#जीवन शैली

bolkar speaker

क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?

Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:31
क्या करें कि आज के चोरी और डकैती पड़ी थी घर है क्योंकि आज के टाइम में हर एक चीज बहुत महंगा होता जा रहा है 2 लीटर दूध में सिर्फ 1 लीटर पेट्रोल जाए तो आप सो सकते हैं कितनी महंगाई जब हो गई है जहां के लिए ₹500 में एलपीजी गैस लेते थे वह 809 सो रुपए लगाकर फिजिकली है तो हर कोई चाहता है कि मुझे अब फ्री में चीजें मिले क्योंकि किसी के पास इतना पैसा नहीं तेरे खर्चे पर चोरी होता है
Kya karen ki aaj ke choree aur dakaitee padee thee ghar hai kyonki aaj ke taim mein har ek cheej bahut mahanga hota ja raha hai 2 leetar doodh mein sirph 1 leetar petrol jae to aap so sakate hain kitanee mahangaee jab ho gaee hai jahaan ke lie ₹500 mein elapeejee gais lete the vah 809 so rupe lagaakar phijikalee hai to har koee chaahata hai ki mujhe ab phree mein cheejen mile kyonki kisee ke paas itana paisa nahin tere kharche par choree hota hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:59
नमस्कार दोस्तों प्रश्न किया गया कि क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है तो दोस्तों जैसा कि आप साथ में बच्चों को पढ़ाया जाता है कि आय की असमानता तो सबसे ज्यादा जो है दोस्तों हमारे यहां आय की असमानता भारत में चरम सीमा पर है बात करें सरकारी नौकरी वालों की तो दिन पर दिन इस खेल बढ़ते जाते हैं लाख-लाख रुपए की सैलरी हो चुकी है गरीब आदमी गरीब मजदूर 8 से ₹10000 में कमाई कर रहा है तो दोस्त मानता है काफी बीच में गड्ढा हो जाता है तो मान लो किसी के पास खाने को नहीं है तो उसके पास कोई ऑप्शन नहीं आया तो वह तड़प तड़प के मर जाए या लूट के खा ले उसके खाने में मजा आता है तो बहुत ही मजा आने लग जाता है मैंने दिल्ली शहर में देखा देखा है कि लोगों की काफी आमदनी बढ़ गई है या चाय सरकारी के रूप में हो चाहे व्यापार से बड़ी हो चेन स्नेचिंग आम बात हो जाती है लेकिन कोई कंप्लेंट भी लिखवाता है क्योंकि उसकी परचेसिंग पावर काफी बढ़ चुकी होती है उसको वह होता है क्या पुलिस के 44 की कोई बात नहीं आ जाएगी तो निश्चित रूप से अपराध बढ़ेंगे और इस में निश्चित रूप से पुलिस का रवैया भी हम नकार नहीं सकते आजकल साइबर फ्रॉड हो रहे हैं आप देख रहे होंगे एक प्रकार का डकैती से भी ज्यादा बड़ा फ्रॉड है लेकिन सी कंप्लेंट ही नहीं लिखी जाती है उसको फ्रॉड को पकड़ना भारत में कहीं पैसा उसमें ट्रांसफर कराया है तो तुरंत एक्शन ले कर उसको पकड़ा जा सकता है ब्रॉड करने नहीं पता है कि हमारे कानूनी व्यवस्था चरमराई हुई है आधे लोग तो कंप्लेंट भी नहीं लिख पाते जो कमरे लिखवाने जाते हैं उनकी लिखी नहीं जाती है कोई शक्तिशाली व्यक्ति होता है तो एक दो परसेंट लिख दी जाती है उसके शिकार ऐसा नहीं होता कि पुलिस वाले नहीं होते वह भी शिकार होते हैं तंत्र अच्छा रहेगा तो अंकुश लगाया जा सकता है लेकिन आय की असमानता को सरकार का काम नहीं करेगी विकास बस दिखाएगी की अमीरों का ही विकास हो रहा है तो उससे भी भयावह स्थिति आगे हो सकती है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn kiya gaya ki kya kaaran hai aajakal choree aur dakaitee badhatee hee ja rahee hai to doston jaisa ki aap saath mein bachchon ko padhaaya jaata hai ki aay kee asamaanata to sabase jyaada jo hai doston hamaare yahaan aay kee asamaanata bhaarat mein charam seema par hai baat karen sarakaaree naukaree vaalon kee to din par din is khel badhate jaate hain laakh-laakh rupe kee sailaree ho chukee hai gareeb aadamee gareeb majadoor 8 se ₹10000 mein kamaee kar raha hai to dost maanata hai kaaphee beech mein gaddha ho jaata hai to maan lo kisee ke paas khaane ko nahin hai to usake paas koee opshan nahin aaya to vah tadap tadap ke mar jae ya loot ke kha le usake khaane mein maja aata hai to bahut hee maja aane lag jaata hai mainne dillee shahar mein dekha dekha hai ki logon kee kaaphee aamadanee badh gaee hai ya chaay sarakaaree ke roop mein ho chaahe vyaapaar se badee ho chen sneching aam baat ho jaatee hai lekin koee kamplent bhee likhavaata hai kyonki usakee parachesing paavar kaaphee badh chukee hotee hai usako vah hota hai kya pulis ke 44 kee koee baat nahin aa jaegee to nishchit roop se aparaadh badhenge aur is mein nishchit roop se pulis ka ravaiya bhee ham nakaar nahin sakate aajakal saibar phrod ho rahe hain aap dekh rahe honge ek prakaar ka dakaitee se bhee jyaada bada phrod hai lekin see kamplent hee nahin likhee jaatee hai usako phrod ko pakadana bhaarat mein kaheen paisa usamen traansaphar karaaya hai to turant ekshan le kar usako pakada ja sakata hai brod karane nahin pata hai ki hamaare kaanoonee vyavastha charamaraee huee hai aadhe log to kamplent bhee nahin likh paate jo kamare likhavaane jaate hain unakee likhee nahin jaatee hai koee shaktishaalee vyakti hota hai to ek do parasent likh dee jaatee hai usake shikaar aisa nahin hota ki pulis vaale nahin hote vah bhee shikaar hote hain tantr achchha rahega to ankush lagaaya ja sakata hai lekin aay kee asamaanata ko sarakaar ka kaam nahin karegee vikaas bas dikhaegee kee ameeron ka hee vikaas ho raha hai to usase bhee bhayaavah sthiti aage ho sakatee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Anand Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Anand जी का जवाब
Mathematics Teacher
0:27
वाला क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती जा रही है कि चोरी और डकैती का जो मामले हमारे सामने आते हैं उसका कारण सबसे बड़ा यह है महंगाई जो लोग महंगाई का सामना नहीं कर पाते हैं जिनको पैसे की आवश्यकता होती है उनके पास विकल्प होते हैं चोरी और डकैती जी महंगाई के कारण आजकल के मामले बढ़ते जा रहे हैं
Vaala kya kaaran hai aajakal choree aur dakaitee badhatee ja rahee hai ki choree aur dakaitee ka jo maamale hamaare saamane aate hain usaka kaaran sabase bada yah hai mahangaee jo log mahangaee ka saamana nahin kar paate hain jinako paise kee aavashyakata hotee hai unake paas vikalp hote hain choree aur dakaitee jee mahangaee ke kaaran aajakal ke maamale badhate ja rahe hain

