#undefined

bolkar speaker

असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?

Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
असमानता दूर करने की करने के उपाय क्या है एक अच्छा सवाल पूछा दो तरह के दूध में क्या संबंध xp1 मेन भीड़ होती है और एक समानता है तो उन्हें और होनी भी चाहिए तभी जीवन जीने का अर्थ समझ में आ जाएगा और उसके बारे में सब बनाने वाली नई होगा सोचा ही है लेकिन कुछ कुर्ती माननीय मंत्री की हुई संबंध है इसका बहुत बड़ा डायरेक्टर राकेश मानता ही नहीं पड़ती को क्या समझता है भारत में जाति के नाम पर एक बहुत बड़ी समानता यानी विषमता की व्यवस्था खड़ी हुई पुरुष में असमान दरिया विकास और सलीम बहुत सारी अलग-अलग पिक्चर और समानता है या ज्यादा काशीपुर का शिकार हुआ क्या समानता है अच्छी भाषा के आधार पर ऊपर भी कुछ भाषा डायरेक्ट ईश्वर की भाषा बताई जाती है बाकी भाषा मानव की तो कुछ राक्षसों की भाषा में बताई जाती है यह भी एक समानता है इंटरनेशनल लॉजिस्टिक्स अंग्रेजी भाषा की भाषा संस्कृत भाषाओं के संदर्भ में असमानता है इंसान को सबसे ज्यादा इंसान का शोषण करने वाली आर्थिक क्षमता है सरपंच संपतिया पैसा सभी को किस समय से निर्माता है और उसका एक समय होता है मूल्य होता है यूं ही मन करता है उसको भी एक मूल्य मिलना मिलना चाहिए इसको शर्मा मूल्य करते हैं यह मार्च बार में है इसका मतलब यह नहीं हुआ कि मैं अक्सर लाइन बन गया यह सिद्धांत है और यह सभी श्रमिकों से संपत्ति की मांग करते उसको एक मित्र के रुप में पगार मिलता है और जो प्रॉफिट प्रॉफिट का मालिक श्रमिक नहीं होता सिर्फ मालिक होता है और उसके पास ही जमा हो जाता है और बढ़ता है और बढ़ता है और बढ़ता है इसको कैपिटल एंड उनके पंजाबी सिंगर उसको सिर्फ सन्नी सन्नी को वेतन दिया जाता है या नहीं उसका शोषण किया जाता है विषमता की खाई आर्थिक विषमता की बढ़ती जाती है एक तरफ पूरे विश्व में 10 लोगों के पास 80 90% धन होता है और बाकी नबी पशुओं के पास बचा हुआ दोहे पाठ संदेश भेजने के लिए जमीन और संपत्ति उसके अधिकारों में हो मर्यादा डालने के लिए और उसका अच्छी तरह से और न्यायिक डिस्ट्रीब्यूशन करने की व्यवस्था मार्क्सवाद में है लेकिन उसके नंबर एप्लीकेशन कभी की प्रॉब्लम से लेकिन वह पूरा डिटेल में उस में मूलभूत आर्थिक मदद कर दो सामाजिक बाकी सब जो है इसके बीच पूरी खड़े होने यादव बदल जाए तो बाकी बहुत सही बदल जाती है जमीन भी अच्छी तरह से बेस्ट बुक फॉर मी

