naam pata hai inhen ham 12 jyotirling ke naam se jaanate hain mahaashivaraatri ke ujjain ke mahaakaaleshvar mandir mein log deepastambh lagaate hain isalie lagaate hain taaki log shiv jee ke agni vaale aanand sinh ka anubhav kar sake ya jo moorti hai usaka naam lingo bhaav yaanee jo ling se prakat kie the aisa ling kee na to aadamee tha aur na andar tha tabhee se poore bhaaratavarsh phaalgun maas chaturdashee tithi ko mahaashivaraatri parv bade dhoom-dhaam se manaaya jaata hai yah subah mahaashivaraatri parv 11 maarch 2021 din guruvaar ko manaaya jaega dhanyavaad

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?Mahashivratri Ka Tyauhar Kyo Manaya Jata Hai
ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
0:58
पूछा गया है महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है तो देखिए महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाए जाने के पीछे का कार्य नहीं है कि ऐसी मान्यता है कि महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था और अगर हम बात करे साइंटिफिक वे में तो यह एक ऐसा दिन है जब कॉस्ट म्यूजिक जो कॉसमॉस की जोड़ी है वह हमारे शरीर में काफी पॉजिटिव एनर्जी पैदा करती है और उस दिन जो आदमी से भी और जागने से जो है मधु शर्मा बसारी पॉजिटिव एनर्जी आती है तो इसके लिए एक महान धर्म से रिलेटेड मान्यता बना दे कैसे शिव पार्वती का विवाह हुआ था और सभी तरफ तरफ पॉजिटिव एनर्जी थी और उस दिन फास्ट करने से काफी अच्छा होता है रात भर जागने से शरीर को काफी नजदीक प्रदान की जाए क्लब एनर्जी मिलती है तो ऐसे दोनों फैक्ट मिला करके हमा शिवरात्रि का त्यौहार मनाते हैं उम्मीद करती हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Poochha gaya hai mahaashivaraatri ka tyauhaar kyon manaaya jaata hai to dekhie mahaashivaraatri ka tyauhaar manae jaane ke peechhe ka kaary nahin hai ki aisee maanyata hai ki mahaashivaraatri ke din bhagavaan shiv aur maata paarvatee ka vivaah hua tha aur agar ham baat kare saintiphik ve mein to yah ek aisa din hai jab kost myoojik jo kosamos kee jodee hai vah hamaare shareer mein kaaphee pojitiv enarjee paida karatee hai aur us din jo aadamee se bhee aur jaagane se jo hai madhu sharma basaaree pojitiv enarjee aatee hai to isake lie ek mahaan dharm se rileted maanyata bana de kaise shiv paarvatee ka vivaah hua tha aur sabhee taraph taraph pojitiv enarjee thee aur us din phaast karane se kaaphee achchha hota hai raat bhar jaagane se shareer ko kaaphee najadeek pradaan kee jae klab enarjee milatee hai to aise donon phaikt mila karake hama shivaraatri ka tyauhaar manaate hain ummeed karatee hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?Mahashivratri Ka Tyauhar Kyo Manaya Jata Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:57
सवाल ये है कि महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है शास्त्रों की मानें तो महाशिवरात्रि की रात थी भगवान शिव करोड़ों सूर्य के समान प्रभाव वाले ज्योतिर्लिंग के रूप में प्रकट हुए थे जिसके बाद से हर साल फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को ही महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाया जाता है कहा यह भी जाता है कि महात्मा पार्वती सती का पुनर्जन्म है मां पार्वती शिवजी को पति के रूप में प्राप्त करना चाहती थी जिसके लिए उन्होंने शिव जी को अपना बनाने के लिए कई जख्म किए लेकिन भोलेनाथ नहीं प्रसन्न हुए जातिवाद मां पार्वती ने त्रियुगीनारायण से 5 किलोमीटर दूर गौरीकुंड में कठिन साधना की थी शिवजी को मूल्य था उसके बाद शिवजी और महा मां पार्वती की मां पार्वती का विवाह हुआ था इसलिए कोई कुंवारी लड़कियां शिवजी जैसे वर्क की मनोकामना के लिए व्रत करती हैं
Savaal ye hai ki mahaashivaraatri ka tyauhaar kyon manaaya jaata hai shaastron kee maanen to mahaashivaraatri kee raat thee bhagavaan shiv karodon soory ke samaan prabhaav vaale jyotirling ke roop mein prakat hue the jisake baad se har saal phaalgun maas ke krshn paksh kee chaturdashee tithi ko hee mahaashivaraatri ka tyauhaar manaaya jaata hai kaha yah bhee jaata hai ki mahaatma paarvatee satee ka punarjanm hai maan paarvatee shivajee ko pati ke roop mein praapt karana chaahatee thee jisake lie unhonne shiv jee ko apana banaane ke lie kaee jakhm kie lekin bholenaath nahin prasann hue jaativaad maan paarvatee ne triyugeenaaraayan se 5 kilomeetar door gaureekund mein kathin saadhana kee thee shivajee ko mooly tha usake baad shivajee aur maha maan paarvatee kee maan paarvatee ka vivaah hua tha isalie koee kunvaaree ladakiyaan shivajee jaise vark kee manokaamana ke lie vrat karatee hain

bolkar speaker
महाशिवरात्रि का त्यौहार क्यों मनाया जाता है?Mahashivratri Ka Tyauhar Kyo Manaya Jata Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:17
लड़कियों मनाया जाता है तो यह तिवारी असली मनाई जाएगी एचडी शादी हुई थी शंकर जी की है वह धूमधाम से मनाया जाता है इस दिन व्रत रहेंगे कोई भी मनोकामना मांगी तो बस इस बात का ध्यान रखें कि ऐसी कोई मनोकामना ना हो जो दूसरों को हानि पहुंचाने वाली हो
Ladakiyon manaaya jaata hai to yah tivaaree asalee manaee jaegee echadee shaadee huee thee shankar jee kee hai vah dhoomadhaam se manaaya jaata hai is din vrat rahenge koee bhee manokaamana maangee to bas is baat ka dhyaan rakhen ki aisee koee manokaamana na ho jo doosaron ko haani pahunchaane vaalee ho

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • महाशिवरात्रि का महत्व, महाशिवरात्रि की कथा, महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है
URL copied to clipboard