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Bhavesh Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Bhavesh जी का जवाब
West Bengal India is Great
0:35
क्या कारण है कि आजकल चोरी डकैती बढ़ती जाए तो कारण ही आज कल का दिखावा फेस में जो कि लोगों को दिखाते हैं कि मैं यह कहता हूं कि करता हूं करता हूं मेरे पास गाड़ी घोड़े है तो लोग बोल चुकी है उसको तो ज्यादा तब उसको कुछ करने की जरूरत क्या है वह तो ऐसा नहीं सोचता है आज तो हम देख रहा था इसको दो महीना पहले इसको कुछ नहीं था तो गाड़ी ले लिया अरे कपड़ा बंद कर बाजार शॉपिंग करा ला रहा है तो भैया माल पानी तो अंदर होगा तो क्या करेगा
Kya kaaran hai ki aajakal choree dakaitee badhatee jae to kaaran hee aaj kal ka dikhaava phes mein jo ki logon ko dikhaate hain ki main yah kahata hoon ki karata hoon karata hoon mere paas gaadee ghode hai to log bol chukee hai usako to jyaada tab usako kuchh karane kee jaroorat kya hai vah to aisa nahin sochata hai aaj to ham dekh raha tha isako do maheena pahale isako kuchh nahin tha to gaadee le liya are kapada band kar baajaar shoping kara la raha hai to bhaiya maal paanee to andar hoga to kya karega