और जवाब सुनें

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Umesh Upaadyay Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Umesh जी का जवाब
Life Coach | Motivational Speaker
5:51
रिया के सवाल है और समानता को दूर करने के उपाय क्या है जी पहली बात हुई है कि आज समानता है कहां पर उसको देखना पड़ेगा उसके बाद उसका उपाय करना पड़ेगा एक जनरल चीज हर जगह एप्लीकेबल नहीं होगी उसको अप्लाई नहीं किया जा सकता और समानता हमेशा बनी रहेगी कहीं पर भी देख लीजिए क्या समानता होती नहीं है आप घर में दो बच्चों के बारे में भी के बीच में देख लीजिए क्या समानता नहीं होती है एक भाई पढ़ने में तेज होगा एक पढ़ने में तेज नहीं होगा एक की रूचि खेलकूद में होगी दूसरे की नहीं होगी क्या वह बराबर हो सकते हैं मुश्किल है ना क्या आप उसको बराबर करना चाहेंगे जीने का टैलेंट होता है हां आप यह जरुर देखना चाहेंगे कि हां दूसरा वाला भी पढ़ने में ठीक ठाक हो जाए और उसके लिए क्या माहौल कराना है क्या करना है क्या करने की जरूरत है क्या किताब से क्या सपोर्ट चाहिए वह कराएंगे तो यह बढ़ाएं होता है कि कहां पर किस संदर्भ में हमा समानता की बात कर रहे हैं एक और नाम पर उठा लेते हैं हमें देखा होगा हम जानते हैं देखा हुआ क्या हम तो जानते ही हैं फूलों में सभी बच्चों की एक जैसी यूनिफॉर्म होती है ऐसे क्यों होती है चाहे वह गांव में जो चाहे वह प्राइवेट हो कोई भी स्कूल हो उसमें उस स्कूल का एक ड्रेस कोड होता है अब उस स्कूल में उस क्लास में एक अमीर व्यक्ति का बच्चा भी जाते हैं और एक गरीब का भी बचा बचा जाता है और यह छोटे से मतलब लो ओके जी आप अकेली ऐसे करके क्लास वन टू थ्री फोर फिगर के बच्चे जाते हैं अब उस समय क्या होता है बच्चे एक दूसरे को देखते हैं तो वह लंच बॉक्स टिफिन बॉक्स को भी देखते हैं बाघ को देखते हैं बोतल बोतल को देखते हैं अगर कपड़े उनके कुछ ऐसे होते हैं और यूनिफार्म के रूप में नहीं होते तो बच्चे उसको भी और सोचते कि मेरे पास ऐसा क्यों नहीं है क्योंकि एक अमीर का बच्चा आप बढ़िया कपड़े पहन कर आएगा और वहीं पर जिसके पास इतने पैसे नहीं है वह नॉर्मल सा कपड़ा पहनकर जाएगा तो ऐसा मानता को थोड़ा ब्रिज करने के लिए काम करने के लिए फूल ने बोला कि चलो एक ड्रेस कोड होना चाहिए अभी से खाली यही वाली एक बात की पूर्ति नहीं होती है और भी कई चीजों की पूर्ति होती है यह होता है कि हां इस स्कूल का एड्रेस कोड है बच्चे इस फ्लैट की ड्रेस कोट से या ईस्ट ऐड्रेस थे तभी जाएंगे पहचाने जाएंगे जाने जाएंगे कि आज से यह इस स्कूल का लड़का है या लड़की है दूसरी बात मानता थोड़ी कम हो जाएगी कि वह बच्चा यह नहीं देखेगा कि हां अच्छा कपड़ा अच्छा भैया जी राम राम सा चाय वगैरा-वगैरा वर्तमान तक