#undefined

bolkar speaker

हाथ में मोली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए?

Haath Mein Moli Ka Dhaga Kitne Dinon Tak Bandhna Chaiye
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
1:25
हाथ में मूली का धागा शनिवार और मंगलवार को ही बांधना चाहिए और शनिवार मंगलवार को ही तोड़ना चाहिए था पुराने वाले को 7 दिन या 5 दिन तक हमें यह धागा बांधना चाहिए इसके बाद न्यू बांधना चाहिए चाहिए क्योंकि पुराने वाला अशोक हो जाता है और फिर उसके बाद शुभ करने के लिए हमें हर मंगलवार और शनिवार को न्यू मौली धागा कांगड़ा में मौली धागा का उपयोग करना चाहिए था मंगलवार और शनिवार यह दोनों दिन बहुत ही शुभ माने जाते हैं कोई भी कार्य करने कैसे दागो के काम करने के लिए हवन करने के लिए लेकिन अब शुरू आज तो बुधवार होता जिस में कभी भी कोई भी काम कर सकते हैं और था पुरुष और महिला में यह समस्या रहती है कि हम धागा किस हाथ को बंद हुआ है तो इस जय भीम आपको बताता हूं पुरुष और अविवाहित लड़कियों को अपने हाथ में तथा स्त्री को हाथ में मौलिका धागा बनाना चाहिए या अशुभ माना जाता है
Haath mein moolee ka dhaaga shanivaar aur mangalavaar ko hee baandhana chaahie aur shanivaar mangalavaar ko hee todana chaahie tha puraane vaale ko 7 din ya 5 din tak hamen yah dhaaga baandhana chaahie isake baad nyoo baandhana chaahie chaahie kyonki puraane vaala ashok ho jaata hai aur phir usake baad shubh karane ke lie hamen har mangalavaar aur shanivaar ko nyoo maulee dhaaga kaangada mein maulee dhaaga ka upayog karana chaahie tha mangalavaar aur shanivaar yah donon din bahut hee shubh maane jaate hain koee bhee kaary karane kaise daago ke kaam karane ke lie havan karane ke lie lekin ab shuroo aaj to budhavaar hota jis mein kabhee bhee koee bhee kaam kar sakate hain aur tha purush aur mahila mein yah samasya rahatee hai ki ham dhaaga kis haath ko band hua hai to is jay bheem aapako bataata hoon purush aur avivaahit ladakiyon ko apane haath mein tatha stree ko haath mein maulika dhaaga banaana chaahie ya ashubh maana jaata hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
हाथ में मोली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए?Haath Mein Moli Ka Dhaga Kitne Dinon Tak Bandhna Chaiye
अनन्या सिहं Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए अनन्या जी का जवाब
शिक्षारत
0:25
इसकी कोई फिक्स डेट नहीं होती है आप जब आपको लगता है कि यह कमजोर हो गया है या यह खराब हो गया अब अच्छा नहीं दिखता इसका कलर छूट चुका है और अब यह थोड़ा बहुत जैसे कि आधा केसर जाते हैं पुरानी हो जाती है कमजोर हो जाती है पानी में भीग देखकर तो ऐसा कर लगे तो आपको इसे काट कर निकाल देना चाहिए और फिर देना चाहिए क्योंकि ज्यादा दिन तक रहना भी अच्छी बात नहीं है
Isakee koee phiks det nahin hotee hai aap jab aapako lagata hai ki yah kamajor ho gaya hai ya yah kharaab ho gaya ab achchha nahin dikhata isaka kalar chhoot chuka hai aur ab yah thoda bahut jaise ki aadha kesar jaate hain puraanee ho jaatee hai kamajor ho jaatee hai paanee mein bheeg dekhakar to aisa kar lage to aapako ise kaat kar nikaal dena chaahie aur phir dena chaahie kyonki jyaada din tak rahana bhee achchhee baat nahin hai

bolkar speaker
हाथ में मोली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए?Haath Mein Moli Ka Dhaga Kitne Dinon Tak Bandhna Chaiye
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:23
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका दोस्तों आप का सवाल है हाथ में मूली का धागा कितने दिनों तक पढ़ना चाहिए तो दोस्तों आप हाथ में मूली का धागा जितनी आपकी श्रद्धा उतने दिन बन सकते हैं सब कुछ नहीं है 1 दिन बाद लीजिए एक हफ्ते बाद लीजिए 1 महीने मान लीजिए और बहुत सारे लोग तो इस साल साल भर तक बांधे रहते हैं तो आपको जितने दिन बांधना हो आप उसको बन सकते हैं धन्यवाद
Helo doston svaagat hai aapaka doston aap ka savaal hai haath mein moolee ka dhaaga kitane dinon tak padhana chaahie to doston aap haath mein moolee ka dhaaga jitanee aapakee shraddha utane din ban sakate hain sab kuchh nahin hai 1 din baad leejie ek haphte baad leejie 1 maheene maan leejie aur bahut saare log to is saal saal bhar tak baandhe rahate hain to aapako jitane din baandhana ho aap usako ban sakate hain dhanyavaad