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:25
सवाल क्या कारण है कि आज तक चोरी डकैती बढ़ती जा रही है तो रोजगार जिसका जितना हो राजा 2016 को जाना पड़ता है गवर्नमेंट की चोरी डकैती
Savaal kya kaaran hai ki aaj tak choree dakaitee badhatee ja rahee hai to rojagaar jisaka jitana ho raaja 2016 ko jaana padata hai gavarnament kee choree dakaitee

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
मनीष कुमार Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए मनीष जी का जवाब
किसान
0:42
चोरी हो रही थी बढ़ती जा रही है आजकल हां सही बात है आजकल तो सिस्टम चल रहा है उसके हिसाब से चोरी और डकैती बहुत ज्यादा पड़ रही है क्योंकि पढ़े लिखे इंसान आजकल वह यही तरीका अपनाते चोरी करने का उड़द खेती करने का और उसने उनके पास कुछ काम नहीं है क्योंकि वह दिमाग के अपना घुमाते हैं कैसे क्या करना है पैसों की उन को सख्त जरूरत होती है उनकी करके उनकी दिनचर्या ऐसी है कि उनको इतनी पैसे चाहिए और वह वही जरिया बनाते हैं कि डकैती और चोरी करें और उनको कुछ दिखता नहीं है उनके खर्चे आजकल खर्चे जितनी ज्यादा बढ़ गए हैं उस पर जो की वजह से नौजवान युवा है वह चोरी और डकैती करते हैं
Choree ho rahee thee badhatee ja rahee hai aajakal haan sahee baat hai aajakal to sistam chal raha hai usake hisaab se choree aur dakaitee bahut jyaada pad rahee hai kyonki padhe likhe insaan aajakal vah yahee tareeka apanaate choree karane ka udad khetee karane ka aur usane unake paas kuchh kaam nahin hai kyonki vah dimaag ke apana ghumaate hain kaise kya karana hai paison kee un ko sakht jaroorat hotee hai unakee karake unakee dinacharya aisee hai ki unako itanee paise chaahie aur vah vahee jariya banaate hain ki dakaitee aur choree karen aur unako kuchh dikhata nahin hai unake kharche aajakal kharche jitanee jyaada badh gae hain us par jo kee vajah se naujavaan yuva hai vah choree aur dakaitee karate hain

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:27
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका आपका प्रश्न है क्या कारण है कि आजकल छोरी और रो कर कहती बढ़ती जा रही है तो सेंड से जिस तरह से देश में बेरोजगारी है और युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है तो वह गलत रास्ते अपना रहे हैं व चोरी डकैती की तरफ जा रहे हैं और यह गलत मानसिकता वाले लोग भी ऐसा चोरी डकैती करते हैं हमारे देश की जनसंख्या ज्यादा है और यहां पर उसने रोजगार नहीं है इसलिए क्राइम बढ़ता जा रहा है धन्यवाद
Helo doston svaagat hai aapaka aapaka prashn hai kya kaaran hai ki aajakal chhoree aur ro kar kahatee badhatee ja rahee hai to send se jis tarah se desh mein berojagaaree hai aur yuvaon ko rojagaar nahin mil raha hai to vah galat raaste apana rahe hain va choree dakaitee kee taraph ja rahe hain aur yah galat maanasikata vaale log bhee aisa choree dakaitee karate hain hamaare desh kee janasankhya jyaada hai aur yahaan par usane rojagaar nahin hai isalie kraim badhata ja raha hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:04
क्या जा रहा है आजकल वीडियो में डकैती होती जा रही है अनियंत्रित हो रही है लेकिन जिसको कहते हैं तो शायद यही कारण है कि इस तरह की हरकतें बढ़ती हैं और समाज में विघटन हो रहा है समाज में इस तरह की बातें हैं जो है बहुत तेजी से काम करने लेकिन यार आजकल के युवा वर्ग कि नहीं पी है बेटी चोरियों में ज्यादा इंटरेस्ट दिखा रहा है व्हाट्सएप नहीं मिल रहा है कॉलेज एनएच क्यों से निकलता है स्कूलों से निकलता है उसके अंदर क्षमता होती कुछ करने के लिए जो पहुंचता है उसे कुछ नहीं मिलता है शादी की निराशा के अंदर यह संतोष है यह भटकाव है और कुछ शरारती तत्व ऐसे हैं जो बच्चों को भड़काऊ की तरफ बढ़ा और अंततोगत्वा चोरी डकैती जैसी और उसके बल्ला और भी प्राइम बढ़ते चले जा रहे हैं फिर चोरी डकैती नहीं है आपकी हर छोटी-छोटी जगहों को बड़े से छोटे सारणी की घटनाएं रेल घटना है और हमारे इंटरनेट की मेहरबानी है कुछ लोगों की लालसा और मां का नाम है बोल रही है कुछ लोग आसानी से चाहते हैं कि हम बिना कमाए कुछ हासिल कर ली बहुत सारा सामाजिक असंतोष है जिसके कारण से यह सब बढ़ रहा है युवाओं को लोगों को नहीं रोका गया तो सही तो आने वाला समाज बड़ा विघटनकारी होगा
Kya ja raha hai aajakal veediyo mein dakaitee hotee ja rahee hai aniyantrit ho rahee hai lekin jisako kahate hain to shaayad yahee kaaran hai ki is tarah kee harakaten badhatee hain aur samaaj mein vighatan ho raha hai samaaj mein is tarah kee baaten hain jo hai bahut tejee se kaam karane lekin yaar aajakal ke yuva varg ki nahin pee hai betee choriyon mein jyaada intarest dikha raha hai vhaatsep nahin mil raha hai kolej enech kyon se nikalata hai skoolon se nikalata hai usake andar kshamata hotee kuchh karane ke lie jo pahunchata hai use kuchh nahin milata hai shaadee kee niraasha ke andar yah santosh hai yah bhatakaav hai aur kuchh sharaaratee tatv aise hain jo bachchon ko bhadakaoo kee taraph badha aur antatogatva choree dakaitee jaisee aur usake balla aur bhee praim badhate chale ja rahe hain phir choree dakaitee nahin hai aapakee har chhotee-chhotee jagahon ko bade se chhote saaranee kee ghatanaen rel ghatana hai aur hamaare intaranet kee meharabaanee hai kuchh logon kee laalasa aur maan ka naam hai bol rahee hai kuchh log aasaanee se chaahate hain ki ham bina kamae kuchh haasil kar lee bahut saara saamaajik asantosh hai jisake kaaran se yah sab badh raha hai yuvaon ko logon ko nahin roka gaya to sahee to aane vaala samaaj bada vighatanakaaree hoga