कम हो जाएगी तो इस चीज को देखकर वहां पर किया गया अपने देश की बात करें किसी भी देश की बात करें तो जी जिसको जैसा माहौल मिला है जैसे संस्कार मिले हैं तो विधायक मिली है जिसको जितना बताया लगा है समझ आया है उसने उसका से प्यार किया है और अपने आप को इस दिशा में या उस सही दिशा में ले जाने का प्रयास किया है कोई धर सक्सेसफुल हुआ है कोई उधर सक्सेसफुल नहीं हुआ है कभी आते मानता तो होगी ना उसको क्या आप ब्रिज कर पाएंगे नहीं ना भाई हर इंसान है लगे ओके डार्लिंग डाला क्या माहौल अलग है अपेक्षा लगे इंटरेस्ट चला गया लाइक डिसलाइक चालाक है तो उसको अगर आप ब्रिज करना चाहेंगे तो क्या वह हो सकता है जीने नहीं हो सकता हाथ माता कहां पर आपको दिख सकती है भाई ऑर्गेनाइज है या कहीं और जगह पर है जहां पर आपको निरहुआ समानता की गुंजाइश को कम करना है तो उसको आप ब्रिज कर सकते हैं उसको आप देख सकते ऐसा मानते हैं कि आर्गेनाइजेशन में भी होती है ना कि भी प्रमोशन खरी लड़कों का नहीं होगा यह 3 लड़कियों का नहीं होगा भाई प्रमोशन के लिए एक क्राइटेरिया होगा अगर आपको क्राइटेरिया मीट करते हैं आपकी परफॉर्मेंस जैसी आती हो मेरे पीरियड टाइम तो देखने की आप को प्रमोट किया जाएगा और आपकी सैलरी हाइक होगी होता है ना तो यह हुआ एक आर्गेनाइजेशन में उसकी पॉलिसी अनुसार महीना 11 स्टैंडर्ड को कॉल किया जाए एक प्रोटोकॉल को फॉलो किया जाए और सबको वह पता भी होता है वह क्लियर भी होता है ट्रांसपेरेंट भी होता है पॉलिसी गाइडलाइंस में भी होता है तो हर इंसान को क्या प्रयत्न करता है अब समाज में एंड ओपन इन जनरल ऐसा कुछ नहीं आता है वह हमको खुद ही पता होता है क्या चाहिए क्या नहीं है हां जहां पर भी कुछ अगर करने की जरूरत होती है तो वह इंसान करता है चाहे वह कोई संस्था हो चाहे वह छोटा सा ग्रुप है अदर वाइज इंडिविजुअल के बीच में दो व्यक्तियों के बीच में उषा समानता को दूर नहीं कर सकते रात बाल अमीरी और गरीबी को कम करना और यह करना वह करना भी देखें इस को सरकार ने देखा गरम मैं उस लेवल पर बात करूं तो सरकार ने कहा कि चलो ठीक है भाई पिछड़े वर्ग को जहां पर थोड़ी दिक्कत होती थी यू नो काबिलियत नहीं थी आज तो उनको हम सरकारी कोटा देते हैं कि भाई कोटा के अंदर उनको हम सरकारी जॉब देंगे वगैरा वगैरा तो वहां पर वेट करने की कोशिश की गई लेकिन क्या हर जगह हर समय आई नो इस चीज को किया जा सकता है जिन्हें वह संभव नहीं है तो इसीलिए बड़ा इंपॉर्टेंट होता है कि आप कहां पर आ समानता को दूर करने के बारे में पूछ रही हैं तो अगर वह स्पष्ट बताएंगे तो हम उस बारे में सोच सकते हैं चिंतन कर सकते हैं बता सकते हैं कहीं पर आप कुछ भी नहीं कर सकते और कहीं पर यह जहां पर एक वाइट है वहां पर और बैठने की बहुत कुछ कर सकते हैं