bolkar speaker
हाथ में मोली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए?Haath Mein Moli Ka Dhaga Kitne Dinon Tak Bandhna Chaiye
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
1:00
हेलो नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है हाथ में मूली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए हाथ में जो धागा बांध है उसे देख लीजिए आपकी वह धागा जो है उसमें जो रे से निकलते हैं छोटे-छोटे हो और ऐसे ना निकलने पाए वह ईमेल होता है जो कि अगर इसे ज्यादा दिन निकलते हैं तो आपको इतने दिन तक उसे रखना पड़ता है अगर नहीं निकलते तो बहुत अच्छी बात है उसे निकालने की कोई जरूरत नहीं है लेकिन अक्सर ऐसा देखा जाता है कि 1 महीने 2 महीने बाद जो है उस धागे को निकाल देना चाहिए क्योंकि उसमें जो है छोटे-छोटे जो है वह जो पड़ने लगते हैं वैसे जो है लगने लगते हैं इसलिए उसका जो देखने का रंग होता है वह धूमिल हो जाता है इसी कारण जो है उसे उतार देना चाहिए आशा है कि आप को जवाब पसंद आया होगा शुक्रिया
Helo namaskaar jaisa ki aapaka prashn hai haath mein moolee ka dhaaga kitane dinon tak baandhana chaahie haath mein jo dhaaga baandh hai use dekh leejie aapakee vah dhaaga jo hai usamen jo re se nikalate hain chhote-chhote ho aur aise na nikalane pae vah eemel hota hai jo ki agar ise jyaada din nikalate hain to aapako itane din tak use rakhana padata hai agar nahin nikalate to bahut achchhee baat hai use nikaalane kee koee jaroorat nahin hai lekin aksar aisa dekha jaata hai ki 1 maheene 2 maheene baad jo hai us dhaage ko nikaal dena chaahie kyonki usamen jo hai chhote-chhote jo hai vah jo padane lagate hain vaise jo hai lagane lagate hain isalie usaka jo dekhane ka rang hota hai vah dhoomil ho jaata hai isee kaaran jo hai use utaar dena chaahie aasha hai ki aap ko javaab pasand aaya hoga shukriya

bolkar speaker
हाथ में मोली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए?Haath Mein Moli Ka Dhaga Kitne Dinon Tak Bandhna Chaiye
Aditya Tripathi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aditya जी का जवाब
Student
0:26
त्रिपाठी आपका प्रार्थना है कि हाथ में मूली का धागा कितने दिनों तक बनना चाहिए कहा जाता है कि हाथ में मोदी का धागा क्यों 7 दिनों तक ही मांगना चाहिए उसके बाद उसे बदल देना चाहिए और जल में विसर्जित कर देना चाहिए आप मोनिका धागा 7 दिनों तक खाली हाथ में बांधने और फिर उसे बदल दें धन्यवाद
Tripaathee aapaka praarthana hai ki haath mein moolee ka dhaaga kitane dinon tak banana chaahie kaha jaata hai ki haath mein modee ka dhaaga kyon 7 dinon tak hee maangana chaahie usake baad use badal dena chaahie aur jal mein visarjit kar dena chaahie aap monika dhaaga 7 dinon tak khaalee haath mein baandhane aur phir use badal den dhanyavaad