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
0:40
सवाल पूछा गया है क्या कारण आजकल छोरियों डकैती बढ़ती ही जा रही है तो देखिए जब से करो ना कल शुरू हुआ है उसको लगभग 1 साल का समय हो गया और इस पूरे समय में ज्यादातर लोगों की बहुत सारे लोगों की नौकरी आ गई है बहुत सारे लोगों के कमाई के साधन छूट गए हैं और बहुत सारे लोगों के तो खाने के लाले पड़ चुके हैं तो ऐसी स्थिति में अपना पेट पालने के लिए अपने परिवार को पालने के लिए लोगों ने चोरी डकैती जैसी चीजों का सहारा लेना शुरू कर दिया है और यही कारण है कि धीरे-धीरे आसपास चोरी डकैती के कैसे जो हम ज्यादा सुन रहे हैं उम्मीद करती हूं आप मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Savaal poochha gaya hai kya kaaran aajakal chhoriyon dakaitee badhatee hee ja rahee hai to dekhie jab se karo na kal shuroo hua hai usako lagabhag 1 saal ka samay ho gaya aur is poore samay mein jyaadaatar logon kee bahut saare logon kee naukaree aa gaee hai bahut saare logon ke kamaee ke saadhan chhoot gae hain aur bahut saare logon ke to khaane ke laale pad chuke hain to aisee sthiti mein apana pet paalane ke lie apane parivaar ko paalane ke lie logon ne choree dakaitee jaisee cheejon ka sahaara lena shuroo kar diya hai aur yahee kaaran hai ki dheere-dheere aasapaas choree dakaitee ke kaise jo ham jyaada sun rahe hain ummeed karatee hoon aap mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College
1:05
चोरी बंद करके चोरी बोलो काफी लेट हो जाते हैं जीने के लिए पैसों के लिए और उनके पास और कोई चारा नहीं होता अगर लोगों की नौकरी अच्छी सैलरी आ रही हो तो कोई भी व्यक्ति कोई भी समझदार व्यक्ति चोरी नहीं करता आप देखेंगे जाति किस में ऐसे लोग होते हैं जो अंडा प्रविष्ट होते हैं जो सोशली बैकवर्ड होते हैं वह लोग चोरी करते हैं तो अब जैसे-जैसे यह अनइंप्लॉयमेंट पड़ रही है जिस प्रकार से जो युवा बेरोजगार हो रहे हैं और काफी प्रेशर बढ़ता है उनकी वह कैसे जिएंगे बाकी उनसे पैसे कहां से आएंगे तो इस कारण मुझे लगता है कि चोरियों की जुगाड़ जाते हैं वह काफी बढ़ रही तो अगर हम युवा लोगों के युवा को रोजगार देने की नौकरी दे यार उसके डेवलप्ड करें कुछ भी करें कुछ काम देंगे कोई भी व्यक्ति चोरी करने के लिए आगे बढ़े
Choree band karake choree bolo kaaphee let ho jaate hain jeene ke lie paison ke lie aur unake paas aur koee chaara nahin hota agar logon kee naukaree achchhee sailaree aa rahee ho to koee bhee vyakti koee bhee samajhadaar vyakti choree nahin karata aap dekhenge jaati kis mein aise log hote hain jo anda pravisht hote hain jo soshalee baikavard hote hain vah log choree karate hain to ab jaise-jaise yah animployament pad rahee hai jis prakaar se jo yuva berojagaar ho rahe hain aur kaaphee preshar badhata hai unakee vah kaise jienge baakee unase paise kahaan se aaenge to is kaaran mujhe lagata hai ki choriyon kee jugaad jaate hain vah kaaphee badh rahee to agar ham yuva logon ke yuva ko rojagaar dene kee naukaree de yaar usake devalapd karen kuchh bhee karen kuchh kaam denge koee bhee vyakti choree karane ke lie aage badhe

