#भारत की राजनीति

bolkar speaker

क्या सरकार और किसान का अन्दोलन जल्द खत्म होगा?

Kya Sarkar Aur Kisan Ka Andolan Jald Khatam Hoga
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:52
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है क्या सरकार और किसानों का आंदोलन जल्द खत्म होगा तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर यह है सरकार और किसानों का आंदोलन जल्दी खत्म नहीं होगा क्योंकि हमारे देश की सरकार किसानों की मांग को नहीं मान रही है बार-बार में और मीटिंग के दौरान बात को आगे से आगे बढ़ाया जा रहा है जो किसानों की मांग यह है यह तीन जो काले कानून बनाए हैं इनको वापस लिया जाए और नए सिरे से कानून बनाया जाए जिसमें किसानों के एमएसपी की पूरी गारंटी हो कब तक है यह आंदोलन खत्म नहीं होगा धन्यवाद दोस्तों
Namaskaar doston aapaka savaal hai kya sarakaar aur kisaanon ka aandolan jald khatm hoga to doston aapake savaal ka uttar yah hai sarakaar aur kisaanon ka aandolan jaldee khatm nahin hoga kyonki hamaare desh kee sarakaar kisaanon kee maang ko nahin maan rahee hai baar-baar mein aur meeting ke dauraan baat ko aage se aage badhaaya ja raha hai jo kisaanon kee maang yah hai yah teen jo kaale kaanoon banae hain inako vaapas liya jae aur nae sire se kaanoon banaaya jae jisamen kisaanon ke emesapee kee pooree gaarantee ho kab tak hai yah aandolan khatm nahin hoga dhanyavaad doston

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या सरकार और किसान का अन्दोलन जल्द खत्म होगा?Kya Sarkar Aur Kisan Ka Andolan Jald Khatam Hoga
Mohitrajput Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohitrajput जी का जवाब
Unknown
0:38
तो आपने पूछा है कि सरकार और किसान का आंदोलन जल्दी खत्म हो जाएगा तो मैं नहीं कह सकता इसका नहीं होगा कि सरकार क्यों नहीं करती सरकार सारे नियम और कानून हमारे किसानों के क्यों नहीं मानती हर बार यही होता है शायद एक बार किसान भी पीछे हटने वाले हर बार हटते हैं वह लोग उनकी भी कुछ है जो निभानी होती है मेरे साथ
To aapane poochha hai ki sarakaar aur kisaan ka aandolan jaldee khatm ho jaega to main nahin kah sakata isaka nahin hoga ki sarakaar kyon nahin karatee sarakaar saare niyam aur kaanoon hamaare kisaanon ke kyon nahin maanatee har baar yahee hota hai shaayad ek baar kisaan bhee peechhe hatane vaale har baar hatate hain vah log unakee bhee kuchh hai jo nibhaanee hotee hai mere saath

bolkar speaker
क्या सरकार और किसान का अन्दोलन जल्द खत्म होगा?Kya Sarkar Aur Kisan Ka Andolan Jald Khatam Hoga
RAJIV KUMAR YADAV Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए RAJIV जी का जवाब
Student
0:45
आपका प्रश्न है क्या सरकार और किसान का आंदोलन जल्द खत्म होगा तो देखिए हमारे किसान भाइयों बहुत दिनों से अपने मां को लेकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराए हुए हैं और अपनी मांगों को पूरा करने के लिए सरकार को अपने आंदोलन के माध्यम से बता रही है सरकार को इस आंदोलन के बारे में किसान की इतनी समस्याओं को देखते हुए सरकार खुद जरूर जल्द से जल्द कदम उठाना चाहिए और किसानों के आंदोलन को खत्म करने चाहिए उनके मांगों को पूरा किया जा सके जिससे किसान आंदोलन की समाप्ति हो सके
Aapaka prashn hai kya sarakaar aur kisaan ka aandolan jald khatm hoga to dekhie hamaare kisaan bhaiyon bahut dinon se apane maan ko lekar apanee upasthiti darj karae hue hain aur apanee maangon ko poora karane ke lie sarakaar ko apane aandolan ke maadhyam se bata rahee hai sarakaar ko is aandolan ke baare mein kisaan kee itanee samasyaon ko dekhate hue sarakaar khud jaroor jald se jald kadam uthaana chaahie aur kisaanon ke aandolan ko khatm karane chaahie unake maangon ko poora kiya ja sake jisase kisaan aandolan kee samaapti ho sake