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
shubham kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shubham जी का जवाब
Study
0:50
जो फ्रेंड थी सिर्फ शुभम कुमार आप सभी ने आश्वस्त किया है असमानता को दूर करने के क्या उपाय हैं असमानता दूर करने से पहले समानता को समझते हैं और समानता का मतलब हिंदी में सम्मान यात्रा वरना होने का अब हम इस तरह से कर सकते हैं एक तरफ ना होने का आभास होता है जानते हैं और आप के विषय में जाने के लिए सरकार बहुत अच्छी तरह से इसके बारे में क्या किया और भी बनती है मैं आशा करता हूं कि आप कोई जवाब पसंद आया होगा फिर मिलेंगे न्यूज़ वालों के साथ उसका सेंटर

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:59

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:59

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
RAJIV KUMAR YADAV Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए RAJIV जी का जवाब
Student
1:15
मित्रों असमानता को दूर करने का उपाय है निम्नलिखित उपाय हैं यदि आपको और समानता दूर करनी है तो हमें लोगों में भेदभाव ना करते हुए सभी लोगों को एक समान हमें देखना चाहिए किसी लोगों को विशेष दर्जा नहीं देना चाहिए सभी नागरिक की एक समान राय होनी चाहिए लोगों के विचारों ने चाहिए लोगों के बीच मतभेद नहीं होनी चाहिए और उनके बीच आपसी तालमेल होनी चाहिए जिससे और समानता है हम मनुष्यों के बीजों अमन असमानता बढ़ती जा रही है उसको कम किया जा सकता है अमेरिका दर से मानव बनकर समाज में यह सकते हैं लोगों को आदर्श पर जीने के लिए सिखा सकते हैं हमें लोगों से मिलजुल कर ही आना चाहिए मतभेद में नहीं रहना चाहिए क्योंकि यह एक अच्छे समाज का उद्धार हो ही नहीं सकता है कि जब हम लोगों को भी किसी को हम अपनी दृश्यता से देखेंगे लोगों के बीच इससे मतभेद होगा मतभेद समाज एक कलंक है इसलिए हमें मतभेद से दूर रहना होगा

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
असमानता दूर करने की करने के उपाय क्या है एक अच्छा सवाल पूछा दो तरह के दूध में क्या संबंध xp1 मेन भीड़ होती है और एक समानता है तो उन्हें और होनी भी चाहिए तभी जीवन जीने का अर्थ समझ में आ जाएगा और उसके बारे में सब बनाने वाली नई होगा सोचा ही है लेकिन कुछ कुर्ती माननीय मंत्री की हुई संबंध है इसका बहुत बड़ा डायरेक्टर राकेश मानता ही नहीं पड़ती को क्या समझता है भारत में जाति के नाम पर एक बहुत बड़ी समानता यानी विषमता की व्यवस्था खड़ी हुई पुरुष में असमान दरिया विकास और सलीम बहुत सारी अलग-अलग पिक्चर और समानता है या ज्यादा काशीपुर का शिकार हुआ क्या समानता है अच्छी भाषा के आधार पर ऊपर भी कुछ भाषा डायरेक्ट ईश्वर की भाषा बताई जाती है बाकी भाषा मानव की तो कुछ राक्षसों की भाषा में बताई जाती है यह भी एक समानता है इंटरनेशनल लॉजिस्टिक्स अंग्रेजी भाषा की भाषा संस्कृत भाषाओं के संदर्भ में असमानता है इंसान को सबसे ज्यादा इंसान का शोषण करने वाली आर्थिक क्षमता है सरपंच संपतिया पैसा सभी को किस समय से निर्माता है और उसका एक समय होता है मूल्य होता है यूं ही मन करता है उसको भी एक मूल्य मिलना मिलना चाहिए इसको शर्मा मूल्य करते हैं यह मार्च बार में है इसका मतलब यह नहीं हुआ कि मैं अक्सर लाइन बन गया यह सिद्धांत है और यह सभी श्रमिकों से संपत्ति की मांग करते उसको एक मित्र के रुप में पगार मिलता है और जो प्रॉफिट प्रॉफिट का मालिक श्रमिक नहीं होता सिर्फ मालिक होता है और उसके पास ही जमा हो जाता है और बढ़ता है और बढ़ता है और बढ़ता है इसको कैपिटल एंड उनके पंजाबी सिंगर उसको सिर्फ सन्नी सन्नी को वेतन दिया जाता है या नहीं उसका शोषण किया जाता है विषमता की खाई आर्थिक विषमता की बढ़ती जाती है एक तरफ पूरे विश्व में 10 लोगों के पास 80 90% धन होता है और बाकी नबी पशुओं के पास बचा हुआ दोहे पाठ संदेश भेजने के लिए जमीन और संपत्ति उसके अधिकारों में हो मर्यादा डालने के लिए और उसका अच्छी तरह से और न्यायिक डिस्ट्रीब्यूशन करने की व्यवस्था मार्क्सवाद में है लेकिन उसके नंबर एप्लीकेशन कभी की प्रॉब्लम से लेकिन वह पूरा डिटेल में उस में मूलभूत आर्थिक मदद कर दो सामाजिक बाकी सब जो है इसके बीच पूरी खड़े होने यादव बदल जाए तो बाकी बहुत सही बदल जाती है जमीन भी अच्छी तरह से बेस्ट बुक फॉर मी

