#undefined

bolkar speaker

मिट्टी के घड़े का पानी स्वास्थ्यवर्धक क्यों बताया गया है?

Mitti Ke Ghade Ka Paani Svasthyavardhak Kyo Bataya Gaya Hai
Dr.Pragya Tiwari Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Dr.Pragya जी का जवाब
Medical student (future doctor)
0:31
मिट्टी का घड़ा जो होता है वह एकदम नेशनल सब टाइम से बना हुआ होता है और इसमें जब हम पानी को ठंडा करते हैं तो एकदम नेट चली और एक लिमिट तक पानी ठंडा होता है इसमें कोई भी एक ट्रांसपोर्ट अपना नहीं होता है जिसके कारण जो पानी है उसकी क्वालिटी में कोई चेंज नहीं आते हैं साथ ही साथ मिट्टी के जो मिनरल्स और नहीं होते हैं वह भी उस पानी में ऐड होते हैं इसीलिए मिट्टी के घड़े का पानी स्वास्थ्यवर्धक माना गया है
Mittee ka ghada jo hota hai vah ekadam neshanal sab taim se bana hua hota hai aur isamen jab ham paanee ko thanda karate hain to ekadam net chalee aur ek limit tak paanee thanda hota hai isamen koee bhee ek traansaport apana nahin hota hai jisake kaaran jo paanee hai usakee kvaalitee mein koee chenj nahin aate hain saath hee saath mittee ke jo minarals aur nahin hote hain vah bhee us paanee mein aid hote hain iseelie mittee ke ghade ka paanee svaasthyavardhak maana gaya hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • घड़े का पानी पीने के फायदे, मिट्टी के घड़े का पानी पीने के फायदे, घड़े का पानी पीने के लाभ
URL copied to clipboard