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:32
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है इसका मूल कारण के बाद से बेरोजगारी की सीमा हद पार गई है लोगों के रोजगार चले गए हैं नौकरी पैसे चले गए हैं काम धंधे चले गए श्रमिक का श्रम टूट गया है लोगों की फैक्ट्रियां बंद हो गई है तो जहां लोग रोजगार में व्यस्त थे आज भी लोग बेरोजगार हो गए लेकिन जीवन यापन के लिए रोटी तो चाहिए भोजन तो चाहिए नैतिक रूप से लोगों को आज काम धंधे नहीं तुम कैसे भरण पोषण यह सरकार तो आंख मुझे पड़ी है यह सरकार को तो करो ना का सहारा देकर सिर्फ जनता के जीवन का उनके भविष्य का और हर क्षेत्र हर वर्ग को विनाश का रास्ता खोलना था वह खोल दिया अब यही कुछ ऐसे कारण हो गए लो अब अनैतिक कार्यों में दिलचस्पी लेने लगे चोरी डकैती मर्डर हत्या यह सब आम हो गए क्योंकि लोग अपने जीवन यापन के लिए कुछ अपना आतंक फैलाने के लिए क्या कुछ राजनीतिक शरण में रहते हुए अपने पुजारी किन किन कार्यों में लिप्त हैं
Kya kaaran hai aajakal choree aur dakaitee badhatee hee ja rahee hai isaka mool kaaran ke baad se berojagaaree kee seema had paar gaee hai logon ke rojagaar chale gae hain naukaree paise chale gae hain kaam dhandhe chale gae shramik ka shram toot gaya hai logon kee phaiktriyaan band ho gaee hai to jahaan log rojagaar mein vyast the aaj bhee log berojagaar ho gae lekin jeevan yaapan ke lie rotee to chaahie bhojan to chaahie naitik roop se logon ko aaj kaam dhandhe nahin tum kaise bharan poshan yah sarakaar to aankh mujhe padee hai yah sarakaar ko to karo na ka sahaara dekar sirph janata ke jeevan ka unake bhavishy ka aur har kshetr har varg ko vinaash ka raasta kholana tha vah khol diya ab yahee kuchh aise kaaran ho gae lo ab anaitik kaaryon mein dilachaspee lene lage choree dakaitee mardar hatya yah sab aam ho gae kyonki log apane jeevan yaapan ke lie kuchh apana aatank phailaane ke lie kya kuchh raajaneetik sharan mein rahate hue apane pujaaree kin kin kaaryon mein lipt hain