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:34
यह है क्या समानता को दूर करने के उपाय क्या है असमानता को दूर करने के बहुत सारे उपाय है सबसे पहले तो आती है जाने की आशंका है कि शीघ्र ही आज के टाइम में हर चीज में समानता होनी चाहिए भाई बहनों से मिलता मिलती है तो भाई-भाई में मिलती है पूरी होती है कौन है कि वह टेस्ट में समानता मिलती है इसके लिए आपको कुछ करने के लिए मोटिवेट हुई है जाने क्या समझता क्यों है किस कारण से है मुसलमान का कोई जाने फिर उसको खत्म करें

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
2:28
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि असमानता को दूर करने के उपाय क्या है तो दोस्तों असमानता के जो दूर करने के उपाय मात्र किताबों में ही पाए जाते हैं उन किताबों में ही रह गए हैं तो दोस्तों जैसे कि सरकारी नौकरी में जो तनखा है व्यक्तियों की और प्राइवेट में खुशी के लिए जब तक बराबर नहीं रहेगी तब तक असमानता खत्म नहीं हो सकती है एक अध्यापक है मान लीजिए प्राइवेट स्कूल में बहुत सारे ऐसे स्कूल है सारे स्कूलों की बात नहीं करता जो स्केल देते हैं उनको मिलती हैं सैलरी और वही टीचर सरकारी में करता है तो उसको 80000 मिलती है तो 7000 का गैप है पूरी खाई इतनी बना देता है किसको पाठ पाना भी मुश्किल हो पाता है ऐसे ही सरकार की नीतियां भी है छोटा सा बताते हैं जैसे कोई व्यक्ति मोबाइल का रिचार्ज कराता है ₹10 का उसको 18 पर्सेंट जीएसटी देना पड़ेगा चाहे वह 1000 का कराता है उसको भी 18 पर्सेंट जीएसटी देना पड़ता है तो यह समानता गरीबी विचारा ₹10 का कोई करा रहा है तो उसको छूट देनी चाहिए उसकी जीएसटी कब होनी चाहिए बात कर लेते हैं जय मेडिक्लेम की मेडिक्लेम अगर 500000 का लेता है तो भी 18% जीएसटी देना है 2500000 का कराता है तो भी 18% जीएसटी देना है तो सरकार को चाहिए कि गरीबों का उत्थान करने के लिए आए की समानता को कम करने के लिए याद रखें उसमें स्टफ्स बनाती है लेकिन कई जगह उसे उद्योग घरानों को भी संतुष्ट करना होता है तो ऐसा नहीं करती है या उसको अपनी आय बढ़ाने होती है तो इसका दुष्परिणाम बहुत ज्यादा धीरे-धीरे शहरों में तो ज्यादा देखने को मिलता है चैन स्नैचिंग लूट गाड़ी चोरी होना लोग और आए परचेसिंग पास बहुत लोग इतनी बढ़ गई है कि लोगों को फर्क नहीं पड़ता ना ही कंप्लेंट दिखाते कंप्लेंट लिखवाई जाएंगे तो पुलिस वाले काम नहीं चलता रहेगा हो सकती है लोग तो सोच रहे हैं बहुत अच्छा चल रहा हूं बहुत अच्छा गाड़ी है तो दोस्तों हमें उसी समाज में रहना है इस समाज अगर आएंगे समंता कम नहीं हुई तो बहुत ही अच्छे लगते हो जाएगा अगर किसी के भरोसे नहीं हो तो दिन निश्चित रूप से रोटी छीन के ही खायेगा लिए सरकार को समाज को सोचना चाहिए कि आएंगे समानता को कैसे कम किया जा सके धन्यवाद

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Md Mahmud Alam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Md जी का जवाब
स्टूडेंट विद्यार्थी
0:30
आज का सवाल है असमानता को दूर करने का उपाय क्या है जनता को अगर उपाय दूर करना है तो सबसे पहले बातें अपनी सोच को बदलना होगा जब तक आपकी सोच में कुछ गड़बड़ है तब तक कुछ नहीं हो पाएगी धरती पर हर इंसान एक इंसान जन्म लिया है ना कि कोई हिंदू ना मुस्लिम है सामान कराने की थाली में क्या समानता ही दूर होगा और एक भाईचारा एक इंसानियत बनी रहेगी धन्यवाद