bolkar speaker
क्या सरकार और किसान का अन्दोलन जल्द खत्म होगा?Kya Sarkar Aur Kisan Ka Andolan Jald Khatam Hoga
Ashok Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए Ashok जी का जवाब
कृषक👳💦
3:29
देखी दोस्तों राजधानी दिल्ली की सीमा पर पिछले कई दिनों से पंजाब हरियाणा और कुछ चंदन राज्यों के किसान प्रदर्शन कर रहे हैं यह किसान अध्यादेश के जरिए बनाए गए तीनों नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं ऐसे में किसानों का आंदोलन दिल्ली और एनसीआर के लोगों के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है किसानों द्वारा दिल्ली के बॉर्डर पर रास्ता जाम किए जाने से आज हर कोई यह जानने को इच्छुक है यह आंदोलन कब खत्म होगा ज्योतिष के जानकारों के अनुसार किसान आंदोलन को लेकर जो ग्रहों की स्थिति बन रही है उसे देखकर लगता है कि आंदोलन 20 जनवरी 2021 तक खत्म हो जाना चाहिए जिसमें दोनों ही पक्ष अपनी अपनी बातों में आ रहा है संदेशों को मिटाकर इसका हल निकाल लेंगे इसमें जहां कुछ पक्षों पर सरकार किसानों की बातों को मान लेगी वहीं किसान भी कुछ बदलावों के साथ इन कानूनों पर सहमत हो जाएंगे भाई इस दौरान कुछ ग्रह इस आंदोलन को और आगे बढ़ने पर न्यायालय के हस्तक्षेप की ओर भी इशारा कर रहे हैं इसकी स्थिति किसानों के लिए परेशानी का कारण बन सकती है लेकिन ऐसी संभावना कम ही देख रही है ज्योतिष के जानकारों के अनुसार ग्रहों की चाल साफ इशारा कर रही है कि किसान आंदोलन देश के लिए एक बड़ी स्थिति को साफ करेगा जिसके तहत किसानों के बीच कई गैर किसानों पर भी कार्रवाई के संकेत मिल रहे हैं भारत की संसद ने 20 और 22 सितंबर 2020 को कृषि संबंधी तीन विधेयकों को पारित किया जिन्हें भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 27 सितंबर को मंजूरी दे दी इसके बाद यह तीनों कानून बन गए किसान इन कानूनों के प्रावधानों के विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं तीनों कानूनी कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य यानी संवर्धन बाद सरलीकरण कानून 2020 के साथ यानी कि सशक्तिकरण व संरक्षण कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार कानून 2020 आवश्यक वस्तु यानी संशोधन कानून 2020 इन कानूनों के तहत किसान अपनी कृषि उत्पादों की खरीद बिक्री एपीएमसी मंडी से अलग खुले बाजार में भी कर सकते हैं किसान इसी मुद्दे पर सबसे ज्यादा विरोध कर रहे हैं दिल्ली के बॉर्डर पर दिन-रात बैठे किसान तीनों कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं जबकि केंद्र सरकार कानून के कुछ विवादास्पद के शो में संशोधन के लिए तैयार है इससे पहले इन किसानों ने बीते 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया था जैसे करीब दो दर्जन विपक्षी राजनीतिक पार्टियां और विभिन्न किसान संगठनों का समर्थन मिला था फिलहाल दिल्ली के बॉर्डर पर दिन-रात बैठे किसान तीनों कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहा है जबकि केंद्र सरकार कानून के कुछ विवाद आत्मा के शो में संशोधन के लिए तैयार है सरकार यह भी दावा कर रही है कि कानूनों से किसानों का कोई नुकसान नहीं होगा धन्यवाद