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:33
जुबान तो आज आप का सवाल है कि क्या कारण है कि आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है तो देखिए सबसे पहले लोग इसे बहुत ही शॉर्टकट समझते लोगों को ऐसा लगता है कि यह चीज करने तो बहुत जल्दी अमीर हो जाएंगे बहुत पैसा आ जाएगा और उन्हें लगता है कि पकड़े नहीं जाएंगे नहीं पक्का बहुत सारे लोग आते-जाते के बड़े बड़े चोर मतलब डाकू अगर होते तो वहां तक पुलिस की पहुंची नहीं जा पाती है जिसके वजह से ना ही वह पकड़ आते हैं और ना ही उनको कोई भी सजा मिलती है तो बहुत सारे लोगों का सोच ही होता है कि हां कर लेते हैं चोरी डकैती एक दो बार की चोरी उन्हें मालामाल कर सकती है दूसरा यह किसी की मजबूरी होती है जैसी बेरोजगारी अगर वह देखते हैं कि परिवार का मतलब भूखे के समय तड़प रहा है मर रहा है नहीं जी पा रहे हैं वह लोग उनके सामने कोई भी रास्ता नहीं दिखता है जिस वक्त उनके दिमाग में यह चलता है कि कहीं से भी कुछ पैसे या फिर पानी ओके गूगल खाने पीने की चीज चोरी करते हैं तो कहीं से कुछ पैसे चोरी करता है गुरु ने बताया जाता है कि तुम यह नॉर्मल का काम ही नहीं पकड़े जाओगे बस यहां से यहां कुछ भी ट्रांसफर करने यहां से कुछ भी चोरी करना 1 दिन के साथ रहोगे तो इंसान के सामने एक परिवार कब भूख और फिर रोना दिखता है बेरोजगारी दिखता है जिसकी वजह से चोरी को ज्यादा मतलब यह देते हैं प्रायरिटी देते क्या इस वक्त बाबुल को कुछ समझ नहीं आ रहा तो ऐसे बहुत सारे कारण हैं बहुत सारे नेता ने उसके वजह से आजकल छोरी ने कहती है सब बढ़ती जा रही है
Jubaan to aaj aap ka savaal hai ki kya kaaran hai ki aajakal choree aur dakaitee badhatee hee ja rahee hai to dekhie sabase pahale log ise bahut hee shortakat samajhate logon ko aisa lagata hai ki yah cheej karane to bahut jaldee ameer ho jaenge bahut paisa aa jaega aur unhen lagata hai ki pakade nahin jaenge nahin pakka bahut saare log aate-jaate ke bade bade chor matalab daakoo agar hote to vahaan tak pulis kee pahunchee nahin ja paatee hai jisake vajah se na hee vah pakad aate hain aur na hee unako koee bhee saja milatee hai to bahut saare logon ka soch hee hota hai ki haan kar lete hain choree dakaitee ek do baar kee choree unhen maalaamaal kar sakatee hai doosara yah kisee kee majabooree hotee hai jaisee berojagaaree agar vah dekhate hain ki parivaar ka matalab bhookhe ke samay tadap raha hai mar raha hai nahin jee pa rahe hain vah log unake saamane koee bhee raasta nahin dikhata hai jis vakt unake dimaag mein yah chalata hai ki kaheen se bhee kuchh paise ya phir paanee oke googal khaane peene kee cheej choree karate hain to kaheen se kuchh paise choree karata hai guru ne bataaya jaata hai ki tum yah normal ka kaam hee nahin pakade jaoge bas yahaan se yahaan kuchh bhee traansaphar karane yahaan se kuchh bhee choree karana 1 din ke saath rahoge to insaan ke saamane ek parivaar kab bhookh aur phir rona dikhata hai berojagaaree dikhata hai jisakee vajah se choree ko jyaada matalab yah dete hain praayaritee dete kya is vakt baabul ko kuchh samajh nahin aa raha to aise bahut saare kaaran hain bahut saare neta ne usake vajah se aajakal chhoree ne kahatee hai sab badhatee ja rahee hai