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
0:20
हाय फ्रेंड्स क्वेश्चन पूछने में क्या समानता को दूर करने के उपाय क्या है तो अभी के समय में अगर हम असमानता को दूर करना है तो हमें सरी के साथ जो सामान भावना से जाना जरूरी है क्योंकि सामान भावना से रहने पर ही जो है और समानता ओं को हम दूर कर सकते हैं

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
5:49
तमाली है कि ऐसा मानता उसको दूर करने के क्या उपाय हैं अंबेडकर ने अपने जीवन काल में असमानता दूर करने के लिए काफी संघर्ष किया और उसके लिए अनेकों उपाय बताए हैं उपयोग उपायों में से राजनीतिक प्रतिनिधित्व कोऑपरेटिव फार्मिंग आफ रिटायरमेंट और पैबाकू सोसायटी प्रमुख राजनीतिक प्रदर्शन डॉक्टर अंबेडकर मानते कि समाज में विभिन्न अल्पसंख्यक का मैदान का एक सरकार के विभिन्न अंगों में प्रसिद्ध प्रतिनिधित्व होना चाहिए उनके अनुसार अल्पसंख्यक तमिल समुदाय को अपना प्रतिनिधि खुद रख करना चाहिए का खजाना मायने नहीं रखता बल्कि वह साफ रखना मायने होता है अंबेडकर की है समझ ग्रीक दार्शनिक अरस्तु की समानता की परिभाषा ही दिखती है इस वजह से होती है क्योंकि मनुष्य आदेश देने का गुण लेकर पैदा होते हैं तो कुछ आदेश का पालन करने का आदेश का पालन करने का गुंडे का फायदा होता है उसको नेता सैनिक आदि बनने का अवसर नहीं मिलना चाहिए बल्कि उनकी बातों को आदेश देने का गुण पैदा हुए लोगों द्वारा उठाया जाना चाहिए प्राचीन 3 की अवधारणा आधुनिक समय में भी ऐसा मानता के कारकों में से एक है अंबेडकर इस अवधारणा को चुनौती देने के लिए ही कहते थे कि अल्पसंख्यकों को उनका मुद्दा खुद उठाने के लिए विभिन्न संस्थाओं में प्रतिनिधित्व दिया जाना चाहिए को फॉर में ज्ञानी सहकारी खेती आजादी से पहले भारत की ज्यादातर आबादी ग्रामीण थी यहां यहां आजीविका का मुख्य जरिया कृषि रही है लेकिन कृषि की जमीनों पर जमीदारों और कुछ जातियों का कब्जा था ज्यादातर ज्यादा भूमिहीन होती थी और मजदूरी और बेकारी करती थी आजादी की लड़ाई के दौरान देश-विदेश जमीदारी प्रथा का उन्मूलन करके भूमि सुधार लागू किए जाने वाला रास्ता कांग्रेस पार्टी करती थी अंबेडकर ने भी आजादी के भूमि सुधार लागू किए जाने का समर्थन किया था लेकिन उनके अनुसार भूमि सुधार लागू करने के बाद जो जमीन बच गए उस पर सरकार भूमिहीन जातियों से खेती कर आए और उस में पैदा हुई उपज को उस में कार्य करने वाले को जरूरत के हिसाब से बांट दें अंबेडकर के विचार उनकी किताब से और एंड माइनॉरिटी में मिलते हैं आजादी के बाद भूमि सुधार कानून की बड़ी दिक्कत होती टुकड़ों टुकड़ों में लागू हुआ लेकिन जब कोऑपरेटिव फार्मिंग को लागू करने का प्रस्ताव प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने कांग्रेस पार्टी के 1959 की आमसभा में रखा तो चौधरी चरण सिंह ने कांग्रेस