Dekhee doston raajadhaanee dillee kee seema par pichhale kaee dinon se panjaab hariyaana aur kuchh chandan raajyon ke kisaan pradarshan kar rahe hain yah kisaan adhyaadesh ke jarie banae gae teenon nae krshi kaanoonon ko vaapas lene kee maang kar rahe hain aise mein kisaanon ka aandolan dillee aur enaseeaar ke logon ke lie pareshaanee ka sabab banata ja raha hai kisaanon dvaara dillee ke bordar par raasta jaam kie jaane se aaj har koee yah jaanane ko ichchhuk hai yah aandolan kab khatm hoga jyotish ke jaanakaaron ke anusaar kisaan aandolan ko lekar jo grahon kee sthiti ban rahee hai use dekhakar lagata hai ki aandolan 20 janavaree 2021 tak khatm ho jaana chaahie jisamen donon hee paksh apanee apanee baaton mein aa raha hai sandeshon ko mitaakar isaka hal nikaal lenge isamen jahaan kuchh pakshon par sarakaar kisaanon kee baaton ko maan legee vaheen kisaan bhee kuchh badalaavon ke saath in kaanoonon par sahamat ho jaenge bhaee is dauraan kuchh grah is aandolan ko aur aage badhane par nyaayaalay ke hastakshep kee or bhee ishaara kar rahe hain isakee sthiti kisaanon ke lie pareshaanee ka kaaran ban sakatee hai lekin aisee sambhaavana kam hee dekh rahee hai jyotish ke jaanakaaron ke anusaar grahon kee chaal saaph ishaara kar rahee hai ki kisaan aandolan desh ke lie ek badee sthiti ko saaph karega jisake tahat kisaanon ke beech kaee gair kisaanon par bhee kaarravaee ke sanket mil rahe hain bhaarat kee sansad ne 20 aur 22 sitambar 2020 ko krshi sambandhee teen vidheyakon ko paarit kiya jinhen bhaarat ke raashtrapati raamanaath kovind ne 27 sitambar ko manjooree de dee isake baad yah teenon kaanoon ban gae kisaan in kaanoonon ke praavadhaanon ke virodh pradarshan kar rahe hain teenon kaanoonee krshak upaj vyaapaar aur vaanijy yaanee sanvardhan baad saraleekaran kaanoon 2020 ke saath yaanee ki sashaktikaran va sanrakshan keemat aashvaasan aur krshi seva par karaar kaanoon 2020 aavashyak vastu yaanee sanshodhan kaanoon 2020 in kaanoonon ke tahat kisaan apanee krshi utpaadon kee khareed bikree epeeemasee mandee se alag khule baajaar mein bhee kar sakate hain kisaan isee mudde par sabase jyaada virodh kar rahe hain dillee ke bordar par din-raat baithe kisaan teenon kaanoonon ko vaapas lene kee maang kar rahe hain jabaki kendr sarakaar kaanoon ke kuchh vivaadaaspad ke sho mein sanshodhan ke lie taiyaar hai isase pahale in kisaanon ne beete 8 disambar ko bhaarat band ka aahvaan kiya tha jaise kareeb do darjan vipakshee raajaneetik paartiyaan aur vibhinn kisaan sangathanon ka samarthan mila tha philahaal dillee ke bordar par din-raat baithe kisaan teenon kaanoonon ko vaapas lene kee maang kar raha hai jabaki kendr sarakaar kaanoon ke kuchh vivaad aatma ke sho mein sanshodhan ke lie taiyaar hai sarakaar yah bhee daava kar rahee hai ki kaanoonon se kisaanon ka koee nukasaan nahin hoga dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • सरकार और किसान का आंदोलन किसान विरोधी बिल
URL copied to clipboard