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Shyam sundar Nai Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Shyam जी का जवाब
नोकरी
0:40
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती जा रही है देखी आजकल क्यों है वह अपने शौक के फैशन को पूरा करने के लिए कमाने की हिम्मत नहीं रखते हैं इसलिए अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए जो कि जो युवा सभी युवाओं ने जो युवा मतलब है समाज के मुख्यधारा से भटक चुके हैं छोरी बड़ी खेती करते हैं इसका न्यू फैशन में जो लोगों की देखा देखी आजकल खर्चे बड़े हैं उनकी पूर्ति के लिए चोरियों की खेती बढ़ती जा रही है धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya kaaran hai aajakal choree aur dakaitee badhatee ja rahee hai dekhee aajakal kyon hai vah apane shauk ke phaishan ko poora karane ke lie kamaane kee himmat nahin rakhate hain isalie apanee aavashyakataon kee poorti ke lie jo ki jo yuva sabhee yuvaon ne jo yuva matalab hai samaaj ke mukhyadhaara se bhatak chuke hain chhoree badee khetee karate hain isaka nyoo phaishan mein jo logon kee dekha dekhee aajakal kharche bade hain unakee poorti ke lie choriyon kee khetee badhatee ja rahee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
NEHAA P MISHRA  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए NEHAA जी का जवाब
Teacher, Soul Healer
1:24
आजकल महंगाई काफी बढ़ी हुई है फिर रोजगार लोगों के पास उपलब्ध नहीं है और सबसे बड़ी बात है कि लोगों की सोच के हमें भी सब कुछ चाहिए हमें भी सेटल होना है या लग्जरियस लाइफ जीनी है तो उसमें क्या हो रहा है लोगों को शॉर्टकट चाहिए होता है तो पैसा कमाने के लिए और जल्दी से जल्दी पैसा चाहिए तो यह चोरी डकैती यह सारी चीजें करते हैं क्योंकि बुद्धि तो इतनी होती नहीं है ना अब देखिए क्राइम पेट्रोल सावधान इंडिया में आप देखते होंगे कि कैसे कैसे तरीके यूज करते हैं लोग एक दूसरे की चीजें लूटने के लिए या चोरी डकैती करने के लिए ना या प्रॉपर्टी लेने के लिए कोई प्रॉपर्टी लेना जो छल से ले लेना है सब भी चोरी डकैती नहीं आता है एंड हंसने वाली बात है बिल्कुल कि लोगों को पैसा चाहिए मेहनत करनी नहीं है और चलिए कुछ लोग ऐसे भी होते हैं कि मेहनत तो करते हैं नहीं मिलता है प्रॉपर उन्हें तो वह फिर हार्डवेयर से पीछा छुड़ा लेते हैं ना शॉर्टकट अपनाने की कोशिश करता है बट यह बिल्कुल भी गलत है सही नहीं है मैं आंसू क्यों
Aajakal mahangaee kaaphee badhee huee hai phir rojagaar logon ke paas upalabdh nahin hai aur sabase badee baat hai ki logon kee soch ke hamen bhee sab kuchh chaahie hamen bhee setal hona hai ya lagjariyas laiph jeenee hai to usamen kya ho raha hai logon ko shortakat chaahie hota hai to paisa kamaane ke lie aur jaldee se jaldee paisa chaahie to yah choree dakaitee yah saaree cheejen karate hain kyonki buddhi to itanee hotee nahin hai na ab dekhie kraim petrol saavadhaan indiya mein aap dekhate honge ki kaise kaise tareeke yooj karate hain log ek doosare kee cheejen lootane ke lie ya choree dakaitee karane ke lie na ya propartee lene ke lie koee propartee lena jo chhal se le lena hai sab bhee choree dakaitee nahin aata hai end hansane vaalee baat hai bilkul ki logon ko paisa chaahie mehanat karanee nahin hai aur chalie kuchh log aise bhee hote hain ki mehanat to karate hain nahin milata hai propar unhen to vah phir haardaveyar se peechha chhuda lete hain na shortakat apanaane kee koshish karata hai bat yah bilkul bhee galat hai sahee nahin hai main aansoo kyon

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Khushi Agrawal Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Khushi जी का जवाब
Unknown
0:30
सवाल है क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती जा रही है जहां एक तरफ यहां नौकरियां कब मिल रही है लोगों को तो लोगों को पेट भरने के लिए कुछ ना कुछ उपाय ढूंढ रहे हैं तो वह लोग चोरी और डकैती की साइड तेरे साथ में ले सकते हैं कि जो लोग मेहनत नहीं करना चाहते हैं ऐसे रास्तों पर चले जाते हैं जिन्होंने मेहनत कम करनी पड़ी लेकिन एक ही बार में चोरियां डकैती करें तूने बहुत ज्यादा पैसे मिल जाए