के तमाम क्षेत्रीय नेताओं की मदद से उस प्रस्ताव का यह कहकर विरोध किया कि किसानों के हित में नहीं है अरे से खेती का औद्योगिकरण हो जाएगा परिणाम स्वरुप कोऑपरेटिव फार्मिंग कभी लागू नहीं हो सकती और उसके लिए उसके लिए जो जमीन निकली थी वह भी उच्च जातियों के कंपनी नहीं आती के दशक में कांशी राम उसी भूमि को भूमिहीन दलितों को देने के लिए जो जमीन सरकारी है वह जमीन हमारी है का नारा दिया शायद सेटलमेंट अंग्रेज भारत का अंग्रेजों ने जाति धर्म और गांव के देश पर के तौर पर समझा था गांव की व्यवस्था जजमानी प्रथा से चली आती आ रही थी आदत में एक जाति दूसरी जाति पर निर्भर होती थी इस निर्भरता की वजह से दलित जातियों का स्वर्ण जातियां विभिन्न प्रकार शोषण करती थी इस तरह के शोषण से निकलने के लिए आंबेडकर ने सेटलमेंट की मांग की दरअसल आंबेडकर गांव की को संकीर्णता सांप्रदायिकता और अज्ञानता का गण मानते थे उनके विचार महात्मा गांधी के गांव संबंधी विचार से बिल्कुल उलट है जो कि गांव को भारत की आत्मा मानते थे गांधीजी सोचते थे कि भारत में गांव प्राचीन काल से ही जिंदा है और उसकी आत्मा को बचाए हुए हैं आजादी के बाद गांव में दलितों की सामाजिक स्थिति के परिप्रेक्ष्य में अंबेडकर की योजना पर विचार किया जाए तो मैं काफी क्रांतिकारी लगती है गांव आधुनिक समाज की जरूरतों के हिसाब से बने ही नहीं थे जिस वजह से उनमें रास्ते पानी की निकासी आदि की व्यवस्था नहीं रही ऐसे में वहां गंदगी आदि बनी रही जो तमाम तरह की बीमारियों का कारक बनी अब इन बातों को ध्यान में रखते हुए अंबेडकर के साथ-साथ रेट सेटलमेंट की आईडिया को देखा जाए तो यह कहा जा सकता है कि वह आधुनिक सुख-सुविधाओं के लिस्ट नया कुछ नया बसाना चाहते रहेंगे आज तो गुरु रविदास के शब्दों में बेगमपुरा कहा जा सकता है आप पर बात तो सोसाइटी अंबेडकर के बारे में अक्सर यह आलोचना की जाती है यह समानता मिटाने के लिए उनके विचार सरकार पर ज्यादा समाज पर कम निर्भर थे जबकि ऐसा नहीं था अंबेडकर सरकार की सीमाओं से काफी परिचित दिखते थे जिसकी वजह से ही उन्होंने अपने समाज के नौकरी पेशा मुझसे कहा कि बाकियों को उठाने के लिए आर्थिक रूप से मदद करें जिसे बापू सोसायटी कहा जाता है यह विचार आज भी प्रासंगिक है आज के समय में भी ऐसा मानता मिटाने के लिए प्रतिनिधित्व का सिद्धांत और पर बैक टो सोसायटी की उपयोगिता पर कोई संदेह नहीं है पिछले कुछ साल से पर्यावरण संरक्षण की वैश्विक बहस में समाधान पर भी बात की जाने लगी है कि तमाम छोटी-छोटी जगहों से उठाकर लोगों को आधुनिक सुविधाओं से लैस बड़ी जगहों पर बताया जाए और खाली जगहों पर रे रोड वगैरह लगाए जाए देखा जाते अंबेडकर के साथ रेट सेटलमेंट जैसे ही काफी कुछ दिखता है ऐसे में हर एक लोगों को अपने अपने विचार बदलने की भी जरूरत है किसी भी किसी को भी छोटा या बड़ा ना समझे