bolkar speaker
हाथ में मोली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए?Haath Mein Moli Ka Dhaga Kitne Dinon Tak Bandhna Chaiye
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
0:56
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि हाथ में मूली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए बहुत ही अच्छा प्रश्न तो दोस्तों मूली तब तक आप बांध है उसका असर तब तक प्रभाव में रहता है जब तक कि उसका रंग धूमिल ना हो जाए अगर वह लाल रंग चटक उस में रह रहा है दिखाई दे रहा है आपको तो उससे काफी सकारात्मक शक्तियां निकलती हैं और लाल रंग आत्मविश्वास को भी काफी बढ़ाता है जितने भी आप आईएएस ऑफिसर या बड़े-बड़े देखेंगे नेता है वह लाल रंग का प्रयोग करते हैं हमारे पूर्वजों ने उसी चीज को जोड़ दिया है तो उसका रंग गुलाल से कुछ अलग बदलने लग जाए पुराना टाइप में है तो नकारात्मक शक्तियां देता है तब उसको आप को काट के नया मूवी पहले रखिए मंदिर में जाकर किसी पंडित से कम नहीं आ नहीं संभव है तो आप घर में भी उसको स्वता भान सकते हैं बाकी आप को पूर्ण रूप से उसकी फिर से शक्तियां आपको प्राप्त होने लगेगी आप विश्वास बरकरार रहने लगेगा धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki haath mein moolee ka dhaaga kitane dinon tak baandhana chaahie bahut hee achchha prashn to doston moolee tab tak aap baandh hai usaka asar tab tak prabhaav mein rahata hai jab tak ki usaka rang dhoomil na ho jae agar vah laal rang chatak us mein rah raha hai dikhaee de raha hai aapako to usase kaaphee sakaaraatmak shaktiyaan nikalatee hain aur laal rang aatmavishvaas ko bhee kaaphee badhaata hai jitane bhee aap aaeeees ophisar ya bade-bade dekhenge neta hai vah laal rang ka prayog karate hain hamaare poorvajon ne usee cheej ko jod diya hai to usaka rang gulaal se kuchh alag badalane lag jae puraana taip mein hai to nakaaraatmak shaktiyaan deta hai tab usako aap ko kaat ke naya moovee pahale rakhie mandir mein jaakar kisee pandit se kam nahin aa nahin sambhav hai to aap ghar mein bhee usako svata bhaan sakate hain baakee aap ko poorn roop se usakee phir se shaktiyaan aapako praapt hone lagegee aap vishvaas barakaraar rahane lagega dhanyavaad

bolkar speaker
हाथ में मोली का धागा कितने दिनों तक बांधना चाहिए?Haath Mein Moli Ka Dhaga Kitne Dinon Tak Bandhna Chaiye
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:01
जब हम कोई आध्यात्मिक और धार्मिक कार्य करते हैं कथा सुनते हैं मंदिर में जाते हैं वहां पर सदस्य भगवान का स्मरण करते हैं तो वहां हमारे लिए बंधन दिया जाता है वह बंधन होता है आशीर्वाद का बंधन के बंधन जितने दिन तक आपके हाथ में रहेगा आपको प्रभु का आशीर्वाद प्रभु और आपके बीच का प्रकार से हाथ में बंधन होता है वह इसको मावली कहा जाते हैं तो माली का जो बंधन होता है कम से कम सवा महीने तक तो हाथ में रखना ही चाहिए वैसे अगर गंदा नहीं होता है उसमें कोई दिक्कत नहीं है तो आप जितना दिन अच्छा अच्छा लगे देखने में पहन सकते हैं लेकिन दीदी अगर एक आध्यात्मिक और मतलब उसको एक हम उसको दूसरे शब्दों में कह नहीं पा रहे हैं आध्यात्मिक तरीके से और भरोसे के तौर पर गर्म उसको पहनते हैं तो जितने दिन चल जाए नहीं तो कम से कम सवा महीने तो उसको हाथ में बांधे रहना ही चाहिए और यह एक विश्वास की बहुत बड़ी जीत होती है
Jab ham koee aadhyaatmik aur dhaarmik kaary karate hain katha sunate hain mandir mein jaate hain vahaan par sadasy bhagavaan ka smaran karate hain to vahaan hamaare lie bandhan diya jaata hai vah bandhan hota hai aasheervaad ka bandhan ke bandhan jitane din tak aapake haath mein rahega aapako prabhu ka aasheervaad prabhu aur aapake beech ka prakaar se haath mein bandhan hota hai vah isako maavalee kaha jaate hain to maalee ka jo bandhan hota hai kam se kam sava maheene tak to haath mein rakhana hee chaahie vaise agar ganda nahin hota hai usamen koee dikkat nahin hai to aap jitana din achchha achchha lage dekhane mein pahan sakate hain lekin deedee agar ek aadhyaatmik aur matalab usako ek ham usako doosare shabdon mein kah nahin pa rahe hain aadhyaatmik tareeke se aur bharose ke taur par garm usako pahanate hain to jitane din chal jae nahin to kam se kam sava maheene to usako haath mein baandhe rahana hee chaahie aur yah ek vishvaas kee bahut badee jeet hotee hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मौली का धागा मौली के धागे के बारे में जानकारी
URL copied to clipboard