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:32
आकाश वाले के क्या कारण है कि आजकल छोरियों डकैती बढ़ती जा रही है देखे करुणा के चलते बहुत सारे लोगों का रोजगार छिन गया है जितने भी छोटे तबके के लोग थे उनके लिए सबसे ज्यादा मस्ती का सामना करना पड़ा है उन्हें और अब वापस स्थिति सामान्य होने लगी है लेकिन फिर भी उनके लिए रोजगार के साधन नहीं है पेट पालने के लिए अपने परिवार को घर चलाने के लिए निश्चित तौर पर इंसान को पैसे की जरूरत होती है और यह एक बहुत बड़ा कारण है चोरी डकैती बढ़ने का आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
अभिषेक शुक्ला  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए अभिषेक जी का जवाब
Motivational speaker
0:56
मुकेश है तो मुझे लगता है कि आमतौर पर जो आज चोरा चोरी का आरोपी डकैती की समस्या बढ़ रही है वह एक बेरोजगारी की समस्या के बारे में काफी लोगों को इससे प्रभावित हुए हैं जिससे कि यह समस्याएं अवसर पर आज संभावित लोगों को आज जो है तो ध्यान नहीं मिल रहे हैं और महंगा इसकी सबसे बड़ी समस्या हो चुकी आज के समय में और भूखमरी भी तो मस्त है यह चीजों की है क्या जल्दी लगती भूख से तड़प रहे कि वह कुछ भी कार्य करने को आज पूजा रूम है तो देखिए यह सभी चीजें हैं जिसकी वजह से यह सभी चीजों को बढ़ावा मिल रहा है लेकिन एक करना एक समाधान नहीं है लोगों को अपने परिश्रम पर भी ध्यान रखें जिससे कि यह सभी कार्य जो है चला करें और अपने जीवन को अच्छा बनाए दोस्तों अच्छा सोचेंगे स्वच्छता आप जो मैं अपने जीवन को सार्थक वाला सकेंगे और न ही जीवन का मूल मंत्र है इन चीजों का ख्याल रखें और हमेशा आगे बढ़ते रहें दोस्तों धन्यवाद

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
Prerna Rai Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Prerna जी का जवाब
Collage student in polytechnic collage
2:48
आजकल माहौल बनाया है जहां देखो वहीं छोरी देखो वहीं तक है चाहे आप बस स्टैंड में हो चाहे आप रेल स्टेशन पर हो चाहे आप मेट्रो स्टेशन पर हो चाहे आप कहीं भी खड़े हो वहां पर आप दे पाएंगे कि चोरी और डकैती वही रही अगर आप जानना चाहते हैं आजकल चोरी और डकैती क्यों बढ़ती जा रही है तो मैं आपको बता दूं महसूस शब्द बोलने जा रही हूं उससे आप भी परिचित हैं हमारा देश भी परिचित है हमारा समाज भी परिचित है और वह शब्द है बेरोजगारी बहुत लोग बहुत सारे लोग बेरोजगार जिनके पास कोई भी काम नहीं है और जब लोगों के पास कोई भी काम नहीं होगा तो कहावत सुनी हो खाली दिमाग शैतान का घर होता है जब इंसान के पास कोई काम ही नहीं है तो उसे कम से कम अपने दो वक्त की रोटी चलाने के लिए चोरी तो करनी होगी हां भैया भी कहूंगी जो चोरी डकैती कर रहे हैं हमेशा से जो मजबूरी नहीं है कुछ कुछ लोगों का यह सब शौक भी होता है शौक जिस तरह से बताओ कुछ कुछ लोग गलत संगत में आकर काम करना स्टार्ट कर देते हैं पर 9 में से 50% लोग अपनी रोजगारी के कारण ही काम करते हैं और यह चोरी चकारी बिना नशे की लत की तरह होती है जैसे दारु शराब दो तीन बार पीने के बाद उसे लेने की आदत हो जाती है वैसे ही चोरी डकैती करना चार-पांच बार करने के बाद यह बहुत आसान लगने लग जाता है हाथों का मैल लगने लग जाते हैं 2 मिनट में तुम नेट चला लिया बिल्कुल नशे की तरह काम करता है इसके पीछे सबसे बड़ा कारण बेरोजगारी है हमें सरकार से हमेशा से यही अनुरोध करते हैं कि हर काम के लिए कुछ ना कुछ किया जाए तो बेरोजगारी के लिए कोई ऐसा कदम उठाया जाए जिससे कि हमारा देश हमारा भारत देश और उन्नति के तरफ जाएं और चोरी चकारी धीरे धीरे कम हो और 1 दिन ऐसा समय क्यों पूरी तरह से खत्म हो जाए हर चीज संभव होती है मैं यह नहीं कहूंगा कि तुरंत सब चोरी डकैती खत्म हो जाएगा हां इसमें 10 साल लग सकता है 20 साल से हो सकता है 50 साल भी लगा एक ना एक दिन अगर बेरोजगारी खत्म हुई चोरी डकैती खत्म हो जा हो सकती है

bolkar speaker
क्या कारण है आजकल चोरी और डकैती बढ़ती ही जा रही है?Kya Karan Hai Aajkal Chori Aur Dakaiti Badhti He Ja Rahi Hai
रमेश सिन्हा Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए रमेश जी का जवाब
Unknown
1:45

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • आजकल चोरी और डकैती बढ़ने के क्या कारण है, chori aur dakaiti badhne ke karan
URL copied to clipboard