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Rahul chaudhary Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:17
समाज में ऊंच-नीच धर्म के आधार पर जड़ से खत्म करना है एकमात्र तरीका है वह सब लोग शिक्षा ग्रहण करेंगे तो उसने किया तुमे पता रहेगा तो पुराने समय में चलती है भगवान ने सभी इंसान को सम्मान बनाए हैं उनके साथ बैठकर आज के टाइम में भी पॉलिटिशन करते हैं उसका प्रभाव बाधा को दूर करने के लिए कितनी गंदी क्या सही है और क्या गलत है धन्यवाद

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
2:47
सवाल असमानता को दूर करने के उपाय क्या है दोस्तों ऐसा मानता यह कैसा शब्द है जब भी यह आता है तो महिला पुरुष के बीच में अंतर जातियों के अंदर और इसके अतिरिक्त दोस्तों सामुदायिक तौर पर ऐसा मानता ही हम तेर सकती सबसे पहले हमारे शहर के अंदर जाते रहेंगे वही जाती है बताएं महिला पुरुष में भेदभाव काले गोरे इत्यादि चीजों को दूर करने के उपाय जी आपको ऐसा मानता दूर करनी है तो उसकी जो पैदा करने वाली भारतीय देश के अंदर 206 समानता दूर करने का उपाय क्या है जब तक जब तक नहीं होगी क्योंकि हम जानते हैं कि धीरे-धीरे जो एजुकेशन सिस्टम उन्नत होते हुए जा रहे हैं महिला विश्वविद्यालय पुरुष और इन को कानूनी लग गई है जिसके चलते यह लोग आज भी दूर रख कर के सामने देखा दोस्तों अमेरिका का महिलाओं के प्रति भेदभाव होता हर तरीके से शुद्ध ब्राह्मण क्षत्रिय वैश्य सब एक ही थाली के हैं इनका जन्म में दोस्तों उनका जन्म सबका एक कीड़े चाहिए मानव बने हैं बंदरी के शुरुआत में वाक्य व्यवस्था है जो एक कार्य आपको बदले गई है जब तक इस चीजों की स्थिति चाहे दोस्तों पाठ्यक्रम स्कूली पाठ्यक्रम और कॉलेज लाइफ की जो पाठ्यक्रम में जुड़ जाएगा ऐसा मानता ही दिया में दूर करनी है तो में समानता की बात करनी होगी और साथी चाहते किस चीज का भी ध्यान रखना पड़ेगा कि उस चीज को इस तरीके से बांटा जाए कि सबको नौकरी मिलेगी समंदर भी लगे अब कुछ लोग कहेंगे कि आरक्षण के मुद्दे को उठाने का काम जो आरक्षण करता है तो आरक्षण को समानता लाने का जरिया क्योंकि इंस्टिट्यूट के आर्टिकल 64 के अंदर यह बिल्कुल लिखा हुआ है कि आरक्षण तो यह समानता लाने के लिए है तो दोस्तों यह भी समानता लाने के लिए

bolkar speaker
असमानता को दूर करने के उपाय क्या हैं?Asamaanata Ko Door Karane Ke Upaay Kya Hain
मनोज कुमार यादव Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए मनोज जी का जवाब
कृषक 🌾🌾🌾🌾
0:36
नमस्कार मित्रों जैसे आपका प्रश्न है उस माता को दूर करने के उपाय क्या है तो देखें मित्रों बहुत सारे उपाय हैं लेकिन स्वयं इसे अपनाना पड़ेगा पहला नंबर आप कोई भी काम करते हैं तो सिर में धीरज रखिए दूसरी बात यह होते हैं कि आप अपने अंदर में कभी भी छल कपट ना लाए कभी सोचे नहीं ज्यादा इससे आपके लिए अस्मिता टेंशन ज्यादा होगा इसे दूर करने के लिए आप मन में ज्यादा सोचना लायक कोई भी काम कर रहे हैं तो उसके लिए आप इतना ही ना सोचें उसके बारे में जो कि आपके लिए ही हानिकारक है धन्यवाद

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • असमानता का क्या अर्थ है, असमानता के कारण, असमानता को कैसे दूर करे
URL copied to clipboard